विचार मंच न्यूज़

‘नाटो’ नामक सैन्य संगठन में अब यूरोप के दो नए देश भी जुड़नेवाले हैं। ये हैं- फिनलैंड और स्वीडन।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 2 days ago


डिजिटल दुनिया में जहां अनगिनत कॉम्पिटिटर हैं, वहां नंबर वन का मुकाम हासिल करना आसान नहीं होता, लेकिन अभिषेक ने यह कर दिखाया।

नीरज नैयर 2 days ago


शिव अनुराग याने रामू को गए एक बरस हो गया। यकीन तो अभी भी नहीं होता। लगता है कि अभी कहीं किसी यात्रा पर गए हो। अभी अभी लौटकर आओगे। मुस्कुराओगे।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 4 days ago


सारी दुनिया अपनी बोलियों और कमजोर पड़ रही भाषाओं को बचाने का संकल्प लेती है। भारत में हम उनको मारने की साजिश करते हैं।

राजेश बादल 5 days ago


हो सकता है कि कुछ कमियां रह गई हों, पर जिन साथियों की मेहनत को जूरी ने सराहा है, उनका यूं उपहास न उड़ाइए।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 6 days ago


‘डिजिटल का तेजी से बढ़ता प्रभुत्व और भविष्य की पत्रकारिता’ विषय पर बोलते हुए ‘न्यूज नशा’ की एडिटर विनीता यादव ने कहा, ‘डिजिटल को समझना पहले ज्यादा जरूरी है

विकास सक्सेना 1 week ago


‘डिजिटल का तेजी से बढ़ता प्रभुत्व और भविष्य की पत्रकारिता’ विषय पर बोलते हुए ‘दी प्रिंसिपल’ के एडिटर-इन-चीफ अजय शुक्ल ने कहा कि मैंने अपने गुरू शशि शेखर जी से एक चीज सीखी है।

विकास सक्सेना 1 week ago


‘डिजिटल का तेजी से बढ़ता प्रभुत्व और भविष्य की पत्रकारिता’ विषय पर बोलते हुए अमर उजाला के डिजिटल एडिटर जयदीप कर्णिक ने कहा कि मैं इस विषय को थोड़ा ठीक करना चाहूंगा

विकास सक्सेना 1 week ago


'समाचार4मीडिया पत्रकारिता 40अंडर40’ कार्यक्रम के दौरान दूरदर्शन के कंटेंट ऑपरेशन हेड राहुल महाजन ‘दूरदर्शन कल, आज और कल’ विषय पर अपनी बात रखी।

विकास सक्सेना 1 week ago


मुझे लगता है कि टीवी और डिजिटल मीडिया दोनों ही एक दूसरे के पूरक हैं, बजाए इसके कि हम इन दोनों को एक दूसरे के आमने-सामने खड़ा करें।

विकास सक्सेना 1 week ago


एक्सचेंज4मीडिया समूह की हिंदी वेबसाइट 'समाचार4मीडिया' द्वारा तैयार की गई ‘समाचार4मीडिया पत्रकारिता 40अंडर40’ की लिस्ट से 28 अप्रैल 2022 की शाम को पर्दा उठ गया।

विकास सक्सेना 1 week ago


अपने संबोधन भाषण में शशि शेखर ने कहा, ‘20 साल का था जब संयोग से जर्नलिज्म में आ गया था और आज जो कुछ भी हूं इसी जर्नलिज्म की वजह से हूं।

विकास सक्सेना 1 week ago


प्रत्येक वर्ष 3 मई को प्रेस स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता है। प्रेस किसी भी समाज का आइना होता है...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 week ago


आंचलिक पत्रकारों की यह संघर्ष भावना यकीनन सम्मान की हकदार है। अफसोस है कि मुख्यधारा की पत्रकारिता में इस महत्वपूर्ण मुद्दे को व्यापक समर्थन नहीं मिला।

राजेश बादल 2 weeks ago


पत्रकारिता के एक ऐसे अंधकार भरे कालखंड जिसमें एक बड़ी संख्या में अख़बार मालिकों की किडनियां हुकूमतों द्वारा विज्ञापनों की एवज़ में निकाल लीं गईं हों

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


आधुनिक हिंदी पत्रकारिता के दौर पर कुछ भी लिखने के लिए अपने अनुभवों को ही आधार बनाना जरूरी है।

आलोक मेहता 1 month ago


यह जानने के बाद कि मैं जेएनयू के स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज में एमफिल कर रहा हूं तो उन्होंने अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर तमाम सवाल पूछे

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


राजेंद्र माथुर की केवल अंग्रेजी ही अच्छी नहीं थी, उनके पास नई भाषा को गढ़ने वाले मुहावरे थे। वे बातों को रूपक शैली में लिखते थे और वह शैली लोगों को बहुत पसंद आती थी...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago