मीडिया, विज्ञापन व सोशल मीडिया की प्रमुख खबरें



Advertisment

Advertisment

Advertisment

Advertisment




बदल गई ABP News Network की पहचान, अब नए नाम से जाना जाएगा ब्रैंड

देश के बड़े न्यूज नेटवर्क्स में शुमार ‘एबीपी न्यूज नेटवर्क’ ने अपनी ब्रैंड आइडेंटिटी को नई पहचान देने की घोषणा की है। इसके तहत नया लोगो भी जारी किया गया है

‘डीडी न्यूज’ में इस पद के लिए निकली वैकेंसी, 20 जुलाई तक करें आवेदन

इच्छुक व योग्य उम्मीदवार अपना आवेदन डिप्टी डायरेक्टर (एचआर), दूरदर्शन न्यूज, कमरा नंबर 413, दूरदर्शन भवन, टॉवर बी, कोपरनिकस मार्ग, नई दिल्ली- 110001 के पते पर 20 जुलाई 2020 तक करें।

वरिष्ठ पत्रकार अरविंद कुमार चतुर्वेदी का इंडिया न्यूज में कद बढ़ा, अब मिली ये जिम्मेदारी

हिंदी न्यूज चैनल ‘इंडिया न्यूज’ (India News) में कार्यरत वरिष्ठ पत्रकार अरविंद कुमार चतुर्वेदी को प्रमोशन दिया गया है।


इतनी कम उम्र में जिंदगी की जंग हार गईं पत्रकार हुमा खान

काफी दिनों से मुरादाबाद से कर रही थीं वर्क फ्रॉम होम, जांच कराने पर पॉजिटिव निकला था कोरोना टेस्ट

मैनेजिंग एडिटर-रिपोर्टर समेत कई पदों पर निकली सरकारी नौकरी, मिलेगी मोटी सैलरी

मीडिया में काम कर रहे लोग यदि सरकारी नौकरी तलाश रहे, तो उनके लिए एक अच्छी खबर है। दरअसल, विज्ञान प्रसार (Vigyan Prasar) ने दिल्ली/नोएडा में कई पदों पर वैकेंसी निकली है

अब इस चैनल में बड़ी भूमिका निभाएंगे वरिष्ठ पत्रकार अजय कुमार

हिंदी न्यूज चैनल ‘न्यूज नेशन’ से पिछले दिनों इस्तीफा देने के बाद वरिष्ठ पत्रकार अजय कुमार ने अपनी नई पारी शुरू की है।



Advertisment


Social-Media
इन दो बड़ी कंपनियों ने सोशल मीडिया से बनाई दूरी

‘यूनिलीवर’ (Unilever) ने कथित तौर पर घोषणा की है कि वह संयुक्त राज्य अमेरिका में फेसबुक, इंस्टाग्राम और ट्विटर पर इस साल के अंत तक के लिए अपना विज्ञापन बंद कर देगी









सब्सक्राइब

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

image
इसी जद्दोजहद में उम्र छूटती जाती है...

वरिष्ठ पत्रकार डॉ. विनोद पुरोहित ने इस कविता के माध्यम से जीवन के सफर को बहुत ही संजीदगी के साथ बयां किया है

akash vatsa
ये दुनिया किस काम की रहेगी...

जब नहीं रहेगी बच्चों की मुस्कुराहटें, औरतों की फुसफुसाहटें, बात बे बात पर आने वाली खिलखलाहटें, ये दुनिया किस काम की रहेगी...

corona
‘कोरोना’ को भगाना है, प्रधानमंत्री के महामंत्र को सफल बनाना है

हम बने, तुम बने एक-दूजे के लिए। हमने माना तुम भी मानो, हम भी रहें और तुम भी रहो घर में एक-दूजे के लिए

Radhey Shyam Tiwari
नहीं रोक सकते तुम ये सब...

इस कविता के माध्यम से कवि ने जीवन की संभावनाओं और जीने की इच्छाओं पर प्रकाश डाला है।