ABP माझा की इस सीरीज में अभिनेता स्वप्निल जोशी आएंगे नजर

सामाजिक स्तर पर मानसिक स्वास्थ्य को अभी भी एक टैबू की तरह देखा जाता है। अकसर ऐसे लोगों की दिक्कतों का मजाक उड़ाया जाता है

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Saturday, 02 October, 2021
Last Modified:
Saturday, 02 October, 2021
ABPMajha787

सामाजिक स्तर पर मानसिक स्वास्थ्य को अभी भी एक टैबू की तरह देखा जाता है। अकसर ऐसे लोगों की दिक्कतों का मजाक उड़ाया जाता है और उन्हें उनकी समस्याओं का खुलासा न करने व किसी भी पेशेवर की मदद लेने से दूर रहने को कहा जाता है। अनगिनत व्यक्तियों की इस समस्या को कोरोना महामारी ने अब और बढ़ा दिया है। कोरोना के चलते बाहरी दुनिया से अलग-थलग रहने के दौरान उन्हें मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ा है। एबीपी माझा ने ऐसे लोगों की मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं को दूर करने और समाज से संबंधित कहानियों को दर्शकों तक पहुंचने की एक अनोखी सीरीज शुरू की है, जिसका नाम है 'मन शुद्ध तुझा' (Mann Sudha Tuja).

सीरीज का फॉर्मेट कुछ ऐसा है कि एक अभिनेता ही एक मनोचिकित्सक की भूमिका निभाएगा और इस प्रसिद्ध अभिनेता का नाम है स्वप्निल जोशी। सीरीज में जिन कहानियों को दिखाया जाएगा, वे नांदेड़ के प्रसिद्ध मनोचिकित्सक डॉ. नंदू मुलमुले की किताब से ली गई है।

इस सीरीज की पटकथा (screenplay) प्रशांत दलवी ने लिखी है। सीरीज राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता निर्देशक चंद्रनाथ कुलकर्णी द्वारा निर्देशित किया गया है और इसका संगीत बहुतप्रसिद्ध संगीतकार अशोक पाटकी ने दिया है। कलाकारों में मराठी टीवी व फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े नाम जैसे- शरद पोंकशे, प्रतीक्षा लोनाकर, नीना कुलकर्णी, सुनील बरवई, श्रीकांत यादव और प्रसाद खांडेकर आदि शामिल हैं।

एबीपी माझा का दावा है कि यह सीरीज दर्शकों के मानसिक स्वास्थ्य से जुड़े समस्याओं को सुलझाएगी। शो का मकसद दर्शकों को अपने आसपास के लोगों की मानसिक स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याओं को स्वीकार कराना और उन्हें बेहतर ढंग से समझने के लिए प्रेरित करना के लिए प्रोत्साहित करना है।  

बता दें कि 13 एपिसोड की इस सीरीज का प्रसारण साप्ताहिक आधार पर 3 अक्टूबर 2021 (रविवार) से सुबह 10:30 बजे किया जाएगा।

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

ब्रॉडकास्टर्स के साथ इस तरह का डेटा साझा करेगा BARC: रिपोर्ट

'ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल' (BARC) अब ब्रॉडकास्टर्स के साथ अनप्रोजेक्टेड व वेटेड दोनों तरह के रिस्पॉन्डेंट लेवल डेटा (RLD) साझा करेगा

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 27 September, 2023
Last Modified:
Wednesday, 27 September, 2023
BARC-India58254

'ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल' (BARC) अब ब्रॉडकास्टर्स के साथ अनप्रोजेक्टेड व वेटेड दोनों तरह के रिस्पॉन्डेंट लेवल डेटा (RLD) साझा करेगा। मीडिया रिपोर्ट्स में इस तरह की खबर सामने आयी है।

यह खबर ऐसे समय पर आयी है, जब हाल ही में BARC की ओर से रिस्पॉन्डेंट लेवल डेटा की कीमत 15 लाख रुपये प्रति वर्ष तय करने की है।

अभी तक केवल एजेंसियों को ही प्रति वर्ष 60 लाख रुपये की लागत पर रिस्पॉन्डेंट लेवल डेटा उपलब्ध कराया जा रहा है।

इससे पहले हमने यह जानकारी दी थी कि BARC रिस्पॉन्डेंट लेवल डेटा ब्रॉडकास्टर्स को एजेंसियों द्वारा इसके लिए भुगतान की तुलना में और अधिक उचित मूल्य पर उपलब्ध कराने की योजना बना रहा है।

 

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

देव आनंद की 100वीं जयंती: रजत शर्मा ने बताया क्या है देव आनंद होने का अर्थ

रजत शर्मा ने बताया कि जब वो देव आनंद को 'आप की अदालत' में इनवाइट करने उनके ऑफिस गए तो देव आनंद ने कहा था कि...

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 27 September, 2023
Last Modified:
Wednesday, 27 September, 2023
rajat

सदाबहार फिल्म अभिनेता देव आनंद की 100वी जयंती पर दिल्ली के कंस्टीट्यूशन क्लब में देव आनंद की याद में दिल्ली के पूर्व विधायक विजय जौली ने एक कार्यक्रम का आयोजन किया। इस कार्यक्रम में कई जानी मानी हस्तियां शामिल हुईं। इंडिया टीवी के चेयरमैन रजत शर्मा लंदन से इस प्रोग्राम में ऑनलाइन जुड़े।

रजत शर्मा ने बताया कि जब वो देव आनंद को 'आप की अदालत' में इनवाइट करने उनके ऑफिस गए तो देव आनंद ने कहा था कि अब स्टार मैं नहीं ...तुम हो। इसके बाद रजत शर्मा ने देव आनंद का मतलब समझाया। रजत शर्मा ने कहा-'देव साहब के नाम के साथ आनंद जुड़ा हुआ था।

खुशी, जोश, सेलिब्रेशन और उत्साह। ये उनकी सबसे बड़ी ताकत थी। देव साहब के जन्मदिन पर हमको ये सबसे ज्यादा सीखने की जरूरत है। हम कैसे खुश रहें। हम कैसे इस बात की परवाह न करें कि किसकी उम्र कितनी है। हम जिंदगी को अपने लिहाज से जिएं, और जो कहते थे कि मैं जिंदगी का साथ निभाता चला गया।

उसी तरह से जिंदगी के साथ को निभाना सीखिए। बता दें कि देव आनंद का जन्म 26 सितंबर 1923 को गुरदासपुर (पाकिस्तान के नारोवाल जिला) में हुआ था। गवर्नमेंट कॉलेज लाहौर से उन्होंने अंग्रजी साहित्य में स्नातक की डिग्री ली थी। बाद में वे मुंबई आ गए और फिर फिल्मों में काम करना शुरू किया।

उनकी फिल्में हिट होने लगी और वे सुपर स्टार बन गए। देव आनंद ने अपने 65 साल के फिल्मी करियर में कुल 114 फिल्मों में काम किया।  

 

 

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

NDTV जल्द लॉन्च करेगा अब ये तीन नए HD चैनल्स, MIB से मिली मंजूरी

'न्‍यू दिल्‍ली टेलीविजन लिमिटेडट' यानी कि NDTV को तीन हाई डेफिनिशन चैनल्स को लॉन्च करने की सूचना-प्रसारण मंत्रालय (MIB) से मंजूरी मिल गई है

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 26 September, 2023
Last Modified:
Tuesday, 26 September, 2023
NDTV

'न्‍यू दिल्‍ली टेलीविजन लिमिटेडट' यानी कि NDTV को तीन हाई डेफिनिशन चैनल्स को लॉन्च करने की सूचना-प्रसारण मंत्रालय (MIB) से मंजूरी मिल गई है। अडाणी ग्रुप के स्‍वामित्‍व वाले इस समूह ने मंगलवार को एक्‍सचेंज फाइलिंग में इसकी जानकारी दी है।

समूह ने अपनी जानकारी में बताया कि कंपनी को सूचना-प्रसारण मंत्रालय से 25 सितंबर, 2023 को एक पत्र मिला है, जिसमें कंपनी को हाई डेफिनिशन में तीन न्यूज व करेंट अफेयर्स के चैनल्स को अपलिंक और डाउनलिंक करने की अनुमति मिलने की बात कही गई है।

बता दें कि मंत्रालय से समूह को जिन चैनल्स के लिए प्रसारण की अनुमति मिली है, उनके नाम हैं- NDTV 24x7 HD, NDTV India HD और NDTV Profit HD. ये तीनों ही नए चैनल्स HD यानी हाई डेफिनिशन की क्वॉलिटी वाले होंगे।

बता दें कि NDTV 24x7 HD अंग्रेजी न्‍यूज चैनल है और NDTV India HD हिंदी न्‍यूज चैनल है, जबकि NDTV Profit HD बिजनेस जगत की खबरों पर केंद्रित चैनल है। कंपनी ने यह भी जानकारी दी कि तीनों ही चैनल्स की लॉन्चिंग पर वह स्‍टॉक एक्‍सचेंजों इसकी सूचना देगा।

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

BARC डेटा के लिए दोबारा से रजिस्टर करेगा Zee मीडिया

ZMCL को लेकर खबर है कि समूह ने 12 अक्टूबर के सप्ताह से ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल (BARC) के डेटा के लिए दोबारा से जुड़ने का फैसला किया है

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 26 September, 2023
Last Modified:
Tuesday, 26 September, 2023
Zee Media

देश के अग्रणी न्यूज ब्रॉडकास्टर्स में शामिल 'जी मीडिया कॉर्पोरेशन लिमिटेड' (ZMCL) को लेकर खबर है कि समूह ने 12 अक्टूबर के सप्ताह से ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल (BARC) के डेटा के लिए दोबारा से जुड़ने का फैसला किया है।

हमारी सहयोगी वेवसाइट 'एक्सचेंज4मीडिया' ने जब आधिकारिक पुष्टि के लिए BARC के सीईओ नकुल चोपड़ा संपर्क किया, तो खबर लिखे जाने तक फिलहाल उनसे संपर्क नहीं हो सका।

इससे पहले सितंबर 2022 में, BARC इंडिया के टीवी ऑडियंस मेजरमेंट सिस्टम से बाहर निकलने का फैसला किया था। कंपनी ने ऐसा कठोर कदम उठाने के पीछे की वजह लैंडिंग पेज की समस्या को बताया था। 

जी मीडिया ने तब कहा था कि वह BARC इंडिया से लगातार लैंडिंग पेज के मुद्दे पर सुधारात्मक तरीकों को अपनाए जाने का अनुरोध कर रहा था, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। न्यूज ब्रॉडकास्टर ने मांग की थी कि लैंडिंग पेज के डेटा को फाइनल व्युअरशिप में शामिल नहीं किया जाना चाहिए और व्युअरशिप काउंट करने के समय को 2 मिनट तक बढ़ा दिया जाना चाहिए। 

NDTV के बाद ZMCL ही BARC से अपने चैनल्स को निकालने वाला दूसरा टीवी न्यूज नेटवर्क था।

ZMCL के पास 5 डिजिटल चैनल्स और 17 डिजिटल ब्रैंड्स के अलावा 14 टीवी न्यूज चैनल्स का स्वामित्व है और उसका संचालन करती है। 

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

‘लोकशाही’ न्यूज चैनल के मामले में आज फिर होगी सुनवाई, शनिवार को दिल्ली HC से मिली थी राहत

दिल्ली हाई कोर्ट ने मराठी न्यूज चैनल ‘लोकशाही’ (Lokshahi) के प्रसारण पर केंद्र सरकार के द्वारा लगाए गए 72 घंटे के प्रतिबंध पर शनिवार को रोक लगा दी

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Monday, 25 September, 2023
Last Modified:
Monday, 25 September, 2023
LokshahiMarathi78451

दिल्ली हाई कोर्ट ने मराठी न्यूज चैनल ‘लोकशाही’ (Lokshahi) के प्रसारण पर केंद्र सरकार के द्वारा लगाए गए 72 घंटे के प्रतिबंध पर शनिवार को रोक लगा दी। 

सूचना-प्रसारण विभाग ने किरीट सोमैया के एक कथित अश्लील वीडियो के प्रसारण के मामले में शुक्रवार को कार्रवाई करते हुए ‘लोकशाही’ न्यूज चैनल के प्रसारण पर 72 घंटे के लिए रोक लगा दी थी। कोर्ट के इस फैसले के चलते शनिवार (23 तारीख) शाम 7 बजे से चैनल का प्रसारण फिर से शुरू हो गया।

केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्रालय के इस फैसले को ‘लोकशाही’ न्यूज चैनल ने दिल्ली हाई कोर्ट में चुनौती दी थी। शनिवार को दिल्ली हाई कोर्ट में हुई सुनवाई में न्यूज चैनल के वकीलों ने दलील दी कि किरीट सोमैया का कथित वीडियो क्लिप अश्लील नहीं था और यह फैसला सरकार का है। दिल्ली हाई कोर्ट ने दोनों पक्षों की दलीलें सुनीं और अगले आदेश तक शनिवार शाम 7 बजे से प्रसारण शुरू करने का आदेश दिए।

‘लोकशाही’ चैनल के एडिटर-इन-चीफ कमलेश सुतार ने यह जानकारी दी कि हम फिर से ऑन एयर हो गए हैं। हमने शनिवार शाम से ही अपना प्रसारण फिर से शुरू कर दिया है। यह रोक शुक्रवार शाम 6 बजे से 72 घंटे के लिए लगाई गई थी। हालांकि, हमने दिल्ली हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया और कोर्ट ने मंत्रालय के आदेश पर अंतरिम रोक लगा दी है। अगली सुनवाई सोमवार को है।

इससे पहले चैनल के एडिटर-इन-चीफ कमलेश सुतार ने यह जानकारी देते हुए बताया था कि ‘सूचना और प्रसारण’ (I&B) मंत्रालय से नोटिस मिलने के बाद 72 घंटे के लिए चैनल का प्रसारण बंद कर दिया गया है। इसके साथ ही सुतार ने यह भी कहा था कि वह इस मामले में वैधानिक रूप से अपनी लड़ाई लड़ेंगे।  

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

सूचना प्रसारण मंत्रालय के आदेश पर 72 घंटे के लिए 'ऑफएयर' हुआ यह न्यूज चैनल

चैनल के एडिटर-इन-चीफ का कहना है कि 72 घंटे के लिए चैनल का प्रसारण बंद कर दिया गया है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि वह इस मामले में वैधानिक रूप से अपनी लड़ाई लड़ेंगे।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Saturday, 23 September, 2023
Last Modified:
Saturday, 23 September, 2023
News Channel

भाजपा नेता किरीट सोमैया का आपत्तिजनक वीडियो प्रसारित करने के मामले में मराठी न्यूज चैनल ‘लोकशाही’ (Lokshahi) को केंद्र के आदेश पर 72 घंटे के लिए ऑफएयर कर दिया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, चैनल को शुक्रवार शाम सात बजे ऑफएयर किया गया।

चैनल के एडिटर-इन-चीफ कमलेश सुतार का कहना है कि ‘सूचना और प्रसारण’ (I&B) मंत्रालय से नोटिस मिलने के बाद 72 घंटे के लिए चैनल का प्रसारण बंद कर दिया गया है। इसके साथ ही सुतार ने यह भी कहा है कि वह इस मामले में वैधानिक रूप से अपनी लड़ाई लड़ेंगे।  

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सुतार ने एक वीडियो जारी कर कहा है, ‘मैं अपने दर्शकों को एक महत्वपूर्ण अपडेट देना चाहता था। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने सोमैया पर एक स्टोरी के संबंध में हमें पहले एक नोटिस दिया था, जिसके बाद हमने अपनी बात रखी थी। अब हमें एक नोटिस मिला है जिसमें चैनल को 72 घंटे के लिए ऑफएयर करने के लिए कहा गया है। ऐसे में शुक्रवार की शाम सात बजे से अगले 72 घंटों तक आप हमारा चैनल नहीं देख पाएंगे। हम इस बारे में कानूनी सलाह ले रहे हैं।’

इसके साथ ही सुतार का यह भी कहना है, ‘हम उम्मीद कर रहे थे कि हमें अपनी बात रखने का मौका दिया जाएगा। हालांकि जांच अभी भी जारी है। यदि हमें अधिक समय दिया जाता तो हमें यह अधिक उचित लगता। हमें शाम 6.13 बजे सूचना मिली कि शाम सात बजे से आप चैनल का प्रसारण बंद कर दें। हम जल्द ही वापस आएंगे।’

सुतार के अनुसार, ‘हमें कोर्ट से नया आदेश मिलने की उम्मीद है। लोकशाही अपना काम करता रहेगा। जांच होने दीजिए, इसके बाद सब साफ हो जाएगा। हमारे खिलाफ पहले से ही एफआईआर है। हम डरते नहीं हैं, क्योंकि यह हमारा लोकतंत्र है।’

गौरतलब है कि इस महीने की शुरुआत में मुंबई पुलिस ने कथित तौर बीजेपी नेता से जुड़ा वीडियो प्रसारित करने के लिए सुतार और एक यूट्यूबर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी। राज्य विधानमंडल के हाल ही में समाप्त हुए मानसून सत्र के दौरान विपक्षी नेताओं द्वारा महिलाओं के यौन उत्पीड़न के संबंध में उठाए गए मुद्दे के आधार पर उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने इस मामले में जांच के आदेश दिए थे। क्राइम ब्रांच इस मामले की जांच कर रही है। 

गौरतलब है कि ‘लोकशाही’ चैनल ने 17 जुलाई को किरीट सोमैया का कथित आपत्तिजनक वीडियो प्रसारित किया था, जिस पर काफी बवाल हुआ था। वहीं, सोमैया ने अपने खिलाफ साजिश का आरोप लगाते हुए उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और मुंबई पुलिस प्रमुख को पत्र लिखकर इस प्रकरण की जांच की मांग की थी।

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

MIB ने जारी की एडवाइजरी, कहा-इस तरह के लोगों को मंच देने से बचें TV चैनल्स

भारत और कनाडा के बीच चल रहे राजनयिक विवाद के बीच ‘सूचना प्रसारण मंत्रालय’ (MIB) ने सभी निजी सैटेलाइट चैनल्स के लिए एक एडवाइजरी जारी की है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 22 September, 2023
Last Modified:
Friday, 22 September, 2023
MIB

भारत और कनाडा के बीच चल रहे राजनयिक विवाद के बीच ‘सूचना प्रसारण मंत्रालय’ (MIB) ने सभी निजी सैटेलाइट टीवी चैनल्स के लिए एक एडवाइजरी जारी की है। 21 सितंबर 2023 को जारी इस एडवाइडरी में मंत्रालय ने सभी निजी टीवी चैनल्स से भारत विरोधी एजेंडे को मंच न देने और भारत विरोधी रिपोर्ट्स दिखाने से बचने के लिए कहा है।

इस एडवाइजरी में कहा गया है कि मंत्रालय को ऐसी जानकारी मिली है कि विदेश के एक ऐसे व्‍यक्ति को टीवी चैनल पर चर्चा के लिए आमंत्रित किया गया, जिसके खिलाफ आतंकवाद सहित गंभीर अपराध के आरोप लगे हैं और जो ऐसे संगठन से जुडा है जिसे भारत में कानून द्वारा प्रतिबंधित किया गया है। मंत्रालय ने कहा कि उस व्‍यक्ति ने ऐसे कई बयान दिये जो देश की संप्रभुता, अखंडता, देश की सुरक्षा और भारत के मित्र देशों के संबंधों के लिहाज से हानिकारक हैं और जो देश की व्‍यवस्‍था को अशांत कर सकते हैं।

मंत्रालय की ओर से जारी इस एडवाइजरी में कहा गया है, ‘सरकार मीडिया की स्वतंत्रता को कायम रखती है और संविधान के तहत उसके अधिकारों का सम्मान करती है। लेकिन साथ ही टीवी चैनल्स द्वारा प्रसारित कंटेंट को धारा 20 की उप-धारा (2) सहित केबल टेलीविजन नेटवर्क (विनियमन) अधिनियम, 1995 के प्रावधानों का पालन करना चाहिए।’

इसके साथ ही एडवाइजरी में यह भी कहा गया कि टीवी चैनल्स को सलाह दी जाती है कि वे ऐसी पृष्ठभूमि के व्यक्तियों के बारे में रिपोर्ट्स/संदर्भों और विचारों/एजेंडा को कोई भी प्लेटफॉर्म देने से बचें, जिनमें वे लोग भी शामिल हैं, जिनके खिलाफ गंभीर अपराध/आतंकवाद के आरोप हैं और जो कानून द्वारा प्रतिबंधित संगठनों से संबंधित हैं।

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

‘भारत एक्सप्रेस’ ने युवा पत्रकार याना मीर को किया नियुक्त, सौंपी यह जिम्मेदारी

‘भारत एक्सप्रेस’ (Bharat Express) न्यूज नेटवर्क ने जम्मू-कश्मीर की युवा पत्रकार याना मीर (Yana Mir) को सीनियर एंकर नियुक्त करने की घोषणा की है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 21 September, 2023
Last Modified:
Thursday, 21 September, 2023
Yana Mir

‘भारत एक्सप्रेस’ (Bharat Express) न्यूज नेटवर्क ने जम्मू-कश्मीर की युवा पत्रकार याना मीर (Yana Mir) को सीनियर एंकर नियुक्त करने की घोषणा की है। अपनी इस भूमिका में याना मीर जम्मू-कश्मीर और लद्दाख से समाचार और समसामयिक मामलों के अलावा प्रमुख राष्ट्रीय घटनाओं पर भी नजर रखेंगी।

बता दें कि ‘भारत एक्सप्रेस’ से पहले याना मीर श्रीनगर में ‘आईटीवी कश्मीर’ (ITV Kashmir) की ब्यूरो हेड थीं। इसके अलावा वह ‘द रियल कश्मीर’ (The Real Kashmir) और ‘टीआरके न्यूज’ (TRK News) की एडिटर के तौर पर भी अपनी जिम्मेदारी निभा चुकी हैं।

याना मीर को कश्मीर की पहली यूट्यूब ब्लॉगर के रूप में भी जाना जाता है। वह अपनी ग्राउंड जीरो रिपोर्ट्स के माध्यम से कश्मीरी महिलाओं और युवाओं की स्थिति को लोगों के सामने लाती रही हैं। यही नहीं, वह सक्रिय रूप से विस्थापित कश्मीरी पंडितों की वकालत भी करती रही हैं।

याना मीर की नियुक्ति के बारे में ‘भारत एक्सप्रेस’ के सीएमडी और एडिटर-इन-चीफ उपेंद्र राय का कहना है, ’याना मीर कश्मीर की होनहार और प्रतिभाशाली पत्रकार हैं। विशेषकर घाटी में युवाओं और महिलाओं के लिए उनका अभूतपूर्व काम बेहद सराहनीय है। भारत एक्सप्रेस में उनका स्वागत करते हुए मुझे काफी खुशी हो रही है।’ 

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

रीमा पाराशर से बोले प्रो. अवनिजेश, कांग्रेस पार्टी महिलाओं को आरक्षण क्यों नहीं देती?

महिला आरक्षण बिल पर लोकसभा में चर्चा के बीच कांग्रस संसदीय दल की प्रमुख सोनिया गांधी ने 'नारीशक्ति वंदन विधेयक' का समर्थन किया।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 21 September, 2023
Last Modified:
Thursday, 21 September, 2023
reema

लोकसभा में कांग्रेस संसदीय दल की अध्यक्ष सोनिया गांधी ने महिला आरक्षण बिल में ओबीसी के लिए आरक्षण की मांग की है। महिला आरक्षण बिल पर लोकसभा में चर्चा के बीच कांग्रस संसदीय दल की प्रमुख सोनिया गांधी ने 'नारीशक्ति वंदन विधेयक' का समर्थन किया और सरकार से अनुरोध किया कि जाति आधारित जनगणना कराकर विधेयक में अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के साथ ही अन्य पिछड़े वर्गों (ओबीसी) की महिलाओं के लिए आरक्षण की व्यवस्था की जाए।

इसी मुद्दे पर 'डीडी न्यूज' के डिबेट शो '5 की पंचायत' में शो की एंकर रीमा पाराशर के एक सवाल के जवाब में राजनीतिक विश्लेषक प्रो. अवनिजेश अवस्थी ने कहा, कांग्रेस आज तमाम तरह की बातें कर रही है। उनके मुताबिक यह साल 2024 से ही लागू कर देना चाहिए लेकिन मैं कांग्रेस पार्टी से यह पूछना चाहता हूं कि वो साल 2024 से ही अपनी पार्टी में क्यों नहीं यह नियम बनाते हैं कि 33 फीसदी टिकट महिलाओं को मिलेगा!

उन्होंने आगे कहा कि विपक्ष चाहे कितना ही भ्रम फैलाने की कोशिश करें लेकिन यह तय है कि साल 2002 में एक कानून बना था जिसके मुताबिक साल 2026 से पहले डी-लिमिटेशन नहीं हो सकता है ऐसे में उसके बाद ही संसदीय सीट बढ़ेगी।

जाहिर सी बात है कि सरकार का लाया गया बिल साल 2029 के लोकसभा चुनाव में ही प्रभावी होगा। उन्होंने आगे कहा देश के पीएम नरेंद्र मोदी महिलाओं के जुड़े मसलों को लेकर बेहद गंभीर है और उनके विकास को लेकर प्रतिबद्ध है।

 

 

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

कनाडा के पीएम को सुधीर चौधरी ने दिया ये सुझाव, वायरल हो रहा वीडियो

इसी बीच हिंदी न्यूज चैनल 'आजतक' के प्राइम टाइम एंकर सुधीर चौधरी ने अपने शो में कनाडा के पीएम को एक सुझाव दिया है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 21 September, 2023
Last Modified:
Thursday, 21 September, 2023
sudhir

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने अपनी संसद को संबोधित करते हुए भारत को खालिस्तानी आतंकी निज्जर की हत्या के लिए जिम्मेदार ठहरा दिया है। इसके साथ ही उन्होंने भारतीय दूतावास के एक राजनयिक को भी वापस लौटने का आदेश दिया। भारत ने इस पर कड़ी आपत्ति दर्ज की है और कनाडा के एक शीर्ष राजनयिक को पांच दिनों के अंदर देश छोड़ने का आदेश दिया है।

इसी बीच हिंदी न्यूज चैनल 'आजतक' के प्राइम टाइम एंकर सुधीर चौधरी ने अपने शो में कनाडा के पीएम को एक सुझाव दिया है। सुधीर चौधरी ने अपने शो में कहा, क्षेत्रफल में कनाडा दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा देश है। वहां के ब्रिटिश कोलंबिया जैसे प्रांत में पंजाब के बराबर 19 राज्य बन सकते हैं।

कनाडा को वहीं पर खलिस्तान का निर्माण करके तमाम खलिस्तानियों को बसा देना चाहिए। सुधीर ने यह भी कहा कि अगर वो चाहे तो वही 'खालिस्तान' नाम का एक अलग राज्य बनाकर अपनी मंशा पूरी कर सकते हैं। वहां उन्हें वो पूरी सुविधा दे सकते है, उनके रहने का इंतजाम किया जा सकता है और वो यह घोषणा भी कर सकते हैं कि जिसे भी इस राज्य में आकर बसना हो वो रह सकता हैं।

इसके जरिए वो 'खालिस्तान' के रहनुमाओं का विश्वास भी जीत सकते हैं और उन्हें अपनी सरकार गिरने के डर भी नहीं होगा।

आपको बता दें कि विदेश मंत्रालय ने अपनी एडवाइजरी में कहा है कि कनाडा में रह रहे भारतीय नागरिकों और छात्रों को वहां बढ़ती भारत विरोधी गतिविधियों और आपराधिक हिंसा को देखते हुए अत्यधिक सावधानी बरतने का आग्रह किया जाता है।

 

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए