सूचना:
मीडिया जगत से जुड़े साथी हमें अपनी खबरें भेज सकते हैं। हम उनकी खबरों को उचित स्थान देंगे। आप हमें mail2s4m@gmail.com पर खबरें भेज सकते हैं।

इन बड़े एंकर्स ने अपनी पसंद का खोला ‘राज’, कई एंकर्स के पढ़े कसीदे

‘एक्सचेंज4मीडिया’ समूह की ओर से 22 फरवरी को नोएडा के होटल रेडिसन ब्लू में ‘एक्सचेंज4मीडिया न्यूज ब्रॉडकास्टिंग अवॉर्ड्स’ (enba) 2019 दिए गए

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Saturday, 29 February, 2020
Last Modified:
Saturday, 29 February, 2020
enba conference

न्यूज चैनल पर दिखने वाले मेल या फीमेल एंकर्स में से किसी न किसी को तो हर कोई फॉलो करता है। सोशल मीडिया के जरिए भी न्यूज चैनल के मेल या फीमेल एंकर की फैन फॉलोइंग का पता चल ही जाता है, लेकिन शायद ही कोई जानता हो कि इन एंकर्स की पसंद क्या है, वे किस एंकर को फॉलो करते हैं, इतना ही नहीं वे किस चैनल को पसंद करते हैं। इस बात का खुलासा ‘एक्सचेंज4मीडिया’ (exchange4media) समूह की न्यूजनेक्सट कॉन्फ्रेंस क दौरान हुआ, जब एक पैनल डिस्कशन के दौरान ‘Differentiating editorial content from propaganda’ विषय पर चर्चा हो रही थी।

इस पैनल डिस्कशन को बतौर सेशन चेयर फिल्म मेकर, इंटरनेशनल एंटरप्रिन्योर, मोटिवेशनल स्पीकर और लेखक डॉ. भुवन लाल मॉडरेट कर रहे थे। पैनल डिस्कशन में ‘एबीपी न्यूज’ के वाइस प्रेजिडेंट (प्लानिंग और स्पेशल कवरेज) सुमित अवस्थी, ‘आजतक’ के एग्जिक्यूटिव एडिटर (स्पेशल प्रोजेक्ट्स) रोहित सरदाना, ‘जी बिजनेस’ के मैनेजिंग एडिटर अनिल सिंघवी, ‘राज्यसभा टीवी’ के एडिटर-इन-चीफ राहुल महाजन, ‘सीएनएन न्यूज18’ के एग्जिक्यूटिव एडिटर भूपेंद्र चौबे और ‘विऑन’ की एग्जिक्यूटिव एडिटर पलकी शर्मा उपाध्याय शामिल थे।

यह पैनल डिस्कशन अपने अंतिम पड़ाव पर था कि तभी एक्सचेंज4मीडिया के चेयरमैन व एडिटर-इन-चीफ डॉ. अनुराग बत्रा ने पैनल में मौजूद सभी सदस्यों से उनके पसंदीदा एंकर और न्यूज चैनल को लेकर सवाल पूछ लिया। हालांकि सवाल सुनकर पैनल में मौजूद सभी सदस्य थोड़ा सा असहज हो गए, क्योंकि इतने बड़े मंच से अपने कॉम्पटीटर चैनल्स के एंकर का नाम लेकर अपनी पसंद जाहिर करना उनके लिए मुश्किल तो था। लिहाजा, ‘विऑन’ की एग्जिक्यूटिव एडिटर पलकी शर्मा इस सवाल से बचती दिखीं, उन्होंने तुरंत ही अपने चैनल का नाम लिया, लेकिन डॉ. बत्रा ने उनका जवाब सुनकर तुरंत ही अपने सवाल को फिर दोहराया कि अपने चैनल के एंकर को छोड़कर आप किसी भी अन्य चैनल की बात कर सकती हैं।       

यह सुनते ही सबसे पहले इसका जवाब देने के लिए ‘सीएनएन न्यूज18’ के एग्जिक्यूटिव एडिटर भूपेंद्र चौबे ने हाथ खड़ा कर दिया और निसंकोच उन्होंने बताया कि वे रोहित सरदाना को बतौर एंकर काफी पसंद करते हैं। उन्होंने कहा कि मेरी मुलाकात रोहितजी से इतनी नहीं है, लेकिन मैं उनके प्रोग्राम्स को देखना पसंद करता हूं। कॉम्लीमेंट के तौर पर मैं कहना चाहूंगा कि ऐसा इसलिए है क्योंकि वे कभी अपनी मर्यादा को क्रॉस नहीं करते हैं। हां, इनके सवाल जरूर तल्ख हो सकते हैं। विचारधारा को लेकर भले ही आप इनकी आलोचना कर सकते हैं कि वे इस तरफ हैं या उस तरफ हैं, लेकिन मेरे लिए वे आपके पूछे सवाल में पूरी तरह से फिट बैठते हैं। मैंने कभी उन्हें उस तरह से चिल्लाते नहीं देखा है, जैसा कि अन्य कई चैनलों पर होता है। उन्होंने कहा कि तल्ख आपके सवाल में होना चाहिए, आपके व्यवहार में नहीं।

इसके बाद फिर अगला नंबर पलकी शर्मा का आया तो उन्होंने इस बार सवाल को यह कहते हुए आगे पास कर दिया कि वे सबसे आखिर में इसका जवाब देंगी। यह सुनकर ‘राज्यसभा टीवी’ के एडिटर-इन-चीफ राहुल महाजन ने कहा कि यह बहुत ही कठिन सवाल है कि कोई एक एंकर दूसरे एंकर की नाम लेकर प्रशंसा करे।

लिहाजा सभी को बीच में रोकते हुए इस सवाल का जवाब देने की कमान ‘जी बिजनेस’ के मैनेजिंग एडिटर अनिल सिंघवी ने अपने हाथों में ले ली और कहा कि मैं एक से ज्यादा एंकर को पसंद करता हूं। लेकिन पहला नाम यहां भूपेंद्र चौबे का लेना चाहूंगा। उन्होंने कहा कि मैं इन्हें ‘सीएनबीसी’ के दिनों से ही पसंद करता हूं, क्योंकि जब हम पॉलिटिकल डिस्कशन करते थे, तो पॉलिटिकल ओपिनियन के लिए हमारी पहली पसंद भूपेंद्र चौबे ही होते थे, जबकि ‘नेटवर्क18’ में और भी पत्रकार थे। लेकिन ऐसा इसलिए था, क्योंकि उनकी ओपिनियन मुझे बिल्कुल क्लियर, अनबॉयस्ड लगती थी। उन्होंने कहा कि यहां, दूसरे एंकर का मैं नाम नहीं लूंगा, लेकिन मैं एक ऑर्गनाइजेशन के तौर पर ‘आजतक’ को पसंद करता हूं। मैं इस चैनल की बहुत रिस्पेक्ट करता हूं। उन्होंने कहा कि ये बिजनेस मीडिया का हिन्दुस्तान यूनिलीवर है। लेकिन अपनी बात को खत्म करते-करते उन्होंने एक और एंकर का जिक्र कर ही दिया वे रोहित सरदाना को भी बतौर एंकर पसंद करते हैं।

इसके बाद, ‘आजतक’ के एग्जिक्यूटिव एडिटर (स्पेशल प्रोजेक्ट्स) रोहित सरदाना ने इस सवाल का जवाब देते हुए कहा कि टीवी पर बहुत सारे एंकर्स हैं, जिन्हें हम सभी एप्रिसिएट करते हैं। बातों के दौरान उन्होंने सुमित अवस्थी की ओर इशारा करते हुए अपनी पसंद जगजाहिर की और कहा कि मैं ऐसा इसलिए नहीं कह रहा हूं कि सुमित मेरे बगल में बैठे हैं या फिर मैंने इनके साथ काम किया है, बल्कि जब मैंने इनके साथ कभी काम नहीं किया था, कभी किसी इवेंट मुलाकात होती थी, तब भी मैं हमेशा इन्हीं का नाम लेता था। फिर हमें बाद में ‘जी न्यूज’ में कुछ दिन एक साथ काम करने का मौका मिला। उन्होंने कहा कि एक अच्छी चीज कहना चाहूंगा कि ‘ताल ठोक के’ शो जो मैंने जी न्यूज पर किया था कि उसका नाम सुमित ने ही दिया था और मैं उसका एंकर था, लेकिन बहुत सारे लोग मुझे सुमित कहकर संबोधित कर देते थे। यहां तक कुछ लोग शो में भी मुझे सुमित ही कह देते थे, क्योंकि अगला शो सुमित का ही होता था और कई लोग इनके शो में भी शामिल होते थे। लिहाजा उनके दिमाग में सुमित ही चलता रहता होगा, क्योंकि मेरी शक्ल कुछ-कुछ सुमित से मिलती है, मेरी भी मूछें हैं, मैं भी चश्मा पहनता हूं और इत्तेफाकन कपड़े भी एक जैसे ही पहनता हूं। कद-काठी में भी ज्यादा अंतर नहीं है, बस इन्होंने जिम जाकर अपने आपको मेंटेन किया हुआ है। इसलिए शायद ये लोग मुझे सुमित कहकर बुला देते होंगे और मैं इस बात का बुरा भी नहीं मानता हूं।

इसके बाद रोहित सरदाना ने श्वेता सिंह का नाम लिया और कहा कि मैं अपने चैनल में श्वेता सिंह को देखता हूं। उन्हें हमेशा से देखता आया हूं और मैं उनकी प्रशंसा करता हूं कि उन्होंने कई सालों से अपने आपको मेंटेन किया हुआ है। उन्होंने आगे कहा कि ऐसे ही आप मीमांसा मलिक को देखिए, जबसे देख रहा हूं उन्होंने अपने आपको बहुत मेंटेन किया हुआ है। सारे दौर गुजर गए लेकिन मीमांसा मलिक ने अपना एक ऑरा मेंटेन किया हुआ है और वो आज भी वे वैसे की वैसी ही दिखती हैं। टेलिविजन चैनल के बाहर यदि बात करें तो मैं बीबीसी नाउ में मिलिंद खांडेकर को देखता हूं, जबकि मैंने इनके साथ कभी काम नहीं किया है। ट्विटर पर यदि मैं इन्हें ऐसी वैसी कोई बात लिख भी देता हूं तो मैंने कभी नहीं देखा कि वे नाराज हो गए हो, बल्कि वे इसका जवाब भी देते हैं और मेरी कही बात को रीट्वीट भी कर लेते हैं। यही तो एक अच्छे आदमी की पहचान है।   

इसके बाद अब बारी थी सुमित अवस्थी की, तो उन्होंने इस सवाल के जवाब में कहा कि मैं यहां एक नहीं दो नाम लेना चाहूंगा, किसी चेहरे को देखते हुए नहीं, बल्कि प्रोफेशनली। उन्होंने कहा कि हर जर्नलिज्म के स्टूडेंट को हमेशा डॉ. रजत शर्मा से सीखना चाहिए कि आप कैसे विनम्रता और सरलता से अपने मेहमानों से अच्छी चीजें निकलवा सकते हैं, न्यूज पॉइंट्स निकलवा सकते हैं, हेडलाइंस निकलवा सकते हैं। इसके अलावा डॉ. प्रणॉय रॉय से सीखना चाहिए। आइडियोलॉजिकली ये दोनों आदमी अपनी-अपनी दो धुरी के दो स्ट्रीम हो सकते हैं, लेकिन इनसे सीखने के लिए बहुत कुछ है। दोनों ही बहुत मेहनती हैं। दोनों ही अपने-अपने दम पर बने और खड़े हुए हैं। उन्होने कहा कि मैंने उनसे काफी कुछ सीखा है, लेकिन मैं एक असफल छात्र रहा हूं और यह जानता हूं कि मैं उनके एग्जाम में फेल हो जाउंगा। इसलिए उनसे सीखना चाहिए।   

इसके बाद ‘राज्यसभा टीवी’ के एडिटर-इन-चीफ राहुल महाजन ने सुमित अवस्थी की बातों पर सहमति जताते हुए कहा कि मैं डॉ. प्रणॉय रॉय को शुरू से ही बहुत ज्यादा फॉलो करता हूं। इसके अलावा मैं कहूं तो नविका कुमार को बहुत ही ज्यादा फॉलो करता हूं। उनकी एंकरिंग स्किल्स के लिए नहीं, बल्कि उनकी डेप्थ ऑफ नॉलेज के लिए मैं उन्हें फॉलो करता हूं। हालांकि इन लोगों के जवाब सुनने के बाद, डॉ. बत्रा ने एक बार फिर भूपेंद्र चौबे का रुख किया और कहा कि जो एंकर पैनल में शामिल नहीं हैं और जिन्हें आप पसंद करते हैं, ऐसे एंकर का नाम आप बताइए। इसका जवाब देते हुए

उन्होंने कहा कि मैंने जीवन में दो कंपनियों में काम किया है। डॉ.प्रणॉय रॉय और रजत शर्मा चार्मर है, लेकिन उनके साथ ही एक और व्यक्ति हैं राघव बहल, जिन्हें मैं काफी पसंद करता हूं। हालांकि वो कोई रेगुलर एंकर नहीं है। लेकिन मैं यहां सभी गुजारिश करूंगा कि सभी लोग उनका वित्त मंत्री के साथ किया इंटरव्यू जरूर देखें, कि कैसे उन्होंने बड़ी ही सहजता और विनम्रता पूर्वक उनसे सवाल किए हैं और वो भी पूरे डेटा के साथ। इसलिए मैं कहना चाहूंगा कि मेरी नजर में वही ऐसे एक एंकर हैं, जो बड़ी ही मेहनत और पूरे डेटा के साथ इंटरव्यू करते हैं।

और अंत में एक बार फिर यह सवाल ‘विऑन’ की एग्जिक्यूटिव एडिटर पलकी शर्मा के सामने आ गया, और इस बार में उन्होंने जवाब देते हुए कहा कि सबको सुनने के बाद मैं कहना चाहूंगी कि यहां किसी ने भी उनका नाम नहीं लिया है, जिसका नाम लेना चाहिए था। पुरुष प्रधान वाले इस देश में जैसा कि पैनल में भी देखने को मिल रहा है, वह बहुत ही जाना माना नाम है, जिन्होंने पत्रकारिता के क्षेत्र में काफी उल्लेखनीय काम किया है, जिनमें शीरीन भान और सुहासिनी जैसे लोगों का नाम लिया जा सकता है, जिनके साथ मैंने काम किया है। लेकिन कुछ ऐसे भी नाम हैं, जिनके साथ मैंने काम नहीं किया है, जैसे नविका कुमार और सोनिया सिंह हैं, जो इस समय शीर्ष पर हैं और न्यूजरूम में बहुत ही बैलेंस करके काम कर रही हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इन राजनीतिक हस्तियों से मिले उपेंद्र राय, चैनल के लॉन्चिंग कार्यक्रम में किया आमंत्रित

भारत एक्सप्रेस न्यूज नेटवर्क के चेयरमैन, एमडी और एडिटर-इन-चीफ उपेंद्र राय ने गुरुवार को राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात की

Last Modified:
Friday, 27 January, 2023
upendrarai445120

भारत एक्सप्रेस न्यूज नेटवर्क के चेयरमैन, एमडी और एडिटर-इन-चीफ उपेंद्र राय ने गुरुवार को राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात की। वरिष्ठ पत्रकार उपेंद्र राय ने उन्हें ‘भारत एक्सप्रेस’ न्यूज चैनल के शुभारंभ कार्यक्रम में बतौर अतिथि आमंत्रित किया। इस दौरान उन्होंने अशोक गहलोत को ‘भारत एक्सप्रेस’ का विजन डॉक्यूमेंट और अपनी पुस्तकें ‘हस्तक्षेप’ व ‘नजरिया’ की प्रतियां भी भेंट कीं।

वहीं, इसके पहले, भारत एक्सप्रेस न्यूज नेटवर्क के चेयरमैन ने गुरुवार को राज्यपाल कलराज मिश्र से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने राजस्थान के गवर्नर को ‘भारत एक्सप्रेस’ न्यूज चैनल के लॉन्चिंग कार्यक्रम के लिए आमंत्रित किया था। साथ ही उन्होंने चैनल की आगे की योजनाओं के बारे में भी चर्चा की थी। वरिष्ठ पत्रकार उपेंद्र राय ने राज्यपाल कलराज मिश्र को अपनी पुस्तकों ‘हस्तक्षेप’ और ‘नजरिया’ की प्रतियां भी भेंट की थीं।

जबकि बुधवार को उपेंद्र राय छत्तीसगढ़ की गवर्नर अनुसुइया उइके से मुलाकात की। इस मुलाकात के दौरान वरिष्ठ पत्रकार उपेंद्र राय ने छत्तीसगढ़ की गवर्नर को ‘भारत एक्सप्रेस’ न्यूज चैनल के लॉन्चिंग कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया। इस दौरान, गवर्नर अनुसुइया उइके को उन्होंने एक फरवरी को लॉन्च होने वाले ‘भारत एक्सप्रेस’ न्यूज चैनल का विजन डॉक्यूमेंट भेंट किया। साथ ही उन्होंने चैनल की आगे की योजनाओं के बारे में भी चर्चा की।  

वहीं, बुधवार को ही वह छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह से और आईपीएस अधिकारी (डीजी सीआईएसएफ) शील वर्धन सिंह से मुलाकात की और उन्हें भी लॉन्चिंग कार्यक्रम में शामिल होने का निमंत्रण दिया। जबकि, सोमवार को वह केंद्रीय ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह से मुलाकात कर उन्हें भी अपने कार्यक्रम में शामिल होने का निमंत्रण दिया है।

 

इनके अलावा उपेंद्र राय ने गुरुवार को केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री मनसुख मंडाविया से भी मुलाकात की। इस मुलाकात के दौरान उपेंद्र राय ने केंद्रीय मंत्री को ‘भारत एक्सप्रेस’ न्यूज चैनल के लॉन्चिंग कार्यक्रम के लिए आमंत्रित किया। साथ ही उन्होंने मनसुख मंडाविया को एक फरवरी को लॉन्च होने वाले भारत एक्सप्रेस न्यूज चैनल का विजन डॉक्यूमेंट भेंट किया और चैनल की आगे की योजनाओं के बारे में भी चर्चा की। उपेंद्र राय ने केंद्रीय मंत्री मनसुख मंडाविया को अपनी पुस्तकों ‘हस्तक्षेप’ और ‘नजरिया’ की प्रतियां भी भेंट की।

गौरतलब है कि वरिष्ठ पत्रकार उपेंद्र राय के नेतृत्व में जल्द ही भारत एक्सप्रेस न्यूज चैनल लॉन्च होने जा रहा है। उपेंद्र राय पत्रकारिता जगत का जाना-पहचाना नाम हैं और अब उनके 25 सालों के लंबे पत्रकारीय जीवन के अनुभवों की झलक ‘भारत एक्सप्रेस न्यूज नेटवर्क’ के जरिए देखने को मिलेगी।

भारत एक्सप्रेस न्यूज नेटवर्क हिंदी, अंग्रेजी और उर्दू भाषा में जनता तक सभी खबरें पहुंचाएगा। न्यूज नेटवर्क का कहना है कि उपेन्द्र राय की कोशिश है कि मीडिया समूह के सभी प्लेटफॉर्म को वक्त के हिसाब से वाइब्रेंट बनाते हुए पत्रकारिता के नैतिक मूल्यों को भी जिंदा रखा जाए।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

‘MitwaTV’ से जुड़े दाइबा प्रदीप रॉय, मिली यह बड़ी जिम्मेदारी

‘मितवा टीवी’ से पहले दाइबा प्रदीप रॉय करीब छह साल से ‘जी मीडिया कॉरपोरेशन’ (Zee Media Corporation) में बतौर नेशनल सेल्स अकाउंट हेड के तौर पर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे।

Last Modified:
Friday, 27 January, 2023
Mitwa TV

‘मितवा टीवी’ (Mitwa TV) ने दाइबा प्रदीप रॉय (Daiba Pradeep Roy) को सेल्स हेड (नेशनल) के पद पर नियुक्त किया है। अपनी इस भूमिका में वह नेशनल सेल्स टीम का नेतृत्व करेंगे और ‘मितवा टीवी’ के लिए रेवेन्यू जुटाने का काम करेंगे।

‘मितवा टीवी’ से पहले दाइबा प्रदीप रॉय करीब छह साल से ‘जी मीडिया कॉरपोरेशन’ (Zee Media Corporation) में बतौर नेशनल सेल्स अकाउंट हेड के तौर पर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे।

रॉय को विज्ञापन बिक्री के क्षेत्र में काम करने का 21 साल से ज्यादा का अनुभव है। इस दौरान वह विभिन्न क्षेत्रों में टीमों की कमान संभाल चुके हैं। पूर्व में वह 15 साल से ज्यादा समय तक ‘ईटीवी’ (Network18 Media & Investments) में बिजनेस हेड के तौर पर अपनी भूमिका निभा चुके हैं।

बता दें कि ‘मितवा टीवी’ हिंदी भाषी क्षेत्रों में फैले 45 करोड़ से ज्यादा ऑडियंस के लिए नए जमाने का सबस्क्रिप्शन फ्री प्रीमियम ‘ओवर द टॉप’ (OTT) प्लेटफॉर्म है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

धूमधाम से मनाया जा रहा गणतंत्र दिवस, PM मोदी समेत मीडिया जगत ने भी दीं शुभकामनाएं

पूरा देश आज 74वां गणतंत्र दिवस (Republic Day) धूमधाम से मना रहा है। इस मौके पर दिल्ली में कर्तव्य पथ पर भव्य आयोजन हुआ।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 26 January, 2023
Last Modified:
Thursday, 26 January, 2023
Republic Day

पूरा देश आज 74वां गणतंत्र दिवस (Republic Day) धूमधाम से मना रहा है। इस मौके पर दिल्ली में कर्तव्य पथ पर भव्य आयोजन हुआ। परेड में विभिन्न थीम पर आधारित 23 झांकियों का प्रदर्शन हुआ। अधिकांश झांकियों की थीम नारी सशक्तिकरण पर रखी गई थी। इनमें 17 झांकियां देश के विभिन्न राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की, जबकि छह सरकारी मंत्रालयों और विभागों की थीं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत विभिन्न राजनीतिक दलों, उनसे जुड़े नेताओं और मीडिया जगत ने भी लोगों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी हैं।

ट्विटर पर दिए अपने संदेश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लिखा है, ‘गणतंत्र दिवस की ढेर सारी शुभकामनाएं। इस बार का यह अवसर इसलिए भी विशेष है, क्योंकि इसे हम आजादी के अमृत महोत्सव के दौरान मना रहे हैं। देश के महान स्वतंत्रता सेनानियों के सपनों को साकार करने के लिए हम एकजुट होकर आगे बढ़ें, यही कामना है।’

 

कांग्रेस की तरफ से गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं देते हुए ट्वीट किया गया है, 'कांग्रेस परिवार की तरफ से देशवासियों को गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं। आओ, इस गणतंत्र दिवस लोकतंत्र के प्रहरी बन संविधान बचाने का प्रण लेते हैं।'

 

पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित प्रख्यात संपादक आलोक मेहता ने देशवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं देते हुए ट्वीट किया है। अपने ट्वीट में आलोक मेहता का कहना है, 'गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएँ । संविधान और गणतंत्र अमर रहे।'

 

वरिष्ठ टीवी पत्रकार व इंडिया टुडे ग्रुप के कंसल्टिंग एडिटर राजदीप सरदेसाई ने भी देशवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं देते हुए ट्वीट किया है।

 

वरिष्ठ पत्रकार और 'अमर उजाला' समूह में कंसल्टिंग एडिटर विनोद अग्निहोत्री ने भी समस्त देशवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी हैं। अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा है, 'तंत्र पर गण के अंकुश के पर्व गणतंत्र दिवस २६ जनवरी की बधाई और अनेक शुभकामनाएँ।देश हिंदू मुस्लिम सिख ईसाई राष्ट्र नहीं बल्कि एक प्रबुद्ध सशक्त भारत बने जो सबका हो सब उसके हों।इस संकल्प के साथ आज़ादी के अमृत काल में एक बार फिर गणतंत्र दिवस की मंगल कामनाएँ।'

 

'भारत एक्सप्रेस' के चेयरमैन, प्रबंध निदेशक और एडिटर-इन-चीफ उपेंद्र राय ने भी एक ट्वीट कर समस्त देशवासियों को 74वें गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी हैं।

 

वरिष्ठ टीवी पत्रकार और 'आजतक' में सलाहकार संपादक सुधीर चौधरी ने भी देशवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं देते हुए ट्वीट किया है। अपने ट्वीट में सुधीर चौधरी ने लिखा है, 'आप सभी को #गणतंत्रदिवस की शुभकामनाएँ । आज के दिन को एक पर्व, उत्सव की तरह मनाइए।अपनी पहचान और संस्कृति पर गर्व कीजिए।'

 

'इंडिया न्यूज' के मैनेजिंग एडिटर और वरिष्ठ पत्रकार 'राणा यशवंत' ने भी ट्वीट कर देशवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी हैं। राणा यशवंत ने ट्वीट किया है, 'सबल, समरस , संपन्न और सफल भारत की मंगलकामना'

 

वरिष्ठ टीवी पत्रकार शमशेर सिंह ने भी देशवासियों को 74वें गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी हैं। 

 

वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार ने भी एक ट्वीट कर लोगों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी हैं। अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा है, 'आप सभी को गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ । जय हिन्द।'

 

वरिष्ठ पत्रकार दिनेश शर्मा ने भी लोगों को गणतंत्र दिवस की बधाई दी है। अपने बधाई संदेश में दिनेश शर्मा ने ट्विटर पर लिखा है, 'मेरे सभी भारतवासियों को गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ । Happy Republic Day to all Indians.. 26, January, 2023' 

 

गणतंत्र दिवस पर अपने शुभकामना संदेश में ‘न्यूज18 इंडिया’ (हिंदी) के मैनेजिंग एडिटर और सीनियर एंकर अमिश देवगन ने ट्वीट किया है, 'भारत की एकता, अखंडता व संप्रभुता की शक्ति के प्रतीक पर्व गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं। आज पूरा विश्व हमारे लोकतंत्र को सलाम करता है ।'

वरिष्ठ टीवी पत्रकार और 'जी न्यूज' में कसंल्टिंग एडिटर दीपक चौरसिया ने भी एक ट्वीट कर देशवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी हैं।

वरिष्ठ पत्रकार कमर वहीद नकवी ने भी एक ट्वीट कर देशवासियों को गणतंत्र दिवस व वसंत पंचमी की शुभकामनाएं दी हैं।

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

‘जोश टॉक्स’ से अलग होकर पवन शर्मा ने अब तलाशी नई मंजिल

‘जोश टॉक्स’ (Josh Talks) से पवन शर्मा अब अलग हो गए हैं। उन्होंने कंपनी छोड़ दी है

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 26 January, 2023
Last Modified:
Thursday, 26 January, 2023
pawansharrna4521.jpg

‘जोश टॉक्स’ (Josh Talks) से पवन शर्मा अब अलग हो गए हैं। उन्होंने कंपनी छोड़ दी है और चीफ रेवेन्यू ऑफिसर (सीआरओ) के तौर पर ‘बी4यू’ (B4U) में शामिल हो गए हैं। उच्च पदस्थ सूत्रो ने हमारी सहयोगी वेबसाइट ‘एक्सचेंज4मीडिया’ को इसकी जानकारी दी।

‘जोश टॉक्स’ में शर्मा बिजनेस हेड थे, जो कंपनी के लिए रेवेन्यू और ब्रैंडेड मार्केटिंग डिवीजन का नेतृत्व करते थे।

इससे पहले, शर्मा ‘नेटवर्क18’ में एक साल से अधिक समय तक रहे। वह नवंबर 2020 में नेशनल हेड रेवेन्यू (फोकस- हिंदी व रीजनल न्यूज) के रूप में नेटवर्क18 से जुड़े और दिसंबर 2021 में इससे अलग हो गए।

न्यूज18 नेटवर्क से जुड़ने से पहले शर्मा ‘बिंदास’ (Bindass) के डिस्प्ले व ब्रैंडेड कंटेंट के नेशनल सेल्स हेड थे। अतीत में, उन्होंने ‘द वॉल्ट डिज्नी’ कंपनी के साथ 11 वर्षों तक काम किया। वह 2009 में कंपनी में यूटीवी मूवीज एंड एक्शन में प्रॉयर्टी टीम (नॉर्थ, ईस्ट और साउथ) के हेड के रूप में शामिल हुए और बाद में 2013 में यूटीवी एक्शन और वर्ल्ड मूवीज के लिए रीजनल सेल्स हेड के रूप में प्रमोट हुए। उन्होंने रिलायंस बिग एंटरटेनमेंट के लिए भी अपना योगदान दिया।  

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

‘एबीपी नेटवर्क’ में इस बड़े पद से मोना जैन ने दिया इस्तीफा

वह करीब सवा तीन साल से इस पद पर अपनी जिम्मेदारी निभा रही थीं। इससे पहले मोना जैन ‘जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड’ (ZEEL) में एग्जिक्यूटिव वाइस प्रेजिडेंट के पद पर कार्यरत थीं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 24 January, 2023
Last Modified:
Tuesday, 24 January, 2023
Mona Jain

‘एबीपी नेटवर्क’ (ABP Network) से एक बड़ी खबर निकलकर सामने आई है। इस खबर के अनुसार, नेटवर्क में चीफ रेवेन्यू ऑफिसर मोना जैन ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। वह करीब सवा तीन साल से इस पद पर अपनी जिम्मेदारी निभा रही थीं।

इससे पहले मोना जैन ‘जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड’ (ZEEL) में एग्जिक्यूटिव वाइस प्रेजिडेंट के पद पर कार्यरत थीं। मोना जैन ने ‘जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड’ में बतौर एग्जिक्यूटिव वाइस प्रेजिडेंट (ऐड सेल्स) वर्ष 2014 में जॉइन किया था।

यहां अपने करीब पांच साल नौ महीने के कार्यकाल में नेटवर्क की दिल्ली ब्रांच की कमान उन्हीं के हाथों में थी। इसके अलावा वह ‘Zee Café’, ‘Zee Studio’, ‘Anmol, Zindagi’, ‘Salaam’ और ‘Jagran’ की नेशनल क्लस्टर हेड भी थीं। 

मोना जैन को मीडिया इंडस्ट्री में तीन दशक से ज्यादा का अनुभव है। ‘ZEEL’ में अपनी जिम्मेदारी निभाने से पहले वह ‘Vivaki Exchange’ की सीईओ और ‘Cheil Communications’ में एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर भी रह चुकी हैं।

वर्ष 1996 से 2002 के बीच वह ‘Mudra Communications’ में मीडिया डायरेक्टर के तौर पर भी अपनी भूमिका निभा चुकी हैं। इसके अलावा वह ‘GSK’, ‘Draftfcb+Ulka’, ‘Contract Advertising’ और ‘HTA’ (now JWT) जैसी बड़ी कंपनियों में भी काम कर चुकी हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

जॉय चक्रबर्ती ने ‘जी मीडिया’ में इस बड़े पद से हटने का लिया फैसला!

जॉय चक्रबर्ती को मीडिया में काम करने का करीब तीन दशक का अनुभव है। पूर्व में वह ‘टीवी18’ (TV-18) और ‘टाइम्स ऑफ इंडिया’ (Times of India) समूह के साथ भी काम कर चुके हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 24 January, 2023
Last Modified:
Tuesday, 24 January, 2023
JOY CHAKRABORTHY

‘जी मीडिया’ (Zee Media) से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। इंडस्ट्री के उच्च पदस्थ सूत्रों के हवाले से मिली इस खबर के अनुसार, ‘जी मीडिया’ के चीफ बिजनेस ऑफिसर जॉय चक्रबर्ती ने अपने पद से हटने का फैसला लिया है।

उन्होंने पिछले साल अगस्त में ‘जी मीडिया’ के चीफ बिजनेस ऑफिसर के रूप में पदभार संभाला था और नवंबर में ‘जी मीडिया कॉर्प’ के पुनर्गठन के बाद भी उनकी इस भूमिका में कोई बदलाव नहीं किया गया था। पुनर्गठन के दौरान उन्हें कंपनी के कार्यकारी बोर्ड के लिए भी चुना गया था। अपनी इस भूमिका में जॉय चक्रबर्ती इस मीडिया समूह के मार्केटिंग, डिस्ट्रीब्यूशन और रेवेन्यू से जुड़े कार्यों की देखरेख कर रहे थे।

जॉय चक्रबर्ती इससे पहले ‘गोल्डमाइंस टेलीफिल्म्स‘ (Goldmines Telefilms) में ब्रॉडकास्टिंग के सीईओ (CEO) के तौर पर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे। जॉय चक्रबर्ती को मीडिया में काम करने का करीब तीन दशक का अनुभव है। पूर्व में वह ‘टीवी18’ (TV-18) और ‘टाइम्स ऑफ इंडिया’ (Times of India) समूह के साथ भी काम कर चुके हैं।

‘नेशनल डिफेंस एकेडमी’ (National Defence Academy) से स्नातक जॉय चक्रबर्ती ने एनएमआईएमएस से मार्केटिंग मैनेजमेंट में प्रबंधन की डिग्री ली है। इसके अलावा उन्होंने 'हॉर्वर्ड बिजनेस स्कूल' से एडवांस्ड मैनेजमेंट प्रोग्राम भी किया है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

‘द हिंदू' ग्रुप ने कार्तिक नागप्पन को किया नियुक्त, सौंपी ये बड़ी जिम्मेदारी

‘द हिंदू’, ‘बिजनेसलाइन’, ‘स्पोर्टस्टार’ और ‘फ्रंटलाइन’ की प्रकाशक कंपनी ‘द हिंदू ग्रुप’ (THG) ने कार्तिक नागप्पन के नियुक्ति की घोषणा की है

Last Modified:
Monday, 23 January, 2023
KartikNagappan5121

‘द हिंदू’, ‘बिजनेसलाइन’, ‘स्पोर्टस्टार’ और ‘फ्रंटलाइन’ की प्रकाशक कंपनी ‘द हिंदू ग्रुप’ (THG) ने ब्रैंड के हेड के तौर पर कार्तिक नागप्पन के नियुक्ति की घोषणा की है। वह 144 साल पुराने पब्लिशिंग हाउस के लिए ब्रैंड व कंज्यूमर कनेक्ट इनिशिएटिव्स की अगुवाई करेंगे।

कार्तिक को ब्रैंड स्ट्रैटजी, कॉर्पोरेट कम्युनिकेशंस व रीडर कनेक्ट इनिशिएटिव्स में 15 वर्षों से भी अधिक का अनुभव है और इसी के साथ वह मार्केटिंग स्पेशलिस्ट हैं। वह इससे पहले चेन्नई में ‘द टाइम्स ऑफ इंडिया’ और ‘द न्यू इंडियन एक्सप्रेस’ के साथ जुड़े हुए थे।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

जांच एजेंसियों को खबर का सोर्स न बताने की पत्रकारों को कोई वैधानिक छूट नहीं: दिल्ली कोर्ट

मुख्य मेट्रोपॉलिटन मैजिस्ट्रेट अंजनी महाजन ने केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की ओर से दायर एक ‘क्लोजर रिपोर्ट’ को खारिज कर दिया।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 19 January, 2023
Last Modified:
Thursday, 19 January, 2023
Journalists

दिल्ली की एक अदालत की मानें तो भारत में पत्रकारों को जांच एजेंसियों को अपने स्रोत का खुलासा करने से कोई वैधानिक छूट नहीं है, विशेष रूप से तब, जब आपराधिक मामले की जांच में सहायता के लिए इस तरह का खुलासा जरूरी हो। यह कहते हुए मुख्य मेट्रोपॉलिटन मैजिस्ट्रेट अंजनी महाजन ने केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की ओर से दायर एक ‘क्लोजर रिपोर्ट’ को खारिज कर दिया।

दरअसल, रिपोर्ट में सीबीआई ने दावा किया था कि वह कथित जालसाजी के मामले में जांच पूरी नहीं कर सकी, क्योंकि कथित जाली दस्तावेजों को प्रकाशित और प्रसारित करने वाले पत्रकारों ने उन स्रोतों का खुलासा करने से इनकार कर दिया था, जहां से उन्होंने इसे इसे हासिल किया था।

एफआईआर के मुताबिक, कुछ न्यूज चैनलों और समाचार पत्रों ने 9 फरवरी, 2009 को यानी सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई की तय तारीख से एक दिन पहले दिवंगत नेता मुलायम सिंह यादव और उनके परिवार के सदस्यों के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले से संबंधित रिपोर्ट प्रसारित और प्रकाशित की थी। समाचार प्रकाशित होने के बाद, सीबीआई ने एजेंसी की प्रतिष्ठा को धूमिल करने के लिए कथित तौर पर फर्जी और मनगढ़ंत रिपोर्ट तैयार करने के आरोप में अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी। हालांकि बाद में सीबीआई ने इस मामले में ‘क्लोजर रिपोर्ट’ दाखिल कर दी थी।

मेट्रोपॉलिटन मैजिस्ट्रेट ने मंगलवार को रिपोर्ट को खारिज कर दिया और सीबीआई को पत्रकारों से पूछताछ करने का निर्देश दिया। न्यायाधीश ने कहा, ‘भारत में पत्रकारों को जांच एजेंसियों को अपने स्रोत का खुलासा करने से कोई वैधानिक छूट नहीं है, विशेष रूप से जहां एक आपराधिक मामले की जांच में सहायता के उद्देश्य से इस तरह का खुलासा आवश्यक है।’  

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

सरकार के इस कदम पर ‘एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया’ ने जताई चिंता, कही ये बात

गिल्ड की ओर से जारी बयान में यह भी कहा गया है कि यदि फर्जी खबरों के निर्धारण का अधिकार सिर्फ सरकार के हाथों में होगा तो इससे सेंसरशिप की स्थिति उत्पन्न हो जाएगी।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 19 January, 2023
Last Modified:
Thursday, 19 January, 2023
EGI

संपादकों की शीर्ष संस्था ‘एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया’ (Editors Guild Of India) ने बुधवार को सरकार से आग्रह किया कि सोशल मीडिया कंपनियों को ‘पत्र सूचना कार्यालय’ (PIB) द्वारा ‘फर्जी’ माने जाने वाले न्यूज आर्टिकल्स को हटाने के लिए आईटी नियमों में संशोधन के मसौदे को खत्म किया जाए।

इस बारे में गिल्ड की ओर से एक बयान भी जारी किया गया है। अपने बयान में गिल्ड का कहना है, ‘मंत्रालय से इस नए संशोधन को हटाने और डिजिटल मीडिया के लिए नियामक ढांचे पर प्रेस निकायों, मीडिया संगठनों व अन्य हितधारकों के साथ सार्थक परामर्श शुरू किए जाने का गिल्ड आग्रह करता है, ताकि प्रेस की स्वतंत्रता को किसी तरह का नुकसान न हो।’

अपने बयान में गिल्ड ने सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) नियम के मसौदा संशोधन पर गहरी चिंता भी जताई है और कहा है कि फेक न्यूज के निर्धारण का जिम्मा सिर्फ सरकार के हाथों में नहीं हो सकता है। यदि फर्जी खबरों के निर्धारण का अधिकार सिर्फ सरकार के हाथों में होगा तो इससे सेंसरशिप जैसी स्थिति उत्पन्न हो जाएगी। गिल्ड का यह भी कहना है कि तथ्यात्मक रूप से गलत पाए जाने वाले कंटेंट से निपटने के लिए पहले से ही कई कानून मौजूद हैं।

इसके साथ ही गिल्ड ने अपने बयान में कहा है, ‘यह नई प्रक्रिया मूल रूप से स्वतंत्र प्रेस को दबाने में इस्तेमाल हो सकती है और प्रेस इंफॉर्मेशन ब्यूरो या तथ्यों की जांच के लिए सरकार द्वारा अधिकृत किसी अन्य एजेंसी को उन ऑनलाइन मध्यस्थों को कंटेंट हटाने के लिए मजबूर कर सकती है, जिससे सरकार को समस्या हो सकती है।’

गौरतलब है कि ’इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय’ (MEITY) ने मंगलवार को सूचना प्रौद्योगिकी (मध्यस्थ दिशानिर्देश और डिजिटल मीडिया आचार संहिता) नियम, 2021 के मसौदे में संशोधन जारी किया है, जिसे पहले सार्वजनिक परामर्श के लिए जारी किया गया था।

आईटी मंत्रालय द्वारा जारी किया गया यह संशोधन सुनिश्चित करेगा कि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स समेत सभी मध्यस्थ, पत्र सूचना ब्यूरो की फैक्ट चेक यूनिट द्वारा फेक के रूप में पहचान किए गए किसी भी कंटेंट की अनुमति न दें। यानी मसौदा संशोधन में इस तरह का प्रावधान है कि ‘प्रेस इंफॉर्मेशन ब्यूरो’ की तरफ से जिस खबर को फर्जी माना जाएगा, उसे सोशल मीडिया कंपनियों को हटाना पड़ेगा।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अब Microsoft के एंप्लॉयीज पर लटकी छंटनी की तलवार

मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से मिल रहीं खबरों के अनुसार, माइक्रोसॉफ्ट करीब पांच प्रतिशत एंप्लॉयीज को बाहर का रास्ता दिखाने की तैयारी में है। इससे करीब 11000 एंप्लॉयीज पर छंटनी की मार पड़ सकती है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 18 January, 2023
Last Modified:
Wednesday, 18 January, 2023
Microsoft

दुनियाभर की तमाम कंपनियों में हो रही छंटनी की खबरों के बीच अब कुछ इसी तरह की खबर अमेरिका की दिग्गज टेक्नोलॉजी कंपनी ‘माइक्रोसॉफ्ट’ (Microsoft) से निकलकर सामने आ रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से मिल रहीं इन खबरों के अनुसार, माइक्रोसॉफ्ट करीब पांच प्रतिशत एंप्लॉयीज को बाहर का रास्ता दिखाने की तैयारी में है। इससे करीब 11000 एंप्लॉयीज पर छंटनी की मार पड़ सकती है।  

इस तरह की खबरें भी हैं कि सत्या नडेला के नेतृत्व वाली इस कंपनी ने कथित रूप से इंजीनियरिंग डिवीजन को छंटनी के बारे में सूचित कर दिया है। हालांकि, इस बारे में कंपनी की ओर से फिलहाल कोई आधिकारिक बयान नहीं जारी किया गया है। 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए