डिजिटल न्यूज और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स को दबाने का प्रयास है ये आदेश: डॉ.शमा मोहम्मद

‘गवर्नेंस नाउ’ के एमडी कैलाशनाथ अधिकारी के साथ एक बातचीत में कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ.शमा मोहम्मद ने तमाम पहलुओं पर अपने विचार रखे

Last Modified:
Friday, 05 March, 2021
Shama Mohamed

कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ.शमा मोहम्मद का कहना है कि डिजिटल न्यूज प्लेटफॉर्म्स को विनियमित (regulate) करने के लिए सरकार की हालिया अधिसूचना डिजिटल न्यूज प्लेटफॉर्म्स समेत सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स को दबाने का एक प्रयास है।

‘गवर्नेंस नाउ’ (Governance Now) के एमडी कैलाशनाथ अधिकारी के साथ एक बातचीत में शमा मोहम्मद का कहना था, ‘सिर्फ डिजिटल न्यूज प्लेटफॉर्म्स ही वह बात कहने में सक्षम हैं, जो वह कहना चाहते हैं, इसलिए सरकार अब इन्हें दबाने का प्रयास कर रही है।’

पब्लिक पॉलिसी प्लेटफॉर्म पर ‘विजिनरी टॉक सीरीज’ (Visionary Talk series) के तहत होने वाले इस वेबिनार के दौरान डॉ.शमा मोहम्मद ने कहा, ‘नियम सभी के लिए समान होने चाहिए। बीजेपी की तरफ से तमाम फर्जी खबरें आ रही हैं। यह दिखाता है कि इस तरह की चीजों में पार्टी की मंजूरी होती है।’

कांग्रेस के भीतर असंतोष को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में डॉ.शमा ने कहा कि बीजेपी के विपरीत जहां पर लोग अपने नेता के साथ बैठने में डरते हैं, कांग्रेस में आंतरिक लोकतंत्र है। प्रधानमंत्री का नाम लिए बिना शमा मोहम्मद का कहना था कि वह अभी सुप्रीम लीडर हैं और वही करते हैं जो चाहते हैं।  

शमा मोहम्मद ने कहा, ‘हमें लोगों की बात सुननी होगी और किसानों के मुद्दों को समझना होगा। इन किसानों ने हरित क्रांति के दौरान हमारी मदद की है। तमाम किसानों के बेटे सेना में हैं। हमें लोगों के मुद्दों को समझना होगा। इस सरकार में किसी भी तरह की सहानुभूति का पूरी तरह अभाव है। काफी बेरोजगारी है, महंगाई बढ़ रही है और गरीबों के लिए किसी तरह का कोई सपोर्ट सिस्टम नहीं है। शासन तब अच्छा होता है, जब लोगों के पास पैसा हो, वे खुश हों और उनके पास घर हों।’

उन्होंने कहा कि कृषि कानून संसद में बिना बहस और चर्चा के पारित हो गए। जब उन्होंने इस बात पर आपत्ति जताई तो उन्हें सुप्रीम कोर्ट में जाने को कहा गया। शमा मोहम्मद के अनुसार, ‘इस बिल पर संसद में चर्चा और बहस की जरूरत है। सभी चीजों को सुप्रीम कोर्ट क्यों जाना चाहिए। हम इस सरकार से कुछ भी पूछते हैं तो हमें कहा जाता है कि सुप्रीम कोर्ट में केस फाइल करें। जब हमने राफेल लड़ाकू विमानों पर एक संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) गठित करने के लिए कहा, तब भी उन्होंने हमें सुप्रीम कोर्ट में जाने के लिए कहा।’

मोहम्मद ने कहा कि जब कांग्रेस सत्ता में थी और जब उस पर आरोप लगाए गए थे, तो पार्टी अगस्ता वेस्टलैंड समेत सभी मामलों के लिए संयुक्त संसदीय समिति के लिए तैयार थी। उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस पार्टी काफी पारदर्शी थी और जब भी कांग्रेस के किसी मंत्री के खिलाफ कोई आरोप लगता था, तो पार्टी पारदर्शी जांच के लिए मंत्री को इस्तीफा देने के लिए कहती थी। कांग्रेस ने पारदर्शिता का सबसे बड़ा हथियार लोकपाल को बनाया था और तब गुजरात के मुख्यमंत्री पद पर रहते हुए मोदी ने लोकपाल का विरोध किया था और इसे रोकने के लिए सुप्रीम कोर्ट गए थे।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

NBF ने BARC को लिखा लेटर, मांगे इन दस सवालों के जवाब

रेटिंग एजेंसी की ओर से सचिन वझे को रिश्वत दिए जाने के आरोपों को लेकर लिखा गया है ये लेटर

Last Modified:
Tuesday, 13 April, 2021
NBF

‘न्यूज ब्रॉडकास्टर्स फेडरेशन’ (News Broadcasters Federation) ने मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के बाहर जिलेटिन से भरी गाड़ी खड़ी करने के मामले में निलंबित असिस्टेंट पुलिस इंस्पेक्टर सचिन वझे को रिश्वत दिए जाने के आरोपों को लेकर ‘ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल’ (BARC) इंडिया को एक लेटर लिखा है। एनबीएफ के सेक्रेट्री जनरल आर. जय कृष्णा की ओर से यह लेटर बार्क इंडिया के चेयरमैन पुनीत गोयनका को लिखा गया है। इस लेटर में बार्क द्वारा सचिन वझे को 30 लाख रुपये की रिश्वत दिए जाने के आरोपों पर रेटिंग एजेंसी से दस सवालों के जवाब मांगे गए हैं।

लेटर में कहा गया है, ‘हमें मिली जानकारी के अनुसार बार्क ने प्रवर्तन निदेशालय के सामने 30 लाख रुपये रिश्वत का भुगतान किए जाने की बात कबूली है।’ लेटर में इस बात को भी उठाया गया है कि बार्क ने जांच शुरू होने और दिल्ली की जिस कंपनी के द्वारा धन का लेन-देन हुआ, उसके ठिकानों पर प्रवर्तन निदेशालय के द्वारा तलाशी अभियान चलाए जाने के बाद रिश्वत देने की बात कबूली है।

एनबीएफ की ओर से बार्क को भेजी गई दस सवालों की सूची आप यहां देख सकते हैं।

1- Did BARC or any officials thereof pay Rs. 30 lakhs as a bribe to Sachin Vaze and/or his associates?
2- If the answer to the above is yes, when was the said bribe paid?
3- What was the understanding between Sachin Vaze & BARC and/or any of its officials?
4- Who are the officials at BARC that are aware of this transaction?
5- Did the CEO of BARC and/or any of the board members of BARC know about this bribe?
6- The Ministry of Information and Broadcasting (I&B) is the nodal Ministry for BARC. Did BARC inform the said Ministry about the bribe sought and bribe given?
7- Were you aware when you paid the bribe that Sachin Vaze was actively playing a critical role in levelling false charges in the TRP case?
8- Is it true that the bribe was paid in the duration when the News Broadcasters Federation was repeatedly writing to BARC regarding false charges against our member channels?
9- Did BARC disclose to any authorities that a bribe was sought before making the said payment?
10- Are you aware that under sections 8 and 9 of The Prevention of Corruption Act, 1988 (PC Act) payment of a bribe which has not been reported within 7 days by the bribe payer is punishable with imprisonment for a term which may extend to seven years?

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

कोरोना की चपेट में आया महानिदेशक समेत IIMC का तमाम स्टाफ

देश में कोरोना के मामले फिर लगातार बढ़ते जा रहे हैं। सालभर बाद कोरोना ज्यादा दैत्याकार और विकराल आकार लेता जा रहा है।

Last Modified:
Monday, 12 April, 2021
IIMC

देश में कोरोना के मामले फिर लगातार बढ़ते जा रहे हैं। सालभर बाद कोरोना ज्यादा दैत्याकार और विकराल आकार लेता जा रहा है।  पिछले एक महीने में तो इस संक्रामक बीमारी का जिस तरह विस्तार हुआ है, उसने सारी मानव बिरादरी को हिला दिया है।

पूरी दुनिया में कहर मचा रहे इस वायरस के संक्रमण की चपेट में आकर तमाम लोग अब तक अपनी जान गंवा चुके हैं, वहीं कई लोग विभिन्न अस्पतालों में अपना इलाज करा रहे हैं। देश के प्रमुख मीडिया शिक्षण संस्थान ‘भारतीय जनसंचार संस्थान’ (IIMC) में भी तमाम स्टाफ इस महामारी की चपेट में आ चुका है।

खबर के मुताबिक, आईआईएमसी के महानिदेशक प्रो. संजय द्विवेदी और उनकी पत्नी भूमिका द्विवेदी कोरोनावायरस की चपेट में आ गई हैं। दोनों फिलहाल होम आइशोलेशन में हैं। वहीं, आईआईएमसी में अंग्रेजी पत्रकारिता विभाग की निदेशक प्रो.सुरभि दहिया का मेदांता अस्पताल में इलाज चल रहा है। विकास पत्रकारिता विभाग के निदेशक प्रो. राजेश कुमार भी इस महामारी की चपेट में आ गए हैं। कोविड अस्पताल में उनका इलाज चल रहा है। 

इसके साथ ही सतीश नंबूदरीपाद-अपर महानिदेशक(प्रशासन), ममता वर्मा- अपर महानिदेशक (प्रशिक्षण) और प्रो. अनिल सौमित्र-निदेशक (अमरावती परिसर) इस महामारी को मात देकर कार्य पर वापस लौट आए हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

ये पत्रकार चुने गए प्रेस क्लब ऑफ इंडिया के पदाधिकारी, देखें पूरी लिस्ट

देश में पत्रकारों की सबसे बड़ी संस्था ‘प्रेस क्लब ऑफ इंडिया’ के पदाधिकारियों के चयन के लिए 10 अप्रैल को हुए चुनाव के परिणाम घोषित हो गए हैं।

Last Modified:
Monday, 12 April, 2021
Press Club Of India

देश में पत्रकारों की सबसे बड़ी संस्था ‘प्रेस क्लब ऑफ इंडिया’ के पदाधिकारियों के चयन के लिए 10 अप्रैल को हुए चुनाव के परिणाम घोषित हो गए हैं। इन परिणामों के मुताबिक वरिष्ठ पत्रकार उमाकांत लखेड़ा (Umakant Lakhera) प्रेस क्लब ऑफ इंडिया के प्रेजिडेंट पद पर चुने गए हैं। उन्हें 729 वोट मिले, जबकि इस पद पर उनके प्रतिद्वंद्वी संजय बसक (Sanjay Basak) को 632 वोट मिले।

इसके अलावा वाइस प्रेजिडेंट पद पर शाहिद के. अब्बास चुने गए हैं। उन्हें 668 वोट मिले, जबकि इस पद के लिए उनकी प्रतिद्वंद्वी पल्लवी घोष को 655 वोट मिले। सेक्रेटरी जनरल के पद पर विनय कुमार ने 635 वोटों के साथ जीत दर्ज की है, जबकि राहिल चोपड़ा (Rahil Chopra) को 132 और संतोष कुमार ठाकुर को 576 वोट मिले।

वहीं, जॉइंट सेक्रेट्री की बात करें तो इस पद पर चंद्र शेखर लूथरा ने जीत हासिल की है। उन्हें 578 वोट मिले, जबकि इस पद के लिए उनके प्रतिद्वंद्वी अंजलि भाटिया को 226 और मानस प्रतिम गोहेन को 470 वोट मिले। कोषाध्यक्ष पद पर 649 वोटों के साथ सुधि रंजन सेन (Sudhi Ranjan Sen) को चुना गया है, जबकि इस पद के लिए उनकी प्रतिद्वंद्वी ज्योतिका ग्रोवर को 629 वोट मिले।

इस चुनाव में जो पत्रकार विजेता या असफल रहे हैं, उनकी लिस्ट आप यहां देख सकते हैं:  

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

न्यूज नेशन को बाय बोल खेल पत्रकार अंकित प्रमोद ने नई दिशा में बढ़ाए कदम

खेल पत्रकार अंकित प्रमोद ने हिंदी न्यूज चैनल ‘न्यूज नेशन’ (News Nation) में अपनी संक्षिप्त पारी को विराम दे दिया है।

Last Modified:
Monday, 12 April, 2021
Ankit Pramod

खेल पत्रकार अंकित प्रमोद ने हिंदी न्यूज चैनल ‘न्यूज नेशन’ (News Nation) में अपनी संक्षिप्त पारी को विराम दे दिया है। वह यहां करीब आठ महीने से बतौर चीफ सब एडिटर कार्यरत थे। यहां वह एनएन-स्पोर्ट्स का काम संभालने के साथ इसकी डिजिटल टीम का हिस्सा भी थे।

अंकित प्रमोद ने अब अपनी नई पारी की शुरुआत ‘न्यूज24’ (News 24) के साथ की है। उन्होंने बतौर एंकर कम प्रड्यूसर ‘न्यूज24 स्पोर्ट्स’ के यूट्यूब चैनल को जॉइन किया है।

दिल्ली के रहने वाले अंकित प्रमोद को टीवी और डिजिटल के क्षेत्र में काम करने का करीब दस साल का अनुभव है। पत्रकारिता के क्षेत्र में अपने करियर की शुरुआत उन्होंने ‘आईएएनएस’ (IANS) के साथ की थी। अब तक वह ‘एसीटीवी यूपी न्यूज’, ‘समाचार प्लस’, ‘भास्कर न्यूज’, ‘ईटीवी’ हैदराबाद और ‘sportskeeda.com’ के साथ अपनी पारी खेल चुके हैं।

समाचार4मीडिया की ओर से अंकित प्रमोद को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Asianet News Network में इन्हें मिला कार्यवाहक CEO का पदभार

‘एशियानेट न्यूज नेटवर्क’ के सीईओ (Strategic Projects) अभिनव खरे ने पिछले दिनों अपना इस्तीफा सौंप दिया है।

Last Modified:
Saturday, 10 April, 2021
Asianet

‘एशियानेट न्यूज नेटवर्क’ (Asianet News Network) के सीईओ (Strategic Projects) अभिनव खरे द्वारा पिछले दिनों इस्तीफा देने के बाद चीफ फाइनेंसियल ऑफिसर (CFO) नीरज कोहली अंतरिम तौर पर कार्यवाहक सीईओ (Acting CEO) की जिम्मेदारी संभालेंगे। बताया जाता है कि वह मई में नए एमडी की नियुक्ति होने तक अंतरिम तौर पर सीईओ की जिम्मेदारी संभालेंगे।

इस बारे में ‘एशियानेट न्यूज नेटवर्क’ के एग्जिक्यूटिव चेयरमैन राजेश कालरा ने एक इंटरनल कम्युनिकेशन में कहा है, ‘अभिनव खरे ने सीईओ (Strategic Projects) के पद से इस्तीफा देने का फैसला किया है, कंपनी उन्हें भविष्य के लिए शुभकामनाएं देती है। कंपनी बोर्ड ने एक मैनेजिंग डायरेक्टर की नियुक्ति की है, जो मई में जॉइन करेंगे, तब तक सीएफओ नीरज कोहली अंतरिम तौर पर कंपनी का नेतृत्व करेंगे।’

इसके साथ ही कालरा का यह भी कहना है, ‘कंपनी ने अपने मीडिया ब्रैंड्स सुवर्ण न्यूज (Suvarna News), कन्नड़ प्रभा (Kannada Prabha), रेडियो इंडिगो (Radio Indigo) आदि की ग्रोथ के लिए तमाम योजनाएं तैयार की हैं। हमारा लक्ष्य इन सभी बिजनेस को उनकी कैटेगरी में मार्केट लीडर बनाना है। एक टीम के रूप में हम अपने गोल को हासिल करने में कामयाब होंगे।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

माइक्रोसॉफ्ट से जुड़ीं सीमा सिद्दीकी, मिली यह बड़ी जिम्मेदारी

माइक्रोसॉफ्ट में आने से पहले सिद्दीकी Schneider Electric में जीएम और हेड (PR, Corporate & Internal Communication) की जिम्मेदारी निभा रही थीं।

Last Modified:
Saturday, 10 April, 2021
Seema Siddiqui

अमेरिका की दिग्गज टेक्नोलॉजी कंपनी ‘माइक्रोसॉफ्ट’ (Microsoft) ने सीमा सिद्दीकी (Seema Siddiqui) को ‘माइक्रोसॉफ्ट इंडिया’ (Microsoft India) का डायरेक्टर (कम्युनिकेशंस) नियुक्त किया है।

माइक्रोसॉफ्ट में आने से पहले सिद्दीकी ‘शिनाईजेर इलेक्ट्रिक’ (Schneider Electric) में जीएम और हेड (PR, Corporate & Internal Communication) की जिम्मेदारी निभा रही थीं। यहां वह करीब साढ़े चार साल से कार्यरत थीं।  

सीमा को पब्लिक रिलेशंस, कॉरपोरेट कम्युनिकेशन, इंटरनल कम्युनिकेशन, स्ट्रैटेजी मैनेजमेंट और ब्रैंड रेपुटेशन मैनेजमेंट में विशेषज्ञता हासिल है। सीमा ने अपने प्रोफेशनल करियर की शुरुआत पीआर एजेंसी Text 100 अब (Archetype) से की थी। अब तक वह PwC India, Dessault Systemes और Scheider Electric समेत तमाम प्रतिष्ठानों में प्रमुख जिम्मेदारी निभा चुकी हैं। फिलहाल नई नियुक्ति के बारे में सीमा सिद्दीकी की ओर से किसी तरह की प्रतिक्रिया नहीं मिल पाई है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

गंभीर आरोपों में घिरे न्यूज एंकर के खिलाफ अदालत ने जारी किया गैरजमानती वारंट

पुलिस ने एंकर की गिरफ्तारी के लिए इनाम घोषित करने का फैसला भी लिया है।

Last Modified:
Thursday, 08 April, 2021
Court

युवती के साथ दुष्कर्म के मामले में आरोपित मुंबई के न्यूज एंकर वरुण हिरेमथ (28) की गिरफ्तारी के लिए दिल्ली की एक अदालत ने गैरजमानती वारंट (NBW) जारी किया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पुलिस ने वरुण की गिरफ्तारी के लिए इनाम की घोषणा करने का भी फैसला किया है और इस संबंध में मंजूरी के लिए एक फाइल दिल्ली पुलिस मुख्यालय भेजी गई है।

दिल्ली की अदालत पूर्व में वरुण की अग्रिम जमानत की अर्जी को खारिज कर चुकी है और पुलिस उसके खिलाफ लुकआउट सर्कुलर (LoC) जारी कर चुकी है। बता दें कि दिल्ली के चाणक्यपुरी थाने में दर्ज एफआईआर में एक युवती ने आरोप लगाया था कि अंग्रेजी न्यूज चैनल में कार्यरत वरुण हिरेमथ उसे दोस्ती के नाम पर दिल्ली के एक होटल में ले गया था और उसके साथ रेप किया।

यह भी पढ़ें: युवती ने न्यूज एंकर पर लगाया गंभीर आरोप, दर्ज कराई FIR

अपनी शिकायत में करीब 22 वर्षीय इस युवती का कहना है कि वह पुणे में कॉलेज के दिनों से वरुण को करीब तीन सालों से जानती है। मामले के सामने आने के बाद से ही वरुण फरार हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पुलिस का कहना है कि वरुण की तलाश के लिए टीमें मुंबई भेज दी गई हैं और विभिन्न स्थानों पर कई छापे मारे गए हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इस बड़े पद पर iTV Network से जुड़े दीपक अरोड़ा

आईटीवी नेटवर्क से पहले दीपक अरोड़ा जनता टीवी में बतौर सीईओ अपनी जिम्मेदारी संभाल रहे थे।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 07 April, 2021
Last Modified:
Wednesday, 07 April, 2021
Deepak Arora

‘आईटीवी नेटवर्क’ (iTV Network) ने दीपक अरोड़ा (Deepak Arora) को सीईओ (Northern Region) के पद पर नियुक्त किया है। अपनी इस भूमिका में वह उत्तरी क्षेत्र में आईटीवी नेटवर्क के लिए रेवेन्यू के नए अवसर तलाश करने में अपनी अहम भूमिका निभाएंगे। वह इंडिया न्यूज (हरियाणा), इंडिया न्यूज (पंजाब) और आज समाज की जिम्मेदारी संभालेंगे।  

इस बारे में ‘आईटीवी नेटवर्क’ के सीईओ वरुण कोहली का कहना है, ‘दीपक अरोड़ा के आईटीवी नेटवर्क में शामिल होने पर हम काफी खुश हैं। उन्हें मार्केट की काफी गहरी समझ है। नेटवर्क को उनके अनुभव का काफी फायदा मिलेगा और वह इसे नई ऊंचाइयों पर ले जाएंगे।’  

वहीं, दीपक अरोड़ा का कहना है, ‘आईटीवी नेटवर्क में शामिल होने पर मैं काफी खुश हूं और ग्रुप की निरंतर सफलता में महत्वपूर्ण भूमिका निभाना चाहूंगा।’

‘आईटीवी नेटवर्क’ में शामिल होने से पहले दीपक अरोड़ा ‘जनता टीवी’ (Janta TV) में सीईओ के तौर पर अपनी जिम्मेदारी संभाल रहे थे। इसके अलावा वह ‘बजाज अलांयज’ (Bajaj Allianz),’आईएनजी लाइफ’ (ING Life),’एसटीवी हरियाणा न्यूज’ (STV Haryana News) और ‘फोकस न्यूज ग्रुप’ (Focus News Group) में भी अहम जिम्मेदारी निभा चुके हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Viacom18 ने साग्निक घोष को दी ये बड़ी जिम्मेदारी

वायकॉम18 के साथ जुड़ने से पहले घोष स्टार इंडिया के साथ जुड़े हुए थे। यहां वे ‘स्टार जलशा’ और ‘जलशा मूवीज’ के वाइस प्रेजिडेंट व बिजनेस हेड के तौर पर कार्यरत थे।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 07 April, 2021
Last Modified:
Wednesday, 07 April, 2021
Sagnik-Ghosh4

वायकॉम18 (Viacom18) ने ‘कलर्स बांग्ला’ चैनल के बिजनेस हेड के तौर पर साग्निक घोष नियुक्त किया है। घोष राहुल चक्रवर्ती से पदभार ग्रहण करेंगे, जिन्होंने बंगाली मार्केट में जनरल एंटरटेनमेंट चैनल्स की कड़ी प्रतिस्पर्धा के बीच इस चैनल को तीसरे नंबर पर मजबूती प्रदान की। घोष वायकॉम18 के रीजनल एंटरटेनमेंट चैनल्स (बंगला, ओडिया, तमिल और गुजराती क्लस्टर्स) के हेड राजेश अय्यर को रिपोर्ट करेंगे।

वायकॉम18 के साथ जुड़ने से पहले घोष स्टार इंडिया के साथ जुड़े हुए थे। यहां वे ‘स्टार जलशा’ (Star Jalsha) और ‘जलशा मूवीज’ (Jalsha Movies) के वाइस प्रेजिडेंट व बिजनेस हेड के तौर पर कार्यरत थे। घोष ने करीब साढ़े चार वर्षों तक स्टार में बंगाली चैनल्स की कमान संभाली थी। वे इन दोनों चैनलों में बिजनेस ऑपरेशंस, कंटेंट डेवलपमेंट व प्रोग्रामिंग स्ट्रैटजी पर काम कर रहे थे। इसके अलावा हिंदी स्पीकिंग मार्केट में उन्होंने स्टार प्लस की री-ब्रैंडिंग का नेतृत्व किया था। साथ ही यहां उन्होंने‘लाइफ ओके’और‘स्टार भारत’को भी री-लॉन्च कराया था।

वहीं मीडिया व एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री से जुड़ने से पहले घोष ने बैंकिंग, फाइनेंशियल सर्विसेज और इंश्योरेंस (BFSI) सेक्टर के साथ काम किया था, जिनमें एक्सिस बैंक, एचएसबीसी इत्यादि कंपनिया शामिल हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Emaar Group से जुड़े चंद्रशेखर राधाकृष्णन, मिली यह बड़ी जिम्मेदारी

चंद्रू (Chandru) के नाम से मशहूर चंद्रशेखर राधाकृष्णन अब तक राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तमाम ब्रैंड्स के साथ विभिन्न पदों पर अपनी जिम्मेदारी संभाल चुके हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 07 April, 2021
Last Modified:
Wednesday, 07 April, 2021
Chandrasekar Radhakrishnan

‘एम्मार ग्रुप’ (Emaar Group) ने चंद्रशेखर राधाकृष्णन (Chandrasekar Radhakrishnan) को अपना नया मार्केटिंग हेड (Head of Marketing) नियुक्त किया है। चंद्रू (Chandru) के नाम से मशहूर चंद्रशेखर राधाकृष्णन ने प्रमुख ग्लोबल एफएमसीजी (FCMG) और टेलिकॉम प्लेयर्स (telecom players) के साथ अपनी दो दशक से ज्यादा पुरानी पारी के बाद इसी महीने एम्मार ग्रुप को जॉइन किया है।

वह ग्रुप के विभिन्न वर्टिकल्स जैसे- Emaar Properties, Emaar Development, Emaar Malls, Emaar Hospitality, Emaar Entertainment और Emaar Leisure की स्ट्रैटेजिक मार्केटिंग और कम्युनिकेशंस की जिम्मेदारी संभालेंगे।  

इस बारे में ‘एम्मार प्रॉपर्टीज’ (Emaar Properties) के फाउंडर मोहम्मद अलबर (Mohamed Alabbar) का कहना है, ‘हम वैश्विक प्रतिभाओं को अपने साथ जोड़ना जारी रखते हैं और मैं एम्मार परिवार में चंद्रू के आने से काफी खुश हूं। कंपनी को उनके अनुभव का काफी लाभ मिलेगा।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए