आम बजट की कवरेज पर Zee Business ने बनाया ये नया रिकॉर्ड

इस उपलब्धि को हासिल करने के बाद 'जी बिजनेस' के मैनेजर अनिल सिंघवी ने टीम के इस कार्यकुशलता की तारीफ की है। 

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Monday, 07 February, 2022
Last Modified:
Monday, 07 February, 2022
Zee Business

देश के बड़े बिजनेस चैनल्स में शुमार 'जी बिजनेस' इस समय सुर्खियों में है। दरअसल, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा एक फरवरी को जो आम बजट पेश किया गया, उसकी कवरेज के मामले में इस चैनल ने एक नया रिकॉर्ड कायम किया है। 

अर्थव्यवस्था के हर पहलू से दर्शकों को रूबरू करवाने के लिए चैनल द्वारा एक विशाल पैनल को आमंत्रित किया गया, जिसमें अर्थ जगत से जुड़ी कई गणमान्य हस्तियां शामिल थीं। आम बजट को कैसे सरल भाषा में जनता को समझाया जाए, इसकी तैयारी 'जी बिजनेस' ने काफी पहले ही कर ली थी। 

जब आम बजट पेश किया जा रहा था, तब इस चैनल के यूट्यूब लाइव स्ट्रीम ने एक नया कीर्तिमान स्थापित किया। आमतौर पर बिजनेस चैनल को लोग कम देखते हैं, लेकिन एक फरवरी को 20 लाख से अधिक लोगों ने उस बजट को देखा। अगर अधिकतम लाइव व्यूज की बात करें तो वो एक लाख 4 हजार थे, जो हिंदी और इंग्लिश के बिजनेस चैनल्स और जनरल चैनल्स से बहुत आगे थे।

इसके अलावा 4 लाख 91 हजार घंटे का Watch Time चैनल को बजट के दौरान मिला, वहीं 53 लाख Impressions रिकॉर्ड किए गए। इस उपलब्धि को हासिल करने के बाद 'जी बिजनेस' के मैनेजिंग एडिटर अनिल सिंघवी ने टीम की इस कार्यकुशलता की तारीफ की है। 

उन्होंने बताया, 'एडिटोरियल और मार्केटिंग टीम के सहयोग से ही ऐसा संभव हो पाया है। हम कई दिनों से आम बजट के कवरेज की तैयारी कर रहे थे और उम्मीद के मुताबिक हमें सफलता प्राप्त हुई है।' इसके अलावा उन्होंने अपने दर्शकों का भी धन्यवाद किया और कहा कि दर्शकों का प्यार, विश्वास और स्नेह ही उन्हें इतनी मेहनत करने की प्रेरणा देता है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

'जी न्यूज' दफ्तर के बाहर रायपुर पुलिस ने नोटिस किया चस्पा, कही ये बात

‘जी न्यूज’ के एंकर रोहित रंजन को गिरफ्तार करने नोएडा आयी छत्तीसगढ़ की रायपुर पुलिस बुधवार को एक बार फिर ‘जी न्यूज’ के दफ्तर पहुंची

Last Modified:
Thursday, 07 July, 2022
Rohit26566

‘जी न्यूज’ के एंकर रोहित रंजन को गिरफ्तार करने नोएडा आयी छत्तीसगढ़ की रायपुर पुलिस बुधवार को एक बार फिर ‘जी न्यूज’ के दफ्तर पहुंची और दफ्तर के बाहर कई दस्तावेज देने के लिए नोटिस चस्पा किया है, जिसमें कहा गया है कि 7 दिनों के अंदर दस्तावेज देने होंगे। इसके साथ ही संपादक और सहसंपादक से पूछताछ के लिए सहयोग देने की बात कही गयी है। वहीं, रायपुर पुलिस ने एंकर रोहित को ‘फरार’ घोषित किया गया है। साथ ही इस नोटिस में रोहित रंजन को भी 7 दिनों की मोहलत देते हुए कहा गया है कि वह रायपुर जिले के सिविल लाइंस थाने में हाजिर होकर अपना पक्ष रखें।

इस पूरे मामले को लेकर छत्तीसगढ़ पुलिस नोएडा पुलिस पर एंकर रोहित रंजन को गायब करने का आरोप भी लगाया है।

दरअसल, रोहित रंजन की गिरफ्तारी को लेकर उत्तर प्रदेश की पुलिस के साथ टकराव के दूसरे दिन रायपुर पुलिस बुधवार सुबह 9 बजे एक बार फिर रंजन के घर पहुंची, लेकिन वह वहां नहीं मिले। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, पुलिस ने रंजन का फरारी पंचनामा तैयार किया है और यह भी आरोप लगाया कि ‘जी न्यूज’ के कार्यालय में विवेचना में सहयोग नहीं किया गया।

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, रायपुर पुलिस का दल अभी भी उत्तर प्रदेश में है और रंजन की तलाश की जा रही है।

इससे पहले कांग्रेस शासित छत्तीसगढ़ के रायपुर जिले की पुलिस मंगलवार तड़के पत्रकार रंजन को गिरफ्तार करने इंदिरापुरम में उनके घर पर पहुंची थी, लेकिन इस दौरान उत्तर प्रदेश के नोएडा जिले की पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया और बाद में उन्हें जमानत पर छोड़ दिया।

रायपुर जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल ने कहा, ‘नोएडा पुलिस ने रोहित को जमानत पर रिहा किया है, उन्हें रायपुर पुलिस को सूचित करना चाहिए था, क्योंकि पुलिस दल रोहित के संबंध में जानकारी लेने मंगलवार को सेक्टर-20 पुलिस थाने गया था, लेकिन उन्होंने हमें रंजन के बारे में कुछ नहीं बताया और मंगलवार की देर शाम एक प्रेस नोट जारी कर कहा कि वह जमानत पर रिहा हैं। इसके बाद से रंजन फरार है।’

वहीं, गौतमबुद्ध नगर पुलिस द्वारा जारी बयान में कहा गया है, ‘दिनांक पांच जुलाई को थाना सेक्टर-20 में पंजीकृत मामले के विवेचना के क्रम में एंकर रोहित रंजन को पूछताछ के लिए उनके आवास न्यू स्कोटिस सोसाइटी, अहिंसा खंड, इंदिरापुरम से नोएडा लाया गया। पूछताछ के बाद साक्ष्यों के आधार पर उनकी गिरफ्तारी की गई। उनके ऊपर लगी धाराओं के जमानतीय अपराध होने के चलते उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया है। विवेचनात्मक कार्रवाई प्रचलित है।’

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल ने यह कहा, ‘रायपुर पुलिस का दल बुधवार दोपहर ‘जी न्यूज’ के गौतमबुद्ध नगर स्थित दफ्तार पहुंचा। पुलिस दल ‘जी न्यूज’ के कुछ पदाधिकारियों का बयान लेना चाहता था, लेकिन किसी ने बयान नहीं दिया। बयान का नोटिस भी लेने से मना किया, जिसे पुलिस दल ने दफ्तर के बाहर चस्पा किया है।’

उन्होंने बताया, ‘जी न्यूज के कार्यालय में विवेचना में सहयोग नहीं किया गया, जिसे पुलिस ने अपनी रिपोर्ट में नोट किया है।’

अग्रवाल ने बताया कि कांग्रेस विधायक देवेंद्र यादव की शिकायत पर रायपुर जिले के सिविल लाइंस थाने में रविवार को रंजन और अन्य के खिलाफ विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देने और लोगों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का मामला दर्ज किया गया था।

उन्होंने बताया कि यादव ने शिकायत में कहा है कि ‘जी न्यूज’ चैनल द्वारा पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के वायनाड में सांसद कार्यालय पर हमले और तोड़फोड़ पर दिए गए वक्तव्य को आपराधिक आशय और मनगढ़ंत तरीके से संपादित कर उसे उदयपुर की घटना से जोड़ दिया गया। शिकायतकर्ता के अनुसार इससे कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं और आम नागरिकों में भारी आक्रोश और तनाव व्याप्त है। यादव का यह भी कहना है कि इससे हिंदू और मुस्लिम समुदाय के मध्य घृणा और वैमनस्यता की भावना पैदा होकर सांप्रदायिक तनाव और लोक शांति को गंभीर खतरा पैदा हो गया है।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि विधायक की शिकायत के बाद पुलिस ने जी ग्रुप के चेयरमैन और निदेशक, जी न्यूज चैनल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी, प्रसारित कार्यक्रम के निर्माता तथा कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले एंकर रोहित रंजन और अन्य के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Zee Media को बाय बोलकर अब इस न्यूज चैनल से जुड़े गौरव शर्मा

मीडिया में अपने करियर की शुरुआत उन्होंने ‘सहारा समय’ (Sahara Samay) से की थी। पूर्व में वह ‘इंडिया न्यूज‘ और ‘न्यूज24‘ में भी काम कर चुके हैं।

Last Modified:
Wednesday, 06 July, 2022
Gaurav445

‘जी मीडिया’ (Zee Media) से पिछले दिनों इस्तीफा देने के बाद युवा पत्रकार गौरव शर्मा ने हिंदी न्यूज चैनल ‘न्यूज नेशन’ (News Nation) से अपनी नई पारी शुरू की है। उन्होंने यहां पर बतौर सीनियर प्रड्यूसर जॉइन किया है। यहां वह इवेंट और ब्रांडेड कंटेंट (AFP) का काम देखेंगे। बता दें कि गौरव शर्मा ‘जी मीडिया’ में लगभग चार साल से काम कर रहे थे। यहां वह बतौर प्रोड्यूसर क्लस्टर-3 के ब्रैंडेड कंटेंट का जिम्मा संभालते थे।

गौरव को मीडिया के क्षेत्र में काम करने का करीब नौ साल का अनुभव है। मीडिया में अपने करियर की शुरुआत उन्होंने ‘सहारा समय’ (Sahara Samay) से की थी। पूर्व में वह ‘इंडिया न्यूज‘ और ‘न्यूज24‘  में भी काम कर चुके हैं।

गौरव शर्मा मूल रूप से मेरठ (उत्तर प्रदेश) के रहने वाले हैं। पढ़ाई-लिखाई की बात करें तो उन्होंने मेरठ की सुभारती यूनिवर्सिटी से मास कम्युनिकेशन में ग्रेजुएशन (BJMC) किया है। ‘जी मीडिया’ में काम करते हुए कई बार उन्हें उनके काम के लिए ‘employee of the month’ भी मिला है।

इसके साथ ही वर्ष 2014-15 में ‘इंडिया न्यूज’ में काम करने के दौरान उन्हें ‘द शाइनिंग स्टार अवॉर्ड ऑफ द ईयर’ (The Shining star Award of the year) भी मिल चुका है। समाचार4मीडिया की ओर से गौरव शर्मा को उनके नए सफर के लिए ढेरों बधाई और शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Zee Media से अलग हुए युवा पत्रकार वैभव मिश्रा

वह करीब पांच साल से इस संस्थान में कार्यरत थे। वैभव मिश्रा को मीडिया के क्षेत्र में काम करने का करीब 13 साल का अनुभव है।

Last Modified:
Tuesday, 05 July, 2022
Vaibhav Mishra

युवा पत्रकार वैभव मिश्रा ने ‘जी मीडिया’ (Zee Media) को अलविदा कह दिया है। वह करीब पांच साल से  इस संस्थान में कार्यरत थे। इन दिनों वह सीनियर प्रड्यूसर के तौर पर ‘जी-मध्य प्रदेश/छत्तीसगढ़’ (Zee MP/CG) में शिफ्ट इंचार्ज की जिम्मेदारी निभा रहे थे। समाचार4मीडिया से बातचीत में वैभव मिश्रा ने बताया कि वह जल्द ही एक न्यूज चैनल से अपनी नई पारी शुरू करेंगे और वहां जॉइन करने के बाद इसके नाम का खुलासा करेंगे।

वैभव मिश्रा को मीडिया के क्षेत्र में काम करने का करीब 13 साल का अनुभव है। पूर्व में वह ‘आईबीसी24’ (IBC24), ‘न्यूज एक्सप्रेस‘,‘स्वराज एक्सप्रेस‘ जैसे प्रतिष्ठित मीडिया संस्थानों में अपनी भूमिका निभा चुके हैं।

मूल रूप से इलाहाबाद (अब प्रयागराज) के रहने वाले वैभव मिश्रा के पिता मध्य प्रदेश में पदस्थ हैं। इस वजह से वैभव की पढ़ाई-लिखाई मध्य प्रदेश से ही हुई है। उन्होंने माखनलाल चतुर्वेदी यूनिवर्सिटी, भोपाल से इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में बीएससी की है। इसके अलावा उन्होंने यहीं से मास्टर ऑफ आर्ट्स एंड ब्रॉडकास्ट जर्नलिज्म (MABJ) की डिग्री ली है।

समाचार4मीडिया की ओर से वैभव मिश्रा को उनके नए सफर के लिए अग्रिम शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इन मल्टीसिस्टम ऑपरेटर्स को मिली MIB की मंजूरी, कई का लाइसेंस हुआ कैंसल

इस साल 21 मार्च 2022 को 1763 के मुकाबले चार जुलाई तक रजिस्टर्ड मल्टीसिस्टम ऑपरेटर्स (MSOs) की संख्या घटकर 1753 रह गई है।

Last Modified:
Tuesday, 05 July, 2022
MIB

‘सूचना-प्रसारण मंत्रालय’ (MIB) ने इस साल 21 अप्रैल से 04 जुलाई के बीच मल्टीसिस्टम ऑपरेटर्स (MSOs) को छह नए लाइसेंस दिए हैं। हालांकि, चार जुलाई तक रजिस्टर्ड मल्टीसिस्टम ऑपरेटर्स की कुल संख्या घटकर 1753 रह गई है, जो 21 मार्च 2022 को 1763 थी।

जिन्हें नए लाइसेंस जारी किए गए हैं, उनमें M/s Infotainment Service & Communications Pvt. Ltd, Softech Infosol Private Limited, Bhumi Cable, Shabkha Taqnia Private Limited, Tribeni Entertainment और  Binodan Digital Pvt. Ltd शामिल हैं।

इन छह मल्टीसिस्टम ऑपरेटर्स में से चार कंपनी आधारित (company-based) हैं, एक स्वामित्व आधारित (proprietorship-based) और एक साझेदारी आधारित (partnership-based) फर्म हैं। वर्तमान में पंजीकृत मल्टीसिस्टम ऑपरेटर्स की कुल संख्या 1,753 है।

इसके साथ ही सूचना प्रसारण मंत्रालय ने ‘तमिलनाडु अरासु केबल टीवी कॉर्पोरेशन लिमिटेड’ (Tamil Nadu Arasu Cable TV Corporation Ltd), ‘गॉडफादर कम्युनिकेशन प्राइवेट लिमिटेड’ (Godfather Communication Pvt. Ltd)  और ‘मैसर्स इंटरमीडिया केबल कम्युनिकेशन प्राइवेट लिमिटेड’ (M/s Intermedia Cable Communication Pvt. Ltd) को तीन प्रोवीजनल रजिस्ट्रेशन भी दिए हैं।

वहीं, दूसरी तरफ सूचना प्रसारण मंत्रालय ने अप्रैल 2022 से चार जुलाई 2022 के बीच 12 मल्टीसिस्टम ऑपरेटर्स के लाइसेंस कैंसल भी किए हैं। जिनके लाइसेंस कैंसल किए गए हैं, उनमें Shivam Cable & Broadband Private Ltd, Rallyon Technology, Panduranga Cable Network, RK Digital Cable TV Network, South Star Digital Network Private Limited, Krishna Cable Network, LD Family Network,  Sahya Digital Networks LLP,  Surbhi Diginet, Thulasis Technology Private Limited, Sri Laxmi Local Cable TV और Yadav Cable शामिल हैं।

कुछ मल्टीसिस्टम ऑपरेटर्स जैसे- Ashiana Communication Mcr, Asiant Network Pvt. Ltd, Bhawani Rajesh Cable And Digitech Services Pvt. Ltd, Kailash Cable Network Pvt. Ltd के रजिस्ट्रेशन की मियाद जून 2022 में समाप्त हो गई है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

मुश्किलों में घिरे न्यूज एंकर रोहित रंजन, सामने आयी अब ये खबर

‘जी समूह’ (Zee Group) लगातार पिछले कुछ दिनों से मीडिया की सुर्खियों में बना हुआ है।

Last Modified:
Tuesday, 05 July, 2022
Rohit

‘जी समूह’ (Zee Group) लगातार पिछले कुछ दिनों से मीडिया की सुर्खियों में बना हुआ है। पहले इस समूह के हिंदी न्यूज चैनल ‘जी न्यूज’ (Zee News) के एडिटर-इन-चीफ और सीईओ सुधीर चौधरी के इस्तीफे ने काफी सुर्खियां बटोरी थीं। वहीं, अब चैनल के लोकप्रिय प्राइम टाइम शो ‘डीएनए’ (DNA) में दिखाई गई एक खबर को लेकर यह चैनल और इसके नए होस्ट रोहित रंजन फिर एक बार मीडिया की सुर्खियों में आ गए हैं।

खबर मिली है कि कांग्रेस से जुड़ी एक खबर के मामले में दर्ज एफआईआर को लेकर छत्तीसगढ़ पुलिस रोहित रंजन के घर उन्हें गिरफ्तार करने पहुंची। हालांकि, रोहित रंजन की गिरफ्तारी हुई या नहीं, इस बारे में पुलिस की ओर से आधिकारिक रूप से कोई जानकारी नहीं दी गई है, लेकिन सूत्रों के हवाले से मिली खबरों पर भरोसा करें तो नोएडा सेक्टर 20 कोतवाली की पुलिस जरूर रोहित रंजन को अपने साथ थाने ले गई है।  

इससे पहले इस बारे में रोहित रंजन ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा था, ‘बिना लोकल पुलिस को जानकारी दिए छत्तीसगढ़ पुलिस मेरे घर के बाहर मुझे अरेस्ट करने के लिए खड़ी है, क्या ये कानूनन सही है।’ अपने इस ट्वीट में उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, गाजियाबाद के एसएसपी और लखनऊ जोन के एडीजी को भी टैग किया है।

वहीं, इसके जवाब में छत्तीसगढ़ पुलिस ने लिखा, ‘इस तरह सूचित करने का कोई नियम नहीं है। फिर भी आपको सूचित किया गया है। पुलिस ने आपको कोर्ट का गिरफ्तारी वारंट भी दिखाया है। आपको जांच में शामिल होकर सहयोग करना चाहिए और कोर्ट में अपनी बात कहनी चाहिए।’

दरअसल, ये मामला उस समय शुरू हुआ था, जब चैनल की ओर से राहुल गांधी के बयान के बारे में गलत खबर चल गई थी। हुआ यूं कि शुक्रवार को राहुल गांधी अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड पहुंचे हुए थे, जहां उन्होंने अपने कार्यालय का दौरा किया। इस कार्यालय में माकपा की छात्र इकाई एसएफआई के कार्यकर्ताओं की ओर से हाल में बफर जोन के मुद्दे पर तोड़फोड़ की गई थी। हमलावरों को लेकर पूछे जाने पर राहुल गांधी ने एसएफआई कार्यकर्ताओं के इस कृत्य को 'गैर जिम्मेदाराना' करार दिया।

उन्होंने साफ किया कि हिंसा कभी भी समस्याओं का समाधान नहीं करती है और उनके मन में उनके (तोड़फोड़ करने वालों के) प्रति कोई क्रोध या शत्रुता नहीं है। उन्होंने कहा कि देश में आप सर्वत्र जो विचार देखते हैं वह यह है कि हिंसा से समस्याएं हल हो जाएंगी। लेकिन हिंसा कभी समस्याओं का हल नहीं करती है। ऐसा करना अच्छी बात नहीं है। उन्होंने गैर-जिम्मेदाराना ढंग से काम किया। लेकिन मेरे मन में उनके प्रति कोई गुस्सा या शत्रुता का भाव नहीं है। इस दौरान उन्होंने हमलावरों के लिए कहा कि  मैं उन्हें बच्चा समझता हूं। जिन लड़कों ने उनके ऑफिस में तोड़-फोड़ की वो बच्चे हैं। ये अच्छा नहीं है, लड़कों ने गैर-जिम्मेदाराना हरकत की है।

बस इसी बयान को लेकर ‘जी न्यूज’ से बड़ी गलती हो गई थी। दरअसल, अपने प्राइम टाइम शो ‘डीएनए’ में राहुल गांधी के इस बयान की वीडियो क्लिप को उदयपुर हत्याकांड से जोड़कर प्रसारित कर दिया और कहा कि राहुल गांधी ने उदयपुर हत्याकांड के आरोपितों को ‘बच्चा’ कहा है।

इसके बाद से कांग्रेस नेताओं ने चैनल को घेरना शुरू कर दिया था। यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने शनिवार को चैनल के बाहर प्रदर्शन भी किया था। इस मामले में रोहित रंजन के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। हालांकि 'जी न्यूज' ने अपनी इस बड़ी गलती के लिए चैनल पर माफी भी मांग ली थी। इसके बावजूद यह विवाद फिलहाल थमता नजर नहीं आ रहा है।

बता दें कि पिछले दिनों ही लंबे समय से रात नौ बजे ‘DNA’ होस्ट कर रहे सुधीर चौधरी से इस शो की जिम्मेदारी वापस लेकर ‘जी हिन्दुस्तान’ (Zee Hindustan) के एंकर रोहित रंजन को दी गई है। पिछले हफ्ते की शुरुआत से वह इस शो को होस्ट कर रहे हैं। करीब दो साल से ‘जी हिन्दुस्तान‘ में कार्यरत रोहित रंजन पूर्व में ‘सूर्या समाचार‘ और ‘पी7‘ चैनल में भी कार्य कर चुके हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अंजलि इस्टवाल ने NDTV से ली विदाई, अब यहां निभाएंगी सीनियर एडिटर की भूमिका

टीवी न्यूज इंडस्ट्री का जाना-पहचाना नाम अंजलि इस्टवाल को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है। दरअसल, उन्होंने एनडीटीवी इंडिया से इस्तीफा दे दिया है।

विकास सक्सेना by
Published - Monday, 04 July, 2022
Last Modified:
Monday, 04 July, 2022
AnjileeIstwal5421

टीवी न्यूज इंडस्ट्री का जाना-पहचाना नाम अंजलि इस्टवाल (Anjilee Istwal) को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है। दरअसल, उन्होंने 'एनडीटीवी इंडिया' से इस्तीफा दे दिया है। वह पिछले 19 वर्षों से 'एनडीटीवी' में कार्यरत थीं और इन दिनों सीनियर एडिटर की भूमिका निभा रहीं थीं।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, वह फिलहाल ‘आजतक’ के डिजिटल विंग के साथ बतौर सीनियर एडिटर जुड़ रहीं हैं। हालांकि अभी तक इस बात की जानकारी नहीं मिली है कि वह यहां डिजिटल में किस प्लेटफॉर्म के लिए सीनियर एडिटर की भूमिका निभाएंगी। हालांकि ‘आजतक’ में यह उनकी दूसरी पारी होगी। इससे पहले वह फरवरी 2001 से जनवरी 2003 तक ‘आजतक’ के साथ बतौर कॉरेस्पोंडेंट जुड़ी हुईं थीं, जहां उन पर हेल्थ रिपोर्टिंग की जिम्मेदारी थी। इसके अतिरिक्त वह दुनिया के करेंट अफेयर्स पर आधारित वीकली शो ‘दुनिया आजतक’ को प्रड्यूस करती थीं और उसकी एंकरिग का जिम्मा भी खुद ही संभालती थीं।

अगस्त 1999 में ‘जी न्यूज’ से बतौर ट्रेनी अपने करियर की शुरुआत करने वाली अंजलि इस्टवाल ने 2003 में 'एनडीटीवी' जॉइन किया था। तब उन्हें यहां कॉरेस्पोंडेंट कम एंकर की जिम्मेदारी दी गई थी। वह 'एनडीटीवी' की उस कोर टीम का हिस्सा रहीं हैं, जिसने तब ‘एनडीटीवी’ के हिन्दी न्यूज चैनल ‘एनडीटीवी इंडिया’ को लॉन्च कराने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। 'एनडीटीवी' में वह एंकरिंग के साथ-साथ रिपोर्टिंग भी करती थीं। यहां उन पर वीकली शो ‘फिट रहे इंडिया’ (Fit Rahe India),  लाइफ स्टाइल व शॉपिंग शो ‘स्मार्ट शॉपर’ (Smart Shopper) और टेक शो ‘सेल गुरु’ (Cell Guru) की रिपोर्टिंग, स्क्रिप्टिंग से लेकर एंकरिंग तक पूरी जिम्मेदारी थी। इसके अतिरिक्त भी उन्होंने कई शोज की एंकरिंग की।

अमृतसर में जन्मीं अंजलि इस्टवाल के पिता एक आर्मी ऑफिसर रहे हैं, लिहाजा पिता के साथ ही वे देश के अधिकांश राज्यों में रहीं और 1996 में ग्रेजुएशन करने के लिए  वे दिल्ली आयीं। उन्होंने ‘हिन्दू कॉलेज’ से बॉटनी में बीएससी (ऑनर्स) किया है। वह ‘एडवेंचर वुमेन इंडिया’ (Adventure Women India) की को फाउंडर भी हैं, जोकि महिलाओं को प्रोत्साहित करने और यात्रा में उनकी मदद करने की एक कम्युनिटी है, जोकि अपने यात्रा के अनुभवों को निजी एफबी ग्रुप पर साझा करते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Zee मीडिया में इन चैनल्स के एडिटर्स अब बिबेक अग्रवाल को करेंगे रिपोर्ट

‘जी न्यूज’ में हुए इस तरह के बदलाव के बीच एक नाम जो फोकस का केंद्र बना हुआ है, वह है जी मीडिया कॉर्प लिमिटेड के चीफ स्ट्रैटेजी एंड इनोवेशन ऑफिसर बिबेक अग्रवाल

Last Modified:
Monday, 04 July, 2022
bibek4541

‘जी न्यूज’ (Zee News), ‘विऑन’ (WION), ‘जी बिजनेस’ (Zee Business)  और ‘जी24 तास’ (Zee 24 Taas) के एडिटर-इन-चीफ व सीईओ सुधीर चौधरी के इस्तीफा देने के बाद से ही अब इन संबंधित चैनल्स के हेड की रिपोर्टिंग बदल गई है।

हमारी सहयोगी वेबसाइट e4m को मिले एक आंतरिक ई-मेल में नई रिपोर्टिंग को लेकर गाइडलाइंस दिए गए हैं, जिसमें कहा गया है, ‘सुधीर चौधरी द्वारा इस्तीफा दिए जाने के बाद ‘जी न्यूज’ (Zee News), ‘जी बिजनेस’ (Zee Business) और ‘जी 24 तास’ (Zee 24 Taas) के एडिटर अब प्रेजिडेंट (स्ट्रैटेजी एंड इनोवेशन) को रिपोर्ट करेंगे। वहीं, ‘वियॉन’ (WION) के एडिटर सीधे पब्लिशर को रिपोर्ट करेंगे।’

‘जी न्यूज’ में हुए इस तरह के बदलाव के बीच एक नाम जो फोकस का केंद्र बना हुआ है, वह है जी मीडिया कॉर्प लिमिटेड के चीफ स्ट्रैटेजी एंड इनोवेशन ऑफिसर बिबेक अग्रवाल, क्योंकि अब उपरोक्त चैनल्स के हेड इन्हीं को रिपोर्ट करेंगे।

जानिए, कौन हैं बिबेक अग्रवाल

चार्टर्ड अकाउंटेंट और कंपनी सेक्रेट्री बिबेक अग्रवाल मार्च 2021 में रेमंड ग्रुप से ‘जी मीडिया’ में शामिल हुए थे, जहां वे लाइफस्टाइल बिजनेस के सीएफओ के तौर पर काम कर रहे थे।

उन्हें कॉरपोरेट फाइनेंस व स्ट्रैटेजी, ट्रेजरी व M&A ऑपरेशंस, जीएसटी व टैक्सेशन, शेयर्ड सर्विसेज व बिजनेस प्रोसेस मैनेजमेंट, प्रक्योरमेंट व कमर्शियल्स, टेक्नोलॉजी और डिजिटल इनिशिएटिव्स में काम करने का दो दशक से ज्यादा का अनुभव है। वह जानी-मानी मैन्युफैक्चरिंग, रिटेल और सर्विस इंडस्ट्रीज जैसे-डाबर, Pernod Ricard और PwC के साथ काम कर चुके हैं।

वित्तीय प्रक्रियाओं और सिस्टम को आगे ले जाने, व्यावसायिक कार्यों में प्रौद्योगिकी और स्वचालन के उपयोग का लाभ उठाने के लिए अग्रवाल को जाना जाता है और इसको लेकर हमेशा उनकी सराहना की जाती रही है। व्यावसायिक प्रक्रियाओं को अधिक मजबूत और ग्राहक-केंद्रित बनाने के लिए आंतरिक नियंत्रण प्रणालियों को डिजाइन व कार्यान्वित करने में उनका एक अच्छा ट्रैक रिकॉर्ड है।

मजबूत वाणिज्यिक कौशल

ई4म की टीम ने जब उनके बारे में इंडस्ट्री के उनके सहयोगियों से बात की, तो उनके व्यवसायिक कौशल के बारे में पता चला। उनके एक पूर्व सहयोगी ने नाम न छापने की शर्त पर कहा कि वे VUCA की दुनिया से अज्ञात नहीं है और यह वास्तविकता है। वे वैल्यू क्रिएशन, अनलॉकिंग ब्लॉक्ड कैपिटल, कंप्लायंस एंड कंट्रोल्स और ऑटोमेशन एंड रोबोटिक्स (VUCA) के चुनौतीपूर्ण माहौल में मौके तलाशते हैं। 

अग्रवाल आज जिन ऊंचाइयों पर हैं, उसके पीछे उनकी शैक्षणिक पृष्ठभूमि का बड़ा योगदान है। दरअसल वह सीए और सीएस दोनों हैं। उन्हें एक उद्यमी लीडर के रूप में जाना जाता है।

प्रभावशाली नेतृत्व के लिए अग्रवाल को जीएसटी रिटेलर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (आरएआई) के द्वारा Exemplary Industry Representation के लिए सम्मानित किया जा चुका है। उन्हें टेक्नोलॉजी के बेहतरीन उपयोग के लिए The India CFO Award 2018 से भी सम्मानित किया जा चुका है। इसके अलावा उन्हें सिंगापुर स्थित SSON द्वारा Excellence in Transformation के लिए गोल्ड अवॉर्ड से भी सम्मानित किया जा चुका है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

जगदीश चंद्रा के नेतृत्व में जल्द लॉन्चिंग को तैयार है यह चैनल, प्रमुख पदों पर हुई भर्ती

चैनल की लॉन्चिंग की तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं। चैनल में तमाम प्रमुख बड़े पदों पर नियुक्तियां हो चुकी हैं। बताया जाता है कि इस चैनल से कई जाने-माने न्यूज एंकर्स जुड़ चुके हैं

पंकज शर्मा by
Published - Monday, 04 July, 2022
Last Modified:
Monday, 04 July, 2022
News Channel

जैसे कि समाचार4मीडिया ने कुछ समय पहले खबर दी थी कि जाने-माने पत्रकार और ‘ईटीवी न्यूज नेटवर्क’ (ETV News Network) व ‘जी मीडिया’ (Zee Media) के रीजनल क्लस्टर के पूर्व सीईओ जगदीश चंद्रा जल्द नए हिंदी न्यूज चैनल की लॉन्चिंग के साथ न्यूज ब्रॉडकास्टिंग की दुनिया में वापसी की तैयारी कर रहे हैं। वहीं, अब सूत्रों के हवाले से ताजा खबर मिली है कि उत्तर प्रदेश के नोएडा स्थित सेक्टर-62 में खुल रहे इस चैनल का नाम ‘भारत24’ (Bharat24) होगा और 15 अगस्त को आधिकारिक रूप से इसकी लॉन्चिंग की जाएगी।

अंदरखाने के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, चैनल की लॉन्चिंग की तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं। चैनल में तमाम प्रमुख बड़े पदों पर नियुक्तियां हो चुकी हैं। बताया जाता है कि इस चैनल से कई जाने-माने न्यूज एंकर्स जुड़ चुके हैं, जबकि अभी कई न्यूज एंकर्स समेत अन्य पदों पर नियुक्तियां होनी हैं। चैनल में भर्ती प्रक्रिया जारी है।

यह भी पढ़ें: मार्केट में जल्द दस्तक देगा नया हिंदी न्यूज चैनल, जगदीश चंद्रा के हाथों में होगी कमान!

बताया जाता है कि इस चैनल में वरिष्ठ टीवी पत्रकार अजय कुमार को मैनेजिंग एडिटर की जिम्मेदारी दी गई है। अजय कुमार इससे पहले हिंदी न्यूज चैनल ‘इंडिया टीवी’ (India TV) में करीब दो साल से बतौर मैनेजिंग एडिटर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे, जहां से पिछले दिनों उन्होंने इस्तीफा दे दिया था।

इसके अलावा वरिष्ठ पत्रकार सैयद उमर ‘भारत24’ में सीनियर एडिटर के पद पर नियुक्त किए गए हैं। उमर इससे पहले 'NEWS INDIA 24X7' में सीनियर एग्जिक्यूटिव एडिटर के पद पर अपनी भूमिका निभा रहे थे। सैयद उमर को प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में काम करने का करीब 20 साल का अनुभव है। 

वहीं, मनोज जिज्ञासी इस चैनल में स्ट्रैटेजिक एडवाइजर और ‘चीफ बिजनेस ऑफिसर’ (CBO) की जिम्मेदारी संभालेंगे। मनोज जिज्ञासी इससे पहले करीब दो साल से ‘जी मीडिया कॉरपोरेशन लिमिटेड’ (Zee Media Corporation Ltd) में चीफ रेवेन्यू ऑफिसर (CRO) के पद पर कार्यरत थे, जहां से कुछ माह पूर्व उन्होंने इस्तीफा दे दिया था। इसके साथ ही अमित मित्तल को 'चीफ टेक्निकल ऑफिसर’ (CTO) के पद पर नियुक्त किया गया है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

'Zee मीडिया' को अलविदा कहकर विवेक शुक्ला पहुंचे 'रिपब्लिक भारत'

‘जी मीडिया’ से खबर है कि यहां से एंकर विवेक शुक्ला ने रिजाइन देकर ‘रिपब्लिक भारत’ जॉइन कर लिया है।

Last Modified:
Monday, 04 July, 2022
Vivekshukla45

‘जी मीडिया’ से खबर है कि यहां से एंकर विवेक शुक्ला ने रिजाइन देकर ‘रिपब्लिक भारत’ जॉइन कर लिया है। ‘रिपब्लिक भारत’ में उन्हें एंकर के साथ सीनियर कॉरेस्पोंडेंट की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

विवेक शुक्ला जी मीडिया में ‘जी उत्तरप्रदेश-उत्तराखंड’ में पिछले 3 सालों से थे और यहां एंकर की भूमिका निभा रहे थे। वे यहां प्रड्यूसर/एंकर के पद पर कार्यरत थे। उन्होंने प्राइम टाइम शो से लेकर चुनावी कवरेज तक अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।  

विवेक मूल रूप से मध्यप्रदेश के भिंड जिले के रहने वाले हैं, लेकिन उनकी शिक्षा और पालन पोषण ग्वालियर में हुआ। विवेक शुक्ला पिछले 10 वर्षों से मीडिया में हैं जी मीडिया से पहले 'समाचार प्लस' और 'दूरदर्शन मध्यप्रदेश' में रहे हैं। इसके अतिरिक्त वे 'साधना न्यूज' 'के न्यूज' और 'भारत समाचार' में भी अपना योगदान दे चुके हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

‘हिंदी खबर’ छोड़कर न्यूज एंकर वंदना सिरोही ने तलाशी नई मंजिल

वंदना को उनकी शानदार एंकरिंग के लिए ‘मीडिया फेडरेशन ऑफ इंडिया‘ की ओर से बेस्ट रीजनल फीमेल न्यूज एंकर के अवॉर्ड से भी नवाज़ा जा चुका है।

Last Modified:
Monday, 04 July, 2022
Vandana Sirohi

रीजनल न्यूज चैनल्स की तेजतर्रार एंकर वंदना सिरोही ने अब नेशनल न्यूज चैनल ‘इंडिया न्यूज’ (India News) के साथ अपनी नई पारी की शुरुआत की है। इससे पहले वंदना ‘हिंदी खबर‘ (Hindi Khabar) न्यूज चैनल में अपनी जिम्मेदारी निभा रही थीं।

वंदना ने वर्ष 2016 में अपने करियर की शुरुआत ‘हिंदी खबर‘ से ही की थी। इसके बाद वर्ष 2018 में उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड के मशहूर चैनल ‘समाचार प्लस‘ (Samachar Plus), वर्ष 2019 में ‘न्यूज वन इंडिया‘ (News One India) में बतौर एंकर/प्रड्यूसर काम किया। इसके बाद वर्ष 2020 में वह दोबारा ‘हिंदी खबर‘ से जुड़ीं। इस बार उन्हें यहां सीनियर एंकर की जिम्मेदारी सौंपी गई।

वंदना के कई डिबेट शो की क्लिप्स सोशल मीडिया पर वायरल हो चुकी हैं, जिनमें उनके तीखे सवालों के आगे कई राजनीतिक दलों के प्रवक्ता असहज दिखे हैं। वंदना को उनकी शानदार एंकरिंग के लिए ‘मीडिया फेडरेशन ऑफ इंडिया‘ की ओर से बेस्ट रीजनल फीमेल न्यूज एंकर के अवॉर्ड से भी नवाज़ा जा चुका है। हाल ही में वंदना को ‘ग्लोबल इंडिया नेशनल एक्सीलेंस अवॉर्ड‘ और ‘दि गोल्डन स्टार आइकॉन अवॉर्ड‘ से भी सम्मानित किया गया है।

उत्तर प्रदेश के अमरोहा जिले की रहने वालीं वंदना सिरोही ने कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी से जर्नलिज्म में बैचलर्स और चितकारा यूनिवर्सिटी, चंडीगढ़ से जर्नलिज्म में मास्टर्स किया है। समाचार4मीडिया की ओर से वंदना सिरोही को उनके नए सफर के लिए ढेरों बधाई और शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए