TV शो बना अखाड़ा, ‘भैयाजी...’ के सामने नेताओं ने यूं निकाली भड़ास

दिल्ली के चढ़ते चुनावी पारे का असर नेताओं के मिजाज पर भी नजर आने लगा है

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 05 February, 2020
Last Modified:
Wednesday, 05 February, 2020
TV Show

दिल्ली के चढ़ते चुनावी पारे का असर नेताओं के मिजाज पर भी नजर आने लगा है। ‘न्यूज18 इंडिया’ के लोकप्रिय शो ‘भैयाजी कहिन’ में आम आदमी पार्टी और भाजपा नेता लाइव कैमरे पर ही भिड़ गए। दोनों को काफी मुश्किल से अलग किया जा सका।

दरअसल, दिल्ली के शकूरपुर में ‘न्यूज18’ शो के लिए आप नेता धनेंद्र भारद्वाज, भाजपा प्रवक्ता राहुल त्रिवेदी और कांग्रेस नेता को आमंत्रित किया गया था। शुरुआत में अलग-अलग मुद्दों पर बात हुई और सभी बारी-बारी से अपने जवाब देते रहे। लेकिन जब ‘आप’ नेता ने भाजपा को झूठ की फैक्ट्री करार दिया तो माहौल एकदम से बदल गया।

धनेंद्र के आरोपों पर राहुल त्रिवेदी ने एतराज जताया और वो बार-बार उन्हें बोलने से रोकने लगे। इससे नाराज आप नेता ने भाजपा प्रवक्ता पर हमला बोल दिया। अचानक हुए इस हमले से राहुल कुछ कदम पीछे हटे, फिर उन्होंने भी पलटवार किया। इस बीच, दशकों की भीड़ से भी नेताओं के समर्थक वहां पहुंच गए, लेकिन एंकर प्रतीक त्रिवेदी ने वक्त रहते स्थिति को संभाल लिया।

विवाद के बाद प्रतीक त्रिवेदी ने माहौल को हल्का करने का प्रयास किया, ताकि बहस को मुकाम तक पहुंचाया जा सके। उन्होंने कहा, ‘इतने बहादुर लोग हैं ये, मैदान नहीं छोड़ते चाहे कुछ हो जाए। सब डटे हैं, क्या सोचा था आपने क्या हो जाएगा। अरे कुछ नहीं ‘भैयाजी’ में तो यह सब होता रहता है’। हालांकि वो यह भी कहना नहीं भूले कि ऐसी घटनाएं होनी नहीं चाहिए, ये बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। इसके बाद सभी नेता मुस्कुराते हुए अपनी कुर्सी पर बैठे और शो दोबारा शुरू हो गया। 

गौरतलब है कि ‘भैयाजी कहिन’ न्यूज18 के सबसे लोकप्रिय शो में से एक है। यह ऐसा फॉर्मेट है, जिसमें प्रतीक विभिन्‍न स्‍थानों पर जाकर लोगों को एक प्‍लेटफॉर्म उपलब्‍ध कराते हैं, जहां वे बिंदास तरीके से अपने विचार और आवाज रख सकते हैं। इसमें लोगों को राजनीतिज्ञों से सीधे बातचीत करने का मौका भी मिलता है। अपने इस शो के लिए बेस्‍ट मेल एंकर का अवॉर्ड भी उन्हें मिला है।

'न्यूज18 इंडिया' ने शो के दौरान हुई इस घटना को अपने फेसबुक पेज पर भी शेयर किया है, जिसे आप यहां देख सकते हैं।

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक,ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

जानें, NDTV के अधिग्रहण को लेकर क्या बोला अडानी ग्रुप

एनडीटीवी के अधिग्रहण की अफवाहों पर अडानी ग्रुप ने बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) को स्पष्ट किया है

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Saturday, 25 September, 2021
Last Modified:
Saturday, 25 September, 2021
adani548

एनडीटीवी (NDTV) के बाद अब अडानी ग्रुप ने भी मार्केट में चल रही खबरों और अटकलों का खंडन किया है। दरअसल, मार्केट में यह अफवाह तेजी से फैल रही है कि अडानी ग्रुप एनडीटीवी का अधिग्रहण कर सकता है।

एनडीटीवी के अधिग्रहण की अफवाहों पर अडानी ग्रुप ने बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) को स्पष्ट किया है कि मीडिया हाउस में चल रहीं अधिग्रहण की खबरें 'तथ्यात्मक रूप से गलत हैं। ग्रुप ने यह भी कहा कि मीडिया हाउस के शेयर की कीमत में जो भी उतार-चढ़ाव देखा जा रहा है कि वह पूरी तरह से बाजार संचालित है।

अडानी ग्रुप ने कहा कि इस तरह की तथाकथित खबरों को लेकर बीएसई द्वारा मांगे गए स्पष्टीकरण का यह जवाब है। हम यह बताना चाहेंगे कि इस तरह का कोई भी डेवलपमेंट नहीं हुआ है और इसलिए, उपर्युक्त खबरें तथ्यात्मक रूप से गलत हैं। हम मीडिया की अटकलों या अफवाहों पर कोई कमेंट नहीं कर सकते और ऐसा करना हमारी ओर से सही नहीं होगा।

बता दें कि बीएसई ने नयी दिल्ली टेलीविजन लि. (एनडीटीवी) से अडाणी समूह द्वारा हिस्सेदारी खरीदने जाने की खबर के बारे में भी स्पष्टीकरण मांगा था, जिसके जवाब में एनडीटीवी ने इसे अफवाह बताया और इस प्रकार की किसी भी बातचीत से इनकार किया था। अपने स्पष्टीकरण में कंपनी ने कहा था कि नयी दिल्ली टेलीविजन लिमिटेड के संस्थापक-प्रवर्तक और पत्रकार राधिका व प्रणय रॉय ने एनडीटीवी के स्वामित्व में बदलाव या हिस्सेदारी बेचे जाने के संदर्भ में किसी भी संस्था के साथ बातचीत न तो अभी कर रहे हैं और न की है। दोनों व्यक्तिगत रूप से और अपनी कंपनी आरआरपीआर होल्डिंग्स प्राइवेट लि. के जरिये एनडीटीवी में कुल चुकता शेयर पूंजी का 61.45 फीसदी हिस्सेदारी रखे हुए हैं।

एनडीटीवी ने सूचना में यह भी कहा था कि उसे इस बात की कोई जानकारी नहीं है कि शेयर में अचानक से उछाल क्यों आया। उसने कहा, एनडीटीवी आधारहीन अफवाह पर लगाम नहीं लगा सकती और न ही इस प्रकार की आधाहीन अटकलों में शामिल होती है।

दरअसल, कई मीडिया रिपोर्ट्स में यह दावा किया गया है कि अडानी ग्रुप दिल्ली स्थित एक मीडिया हाउस का अधिग्रहण करना चाह रहे हैं, जिसे कई लोग NDTV होने का अनुमान लगा रहे हैं। हालांकि इन अटकलों का फायदा एनडीटीवी के शेयरों में साफ दिखा। एनडीटीवी के शेयरों में लगातार कुछ दिनों से तेजी दर्ज की जा रही है। बीते सोमवार को कंपनी के शेयरों में 10% का अपर सर्किट लगा।

अडानी एंटरप्राइजेज ने कुछ दिन पहले ही वरिष्ठ पत्रकार संजय पुगलिया को अपने ग्रुप के मीडिया इनिशिएटिव्स को लीड करने के लिए सीईओ व एडिटर-इन-चीफ बनाया है, जिसके बाद से ही यह अटकलें और तेज हो गयीं।

कंपनी ने अपने स्पष्टीकरण में कहा कि नयी दिल्ली टेलीविजन लिमिटेड के संस्थापक-प्रवर्तक और पत्रकार राधिका तथा प्रणय रॉय ने एनडीटीवी के स्वामित्व में बदलाव या हिस्सेदारी बेचे जाने के संदर्भ में किसी भी संस्था के साथ बातचीत न तो अभी कर रहे हैं और न की है. आपको बता दें कि सोमवार को अफवाह उड़ी थी कि कंपनी में कंट्रोलिंग स्टेक अडाणी ग्रुप ले सकता है.

अडाणी ग्रुप द्वारा खरीदे जाने की अफवाह के चलते एनडीटीवी के शेयरों में लगातार दूसरे दिन तेजी दर्ज की गई. बीएसई पर कंपनी का शेयर 9.98 फीसदी बढ़कर 87.60 रुपए के भाव पर पहुंच गया. सोमवार को भी कंपनी के शेयर में 10 फीसदी की तेजी आई थी. कंपनी में संस्थापक-प्रवर्तक, राधिका और प्रणय रॉय की हिस्सेदारी 61.45 फीसदी है.

बीएसई ने मांगी सफाई

बीएसई ने नयी दिल्ली टेलीविजन लि. (एनडीटीवी) से अडाणी समूह द्वारा हिस्सेदारी खरीदने जाने की खबर के बारे में स्पष्टीकरण मांगा. इसकी वजह यह अफवाह थी कि कंपनी में नियंत्रणकारी हिस्सेदारी अडाणी ग्रुप ले सकता है. हालांकि, एनडीटीवी ने इसे अफवाह बताया और इस प्रकार की किसी भी बातचीत से इनकार किया.

कंपनी ने कहा, एनडीटीवी के संस्थापक-प्रवर्तक और पत्रकार राधिका और प्रणय रॉय ने एनडीटीवी के स्वामित्व में बदलाव या हिस्सेदारी बेचे जाने के संदर्भ में किसी भी संस्था के साथ बातचीत न तो अभी कर रहे हैं और न की है. दोनों व्यक्तिगत रूप से और अपनी कंपनी आरआरपीआर होल्डिंग्स प्राइवेट लि. के जरिये एनडीटीवी में कुल चुकता शेयर पूंजी का 61.45 फीसदी हिस्सेदारी रखे हुए हैं.

एनडीटीवी ने सूचना में कहा कि उसे इस बात की कोई जानकारी नहीं है कि शेयर में अचानक से उछाल क्यों आया. उसने कहा, एनडीटीवी आधारहीन अफवाह पर लगाम नहीं लगा सकती और न ही इस प्रकार की आधाहीन अटकलों में शामिल होती है.

निवेशकों को हुआ 98 करोड़ का फायदा

दो दिनों में एनडीटीवी के शेयरों में 20 फीसदी का उछाल आया है. शेयर से तेजी से कंपनी के निवेशकों को बड़ा फायदा हुआ है और उनकी दौलत करीब 100 करोड़ रुपये बढ़ गई है. दो दिन में निवेशकों को 98 करोड़ रुपये का फायदा हुआ है. कंपनी का मार्केट कैप 564.77 करोड़ रुपये हो गया.

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Times Network के जल्द लॉन्च होने वाले इस चैनल में मैनेजिंग एडिटर होंगे निकुंज डालमिया

‘ईटी नाउ‘ में मैनेजिंग एडिटर निकुंज डालमिया वर्तमान भूमिका के अलावा नए चैनल में संपादकीय टीम का नेतृत्व करेंगे और चैनल के समग्र प्रबंधन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 24 September, 2021
Last Modified:
Friday, 24 September, 2021
Nikunj Dalmia

‘टाइम्स नेटवर्क’ (Times Network) ने जाने-माने बिजनेस पत्रकार निकुंज डालमिया को ‘ईटी नाउ स्वदेश’ (ET NOW SWADESH) नाम से जल्द लॉन्च होने वाले अपने हिंदी बिजनेस न्यूज चैनल का मैनेजिंग एडिटर नामित किया है।

इन दिनों ‘टाइम्स नेटवर्क’ के अंग्रेजी बिजनेस न्यूज चैनल ‘ईटी नाउ‘ (ET NOW) में मैनेजिंग एडिटर की जिम्मेदारी निभा रहे निकुंज डालमिया वर्तमान भूमिका के अलावा नए चैनल में संपादकीय टीम का नेतृत्व करेंगे और चैनल के समग्र प्रबंधन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। ‘ईटी नाउ‘ में वह ‘The Market and Closing Trades‘ शो होस्ट करते हैं। निकुंज डालमिया को बिजनेस पत्रकारिता करने का दो दशक से ज्यादा का अनुभव है।

इस बारे में ‘टाइम्स नेटवर्क‘ के एमडी और सीईओ एमके आनंद का कहना, ‘ईटी नाउ को एक प्रतिष्ठित अंग्रेजी बिजनेस न्यूज चैनल बनाने और रेस में उसे सबसे आगे खड़ा करने में निकुंज डालमिया का काफी योगदान है। हिंदी बिजनेस न्यूज चैनल ईटी नाउ स्वदेश की लॉन्चिंग को लेकर हम काफी उत्साहित हैं और मुझे पूरा विश्वास है कि वह ईटी नाउ स्वदेश को भी काफी आगे ले जाएंगे।‘

वहीं, अपनी नई भूमिका को लेकर निकुंज डालमिया का कहना है, ‘मैं इस नए पद को संभालने और पत्रकारों व अन्य सहयोगियों की एक प्रतिभाशाली व जुनूनी टीम के साथ काम करने को लेकर काफी उत्साहित हूं। अपने अनूठे कंटेंट की बदौलत ईटी नाउ स्वदेश हिंदी बिजनेस न्यूज जॉनर में अन्य प्लेयर्स से हटकर अपनी अलग और खास पहचान बनाएगा।‘

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

न्यूज चैनल्स की रेटिंग्स को लेकर NBF ने BARC को फिर लिखा लेटर, कही ये बात

‘न्यूज ब्रॉडकास्टर्स फेडरेशन’ ने देश में टेलिविजन दर्शकों की संख्या मापने वाली संस्था ‘ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल’ (BARC) के सीईओ नकुल चोपड़ा को एक बार फिर पत्र लिखा है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 24 September, 2021
Last Modified:
Friday, 24 September, 2021
NBF

न्यूज इंडस्ट्री से जुड़े मुद्दे सुलझाने और न्यूज ब्रॉडकास्टर्स के हितों की रक्षा के लिए गठित ‘न्यूज ब्रॉडकास्टर्स फेडरेशन’ (News Broadcasters Federation) ने देश में टेलिविजन दर्शकों की संख्या मापने वाली संस्था ‘ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल’ (BARC) के सीईओ नकुल चोपड़ा को एक बार फिर पत्र लिखा है।

इस पत्र में ‘न्यूज ब्रॉडकास्टर्स फेडरेशन’ ने करीब एक साल से रुकी हुई न्यूज चैनल्स की व्युअरशिप रेटिंग को तत्काल प्रभाव से फिर से शुरू करने की मांग की है। बता दें कि इसी मांग को लेकर ‘NBF’ ने नौ सितंबर को भी ‘BARC’ को एक लेटर लिखा था, लेकिन रेटिंग एजेंसी की तरफ से कोई प्रतिक्रिया व्यक्त नहीं की गई थी।    

इस बार फिर लिखे लेटर में कहा गया है, ‘इस संदर्भ में, हम फिर दोहराते हैं कि बार्क को तत्काल प्रभाव से न्यूज जॉनर के लिए टीआरपी डाटा जारी करने के लिए उचित कार्रवाई शुरू करने की आवश्यकता है, न्यूज ब्रॉडकास्टिंग इंडस्ट्री को पतन के कगार से बचाने के लिए यह कदम काफी जरूरी है।’ एनबीएफ का कहना है कि जिस टीआरपी घोटाले का हवाला देते हुए न्यूज चैनल्स की रेटिंग्स को रोका गया है, वह सिर्फ राजनीतिक मनगढ़ंत कहानी (a political concoction) थी।

लेटर के अनुसार, ‘इस प्रकार यह साफ है कि टीआरपी मामला कुछ भी नहीं है, बल्कि राजनीतिक निर्देशों पर रचा गया कपट और कल्पना है, जिसमें पूरी न्यूज ब्रॉडकास्टिंग इंडस्ट्री के लिए भारी नुकसान की कीमत पर कुछ राष्ट्रीय चैनलों के निजी हितों की पूर्ति होती है। इन निहित स्वार्थों ने कंपनियों, क्रिएटिव एग्जिक्यूटिव्स और विज्ञापन एजेंसियों के विकास को खतरे में डाल दिया है, जो आर्थिक विकास को बढ़ावा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

रवीश कुमार ने अपने इस्तीफे की खबरों को बताया महज अफवाह, कही ये बात

‘अडानी ग्रुप’ (Adani Group) ने जब से संजय पुगलिया को एडिटर-इन-चीफ के पद पर नियुक्त किया है, तब से अफवाहों का बाजार गर्म है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 23 September, 2021
Last Modified:
Thursday, 23 September, 2021
Ravish Kumar

‘अडानी ग्रुप’ (Adani Group) ने जब से संजय पुगलिया को एडिटर-इन-चीफ के पद पर नियुक्त किया है, तब से अफवाहों का बाजार गर्म है। इन दिनों मार्केट में इस तरह की चर्चा है कि ‘अडानी समूह’ जल्द ‘एनडीटीवी’ का अधिग्रहण कर सकता है।

इस खबर के बाहर आते ही ‘एनडीटीवी’ के शेयरों में जबरदस्त उछाल देखा गया है। इस बीच कुछ लोगों ने यह अफवाह उड़ानी शुरू कर दी कि जल्द ही रवीश कुमार इस संस्थान को अलविदा कह देंगे और खुद का डिजिटल पोर्टल लॉन्च करेंगे।

इस तरह की खबरें ऐसी उड़ीं कि खुद रवीश कुमार को एक फेसबुक पोस्ट लिखकर इनको विराम देना पड़ा। उन्होंने अपनी फेसबुक पोस्ट में अपने इस्तीफे की खबरों को महज अफवाह बताते हुए इनका खंडन किया है।

इस बारे में रवीश कुमार की फेसबुक पोस्ट आप यहां पढ़ सकते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

युवा पत्रकार अक्षय शर्मा ने Zee Hindustan को बोला बाय

मूल रूप से मुजफ्फरनगर के रहने वाले अक्षय शर्मा को राष्ट्रपति स्काउट पुरस्कार से नवाजा जा चुका है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 23 September, 2021
Last Modified:
Thursday, 23 September, 2021
Akshay Sharma

युवा पत्रकार अक्षय शर्मा ने ‘जी हिंदुस्तान‘ (Zee Hindustan) में अपनी पारी को विराम दे दिया है। वह यहां इनपुट टीम में अहम जिम्मेदारी निभा रहे थे। ‘जी हिंदुस्तान‘ में अपने करीब नौ महीने के कार्यकाल में एक से बढ़कर एक स्टोरी अपने चैनल के नाम कीं। अक्षय शर्मा की नई पारी के बारे में फिलहाल जानकारी नहीं मिल सकी है।

अक्षय शर्मा मूलतः पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जनपद मुजफ्फरनगर के रहने वाले हैं। करीब छह वर्षों से नोएडा में रह रहे अक्षय शर्मा की प्रारंभिक शिक्षा से लेकर स्नातक तक शिक्षा मुजफ्फरनगर में ही हुई, जिसके बाद उन्होंने आगे की पढ़ाई के लिए माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय का रुख किया और यहां से परास्नातक की डिग्री प्राप्त कर मीडिया के क्षेत्र में कार्य शुरू किया।

अक्षय शर्मा ने ‘सहारा समय‘ न्यूज चैनल के इनपुट विभाग में कार्य शुरू किया, जहां उन्होंने मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान चुनाव के दौरान महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन किया इसके बाद वरिष्ठ पत्रकार पुण्य प्रसून बाजपेयी की टीम के साथ ‘सूर्या समाचार‘ जॉइन किया, जहां उन्हे गेस्ट को-ऑर्डिनेशन का जिम्मा मिला। लेकिन इस चैनल से अचानक पुण्य प्रसून बाजपेयी की रवानगी के साथ इनको भी रवानगी हुई और फिर अक्षय शर्मा पहुंच गए महाराष्ट्र के तत्कालीन मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के ‘वॉर रूम‘ में। वहां उन्होंने हिंदी कंटेंट राइटर का जिम्मा संभाला और चुनाव होने तक यहां अपनी सेवाएं दीं।

अब अक्षय का अगला पड़ाव था गुरदीप सिंह सप्पल और अमृता राय के चैनल ‘स्वराज एक्सप्रेस‘ में। यहां भी उन्होंने गेस्ट को-ऑर्डिनेशन विभाग में अहम जिम्मेदारी निभाते हुए वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ के कार्यक्रम ‘विनोद दुआ लाइव‘ की जिम्मेदारी संभाली। तकरीबन आठ माह बाद जब संस्थान बंद हो गया तो अक्षय की नई नौकरी की तलाश ‘जी हिंदुस्तान‘ चैनल पर जाकर रुकी। इसके बाद उन्होंने अब यहां से बाय बोल दिया है।

अक्षय शर्मा को राष्ट्रपति स्काउट पुरस्कार से नवाजा जा चुका है। उन्होंने एनसीसी में बटालियन सीनियर की जिम्मेदारी भी निभाई है। वर्ष 2017 में बांग्लादेश में आयोजित फ्रेंडशिप इवेंट में भी अक्षय ने भारत का परचम लहराया था और यहां एशिया पैसिफिक रीजन के मंच पर हिंदी में अपना संबोधन कर वाहवाही लूटी थी।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Zee न्यूज पर अब नहीं दिखाई देंगे एंकर अमन चोपड़ा, यहां शुरू की नई पारी

जी न्यूज के जाने-माने सीनियर न्यूज एंकर अमन चोपड़ा अब चैनल पर नहीं दिखाई देंगे।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 21 September, 2021
Last Modified:
Tuesday, 21 September, 2021
AmanChopra5485

जी न्यूज के जाने-माने सीनियर न्यूज एंकर अमन चोपड़ा अब चैनल पर नहीं दिखाई देंगे। दरअसल ऐसा इसलिए क्योंकि उन्होंने चैनल को अलविदा कह दिया है और इस बात की पुष्टि उन्होंने खुद समाचार4मीडिया से की।

20 सितंबर यहां उनका आखिरी दिन था। वे यहां करीब चार वर्षों से कार्यरत थे। अमन जल्द ही अब अपनी नई पारी ‘न्यूज18 इंडिया’ के साथ शुरू करेंगे और अगले हफ्त से वे टीवी स्क्रीन पर नजर भी आने लगेंगे। जी न्यूज में वे लोकप्रिय शो ‘ताल ठोक के’ को होस्ट करते थे।

जी न्यूज से पहले अमन एबीपी न्यूज के साथ थे और तब यहां उन्होंने पिछले पांच वर्षों तक अपना योगदान दिया था। अपने 5 साल के कार्यकाल के दौरान ‘एबीपी न्यूज’ में उन्होंने हर तरह के बुलेटिन किए, जिनमें शाम 7 बजे पॉलिटिकल डिबेट, ‘आज की तारीख’, ‘घंटी बजाओ’, ‘कौन बनेगा मुख्यमंत्री’ शो आदि शामिल हैं। चुनावों के दौरान उन्होंने दो महीने तक ‘रथ यात्रा’ शो को भी होस्ट किया है।

प्रिंट, पीआर एजेंसी और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के क्षेत्र में उन्हें करीब 20 वर्षों से भी ज्यादा का अनुभव है। अपने करियर की शुरुआत उन्होंने प्रिंट मीडिया से की थी, इसके बाद वे पीआर एजेंसीज से जुड़े और फिर उन्होंने इलेक्ट्रॉनिक मीडिया की ओर  रुख किया।

इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में पहले वे ‘आईबीएन7’ (अब न्यूज18 इंडिया), फिर ‘सीएनईबी’ (4साल) और उसके बाद ‘राज्यसभा टीवी’ (4साल) होते हुए वे ‘एबीपी न्यूज’ (5 साल) से जुड़े थे। कुछ समय तक वे ‘न्यूज एक्सप्रेस’ के साथ भी रहे।

राजनीतिक खबरों पर अमन अच्छी पकड़ रखते हैं। वे दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज्म व मास कम्युनिकेशन में ग्रेजुएट हैं। पब्लिक रिलेशन में पोस्ट ग्रेजुएशन का डिप्लोमा लेने के बाद उन्होंने मास कम्युनिकेशन में एमए भी किया।

वे जितने अच्छे एंकर माने जाते हैं, उतने ही अच्छे थिएटर आर्टिस्ट। उन्होंने कॉलेज के दिनों में कई स्टेज शो किए। इतना ही नहीं उन्होंने फ्रीलांसिग एंकरिंग भी कॉलेज के दिनों में ही की थी।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

टीवी पत्रकार कुंदन जमैयार ने न्यूज नेशन को बोला बाय, पहुंचे न्यूज इंडिया

नोएडा फिल्मसिटी से जल्द लॉंच होने वाले चैनल ‘न्यूज इंडिया‘ की यंग टीम के साथ न्यूज एंकर कुंदन जमैयार भी जुड़ गए हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Saturday, 18 September, 2021
Last Modified:
Saturday, 18 September, 2021
Kundan Jamaiyar

नोएडा फिल्मसिटी से जल्द लॉंच होने वाले चैनल ‘न्यूज इंडिया‘ की यंग टीम के साथ न्यूज एंकर कुंदन जमैयार भी जुड़ गए हैं। यहां वह बतौर एंकर और सीनियर प्रोड्यूसर अपनी जिम्मेदारी संभालेंगे। कुंदन जमैयार अब तक ‘न्यूज नेशन‘ की टीम का हिस्सा थे। न्यूज स्टेट में यूपी-उत्तराखंड की खबरों को धारदार अंदाज में पेश कर रहे कुंदन जमैयार अपनी नई पारी को लेकर काफी रोमांचित हैं।

करीब साढ़े सात साल तक न्यूज स्टेट के प्राइम टाइम एंकर के तौर पर उन्होंने कई शानदार शो किए। कुंदन जमैयार केवल एंकरिंग पर फोकस नहीं रखते बल्कि फील्ड रिपोर्टिंग में भी उनकी गहरी दिलचस्पी रही है। उन्होंने 2014 और 2019 के लोकसभा चुनाव के अलावा विधान सभा चुनाव 2017 में कई खास शो की एंकरिंग की।

मूल रूप से पटना (बिहार) के रहने वाले कुंदन जमैयार को इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में करीब 15 साल का अनुभव है। अर्थशास्त्र से ग्रेजुएट कुंदन ने अपने करियर की शुरूआत ‘टीवी 100‘ से की थी। इसके अलावा वह ‘एस1‘,‘आजाद न्यूज‘,‘एटूजेड न्यूज‘ और ‘साधना न्यूज‘ से भी जुड़े रहे हैं।

वह कई चैनलों की लॉन्चिंग टीम का हिस्सा रहे हैं और इस बार ‘न्यूज इंडिया‘ की लॉन्चिंग में बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं। समाचार4मीडिया की ओर से कुंदन जमैयार को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।  

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

iTV Network को अलविदा कहकर युवा पत्रकार आशीष सिंह ने तलाशी नई मंजिल

‘आईटीवी नेटवर्क’ (iTV Network) के अंग्रेजी चैनल ‘न्यूज एक्स’ और हिंदी चैनल ‘इंडिया न्यूज’ में शानदार पारी निभाने के बाद युवा पत्रकार आशीष सिंह ने अब नई शुरुआत की है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Saturday, 18 September, 2021
Last Modified:
Saturday, 18 September, 2021
Ashish Singh

‘आईटीवी नेटवर्क’ (iTV Network) के अंग्रेजी चैनल ‘न्यूज एक्स’ और हिंदी चैनल ‘इंडिया न्यूज’ में शानदार पारी निभाने के बाद युवा पत्रकार आशीष सिंह ने अब नई शुरुआत की है। खबरों की मानें तो आशीष सिंह ने ‘न्यूज इंडिया‘ में एग्जिक्यूटिव एडिटर के पद पर जॉइन कर लिया है।

बताया जा रहा है कि ‘न्यूज इंडिया‘ में वह बतौर सीनियर एंकर प्राइम टाइम का एक शो भी करने वाले हैं। कई एक्सक्लूसिव खबरों के साथ आशीष सिंह ने ‘न्यूज इंडिया‘ की लॉन्चिंग के दौरान बड़ा धमाका करने की तैयारी कर रखी है। बता दें कि ‘आईटीवी नेटवर्क‘ में रहते हुए आशीष ने डिफेंस, पीएमओ और विदेश मंत्रालय की कई एक्सक्लूसिव खबरें की हैं।

आशीष सिंह ने एक समय मोजो जर्नलिस्ट के तौर पर अपनी अलग पहचान बनाई। बिना किसी कैमरा यूनिट के वह देश-विदेश में रिपोर्टिंग करने गए और मोजो किट के बूते शानदार कवरेज की। आशीष सिंह को ‘आईटीवी नेटवर्क’ ने ‘द संडे गार्जियन’ की भी अतिरिक्त जिम्मेदारी दे रखी थी। वह ’द संडे गार्जियन’ के एक्सक्लूसिव कंटेंट पर काम करते थे।

आशीष सिंह ने करीब 13 साल के अपने पत्रकारिता करियर में ’टाइम्स नाउ’, ’जी न्यूज’, ’हिन्दुस्तान टाइम्स’ और ’फ्रांस 24’ जैसे कई प्रतिष्ठित ब्रैंड्स के साथ काम किया है। अंग्रेजी और हिंदी दोनों माध्यमों में वह समान पकड़ रखते हैं।

वर्ष 2017 में आशीष को बेस्ट पॉलिटिकल रिपोर्टर के लिए रामनाथ गोयनका अवॉर्ड से नवाजा जा चुका है। 2019 में फ्रेंच सरकार ने उन्हें यंग इंडियन लीडर ऑफ द ईयर (मीडिया) का सम्मान दिया। इसके अलावा पत्रकारिता जगत के कई अवॉर्ड आशीष के नाम हैं।

सूत्रों की मानें तो ‘न्यूज इंडिया’ की कोर टीम के साथ मिलकर आशीष प्लानिंग और एग्जीक्यूशन की रणनीति बना रहे हैं। समाचार4मीडिया की ओर से आशीष सिंह को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

‘न्यूज नेशन’ को बाय बोलकर टीवी पत्रकार सबीना तामंग ने तलाशी नई मंजिल

अपनी दमदार आवाज और तेजतर्रार एंकरिंग–रिपोर्टिंग से दर्शकों के बीच खास पहचान बना चुकीं टीवी पत्रकार सबीना तामंग देशमुख ने ‘न्यूज नेशन’ में अपनी पारी को विराम दे दिया है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 16 September, 2021
Last Modified:
Thursday, 16 September, 2021
Sabeena Tamang

अपनी दमदार आवाज और तेजतर्रार एंकरिंग–रिपोर्टिंग से दर्शकों के बीच खास पहचान बना चुकीं टीवी पत्रकार सबीना तामंग देशमुख ने हिंदी न्यूज चैनल ‘न्यूज नेशन’ (News Nation) में अपनी पारी को विराम दे दिया है।

सबीना ने पत्रकारिता के क्षेत्र में अपने नए सफर की शुरुआत ‘न्यूज18 इंडिया’ के साथ की है। कई सालों से पत्रकारिता में सक्रिय सबीना ने ‘जनभावना संदेश’ अखबार से अपने करियर की शुरुआत की थी। इसके बाद ‘सुदर्शन‘,‘लाइव इंडिया‘,‘श्रीन्यूज‘ और ‘जी मीडिया‘ में उन्होंने एंकरिंग, रिपोर्टिंग और राइटिंग के बूते अपनी पहचान बनाई। करीब पांच साल वह ‘जी मीडिया‘ के साथ बतौर सीनियर एंकर जुड़ी रहीं। इस दौरान सबीना ने न सिर्फ एंकरिंग, रिपोर्टिंग और डिबेट शो किए बल्कि कई सुलगते मुद्दों पर स्पेशल शो भी बनाए। बॉर्डर पर की गई उनकी शानदार कवरेज को हर किसी ने बेहद पसंद किया।

‘जी मीडिया‘ के बाद सबीना ने ‘न्यूज नेशन‘ के साथ अपनी पारी की शुरुआत की। यहां अपने करीब ढाई साल के कार्यकाल के दौरान उन्होंने न्यूज एंकरिंग के साथ-साथ अपनी शानदार रिपोर्टिंग से हर किसी पर छाप छोड़ी। लिखने की शौकीन सबीना कई डॉक्यूमेंट्री के लिए स्क्रिप्टिंग भी कर चुकी हैं, इसके साथ ही कई यूनिवर्सिटी और इंस्टीट्यूट के छात्रों को पत्रकारिता से जुड़ी जानकारी भी देती आई हैं।

सबीना उस वक्त खूब सुर्खियों में रहीं, जब उनके डिबेट शो में एक मौलाना ने महिला वकील को थप्पड़ मार दिया था, उस दौरान बतौर एंकर सबीना ने पूरे माहौल को बेहतरीन तरीके से संभाला। निर्देशक अनिल शर्मा की फिल्म जीनियस में भी वह एक न्यूज एंकर की भूमिका निभा चुकी हैं। समाचार4मीडिया की ओर से सबीना तामंग को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

लॉन्च हुआ 'संसद टीवी', पीएम बोले- लोकतंत्र देश की ‘जीवन धारा’

अपने नए अवतार में यह सोशल मीडिया और ओटीटी प्लेटफॉर्म पर भी रहेगा। इसका अपना एक एप भी होगा।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 16 September, 2021
Last Modified:
Thursday, 16 September, 2021
Sansad TV PM Modi

केंद्र सरकार द्वारा संचालित 'लोकसभा टीवी' (LSTV) और 'राज्यसभा टीवी' ( RSTV) चैनल्स का विलय कर बने ‘संसद टीवी’ (Sansad TV) का बुधवार को शुभारंभ हो गया। संसद भवन में आयोजित एक कार्यक्रम में उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने संयुक्त रूप से ‘संसद टीवी‘ का उद्घाटन किया। यह चैनल ‘ओवर द टॉप’ (ओटीटी) प्लेटफॉर्म, सोशल मीडिया और ऐप पर भी होगा।   

इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘आज का दिन हमारी संसदीय व्यवस्था में एक और महत्वपूर्ण अध्याय जोड़ रहा है। आज देश को ‘संसद टीवी’ के रूप में संचार और संवाद का ऐसा माध्यम मिल रहा है, जो देश के लोकतंत्र और जनप्रतिनिधियों की नई आवाज के रूप में काम करेगा। भारत लोकतंत्र की जननी है। भारत के लिए लोकतंत्र केवल एक व्यवस्था नहीं है, एक विचार है। भारत में लोकतंत्र, सिर्फ संवैधानिक स्ट्रक्चर ही नहीं है, बल्कि एक स्पिरिट है। भारत में लोकतंत्र, सिर्फ संविधाओं की धाराओं का संग्रह ही नहीं है, ये तो हमारी जीवन धारा है।’

वहीं, उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने कहा कि संसद लोकतंत्र का दिल है तो मीडिया 'आंख और कान' है। हमें उनका खास ख्याल सुनिश्चित करना होगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस नए चैनल पर वरिष्ठ कांग्रेस नेता डॉ. कर्ण सिंह, अर्थशास्त्री विवेक देबरॉय, नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत व वकील हेमंत बत्रा विभिन्न शो की मेजबानी करेंगे।

रिपोर्ट में कहा गया है कि संसद टीवी एक तरह का जानकारीपरक टीवी चैनल होगा। इस पर राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय दर्शकों को ध्यान में रखते हुए उच्च गुणवत्ता पूर्ण सामग्री का प्रसारण होगा। इसमें खासकर लोकतांत्रिक मूल्यों व देश के संस्थानों को लेकर सामग्री प्रसारित की जाएगी।

भारतीय प्रशासनिक सेवा के सेवानिवृत्त अधिकारी और कपड़ा मंत्रालय के पूर्व सचिव रवि कपूर संसद टीवी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) बनाए गए हैं, जबकि लोकसभा सचिवालय में संयुक्त सचिव मनोज अरोड़ा इसके विशेष कार्याधिकारी (ओएसडी) होंगे। रिपोर्ट्स के मुताबिक, जब संसद का सत्र चलेगा तब संसद टीवी के दो चैनल होंगे, ताकि इन पर लोकसभा व राज्यसभा की कार्यवाही का लगातार प्रसारण हो सके।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए