युवा पत्रकार अक्षय शर्मा ने Zee Hindustan को बोला बाय

मूल रूप से मुजफ्फरनगर के रहने वाले अक्षय शर्मा को राष्ट्रपति स्काउट पुरस्कार से नवाजा जा चुका है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 23 September, 2021
Last Modified:
Thursday, 23 September, 2021
Akshay Sharma

युवा पत्रकार अक्षय शर्मा ने ‘जी हिंदुस्तान‘ (Zee Hindustan) में अपनी पारी को विराम दे दिया है। वह यहां इनपुट टीम में अहम जिम्मेदारी निभा रहे थे। ‘जी हिंदुस्तान‘ में अपने करीब नौ महीने के कार्यकाल में एक से बढ़कर एक स्टोरी अपने चैनल के नाम कीं। अक्षय शर्मा की नई पारी के बारे में फिलहाल जानकारी नहीं मिल सकी है।

अक्षय शर्मा मूलतः पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जनपद मुजफ्फरनगर के रहने वाले हैं। करीब छह वर्षों से नोएडा में रह रहे अक्षय शर्मा की प्रारंभिक शिक्षा से लेकर स्नातक तक शिक्षा मुजफ्फरनगर में ही हुई, जिसके बाद उन्होंने आगे की पढ़ाई के लिए माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय का रुख किया और यहां से परास्नातक की डिग्री प्राप्त कर मीडिया के क्षेत्र में कार्य शुरू किया।

अक्षय शर्मा ने ‘सहारा समय‘ न्यूज चैनल के इनपुट विभाग में कार्य शुरू किया, जहां उन्होंने मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान चुनाव के दौरान महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन किया इसके बाद वरिष्ठ पत्रकार पुण्य प्रसून बाजपेयी की टीम के साथ ‘सूर्या समाचार‘ जॉइन किया, जहां उन्हे गेस्ट को-ऑर्डिनेशन का जिम्मा मिला। लेकिन इस चैनल से अचानक पुण्य प्रसून बाजपेयी की रवानगी के साथ इनको भी रवानगी हुई और फिर अक्षय शर्मा पहुंच गए महाराष्ट्र के तत्कालीन मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के ‘वॉर रूम‘ में। वहां उन्होंने हिंदी कंटेंट राइटर का जिम्मा संभाला और चुनाव होने तक यहां अपनी सेवाएं दीं।

अब अक्षय का अगला पड़ाव था गुरदीप सिंह सप्पल और अमृता राय के चैनल ‘स्वराज एक्सप्रेस‘ में। यहां भी उन्होंने गेस्ट को-ऑर्डिनेशन विभाग में अहम जिम्मेदारी निभाते हुए वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ के कार्यक्रम ‘विनोद दुआ लाइव‘ की जिम्मेदारी संभाली। तकरीबन आठ माह बाद जब संस्थान बंद हो गया तो अक्षय की नई नौकरी की तलाश ‘जी हिंदुस्तान‘ चैनल पर जाकर रुकी। इसके बाद उन्होंने अब यहां से बाय बोल दिया है।

अक्षय शर्मा को राष्ट्रपति स्काउट पुरस्कार से नवाजा जा चुका है। उन्होंने एनसीसी में बटालियन सीनियर की जिम्मेदारी भी निभाई है। वर्ष 2017 में बांग्लादेश में आयोजित फ्रेंडशिप इवेंट में भी अक्षय ने भारत का परचम लहराया था और यहां एशिया पैसिफिक रीजन के मंच पर हिंदी में अपना संबोधन कर वाहवाही लूटी थी।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

कॉमेडी शो 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' को लेकर आयी ये 'गुड न्यूज'

टीवी का मशहूर कॉमेडी शो 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' (Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah) पिछले 13 सालों से दर्शकों का मनोरंजन करता आ रहा है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 14 October, 2021
Last Modified:
Thursday, 14 October, 2021
TarakMehta5454

टीवी का मशहूर कॉमेडी शो 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' (Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah) पिछले 13 सालों से दर्शकों का मनोरंजन करता आ रहा है। अब इस शो के लेकर खबर आयी है कि यह अपने सभी शोज को हफ्ते में 5 दिन कि जगह अब 6 दिन तक प्रसारित करेगा और वह भी नए एपिसोड के साथ। यानी यह शो अब सोमवार से शनिवार तक रात 8.30 बजे प्रसारित किया जाएगा।

हफ्ते में 6 दिन होने वाली मुलाकात कि गुड न्यूज देने के लिए सोनी सब की तरफ से एक खास ‘महासंगम सैटर्डे’ (Mahasangam Saturday) का आयोजन किया गया है, जिसका प्रसारण हर शनिवार को किया जाएगा

हल्‍के-फुल्‍के अंदाज वाला कंटेंट बरसों से ‘सोनी सब’ टीवी की खासियत रही हैं। दुनिया का सबसे लंबा चलने वाला यह कॉमेडी शो 3200 एपिसोड के साथ अपने चौदहवें वर्ष में है। इस सीरियल में नजर आने वाले अनोखे किरदार दर्शकों के चेहरे पर अनोखी मुस्कान लाते हैं। लिहाजा इसको देखने वालों की संख्या 10 मिलियन को पार कर गयी है। साथ ही इश शो के आधिकारिक यू-ट्यूब चैनल को भी दर्शकों से बहुत प्यार और प्रशंसा मिल रही है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

पुनीत गोयनका ने तोड़ी चुप्पी, बोले- पद की नहीं, कंपनी के भविष्य की चिंता

जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज और इनवेस्को के बीच विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा हैं। अब इस विवाद में पहली बार खुद जी के एमडी व सीईओ पुनीत गोयनका का बयान सामने आया है। 

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 14 October, 2021
Last Modified:
Thursday, 14 October, 2021
PunitGoenka5484

जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज और इनवेस्को के बीच विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा हैं। इस विवाद में हर दिन नए पहलू निकलकर सामने आ रहे हैं। पहले जी एंटरटेनमेंट के बोर्ड के सामने रिलायंस के साथ होने वाली डील का प्रजेंटेशन दिया गया। फिर रिलायंस ने खुद कन्फर्म किया कि डील में वह भी पुनीत गोयनका को ही एमडी व सीईओ नियुक्त करना चाहती थी। वहीं, इसके बाद अब इस विवाद में पहली बार खुद  जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड के एमडी और सीईओ पुनीत गोयनका का बयान सामने आया है। 

इनवेस्को मामले पर जी एंटरटेनमेंट के एमडी व सीईओ पुनीत गोयनका ने लिखित बयान जारी कर कहा 'कई बार चुप्पी सबसे बेहतर जवाब होती है। लेकिन, मैंने महसूस किया कुछ मामलों में इसे सही वक्त पर तोड़कर बोलना जरूरी होता है, ताकि सच्चाई सबके सामने आए।'

उन्होंने एक नोट लिखते हुए इस मामले में कुछ बातें जाहिर की हैं। उन्होंने कहा- 'मैं इनवेस्को के साथ चल रहे मुद्दे पर खामोशी को तोड़ने पर विवश हो गया हूं और यही कारण है कि आज मैं यह नोट लिख रहा हूं। मैं हमेशा ही अपनी सभी बातों में पारदर्शी रहा हूं और पारदर्शिता के साथ ही बयान देता हूं। मुझे यह भी उम्मीद है कि इस मामले में यह मेरा पहले और आखिरी बयान होगा, ताकि इसके बाद हम जी की वैल्यू-क्रिएशन जर्नी पर ही फोकस कर सकें।'

गोयनका ने लिखा, 'सबसे पहले मैं बताना चाहता हूं कि इनवेस्को ने कंपनी को ज्यादातर बार काफी मजबूत सपोर्ट दिया है। यह देखकर मुझे दुख होता है कि आज इस रिश्ते में खटास आ गयी है और आज हम सभी इस दुर्भाग्यपूर्ण परिस्थितियों का सामना कर रहे हैं।

उन्होंने आगे कहा कि मेरा आचरण अभद्र लड़ाई में शामिल होने का नहीं है। इस तरह की लड़ाईयां कानूनी विशेषज्ञों द्वारा ही सबसे अच्छी तरह से नियंत्रित की जाती है। मैं केवल इस कंपनी के भविष्य को संरक्षित करने के लिए संघर्ष कर रहा हूं, न कि अपने पद के लिए। ये हम सबकी मेहनत का फल है कि बड़े निवेशक दिलचस्पी दिखा रहे हैं, निवेशक हमसे जुड़ना चाहते हैं, क्योंकि भविष्य बहुत ही अच्छा है। मैं चाहता हूं कि कंपनी का भविष्य और भी अच्छा बने। चाहता हूं कि निवेशकों को अच्छा रिटर्न और वैल्यू मिले। कंपनी और इसके लोग शानदार तरक्की करें ये मेरी इच्छा है। ग्रोथ के साथ में ईमानदारी, पारदर्शिता, पॉजिटिव माहौल भी रहना चाहिए। लेकिन, मौजूदा हालात जिस तरह से बन रहे हैं उसे देखकर निराश हूं।'

गोयनका ने नोट में लिखा, 'मौजूदा लड़ाई का मकसद कंपनी और भी मजबूत बने। हमें यही कोशिश करनी है कि कंपनी के भविष्य पर आंच न आए। हमारी कोशिश है कि शेयरहोल्डर वैल्यू को कोई नुकसान नहीं होना चाहिए। इनवेस्को के साथ जो भी बातचीत थी उसे उजागर करना जरूरी था। इसका मकसद था कि इनवेस्को को लेकर जो भी सच है वो सबके सामने आए। बताना जरूरी था कि इनवेस्को की डील निवेशकों के हित में नहीं थी। प्रस्ताव पर इसलिए राजी नहीं था क्योंकि निवेशकों को नुकसान होता। कंपनी की वैल्यू, निवेशकों के हितों पर किसी भी दबाव से समझौता नहीं कर सकते। बहुत सी और भी बातें हैं जिसे समय आने पर उजागर किया जाएगा। किसी एक के फायदे के लिए कंपनी के हितों पर आंच नहीं आने देंगे।'

इन्वेस्को के रुख को स्वीकार करते हुए गोयनका ने कहा कि इस तरह के प्रस्तावों से जुड़े लेटर हमेशा काफी अच्छे तरीके से लिखे जाते हैं, लेकिन इनका मतलब इसके ठीक विपरीत होता है।

गोयनका ने सवाल किया, ‘मेरे पास भी बहुत सारे बिंदु हैं, लेकिन मेरा पूरा विश्वास है कि इन बिंदुओं को उठाने के लिए एक सही समय और जगह है। हमारे वकील कानूनी तरीके से अदालत में आवश्यक कार्रवाई करेंगे। हालांकि व्यक्तिगत तौर पर, मेरे कुछ सवाल भी हैं। इनवेस्को ने आखिर अपनी योजना को पहले सार्वजनिक क्यों नहीं किया? क्या गुड कॉरपोरेरेट गवर्नेंस के नियम केवल कंपनियों पर ही लागू होते हैं, बड़े निवेशकों पर नहीं?’

गोयनका ने कहा कि इनवेस्को के साथ हुई बातचीत को जी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स सामने रखने का मुख्य कारण सच्चाई को सामने लाना था, जो जी के शेयरहोल्डरों के हित में है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

‘टाइम्स नेटवर्क’ का YuppTV से करार, इस प्लेटफॉर्म पर लॉन्च किए ये दो चैनल

‘टाइम्स नेटवर्क’ भारतीय भाषाओं में अपनी छाप को और मजबूत कर रहा है

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 14 October, 2021
Last Modified:
Thursday, 14 October, 2021
Times Network

‘टाइम्स नेटवर्क’ भारतीय भाषाओं में अपनी छाप को और मजबूत कर रहा है। हाल ही में हिंदी स्पीकिंग मार्केट में दो चैनल की शुरुआत कर वह इसका गवाह भी बना। अब इन चैनलों के जरिए नेटवर्क विदेशो में भी अपनी पकड़ मजबूत कर रहा है, लिहाजा इस कड़ी में उसने ग्लोबल स्तर पर इंटरनेट आधारित टीवी सेवा प्रदान करने वाले ओटीटी कंटेंट ऐप ‘यप्प टीवी’ (YuppTV) से करार किया है।

इस साझेदारी के तहत नेटवर्क ने हिंदी न्यूज चैनल ‘टाइम्स नाउ नवभारत’ (Times Now Navbharat) और हिंदी बिजनेस न्यूज चैनल ‘ईटी नाउ स्वदेश’ (ET NOW Swadesh) को यूएस, कनाडा और प्रमुख अंतरराष्ट्रीय बाजारों में लॉन्च करने की घोषणा की है।

बता दें कि यप्प टीवी दक्षिण-एशियाई कंटेंट प्रदान करने वाला वैश्विक ओटीटी लीडर है जो 14 राष्ट्रीय व क्षेत्रीय भाषाओं में 250 से अधिक लाइव टीवी चैनल और 5000 से ज्यादा फिल्मों की पेशकश करता है। इस ओटीटी प्लेटफॉर्म की लाइब्रेरी में 25000 से भी ज्यादा घंटे का एंटरटेनमेंट कंटेंट है।

   

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इनवेस्को के ओपन लेटर पर ZEE ने दी प्रतिक्रया, Sony के साथ डील पर कही ये बात

जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज के बोर्ड ने अपने सबसे बड़े एकल शेयरधारक इनवेस्को के ओपन लेटर पर अपनी प्रतिक्रिया दी है

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 14 October, 2021
Last Modified:
Thursday, 14 October, 2021
Zee Entertainment

जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज के बोर्ड ने अपने सबसे बड़े एकल शेयरधारक इनवेस्को के ओपन लेटर पर अपनी प्रतिक्रिया दी है और सोनी के साथ डील पर स्पष्टीकरण दिया है। सोनी पिक्चर नेटवर्क्स इंडिया (SPNI) के साथ अपने प्रस्तावित विलय पर, जी एंटरटेनमेंट ने कहा कि वह प्रस्तावित सौदे का मूल्यांकन करने के लिए इनवेस्को को सूचना की आवश्यकता की सराहना करती है।  हालांकि, सोनी के साथ गैर-बाध्यकारी समझौते की सभी प्रमुख शर्तों को लेकर सहमति है। इसके बारे में 22 सितंबर, 2021 को खुलासा किया गया था।

जी ने कहा, ‘यह भी खुलासा किया गया है कि हम सोनी के साथ बाध्यकारी समझौते पर बातचीत की प्रक्रिया में हैं और नियम के अनुसार जरूरी इनवेस्को समेत सभी शेयरधारकों से उनकी मंजूरी के लिये संपर्क किया जाएगा। इससे सभी शेयरधारकों को समझौते की समीक्षा का मौका मिलेगा।’

दरअसल, इनवेस्को ने सोनी पिक्चर नेटवर्क्स इंडिया के साथ विलय पर सवाल उठाया था और कहा था कि संस्थापक परिवार को गैर-प्रतिस्पर्धी माध्यम से अतिरिक्त दो प्रतिशत इक्विटी उपहार में देने की घोषणा की गयी है, जो पूरी तरह से अनुचित लगती है। साथ ही संस्थापक परिवार को अपनी हिस्सेदारी चार प्रतिशत से बढ़ाकर 20 प्रतिशत करने का रास्ता भी प्रदान करती है। इनवेस्को ने कहा था कि जिस तरीके से यह सब किया जा रहा है, इसमें पारदर्शिता का अभाव है।

जी एंटरटेनमेंट ने कहा, ‘इनवेस्को को सोनी के साथ प्रस्तावित डील पर ‘अर्धसत्य’ प्रकाशित करने से बाज आना चाहिए।

जी एंटरटेनमेंट ने नॉन-कॉम्पीट फीस पर सोनी के साथ प्रस्तावित सौदे और प्रमोटर समूह की हिस्सेदारी को 20 प्रतिशत तक बढ़ाने के संबंध में इनवेस्को की आपत्तियों को भी उजागर किया है। जी एंटरटेनमेंट के बोर्ड ने कहा, ‘सोनी डील में जी के प्रमोटर्स को मिलने वाली नॉन-कॉम्पीट फीस एक सेकेंडरी डील है और इसे पब्लिक शेयरहोल्डिंग में नहीं डॉल्यूट किया जा सकता है। इतना ही नहीं, सोनी के साथ डील में प्रमोटर को मिलने वाली शेयरहोल्डिंग, इनवेस्को की तरफ से प्रस्तावित रिलायंस डील से कम है।’

प्रमोटर समूह की हिस्सेदारी 20 प्रतिशत तक बढ़ाने पर इनवेस्को के संदेह के बारे में, जी एंटरटेनमेंट ने कहा कि कंपनी द्वारा जारी सार्वजनिक घोषणा में स्पष्ट रूप से कहा गया है कि प्रमोटर परिवार अपनी हिस्सेदारी को मौजूदा 4 प्रतिशत से बढ़ाकर 20 प्रतिशत करने के लिए स्वतंत्र है।

जी एंटरटेनमेंट ने कहा कि जी के प्रमोटरों के पास मर्जर के बाद बनने वाली नई कंपनी में हिस्सेदारी बढ़ाने का विकल्प खुला रहेगा। प्रमोटर को किसी तरह का अतिरिक्त अधिकार नहीं मुहैया कराया गया है।

जी एंटरटेनमेंट ने कहा कि ऐसा लगता है कि सेबी के एडवाइजरी लेटर में की टिप्पणी को इनवेस्को ने नजरअंदाज कर दिया हैं। जी ने कहा, ‘सेबी एडवाइजरी लेटर में भी यह कहा गया है कि कंपनी ने खामियों को दूर करने के लिए कदम उठाए हैं। इनवेस्को ने सितंबर 2020 में पुनीत गोयनका को दोबारा नियुक्त करने के पक्ष में वोट भी दिया था।’

जी एंटरटेनमेंट  ने आरोप लगाया कि इनवेस्को ने उन्हें आखिरी समय तक यह नहीं बताया कि वह बिना किसी अधिकार के कंपनी के नाम पर सौदेबाजी कर रही हैं। बता दें कि इससे पहले दिन में इनवेस्को ने जी के शेयरहोल्डरों को ओपन लेटर लिखा था।

इनवेस्को ने जी के शेयरधारकों को एक खुले पत्र में मीडिया कंपनी के निदेशक मंडल (बोर्ड) के पुनर्गठन की अपनी मांग भी दोहराई है और कहा कि वह मैनेजिंग डायरेक्टर व सीईओ पुनीत गोयनका और दो अन्य निदेशकों को हटाने के लिए असाधारण आम बैठक (ईजीएम) बुलाने की कोशिश करती रहेगी।

बता दें कि पिछले महीने सोनी ग्रुप की भारत इकाई ने जी को खरीदने के लिए एक गैर-बाध्यकारी समझौते पर हस्ताक्षण किए। प्रस्तावित सौदे में विलय के बाद बनी इकाई में सोनी के पास इंडिया की लगभग 53 प्रतिशत हिस्सेदारी और शेष जी के पास होगी। वहीं इसी डील पर सवाल उठाते हुए इनवेस्को ने कहा था कि जी एंटरटेनमेंट ऐसी डील क्यों करना चाहता है जिससे आम शेयरधारकों के लॉन्ग टर्म इंटरेस्ट की अनदेखी हो रही है।

इनवेस्को ने कहा था कि गैर-प्रतिस्पर्धी (नॉन-कॉम्पीट) माध्यम से संस्थापक परिवार को अतिरिक्त दो प्रतिशत इक्विटी उपहार में देने की घोषणा पूरी तरह से अनुचित है और संस्थापक परिवार को अपनी हिस्सेदारी चार प्रतिशत से बढ़ाकर 20 करने का रास्ता भी खोलती है। इनवेस्को ने कहा था कि इससे दूसरे सभी शेयरधारकों का हिस्सा कम होगा, जिसे हम अनुचित मानते हैं। कम से कम हम यह उम्मीद करेंगे कि एमडी/सीईओ (प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यपालक अधिकारी) अपने पद को तत्काल छोड़ें। इनवेस्को ने बोर्ड और प्रबंधन को जवाबदेह ठहराने और जी में जरूरी बदलाव करने के लिए असाधारण आम बैठक (ईजीएम) बुलाने का इरादा भी जताया था।

बता दें कि जी एंटरटेनमेंट  एंटरप्राइजेज में इनवेस्को ग्रुप की 17.88% हिस्सेदारी है और वह ZEE की सबसे बड़ी शेयरहोल्डर है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

ZEE-इनवेस्को विवाद में नाम आने पर रिलायंस इंडस्ट्री ने कही ये बात

जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड और उसके सबसे बड़े शेयरहोल्डर इनवेस्को के बीच जारी विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 13 October, 2021
Last Modified:
Wednesday, 13 October, 2021
RelianceIndustry45454

जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड और उसके सबसे बड़े शेयरहोल्डर इनवेस्को के बीच जारी विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है और अब जारी विवाद में एक नया मोड़ आ गया है। दरअसल, इनवेस्को ने भारतीय बिजनेसमैन मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) का नाम इस विवाद में घसीट लिया है।

वहीं, इस विवाद में अपना नाम घसीटे जाने पर रिलायंस इंडस्‍ट्रीज ने स्‍पष्‍ट शब्‍दों में कहा है कि इस विवाद में उसका नाम जोड़े जाने वाली मीडिया रिपोर्ट्स सही नहीं हैं। बता दें कि इनवेस्‍को लगातार जी एंटरटेनमेंट के मैनेजिंग डायरेक्टर व सीईओ पुनीत गोयनका को हटाने की मांग कर रही है।

दरअसल, रिलायंस का नाम तब सामने आया, जब पहले जी ने एक पत्र जारी कर यह दावा किया था कि इनवेस्को ने देश के एक बड़े ग्रुप की कंपनियों के साथ डील करने के लिए पुनीत गोयनका पर दबाव बनाने की कोशिश की थी। वहीं, इसके एक दिन बाद इनवेस्को ने जी के प्रमोटर्स पर पलटवार किया और दावा किया कि पुनीत गोयनका और प्रमोटर फैमिली के सदस्यों ने रिलायंस के साथ डील करने की कोशिश की थी।

दूसरी तरफ ZEEL के एमडी और सीईओ पुनीत गोयनका ने मंगलवार को बोर्ड से कहा था कि इस सौदे का प्रस्ताव इनवेस्को लेकर आई थी और अगर यह डील होती तो कंपनी के शेयरधारकों को 10 हजार करोड़ रुपए का नुकसान होता। वहीं इनवेस्को ने अपने बयान में जी के आरोपों का खंडन किया और सवाल उठाया कि वह जी के लिए ऐसी डील क्यों करेगा जिससे शेयरधारकों के दीर्घकालिक हित प्रभावित हों।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस पूरे मामले में रिलायंस इंडस्‍ट्रीज ने कहा है कि उन्हें जी ग्रुप और इनवेस्‍को के बीच चल रहे विवाद में घसीटे जाने पर बेहद खेद है। इससे जुड़ी मीडिया रिपोर्ट्स सही नहीं हैं। कंपनी ने बताया कि फरवरी-मार्च 2021 में इनवेस्‍को ने रिलायंस के प्रतिनिधियों और जी ग्रुप के एमडी पुनीत गोयनका के बीच बातचीत कराने में मदद की थी। हमने अपनी मीडिया प्रॉपर्टीज का जी ग्रुप के साथ अच्छी कीमत पर विलय करने का प्रस्ताव दिया था। इसके चलते विलय होने वाले बिजनेस और जी ग्रुप के सभी शेयरधारकों के फायदे को ध्यान में रखा गया था। रिलायंस हमेशा ही उस कंपनी को अच्‍छे प्रदर्शन के लिए रिवॉर्ड देती है, जिसमें वह निवेश करती है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, रिलायंस इंडस्‍ट्रीज ने यह भी साफ किया कि पुनीत गोयनका को एमडी की तरह काम करते रहने का प्रस्ताव दिया गया था। साथ ही पुनीत गोयनका समेत प्रबंधन को ई-सॉप्‍स (ESOPs) जारी करने का प्रस्‍ताव भी रखा गया था। हालांकि, पुनीत गोयनका और इनवेस्‍को में कुछ प्रिफरेंशियल वारंट को लेकर विवाद हो गया। इनवेस्‍टर्स को लगता है कि फाउंडर्स मार्केट पर्चेस के जरिये लगातार अपनी हिस्‍सेदारी बढ़ाते रह सकते हैं। हम सभी फाउंडर्स का सम्मान करते हैं और कभी भी किसी बदले की भावना से लेनदेन नहीं करते हैं। इसलिए हम इस डील में आगे नहीं बढ़े।

बता दें कि 'जी' ने मंगलवार को खुलासा किया था कि इनवेस्को के प्रतिनिधि अरुण बलानी और भावतोष वाजपेयी ने फरवरी 2021 में कंपनी को एक बड़े भारतीय ग्रुप में मर्ज करने का ऑफर दिया था। इसके मुताबिक गोयनका विलय के बाद बनने वाली कंपनी में एमडी और सीईओ बने रहेंगे। जी ने दावा किया कि गोयनका ने इस ऑफर को ठुकरा दिया था। इनवेस्को ने गोयनका सहित तीन डायरेक्टर्स को हटाने के लिए ईजीएम बुलाने की मांग की थी। इसके लिए उसने 11 सितंबर को एक पत्र लिखा था। फिलहाल यह मामला कोर्ट में विचाराधीन है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

आर्थिक बदहाली से जूझ रहे चैनल पर पड़ी तालिबान की नजर, हो गया बंद

अफगानिस्तान की सत्ता पर तालिबान को काबिज हुए करीब दो महीने हो रहे हैं। इस बीच जो वादे उसने सरकार गठन से पूर्व किए थे, अब वह उसके विपरीत काम कर रहा रहा है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 12 October, 2021
Last Modified:
Tuesday, 12 October, 2021
TV Channel

अफगानिस्तान की सत्ता पर तालिबान को काबिज हुए करीब दो महीने हो रहे हैं। इस बीच जो वादे उसने सरकार गठन से पूर्व किए थे, अब वह उसके विपरीत काम कर रहा रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, तालिबान की तरफ से तमाम चीजों पर लगाए गए प्रतिबंधों का सामना कर रहा अफगानिस्तान का एकमात्र स्पो‌र्ट्स चैनल '3स्पोर्ट' भी अब बंद हो गया है। 

संगठन प्रमुख के हवाले से टोलो न्यूज ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि तालिबानी प्रतिबंधों के अलावा अफगानिस्तान की आर्थिक खस्ताहाली भी चैनल बंद होने की बड़ी वजह है।

वहीं, चैनल के प्रमुख शफीकउल्लाह सलीम पोया ने कहा, 'चैनल का प्रसारण बंद करने की प्रमुख वजह मीडिया, खासकर '3स्पो‌र्ट' चैनल पर लगाया गया प्रतिबंध है। मीडिया सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक मोर्चो पर समस्याओं का सामना कर रहा है।'

पायो ने कहा कि अफगानिस्तान के पत्रकार अपनी ड्यूटी के दौरान कई मुश्किलों का सामना कर रहे हैं। उल्लेखनीय है कि कुछ हफ्ते पहले अफगानिस्तान के करीब 150 मीडिया हाउस बंद हो चुके हैं। इसकी प्रमुख वजह आर्थिक व राजनीतिक संकट रही।

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

जश्न में डूबा ABP न्यूज का लोकप्रिय शो 'सास बहू और साजिश', पूरे किए 18 साल

एबीपी न्यूज (ABP News) के लोकप्रिय शो 'सास बहू और साजिश' (Saas Bahu Aur Saazish) ने आज 18 साल पूरे कर लिए हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 12 October, 2021
Last Modified:
Tuesday, 12 October, 2021
saasbahu544

एबीपी न्यूज (ABP News) के लोकप्रिय शो 'सास बहू और साजिश' (Saas Bahu Aur Saazish) ने आज 18 साल पूरे कर लिए हैं। न्यूज की दुनिया में एंटरटेनमेंट का तड़का आज भले ही लोकप्रियता का पैमाना बन गया हो, लेकिन एबीपी न्यूज ने जब 18 साल पहले ‘सास बहू और साजिश’ की शुरुआत की थी, तब इंडस्ट्री से जुड़े लोगों का मानना था यह एक नयाब और बहुत बड़ा कदम है, जो न्यूज और एंटरटेनमेंट के बीच अंतर को कम करेगा। अपने दर्शकों को टीवी सितारों के साथ जोड़ने में कामयाब यह शो रातों-रात नंबर वन शो बन गया। इसकी कामयाबी का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि न्यूज चैनल का यह शो एंटरटेनमेंट चैनलों के पॉपुलर शो से टक्कर लेने लगा।

वैसे यह शो टेलीविजन इंडस्ट्री में एंटरटेनमेंट की दुनिया के 'बिहाइंड द सीन' को प्रदर्शित करने वाला पहला ऐसा प्रयोग था। पिछले 18 सालों से 'सास बहू और साजिश' मनोरंजन इंडस्ट्री से जुड़े हर शोज और सेलेब्स के तमाम अप्डेट्स हर दिन दर्शकों तक पहुंचाता रहा है। यहां जानकारी के लिए बता दें कि यह शो हर दिन दोपहर 2:30 एबीपी न्यूज पर टेलीकास्ट होता है।

 छोटे परिवार के इस युग में अब टीवी स्टार दर्शकों के परिवार का सदस्य बन गये हैं। बात चाहे जन्मदिन मनाने की हो या शादी की सालगिरह मनाने की या फिर कोई विशेष आयोजन इस शो के जरिये दर्शको को अपने परिवार के नये सदस्य के साथ अपना सुख-दुख बांटने का भी मौका मिलता है। शायद यही वजह है कि पिछले 18 वर्षों से दर्शकों के प्यार से सराबोर इस शो को देशभर में खूब प्यार मिला और इसी प्यार की बदौलत शो ने आज 18 सालों का लंबा सफर पलक झपकते ही तय कर लिया है।

वैसे कई चैनलों ने इस प्रारूप को दोहराने का प्रयास किया, लेकिन कोई भी इसकी कामयाबी और लोकप्रियता की बराबरी नहीं कर पाया। खास बात यह है कि इस शो की एंकर अदिति अरोड़ा सावंत, पिछले 18 वर्षों से इस शो की मेजबानी कर रही है और दर्शकों के दिलों में एक अलग जगह बना ली है। ऐसा इसलिए क्योंकि दर्शक उनकी बॉडी लैंग्वेज और बोलने के अंदाज को खूब पसंद करते हैं।

18 वर्षों की इस यात्रा पर टिप्पणी करते हुए एबीपी नेटवर्क के सीईओ अविनाश पांडे ने कहा कि ‘सास बहू और साजिश सालों से सफल रहा है और ऐसा इसलिए क्योंकि दर्शक व्यक्तिगत स्तर पर कंटेंट से जुड़ने में सक्षम रहे हैं। अदिति अरोड़ा सावंत द्वारा प्रस्तुत मस्ती से भरे और हल्के-फुल्के कंटेंट ने ज्यादा से ज्यादा दर्शकों को अपनी ओर जोड़े रखा। पिछले 18 वर्षों से इस शो को शानदार ढंग से नेविगेट करने के लिए मैं पूरी एसबीएस टीम को बधाई देता हूं और अपने दर्शकों के निरंतर समर्थन के लिए उनका आभारी हूं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

एडिटर संतोष बालकृष्णन का दिल का दौरा पड़ने से निधन

 ‘सूर्या टीवी’ (Surya TV) से करियर की शुरुआत करने वाले संतोष पिछले पांच साल से ‘अमृता’ न्यूज  चैनल के साथ काम कर रहे थे।

Last Modified:
Monday, 11 October, 2021
SanthoshBalakrishnan5484

मलयालम न्यूज चैनल ‘अमृता’ (Amrita) के डेप्युटी न्यूज एडिटर संतोष बालकृष्णन का रविवार को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। तिरुवनन्तपुरम के एक निजी अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली।

46 वर्षीय बालकृष्णन का पार्थिव शरीर सुबह वजुथाकौड स्थित अमृता टीवी के प्रधान कार्यालय लाया गया और बाद में कोच्चि के किझाक्कम्बलम स्थित उनके पैतृक आवास पर ले जाया गया।

 ‘सूर्या टीवी’ (Surya TV) से करियर की शुरुआत करने वाले संतोष पिछले पांच साल से ‘अमृता’ न्यूज  चैनल के साथ काम कर रहे थे। उनके परिवार में पिता बालकृष्णन नायर, माता वलसाला, पत्नी सजिता और बच्चे हरिकृष्णन और पार्वती हैं।

उनका अंतिम संस्कार उनके पैतृक आवास किझाक्कम्बलम में किया गया। मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन और श्रम मंत्री वी शिवनकुट्टी ने संतोष के निधन पर शोक व्यक्त किया है।  

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

17 अक्टूबर को लॉन्च होगा ‘सन टीवी नेटवर्क’ का यह एंटरटेनमेंट चैनल

‘सन टीवी नेटवर्क’ ने अपने घरेलू बाजार दक्षिण भारत के बाहर यह दूसरा चैनल लॉन्च कर रहा है।

Last Modified:
Monday, 11 October, 2021
TV Channel

‘सन टीवी नेटवर्क’ (Sun TV Network) 17 अक्टूबर को अपने रीजनल जनरल एंटरटेनमेंट चैनल ‘सन मराठी’ (Sun Marathi) को लॉन्च करने के लिए पूरी तरह से तैयार है।बता दें कि नेटवर्क अपने घरेलू बाजार दक्षिण भारत के बाहर यह दूसरा चैनल लॉन्च कर रहा है।  इससे पहले इसने फरवरी 2019 में ‘सन बांग्ला’ (Sun Bangla) लॉन्च किया था।

नया चैनल सोमवार से शनिवार तक हर दिन तीन घंटे के अपने ओरिजनल फिक्शन कंटेंट के जरिए चैनल अपना डेब्यू करेगा। छह फिक्शन शो सप्ताह में छह दिन शाम 6.30 बजे से रात 9.30 बजे तक प्रसारित किए जाएंगे। ‘सन मराठी’ का प्राइम-टाइम शाम 6.30 बजे ‘नंदिनी’ (Nandini) के साथ शुरू होगा, इसके बाद ‘सुंदरी’ (Sundari) 7 बजे, ‘जाऊ नको दूर बाबा’ (Jau Nako Dur Baba) 7.30 बजे, ‘अबलाची माया’ (Abhalachi Maya) 8 बजे, ‘कन्यादान’ (Kanyadan) 8.30 बजे और ‘संत गजानन शेगावीचा’ (Sant Gajanan Shegaviche) रात 9 बजे प्रसारित किया जाएगा।

‘सन मराठी’ एक फ्री-टू-एयर चैनल है और डीडी फ्री डिश के अलावा प्रमुख डीटीएच और केबल प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध होगा। बता दें कि मराठी जनरल एंटरटेनमेंट जॉनर के प्रमुख खिलाड़ियों में ‘स्टार प्रवाह’ (Star Pravah), ‘जी मराठी’ (Zee Marathi), ‘कलर्स मराठी’ (Colors Marathi) और ‘सोनी मराठी’ (Sony Marathi) शामिल हैं।

साल 2019 में, सन टीवी नेटवर्क ने आर्थिक मंदी की वजह से ‘सन मराठी’ को  लॉन्च करने से रोक दिया था। वैसे यह चैनल 2019 के अंत तक लॉन्च होने की उम्मीद थी।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

India TV से नाता तोड़कर न्यूज इंडिया पहुंचीं अर्चना सिंह, मिली यह जिम्मेदारी

करीब 14 साल से ‘इंडिया टीवी‘ का चेहरा रहीं न्यूज एंकर अर्चना सिंह अब हिंदी नेशनल न्यूज चैनल ‘न्यूज इंडिया‘ की लॉन्चिंग टीम का हिस्सा बन गई हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Saturday, 09 October, 2021
Last Modified:
Saturday, 09 October, 2021
Archana Singh

करीब 14 साल से ‘इंडिया टीवी‘ का चेहरा रहीं न्यूज एंकर अर्चना सिंह अब हिंदी नेशनल न्यूज चैनल ‘न्यूज इंडिया‘ की लॉन्चिंग टीम का हिस्सा बन गई हैं। अर्चना सिंह ने ‘न्यूज इंडिया‘ में एडिटर (करंट अफेयर्स) के पद पर जॉइन कर लिया है। वह यहां चैनल के प्राइम टाइम का अहम चेहरा होंगी। उनके साथ एक नए शो की प्लानिंग शुरू हो गई है और उसका खाका तैयार हो रहा है। अर्चना सिंह खुद ‘न्यूज इंडिया‘ की टीम के साथ इस नए कॉन्सेप्ट पर दिन-रात काम कर रही हैं।

आपको बता दें ‘न्यूज इंडिया‘ का लोगो नवरात्र के पहले दिन एडिटर- इन-चीफ सरफ़राज सैफी ने लॉन्च किया। चैनल की लॉन्चिंग की तैयारी पूरी हो चुकी है और ड्राई रन शुरू हो चुका है। अर्चना सिंह ने बताया कि जल्द ही ‘न्यूज इंडिया‘खबरों के नए तेवर के साथ लोगों के बीच होगा।

अर्चना सिंह इससे पहले तकरीबन 14 साल तक ‘इंडिया टीवी‘ का प्रमुख चेहरा रहीं। बतौर एंकर और रिपोर्टर अर्चना सिंह ने ‘इंडिया टीवी‘ के साथ कई बड़े शो किए। अपनी इस लंबी पारी में उन्होंने ‘इंडिया टीवी‘ में तमाम अहम जिम्मेदारियां भी संभालीं। अर्चना सिंह ने बताया कि ‘न्यूज इंडिया‘ उनके लिए नई चुनौती है और वो इसे इंज्वॉय कर रही हैं।

टीवी स्क्रीन पर आज के चीखने चिल्लाने वाले दौर में अर्चना सिंह तीखे सवाल सहजता से पूछे जाने के लिए जानी जाती हैं। उन्होंने स्टूडियो से लेकर फील्ड तक बेबाकी से काम किया है। चाहे सामाजिक सरोकार से जुड़े मुद्दे रहे हों या राजनीतिक खबरें, अर्चना सिंह ग्राउंड ज़ीरो पर पहुंच कर रिपोर्ट करने की पक्षधर रही हैं।

उन्होंने कई लोकसभा और विधानसभा चुनाव कवर किए हैं। हाल में बंगाल चुनाव के दौरान उनकी कवरेज को काफी पसंद किया गया। उन्होंने ‘बंगाल डायरी‘ के जरिये सिलीगुड़ी से कोलकाता तक के चुनावी रंग लोगों तक पहुंचाये। अर्चना ने 26/11 मुंबई हमलों के समय 15-15 घंटे एंकरिंग की। गुरुग्राम के प्रद्युम्न मर्डर केस मे संवेदनशील रिपोर्टिंग ने मीडिया के लिए नया मापदंड तैयार किया।

कानपुर की रहने वाली अर्चना को टीवी न्यूज मीडिया में एंकरिंग का करीब बीस साल का अनुभव है। साइंस ग्रेजुएट अर्चना ने पत्रकारिता में पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई की। इन दिनों वह पीएचडी की पढ़ाई भी कर रही हैं। अर्चना ने एंकरिंग करियर का आगाज ‘दूरदर्शन‘ लखनऊ से किया। इसके बाद ‘ईटीवी‘ और ‘जनमत‘ चैनल के शुरुआती सालों को छोड़ दें तो ‘इंडिया टीवी‘ ही उनकी पहचान का हिस्सा बन गया। ज़िंदगी की सबसे लंबी पारी के बाद अर्चना ने सबसे बड़ी चुनौती कबूल की है।

बता दें कि 'न्यूज इंडिया' चैनल के मैनेजिंग एडिटर पशुपति शर्मा और एडोटोरियाल डायरेक्टर मनीष अवस्थी हैं। समाचार4मीडिया की ओर से अर्चना सिंह को नई पारी के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए