यदि खबरें ठीक हैं तो निश्चय ही अच्छे दिन आने वाले हैं। सरकार की नीतियों और सोच को नमन। गड्डों को भरना, अच्छे बसअड्डे, रेलवे स्टेशन, रोड व्यवस्था और क्या चाहिये।

पूरन डावर 1 month ago


पत्रकारिता के फील्ड में जितना हिस्ट्री और राजनीति को समझना जरूरी है, उतना ही भारत की इकनॉमी को समझना भी जरूरी है

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 year ago


किसी भी देश की अर्थव्यवस्था की रीड की हड्डी उद्योग होते हैं। अब उद्योग खड़ा करना लगभग असम्भव हो गया है

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 year ago


अभी तक की खबरों से लगता है कि पाकिस्तान कार्रवाई के नाम पर सिर्फ दिखावा कर रहा है

टीपी पाण्डेय 1 year ago