प्रधानमंत्री की ओर से अभी तक नहीं मिला है कोई जवाब, वरिष्ठ पत्रकार संतोष भारतीय ने मांगा मीडिया बिरादरी का सहयोग

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 week ago


जाने-माने साहित्यकार, पत्रकार और स्तंभकार कमलाकांत त्रिपाठी ने महाकाव्यात्मक शैली का उपन्यास लिखा है

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।। 3 months ago


‘डीडी न्यूज़’ के वरिष्ठ पत्रकार अशोक श्रीवास्तव ज्वलंत मुद्दों को उठाने और उन्हें अंजाम तक पहुंचाने के लिए मशहूर हैं

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।। 3 months ago


युवा लेखक व सामाजिक कार्यकर्ता भास्कर प्रकाश की किताब 'लोकतंत्र का मंदिर संसद भवन'

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।। 11 months ago


दिल्ली के मंडी हाउस स्थित दूरदर्शन भवन के एसी एसी प्लांट में भीषण आग...

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।। 11 months ago


अमेरिका की एक महिला रिपोर्टर सेनिजा पावलोविक को व्हाइट हाउस के नियमों का उल्‍लंघन करते पाया गया है...

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।। 2 years ago


समाचार4मीडिया ब्यूरो ।। पत्रकार का पेशा ही ऐसा है कि सब असली होना चाहिए। फैक्ट बेस्ड। एकदम खरा। नाटक की उसके पेशे में कोई जगह नहीं। पर कुछ पत्रकार जमकर नाटकबाज होते हैं। जब वे पेशे में नाटक नहीं कर पाते तो पेशवर नाटक करने लगते हैं। नवभारत टाइम्स ऑनलाइन के न्यूज एडिटर विवेक आसरी और उनकी नाटकबाज टीम का यही हाल है। ऐंटिमेंटल्स नाम

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।। 3 years ago


समाचार4मीडिया ब्यूरो ।। संसद भवन में आने वाले आगंतुकों को सलाह दी गई है कि वे परिसर में मीडिया से बातचीत नहीं करें। हालांकि इस बात की कोई जानकारी नहीं मिल पायी है कि सरकार ने इस तरह का फैसला क्यों लिया है, लेकिन उम्मीद की जा रही है कि इसके पीछे सुरक्षा एक वजह हो सकती है। लोकसभा सचिवालय की ओर से जारी होने वाले अनौपचारिक प्रवेश

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।। 3 years ago


समाचार4मीडिया ब्यूरो सोचिए ये कितनी बड़ी खबर होती कि पाकिस्तान के उच्चायुक्त को किसी प्रोग्राम में राष्ट्रपति भवन में आमंत्रित किया जाए और बाद में फोन करके मना कर दिया जाए। जिस तरह के सेंसेटिव रिश्ते पाकिस्तान से हमारे हैं, उससे दुनिया भर में देश की बदनामी होती। लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ तो उसकी वजह ये है कि इसमें सरकार का कोई हाथ नहीं था, बुलाया भी

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।। 3 years ago


समाचार4मीडिया ब्यूरो कला, साहित्य और संस्कृति बीट की रिपोर्टिंग मं माहिर पत्रकार आलोक पराड़कर ने एक बार फिर अमर उजाला के साथ अपनी पत्रकारिता की पारी को आगे बढ़ाया है। वे अमर उजाला के लखनऊ एडिशन में बतौर वरिष्ठ संवाददाता जुड़े हैं। ये अमर उजाला के साथ उनकी दूसरी पारी है। करीब दो दशकों से पत्रकारिता कर रहे आलोक ने अपने करियर

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।। 3 years ago