इस कविता के माध्यम से कवि ने जीवन की संभावनाओं और जीने की इच्छाओं पर प्रकाश डाला है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 2 days ago


अक्सर कई लोग कहते हुए मिल जाते हैं कि उनका समय नहीं कटता, लेकिन इसी समय में कितनी चीजें कट जाती हैं, कवि ने अपनी कविता के माध्यम से इसका बखूबी वर्णन किया है

समाचार4मीडिया ब्यूरो 2 months ago


कवि ने इस कविता के माध्यम से देश व समाज कल्याण के लिए कई कार्य करने की इच्छा जताई है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 5 months ago



हिंदी दैनिक ‘हिन्दुस्तान’ के प्रधान संपादक शशि शेखर के पिता व हिंदी ...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 year ago


सामाजिक आलोचना के प्रखर कवि अदम गोंडवी की चर्चित कविताओं में से एक...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 year ago


राजनीति के चढ़ते पारे के साथ सियासी रिश्तों में घुलती नफरत के बीच ‘आजतक’ ने...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 year ago


करीब 20 साल पहले लखनऊ में हमारी मुलाकात नीरज जी से हुई थी। उनके...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 year ago


कवि सम्मेलनों का समृद्धशाली इतिहास लगभग सन 1920 माना जाता हैं...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 year ago


वरिष्ठ कवि विष्णुचन्द्र शर्मा को 12 मई की शाम दिल्ली के सादतपुर एक्सटेंशन स्थित...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 year ago


जाने माने साहित्यकार केदारनाथ सिंह नहीं रहे। पेट में संक्रमण की शिकायत के बाद...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 year ago



उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले में एक सड़क दुर्घटना में वरिष्ठ पत्रकार...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 year ago



<p><strong>समाचार4मीडिया.कॉम ब्यूरो </strong></p> <p>यूपी भाषा संस्थान के अध्यक्ष, पद्मभूषण डॉ. गोपा

समाचार4मीडिया ब्यूरो 4 years ago


समाचार4मीडिया ब्‍यूरो ।। बीबीसी रेडियो 4 (BBC Radio 4) ने भारतीय मूल के दलजीत नागरा को अपना पहला पोएट इन रेजीडेंस (poet in residence) नियुक्‍त किया है। एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अपनी नई भूमिका में नागरा एक साप्‍ताहिक कार्यक्रम में 20वीं सदी की कविताओं के बारे में स्‍टोरी सुनाएंगे। रिपोर्ट के अनुसार इसके अलावा नागरा रेडियो 4 के

समाचार4मीडिया ब्यूरो 4 years ago


<strong>समाचार4मीडिया ब्यूरो</strong> ऐसा पहली बार होगा जब ब्रिटेन की संसद में किसी हिंदी के कवि का सम्मान होगा। वरिष्ठ पत्रकार आैर जाने माने कवि और शायर आलोक श्रीवास्तव को ब्रिटेन की संसद 'हाउस ऑफ कॉमन्स' में 'हिंदी गजल सम्मान' से नवाजा जाएगा। उन्हें यह सम्मान नई पीढ़ी में हिंदी गजल को चर्चित और लोकप्रिय बनाने के लिए दिया जा रहा है। यह सम्मान 'क

समाचार4मीडिया ब्यूरो 4 years ago


यूपी भाषा संस्थान के अध्यक्ष, पद्मभूषण डॉ. गोपालदास नीरज के नाम पर हिंदी और उर्दू विधाओं में काम कर रहे साहित्यकारों को दिया जायेगा। अब इस प्रस्तावित राज्यस्तरीय अवार्ड की रकम दो लाख रुपये होगी। ये फैसला हो चुका है। औपचारिक रूप से अभी नुमाइश कार्यकारिणी की मुहर लगनी शेष है। इसके लिए जल्दी ही मीटिंग बुलाई जाएगी। प्रशासनिक सूत्रों की मानें तो इस पुरस

समाचार4मीडिया ब्यूरो 7 years ago