सूचना:
मीडिया जगत से जुड़े साथी हमें अपनी खबरें भेज सकते हैं। हम उनकी खबरों को उचित स्थान देंगे। आप हमें mail2s4m@gmail.com पर खबरें भेज सकते हैं।

बॉलिवुड एक्ट्रेस को नेटवर्क18 के एडिटर अमिश देवगन ने यूं दिखाया आईना

कई सेलेब्रिटीज ऐसे हैं, जिन्हें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पसंद नहीं और वो पुलवामा की घटना के बाद हुई...

Last Modified:
Thursday, 07 March, 2019
Amish Devgan

समाचार4मीडिया ब्यूरो।।

कई सेलेब्रिटीज ऐसे हैं, जिन्हें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पसंद नहीं और वो पुलवामा की घटना के बाद हुई एयर स्ट्राइक का पूरा क्रेडिट इंडियन एयरफोर्स को दे रहे हैं और वहीं अभिनंदन की पाक से रिहाई का क्रेडिट पूरी तरह पाकिस्तान के पीएम इमरान खान की ‘गुडविल’ को दे रहे हैं। लेकिन मशहूर एक्ट्रेस हुमा कुरैशी का एक ऐसा ही ट्वीट राष्ट्रवादी पत्रकारों में गिने जाने वाले अमिश देवगन को पसंद नहीं आया। उन्होंने हुमा की ट्विटर पर जमकर क्लास लगाई।

अमिश देवगन ‘जी बिजनेस’ के पूर्व एडिटर हैं और फिलहाल ‘न्यूज 18 इंडिया’ में एग्जिक्यूटिव एडिटर के पद पर हैं और सुपरहिट डिबेट शो 'आर-पार' शो के होस्ट हैं। वे साथ ही ‘नेटवर्क 18’ के हिंदी बिजनेस न्यूज चैनल पर भी डिबेट शो ‘टक्कर’ पेश करते हैं। अमिश ऐसे चुनिंदा टीवी पत्रकार हैं, जो मेनस्ट्रीम न्यूज और बिजनेस न्यूज दोनों पर मजबूत पकड़ रखते हुए रोजाना दोनों चैनलों पर शो करते हैं।

हुमा कुरैशी के जिस ट्वीट पर अमिश देवगन ने ऐतराज किया, पहले वो ट्वीट पढ़िए, ‘’India did the right thing by sending out a message that we will not tolerate terrorism. And Pakistan did the right thing by sending our Hero Wing Cmdr #Abhinandan back home! Let’s hope all leaders of India&Pakistan can figure a way to lead us towards peace #NoTerrorism #NoWar’’।

 

साफ था देश मे बहुत से लोगों को ये एप्रोच पसंद नहीं आ रही कि अभिनंदन की रिहाई का क्रेडिट पाकिस्तान को दिया जाए, जेनेवा कन्वेंशन के तहत ये होना ही था और सऊदी अरब व अमेरिका का दवाब बनाने के लिए भारत सरकार ने जो मेहनत की, उसको तो क्रेडिट मिला ही नहीं। इमरान खान को हीरो बना दिया गया, ये भी भूल गए कि हमारे 44 जवानों को पाक परस्त आतंकियों ने ही मारा है, एक अभिनंदन के लिए उन 44 की जानों को भूल जाना भी ठीक नहीं।

ऐसे में अमिश देवगन ने हुमा को जवाब में लिखा, ‘’ Are we forcing war or Pakistan is sponsoring terror war from last 40yrs on mynation . Please restrain yourself when you just type a tweet rather than understanding issue . We are fighting terror war from many decades now @narendramodi has decided not to take any more #JaiHind’’।

 

उसके बाद हुमा कुरैशी ने जवाब में एक टाइप किया हुआ पेज चिपकाया। हालांकि, ये पेज अभी हुमा की टाइम लाइन पर नहीं दिख रहा है, लेकिन अमिश की टाइम लाइन पर जाकर आप देख सकते हैं। जिसमें पहली ही लाइन है- ‘शेम ऑन यू सर’, इस पेज में हुमा ने ये भी लिखा कि आप पीएम मोदी को टैग करके मुझे डराने की कोशिश कर रहे हैं, आप शायद ये सब पब्लिसिटी के लिए कर रहे हैं। तो अमिश ने भी कड़ा जवाब दिया कि पब्लिसिटी वाली बात कहकर तुमने खुद को एक्सपोज कर दिया। हमारा खून खौलता है जब तुम्हारे पीस लवर्स हमारे सैनिकों को मारने के लिए आतंकी भेजते हैं। आतंक के खिलाफ ट्वीट करो, वॉर के खिलाफ नहीं और अपनी पीआर टीम से इसे बेहतरी से समझो।

 

हुमा ने एक और ट्वीट के जरिए ये साबित करने की कोशिश की क्योंकि वो वॉर के खिलाफ हैं और मामले को पूरा नहीं समझती हैं, इसलिए वो पीएम मोदी से और सरकार से रिक्वेस्ट कर रही हैं कि इस मसले को शांतिपूर्ण हल ढूंढें, क्या आप इसीलिए मुझ पर अटैक कर रहें है, क्या आपको इसी से परेशानी है? और इसे बिना बायस के समझिए। तो अमिश देवगन ने जवाब दिया कि पाकिस्तान ने हमारे इतने जवान मार दिए और हम शांतिपूर्ण हल ढूंढें। ये नए दौर का हिंदुस्तान है हुमाजी, घर में घुसेगा भी और मारेगा भी। हालांकि अमिश ये कहना नहीं भूले कि हुमा एक अच्छी एक्ट्रेस हैं। उसके बाद अमिश देवगन ने हुमा कुरैशी को आईना दिखाने की कोशिश करते हुए कुछ ट्वीट और किए।

फिर हुमा को समझाने अशोक पंडित भी मैदान में उतर आए और हुमा के लिए लिखा कि पीस की रिस्वेस्ट मोदी से नहीं, इमरान खाने से करनी चाहिए। शुरुआत पाकिस्तान ने की है, इंडिया ने नहीं और जिन लोगों ने क्राइम किया लेक्चर उनको दो, विक्टिम्स को नहीं। फिलहाल हुमा ने ट्विटर पर इस मसले से ब्रेक ले लिया है, शायद उनको अंदाजा नहीं था कि देश में इस वक्त जो क्रोध उफान पर है, उनकी शांति की ट्वीट और पाकिस्तान की तारीफ इतनी भारी पड़ जाएगी।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

बोले अभिषेक उपाध्याय-ये चैप्टर जितना चर्चा में आएगा, BJP के लिए उतना मुफीद होगा

बीबीसी डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग को लेकर 4 छात्र हिरासत में लिए गए हैं। जामिया यूनिवर्सिटी के चीफ प्रॉक्टर के कहने पर बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग से पहले ये कार्रवाई की है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 25 January, 2023
Last Modified:
Wednesday, 25 January, 2023
BBC

पीएम मोदी पर बनी बीबीसी डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग को लेकर देश में बवाल खड़ा हो गया है। बीबीसी डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग को लेकर जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में भी हंगामा हुआ।

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के कुछ छात्रों ने मंगलवार रात 9 बजे इस डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग का ऐलान किया था। छात्रों ने विरोध प्रदर्शन किया और दावा किया कि जब वे अपने मोबाइल फोन पर डॉक्यूमेंट्री देख रहे थे, तब उन पर हमला किया गया। 

वहीं, इसके बाद अब जामिया यूनिवर्सिटी में बीबीसी डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग को लेकर 4 छात्र हिरासत में लिए गए हैं।

जामिया यूनिवर्सिटी के चीफ प्रॉक्टर के कहने पर बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग से पहले ये कार्रवाई की है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, जामिया की सुरक्षा कड़ी कर दी गयी है।

इस पूरे मसले पर 'एबीपी न्यूज़' के वरिष्ठ पत्रकार 'अभिषेक उपाध्याय' ने एक ट्वीट कर अपनी राय सामने रखी है। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि बीजेपी को मालूम था कि अगर PM मोदी पर बनाई BBC की डॉक्यूमेंट्री बैन होगी तो सबसे पहले वामपंथी चीखेंगे। वे इसे दिखाने पर अड़ जायेंगे। डॉक्यूमेंट्री में गुजरात दंगे का चैप्टर है। ये चैप्टर जितना चर्चा में आएगा, BJP के लिए उतना मुफीद होगा। ये एक "ट्रैप" था जिसमे वामपंथी फंस चुके हैं। 

'एबीपी न्यूज़' के वरिष्ठ पत्रकार 'अभिषेक उपाध्याय' के द्वारा किए गए इस ट्वीट को आप यहां देख सकते हैं। 

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

ब्रजेश मिश्रा की खरी-खरी- यह ‘बिल्डर, अथॉरिटी और पुलिस का ‘यमराज गठजोड़’ है

इस घटना के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ ही एसडीआरएफ व एनडीआरएफ की टीमों को मौके पर जाकर राहत कार्य संचालित करने के निर्देश दिए हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 25 January, 2023
Last Modified:
Wednesday, 25 January, 2023
brajeshmishra

लखनऊ के हजरतगंज क्षेत्र के वजीर हसन रोड पर स्थित एक इमारत के गिरने से बड़ा हादसा हो गया है। इमारत का नाम अलाया अपार्टमेंट है। दरअसल, यह एक पुरानी इमारत थी। हाल ही में आए भूकंप के बाद इमारत में दरारें आ गई थीं। लेकिन किसी ने इस पर गौर नहीं किया। बताया जा रहा है कि करीब 30 से 40 के करीब लोग नीचे मलबे में दब गए।

इस घटना के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इमारत गिरने की दुर्घटना का संज्ञान लेते हुए जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ ही एसडीआरएफ व एनडीआरएफ की टीमों को मौके पर जाकर राहत कार्य संचालित करने के निर्देश दिए हैं। आपको बता दें कि आलिया अपार्टमेंट याजदान बिल्डर ने बनाया था।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक इमारत में कोई रिपेयर वर्क चल रहा था। ड्रिलिंग की आवाज आ रही थी। तभी बिल्डिंग गिरी। इस पूरी घटना पर 'भारत समाचार' के एडिटर-इन-चीफ और वरिष्ठ पत्रकार 'ब्रजेश मिश्रा' ने भी ट्वीट कर अपना रोष प्रकट किया है। उन्होंने ट्विटर पर अपनी राय व्यक्त की है।

उन्होंने लिखा, ऊंची इमारत। कमजोर बुनियाद। न नक्शा पास और न कोई मंजूरी। लखनऊ के हजरतगंज में एक ऐसी ही मल्टीस्टोरी बिल्डिंग ताश के पत्ते माफिक ढह गई। न जाने कितनी जिंदगियां मलबे में है। कुछ खुशकिस्मत बाहर निकल आए। बाकियों के लिए मलबा ही कब्र बन गया है। बिल्डर,अथॉरिटी और पुलिस का "यमराज गठजोड़" है।

वरिष्ठ पत्रकार 'ब्रजेश मिश्रा' द्वारा किए गए इस ट्वीट को आप यहां देख सकते हैं। 

 

 


 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

INS ने की सोशल मीडिया पर खबरों को परखने वाले प्रस्तावित संशोधन को वापस लेने की मांग

INS ने सोशल मीडिया पर केंद्र सरकार से संबंधित खबरों को तथ्यात्मक कसौटी पर रखने के लिए प्रस्तावित सूचना प्रौद्योगिकी नियम-2021 संशोधन प्रारूप पर चिंता व्यक्त की

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 24 January, 2023
Last Modified:
Tuesday, 24 January, 2023
INS874512

इंडियन न्यूजपेपर सोसायटी (आईएनएस) ने सोशल मीडिया पर केंद्र सरकार से संबंधित खबरों को तथ्यात्मक कसौटी पर रखने के लिए प्रस्तावित सूचना प्रौद्योगिकी नियम-2021 संशोधन प्रारूप पर चिंता व्यक्त की और इसे वापस लेने की मांग की है।

आईएनएस ने केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय से   प्रस्तावित नियम वापस लेने के साथ ही खबरों को परखने के वास्ते एक तंत्र बनाने के लिए सभी संबंधित पक्षों से परामर्श करने की मांग की है।

आईएनएस ने केंद्रीय सूचना मंत्रालय के प्रेस सूचना ब्यूरो या केंद्र सरकार द्वारा अधिकृत संस्था के माध्यम से खबरों की तथ्यात्मक परख करने का प्रावधान करने वाले प्रस्तावित नियम की धारा 3 (1) (बी)(5)पर विशेष रूप से चिंता व्यक्त की। सोसायटी का मानना है कि यह नियम भारत में प्रेस के कामकाज को गंभीर रूप से प्रभावित करेगा।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

जयराम रमेश ने दिया रिपोर्टर को धक्का: सुमित अवस्थी ने दी ये सलाह

दिग्विजय सिंह ने सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर कहा कि सरकार ने इसका कोई प्रमाण नहीं दिया है और सरकार झूठ के पुलिंदे पर चल रही है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 24 January, 2023
Last Modified:
Tuesday, 24 January, 2023
SumitAwasthi

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने मंगलवार को सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाते हुए केंद्र सरकार को झूठा करार दिया, जिसके बाद उनके बयान पर सियासी बवाल मचा हुआ है। 

दिग्विजय सिंह ने सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर कहा था कि सरकार ने इसका कोई प्रमाण नहीं दिया है और सरकार झूठ के पुलिंदे पर चल रही है। इसी बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक रिपोर्टर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह से सवाल पूछ रहे है लेकिन पीछे से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश आकर उस रिपोर्टर को रोकने का प्रयास करते है और उसे पीछे धकेल देते हैं। ऐसे में उनके इस रवैये की बड़ी आलोचना हो रही है।

इस वीडियो के सामने आने के बाद वरिष्ठ पत्रकार 'सुमित अवस्थी' ने भी एक ट्वीट कर उन्हें एक नसीहत दी है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, 'जयराम रमेश साहब को मीडिया के माइक पर हाथ मारने और आजतक रिपोर्टर को झटकने की बजाये अपने साथी दिग्विजय सिंह जी को वैसे ही झटकना चाहिए था! क्या वो ऐसा करते किसी को दिखे? अपने घर और घरवालों पर ध्यान देंगे तो बेहतर होता। 

हालांकि राहुल गांधी ने दिग्विजय सिंह के द्वारा दिए गए बयान पर आपत्ति जताई है और उसे पार्टी का बयान नहीं मानने की बात कहीं। उन्होंने कहा कि वो सेना का पूरा सम्मान करते है। इस पर सुमित अवस्थी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि इसे तो राहुल गांधी की दिग्विजय सिंह पर सर्जिकल स्ट्राइक ही कहा जायेगा! वर्ना सरेआम अपनी पार्टी के दिग्गी राजा जैसे बड़े नेता के बयान को ‘हास्यास्पद’ कहकर क्यों उनका माखौल उड़ाते। 

पत्रकार सुमित अवस्थी के द्वारा किए गए ट्वीट को आप यहां देख सकते है-

 

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

दिग्विजय सिंह के इस बयान पर आया राणा यशवंत को गुस्सा! कह दी ये बड़ी बात

दिग्विजय सिंह ने सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर कहा कि सरकार ने इसका कोई प्रमाण नहीं दिया है और सरकार झूठ के पुलिंदे पर ही चल रही है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 24 January, 2023
Last Modified:
Tuesday, 24 January, 2023
ranayashwant

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाकर नए विवाद को जन्म दे दिया है। दिग्विजय सिंह ने सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर कहा कि सरकार ने इसका कोई प्रमाण नहीं दिया है और सरकार झूठ के पुलिंदे पर ही चल रही है।

उन्होंने कहा, 'सर्जिकल स्ट्राइक की बात करते हैं और उन्होंने इतने लोगों को मारा है, लेकिन इसका कोई सबूत नहीं है। 'दिग्विजय सिंह के इस बयान पर अब सियासत तेज हो गई है और बीजेपी भी उनके ऊपर हमलावर है। इसी बीच 'इंडिया न्यूज' के मैनेजिंग एडिटर और वरिष्ठ पत्रकार 'राणा यशवंत' ने ट्वीट कर उनके इस बयान पर हैरानी जताई है।

उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि, दिग्विजय सिंह बयान नहीं देते,रायता फैलाते हैं। आज इनको याद आया कि बालाकोट हमले का सबूत मोदी सरकार ने नहीं दिया। 2019 में ही 14 अगस्त यानी पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस पर तब के पीएम इमरान खान ने कहा था कि सूचना है कि भारत बालाकोट से भी बड़ा हमला कर सकता है, ये सबूत नहीं है?

उन्होंने अपने अगले ट्वीट में लिखा कि जहां तक 2016 की सर्जिकल स्ट्राइक का सवाल है तो उस अभियान पर गए कमांडोज ने मीडिया से बात की थी। पीएम ने उस पर इंटरव्यू दिया था। क्या ये सब सबूत नहीं है? उन्होंने अपने आखिरी ट्वीट में कांग्रेस नेता से पूछा कि क्या आपको सेना पर यकीन नहीं है? 

राणा यशवंत द्वारा किए गए इस ट्वीट को आप यहां देख सकते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

राजनीति के नाम पर विपक्ष को ऐसे ‘आत्मघाती हमलों’ से बचना चाहिए: विनीता यादव

स्वामी प्रसाद मौर्या ने कहा कि कई करोड़ लोग रामचरित मानस को नहीं पढ़ते, सब बकवास है,यह तुलसीदास ने अपनी खुशी के लिए लिखा है।

Last Modified:
Monday, 23 January, 2023
Vinita

गोस्वामी तुलसीदास विरचित 'रामचरितमानस' इस समय विवादों में है। दरअसल बिहार के शिक्षा मंत्री का रामचरितमानस को लेकर बयान का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ था कि समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य ने रामचरितमानस पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है। उन्होंने कहा,  इसके कुछ हिस्से पर मुझे आपत्ति है।

स्वामी प्रसाद मौर्या ने कहा कि कई करोड़ लोग रामचरित मानस को नहीं पढ़ते, सब बकवास है. यह तुलसीदास ने अपनी खुशी के लिए लिखा है। स्वामी प्रसाद मौर्य यहीं नहीं रुके, उन्होंने कहा कि कि सरकार को इसका संज्ञान लेते हुए रामचरित मानस से जो आपत्तिजनक अंश है, उसे बाहर करना चाहिए या इस पूरी पुस्तक को ही बैन कर देना चाहिए।

इसके अलावा उन्होंने ब्राह्मणों को लेकर भी अनुचित बयानबाजी की। उनके इस बयान के बाद वरिष्ठ पत्रकार और डिजिटल न्यूज़ पोर्टल 'न्यूज़ नशा' की संपादक विनीता यादव ने ट्वीट कर उनकी कड़ी आलोचना की है।

उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि विपक्ष को ऐसे आत्मघाती हमलों से बचना चाहिए ,एक तरफ़ अखिलेश जाति समीकरण को मज़बूत करना चाहते हैं दूसरी तरफ़ धर्म पर जाकर ये बीजेपी के लिए काम रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने अपने ट्वीट में यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव को टैग भी किया है।

विनीता यादव के द्वारा किए गए इस ट्वीट को आप यहां देख सकते हैं।

 

 

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

बागेश्वर धाम बाबा पर मचा है बवाल! अमिताभ अग्निहोत्री ने कह दी ये बड़ी बात

लगभग हर मीडिया हाउस के कैमरे उनकी कथा और भक्तों को कवर करने में लगे हुए है। इसके पीछे का कारण बाबा का कथित चमत्कार बना हुआ है।

Last Modified:
Monday, 23 January, 2023
amitabh

बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री इस समय मीडिया की पहली पसंद बने हुए हैं। लगभग हर मीडिया हाउस के कैमरे उनकी कथा और भक्तों को कवर करने में लगे हुए हैं। इसके पीछे का कारण बाबा का कथित चमत्कार बना हुआ है। जाहिर सी बात है कि एक वर्ग इसे पाखंड बता रहा है वहीं दूसरा वर्ग इसे आस्था कह रहा है।

हिन्दू धर्म के कई संगठनों का यह कहना है कि बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री सनातन धर्म का प्रचार प्रसार कर रहे हैं और हिन्दुओं को धर्म परिवर्तन से बचा रहे हैं, जिसके कारण योजनाबद्ध तरीके से उन्हें बदनाम किया जा रहा है। इस पूरे मामले पर टीवी9 उत्तरप्रदेश/उत्तराखंड के सलाहकार संपादक अमिताभ अग्निहोत्री ने भी ट्वीट कर अपनी राय व्यक्ति की है।

उन्होंने लिखा, झाड़ -फूंक, तंत्र- मंत्र, प्रेत बाधा, दैवीय कृपा और गंडा तावीज ये सब धर्मों में व्यावहारिक रूप से प्रचलित है। इनके नाम अलग अलग हो सकते हैं लेकिन ये हैं हर जगह फिर सेलेक्टिव एप्रोच क्यों ?? सवाल उठाने वाले अगर निरपेक्ष और तटस्थ नहीं हैं तो उन्हें गंभीरता से क्यों लिया जाए ?

अमिताभ अग्निहोत्री के द्वारा किए गए इस ट्वीट को आप यहां देख सकते हैं। 

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

कुश्ती पर दंगल को लेकर अंजना ओम कश्यप ने कही ये बात

भारतीय कुश्ती महासंघ के प्रमुख बृजभूषण शरण सिंह पर अब महिलाओं के यौन शोषण के आरोप हैं। डब्ल्यूएफआई प्रमुख बृजभूषण सिंह ने कहा है कि वह शाम को प्रेस वार्ता कर इस साजिश का खुलासा करने वाले हैं

Last Modified:
Friday, 20 January, 2023
anjana

डब्लूएफआई (WFI) यानी भारतीय कुश्ती महासंघ के प्रमुख बृजभूषण शरण सिंह अब मुश्किल में हैं। दरअसल, पहलवान विनेश फोगाट, बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक, अंशु मलिक और रवि दहिया समेत देश के दिग्गज पहलवान सड़कों पर उतर आए हैं और दिल्ली के जंतर-मंतर पर प्रदर्शन कर रहे हैं।

भारतीय कुश्ती महासंघ के प्रमुख बृजभूषण शरण सिंह पर अब महिलाओं के यौन शोषण के आरोप हैं। डब्ल्यूएफआई प्रमुख बृजभूषण सिंह ने कहा है कि वह शाम को प्रेस वार्ता कर इस साजिश का खुलासा करने वाले हैं। वहीं इस पूरे मामले पर हिंदी न्यूज चैनल 'आजतक' की सीनियर एंकर 'अंजना ओम कश्यप' ने भी एक ट्वीट कर अपनी बात कही है।

उन्होंने ट्वीट में लिखा, बृज भूषण शरण सिंह यौन शोषण के गंभीर आरोपों के बाद कुश्ती संघ के अध्यक्ष नहीं बने रह सकते। इस्तीफा हो, निष्पक्ष जांच हो और देश की शान बढ़ाने वाली हमारी बेटियों के आरोप सही साबित होने पर एक एक बच्ची को वीरता पुरस्कार मिलना चाहिए ताकि आने वाले काल में सामने आने के लिए नजीर बने। 

'अंजना ओम कश्यप' के द्वारा किए गए इस ट्वीट को आप यहां देख सकते हैं-

 

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

सचिन पायलट के इस बयान को अशोक श्रीवास्तव ने बताया राजस्थान के CM पर सीधा हमला

कांग्रेस के युवा नेता सचिन पायलट अब आए दिन राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत के इस वर्चस्व को चुनौती देते हुए नजर आते हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 19 January, 2023
Last Modified:
Thursday, 19 January, 2023
sachin4521545

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत के बारे में बहुत कम लोगों को यह बात पता है कि वह 'जादूगरों' के परिवार से आते हैं और इसलिए ही जब वह राजनीति में सफल हुए तो उन्हें 'जादूगर' की संज्ञा दी गई। राजस्थान की राजनीति के बारे में कहा जाता है कि यहां ऐसे-ऐसे जादूगर हैं, जिनकी जादूगरी के आगे सब फीका पड़ जाता है। लेकिन कांग्रेस के युवा नेता सचिन पायलट अब आए दिन उनके इस वर्चस्व को चुनौती देते हुए नजर आते हैं।

राजस्थान में पिछले कुछ समय से लगातार पेपर लीक हो रहे हैं। झुंझुनूं के गुढ़ा में किसान सम्मेलन को संबोधित करते हुए सचिन पायलट ने किसी का नाम तो नहीं लिया, लेकिन 'जादूगर' शब्द का प्रयोग किया। उन्होंने कहा, 'अब ये कहा जा रहा है कि कोई अधिकारी, कोई नेता इसमें लिप्त नहीं था। तो भाई जो एग्जाम की कॉपी होती है, वो तिजोरी में बंद होती है। वो तिजोरी में बंद होकर भी बाहर बच्चों तक पहुंच गई। ये तो जादूगरी हो गई भई, ऐसा कैसे हो सकता है?

उनके इस बयान पर डीडी न्यूज के वरिष्ठ पत्रकार अशोक श्रीवास्तव ने भी ट्वीट कर अपनी राय दी है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘तिजोरी में बंद पेपर क्या जादूगरी से लीक हो गए’ सचिन पायलट का ये बयान सीधा-सीधा अशोक गहलोत पर निजी हमला है, क्योंकि अशोक गहलोत को राजस्थान में राजनीति का जादूगर कहा जाता है।

'अशोक श्रीवास्तव'  के द्वारा किए गए ट्वीट को आप यहां देख सकते हैं-

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

खेल को लेकर हो रही ‘राजनीति’ पर चित्रा त्रिपाठी ने किया ट्वीट, उठाई ये मांग

भारतीय कुश्ती संघ इस समय आरोपों के घेरे में है। दरअसल, विनेश फोगाट ने रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह पर गंभीर आरोप लगा दिए हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 19 January, 2023
Last Modified:
Thursday, 19 January, 2023
ChitraTripathi45210

भारतीय कुश्ती संघ इस समय आरोपों के घेरे में है। दरअसल, विनेश फोगाट ने रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह पर गंभीर आरोप लगा दिए हैं। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान विनेश ने कहा कि अध्यक्ष ने कई लड़कियों का यौन शोषण किया है।

इसके बाद जंतर-मंतर पर देश के कई दिग्गज पहलवान धरने पर बैठ गए हैं, जिनमें बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक और विनेश फोगाट जैसे मेडलिस्ट रेसलर्स के नाम हैं, जिन्होंने देश ही नहीं बल्कि विदेश में भी भारत का नाम रोशन किया है।

वहीं अपनी सफाई में बृजभूषण शरण सिंह ने कहा है कि अगर दोषी हुआ तो फांसी पर लटकने के लिए तैयार हूं। इस पूरे मामले पर 'आजतक' की सीनियर एंकर 'चित्रा त्रिपाठी' ने भी ट्वीट कर अपनी राय व्यक्त की है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, जो आरोप ब्रजभूषण शरण सिंह पर लगे हैं, उन्हें तुरंत अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। खेल की गरिमा उसकी मर्यादा और खिलाड़ी देश के लिये सबसे पहले हैं। जांच होने के बाद जो भी सच होगा, वो सामने आजाएगा। दंगल का मैदान खिलाड़ियों के लिये हर तरह से अनुकूल हो, ताकि ऐसी स्थिति दोबारा ना बनें।'

वरिष्ठ पत्रकार और सीनियर एंकर 'चित्रा त्रिपाठी' के ट्वीट को आप यहां देख सकते हैं-

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए