बॉलिवुड एक्ट्रेस को नेटवर्क18 के एडिटर अमिश देवगन ने यूं दिखाया आईना

कई सेलेब्रिटीज ऐसे हैं, जिन्हें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पसंद नहीं और वो पुलवामा की घटना के बाद हुई...

Last Modified:
Thursday, 07 March, 2019
Amish Devgan

समाचार4मीडिया ब्यूरो।।

कई सेलेब्रिटीज ऐसे हैं, जिन्हें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पसंद नहीं और वो पुलवामा की घटना के बाद हुई एयर स्ट्राइक का पूरा क्रेडिट इंडियन एयरफोर्स को दे रहे हैं और वहीं अभिनंदन की पाक से रिहाई का क्रेडिट पूरी तरह पाकिस्तान के पीएम इमरान खान की ‘गुडविल’ को दे रहे हैं। लेकिन मशहूर एक्ट्रेस हुमा कुरैशी का एक ऐसा ही ट्वीट राष्ट्रवादी पत्रकारों में गिने जाने वाले अमिश देवगन को पसंद नहीं आया। उन्होंने हुमा की ट्विटर पर जमकर क्लास लगाई।

अमिश देवगन ‘जी बिजनेस’ के पूर्व एडिटर हैं और फिलहाल ‘न्यूज 18 इंडिया’ में एग्जिक्यूटिव एडिटर के पद पर हैं और सुपरहिट डिबेट शो 'आर-पार' शो के होस्ट हैं। वे साथ ही ‘नेटवर्क 18’ के हिंदी बिजनेस न्यूज चैनल पर भी डिबेट शो ‘टक्कर’ पेश करते हैं। अमिश ऐसे चुनिंदा टीवी पत्रकार हैं, जो मेनस्ट्रीम न्यूज और बिजनेस न्यूज दोनों पर मजबूत पकड़ रखते हुए रोजाना दोनों चैनलों पर शो करते हैं।

हुमा कुरैशी के जिस ट्वीट पर अमिश देवगन ने ऐतराज किया, पहले वो ट्वीट पढ़िए, ‘’India did the right thing by sending out a message that we will not tolerate terrorism. And Pakistan did the right thing by sending our Hero Wing Cmdr #Abhinandan back home! Let’s hope all leaders of India&Pakistan can figure a way to lead us towards peace #NoTerrorism #NoWar’’।

 

साफ था देश मे बहुत से लोगों को ये एप्रोच पसंद नहीं आ रही कि अभिनंदन की रिहाई का क्रेडिट पाकिस्तान को दिया जाए, जेनेवा कन्वेंशन के तहत ये होना ही था और सऊदी अरब व अमेरिका का दवाब बनाने के लिए भारत सरकार ने जो मेहनत की, उसको तो क्रेडिट मिला ही नहीं। इमरान खान को हीरो बना दिया गया, ये भी भूल गए कि हमारे 44 जवानों को पाक परस्त आतंकियों ने ही मारा है, एक अभिनंदन के लिए उन 44 की जानों को भूल जाना भी ठीक नहीं।

ऐसे में अमिश देवगन ने हुमा को जवाब में लिखा, ‘’ Are we forcing war or Pakistan is sponsoring terror war from last 40yrs on mynation . Please restrain yourself when you just type a tweet rather than understanding issue . We are fighting terror war from many decades now @narendramodi has decided not to take any more #JaiHind’’।

 

उसके बाद हुमा कुरैशी ने जवाब में एक टाइप किया हुआ पेज चिपकाया। हालांकि, ये पेज अभी हुमा की टाइम लाइन पर नहीं दिख रहा है, लेकिन अमिश की टाइम लाइन पर जाकर आप देख सकते हैं। जिसमें पहली ही लाइन है- ‘शेम ऑन यू सर’, इस पेज में हुमा ने ये भी लिखा कि आप पीएम मोदी को टैग करके मुझे डराने की कोशिश कर रहे हैं, आप शायद ये सब पब्लिसिटी के लिए कर रहे हैं। तो अमिश ने भी कड़ा जवाब दिया कि पब्लिसिटी वाली बात कहकर तुमने खुद को एक्सपोज कर दिया। हमारा खून खौलता है जब तुम्हारे पीस लवर्स हमारे सैनिकों को मारने के लिए आतंकी भेजते हैं। आतंक के खिलाफ ट्वीट करो, वॉर के खिलाफ नहीं और अपनी पीआर टीम से इसे बेहतरी से समझो।

 

हुमा ने एक और ट्वीट के जरिए ये साबित करने की कोशिश की क्योंकि वो वॉर के खिलाफ हैं और मामले को पूरा नहीं समझती हैं, इसलिए वो पीएम मोदी से और सरकार से रिक्वेस्ट कर रही हैं कि इस मसले को शांतिपूर्ण हल ढूंढें, क्या आप इसीलिए मुझ पर अटैक कर रहें है, क्या आपको इसी से परेशानी है? और इसे बिना बायस के समझिए। तो अमिश देवगन ने जवाब दिया कि पाकिस्तान ने हमारे इतने जवान मार दिए और हम शांतिपूर्ण हल ढूंढें। ये नए दौर का हिंदुस्तान है हुमाजी, घर में घुसेगा भी और मारेगा भी। हालांकि अमिश ये कहना नहीं भूले कि हुमा एक अच्छी एक्ट्रेस हैं। उसके बाद अमिश देवगन ने हुमा कुरैशी को आईना दिखाने की कोशिश करते हुए कुछ ट्वीट और किए।

फिर हुमा को समझाने अशोक पंडित भी मैदान में उतर आए और हुमा के लिए लिखा कि पीस की रिस्वेस्ट मोदी से नहीं, इमरान खाने से करनी चाहिए। शुरुआत पाकिस्तान ने की है, इंडिया ने नहीं और जिन लोगों ने क्राइम किया लेक्चर उनको दो, विक्टिम्स को नहीं। फिलहाल हुमा ने ट्विटर पर इस मसले से ब्रेक ले लिया है, शायद उनको अंदाजा नहीं था कि देश में इस वक्त जो क्रोध उफान पर है, उनकी शांति की ट्वीट और पाकिस्तान की तारीफ इतनी भारी पड़ जाएगी।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

ट्विटर ला रहा नया फीचर, बताएगा सरकारी मीडिया आउटलेट्स की पहचान

माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर यदि आप किसी को तलाश कर रहे हों तो ये पता लगा पाना काफी मुश्किल होता है कि ये असली अकाउंट है या फिर नकली अकाउंट

Last Modified:
Friday, 07 August, 2020
Twitter

माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर यदि आप किसी को तलाश कर रहे हों तो ये पता लगा पाना काफी मुश्किल होता है कि ये असली अकाउंट है या फिर नकली अकाउंट। इस चक्कर में कई बार आप गलती से नकली सरकारी अकाउंट्स से मिली सूचना का शिकार बन जाते हैं। लिहाजा ट्विटर ने एक बड़ा फैसला लेते हुए कहा कि वो अब सभी सरकारी मीडिया आउटलेट्स, उनके सीनियर स्टाफ और कुछ प्रमुख सरकारी अधिकारियों के अकाउंट्स को लेबल करेगी।

ट्विटर के एक प्रवक्ता के मुताबिक रूस के स्पुतनिक, RT और चीन के सिन्हुआ न्यूज के अकाउंट्स उन मीडिया संगठनों में शामिल हैं जिन्हें ट्विटर द्वारा लेबल किया जाएगा। हालांकि, उन्होंने संस्थाओं की पूरी लिस्ट देने से इनकार कर दिया।

ट्विटर ने ब्लॉग में कहा, 'हम मानते हैं कि अगर कोई मीडिया अकाउंट प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से किसी सरकारी तंत्र से संबंधित है तो लोगों को ये जानने का अधिकार है। कंपनी ने ये भी कहा कि वो अपने रिकमंडेशन सिस्टम के जरिए इन अकाउंट्स या उनके ट्वीट को एम्पलीफाई करना भी बंद कर देगी।

ट्विटर ने सरकार संबंधित मीडिया को परिभाषित करते हुए कहा कि ये वो हैं जहां वित्तीय संसाधनों या राजनीतिक दबाव के जरिए एडिटोरियल कंट्रोल का प्रभावित किया जाता है या प्रॉडक्शन और डिस्ट्रीब्यूशन को कंट्रोल किया जाता है।

ट्विटर ने कहा कि सरकार द्वारा फंडेड लेकिन एडिटोरियल स्वतंत्रता रखने वाले मीडिया आउटलेट्स जैसे- US में NPR या UK में BBC को लेबल नहीं किया जाएगा। ट्विटर के प्रवक्ता ने ये भी कंफर्म किया कि इस लिस्ट में कोई US मीडिया आउटलेट नहीं है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

बिना मास्क के पत्रकार ने पूछा सवाल, शख्स ने कहा- मैं कोरोना पॉजिटिव हूं...

पाकिस्तानी पत्रकारों और न्यूज एंकर्स के वीडियो उनके अजीबों-गरीब हरकतों की वजह से आए दिन सोशल मीडिया पर वायरल होते रहते हैं

Last Modified:
Monday, 20 July, 2020
reporter

पाकिस्तानी पत्रकारों और न्यूज एंकर्स के वीडियो उनके अजीबों-गरीब हरकतों की वजह से आए दिन सोशल मीडिया पर वायरल होते रहते हैं। हालांकि इनमें से अधिकांश वीडियो हंसी का पात्र होते हैं, जबकि कुछ एक ऐसे भी होते हैं जो दुर्भाग्यपूर्ण या अफसोसजनक होते हैं। ऐसा ही ताजा वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जोकि लापरवाही का उदाहरण हैं।

कोरोना वायरस दुनिया भर में फैल गया है, जिसकी वजह से कई लोगों की जान चली गई है। लिहाजा सुरक्षा उपायों को ध्यान में रखते हुए मास्क का इस्तेमाल किया जा रहा है। लेकिन, पाकिस्तान में एक रिपोर्टर को बिना मास्क लगाए रिपोर्टिंग भारी पड़ गई।

दरअसल हुआ यूं कि पाकिस्तान के निजी चैनल 'एआरवाई न्यूज' (ARY News) का रिपोर्टर पेशावर शहर में पेट्रोल की किल्लत पर रिपोर्टिंग कर रहे थे। इसी बीच एक बाइक सवार से उसने पेट्रोल की किल्लत को लेकर सवाल किया तो अंत में उसने जो जवाब दिया उससे रिपोर्टर एकदम से सन्न रह गया। पहले तो उस बाइक सवार ने कहा कि पेट्रोल नहीं मिल रहा है। इसके बाद उसने कहा कि मैं कोरोना पॉजिटिव हूं और अस्पताल जा रहा हूं।

बता दें कि इस वीडियो को अनस मलिक नाम के एक यूजर ने शेयर किया है। अनस मलिक के मुताबिक इस पत्रकार का नाम अदनान तारिक है और वह पेशावर में रिपोर्टिंग करता है। फिलहाल इस वीडियो को लोग जमकर शेयर कर रहे हैं। इनमें से कई लोग का कहना है कि पत्रकार को मास्क मुंह में लगाकर ही रिपोर्टिंग करनी चाहिए थी।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

फेसबुक को झटका, The Walt Disney ने रोके अपने विज्ञापन

फेसबुक की शीर्ष विज्ञापनदाता कंपनियों में से एक ‘द वॉल्ट डिज्नी’ (The Walt Disney Co) ने इस सोशल नेटर्किंग प्लेटफॉर्म के साथ-साथ इंस्टाग्राम पर अपने विज्ञापन खर्च में कटौती कर दी है

Last Modified:
Monday, 20 July, 2020
waltdisney

फेसबुक की शीर्ष विज्ञापनदाता कंपनियों में से एक ‘द वॉल्ट डिज्नी’ (The Walt Disney Co) ने इस सोशल नेटर्किंग प्लेटफॉर्म के साथ-साथ इंस्टाग्राम पर अपने विज्ञापन खर्च में कटौती कर दी है। यह कदम इन प्लेटफॉर्म्स पर घृणास्पद कंटेंट के प्रसार पर कंपनी की निष्क्रियता पर होने वाली चिंताओं के बीच उठाया गया है। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कंपनी ने अपने वीडियो स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म डिज्नी प्लस के विज्ञापन को फेसबुक पर रोक दिया  है और इसने फेसबुक के इंस्टाग्राम प्लेटफॉर्म पर अपने हुलु स्ट्रीमिंग सर्विस के लिए भी विज्ञापनों को रोक दिया है।

डोनाल्ड ट्रंप ने सोशल मीडिया कंपनियों ट्विटर और फेसबुक पर ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ (Black Lives Matter) आंदोलन के प्रदर्शनकारियों को ठग करार दिया था, जिसके बाद ट्रंप की पोस्ट पर कोई एक्शन न लिए जाने पर फेसबुक कर्मचारी अपना गुस्सा ट्विटर पर जाहिर किया था।

रिपोर्ट के मुताबिक, डिज्नी ने इस साल की शुरुआती छमाही में फेसबुक पर डिज्नी प्लस के विज्ञापनों के लिए करीब 21 करोड़ डॉलर खर्च किए हैं और कंपनी ने 15 अप्रैल से 30 जून के बीच इंस्टाग्राम पर हुलु विज्ञापनों के लिए 1.6 करोड़ डॉलर खर्च किए हैं।

इधर, फेसबुक ने अपने बयान में इस बात को दोहराया कि नफरत से लैस विषयसामग्रियों पर अंकुश लगाने के लिए उनके पास करने को कई काम हैं।

वहीं दूसरी तरफ, फेसबुक ने अपने बयान में इस बात को दोहराया है कि नफरत से लैस कंटेंट पर अंकुश लगाने के लिए उनके पास करने को कई काम हैं।

हालांकि, ‘वॉल्ट डिज्नी’ ने  समय सीमा का खुलासा नहीं किया है कि इस सोशल मीडिया प्लेटफार्म्स से दूर रहने का उसका इरादा कब तक है।

‘वॉल्ट डिज्नी’ भी अब उस लिस्ट में शामिल हो गया है, जिसमें हाल ही में एचयूएल, कोका कोला जैसी करीब 90 कंपनियों ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अपने एडवर्टाइज देने बंद कर दिए हैं।  

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

क्रिकेटर ने पत्रकार को थप्पड़ मारने की दी धमकी, ट्विटर ने उठाया ये कदम

इग्‍लैंड के पूर्व क्रिकेटर केविन पीटरसन का एक मजाक उन्हीं पर ही भारी पड़ गया है।

Last Modified:
Monday, 06 July, 2020
Kevin-Pietersen

इग्‍लैंड के पूर्व क्रिकेटर केविन पीटरसन इन दिनों सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव हैं। वे कभी खिलाड़ियों की टांग खींचते हैं, तो कभी दुनिया के स्टार प्लेयर्स के साथ सोशल मीडिया लाइव का अनुभव शेयर करते हैं। यही नहीं वो टिकटॉक स्टार भी बन चुके हैं और ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज डेविड वॉर्नर को टिकटॉक (TikTok) वीडियो के मामले में जमकर टक्कर देते हैं। हालांकि इस बार उनका एक मजाक उन्हीं पर ही भारी पड़ गया है।

केविन पीटरसन के ट्विटर अकाउंट को ब्‍लॉक कर दिया गया है। दरअसल ऐसा इसलिए क्योंकि उन्‍होंने ब्रिटिश पत्रकार को थप्‍पड़ मारने की धमकी दी थी। ब्रिटिश पत्रकार पियर्स मोर्गन ने खुद इसकी जानकारी साझा की है।

मोर्गन ने ट्विटर पर कहा कि ब्रेकिंग... मुझे थप्‍पड़ मारने की धमकी देने के लिए केविन पीटरसन के ट्विटर अकाउंट को ब्‍लॉक कर दिया गया है। हालांकि यह साफतौर से सिर्फ एक मजाक था। मैं परेशानी महसूस नहीं करता। मोर्गन ने यूके ट्विटर से पीटरसन के अकाउंट को अनब्‍लॉक करने की अपील की है।

ट्विटर ने पीटरसन के अकाउंट को ब्‍लॉक करते हुए कहा कि ट्विटर के नियमों का उल्‍लघंन करने पर केविन पीटरसन आपका अकाउंट ब्‍लॉक कर दिया गया है। आपको यह जानना जरूरी है कि बार बार नियमों का उल्‍लंघन करने से हमेशा के लिए आपके अकाउंट को ब्‍लॉक किया जा सकता है। पूर्व इंग्लिश बल्‍लेबाज पीटरसन ने ब्रिटिश पत्रकार को कहा था कि मौका मिलने पर वह उन्‍हें थप्‍पड़ मारेंगे। उन्‍होंने कहा था कि मोर्गन जब मैं तुम्‍हें देखूंगा तो थप्‍पड़ मारूंगा और ये कोई बकवास नहीं होगा।  

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इन दो शॉर्ट फिल्मों के साथ वॉट्सऐप ने भारत में लॉन्च किया अपना पहला ब्रैंड कैंपेन

इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप वॉट्सऐप ने शनिवार को भारतीय मार्केट में अपना पहला ब्रैंड कैंपेन लॉन्च किया है

Last Modified:
Saturday, 04 July, 2020
Whatsapp

इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप वॉट्सऐप (WhatsApp) ने शनिवार को भारतीय मार्केट में अपना ब्रैंड कैंपेन ‘इट्स बिटवीन यू’ (It’s Between You) लॉन्च किया है। इस कैंपेन में इस तरह की रियल स्टोरीज को शामिल किया गया है कि भारत के लोग वॉट्सऐप के माध्यम से किस तरह अपने प्रियजनों के साथ रोजाना संवाद करते हैं। इस कैंपेन के माध्यम से वॉट्सऐप ने गोपनीयता के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को भी दोहराया है कि किस तरह वह ‘एंड टू एंड एनक्रिप्शन’ (end-to-end encryption) के द्वारा अपने यूजर्स की प्राइवेसी और डाटा को सुरक्षित रखता है।   

इस कैंपेन के बारे में फेसबुक इंडिया के मार्केटिंग हेड अविनाश पंत का कहना है, ‘हम विभिन्न लोगों से विभिन्न तरीकों से संवाद करते हैं और और यह हमारे व्यक्तिगत संबंधों का आधार होता है। गोपनीयता के कारण ही लोग खुद को किसी भी प्लेटफॉर्म पर पूरी तरह अभिव्यक्त कर पाते हैं। जब गोपनीयता को गहराई से महसूस किया जाता है, तो रिश्ते अधिक खास और वास्तविक लगते हैं। इन विज्ञापनों में यही बताने की कोशिश की गई है। आप वॉट्सऐप पर चाहे किसी तरह का संवाद करें, यह सिर्फ आपके बीच ही रहने के योग्य हैं और इसलिए हम प्राइवेसी पर ज्यादा ध्यान देते हैं। इसके लिए डिफॉल्ट रूप से एंड टू एंड एनक्रिप्शन भी शामिल किया गया है, ताकि लोगों की बातचीत आपस में उनके बीच ही रहे।’

इस कैंपेन के तहत वॉट्सऐप ने डायरेक्टर गौरी शिंदे और विज्ञापन एजेंसी बीबीडीओ इंडिया के साथ मिलकर एक-एक मिनट की दो विज्ञापन फिल्में बनाई हैं। इन विज्ञापनों में उस तरह के पलों को दिखाया गया है, जो लोग इस प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर अपने प्रियजनों से संवाद करते समय महसूस करते हैं। प्रत्येक फिल्म में बताया गया है कि वॉट्सऐप के फीचर्स जैसे-टेक्स्ट, वीडियो कॉल्स और वॉइस मैसेज कैसे लोगों को आपस में नजदीक लाने में मदद करते हैं।  

इन फिल्मों से जुड़े अनुभव के बारे में गौरी शिंदे ने बताया कि पहली बात तो यह कि मुझे यह आइडिया बहुत पसंद आया, क्योंकि यह हम सभी के लिए पर्सनल ब्रैंड है और हम सब इसे अपने तरीके से इस्तेमाल करते हैं। दूसरी बात यह है कि इन दोनों स्टोरीज ने मेरे दिल को छू लिया। तीसरी बात यह है कि लॉकडाउन के कारण दूर-दूर रहकर शूटिंग करना काफी चुनौतीपूर्ण और रोमांचक था। वहीं, बीबीडीओ इंडिया के सीसीओ और चेयरमैन जोसी पॉल का कहना है कि बीबीडीओ ने इन विज्ञापनों को विकसित करने और तैयार करने में मदद की है। इनमें से एक विज्ञापन बुजुर्ग महिला और उसकी देखभाल करने वाले से संबंधित है, जबकि दूसरा विज्ञापन दो बहनों के बारे में है।

इस कैंपेन के तहत तैयार इन दोनों शॉर्ट फिल्मों को आप यहां देख सकते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

ZEE5 लाया ऐसा शॉर्ट वीडियो शेयरिंग ऐप, भूल जाएंगे TikTok

भारत में 59 चाइनीज ऐप्स को बैन होने कर दिया गया है, जिसके बाद अब ‘मेड इन इंडिया’ ऐप्स की  की डिमांड तेजी से बढ़ी है

Last Modified:
Thursday, 02 July, 2020
ZEE5-HIPI

भारत में 59 चाइनीज ऐप्स को बैन होने कर दिया गया है, जिसके बाद  अब ‘मेड इन इंडिया’ ऐप्स की  की डिमांड तेजी से बढ़ी है। इसी कड़ी में अब ओटीटी प्लेटफॉर्म‘जी5’ (ZEE5) ने अपना शॉर्ट वीडियो शेयरिंग ऐप ‘हाईपाई’ (HiPi) लॉन्च कर दिया है।

बताया जा रहा है कि यह ऐप पूरी तरह से भारतीय है। इसे TikTok का एक बेहतर ऑप्शन माना जा रहा है।

ZEE5 ने इस ऐप को केंद्र सरकार के ‘आत्मनिर्भर भारत’ मूवमेंट के तहत देश में डेवलप किया है। ZEE5 के इस शॉर्ट वीडियो प्लेटफॉर्म ऐप HiPi में कई सारे फीचर्स दिए गए हैं।

HiPi ऐप के नाम को लेकर ZEE5 का कहना है कि यह यूथफुल और केयरफ्री विजन को रिफ्लेट करता है। यह ऐसा प्लेस है जिसमें यूजर अपनी क्रिएटिविटी और फ्रीडम एक्सप्रेस कर सकते हैं। HiPi ऐप में यूजर्स बिना किसी डर के निर्विवाद और अनौपचारिक रूप से अपने पोस्ट शेयर कर सकते हैं। ZEE5 की HiPi ऐप में यूजर्स अपनी क्रिएटिविटी को एक्सप्रेस कर इस प्लेटफॉर्म में टैलेंट को एक्सप्रेस कर सकते हैं। यह ऐप यूजर्स को अपनी क्रिएटिविटी के साथ-साथ स्टारडम को भी दिखाने का एक बेहतर प्लेटफॉर्म साबित हो सकता है।

कंपनी का कहना है कि HiPi में बहुत से एक्साइटिंग फीचर्स है, जिनकी मदद से यूजर्स अपनी क्रिएटिविटी को दिखा सकते हैं। केंद्र सरकार की तरफ से टिकटॉक समेत 59 चाइनीज ऐप्स को भारत में बैन किए जाने के बाद HiPi ऐप यूजर्स के लिए एक बेहतर विकल्प हो सकता है। HiPi ऐप में यूजर्स टिकटॉक की तरह 15 सेकेंड से 90 सेकेंड के वीडियो पोस्ट कर सकते हैं। ZEE5 ने इस ऐप सुपर इंटरटेनमेंट ऐप नाम दिया है जो डिजिटल वीडियो के लिए वन स्टॉप डेस्टिनेशन होगी।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

फेसबुक कुछ यूं ओरिजनल खबरों को देगी प्राथमिकता

सोशल मीडिया की दिग्गज कंपनी फेसबुक अब विश्वसनीय खबरों को बढ़ावा देने के लिए मूल खबरों को प्राथमिकता देगी

Last Modified:
Wednesday, 01 July, 2020
facebook

सोशल मीडिया की दिग्गज कंपनी फेसबुक अब विश्वसनीय खबरों को बढ़ावा देने के लिए मूल खबरों को प्राथमिकता देगी। एक ब्लॉग पोस्ट के जरिए उसने इस बात की जानकारी दी है। ब्लॉग में बताया गया है कि वह अब अपनी न्यूज फीड में उच्चतर पारदर्शी लेखकों के जरिए मूल रिपोर्टिंग को रैंक करेगी। यह फीचर केवल न्यूज कंटेंट पर लागू होगा।

पोस्ट में कहा गया है कि मूल रिपोर्टिंग दुनिया भर के लोगों को सूचित करने, एक न्यूज स्टोरी को ब्रेक करने, गहन खोजबीन के साथ रिपोर्ट बनाने, नए तथ्यों और डेटा को उजागर करने, संकट के समय में महत्वपूर्ण अपडेट साझा करने या फिर आंखो देखी रिपोर्ट प्रसारित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। पोस्ट में कहा गया है कि अच्छी पत्रकारिता वर्षों की मेहनत और विशेषज्ञता से आती है और हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि फेसबुक पर इसे प्राथमिकता दी जाए।

फेसबुक किसी खास विषय पर तमाम आर्टिकल्स को देखकर और अक्सर ओरिजिनल सोर्स के रूप में बताए गए आर्टिकल्स की पहचान कर इस कदम को सुनिश्चित करेगी।

पोस्ट में कहा गया है कि वे पब्लिशर्स जो अपनी वेबसाइट्स पर ऑथर्स और एडिटोरियल स्टाफ के बारे में जानकारी (उनका पूरा नाम) अपडेट नहीं करते हैं, उन्हें चिह्नित किया जाएगा। फेसबुक ने कहा कि ऐसा पाया गया है कि जो पब्लिशर्स इस तरह की जानकारी शेयर नहीं करते हैं, उनमें अकसर पाठकों की विश्वसनीयता की कमी देखने को मिलती है। फेसबुक पर लोग क्या देखना पसंद नहीं करते हैं, इसके बारे में फेसबुक ने बताया कि लोगों को ऐसे कंटेंट या विज्ञापन से नफरत होती है, जो क्लिक करवाकर किसी वेबसाइट पर ले जाकर जाल में फंसाते हैं।

फेसबुक ने इस मुहिम की शुरुआत अंग्रेजी खबरों से की है। हालांकि इसके बाद भविष्य में अन्य भाषाओं में इस सुविधा का विस्तार किया जाएगा।

ब्लॉग में यह भी उल्लेख किया गया है कि इस कदम से मूल खबरों और रिपोर्टिंग का डिस्ट्रीब्यूशन बढ़ेगा। फेसबुक ने इस बात को लेकर आश्वस्त किया है कि इस तरह के अपडेट्स के परिणामस्वरूप डिस्ट्रीब्यूशन के दौरान न्यूज पब्लिशर्स को न्यूज फीड में किसी भी तरह का कोई महत्वपूर्ण बदलाव देखने को नहीं मिलेगा।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

चीन को झटका, Tik Tok, UC ब्राउजर समेत 59 चाइनीज ऐप्स बैन

भारत ने देश में 59 चीनी मोबाइल ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया है। इस लिस्ट में जिन 59 चाइनीज ऐप को प्रतिबंधित किया गया है

Last Modified:
Tuesday, 30 June, 2020
uc5484

भारत ने देश में 59 चीनी मोबाइल ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया है। इस लिस्ट में जिन 59 चाइनीज ऐप्स को प्रतिबंधित किया गया है, उनमें Tik Tok, UC ब्राउजर समेत कई ऐप्स शामिल हैं। कहा गया है कि ये ऐप्स भारत की संप्रभुता और अखंडता, भारत की रक्षा, राज्य की सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था के लिए हानिकारक हैं।

इन ऐप की वजह से डेटा पर सुरक्षा को लेकर चिंता जतायी जा रही थी। सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की धारा 69 ए के तहत सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने इन ऐप्स को बैन करने का फैसला लिया है।

प्रतिबंधित किए गए ऐप्स की लिस्ट आप यहां देख सकते हैं-

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

शेफ विकास खन्ना ने BBC एंकर की बोलती कुछ यूं की बंद, जवाब के लोग हो गए कायल

भारतीय मिशेलिन स्टार शेफ विकास खन्ना अपनी रोजमर्रा की जिम्मेदारियों से हटकर इन दिनों समाज सेवा पर अपना ध्यान केंद्रित कर रहे हैं

Last Modified:
Monday, 29 June, 2020
bbc-vikas

भारतीय मिशेलिन स्टार शेफ विकास खन्ना अपनी रोजमर्रा की जिम्मेदारियों से हटकर इन दिनों समाज सेवा पर अपना ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। अमेरिका में रहते हुए, उन्होंने भारत में लॉकडाउन के दौरान गरीबों की मदद की। अपने 'फीड इंडिया’ अभियान के तहत वे अमेरिका से भारत में हजारों गरीबों को भोजन प्रदान कर रहे हैं। हालाकिं इन दिनों विकास खन्ना सुर्खियों में हैं और इसकी वजह बीबीसी को दिया उनका एक इंटरव्यू है, जिसका एक हिस्सा सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। इस इंटरव्यू में ‘भूख’ को लेकर पूछे गए एक सवाल पर उनके द्वारा दिए जवाब की प्रशंसा कर रहे हैं, क्योंकि उनका जवाब सुनने के बाद एंकर की ही बोलती बंद हो गई।

बीबीसी के साथ एक इंटरव्यू में विकास खन्ना अपने इस अभियान के बारे में बात कर रहे थे। इसी बीच बीबीसी एंकर ने उनसे पूछा, ‘अब आप एक प्रसिद्ध शेफ के रूप में जाने जाते हैं। आपने ओबामा के लिए कुक किया। आपने विश्व प्रसिद्ध शेफ गॉर्डन रामसे के शो में अभिनय किया। भले ही आपकी यात्रा एक गरीब परिवार से शुरू हुई हो, लेकिन आपने बहुत कुछ हासिल किया है। क्या आपके अंदर भूख के प्रति जागरूकता भारत में भूख को देखकर आई है?  

इस सवाल पर विकास खन्ना ने जवाब दिया कि उनकी भूख की समझ भारत से नहीं, बल्कि न्यूयॉर्क से आई है। उन्होंने कहा, ‘नहीं, मेरी भूख की समझ भारत से नहीं आई क्योंकि मैं अमृतसर में पैदा हुआ और पला-बढ़ा। वहां बड़े कम्युनिटी किचन (लंगर) में सबको खाना मिलता है। जहां पूरा शहर खा सकता है, लेकिन मेरी भूख की समझ न्यूयॉर्क से आई। एक ब्राउन किड के लिए अमेरिका में ऊंचे सपनों के साथ आना आसान नहीं है। 9/11 के बाद हमें जॉब मिलना और भी कठिन था। जब मैं न्यूयॉर्क आया तो संघर्ष के दिनों में यहां मैंने भूख का सही मतलब जाना। 

अब उनके इसी जवाब की एक वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है, जिसमें लोग विकास खन्ना के शांत तरीके से दिए गए जवाब की तारीफ कर रहे हैं।

 

 

 

 

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अब बोलने पर काम करेगा ट्विटर का ये नया फीचर

फिलहाल यह सुविधा सिर्फ आईओएस फोन पर सीमित लोगों के लिए उपलब्ध है, जल्द ही इसे सभी आईओएस फोन धारकों के लिए उपलब्ध करा दिया जाएगा

Last Modified:
Friday, 19 June, 2020
Twitter

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर (Twitter) अपने यूजर्स के लिए एक नया फीचर लेकर आया है। इस फीचर की मदद से यूजर्स अब ऑडियो ट्वीट्स भी पोस्ट कर सकते हैं। प्रत्येक वॉइस ट्वीट में 140 सेकेंड्स तक का ऑडियो पोस्ट किया जा सकता है। फिलहाल यह सुविधा आईओएस (IOS) फोन धारकों के लिए शुरू की गई है।

ट्विटर ने एक ब्लॉग पोस्ट के माध्यम से इस नए फीचर की घोषणा की है। इस ब्लॉग में कहा गया है, ‘हम एक नए फीचर की टेस्टिंग कर रहे हैं। इसमें आप अपनी आवाज में ट्वीट पोस्ट कर सकते हैं। अपनी आवाज में ट्वीट करना लगभग वैसे ही होगा जैसे आप टेक्स्ट ट्वीट करते हैं। इसके लिए सबसे पहले स्टार्ट पर जाना होगा, फिर ट्वीट कंपोजर ओपन करना होगा और नए आइकॉन पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपको बॉटम में रिकॉर्ड बटन के साथ आपका प्रोफाइल फोटो दिखाई देगा। इस बटन को दबाकर आप अपनी आवाज रिकॉर्ड कर सकते हैं।’

ब्लॉग के अनुसार, प्रत्येक वॉइस ट्वीट में 140 सेकेंड्स तक का ऑडियो रिकॉर्ड किया जा सकता है। यदि किसी को और ज्यादा कुछ कहना है तो इसके लिए भी सुविधा दी गई है। इसके तहत पहले ट्वीट की 140 सेकेंड्स की समय सीमा पूरी होने पर अपने आप एक नया ट्वीट स्टार्ट हो जाएगा। एक बार आपकी बात पूरी होने पर ‘Done’ बटन पर क्लिक कर आप रिकॉर्डिंग को खत्म कर सकते हैं और ट्वीट करने के लिए कंपोजर स्क्रीन पर वापस जा सकते हैं। लोग आपके वॉइस ट्वीट को अन्य ट्वीट्स के साथ उनकी टाइम लाइन पर देख सकेंगे। इस ट्वीट को सुनने के लिए इमेज पर क्लिक करना होगा। इसके बाद यह आपकी टाइम लाइन में नीचे एक नई विंडो में सुनाई देने लगेगा। आप अपने फोन पर कोई दूसरा काम करते हुए भी इसे सुन सकते हैं।

बताया जाता है कि वॉइस ट्वीट की यह सुविधा अभी सिर्फ आईओएस फोन पर सीमित लोगों के लिए उपलब्ध है, लेकिन आने वाले दिनों में आईओएस फोन धारक कोई भी व्यक्ति अपनी आवाज में ट्वीट कर सकेगा।

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए