नए साल में अब रेडियो इंडस्ट्री की उम्मीदों को कुछ यूं लगेंगे 'पंख'

नई उम्मीदों को लेकर नया साल शुरू हो चुका है। रेडियो इंडस्ट्री को भी नए साल से तमाम उम्मीदें हैं

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 07 January, 2020
Last Modified:
Tuesday, 07 January, 2020
Radio Industry

नई उम्मीदों को लेकर नया साल शुरू हो चुका है। रेडियो इंडस्ट्री को भी नए साल से तमाम उम्मीदें हैं। रेडियो इंडस्ट्री के वर्तमान हालात पर नजर डालें तो ‘फिक्की फ्रेम्स-ईवाई रिपोर्ट’ (FICCI Frames-EY report) के अनुसार, देश में 70 प्रतिशत से ज्यादा रेडियो कंटेंट मोबाइल पर सुना जाता है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि मेट्रो शहरों में 10 में से सात, जबकि गैर मेट्रो शहरों में 10 में से छह व्यक्ति सफर करते समय मोबाइल फोन पर रेडियो सुनते हैं। रेडियो सुनने वालों के इस बढ़ते हुए ट्रेंड को देखकर एडवर्टाइजर्स भी उसी के अनुसार अपनी रणनीति तय करेंगे। पिछले साल की बात करें तो रेडियो स्टेशनों द्वारा कई सफल कैंपेन चलाए गए। इनमें ‘92.7 बिग एफएम’ द्वारा ‘धुन बदलके तो देखो’ भी शामिल रहा। खास बात यह रही कि मात्र चार मेट्रो शहरों में ही 1.84 करोड़ श्रोताओं तक इसकी पहुंच हो गई।

कुछ स्टेशन न सिर्फ एडवर्टाइजर्स को विज्ञापनों के लिए प्लेटफार्म उपलब्ध कराते हैं, बल्कि वे ऑन ग्राउंड एक्टिविटीज और डिजिटल कैंपेन के द्वारा क्रिएटिव सॉल्यूशंस भी उपलब्ध कराते हैं। हमारी सहयोगी वेबसाइट ‘एक्सचेंज4मीडिया’ (exchange4media) ने रेडियो इंडस्ट्री के दिग्गजों से वर्ष 2019 की चुनौतियों और इस साल की उम्मीदों के बारे में विस्तार से बातचीत की।

‘रेड एफएम’ (RED FM) के नेशनल मार्केटिंग हेड रजत उप्पल का कहना है कि रेवेन्यू के हिसाब से देखें तो अन्य माध्यमों की तरह रेडियो के लिए साल 2019 काफी मुश्किलों भरा रहा है। उप्पल के अनुसार, ‘इस मुश्किल समय ने चुनौतियों का सामना करने के लिए रेडियो ब्रैंड्स को कुछ अलग हटकर सोचने व करने के लिए मजबूर किया है। रेडियो इंडस्ट्री ने ब्रैंड को विस्तार देने के साथ ही विभिन्न वर्टिकल्स पर काम करना शुरू कर दिया है, जिससे अतिरिक्त रेवेन्यू जुटाया जा सके। रेड एफएम की बात करें तो हमने इस बात पर जोर दिया है कि हम एंटरटेनमेंट ब्रैंड हैं, न कि सिर्फ रेडियो ब्रैंड हैं। हमने अपने ईवेंट्स और एक्टिवेशन बिजनेस को मजबूती देने के साथ ही अपनी डिजिटल पहुंच को भी बढ़ाया है। हमारा मानना है कि इस तरह से आने वाले समय में हमारी ग्रोथ होगी।’  

रेडियो इंडस्ट्री में पिछले साल आए ट्रेंड्स के बारे में ‘रिलायंस ब्रॉडकास्‍ट नेटवर्क लिमिटेड’ (RBNL) के सीईओ अब्राहम थॉमस का कहना है कि  चुनौतियों व सफलता के मामले में साल 2019 रेडियो इंडस्ट्री के लिए काफी उतार-चढ़ाव वाला रहा है। थॉमस के अनुसार, ‘कई ब्रैंड्स ने स्थानीय स्तर पर रेडियो की पहुंच का फायदा उठाया और इसका असर उनकी सेल्स पर भी पढ़ा, जबकि कुछ इससे भी आगे बढ़ गए और उन्होंने मार्केटिंग पार्टनरशिप की दिशा में कदम आगे बढ़ाया। रही बात वर्ष 2020 की तो मेरा मानना है कि इस साल रेडियो की पहुंच के साथ इसका प्रभाव और बढ़ेगा। यह ब्रैंड्स के लिए नए जमाने का ‘ऑडियो एंटरटेनमेंट’ प्लेटफार्म बनेगा और यह इंडस्ट्री नए आयाम छुएगी।’   

रेडियो द्वारा चलाए गए उन अभियानों के बारे में, जिन्होंने वर्ष 2019 में काफी प्रभाव डाला, ‘रेडियो सिटी’ के सीईओ अशित कुकियन ने कहा कि अपने ब्रैंड की विचारधारा ‘रग रग में दौड़े सिटी’ पर चलते हुए रेडियो सिटी हमेशा से अपने श्रोताओं से मजबूत संबंध बनाने के लिए नई पहल करने में आगे रहा है। यह श्रोताओं को प्लेटफार्म भी उपलब्ध कराता है, जहां पर वे अपनी बात रख सकते हैं। इसके अलावा इन पहल के द्वारा श्रोताओं में विभिन्न मुद्दों पर जागरूकता फैलाने का काम भी किया जाता है। कुकियन के अनुसार, ‘देश के पहले और सबसे बड़े सिंगिंग टैलेंट हंट,रेडियो सिटी सुपर सिंगर के 11वें सीजन के साथ ही रेडियो सिटी ने 39 शहरों में 69 मिलियन श्रोताओं तक अपनी पहुंच बना ली है। हमने नए-नए गायकों को एक प्लेटफार्म दिया है, ताकि वे देश के सामने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर सकें। यही नहीं, विभिन्न जॉनर और भाषाओं के संगीतकारों को सम्मानित करने के लिए रेडियो सिटी फ्रीडम अवॉर्ड्स भी शुरू किए गए हैं। सिर्फ यही नहीं, समाज में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए भी रेडियो सिटी की ओर से तमाम कैंपेन चलाए गए हैं।’

आने वाले समय में रेडियो इंडस्ट्री के बड़े बदलावों के बारे में कुकियन ने कहा, ‘वैश्विक रूप से देखें तो रेडियो प्लेयर्स द्वारा इंटरनेट रेडियो की शक्ति का इस्तेमाल किया जाएगा, यह यूजर्स की रेडियो सुनने की आदतों के आधार पर प्लेलिस्ट तैयार करने में मददगार होगा। रेडियो कंपनियां प्रोग्रामैटिक एडवर्टाइजिंग और एक्सक्लूसिव कंटेंट के इस्तेमाल को बढ़ाने पर फोकस करेंगी। वे टार्गेट ऑडियंस के साथ ही ब्रैंड कनेक्ट को और मजबूती देंगी। जहां तक रीजनल प्लेयर्स की बात है तो मेरा मानना है कि अपनी पहुंच को विस्तार देने और एडवर्टाइजिंग रेवेन्यू को बढ़ाने के लिए वे बड़े प्लेयर्स के साथ स्ट्रैटेजिक पार्टनरशिप करेंगे।’

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक,ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

किस शहर में कौन से रेडियो FM का रहा बोलबाला, पढ़ें यहां

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 29 से 32वें हफ्ते (12 जुलाई से 08 अगस्त) के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स1 जारी हो गई हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Saturday, 26 September, 2020
Last Modified:
Saturday, 26 September, 2020
Radio FM

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 29 से 32वें हफ्ते (12 जुलाई से 08 अगस्त) के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM)  रेटिंग्‍स जारी हो गई हैं। इन रेटिंग्स के अनुसार, मुंबई और दिल्ली के मार्केट में ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) का वर्चस्व बना रहा है, जबकि बेंगलुरु में ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) और कोलकता में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहे हैं।

मुंबई में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 12.2 मिलियन श्रोताओं में ‘फीवर एफएम’ का मार्केट शेयर 17.5 प्रतिशत रहा है। श्रोताओं की हिस्सेदारी में ‘रेडियो मिर्ची’ 14.2 प्रतिशत शेयर के साथ दूसरे स्थान पर रहा। 13.9 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर है। सुबह 11 बजे से दोपहर 12 बजे तक यहां रेडियो सबसे ज्यादा सुना गया।

दिल्ली के मार्केट की बात करें तो 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 16.5 मिलियन श्रोताओं में 18.7 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ इस लिस्ट में पहले नंबर पर रहा है। दिल्ली के मार्केट में 14.9 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ दूसरे नंबर पर और 13.5 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेड एफएम’ तीसरे नंबर पर रहा है। यहां श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच रही।

वहीं, बेंगलुरु के 5.3 मिलियन श्रोताओं में 29.5 प्रतिशत लोगों ने ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) को सुना और यह इस लिस्ट में टॉप पर रहा। ‘बिग एफएम’ (Big FM) 24.3 प्रतिशत के साथ दूसरे और ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) 14.4 प्रतिशत के साथ तीसरे स्थान पर रहा। यहां सुबह 8 से 9 बजे के बीच श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा थी।

अब कोलकाता के मार्केट को देखें तो यहां एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोताओं में से 28.6 प्रतिशत श्रोताओं ने ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) को सुना और यह लिस्ट में टॉप पर रहा। 26.5 प्रतिशत श्रोताओं के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर है, जबकि ‘रेड एफएम’ इस लिस्ट में 15 प्रतिशत के साथ तीसरे नंबर पर है। सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच श्रोताओं की संख्या यहां सबसे ज्यादा रही है। इस अवधि में बेंगलुरु और कोलकाता के लोगों ने सबसे ज्यादा रेडियो सुना। कोलकाता के सिवाय इन मेट्रो सिटीज में घर से बाहर रेडियो सुनने वालों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

किस मार्केट में कौन से रेडियो FM का रहा जलवा, जानें यहां

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 28 से 31वें हफ्ते (28 जून से 25 जुलाई) के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 16 September, 2020
Last Modified:
Wednesday, 16 September, 2020
RADIO FM

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 28 से 31वें हफ्ते (28 जून से 25 जुलाई) के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM)  रेटिंग्‍स जारी हो गई हैं। इन रेटिंग्स के अनुसार, मुंबई और दिल्ली के मार्केट में ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) का वर्चस्व बना रहा है, जबकि बेंगलुरु में ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) और कोलकता में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहे हैं।

मुंबई में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 12.2 मिलियन श्रोताओं में ‘फीवर एफएम’ का मार्केट शेयर 17.6 प्रतिशत रहा है। श्रोताओं की हिस्सेदारी में ‘रेडियो मिर्ची’ 14.1 प्रतिशत शेयर के साथ दूसरे स्थान पर रहा। 13.8 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर है। सुबह 11 बजे से दोपहर 12 बजे तक यहां रेडियो सबसे ज्यादा सुना गया।

दिल्ली के मार्केट की बात करें तो 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 16.5 मिलियन श्रोताओं में 18.7 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ इस लिस्ट में पहले नंबर पर रहा है। दिल्ली के मार्केट में 15.4 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ दूसरे नंबर पर और 13.5 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेड एफएम’ तीसरे नंबर पर रहा है। यहां श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच रही।

वहीं, बेंगलुरु के 5.3 मिलियन श्रोताओं में 29.4 प्रतिशत लोगों ने ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) को सुना और यह इस लिस्ट में टॉप पर रहा। ‘बिग एफएम’ (Big FM) 24.3 प्रतिशत के साथ दूसरे और ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) 15.5 प्रतिशत के साथ तीसरे स्थान पर रहा। यहां सुबह 8 से 9 बजे के बीच श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा थी।

अब कोलकाता के मार्केट को देखें तो यहां एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोताओं में से 28.7 प्रतिशत श्रोताओं ने ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) को सुना और यह लिस्ट में टॉप पर रहा। 26.7 प्रतिशत श्रोताओं के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर है, जबकि ‘रेड एफएम’ इस लिस्ट में 14.5 प्रतिशत के साथ तीसरे नंबर पर है। सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच श्रोताओं की संख्या यहां सबसे ज्यादा रही है। इस अवधि में बेंगलुरु और कोलकाता के लोगों ने सबसे ज्यादा रेडियो सुना। चारों मेट्रो सिटीज में घर से बाहर रेडियो सुनने वालों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

जानिए, किस शहर में कौन से रेडियो FM की रही धूम

दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 27 से 30वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्सम जारी हो गई हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 09 September, 2020
Last Modified:
Wednesday, 09 September, 2020
Radio FM

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 27 से 30वें हफ्ते (28जून-25 जुलाई 2020) के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM)  रेटिंग्‍स जारी हो गई हैं। इन रेटिंग्स के अनुसार, मुंबई और दिल्ली के मार्केट में ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) का वर्चस्व रहा है, जबकि बेंगलुरु में ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) और कोलकता में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहे हैं।

मुंबई मार्केट में 12.2 मिलियन श्रोताओं के बीच ‘फीवर एफएम’ का मार्केट शेयर 17.8 प्रतिशत रहा है। श्रोताओं की हिस्सेदारी में ‘रेडियो मिर्ची’ 14.1 प्रतिशत शेयर के साथ दूसरे स्थान पर रहा। 13.7 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर है। सुबह 11 बजे से दोपहर 12 बजे तक यहां रेडियो सबसे ज्यादा सुना गया।

अब दिल्ली की बात करें तो यहां के 16.5 मिलियन श्रोताओं में 19.1 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ पहले नंबर पर रहा है। दिल्ली के मार्केट में 15.6 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ दूसरे नंबर पर और 13.5 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेड एफएम’ तीसरे नंबर पर रहा है। सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच यहां श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा थी।

वहीं, बेंगलुरु के 5.3 मिलियन श्रोताओं में 29.9 प्रतिशत लोगों ने ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) को सुना और यह इस लिस्ट में टॉप पर रहा। ‘बिग एफएम’ (Big FM) 23.8 प्रतिशत के साथ दूसरे और ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) 16.4 प्रतिशत के साथ तीसरे स्थान पर रहा। यहां सुबह 8 से 9 बजे के बीच श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा थी।

अब कोलकाता के मार्केट को देखें तो यहां एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोताओं में से 28.6 प्रतिशत श्रोताओं ने ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) को सुना और यह लिस्ट में टॉप पर रहा। 26.5 प्रतिशत श्रोताओं के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर है, जबकि ‘रेड एफएम’ इस लिस्ट में 13.6 प्रतिशत के साथ तीसरे नंबर पर है। सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच और शाम को सात से आठ बजे के बीच श्रोताओं की संख्या यहां सबसे ज्यादा रही है।

बता दें कि इस अवधि के दौरान बेंगलुरु और कोलकाता के लोगों ने सबसे ज्यादा रेडियो सुना। चारों मेट्रो सिटीज में घर से बाहर रेडियो सुनने वालों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

जानिए, किस रेडियो FM का बजा कौन से शहर में डंका

दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 26 से 29वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्सम जारी हो गई हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 04 September, 2020
Last Modified:
Friday, 04 September, 2020
Radio

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 26 से 29वें हफ्ते (21 जून से 18 जुलाई) के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM)  रेटिंग्‍स जारी हो गई हैं। इन रेटिंग्स के अनुसार, मुंबई और दिल्ली के मार्केट में ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) का वर्चस्व रहा है, जबकि बेंगलुरु में ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) और कोलकता में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहे हैं।

मुंबई मार्केट में 12.2 मिलियन श्रोताओं में ‘फीवर एफएम’ का मार्केट शेयर 17.1 प्रतिशत रहा है। श्रोताओं की हिस्सेदारी में ‘रेडियो मिर्ची’ 14.1 प्रतिशत शेयर के साथ दूसरे स्थान पर रहा। 13.8 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘रेडियो सिटी’ इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर है। सुबह 11 बजे से दोपहर 12 बजे तक यहां रेडियो सबसे ज्यादा सुना गया।

दिल्ली के मार्केट की बात करें तो 16.5 मिलियन श्रोताओं में 19 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ पहले नंबर पर रहा है। दिल्ली के मार्केट में 15.3 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ दूसरे नंबर पर और 13.4 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेड एफएम’ तीसरे नंबर पर रहा है। यहां श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच थी।

वहीं, बेंगलुरु के 5.3 मिलियन श्रोताओं में 28.9 प्रतिशत लोगों ने ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) को सुना और यह इस लिस्ट में टॉप पर रहा। ‘बिग एफएम’ (Big FM) 23.6 प्रतिशत के साथ दूसरे और ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) 16.3 प्रतिशत के साथ तीसरे स्थान पर रहा। यहां सुबह 8 से 9 बजे के बीच श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा थी।

अब कोलकाता के मार्केट को देखें तो यहां एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोताओं में से 28.8 प्रतिशत श्रोताओं ने ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) को सुना और यह लिस्ट में टॉप पर रहा। 26.7 प्रतिशत श्रोताओं के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर है, जबकि ‘रेड एफएम’ इस लिस्ट में 13.1 प्रतिशत के साथ तीसरे नंबर पर है। सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच और शाम को सात से आठ बजे के बीच श्रोताओं की संख्या यहां सबसे ज्यादा रही है। इस अवधि में बेंगलुरु और कोलकाता के लोगों ने सबसे ज्यादा रेडियो सुना। चारों मेट्रो सिटीज में घर से बाहर रेडियो सुनने वालों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

जानें, Radio Mirchi की संचालक कंपनी ENIL का हाल, कैसा रहा पिछला साल

एफएम रेडियो चैनल ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) की संचालक कंपनी ‘एंटरटेनमेंट नेटवर्क इंडिया लिमिटेड’ (ENIL) ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट जारी कर दी है।

Last Modified:
Monday, 31 August, 2020
ENIL

एफएम रेडियो चैनल ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) की संचालक कंपनी ‘एंटरटेनमेंट नेटवर्क इंडिया लिमिटेड’ (ENIL) ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट जारी कर दी है। इस रिपोर्ट के अनुसार, 31 मार्च को समाप्त हुए इस वित्तीय वर्ष में कंपनी की कुल इनकम 553.35 करोड़ रुपये हुई है, जबकि पिछले वित्तीय वर्ष में यह 635.41 करोड़ रुपये थी। यानी कंपनी की कुल इनकम में 12.91 प्रतिशत की गिरावट हुई है।

वहीं कुल खर्च इस साल 534.54 करोड़ रुपये दर्ज किया गया है, जबकि पिछले साल यह 551.75 करोड़ रुपये था। यानी इसमें 3.12 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है। वहीं, कंपनी के लिए इस साल प्रॉफिट भी कम रहा है। इस साल कंपनी को 14.55 करोड़ रुपये का प्रॉफिट हुआ है, जबकि पिछली साल यह 53.91 करोड़ रुपये था। यानी इसमें 73.01 प्रतिशत की कमी आई है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

किस रेडियो FM की कौन से शहर में रही धूम, पढ़ें यहां

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 25 से 28वें के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ रेटिंग्सी जारी हो गई हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 27 August, 2020
Last Modified:
Thursday, 27 August, 2020
Radio FM

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 25 से 28वें हफ्ते (14 जून से 11 जुलाई) के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM)  रेटिंग्‍स जारी हो गई हैं। इन रेटिंग्स के अनुसार, मुंबई और दिल्ली के मार्केट में ‘फीवर एफएम’ का वर्चस्व रहा है, जबकि बेंगलुरु और कोलकता में क्रमश: ‘रेडियो सिटी’ और ‘रेडियो मिर्ची’ टॉप पर रहे हैं।

मुंबई की बात करें तो यहां के मार्केट में 12.2 मिलियन श्रोताओं में ‘फीवर एफएम’ का मार्केट शेयर 16.5 प्रतिशत रहा है। श्रोताओं की हिस्सेदारी में ‘रेडियो मिर्ची’ 14.2 प्रतिशत शेयर के साथ दूसरे स्थान पर बना रहा। 13.9 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘रेडियो सिटी’ इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर है। पिछले चार हफ्तों के मुकाबले इस हफ्ते इसके श्रोताओं की संख्या में इजाफा हुआ है। सुबह 11 बजे से दोपहर 12 बजे तक यहां रेडियो सबसे ज्यादा सुना गया।

दिल्ली में 16.5 मिलियन श्रोताओं में 19.7 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ पहले नंबर पर रहा है। दिल्ली के मार्केट में 15 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ दूसरे नंबर पर और 12.7 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेड एफएम’ तीसरे नंबर पर रहा है। यहां श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच थी।

वहीं बेंगलुरु की बात करें तो 5.3 मिलियन श्रोताओं में 29.2 प्रतिशत लोगों ने ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) को सुना और यह इस लिस्ट में टॉप पर रहा। ‘बिग एफएम’ (Big FM) 23.6 प्रतिशत के साथ दूसरे और ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) 15.2 प्रतिशत के साथ तीसरे स्थान पर रहा। यहां सुबह 8 से 9 बजे के बीच श्रोताओं की तादाद सबसे ज्यादा थी।

कोलकाता में एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोताओं में से 28.8 प्रतिशत श्रोताओं ने ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) को सुना और यह लिस्ट में टॉप पर रहा। 26.9 प्रतिशत श्रोताओं के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर है, जबकि ‘रेड एफएम’ इस लिस्ट में 13.2 प्रतिशत के साथ तीसरे नंबर पर है। सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच श्रोताओं की संख्या यहां सबसे ज्यादा रही है।

इस हफ्ते दिल्ली और कोलकाता में श्रोताओं की संख्या ज्यादा देखी गई है। चारों मेट्रो सिटीज में घर से बाहर रेडियो सुनने वालों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

चार बड़ी मेट्रो सिटी में इन रेडियो FM का रहा बोलबाला

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 24 से 27वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM)  रेटिंग्‍स जारी हो गई हैं

Last Modified:
Friday, 21 August, 2020
fm

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 24 से 27वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM)  रेटिंग्स जारी हो गई हैं। इन रेटिंग्स के अनुसार, मुंबई और दिल्ली के मार्केट में ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) का दबदबा अभी भी कायम है, जबकि इस बार बेंगलुरु में ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) और कोलकता ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहे हैं।

मुंबई की बात करें तो यहां के मार्केट में 12.2 मिलियन श्रोताओं में ‘फीवर एफएम’ का मार्केट शेयर 16.1 प्रतिशत रहा है। ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) ने इस सप्ताह ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) को पीछे छोड़ दिया और 14.1% हिस्सेदारी के साथ दूसरे स्थान पर रहा। 14 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर रहा है। सुबह 11 बजे से दोपहर 12 बजे तक यहां रेडियो सबसे ज्यादा सुना गया।  हाल के चार हफ्तों में 85.5% लोगों तक एफएम की पहुंच रही। 

दिल्ली में 16.5 मिलियन श्रोताओं में 20.3 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ पहले नंबर पर रहा है। दिल्ली के मार्केट में 14.7 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ दूसरे नंबर पर और 12.4 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेड एफएम’ तीसरे नंबर पर रहा है। यहां श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच थी। हाल के चार हफ्तों में 94.1% लोगों तक एफएम की पहुंच रही। 

वहीं बेंगलुरु की बात करें तो 5.3 मिलियन श्रोताओं में 29.5 प्रतिशत लोगों ने ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) को सुना और यह इस लिस्ट में टॉप पर रहा। ‘बिग एफएम’ (Big FM) 23.6 प्रतिशत के साथ दूसरे और ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) 14.4 प्रतिशत के साथ तीसरे स्थान पर रहा। यहां सुबह 8 से 9 बजे के बीच श्रोताओं की तादाद सबसे ज्यादा थी। हाल के चार हफ्तों में 89.7% लोगों तक एफएम की पहुंच रही।

कोलकाता में एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोताओं में से 28.7 प्रतिशत श्रोताओं ने ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) को सुना और यह लिस्ट में टॉप पर रहा। 26.8 प्रतिशत श्रोताओं के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर है, जबकि ‘रेड एफएम’ इस लिस्ट में 13.8 प्रतिशत के साथ तीसरे नंबर पर है। सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच श्रोताओं की संख्या यहां सबसे ज्यादा रही है। हाल के चार हफ्तों में 67.8% लोगों तक एफएम की पहुंच रही।

इस हफ्ते दिल्ली और कोलकाता में श्रोताओं की संख्या ज्यादा देखी गई है। चारों मेट्रो सिटीज में घर से बाहर रेडियो सुनने वालों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

जानें, रेडियो के लिए कैसा रहा इस साल का शुरुआती ‘सफर’

‘पिच मैडिसन एडवर्टाइजिंग रिपोर्ट’ (PMAR) 2020 के अर्द्धवार्षिक रिव्यू में अनुमान लगाया गया है कि इस साल रेडियो की ग्रोथ 1350 से 1600 करोड़ रुपये तक हो सकती है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 20 August, 2020
Last Modified:
Thursday, 20 August, 2020
Radio

‘पिच मैडिसन एडवर्टाइजिंग रिपोर्ट’ (PMAR) 2020 के मंगलवार को जारी हुए अर्द्धवार्षिक रिव्यू (Mid-Year Review) के अनुसार, इस वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही (April to June 2020) में रेडियो में 90 प्रतिशत तक की गिरावट दर्ज की गई है।

यदि हम पिछले तीन साल में जनवरी से जून तक के भारतीय विज्ञापन बाजार को देखें तो विज्ञापन खर्च के मामले में वर्ष 2018 की पहली छमाही (H1 ’18) में रेडियो ने 1002 करोड़ रुपये दर्ज किए। वर्ष 2019 की पहली छमाही में (H1’19) यह आंकड़ा 1182 करोड़ रुपये और इस साल की पहली छमाही (H1’20) में यह सबसे कम 569 करोड़ रुपये दर्ज किया गया है। विज्ञापन के क्षेत्र में तीनों वर्षों में रेडियो का योगदान तीन प्रतिशत रहा है।

विज्ञापन खर्च के मामले में इस साल की पहली तिमाही (Q1’20) में रेडियो को 19 प्रतिशत गिरावट का सामना करना पड़ा, जबकि मार्केट में एडवर्टाइजिंग मनी न होने के परिणामस्वरूप दूसरी तिमाही (Q2) में यह आश्चर्यजनक रूप से 87 प्रतिशत तक दर्ज की गई। यदि दोनों को मिला दें तो रेडियो पर विज्ञापन खर्च (radio AdEx) 52 प्रतिशत तक कम हो गया।

कुल मिलाकर, रेडियो पर इस साल की पहली छमाही (H1’20) में विज्ञापन खर्च 569 रहा और दूसरी तिमाही में इसने 71 करोड़ रुपये का बिजनेस किया। ग्रोथ में कमी की वजह से विज्ञापन खर्च के मामले में रेडियो का योगदान अप्रैल से जून 2020 के बीच एक प्रतिशत रहा।

ग्रोथ में कमी के कारण प्रभावित हुईं ब्रैंड कैटेगरीज BFSI, ऑटो, ई-कॉमर्स, एफएमसीजी, और रियल एस्टेट रहीं। रेडियो एडवर्टाइजिंग में रियल एस्टेट और BFSI का योगदान 13 प्रतिशत (74 करोड़ रुपये) और एफएमसीजी का 10 प्रतिशत (55 करोड़ रुपये) रहा।

सकारात्मक रूप से देखें तो लॉकडाउन के दौरान अधिकांश रेडियो प्लेटफॉर्म्स ने ओटीटी म्यूजिक स्ट्रीमिंग ऐप्स के साथ मिलकर अपने कंटेंट को लोगों तक पहुंचाया, वहीं कुछ रेडियो एफएम चैनल्स ने श्रोताओं से जुड़े रहने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया और डिजिटल कंसर्ट व सेलेब्रिटीज के साथ लाइव चैट आयोजित कीं।

जून में ‘अनलॉक1’ (Unlock 1.0) के दौरान आर्थिक गतिविधियां शुरू होने से कुछ स्थानीय एडवर्टाइजर्स रेडियो एडवर्टाइजिंग की ओर आकर्षित हुए। पिच मैडिसन की इस रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है कि त्योहारी सीजन तक रेडियो इस घाटे को पूरा कर लेगा। 2020 में रेडियो की ग्रोथ के बारे में अनुमान लगाया गया है कि यह 1350 से 1600 करोड़ रुपये तक हो सकती है।  

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

किस शहर में रही कौन से रेडियो FM की धूम, जानें यहां

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 23 से 26वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 13 August, 2020
Last Modified:
Thursday, 13 August, 2020
Radio

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 23 से 26वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM)  रेटिंग्‍स जारी हो गई हैं। इन रेटिंग्स के अनुसार, मुंबई और दिल्ली के मार्केट में ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) का वर्चस्व रहा है, जबकि बेंगलुरु और कोलकता में क्रमश: ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) और ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहे हैं।

मुंबई की बात करें तो यहां के मार्केट में 12.2 मिलियन श्रोताओं में ‘फीवर एफएम’ का मार्केट शेयर 15.3 प्रतिशत रहा है। श्रोताओं की हिस्सेदारी में ‘रेडियो सिटी’ 14.2 प्रतिशत शेयर के साथ दूसरे स्थान पर रहा। 14.1 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर है। पिछले चार हफ्तों के मुकाबले इस हफ्ते इसके श्रोताओं की संख्या में इजाफा हुआ है। सुबह 11 बजे से दोपहर 12 बजे तक यहां रेडियो सबसे ज्यादा सुना गया।

दिल्ली में 16.5 मिलियन श्रोताओं में 20.7 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ पहले नंबर पर रहा है। दिल्ली के मार्केट में 14.2 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ दूसरे नंबर पर और 12.3 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेड एफएम’ तीसरे नंबर पर रहा है। यहां श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच थी।

वहीं बेंगलुरु की बात करें तो 5.3 मिलियन श्रोताओं में 29.9 प्रतिशत लोगों ने ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) को सुना और यह इस लिस्ट में टॉप पर रहा। ‘बिग एफएम’ (Big FM) 23.7 प्रतिशत के साथ दूसरे और ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) 13.8 प्रतिशत के साथ तीसरे स्थान पर रहा। यहां सुबह 8 से 9 बजे के बीच श्रोताओं की तादाद सबसे ज्यादा थी।

कोलकाता में एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोताओं में से 28.6 प्रतिशत श्रोताओं ने ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) को सुना और यह लिस्ट में टॉप पर रहा। 26.7 प्रतिशत श्रोताओं के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर है, जबकि ‘रेड एफएम’ इस लिस्ट में 14 प्रतिशत के साथ तीसरे नंबर पर है। सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच श्रोताओं की संख्या यहां सबसे ज्यादा रही है।

इस हफ्ते दिल्ली और कोलकाता में श्रोताओं की संख्या ज्यादा देखी गई है। चारों मेट्रो सिटीज में घर से बाहर रेडियो सुनने वालों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

जानिए, इस बार मैट्रो सिटीज में आपके पसंदीदा FM चैनल का हाल

22वें हफ्ते से 25वें हफ्ते की रैम रेटिंग्स पर नजर डालें तो ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) मुंबई और दिल्ली में अपनी बढ़त बनाए हुए है

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 06 August, 2020
Last Modified:
Thursday, 06 August, 2020
Radio

22वें हफ्ते से 25वें हफ्ते की रैम रेटिंग्स पर नजर डालें तो ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) मुंबई और दिल्ली में अपनी बढ़त बनाए हुए है, जबकि बैंगलुरु में ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) सबसे ऊपर है और कोलकाता में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi)।

मुंबई में 12.2 मिलियन श्रोताओं में से 15.4% लोग ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) सुनते हैं, जबकि अन्य श्रोताओं की हिस्सेदारी में ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) 14.3% शेयर के साथ दूसरे स्थान पर रहा। हालांकि इससे पहले हफ्ते के मुकाबले यह हिस्सेदारी 0.9% तक बढ़ी है। ‘बिग एफएम’  (BIG FM) में श्रोताओं की हिस्सेदारी 0.1% की बढ़त के साथ 13.9 %  रही और यह तीसरे नंबर पर रहा। बता दें कि सुबह 11:00 से दोपहर 12:00 बजे तक श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा दर्ज की गई है। हाल के 4 हफ्तों में 84.5% लोगों तक एफएम की पहुंच रही।  

इसी तरह दिल्ली में, 16.5 मिलियन में से 21.5% श्रोताओं का एक समूह ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) सुनता है, जोकि 1% तक बढ़ा है। फिलहाल दिल्ली में यह शीर्ष पर है। वहीं ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) को सुनने वालों की हिस्सेदारी 14.4% रही, जिसकी वजह से यह दूसरे स्थान पर रहा। ‘रेड एफएम’ (Red FM) 12.1% शेयर के साथ तीसरे स्थान पर रहा। यहां श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच थी। हाल के 4 हफ्तों में 93.7% लोगों तक एफएम की पहुंच रही।

वहीं बेंगलुरु की बात करें तो 5.3 मिलियन श्रोताओं में सबसे ज्यादा यानी 29.9% लोगों ने ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) को सुना। जबकि, ‘बिग एफएम’ (Big FM) 24% के साथ दूसरे स्थान पर और ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) 13.3% के साथ तीसरे स्थान पर रहा। यहां सुबह 8 से 9 बजे के बीच श्रोताओं की तादाद चरम पर थी। हाल के 4 हफ्तों में एफएम की पहुंच 90.4% श्रोताओं तक रही है।

कोलकाता में एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोतागण हैं, जिनमें से 28.7%  श्रोताओं ने ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) सुना, जोकि सबसे ज्यादा सुना गया। इसके बाद ‘बिग एफएम’ (Big FM) 26.7% के साथ दूसरे स्थान पर और ‘रेड एफएम’ (Red FM) 14.3% शेयर के साथ तीसरे स्थान पर रहा। सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच श्रोताओं की संख्या चरम पर थी। वहीं हाल के 4 हफ्तों में एफएम की पहुंच 71.8% लोगों तक रही।

इस हफ्ते दिल्ली और कोलकाता में श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा देखी गई है। वहीं इस बार रेडियो सुनने वालों की संख्या सभी मार्केट्स में से घर से बाहर ज्यादा रही है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए