हर सूचना पर शक करना सीखें, बोले वरिष्ठ पत्रकार राजेश बादल

‘मीडिया एंड मीडिया एजुकेशन समिट’ (Media & Media Education Summit) में...

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Saturday, 24 November, 2018
Last Modified:
Saturday, 24 November, 2018
rajesh-badal

समाचार4मीडिया ब्यूरो।।

‘मीडिया एंड मीडिया एजुकेशन समिट’ (Media & Media Education Summit) में ‘Conflict between Mainstream Media & Social Media and it’s Impact on Media Education’ शीर्षक से आयोजित पैनल डिस्कशन में यह सवाल भी उठा कि सोशल मीडिया के आने के बाद से शिक्षा पर इसका क्या प्रभाव पड़ा है? इस बारे में वरिष्ठ पत्रकार और फिल्ममेकर राजेश बादल ने कहा कि सोशल मीडिया आने के बाद से हम लोगों की चुनौतियां बढ़ गई हैं।

हमारे कई कोर्स बहुत पुराने हो गए हैं। उन्होंने कहा, ‘मैंने क़रीब बीस यूनिवर्सिटी के पाठ्यक्रम का गहराई से अध्ययन किया, उनमें कुछ भी नया शामिल नहीं किया गया है। जबकि समय के साथ टेक्नोलॉजी में काफी बदलाव हुआ है, इसके अलावा पत्रकारिता में भी काफी बदलाव हुए हैं। ऐसे में इससे संबंधित कोर्सेज के पाठ्यक्रम में बदलाव बहुत जरूरी है, जबकि कई साल से ये पाठ्यक्रम बदले ही नहीं गए हैं।’

राजेश बादल के अनुसार, ‘ पत्रकारिता में जो काम कर रहे हैं, उनके लिए तो ठीक है, लेकिन सोशल मीडिया तो हमारे पास ऐसा अवतार-ऐसा टूल आया है, जिसके लिए तो पत्रकार होना जरूरी है ही नहीं। आप जो भी देखते हैं और जिस तरीके से सोचते हैं, उसे बिना क्रॉस चेक किए यदि आप उसे उस टूल पर अभिव्यक्त कर देंगे तो वो एक सेकेंड के अंदर सोशल मीडिया में वायरल हो जाएगा। इसलिए यह एक ऐसा हथियार है जो कहीं अभिशाप तो कहीं वरदान बन जाता है। ऐसे में इसका इस्तेमाल काफी सोच-समझकर करना चाहिए।’


पत्रकारिता की पढ़ाई कर रहे छात्र भविष्य में अच्छे पत्रकार बन पाएं, इसके लिए सलाह देते हुए राजेश बादल ने कहा कि हम लोग जिस पेशे में हैं, उसमें साख का बहुत महत्व है। साख बनाने में बहुत समय लग जाता है, लेकिन गंवाने में एक मिनट भी नहीं लगता है। एक सूचना यदि आप देते हैं तो उसके बाद बड़ा मुश्किल होता है कि यदि वो गलत साबित हो गई तो आप कहां-कहां सफाई देते फिरेंगे। अखबार में तो एक बार को अगले दिन खंडन छापा भी जा सकता है लेकिन यदि आज कोई दर्शक 11 बजे टीवी के सामने बैठा है तो जरूरी नहीं है कि वह दो बजे भी बैठा होगा। ऐसे में टीवी पर यदि गलत जानकारी चली गई है या सोशल मीडिया पर वायरल हो गई है तो वह एक मिनट में आपकी सारी प्रतिष्ठा मिट्टी में मिला देगी।  

इसलिए इस बात का हमेशा ध्यान रखना चाहिए कि जो भी जानकारी मिले उसे क्रॉस चेक जरूर करें। हर सूचना पर शक करना सीखें और बिना तथ्यों की पड़ताल के कोई भी ऐसी सामग्री आगे न बढ़ाएं, जिससे साख प्रभावित हो। 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

IIMC को मिला अपना नया डायरेक्टर जनरल

देश के प्रतिष्ठित मीडिया संस्थान भारतीय जनसंचार संस्थान (आईआईएमसी) को अपना नया महानिदेशक (डायरेक्टर जनरल) मिल गया है

Last Modified:
Wednesday, 01 July, 2020
IIMC DELHI

देश के जाने-माने वरिष्ठ पत्रकार और मीडिया प्रोफेसर संजय द्विवेदी को प्रतिष्ठित मीडिया संस्थान भारतीय जनसंचार संस्थान (आईआईएमसी) का महानिदेशक (डायरेक्टर जनरल) नियुक्त किया गया है। कार्मिक मंत्रालय के आदेशानुसार प्रोफेसर संजय द्विवेदी को बुधवार को आईआईएमसी का महानिदेशक नियुक्त किया गया है। कैबिनेट की नियुक्ति समिति ने तीन साल की अवधि के लिए सीधी भर्ती के आधार पर आईआईएमसी के महानिदेशक के रूप में उनकी नियुक्ति को मंजूरी दी है।

जानकारी के मुताबिक, पत्र सूचना कार्यालय (पीआईबी) के प्रधान महानिदेशक के.एस. धतवालिया ही फिलहाल एक जून, 2019 से आईआईएमसी के डीजी पद का अतिरिक्त प्रभार संभाल रहे थे। संजय द्विवेदी वर्तमान में माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय, भोपाल के कुलपति हैं। इससे पहले वे विश्वविद्यालय के कुलसचिव की जिम्मेदारी निभा रहे थे। प्रो. द्विवेदी 10 वर्ष से अधिक समय तक विश्वविद्यालय के जनसंचार विभाग के अध्यक्ष भी रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि प्रो. संजय द्विवेदी लंबे समय तक सक्रिय पत्रकारिता में रहे हैं। उन्हें प्रिंट, बेव और इलेक्ट्रॉनिक, तीनों ही मीडिया में कार्य करने का वृहद अनुभव है। उन्होंने ‘दैनिक भास्कर’, ‘हरिभूमि’, ‘नवभारत’, ‘स्वदेश’, ‘इंफो इंडिया डाट काम’ और छत्तीसगढ़ के पहले सेटलाइट चैनल ‘जी-24 छत्तीसगढ़’ जैसे मीडिया संगठनों में महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां संभाली।

मुंबई, रायपुर, बिलासपुर और भोपाल में लगभग 14 साल सक्रिय पत्रकारिता में रहने के बाद प्रो. द्विवेदी शिक्षा क्षेत्र से जुड़े। फरवरी-2009 में वे विश्वविद्यालय से जुड़े थे। विश्वविद्यालय में उन्होंने विभागाध्यक्ष एवं कुलसचिव जैसे महत्वपूर्ण पदों कार्य किया।

प्रो. द्विवेदी 12 वर्षों से नियमित जनसंचार के सरोकारों पर केंद्रित पत्रिका ‘मीडिया विमर्श’ के कार्यकारी संपादक भी हैं। विभिन्न समाचार पत्र-पत्रिकाओं में नियमित तौर पर राजनीतिक, सामाजिक और मीडिया के मुद्दों पर लेखन करते हैं। उन्होंने अब तक 25 पुस्तकों का लेखन और संपादन भी किया है। वे विभिन्न विश्वविद्यालयों की अकादमिक समितियों एवं मीडिया से संबंधित संगठनों में सदस्य एवं पदाधिकारी भी हैं।  

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

कोरोना को मात देकर ‘आजतक’ के दफ्तर लौटीं एंकर श्वेता झा, यूं हुआ स्वागत

कोरोना के खिलाफ ‘जंग’ में अपनी जिम्मेदारी निभा रहे तमाम मीडियाकर्मी भी इसकी चपेट में आ चुके हैं, जिनमें ‘आजतक’ की एसोसिएट एग्जिक्यूटिव प्रड्यूसर- सीनियर न्यूज एंकर श्वेता झा भी शामिल थीं।

Last Modified:
Wednesday, 01 July, 2020
aajtak

कोरोना वायरस के प्रभाव को कम करने के लिहाज से केंद्र सरकार ने मार्च में लॉकडाउन लगाया। इसे दो बार बढ़ाया गया, लेकिन अभी तक इसका कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। तमाम लोगों की जिंदगी निगल चुका यह खतरनाक वायरस तेजी से अपने पैर पसारता जा रहा है। आए दिन इसकी चपेट में लोग आ रहे हैं। कोरोना के खिलाफ ‘जंग’ में अपनी जिम्मेदारी निभा रहे तमाम मीडियाकर्मी भी इसकी चपेट में आ चुके हैं, जिनमें हिंदी न्यूज चैनल ‘आजतक’ की एसोसिएट एग्जिक्यूटिव प्रड्यूसर और सीनियर न्यूज एंकर श्वेता झा भी शामिल थीं। बता दें कि श्वेता के साथ-साथ उनके पति और बेटा भी कोरोना पोस्टिव पाए गए थे। फिलहाल श्वेता व उनका पूरा परिवार अब पूरी तरह से ठीक हो चुका है और अपने घर वापस आ गया है।  

कोरोना वायरस को मात देकर जब 20 दिन बाद श्वेता झा ‘आजतक’ के अपने दफ्तर लौटीं, तो उनका जोरदार स्वागत किया गया। श्वेता झा ने टीवी स्क्रीन पर कोरोना को मात देने की अपनी पूरी कहानी सुनाई और ऐसे लोगों का मनोबल बढ़ाया और उनके अंदर के डर को कम किया, जो इस खतरनाक संक्रमण की जद में है।

सुनिए पूरी कहानी-

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

नेटवर्क18 को अलविदा कहने के बाद अब बसंत धवन इस कंपनी में बने CEO

इस नियुक्ति से पहले धवन नेटवर्क18 में ‘सीएनएन न्यूज18’, ‘सीएनबीसी टीवी18’, ‘सीएनबीसी आवाज’ और ‘सीएनबीसी बाजार’ चैनल्स का नेतृत्व कर रहे थे।

Last Modified:
Wednesday, 01 July, 2020
Basant Dhawan

देश की जानी-मानी स्पोर्ट्स मार्केटिंग और मैनेजमेंट कंपनी ‘ट्वेंटी फर्स्ट सेंचुरी मीडिया’ (TCM) ने बसंत धवन को चीफ एग्जिक्यूटिव ऑफिसर के पद पर नियुक्त किया है। अपनी इस भूमिका में बसंत धवन कंपनी के सभी मौजूदा बिजनेस वर्टिकल्स (स्पोर्ट्स कंसल्टेंसी, डोमेस्टिक लीग राइट्स, एथलीट रिप्रजेंटेशन, स्पॉन्सरशिप मैनेजमेंट और ईवेंट ऑपरेशंस आदि) के लिए जिम्मेदार होंगे। इसके अलावा घरेलू और अंतरराष्ट्रीय मार्केट्स में कंपनी के लिए स्पोर्ट्स कंटेंट स्ट्रैटेजी को विकसित करने और उसे लागू करने के साथ ही नए बिजनेस लाइन को चलाने की जिम्मेदारी भी उनके कंधों पर होगी।

इस बारे में ‘ट्वेंटी फर्स्ट सेंचुरी मीडिया’ के मैनेजिंग डायरेक्टर लोकेश शर्मा का कहना है, ‘बसंत धवन को ब्रॉडकास्ट बिजनेस का काफी अनुभव है और हमें अपने बिजनेस को आगे बढ़ाने और विविधता लाने में बसंत धवन के अनुभव का काफी लाभ मिलेगा।’

वहीं, अपनी नियुक्ति के बारे में बसंत धवन का कहना है, ‘‘नेटवर्क18’ में  अंग्रेजी और बिजनेस न्यूज चैनल में सीईओ के पद पर जिम्मेदारी निभाने के बाद मैं स्पोर्ट्स इंडस्ट्री में जाने के लिए काफी उत्सुक हूं। मैं कंपनी के विजन को आगे बढ़ाने में अपनी पूरी सहभागिता निभाने के लिए तत्पर हूं। कंपनी करीब तीन दशक से स्पोर्ट्स के बिजनेस में है और अपनी अद्वितीय सेवाएं प्रदान कर रही है। यह बिजनेस को आगे बढ़ाने और मार्केटिंग की जरूरतों को पूरा करने के लिए ब्रैंड्स की मदद कर रही है। यह आज के खेल प्रशंसकों की मांग और बदलती खपत के अनुरूप खेल के क्षेत्र में नए अवसरों को देख रही है।’

बता दें कि धवन को मीडिया एंड एंटरटेनमेंट, टेलिकॉम, ऑटो आदि क्षेत्रों में प्रमुख पदों पर काम करने का बीस साल से ज्यादा का अनुभव है। उन्होंने आईआईएम, कोलकाता से मैनेजमेंट की डिग्री ली है। अपनी इस नियुक्ति से पूर्व वह ‘नेटवर्क18’ (Network18) के अंग्रेजी और बिजनेस न्यूज चैनल के सीईओ (CEO) के पद पर काम कर रहे थे और ‘सीएनएन न्यूज18’ (CNN News18), ‘सीएनबीसी टीवी18’ (CNBC TV18), ‘सीएनबीसी आवाज’(CNBC Awaaz), ‘सीएनबीसी बाजार’ (CNBC Bazaar) चैनल्स का नेतृत्व कर रहे थे।

इससे पहले वह ‘स्टार स्पोर्ट्स’ में सीनियर वाइस प्रेजिडेंट और हेड (Emerging Sports) के पद पर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे। वह उस टीम का हिस्सा थे, जिसने भारतीय दर्शकों के लिए प्रीमियम स्पोर्ट्स लीग जैसे इंग्लिश प्रीमियर लीग, ग्रैंड स्लैम्स स्थापित करने के अलावा नई घरेलू लीग जैसे- प्रो कबड्डी, इंडियन सुपर लीग, प्रीमियर बैडमिंटन लीग शुरू की थीं। ‘स्टार स्पोर्ट्स’ से पूर्व बसंत धवन ‘वोडाफोन इंडिया’ के साथ जुड़े हुए थे। यहां वह जनरल मैनेजर के रूप में मीडिया संबंधी कार्यों का नेतृत्व कर रहे थे।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

IMPACT की Top 30 Under 30 प्रतिभाशाली युवाओं की लिस्‍ट तैयार, 3 जुलाई को ऐलान

साप्ताहिक पत्रिका ‘इम्पैक्ट’ ने मीडिया और एडवर्टाइजिंग क्षेत्र के सफल युवाओं को सम्मानित करने के लिए एक बार फिर बहुप्रतिक्षित ‘टॉप 30 अंडर 30 लिस्ट’ जारी करने की घोषणा की है।

Last Modified:
Wednesday, 01 July, 2020
Impact30

एक्सचेंज4मीडिया (exchange4media) समूह की मीडिया, मार्केटिंग और एडवर्टाइजिंग के क्षेत्र की जानी-मानी साप्ताहिक पत्रिका ‘इम्पैक्ट’ ने मीडिया और एडवर्टाइजिंग क्षेत्र के सफल युवाओं को सम्मानित करने के लिए एक बार फिर बहुप्रतीक्षित ‘टॉप 30 अंडर 30 लिस्ट’ जारी करने की घोषणा की है। इस लिस्ट से पर्दा शुक्रवार, 3 जुलाई, 2020 को उठेगा। बता दें कि ऐसा पहली बार होगा, जब इस लिस्ट से पर्दा वर्चुअल रूप में उठेगा। इसमें ऑडियंस (अवॉर्ड्स के लिए नॉमिनी और इंडस्ट्री लीडर्स) वर्चुअल रूप से मौजूद रहेंगे। यह कार्यक्रम, शुक्रवार शाम 5.30 बजे शुरू होगा और इसकी लाइव स्ट्रीमिंग IMPACT और exchange4media के फेसबुक पेज पर की जाएगी।

इस कार्यक्रम में डिबेट भी रखी जाएगी, जिसमें टीम लीडर्स की अपनी यंग टीम मेंबर्स से अपेक्षाएं और इसी तरह युवाओं की टीम लीडर्स से अपेक्षाओं पर बात की जाएगी। इसके अलावा इसमें एंटरटेनमेंट का तड़का भी शामिल होगा।

यह इस लिस्ट का सातवां एडिशन है। इस लिस्‍ट में तीस साल से कम उम्र वाले देश के ऐसे 30 युवा शामिल किए गए हैं,  जो मीडिया, मार्केटिंग और एडवर्टाइजिंग इंडस्ट्री में अपने काम के जरिए शिखर पर पहुंचे हैं।  

इसके अलावा इस बार ऐसा भी पहली बार हुआ जब एंट्रीज एजेंसी ईकोसिस्टम से परे जाकर टीवी, प्रिंट, रेडियो, एडवर्टाइजिंग, मार्केटिंग, कंटेंट और डिजिटल में खास मुकाम हासिल करने वाले युवाओं के लिए खुली थीं।

जूरी प्रक्रिया के जरिए सूची में ऐसे योग्य युवा प्रतिभाओं को नई पहचान दिलाने के लिए शामिल किया गया है, जिन्होंने अपने उम्दा प्रदर्शन के जरिए एक अलग छाप छोड़ी है। काफी कठिन प्रक्रिया के बाद जूरी ने इस लिस्‍ट को तैयार किया है।

2020 के लिए इंपैक्‍ट को इस साल की शुरुआत में 160 से अधिक प्रविष्टियां (entries) मिली थीं। एबीपी न्यूज नेटवर्क के सीईओ अविनाश पांडे की अध्‍यक्षता में गठित जूरी ने इन युवाओं का चुनाव किया था। जूरी में शामिल अन्‍य सदस्‍यों में ‘एलिफैंट डिजाइन’ (Elephant Design) के को-फाउंडर व डायरेक्टर अश्विनी देशपांडे, ‘जेनिथ’ (पब्लिसिस) [Zenith (Publicis)] के सीओओ जय लाला, ‘वायकॉम18’ में एसवीपी एंड हेड, कॉर्प मार्केटिंग, कॉम एंड सस्टेनेबिलिटी (Corp Marketing, Comm& Sustainability, Viacom18) सोनिया हुरिया, ‘नेटवर्क18 डिजिटल’ (Network18 Digital) में ब्रैंड सॉल्यूशंस एंड कन्वर्जेंस के सीओओ अजीम ललानी, ‘Pocket Aces’ की को-फाउंडर अदिति श्रीवास्तव, ‘डिस्कवरी इंडिया’ (Discovery India) के मार्केटिंग हेड वेदनारायण श्रीदेशपांडे, ‘मातृभूमि’ (Mathrubhumi) के ब्रैंड कम्युनिकेशंस के हेड एन जयकृष्णन (जेके), ‘शेमारू एंटरटेनमेंट लिमिटेड’ (Shemaroo Entertainment Ltd) के सीओओ क्रांति गडा, DentsuWebchutney के सीईओ गौतम रघुनाथ, ‘बीबीडीओ इंडिया’ (BBDO India) के चीफ क्रिएटिव ऑफिसर हेमंत श्रींगी, ‘82.5 कम्युनिकेशंस’ (82.5 Communications) के को-चेयरमैन व सीईओ कपिल अरोड़ा और ‘हॉटस्टार’ (Hotstar) के क्लाइंट एंड एजेंसी के सीनियर वाइस प्रेजिडेंट व हेड गुलशन वर्मा शामिल थे।

फिलहाल इस बहुप्रतिक्षित सूची में किसे मिली है जगह, यह जानने की उत्सुकता अब और तेज हो गई है। लिहाजा, यह जानने के लिए आपको 3 जुलाई की शाम 5.30 बजे इम्पैक्ट मैगजीन के फेसबुक पेज या एक्सचेंज4मीडिया के फेसबुक पेज पर जाना होगा। इसके अलावा सोशल मीडिया पर #IMPACTTOP30 हैशटैग का प्रयोग कर बातचीत का हिस्सा बन सकते हैं। इस लिंक पर क्लिक कर ईवेंट के लिए रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं- https://bit.ly/2NW2eQB

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

TV9 न्यूज नेटवर्क से जुड़े रक्तिम दास, इस बड़े पद पर संभाला कार्यभार

पूर्व में वह ‘टाइम्स ऑफ इंडिया’, ‘इंडिया टुडे ग्रुप’, ‘जी मीडिया कॉरपोरेशन लिमिटेड’, ‘एचटी मीडिया’ और ‘नेटवर्क18’ जैसे प्रतिष्ठित मीडिया संस्थानों में अपनी जिम्मेदारी संभाल चुके हैं।

Last Modified:
Wednesday, 01 July, 2020
Raktim Das

देश के बड़े मीडिया नेटवर्क्स में शुमार ‘टीवी9 न्यूज नेटवर्क’ (TV9 News Network) ने रक्तिम दास (Raktim Das) को ‘स्टूडियो9’ (tudio9) का सीओओ नियुक्त किया है। अपनी नई भूमिका में रक्तिम दास ब्रैंडेड कंटेंट इनोवेशन पर फोकस करने के साथ ही टीवी और डिजिटल के रेवेन्यू से जुड़े कार्यों के लिए जिम्मेदार होंगे। नेटवर्क की ओर से कहा गया है कि दास टैलेंट रिलेशनशिप को तैयार करने और विकास के नए रास्ते विकसित करने के लिए स्ट्रैटेजिक पार्टनरशिप के लिए भी जिम्मेदार होंगे।

पूर्व में ‘जी एंटरटेनमेंट’ (Zee Entertainment) में एग्जिक्यूटिव क्लस्टर हेड (Innovation Studio & Custom Content) के रूप में कार्यरत दास ने वहां बिजनेस को स्थापित करने और ‘जी मीडिया कॉरपोरेशन’ के लिए एक महत्वपूर्ण रेवेन्यू कॉन्ट्रीब्यूटर के रूप में इसे तैयार करने में अहम भूमिका निभाई थी। यही नहीं, तमाम अवॉर्ड विजेता कैंपेन बनाने के लिए उन्होंने प्रमुख ब्रैंड्स के साथ सहयोग (collaboration) किया था।

रक्तिम दास को स्ट्रैटेजी, मार्केटिंग, एडवर्टाइजिंग सेल्स मैनेजमेंट और ईवेंट्स आदि क्षेत्रों में प्रमुख पदों पर काम करने का लंबा अनुभव है। पूर्व में वह ‘टाइम्स ऑफ इंडिया’, ‘इंडिया टुडे ग्रुप’, ‘जी मीडिया कॉरपोरेशन लिमिटेड’, ‘एचटी मीडिया’ और ‘नेटवर्क18’ जैसे प्रतिष्ठित मीडिया संस्थानों में अपनी जिम्मेदारी संभाल चुके हैं।  

रक्तिम दास की नियुक्ति पर ‘टीवी9 नेटवर्क’ (TV9 Network) के सीईओ बरुण दास का कहना है, ‘स्टूडियो9 एक ऐसा कॉन्सेप्ट है, जो हमारे नेटवर्क में पारंपरिक टीवी और डिजिटल का मिश्रण शुरू करेगा। डिजिटल भविष्य है और हिंदी व रीजनल न्यूज निश्चित रूप से ट्रेडिशनल टीवी से वेब फॉर्मेट का रुख करेंगी। स्टूडियो9 क्लाइंट्स के साथ मिलकर उनके कम्युनकेशन चैलेंज के लिए क्रिएटिव सॉल्यूशंस विकसित करने के लिए भी काम करेगा। रक्तिम निश्चित रूप से इसके लिए इंडस्ट्री में श्रेष्ठ हैं।’

अपनी नियुक्ति के बारे में रक्तिम दास का कहना है, ‘टीवी9 परिवार का हिस्सा बनने को लेकर मैं काफी उत्सुक हूं। मुझे भाषाई मार्केट्स में विकास के काफी अवसर दिखाई दे रहे हैं, क्योंकि देश में भारतीय भाषाओं के इंटरनेट यूजर्स की बड़ी तादात है।’

गौरतलब है कि रक्तिम दास को इस पद पर नियुक्त करने से पहले कंपनी ने पिछले दिनों अपनी मैनेजमेंट टीम को मजबूती प्रदान के लिए कुछ फेरबदल किए थे। इसके तहत नेटवर्क ने प्रेजिडेंट विक्रम. के (Vikram K) को सीओओ (साउथ) के पद पर प्रमोट किया था। उन्हें ग्रुप के फ्लैगशिप चैनल ‘टीवी9 तेलुगू’ (TV9 Telugu) और ‘टीवी9 कन्नड़’ (TV9 Kannada) की जिम्मेदारी दी गई है। इसके अलावा ‘नेटवर्क18’ (Network18) छोड़कर आए अमित त्रिपाठी ने यहां बतौर चीफ रेवेन्यू ऑफिसर जॉइन किया था।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

चीन के इस कदम का विरोध शुरू, भारतीय मीडिया निकायों ने उठाई ये मांग

मीडिया निकायों ने यह भी सुझाव दिया है कि चीन द्वारा भारतीय कंपनियों में किए गए करार (collaborations) और निवेश को भी खत्म कर देना चाहिए।

Last Modified:
Wednesday, 01 July, 2020
Media

देश के मीडिया निकायों जैसे ‘इंडियन न्यूजपेपर सोसायटी’ (INS) और ‘डिजिटल न्यूज पब्लिशर्स एसोसिएशन’ (DNPA) ने सरकार से देश में चाइनीज वेबसाइट्स को भी प्रतिबंधित करने की मांग की है। इसके अलावा उन्होंने यह भी सुझाव दिया है कि चीन द्वारा भारतीय कंपनियों में किए गए करार (collaborations) और निवेश को भी खत्म कर देना चाहिए।

'इंडियन न्यूजपेपर सोसायटी' के प्रेजिडेंट शैलेष गुप्ता ने सरकार को लिखे पत्र में कहा है कि चीन सरकार द्वारा भारतीय अखबारों और मीडिया वेबसाइट्स के इस्तेमाल पर रोक लगाने का फैसला अनुचित है। हालांकि अब चीन ने एडवांस तकनीक के माध्यम से एक ऐसा फायरवॉल (firewall) का प्रयोग किया है, जिसकी वजह से अब ‘वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क’ (VPN) के जरिये भी इन साइट्स तक नहीं पहुंचा जा सकता है।

‘डिजिटल न्यूज पब्लिशर्स एसोसिएशन’ के चेयरमैन पवन अग्रवाल का कहना है, ‘इस समय हमें भारत की सुरक्षा, संप्रभुता को सर्वोच्च प्राथमिकता के रूप में मानना ​​चाहिए।’ गौरतलब है कि भारत सरकार द्वारा 59 चाइनीज ऐप्स को बैन करने के अगले दिन चीन ने अपने देश में भारतीय अखबारों और वेबसाइट्स के इस्तेमाल पर रोक लगा दी है, जबकि चीन की वेबसाइट भारत में एक्सेस हो रही हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

वरिष्ठ पत्रकार अरनब गोस्वामी को बॉम्बे हाई कोर्ट से मिली ये बड़ी राहत

‘रिपब्लिक टीवी’ के मैनेजिंग डायरेक्टर व एडिटर-इन-चीफ अरनब गोस्वामी को बॉम्बे हाई कोर्ट ने बड़ी राहत प्रदान की है

Last Modified:
Tuesday, 30 June, 2020
arnab-goswami

‘रिपब्लिक टीवी’ के मैनेजिंग डायरेक्टर व एडिटर-इन-चीफ अरनब गोस्वामी को बॉम्बे हाई कोर्ट ने बड़ी राहत प्रदान की है। मंगलवार यानी 30 जून को हाई कोर्ट ने अरनब गोस्वामी पर दर्ज दो मुकदमों पर रोक लगा दी है। यह मुकदमा पालघर लिंचिंग की घटना और मुंबई के बांद्रा रेलवे में प्रवासी कामगारों के जमा होने से संबधित था।

न्यायमूर्ति उज्जल भुयान और न्यायमूर्ति रियाज चागला की खंडपीठ ने कहा कि ‘उनके खिलाफ प्रथम दृष्टया कोई मुकदमा नहीं बनता।’ कोर्ट ने मुंबई पुलिस को आदेश दिया है कि अगले आदेश तक अरनब गोस्वामी के खिलाफ कोई भी कठोर कार्रवाई नहीं की जानी चाहिए।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, कोर्ट ने यह भी कहा है कि इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि गोस्वामी ने लोगों में विद्वेष फैलाने का काम किया था। गोस्वामी के खिलाफ यह प्राथमिकी इस साल 22 अप्रैल और 2 मई को दर्ज की गई थी।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इस वजह से PTC News के सीनियर एंकर दविंदरपाल सिंह की चली गई जान

पंजाबी न्यूज चैनल ‘पीटीसी न्यूज’ (PTC News) के वरिष्ठ पत्रकार व सीनियर न्यूज एंकर दविंदरपाल सिंह का मंगलवार सुबह निधन हो गया

Last Modified:
Tuesday, 30 June, 2020
devindersingh

पंजाबी न्यूज चैनल ‘पीटीसी न्यूज’ (PTC News) के वरिष्ठ पत्रकार व सीनियर न्यूज एंकर दविंदरपाल सिंह का मंगलवार सुबह निधन हो गया। उन्होंने सोमवार की देर रात करीब 2 बजे मोहाली के एक निजी अस्पताल में अंतिम सांस ली। बताया जा रहा है कि कोरोना वायरस के कारण उनकी मौत हुई है। कोविड-19 के कारण उनकी किडनी और फेफड़े इन्फेक्टेड हो गए थे और वह वेंटिलेटर के सहारे सांस ले रहे थे।

उनके बारे में कहा जाता है कि वह पहले से ही किडनी की समस्या से पीड़ित थे और पिछले कुछ दिनों से वेंटिलेटर पर थे। किडनी ट्रांसप्लांट के कारण उनका इम्यून सिस्टम कमजोर हो गया था। कुछ साल पहले उनके पिता ने उन्हें अपनी किडनी दी थी।

दविंदरपाल सिंह पीटीसी न्यूज चैनल के संस्थापक सदस्य थे और अमेरिका में हैड के तौर पर न्यूयार्क में सेवाएं निभा रहे थे। वह पिछले एक साल से भारत ही थे। पीटीसी न्यूज चैनल के लिए उन्होंने न्यूयॉर्क में रहते हुए भी अपना योगदान दिया था और पिछले एक साल से भारत में थे।

उनके निधन की खबर जैसे ही पत्रकार समुदाय, राजनेताओं और समाज के अन्य वर्गों को हुई, तो लोगों ने सोशल मीडिया पर अपना दुख प्रकट किया और ईश्वर से दिवंगत आत्मा को आश्रय देने और उनके परिवार को यह दुख सहने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की।

 

 

 

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

मातृभूमि के MD एम.वी. श्रेयम्स कुमार को PTI के निदेशक मंडल में मिली बड़ी जिम्मेदारी

एम.वी. श्रेयम्स कुमार इंडियन न्यूजपेपर सोसायटी के केरल रीजनल कमेटी के चेयरमैन व सेंट्रल एग्जिक्यूटिव कमेटी के मेंबर भी हैं।

Last Modified:
Tuesday, 30 June, 2020
MV-Shreyms

प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया (PTI) ने मातृभूमि के मैनेजिंग डायरेक्टर एम.वी. श्रेयम्स कुमार को अपने निदेशक मंडल (बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स) का नया सदस्य नियुक्त किया है। बता दें कि उनकी यह  नियुक्ति 5 जून से लागू हो गई है।

मातृभूमि के पूर्व चेयरमैन व मैनेजिंग डायरेक्टर एम.पी. वीरेंद्र कुमार के आकस्मिक निधन के बाद खाली हुए पद पर तत्काल रूप से एम.वी. श्रेयम्स कुमार को नियुक्त किया गया है। पीटीआई के एडिटर-इन-चीफ विजय जोशी ने सोमवार को एम.वी. श्रेयम्स कुमार की नियुक्ति की घोषणा की है।

एम.वी. श्रेयम्स कुमार इंडियन न्यूजपेपर सोसायटी के केरल रीजनल कमेटी के चेयरमैन व सेंट्रल एग्जिक्यूटिव कमेटी के मेंबर भी हैं। इसके अतिरिक्त वह इंडियन एडवर्टाइजिंग एसोसिएशन के ग्लोबल वाइस प्रेजिडेंट, न्यूज ब्रॉडकास्टर्स एसोसिएशन के एग्जिक्यूटिव कमेटी मेंबर और केरल टेलिविजन फेडरेशन के प्रेजिडेंट भी हैं।

        

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

जल्द ही इस तरह के दो चैनल शुरू करेगी यूपी सरकार

यह फैसला डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा की अध्यक्षता में शिक्षा समिति की बैठक में लिया गया है। यह बैठक विधानभवन स्थित उप मुख्यमंत्री के कक्ष में आयोजित की गई

Last Modified:
Monday, 29 June, 2020
Channels

कोरोना महामारी ने शिक्षा के क्षेत्र को भी प्रभावित किया है। लिहाजा इसे देखते हुए अब उत्तर प्रदेश सरकार शिक्षा के क्षेत्र में एक बड़ी छलांग लगाने की तैयारी कर रही है। दरअसल, यूपी सरकार जल्द ही दो नए शैक्षिक चैनल शुरू कर सकती है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, प्राथमिक स्कूलों से लेकर उच्च शिक्षण संस्थाओं में पढ़ रहे विद्यार्थियों को घर बैठे पढ़ाई कराने के लिए ही दो नए शैक्षिक चैनल शुरू करने की योजना बनायी गई है। ऐसा इसलिए क्योंकि कोरोना महामारी के चलते अभी स्कूलों को खोलने पर अनिश्चितता है। यह भी अभी तय नहीं हो पाया है कि स्कूलों में  पढ़ाई कब से शुरू की जाए। लिहाजा इसे देखते हुए विद्यार्थियों को घर बैठे ही पढ़ाई के लिए कम्युनिटी रेडियो और एक कॉमन वेबसाइट बनाकर कम्युनिटी व्यूइंग की सुविधा दी जाएगी।

यह फैसला डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा की अध्यक्षता में शिक्षा समिति की बैठक में लिया गया है। यह बैठक विधानभवन स्थित उप मुख्यमंत्री के कक्ष में आयोजित की गई, जिसमें यह भी निर्णय लिया गया है कि योग्य शिक्षकों को विश्वस्तरीय ई-कंटेट तैयार करने के लिए विशेष प्रशिक्षण दिया जाएगा।

वहीं एकेटीयू के कुलपति प्रो.विनय कुमार पाठक की अध्यक्षता में गठित की गई कमेटी के सुझाव के अनुसार डेटा सर्विसेज की दरों को कम करने के लिए एक विशेष वेबसाइट तैयार की जाएगी, जिसमें 80 फीसदी खर्च शासन और 20 फीसदी डेटा प्रोवाइडर कंपनी करेगी। इतिहास और हिंदी जैसे विषयों को रोचक ढंग से पढ़ाने के लिए कम्युनिटी रेडियो शुरू करने की योजना बन रही है। विभाग हर जिले में ऐसे शिक्षकों को चिन्हित कर रहा है, जो विषयों को रोचक ढंग से पढ़ा सकें।

बता दें कि फिलहाल माध्यमिक शिक्षा विभाग ‘स्वयंप्रभा’ चैनल के जरिये क्लासेज शुरू कर चुका है। इस चैनल पर प्रसारित किए जाने वाले वीडियो कई प्रोसेस के तहत ही प्रसारित किए जाते हैं। इसके अलावा कई बच्चे बिजली की कटौती व अन्य कई वजहों से दूरदर्शन पर प्रसारित कार्यक्रम नहीं देख पाते थे, जिसे ध्यान में रखते हुए माध्यमिक शिक्षा विभाग ने एक यूट्यूब चैनल भी लॉन्च किया है। दूरदर्शन पर प्रसारित होने वाले शैक्षिक कार्यक्रमों को इस यूट्यूब चैनल पर भी अपलोड कर दिया जाता है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए