वरिष्ठ पत्रकार अरविंद कुमार सिंह ने की नई पारी की शुरुआत, फेसबुक पर कही ये बात...

वरिष्ठ पत्रकार अरविंद कुमार सिंह ने अपनी नई पारी की शुरुआत कर दी है।

Last Modified:
Friday, 12 March, 2021
ArvindKumarSingh5454

वरिष्ठ पत्रकार अरविंद कुमार सिंह ने अपनी नई पारी की शुरुआत कर दी है। वे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व राज्य सभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिाकर्जुन खड़गे के मीडिया सलाहकार के तौर पर अपना योगदान देते नजर आएंगे।

मूल रूप से यूपी के बस्ती जिले के निवासी अरविंद कुमार सिंह की शिक्षा-दीक्षा इलाहाबाद में हुई। वे हिंदी के जाने माने लेखक और पत्रकार हैं। राज्यसभा टीवी में वरिष्ठ सहायक संपादक के तौर संसदीय मामलों के प्रमुख और कृषि व परिवहन क्षेत्र के प्रभारी के तौर पर कार्यरत रहे हैं। अरविन्द कुमार सिंह ने दशकों से खेती-बाड़ी, कृषि अनुसंधान और संचार व परिवहन तंत्र पर विशेष कार्य किया है। उन्होंने अपनी नई पारी की जानकारी फेसबुक के माध्यम से दी है, उन्होंने लिखा-

आदरणीय मित्रों,

भारतीय संसद में राज्य सभा में नेता प्रतिपक्ष श्री मल्लिकार्जुन खरगेजी के मीडिया सलाहकार की भूमिका में मैने अपना कामकाज संभाल लिया है। कुछ मित्रों को यह खबर अपने स्त्रोतों से पता चल गयी थी और उन्होंने फेसबुक पर इसे डाल दिया था। लेकिन मेरा मत था कि जब तक नियुक्ति की आधिकारिक प्रति राज्य सभा सचिवालय से नहीं मिल जाती, मेरे अपने तरफ से कोई टिप्पणी करना उचित नहीं।

वैसे तो पत्रकारिता करते लंबा समय हो गया है। कई भूमिकाओं में काम किया। स्टिंगर से लेकर संपादक तक। नगर पालिका से लेकर संसद तक। तमाम दिग्गज राजनेताओं से संवाद रहा और उनका स्नेह मिला। खरगेजी एक जमीनी और आज के दौर के वरिष्ठतम नेताओं में हैं। इस इरादे से मैं उनकी टीम का हिस्सा बना कि उनके विराट अनुभव से ज्ञान भंडार विस्तृत होगा और बहुत कुछ सीखने समझने को मिलेगा। बेशक यह सहज भूमिका नहीं है लेकिन हमारे जीवन में रेलवे मंत्रालय के कुछ सालों को छोड़ दें तो ऐसे चुनौती भरे मौके आते रहे हैं।

भारतीय संसद के साथ मेरा जुड़ाव एक पत्रकार के तौर पर 1989 के दौरान हुआ जब विश्वनाथ प्रताप सिंह की सरकार बनी। कई अखबारों का प्रतिनिधित्व करते हुए वहां आना-जाना बना रहा। ऐसा नहीं है कि लोक सभा की गैलरी में नहीं गया लेकिन चंद मौकों पर ही। अन्यथा लगातार राज्य सभा को ही देखा। लोक सभा टीवी निकला तो भी गेस्ट के तौर पर जाता रहा।

लेकिन जब श्री गुरदीप सिंह सप्पल के नेतृत्व में एक राज्य सभा टीवी का जन्म हुआ तो उसके आरंभिक काल में मै जुड़कर संसद का अंग बना। जॉइन किया तो कई नेताओं का नाम उछाला गया कि इन्होंने सिफारिश की होगी। लेकिन सच बात तो यह थी इसमें मेरे पत्रकार मित्र फिरोज नकवी का ही बड़ा योगदान था जो अपने साथ मेरा भी फार्म भर आए थे। बुलावा आया, बहुत कठिन इंटरव्यू हुआ। एक से एक संसदीय मामलों के जानकार बैठे थे, लेकिन मैं चुन लिया गया। अब दिक्कत यह थी कि रेलवे मंत्रालय मुझे रिलीव करने को तैयार नहीं था। चार महीने की कोशिश के बाद मैने 1 अगस्त 2011 को जब राज्य सभा टीवी जॉइन किया, तो वहां बाकायदा कामकाज चालू हो गया था। हालांकि साजो सामान जुटने की प्रक्रिया थी। लंबा किस्सा फिर कभी।

चयन के बाद गुरदीपजी से पहली मुलाकात हुई तो मैने अपनी दुविधा उनको बता दी कि मैने टीवी में कभी काम किया नहीं है। उनका कहना था कि आपका चयन आपके संसदीय ज्ञान के आधार पर हुआ है, वही हमें चाहिए। और आपके पास तो कुछ और विषयों का भी ज्ञान है। बहुत सी बातें हैं, राज्य सभा टीवी इतिहास का विषय बन चुका है। मुझ जैसे इतिहास के विद्यार्थी के जिम्मे यह काम भी है कि मैं राज्य सभा टीवी के इतिहास को लिखूं और लिखूंगा भी क्योंकि काफी काम कर चुका हूं और मानता हूं जो सप्पलजी ने जो टीम बनायी थी, शायद ही पत्रकारिता के इतिहास में फिर वैसी टीम जुट सके और उनके जैसा नेतृत्व मिल सके जिसका सबसे अधिक समय सबको जोड़ कर रखने में बीतता रहा हो। मैं इस मामले में भाग्यशाली रहा कि उस 2013 में संसदीय मामलों का एक विभाग मेरे नेतृत्व में बना जिसमें कई दायित्वों के साथ संसद और विधान सभाओं के मामले भी शामिल थे उसका नेतृत्व मैने कई। कई देशों की यात्रा का मौका भी मिला। 

राज्य सभा टीवी में हमारे वरिष्ठ श्री राजेश बादल जी ने हमें टीवी पत्रकारिता के बारे में बहुत कुछ सिखाया और समझाया और मेरी बहुत सी चर्चित स्पेशल रिपोर्ट में उनका बड़ा योगदान है। शायद लोगों को हैरानी लगे, लेकिन वहां इतनी आजादी रही कि आखिरी कुछ रिपोर्टों को छोड़ दें तो मेरी कोई भी रिपोर्टं कभी किसी वरिष्ठ सहयोगी ने प्रिव्यू नहीं की और न ही स्क्रिप्ट देखी। जो कुछ देखा गया वह स्क्रीन पर ही। जो देखा कभी मैने तो कभी हमारी साथी ममता ने जिनके जिम्मे शूटिंग से लेकर प्रॉडक्शन जैसे कई काम थे। हमारे सभी कैमरामैन साथी और वीटी एडिटर मेरे प्रति बेहद उदार और मेरी तकनीकी अज्ञानता की ढाल बने रहे। साथी इरफान की आवाज मेरे अधिकतर कार्यक्रमों की जान रही। श्री विनीत दीक्षित, कुरबान अली, नीलू व्यास थॉमस जैसे प्रतिभाशाली सहयोगी मिले, जिनके विराट अनुभव और ज्ञान भंडार से मैने खुद को संपन्न किया।

यही नही मेरे तमाम आयोजनों में नौकरशाही की अड़चनों को दूर करने में चेतन दत्ता जी का बहुत सहयोग मिला। मैने उनके जैसा प्रशासनिक क्षमता वाला व्यक्ति नहीं देखा जो घड़ी देखे बिना हमेशा काम करते रहे और विभिन्न विषयों की व्यापक समझ और ज्ञान के नाते चैनल को उन्नत बनाने में हमेशा सहयोग करते रहे। गुरदीपजी और इनका प्रयास था कि राज्य सभा टीवी पब्लिक ब्राडकास्टिंग की दुनिया में कुछ नया करे, लेकिन शायद उनको भी यह अंदाज नहीं था कि यह 10 साल के सफर में ऐसा शानदार इतिहास बना देगा कि लोग इसके योगदान को याद रखेंगे। बातें बहुत हैं और दस्तावेजों के साथ बात कहने की अपनी आदत है। आगे विस्तार से लिखूंगा। लेकिन इस बात को लिखते समय एक शानदार संस्था के इतिहास बनने की तकलीफ भी हो रही है, जिसकी संस्थापक टीम का मैं सदस्य रहा। प्रधान संपादक के तौर पर श्री राहुल महाजन ने इसे संभालने की कोशिश की और हम लोगों की आजादी बरकरार रखी थी। बातें बहुत सी याद आ रही हैं, लेकिन प्रयोजन अलग है इस नाते यहीं विराम। राज्य सभा टीवी उस रूप में न हो लेकिन लोकतंत्र के शानदार इतिहास के सफर में राज्य सभा अपना योगदान दे रही है।

अब मेरे सामने नयी भूमिका और नयी चुनौतियां हैं। लेकिन ऐसे मौके मुझे एक नयी ताकत देते हैं। वह ताकत मेरे मित्रों की हैं जो हर अच्छे और बुरे मौकों पर मेरी ढाल बन कर खड़े मिलते रहे हैं। आज फिर मुझे आप सभी की जरूरत है। उम्मीद है कि मेरे मित्र और अग्रज उसी भाव से मेरे साथ खड़े होंगे।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इस न्यूज चैनल में स्टेट हेड बने वरिष्ठ पत्रकार दिनेश त्रिपाठी

मूल रूप से जौनपुर (उत्तर प्रदेश) के रहने वाले दिनेश त्रिपाठी ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय से पोस्ट ग्रेजुएशन किया है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 26 November, 2021
Last Modified:
Friday, 26 November, 2021
Dinesh Tripathi

वरिष्ठ पत्रकार दिनेश त्रिपाठी ने ‘के न्यूज’ (K News) चैनल के साथ अपना नया सफर शुरू किया है। उन्होंने इस चैनल में बतौर स्टेट हेड (उत्तर प्रदेश) जॉइन किया है। वह लखनऊ से अपना कामकाज संभालेंगे।  

मूल रूप से जौनपुर (उत्तर प्रदेश) के रहने वाले दिनेश त्रिपाठी ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय से पोस्ट ग्रेजुएशन किया है। पत्रकारिता के क्षेत्र में उन्होंने अपने करियर की शुरुआत वर्ष 2007 में ‘आज‘ अखबार के नोएडा ब्यूरो ऑफिस से की थी।

इसके बाद उन्होंने ‘NNI‘ न्यूज एजेंसी और फिर ‘हिंदुस्तान‘ दिल्ली का सफर तय किया। इसके बाद निजी कारणों से दिनेश त्रिपाठी को लखनऊ आना पड़ा। लखनऊ में वह ‘दैनिक प्रभात‘ समेत कई अखबारों में कार्यरत रहे।

प्रिंट मीडिया में लंबे समय तक अपनी जिम्मेदारी निभाने के बाद वर्ष 2017 में उन्होंने इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का रुख किया। पहले ‘tv24‘,  उसके बाद ‘न्यूज वर्ल्ड इंडिया‘ और फिर ‘जनता टीवी‘ के बाद अब उन्होंने अपनी नई पारी की शुरुआत ‘के न्यूज‘ के उत्तर प्रदेश ब्यूरो प्रमुख के रूप में शुरू की है। समाचार4मीडिया की ओर से दिनेश त्रिपाठी को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

झारखंड में पत्रकारों को मिलेगी ये बड़ी सौगात, प्रस्ताव मंजूर

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने यहां के पत्रकारों को एक बड़ी सौगात दी है। दरअसल, झारखंड में कार्यरत मीडियाकर्मियों को स्वास्थ्य बीमा योजना से जोड़ने की घोषणा की गयी है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 26 November, 2021
Last Modified:
Friday, 26 November, 2021
journalists54

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने यहां के पत्रकारों को एक बड़ी सौगात दी है। दरअसल, झारखंड में कार्यरत मीडियाकर्मियों को स्वास्थ्य बीमा योजना से जोड़ने की घोषणा की गयी है। सीएम सोरेन ने गुरुवार को इस बाबत सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग द्वारा झारखंड राज्य पत्रकार स्वास्थ्य बीमा योजना नियमावली-2021 के गठन और इसकी नियमावली के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। अब इसे मंत्रिमंडल से पारित कराया जाएगा।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस योजना नियमावली के तहत मीडियाकर्मियों का अभिप्राय वैसे लोगों से है, जो प्रधान संपादक, समाचार संपादक, उप संपादक, संवाददाता, छाया पत्रकार, वीडियोग्राफर पत्रकार और समाचार व्यंगकार चित्रकार आदि हैं, जो किसी दैनिक, साप्ताहिक, पाक्षिक, मासिक, टैबलॉयड समाचार पत्र, पत्रिका समाचार एजेंसी, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, न्यू मीडिया (सामाचार आधारित वेब साइट्स/ वेब पोर्टल) में कार्य कर रहे हों। साथ ही दि वर्किग जर्नलिस्ट एंड अदर न्यूज पेपर एम्प्लॉयी (कंडिसन्स ऑफ सर्विस) एंड मिसलिनियस प्रॉविजन्स एक्ट 1985 से परिभाषित किए गए हों। यह योजना अधिसूचना जारी होने के दिन से प्रभावी होगी।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, झारखंड राज्य पत्रकार स्वास्थ्य बीमा योजना नियमावली-2021  मीडिया प्रतिनिधियों के लिए ग्रुप बीमा के रूप में लागू होगी। बीमा लागू होने की तिथि से बीमाधारक मीडिया प्रतिनिधि सहित उसके पति/पत्नी एवं 21 वर्ष की आयु के दो अविवाहित एवं निर्भर संतान को लाभ मिलेगा। इसमें नियत प्रीमियम राशि का भुगतान राज्य सरकार और बीमाधारक मीडिया प्रतिनिधि के द्वारा क्रमशः 80 और 20 के अनुपात में किया जाएगा।

बीमाधारक मीडिया प्रतिनिधि का व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा पांच लाख रुपए का होगा। इसके अतिरिक्त उनके आश्रितों व सभी बीमितों को ग्रुप मेडिक्लेम विषयक भी कुल 5 लाख रुपए तक के चिकित्सा खर्च की सुविधा प्रदान की जाएगी। यह बीमा योजना एक वर्ष के लिए मान्य होगा और साथ ही प्रतिवर्ष नवीनीकरण का भी प्रावधान होगा। वहीं, इस योजना के अंतर्गत बीमाधारक की दुर्घटना में मृत्यु होने पर उसके नाम निर्देशित सदस्य अथवा स्थायी रुप से निःशक्त होने होने पर स्वयं बीमा धारक के दावे का निम्न प्रावधान किया गया है।

दावे का प्रावधान

दावा हेतु अवधारित प्रपत्र में सूचना 

पुलिस थाने में दर्ज कराई गई एफआईआर की प्रति 

आवश्यक पोस्टमार्टम रिपोर्ट अथवा मेडिकल बोर्ड का प्रमाण पत्र

मृत्यु प्रमाण पत्र

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

मातृभूमि ग्रुप ने देविका श्रेयम्स कुमार को सौंपी यह बड़ी जिम्मेदारी

देविका श्रेयम्स कुमार सीधे कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर एम.वी श्रेयम्स कुमार को रिपोर्ट करेंगी।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 26 November, 2021
Last Modified:
Friday, 26 November, 2021
Devika Shreyams Kumar

केरल के प्रमुख मीडिया समूह ‘मातृभूमि’ (Mathrubhumi) ने देविका श्रेयम्स कुमार को वाइस प्रेजिडेंट (ऑपरेशंस) के पद पर नियुक्त किया है। अपनी इस भूमिका में वह समूह के सभी महत्वपूर्ण कार्यों, जैसे- सर्कुलेशन, रिस्पॉन्स, प्रोडक्शन, कॉमर्शियल, फाइनेंस, पब्लिक रिलेशंस और ब्रैंड कम्युनिकेशंस आदि के लिए जिम्मेदार होंगी। देविका श्रेयम्स कुमार सीधे कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर को रिपोर्ट करेंगी।  

इस बारे में ‘मातृभूमि’ समूह के मैनेजिंग डायरेक्टर एम.वी श्रेयम्स कुमार का कहना है, ‘हम देविका का स्वागत करते हैं। मुझे विश्वास है कि वह पूरे समूह में बेहतर परिचालन क्षमता के लिए नई ऊर्जा, विचार और उत्साह लाएंगी। वर्तमान मीडिया परिदृश्य में समूह के विकास के अगले चरण को परिभाषित करने में यह काफी महत्वपूर्ण होगा। मैं देविका को शुभकामनाएं देता हूं।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

युवा पत्रकार हिमांशु तिवारी ने इस मीडिया समूह के साथ शुरू किया नया सफर

इस नई पारी को शुरू करने से पहले वह करीब साढ़े चार साल से लखनऊ में ‘नवभारत टाइम्स’ के डिजिटल वेंचर से जुड़े हुए थे।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 26 November, 2021
Last Modified:
Friday, 26 November, 2021
Himanshu Tiwari

युवा पत्रकार हिमांशु तिवारी ने ‘इंडिया टुडे’ समूह के साथ अपने नए सफर की शुरुआत की है। उन्होंने ‘इंडिया टुडे’ समूह की वेबसाइट ‘द लल्लनटॉप’ में बतौर चीफ सब एडिटर जॉइन किया है।

हिमांशु तिवारी को पत्रकारिता के क्षेत्र में काम करने का करीब साढ़े छह साल का अनुभव है। इस नई पारी को शुरू करने से पहले वह करीब साढ़े चार साल से लखनऊ में ‘नवभारत टाइम्स’ के डिजिटल वेंचर से जुड़े हुए थे। हिमांशु ने कानपुर के जागरण इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड मास कम्युनिकेशन से ‘एमसीएजे’ करने के दौरान ही स्वतंत्र लेखन शुरू कर दिया था।

हिमांशु ने ‘न्यूज एक्सप्रेस‘ में बतौर असिस्टेंट प्रड्यूसर अपने करियर की शुरुआत की थी। कुछ ही दिनों में उनके काम को देखते हुए चैनल प्रबंधन ने उन्हें प्रड्यूसर पद की जिम्मेदारियां थमा दीं। हालांकि चैनल बंद हो जाने की वजह से सभी कर्मचारियों को एक बड़ा झटका लगा। इसके बाद हिमांशु ‘वन इंडिया’ (फ्रीलांस जर्नलिस्ट) और ‘आर्यावर्त’ के साथ भी जुड़े रहे।

कांशीराम के करीबी आरके चौधरी, कांग्रेसी नेता दिग्विजय सिंह, शीला दीक्षित, योगी आदित्यनाथ से बातचीत कर एक्सक्लूसिव देने वाले हिमांशु तिवारी ने ‘वन इंडिया’ से नाता तोड़कर ‘भारत समाचार’ में अपनी नई पारी शुरू की और फिर बाद में यहां से अलविदा कहकर ‘नवभारत टाइम्स‘ के साथ जुड़ गए थे। ‘एनबीटी ऑनलाइन’ में रहते हुए हिमांशु ने मुनव्वर राणा के कई इंटरव्यू और करगिल के शौर्यवीर समेत कई सीरीज की हैं। समाचार4मीडिया की ओर से हिमांशु तिवारी को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

RSS प्रमुख के साथ न्यूज चैनल्स के संपादकों की बैठक, अहम मुद्दों पर हुई चर्चा

इस बैठक में आरएसएस के पश्चिमी यूपी के क्षेत्रीय प्रमुख सूर्य प्रकाश टोंक और आरएसएस के नेशनल कम्युनिकेशन हेड राम लाल भी मौजूद रहे।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 24 November, 2021
Last Modified:
Wednesday, 24 November, 2021
Meeting

‘राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ’ (RSS) के प्रमुख मोहन भागवत ने मंगलवार को ग्रेटर नोएडा में प्रमुख न्यूज चैनल्स के वरिष्ठ संपादकों के साथ बैठक की। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इस बैठक में आरएसएस के पश्चिमी यूपी के क्षेत्रीय प्रमुख सूर्य प्रकाश टोंक और आरएसएस के नेशनल कम्युनिकेशन हेड राम लाल भी मौजूद रहे।

बताया जाता है कि इस बैठक में जिन वरिष्ठ संपादकों ने शिरकत की, उनमें ‘सुदर्शन न्यूज’ के एडिटर सुरेश चव्हाणके, ‘आजतक’ के एग्जिक्यूटिव एडिटर और एंकर सईद अंसारी, ‘नेटवर्क18’ के ग्रुप मैनेजिंग एडिटर ब्रजेश कुमार सिंह, ‘एबीपी न्यूज’ के वाइस प्रेजिडेंट (न्यूज और प्रॉडक्शन) सुमित अवस्थी, ‘एबीपी न्यूज’ के एंकर विकास भदौरिया, ‘इंडिया टुडे’ के सीनियर एग्जिक्यूटिव एडिटर और एंकर गौरव सावंत, ‘न्यूज24’ की एडिटर अनुराधा प्रसाद, ‘इंडिया टुडे ग्रुप’ के न्यूज डायरेक्टर सुप्रिय प्रसाद और ‘टाइम्स नेटवर्क’ की ग्रुप एडिटर नाविका कुमार शामिल थीं।

उपरोक्त नामों वाली बैठक की एक तस्वीर ट्विटर पर सामने आई है। कथित तौर पर यह बैठक दो घंटे तक चली, जिसमें राष्ट्रीय महत्व के कई मुद्दों पर चर्चा हुई।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

IMPACT Person of the Year 2020 के नाम से दो दिसंबर को उठेगा पर्दा, 'रेस' में हैं ये नाम

पहली बार दिल्ली में हो रहा है यह आयोजन, द इंपीरियल होटल में होने वाले इस अवॉर्ड समारोह की मुख्य अतिथि केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी होंगी।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 24 November, 2021
Last Modified:
Wednesday, 24 November, 2021
IPOY

एक्‍सचेंज4मीडिया (exchange4media) ग्रुप द्वारा मीडिया, मार्केटिंग और एडवर्टाइजिंग के क्षेत्र में बेहतरीन योगदान देने और ऊंचाइयों को छूने वालों को हर साल दिए जाने वाले ‘इंपैक्‍ट पर्सन ऑफ द ईयर’ (IMPACT Person of the Year) अवॉर्ड का सिलसिला साल दर साल जारी है। इस बार बहुप्रतीक्षित ‘इंपैक्ट पर्सन ऑफ द ईयर अवॉर्ड’ (IMPACT Person of the Year award) के विजेता के नाम से दो दिसंबर को पर्दा उठ जाएगा। यह ‘इंपैक्ट पर्सन ऑफ द ईयर अवॉर्ड’ का 16वां एडिशन है।

दिल्ली के ‘द इंपीरियल’ होटल में दो दिसंबर को शाम करीब छह बजे से आयोजित होने वाले एक समारोह में यह अवॉर्ड दिया जाएगा। यह पहला मौका है, जब यह अवॉर्ड समारोह दिल्ली में आयोजित किया जाएगा। कार्यक्रम में केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी मुख्य अतिथि होंगी। बता दें कि अमेठी से निर्वाचित सांसद स्मृति ईरानी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली मंत्रिपरिषद में सबसे कम उम्र की मंत्री हैं और केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री और केंद्रीय कपड़ा मंत्री के रूप में पद संभालने वाली पहली महिला हैं।

इस साल इस अवॉर्ड के लिए नॉमिनेट होने वालों में ‘Zomato’ के को-फाउंडर और सीईओ दीपिंदर गोयल, ‘Nykaa’ की सीईओ और फाउंडर फाल्गुनी नायर, ‘Publicis Groupe’ की सीईओ (साउथ एशिया) अनुप्रिया आचार्य, ‘Dream 11’ के को-फाउंडर्स हर्ष जैन और भावित सेठ, ‘Nazara Technologies’ के फाउंडर और जॉइंट एमडी नीतीश मित्रसेन, ‘Swiggy’ के को-फाउंडर्स राहुल जैमिनी, श्रीहर्ष मजेटी और नंदन रेड्डी, ‘ITC’ के चेयरमैन और एमडी संजीव पुरी, ‘upGrad’ के चेयरपर्सन और को-फाउंडर रोनी स्क्रूवाला और ‘Amul’ के एमडी (GCMMF) आर.एस सोढ़ी शामिल हैं।

इससे पहले यह अवॉर्ड उदय शंकर (2010), एजनेलो डायस और हरीश चावला (2011), अंबिका सोनी (2012), विनीत जैन (2013), पुनीत गोयनका (2014), अरनब गोस्वामी (2015), विजय शेखर शर्मा (2016), बाबा रामदेव (2017), राजन अनंदन (2018) और बायजू रवींद्रन (2019) आदि को मिल चुका है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

PTC पंजाबी ने शुरू किया 'वॉयस ऑफ पंजाब' का 12वां सीजन, यूं होगा खास

पीटीसी पंजाबी (PTC Punjabi) ने अपने सबसे बड़े और लंबे समय तक चलने वाले सिंगिंग टीवी रियलिटी शो वॉयस ऑफ पंजाब के बारहवें संस्करण को 22 नवंबर को लॉन्च कर दिया है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 23 November, 2021
Last Modified:
Tuesday, 23 November, 2021
VOP45454.jpg

पीटीसी पंजाबी (PTC Punjabi) ने अपने सबसे बड़े और लंबे समय तक चलने वाले सिंगिंग टीवी रियलिटी शो 'वॉयस ऑफ पंजाब' के बारहवें संस्करण को 22 नवंबर को लॉन्च कर दिया है। सीजन-12 का प्रसारण 22 नवंबर से हर सोमवार से गुरुवार शाम 7 बजे पीटीसी पंजाबी पर शुरू हो चुका है।

रंजीत बावा, गुरनाम भुल्लर, अफसाना खान, मन्नत नूर और निम्रत खैरा सहित म्यूजिक इंडस्ट्री के कुछ प्रमुख गायकों को लॉन्च करने वाला शो ‘वॉयस ऑफ पंजाब’ पहली बार 2011 में प्रसारित हुआ था।

इस साल ‘वॉयस ऑफ पंजाब’ सीजन 12 के लिए, चैनल ने ऑनलाइन ऑडिशन के माध्यम से भागीदारी को आमंत्रित किया और उसी के आधार पर कई संभावित पार्टिसिपेंट्स ने पूरे पंजाब के सभी क्षेत्रों से भाग लिया और शॉर्टलिस्ट किए गए प्रतिभागियों को वॉक इन ऑडिशन के दौरान स्क्रीनिंग और तय पैमानों  के माध्यम से मेगा ऑडिशन के लिए शॉर्टलिस्ट किया जाएगा। इसके बाद चुने गए बेहतरीन 20 प्रतियोगी ‘वॉयस ऑफ पंजाब’ के इस वर्ष के प्रतिष्ठित टाइटल के लिए मुकाबला करेंगे।

कई एपिसोड्स के दौरान प्रतियोगियों को प्रसिद्ध पंजाबी गायकों और म्यूजिकल आइकन द्वारा परखा जाएगा। अनुभवी और जानी मानी कलाकार अमर नूरी सेट पर वापस आएंगी और लगभग एक साल बाद मुख्यधारा के संगीत जगत में सक्रिय होंगी। प्लेबैक बॉलीवुड गायक और पंजाब के प्रतिष्ठित गायक मास्टर सलीम और संगीत निर्देशक गुरमीत सिंह भी अमर नूरी के साथ जूरी सदस्यों के रूप में शामिल होंगे।

सभी एपिसोड्स में पंजाबी संगीत जगत से विशेष मेहमान जूरी सदस्य के तौर पर भाग लेंगे और युवाओं को प्रेरित करेंगे। ‘वॉयस ऑफ पंजाब’ सीजन 12 के लिए इस साल की थीम है, ‘चलो जिंदगी के सुर बदलें’

इस साल दर्शकों से भारी समर्थन मिला और शो में पंजाब के अलावा भारत के कई अन्य शहरों से सक्रिय भागीदारी देखी गई। वीओपी के इस बारहवें सीजन में पड़ोसी राज्यों जैसे हरियाणा, जम्मू, दिल्ली और बिहार के प्रतिभागी भी दिखाई देंगे।

यह नया सीजन भी हर सीजन की तरह भविष्य के पंजाबी गायकों को अवसरों का एक बड़ा मंच प्रदान करने के वादे के साथ आया है और संगीत जगत के लिए एक नया हीरा तराशने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

इस शो की मेजबानी गुरजीत सिंह करेंगे, जो कई सीजन के लिए पीटीसी नेटवर्क से जुड़े रहे हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

SONY से जुड़े प्रशांत भट्ट, मिली यह अहम जिम्मेदारी

अपनी इस भूमिका में वह ‘सोनी सब’ के बिजनेस हेड नीरज व्यास को रिपोर्ट करेंगे।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Monday, 22 November, 2021
Last Modified:
Monday, 22 November, 2021
Prashant Bhatt

‘सोनी पिक्चर्स नेटवर्क इंडिया’ (SPNI) ने प्रशांत भट्ट को ‘सोनी सब’ (Sony SAB) का प्रोग्रामिंग हेड नियुक्त किया है। अपनी इस भूमिका में  प्रशांत भट्ट चैनल के लिए कंटेंट और प्रोग्रामिंग डिवीजन का नेतृत्व करेंगे और कंटेंट लाइन-अप और चैनल की क्रिएटिव स्ट्रैटेजी का प्रबंधन भी करेंगे।  

बता दें कि प्रशांत भट्ट को कंटेंट क्रिएशन और ऑडियंस की काफी गहरी समझ है। उन्हें एंटरटेनमेंट जॉनर का काफी अनुभव है। अपनी इस भूमिका में वह ‘सोनी सब’ के बिजनेस हेड नीरज व्यास को रिपोर्ट करेंगे।  

27 साल से ज्यादा के अपने करियर में प्रशांत भट्ट ब्रॉडकास्ट मीडिया में तमाम महत्वपूर्ण पदों पर अपनी जिम्मेदारी निभा चुके हैं। इंडस्ट्री में कंटेंट टीमों का नेतृत्व करने से पहले प्रशांत भट्ट ने टीवी में अपना करियर बतौर लेखक और क्रिएटिव डायरेक्टर शुरू किया था।

अपनी नियुक्ति के बारे में प्रशांत भट्ट का कहना है, ‘एक ब्रैंड के रूप में  सोनी सब टेलीविजन कंटेंट को और बेहतर करने के लिए लगातार प्रयास कर रहा है और ऐसे नैरेटिव पेश करता है जो इनोवेटिव और  अच्छी तरह से तैयार किए गए हैं। सोनी सब में अपनी भूमिका में मैं इस क्षेत्र में आगे के विकास का नेतृत्व करूंगा और यह सुनिश्चित करूंगा कि हम प्रभावी और मनोरंजक कहानी कहने (entertaining storytelling) की दिशा में आगे बढ़ते रहें।’  

वहीं, इस बारे में नीरज व्यास का कहना है, ‘प्रोग्रामिंग हेड के रूप में प्रशांत भट्ट की नियुक्ति को लेकर हम काफी खुश हैं। मुझे विश्वास है कि प्रशांत की विशेषज्ञता और इंडस्ट्री के बारे में उनकी गहरी समझ हमें अपनी प्रोग्रामिंग क्षमताओं को और मजबूत करने में मदद करेगी।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

देश को कंटेंट क्रिएशन का पावरहाउस बनाने के लिए प्रतिबद्ध है सरकार: अनुराग ठाकुर

गोवा में 52वें भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव के उद्घाटन समारोह को संबोधित कर रहे थे केंद्रीय सूचना प्रसारण मंत्री

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Monday, 22 November, 2021
Last Modified:
Monday, 22 November, 2021
Anurag Thakur

केंद्रीय सूचना प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर का कहना है कि सरकार देश को कंटेंट क्रिएशन पावरहाउस और दुनिया का पोस्ट-प्रोडक्शन हब बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। गोवा में 52वें भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (आईएफएफआई) के उद्घाटन समारोह में अनुराग ठाकुर का कहना था, ‘हमारा लक्ष्य विशेष रूप से क्षेत्रीय कार्यक्रमों को आगे बढ़ाकर भारत को कंटेंट निर्माण का एक पावरहाउस बनाना है। हम अपने प्रतिभाशाली युवाओं की तकनीकी प्रतिभा का लाभ उठाकर देश को दुनिया का पोस्ट-प्रोडक्शन हब बनाने के अपने प्रयासों के प्रति भी दृढ़संकल्पित हैं। हमारा लक्ष्य भारत को फिल्म निर्माताओं और प्रेमियों के लिए सबसे पसंदीदा जगह बनाने के साथ-साथ इसे विश्व सिनेमा का केंद्र बनाना है।’

यह उल्लेख करते हुए कि फिल्म निर्माण के क्षेत्र में बहुत से युवा हैं, अनुराग ठाकुर ने कहा कि ये युवा फ्रेश कंटेंट के लिए पावरहाउस हैं। इसके साथ ही उनका कहना था, ‘कनेक्टिविटी, संस्कृति और वाणिज्य के बेजोड़ संयोजन के साथ भारत सिनेमाई ईकोसिस्टम का केंद्र बनने की दिशा में अग्रसर है। आज भारत की कहानी भारतीयों द्वारा लिखी और परिभाषित की जा रही है।’

उन्होंने इस क्षेत्र में रोजगार की अपार संभावनाओं पर भी प्रकाश डाला और कहा, ‘फिल्म और मनोरंजन उद्योग बड़े रोजगार अवसर प्रदान करता है, क्योंकि हम कंटेंट और फिल्म निर्माण के डिजिटल युग में काफी आगे बढ़ रहे हैं, फिल्म प्रेमियों की आने वाली पीढ़ियों के लिए फिल्म संग्रह को नहीं भूलना चाहिए। भारत का लक्ष्य फिल्म निर्माण के लिए पसंदीदा ठिकाना बनना है। इसके तहत फिल्म निर्माताओं की सुविधा के लिए फिल्म सुविधा कार्यालय (Film Facilitation Office) भी खोला गया है।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

पत्रकार को फोन कर मार्केट में बुलाया, फिर सीने में दाग दी गोली

गंभीर हालत में पत्रकार को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हमले के बाद भाग रहे आरोपित को भीड़ ने दबोच लिया और जमकर पिटाई करने के बाद उसे पुलिस को सौंप दिया है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Monday, 22 November, 2021
Last Modified:
Monday, 22 November, 2021
Fire

पत्रकारों पर हमलों की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। पिछले दिनों बिहार के मधुबनी जिले के बेनीपट्टी के स्थानीय पत्रकार और आरटीआई कार्यकर्ता अविनाश झा ऊर्फ बुद्धिनाथ झा की अपहरण के बाद हत्या का मामला सामने आया था। वहीं, अब कुछ इसी तरह का एक और मामला बिहार से ही सामने आया है, जहां अररिया जिले के रानीगंज थाना क्षेत्र के गीतवास बाजार में रविवार को सरेशाम एक पत्रकार को गोली मार दी गई।

स्थानीय अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर हालत में पत्रकार को बेहतर इलाज के लिए पूर्णिया रेफर किया गया है। हमले के बाद भाग रहे आरोपित को भीड़ ने दबोच लिया और जमकर पिटाई करने के बाद उसे पुलिस को सौंप दिया। पुलिस ने आरोपित युवक और हथियार को अपने कब्जे में ले लिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अररिया. रानीगंज थाना क्षेत्र के गीतवास बाजार में रविवार की शाम नंदकार निवासी और स्थानीय अखबार ‘सन्मार्ग’से जुड़े पत्रकार बलराम विश्वास को सुमन वर्णवाल पुत्र अशोक वर्णवाल ने गोली मार दी। सुमन वर्णवाल ने बलराम विश्वास को फोन कर बाजार में बुलाया था। गोली लगते ही बलराम विश्वास वहीं जमीन पर गिर गए। गोली की आवाज सुनकर आसपास के लोग एकत्रित हो गए और मौके से भाग रहे सुमन वर्णवाल को पकड़ लिया। भीड़ ने पहले तो सुमन वर्णवाल की जमकर पिटाई की, फिर पुलिस के आने के बाद उसे पुलिस को सौंप दिया। पकड़ा गया आरोपित युवक भी रानीगंज क्षेत्र का ही रहने वाला है।

बताया जाता है कि सुमन वर्णवाल और बलराम विश्वास के बीच किसी बात को लेकर पूर्व से विवाद चला आ रहा है। पहले भी दोनों में मारपीट हुई थी। इस मामले में दोनों पक्षों ने रानीगंज थाने में आवेदन भी दिया था। मामला पारिवारिक होने के कारण पुलिस ने उस समय समझौता करने की बात कह मामले को रफा-दफा कर लिया था। इसके बाद से आरोपित युवक सोशल मीडिया पर लगातार बलराम विश्वास को जान से मारने की धमकी दे रहा था और मौका मिलते ही उसने इस वारदात को अंजाम दे दिया।

इस घटना को लेकर बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने नाराजगी जताई है। उन्होंने सोमवार सुबह एक ट्वीट कर प्रदेश सरकार पर निशाना साधा है। अपने ट्वीट में उन्होंने हाल में ही मधुबनी में एक पत्रकार की हत्या का भी जिक्र करते हुए अररिया के पत्रकार को घर से बुलाकर गोली मारने की घटना को भी सामने रखा है।

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए