होम / इंडस्ट्री ब्रीफिंग / दिनदहाड़े हुए पत्रकार हत्याकांड पर हरकत में आई प्रेस काउंसिल, लिया ये स्टेप

दिनदहाड़े हुए पत्रकार हत्याकांड पर हरकत में आई प्रेस काउंसिल, लिया ये स्टेप

उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले में 19 जून को हुई थी पत्रकार शुभममणि त्रिपाठी की हत्या, मानवाधिकार आयोग ने भी लिया मामले का संज्ञान

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 year ago

‘भारतीय प्रेस परिषद’ (पीसीआई) ने पिछले दिनों उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले में दिनदहाड़े हुई पत्रकार की हत्या के मामले में चिंता जताई है। इसके साथ ही प्रेस काउंसिल ने इस मामले में स्वत: संज्ञान लेते हुए उत्तर प्रदेश सरकार से रिपोर्ट मांगी है। पीसीआई की ओर से शुक्रवार को जारी एक स्टेटमेंट में कहा गया है, ‘एक युवा पत्रकार की हत्या की यह घटना अत्यंत निंदनीय है।’ इसके साथ ही पीसीआई ने यूपी पुलिस और राज्य सरकार से इस मामले में जल्द से जल्द अपनी रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा है।   

‘राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग’ (The National Human Rights Commission) ने भी इस मामले में शुक्रवार को राज्य सरकार व उत्तर प्रदेश के पुलिस प्रमुख को नोटिस जारी कर विस्तृत रिपोर्ट मांगी है। वहीं, राज्य सरकार को स्वतंत्र एजेंसी से मामले की निष्पक्ष जांच करवाने और पीड़ित के परिवार व मामले में गवाहों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए भी निर्देशित किया गया है। आयोग की ओर से जारी एक स्टेटमेंट में कहा गया है, ‘यह राज्य सरकार की ड्यूटी है कि वह मीडियाकर्मियों को पर्याप्त सुरक्षा उपलब्ध कराए। शुभमत्रिपाठी की हत्या काफी चिंता का विषय है और यह मानवाधिकार उल्लंघन से जुड़ा मुद्दा भी है।’

गौरतलब है कि पिछले शुक्रवार को उन्नाव के गंगाघाट कोतवाली क्षेत्र राजधानी मार्ग के पास सहजनी चौराहे पर कुछ बदमाशों ने दिनदहाड़े शुभममणि त्रिपाठी पर ताबड़तोड़ 3 गोलियां चलाकर उसकी हत्या कर दी थी। गंगाघाट कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला पोनी रोड झंडा चौराहा निवासी 28 वर्षीय शुभममणि त्रिपाठी की घर के नीचे मोबाइल शॉप थी। वह कानपुर से प्रकाशित एक हिंदी दैनिक के प्रतिनिधि भी थे। शुक्रवार दोपहर बाद वह अपने साथी मुख्तार अहमद के साथ बाइक से उन्नाव से शुक्लागंज लौट रहे थे। उन्नाव-शुक्लागंज मार्ग स्थित सहजनी के पास उन्हें ताबड़तोड़ कई गोलियां मारी गईं, जिससे उनकी मौत हो गई, वहीं मुख्तार ने भागकर किसी तरह अपनी जान बचाई थी। मृतक के भाई की तहरीर पर पुलिस ने दिव्या अवस्थी समेत दस लोगों पर हत्या का केस दर्ज किया था।

पुलिस ने इस हत्याकांड का खुलासा करते हुए तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया था। पुलिस का कहना था कि शुभममणि की हत्या दिव्या अवस्थी नामक महिला भूमाफिया ने कराई थी। पुलिस के अनुसार, दिव्या अवस्थी ने जमीन पर अवैध कब्जा किया हुआ था। इसकी खबर शुभममणि ने चलाई थी,जिसके बाद प्रशासन ने जमीन से अवैध कब्जा हटा दिया था। इससे नाराज होकर दिव्या अवस्थी ने शुभममणि की हत्या करवा दी थी।


टैग्स पत्रकार मीडिया भारतीय प्रेस परिषद हत्या पीसीआई उन्नाव शुभममणि त्रिपाठी मानवाधिकार आयोग
सम्बंधित खबरें

इस न्यूज चैनल में स्टेट हेड बने वरिष्ठ पत्रकार दिनेश त्रिपाठी

मूल रूप से जौनपुर (उत्तर प्रदेश) के रहने वाले दिनेश त्रिपाठी ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय से पोस्ट ग्रेजुएशन किया है।

1 day ago

झारखंड में पत्रकारों को मिलेगी ये बड़ी सौगात, प्रस्ताव मंजूर

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने यहां के पत्रकारों को एक बड़ी सौगात दी है। दरअसल, झारखंड में कार्यरत मीडियाकर्मियों को स्वास्थ्य बीमा योजना से जोड़ने की घोषणा की गयी है।

1 day ago

मातृभूमि ग्रुप ने देविका श्रेयम्स कुमार को सौंपी यह बड़ी जिम्मेदारी

देविका श्रेयम्स कुमार सीधे कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर एम.वी श्रेयम्स कुमार को रिपोर्ट करेंगी।

1 day ago

युवा पत्रकार हिमांशु तिवारी ने इस मीडिया समूह के साथ शुरू किया नया सफर

इस नई पारी को शुरू करने से पहले वह करीब साढ़े चार साल से लखनऊ में ‘नवभारत टाइम्स’ के डिजिटल वेंचर से जुड़े हुए थे।

1 day ago

RSS प्रमुख के साथ न्यूज चैनल्स के संपादकों की बैठक, अहम मुद्दों पर हुई चर्चा

इस बैठक में आरएसएस के पश्चिमी यूपी के क्षेत्रीय प्रमुख सूर्य प्रकाश टोंक और आरएसएस के नेशनल कम्युनिकेशन हेड राम लाल भी मौजूद रहे।

3 days ago


बड़ी खबरें

iTV Network ने विस्तार की दिशा में बढ़ाया एक और कदम, लॉन्च की यह न्यूज वेबसाइट

देश के बड़े न्यूज ब्रॉडकास्टर्स में शुमार ‘आईटीवी नेटवर्क’ (iTV Network) ने अपने विस्तार की दिशा में एक और कदम बढ़ाते हुए कन्नड़ भाषा में न्यूज वेबसाइट लॉन्च की है।

1 day ago

IT समिति की फेसबुक इंडिया के अधिकारियों के साथ बैठक, इन मुद्दों पर होगी चर्चा

कांग्रेस नेता शशि थरूर की अध्यक्षता वाली सूचना एवं प्रौद्योगिकी संबंधी संसद की स्थायी समिति ने 29 नवंबर को फेसबुक से जुड़े कुछ प्रतिनिधियों को अहम मुद्दों पर चर्चा के लिए बुलाया है।

1 day ago

झारखंड में पत्रकारों को मिलेगी ये बड़ी सौगात, प्रस्ताव मंजूर

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने यहां के पत्रकारों को एक बड़ी सौगात दी है। दरअसल, झारखंड में कार्यरत मीडियाकर्मियों को स्वास्थ्य बीमा योजना से जोड़ने की घोषणा की गयी है।

1 day ago

IT मंत्री डॉ. अश्विनी वैष्णव बोले, तय हो सोशल मीडिया पर सामग्री की जिम्मेदारी

सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ. अश्विनी वैष्णव ने गुरुवार को कहा कि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स और वेबसाइट्स पर डाली जाने वाली सामग्री की जिम्मेदारी 'स्पष्ट रूप से परिभाषित' की जानी चाहिए।

1 day ago

जानें, किस मार्केट में कौन सा FM रेडियो बना श्रोताओं की पहली पसंद

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए वर्ष 2021 के 40वें हफ्ते से 43वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं।

1 day ago