जानें, इन पांच राज्यों के बारे में क्या कहता है India News का एग्जिट पोल

चार राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में विधानसभा चुनाव संपन्न होने के बाद अब हर किसी को नतीजों का इंतजार है, जो दो मई को घोषित किए जाएंगे

Last Modified:
Friday, 30 April, 2021
India News

चार राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में विधानसभा चुनाव संपन्न होने के बाद अब हर किसी को नतीजों का इंतजार है, जो दो मई को घोषित किए जाएंगे, लेकिन नतीजों से पहले हर किसी को एग्जिट पोल का इंतजार था। पांच राज्यों के चुनावों को लेकर इंडिया न्यूज-जन की बात ने अपने एग्जिट पोल में बीजेपी की बंगाल में सरकार बनने की संभावना जाहिर की है।

तो आइये जानते हैं कि इस एग्जिट पोल में 5 राज्यों के लिए क्या संभावना दिखाई गई है।

सबसे पहले बात करें तमिलनाडु की तो 234 विधानसभा सीटों वाले तमिलनाडु में छह  अप्रैल को एक चरण में वोटिंग हुई थी और इस दौरान 71.43 प्रतिशत लोगों ने मतदान किया था। इंडिया न्यूज-जन की बात एग्जिट पोल के मुताबिक, यहां डीएमके-कांग्रेस की बड़ी जीत की संभावना जताई गई है। गठबंधन को 130-110 सीटें मिलने का अनुमान लगाया गया है तो वहीं सत्ताधारी एआईएडीएमके-बीजेपी गठबंधन को 102-123 सीटों पर सिमटते दिखाया जा रहा है।

वहीं, इस एग्जिट पोल के मुताबिक केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी में एनडीए की सरकार बनती दिख रही है। 30 विधानसभा सीटों में से एनडीए को 19-24 सीटें मिलती दिख रही हैं, जबकि यूपीए को 11-06 सीटें मिल रही हैं। वहीं अन्य के खाते में एक भी सीट जाती नहीं दिख रही है। पुडुचेरी में वर्ष 2016 के विधानसभा चुनाव में यहां कांग्रेस के नेतृत्व में यूपीए की सरकार बनी थी. इसमें कांग्रेस को अकेले ही 15 सीटें मिली थीं।

अब बात करते हैं केरल की। केरल की 140 विधानसभा सीटों के लिए छह अप्रैल को वोट डाले गए थे। पूरे राज्य में एक चरण में हुए मतदान में कुल 74.02 प्रतिशत मतदाताओं ने वोटिंग की थी। इंडिया न्यूज-जन की बात एग्जिट पोल के मुताबिक, केरल में एलडीएफ गठबंधन एक बार फिर सत्ता में वापसी करता हुआ दिखाई दे रहा है।

एलडीएफ को 64-76 सीटों वाली विधानसभा में 104-120 सीट मिलने का अनुमान है वहीं कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूडीएफ को 71-61 से सीट मिलने का अनुमान है। इसके अलावा मेट्रोमैन ई श्रीधरन को अपना मुख्यमंत्री उम्मीदवार घोषित करने वाले भाजपा गठबंधन को 4 से 2 सीट मिल सकती हैं।

इसके साथ ही असम में एक बार फिर बीजेपी की सरकार बनती दिख रही है। इंडिया न्यूज-जन की बात एग्जिट पोल के मुताबिक असम की 126 विधानसभा सीटों में से बीजेपी गठबंधन को 70 से 81 सीटें मिलने का अनुमान है, जबकि कांग्रेस गठबंधन 55 से 45 सीटों पर सिमट सकता है।

इसके अलावा बीजेपी के लिए सबसे महत्वपूर्ण राज्य बंगाल से भी उसके लिए अच्छी खबर है। एग्जिट पोल की मानें तो बंगाल में बीजेपी पहली बार सत्ता में वापसी कर सकती है। पीएम मोदी की लोकप्रियता का इस बार बीजेपी को फायदा मिलता हुआ दिखाई दे रहा है।

इंडिया न्यूज-जन की बात एग्जिट पोल के मुताबिक इस बार बंगाल में परिवर्तन निश्चित माना जा रहा है। इस एग्जिट पोल के मुताबिक बंगाल में बीजेपी को 162-185 सीटें मिलने का अनुमान है जबकि टीएमसी 121-104 सीटों पर सिमटती हुई नजर आ रही है। वहीं कांग्रेस को महज 3 से 9 सीट पर संतोष करना होगा।

इंडिया न्यूज-जन की बात एग्जिट पोल्स के नतीजे आप यहां देख सकते हैं।

पश्चिम बंगाल

PROJECTED SEAT SHARE RANGE

BJP 162 – 185

TMC 121 – 104

SANJUKTA MORCHA 9 - 3

IND 0

OTH 0

PROJECTED VOTE SHARE RANGE (%)

BJP 46 - 48

TMC 44 - 45

SANJUKTA MORCHA 8 - 5

OTH 2

तमिलनाडु

PROJECTED SEAT SHARE

DMK 130-110

AIADMK 102-123

OTHERS 2 -1

PROJECTED VOTE SHARE (%)

DMK+ 43 to 41

AIADMK+ 42.5 to 39.75

MNM 3 to 4.5

AMMK 3 to 4.5

NTK 7 to 8.5

OTHERS 1.5 TO 2.25

असम

PROJECTED SEAT SHARE RANGE

TOTAL SEATS: 126

NDA: 70 - 81

UPA: 55 – 45

OTH: 1 - 0 (RAIZOR DAL)

PROJECTED VOTE SHARE RANGE (%)

NDA: 41 – 42

BJP: 32 – 33

AGP: 7 - 7.5

UPPL: 2 - 2.5

UPA: 40.5 - 41.5

INC: 30.5 – 31

केरल

PROJECTED SEAT SHARE RANGE

TOTAL SEATS: 140

LDF: 64 – 76

UDF: 71 – 61

NDA: 4 - 2

PROJECTED VOTE SHARE RANGE

LDF 40.5 – 43

UDF 40 – 38

NDA: 15 – 18

OTH: 4.5 – 1

पुडुचेरी

PROJECTED SEAT SHARE RANGE (%)

NDA: 19 – 24

UPA: 11 - 6

OTH: 0

PROJECTED VOTE SHARE RANGE

NDA 48 - 53

UPA 37 - 28

OTH 15 – 19

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अब HBO Max में बड़ी भूमिका में नजर आएंगे सौगाता मुखर्जी

‘सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया’ में नियुक्ति से पहले वह ‘हॉट स्टार’ में अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Monday, 20 September, 2021
Last Modified:
Monday, 20 September, 2021
Saugata Mukherjee

‘वार्नर मीडिया’ (WarnerMedia) की वीडियो ऑन डिमांड स्ट्रीमिंग सर्विस ‘एचबीओ मैक्स‘ (HBO Max) से एक बड़ी खबर निकलकर सामने आई है। खबर यह है कि ‘एचबीओ मैक्स‘ ने ‘सोनी लिव‘ (SonyLIV) से जुड़े सौगाता मुखर्जी (Sugata Mukherjee) को अपने यहां कंटेंट हेड (इंडिया) के पद पर नियुक्त किया है। बताया जाता है कि मुखर्जी इस महीने के अंत में यह जिम्मेदारी संभालेंगे।

बता दें कि फरवरी 2020 में ‘सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया’ (Sony Pictures Networks India) ने सौगाता मुखर्जी को डिजिटल बिजनेस का हेड (ऑरिजिनल कंटेंट) बनाया था। ‘सोनी’ से पहले मुखर्जी ‘हॉटस्टार’ (Hotstar) से जुड़े हुए थे। यहां वह हेड ऑफ डेवलपमेंट और क्रिएटिव के साथ-साथ ‘हॉटस्टार स्पेशल्स’ (Hotstar Specials) के एडिटर की जिम्मेदारी संभाल रहे थे।

अपने 15 साल से ज्यादा के करियर में मुखर्जी विभिन्न संस्थानों में प्रमुख पदों पर काम कर चुके हैं। मुखर्जी ‘स्टार टीवी’ से वर्ष 2013 से बतौर वाइस प्रेजिडेंट (Head of Commissioning) जुड़े हुए थे। वहां उन्होंने नेटवर्क के नए शोज को लेकर बहुत काम किया। बाद में उन्हें एडिटर (कंटेंट स्टूडियो) के पद पर प्रमोट कर दिया गया था। वर्ष 2018 में वह ‘हॉटस्टार’ में आ गए थे, जहां उन्हें कंटेंट स्ट्रैटेजी और प्रॉडक्शन की कमान सौंपी गई थी।

मुखर्जी को पब्लिशिंग का भी अनुभव है। करियर के शुरुआती दौर में ‘मैकमिलन इंडिया’ (Macmillan India) कंपनी के अलावा वह ‘HarperCollins’, ‘NIIT’, ‘A. M. Health Company’ और ‘Rupa & Company’ में भी अपनी जिम्मेदारी निभा चुके हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

NDTV को लेकर इस तरह की अटकलों के बीच कंपनी के शेयरों में एकाएक आया उछाल

मीडिया कंपनी ‘एनडीटीवी’ (NDTV) के शेयरों में सोमवार को अचानक तेजी आ गई।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Monday, 20 September, 2021
Last Modified:
Monday, 20 September, 2021
NDTV

मीडिया कंपनी ‘एनडीटीवी’ (NDTV) के शेयरों में सोमवार को अचानक तेजी आ गई। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अडानी ग्रुप (Adani Group) द्वारा इस कंपनी के अधिग्रहण को लेकर चल रही अटकलों (speculations) के चलते कंपनी के शेयर 10 प्रतिशत तक बढ़ गए।

दरअसल, एक मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया था कि अडानी ग्रुप दिल्ली के मीडिया हाउस को खरीदना चाहता है, इसके बाद तमाम लोग ‘एनडीटीवी’ के नाम को लेकर कयास लगाने लगे। हालांकि, इस बारे में किसी तरह की पुष्टि नहीं हो पाई है। वहीं, इस तरह की कयासबाजी शुरू होते ही ‘बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज’ (BSE) पर ‘एनडीटीवी’ के शेयर का मूल्य 9.94 प्रतिशत बढ़कर 79.65 रुपये पर पहुंच गए। 

बता दें कि हाल ही में अडानी ग्रुप द्वारा जाने-माने पत्रकार संजय पुगलिया को सीईओ और एडिटर-इन-चीफ के पद पर नियुक्त किया गया है। इस भूमिका में वह ग्रुप की मीडिया पहलों (media initiatives) का नेतृत्व करेंगे। 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अडानी ग्रुप से जुड़े वरिष्ठ पत्रकार संजय पुगलिया, मिली बड़ी जिम्मेदारी

संजय पुगलिया ने हाल ही में ‘क्विंट डिजिटल मीडिया‘ (Quint Digital Media Ltd) में प्रेजिडेंट के पद से इस्तीफा दे दिया था।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Saturday, 18 September, 2021
Last Modified:
Saturday, 18 September, 2021
Sanjay Pugalia

जाने-माने पत्रकार संजय पुगलिया के बारे में एक बड़ी खबर सामने आई है। खबर यह है कि ‘अडानी ग्रुप’ (Adani Group) ने संजय पुगलिया को सीईओ और एडिटर-इन-चीफ के पद पर नियुक्त किया है। इस भूमिका में वह ग्रुप की मीडिया पहलों (media initiatives) का नेतृत्व करेंगे।

अपनी इस भूमिका में वह सुदीप्त भट्टाचार्य के साथ मिलकर काम करेंगे और कॉरपोरेट कम्युनिकेशन टीम को सपोर्ट देंगे। वह प्रणव अडानी को रिपोर्ट करेंगे। पुगलिया की नियुक्ति के बारे में ‘अडानी ग्रुप’ की ओर से जारी स्टेटमेंट में कहा गया है, ‘संजय को मीडिया, कम्युनिकेशन और ब्रैंडिंग का व्यापक अनुभव है। हम अडानी समूह के विविध व्यवसायों और राष्ट्र निर्माण की पहल में उनके इस अनुभव का लाभ उठाने के लिए तत्पर हैं।‘

बता दें कि संजय पुगलिया ने हाल ही में ‘क्विंट डिजिटल मीडिया‘ (Quint Digital Media Ltd) में प्रेजिडेंट के पद से इस्तीफा दे दिया था। ‘क्विंट‘ को जॉइन करने से पहले संजय पुगलिया ‘सीएनबीसी आवाज’ (CNBC Awaaz) में अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे। इसके अलावा वह तमाम चैनल्स में प्रमुख भूमिकाएं निभा चुके हैं।

संजय पुगलिया को मीडिया के क्षेत्र में काम करने का 25 साल से ज्यादा का अनुभव है। वह प्रिंट के साथ-साथ टीवी पत्रकारिता में भी काम कर चुके हैं। पूर्व में संजय पुगलिया ‘द टाइम्स ग्रुप’ (The Times Group), ‘बिजनेस स्टैंडर्ड’ (Business Standard), ‘आजतक’ (AajTak), ‘जी न्यूज’(Zee News), ‘स्टार न्यूज’(Star News) और ‘सीएनबीसी आवाज’(CNBC Awaaz) में अपनी जिम्मेदारी निभा चुके हैं।

झारखंड के साहिबगंज में पले-बढ़े संजय पुगलिया कारोबार की खबरों को जितनी बारीकी से समझते हैं, राजनीति की खबरों पर भी उनकी उतनी ही पैनी पकड़ है। संजय पुगलिया को ‘इंडियन न्यूज ब्रॉडकास्टिंग अवॉर्ड’  और इनबा 2014 (exchange4media News Broadcasting Awards 2014) के अंतर्गत न्यूज टेलिविजन एडिटर-इन-चीफ हिंदी  (News Television Editor-in-Chief of the Year- Hindi) समेत तमाम अवॉर्ड्स से पुरस्कृत किया जा चुका है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

जानें, पत्रकारों के लिए टोल फ्री करने की मांग पर क्या बोले केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी

केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे की लगातार समीक्षा करने में लगे हुए हैं और अलग-अलग राज्यों में जाकर जमीनी हालात का जायजा ले रहे हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Saturday, 18 September, 2021
Last Modified:
Saturday, 18 September, 2021
Nitin Gadkari

केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे की लगातार समीक्षा करने में लगे हुए हैं और अलग-अलग राज्यों में जाकर जमीनी हालात का जायजा ले रहे हैं। इसी कड़ी में वह हरियाणा, राजस्थान और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों का दौरा कर चुके हैं और लगातार मीडिया के माध्यम से समीक्षा की जानकारी भी लोगों तक पहुंचाने का काम कर रहे हैं।

इसी बीच गुरुवार को राजस्थान के दौसा में आयोजित नितिन गड़करी की प्रेस वार्ता के दौरान एक पत्रकार ने उनके एक ऐसा सवाल पूछा कि उसका जवाब सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। दरअसल, पत्रकार ने सड़कों को पत्रकारों के लिए टोल फ्री करने की मांग की तो नितिन गड़करी ने बड़े शालीन लहजे में न सिर्फ मना कर दिया बल्कि उसका कारण भी बताया।

गडकरी ने जवाब देते हुए कहा, ‘मैं फोकट क्लास का समर्थक नहीं हूं और ये धंधा अब बंद है।’ मंत्री ने साफ किया कि अच्छी सड़क चाहिए तो पैसा देना पड़ेगा।‘ आपको बता दें कि दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और मुंबई के बीच यात्रा में लगने वाला समय 24 घंटे से कम होकर करीब 12 घंटे रह जाएगा। एक्सप्रेस-वे पर वाहनों की न्यूनतम गति सीमा 100 किलोमीटर प्रति घंटा होगी। सड़क मंत्रालय इसे बढ़ाकर 120 किलोमीटर प्रति घंटा करने पर विचार कर रहा है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

पत्रकारों के हित में तेलंगाना सरकार ने खोला योजनाओं का ‘पिटारा'

राज्य के वित्त मंत्री टी.हरीश राव ने कहा है कि पत्रकारों के लिए जो तेलगंना सरकार ने किया है, वैसा किसी और राज्य में नहीं हुआ है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 17 September, 2021
Last Modified:
Friday, 17 September, 2021
Media

पत्रकारों के लिए यह काफी अच्छी खबर है। दरअसल, तेलंगाना सरकार ने 42 करोड़ रुपये का पत्रकार कल्याण कोष (Journalist Welfare Fund) बनाया है। राज्य के वित्त मंत्री टी.हरीश राव ने यह घोषणा की है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, उन्होंने कहा है कि पत्रकारों के लिए जो तेलगंना सरकार ने किया है, वैसा किसी और राज्य में नहीं हुआ है।

इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि कोविड-19 से प्रभावित हुए पत्रकारों को राज्य सरकार 20 हजार रुपये की आर्थिक मदद देगी। इसके अलावा मृतक पत्रकार के परिवार को दो लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी, ताकि उनके बाद उनके परिवार का सही से पालन पोषण हो सके। ऐसे पत्रकारों के परिवारों को उनके बच्चों की शिक्षा के लिए छात्रवृत्ति के साथ पेंशन भी प्रदान की जाएगी।

उन्होंने कहा कि इस दिशा में एक योजना तैयार की जा रही है और मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव जल्द ही इस पर फैसला लेंगे। आदर्श पत्रकार आवासीय कॉलोनी बनाने का आश्वासन देते हुए हरीश राव ने यह भी कहा कि हुस्नाबाद प्रेस क्लब में प्रेस बैठक आयोजित करने के तहत मीटिंग हॉल बनाने के लिए 20 लाख रुपये स्वीकृत किए जाएंगे।

एमएलए वी. सतीश कुमार के साथ उन्होंने हुसैनाबाद मंडल के किशन नगर में 40 डबल बेडरूम हाउस के निर्माण का शिलान्यास किया। हरीश राव ने कहा कि अगले कुछ दिनों में लोगों की जमीन पर डबल बेडरूम हाउस बनाने का काम शुरू हो जाएगा। इस दिशा में योजना तैयार की जा रही है। वह चाहते हैं कि किसानों को मुआवजा देकर भूमि अधिग्रहण का काम एक सप्ताह के भीतर पूरा किया जाए।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अशोक कुरियन और मनीष चोखानी के योगदान को Zee एंटरटेनमेंट ने सराहा, कही ये बात

कंपनी द्वारा ‘बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज’ को दी गई सूचना के अनुसार दोनों डायरेक्टर्स ने निजी कारणों व अपने अन्य हितों के मद्देनजर इस्तीफा देने का फैसला किया है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 17 September, 2021
Last Modified:
Friday, 17 September, 2021
Zee

'जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड’ (ZEEL) के निदेशक मंडल ने अपने पूर्व नॉन एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर्स अशोक कुरियन (Ashok Kurien) और मनीष चोखानी (Manish Chokhani) के खिलाफ कुछ प्रॉक्सी सलाहकार फर्मों द्वारा लगाए गए आरोपों की कड़ी निंदा की है।

‘बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज’ (BSE) को दी गई सूचना में कंपनी का कहना है कि दोनों डायरेक्टर्स ने निजी कारणों व अन्य हितों के मद्देनजर अपने पदों से इस्तीफा दिया है। चोखानी और कुरियन के मार्गदर्शन में बोर्ड के सभी सदस्यों के साथ शेयरधारकों का हित हमेशा कंपनी के लिए सर्वोपरि रहा है और वह गवर्नेंस और पारदर्शिता के उच्चतम मानकों को बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध है। कंपनी के उक्त नॉन एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर्स के योगदान की निंदा करने वाली बातें निराधार हैं और उद्योग की अपर्याप्त समझ से उत्पन्न होती हैं। कमेटी मेंबर्स और बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स द्वारा लिए गए निर्णयों को बिना किसी आधार के इन डायरेक्टर्स के खिलाफ गलत तरीके से परिभाषित किया गया है। कंपनी के प्रति योगदान के लिए अशोक कुरियन और मनीष चोखानी दोनों का ‘जी’ बहुत आभारी है। टीम के लिए उनका मार्गदर्शन हमेशा मूल्यवान रहा है, जिसने ‘जी’ को नई ऊंचाइयों को छूने और अपने सभी हितधारकों को साल दर साल अधिक से अधिक मूल्य प्रदान करने में सक्षम बनाया है। उनके निर्देशन में कंपनी ने शेयरधारकों के लिए अधिक पारदर्शिता लाने के तहत लगातार कई पहल की हैं।

'जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड’ के चेयरमैन गोपालन का कहना है, ‘जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड का बोर्ड सर्वसम्मति से उनकी सराहना करता है। बोर्ड ने अशोक कुरियन और मनीष चोखानी के कंपनी के साथ जुड़ने के दौरान उनके पेशेवर आचरण की सराहना की है।  कंपनी के बोर्ड में ऐसे सम्मानित सदस्यों का होना हमारा सौभाग्य रहा है और कंपनी के प्रति उनका योगदान काफी महत्वपूर्ण है। मीडिया इंडस्ट्री की गहरी समझ और अनुभव के द्वारा अशोक कुरियन ने कंपनी को नई ऊंचाइयों पर ले जाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। इंडस्ट्री में उनकी 35 वर्षों की विशेषज्ञता ने ‘जी’ को एक अग्रणी एंटरटेनमेंट ब्रैंड और एक क्रिएटिव कंटेंट कंपनी के रूप में न केवल भारत में बल्कि दुनिया भर में स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।’

गोपालन के अनुसार, ‘देश के सम्मानित वित्तीय विशेषज्ञों और निवेशकों में शुमार मनीष चोखानी के चतुर प्रबंधन कौशल के साथ-साथ उनकी विश्लेषणात्मक क्षमताओं का बोर्ड के लिए जबरदस्त मूल्य रहा है। चोखानी ने अपने शानदार प्रदर्शन के द्वारा उत्कृष्टता के नए मानक स्थापित करके सफलता की नई ऊंचाइयां प्राप्त करने के लिए लीडरशिप टीम का मार्गदर्शन किया है। पूरे ‘जी’ परिवार की ओर से मैं कुरियन और चोखानी को उनके मार्गदर्शन और समर्थन के लिए धन्यवाद देना चाहता हूं, और हम भविष्य के लिए उन्हें शुभकामनाएं देते हैं। बोर्ड के पुनर्गठन की प्रक्रिया में कुरियन और चोखानी ने अहम योगदान दिया है, जिससे प्रतिष्ठित इंडिपेंडेंट डायरेक्टर्स के शामिल होने से यह और मजबूत हुआ है। पुनर्गठित बोर्ड में काफी प्रतिभाशाली और अनुभवी नाम शामिल हैं, जो कंपनी को और अधिक ऊंचाइयों पर ले जाने में अपनी भूमिका निभाएंगे।’

कॉरपोरेट क्षेत्र के दो प्रतिष्ठित नाम कुरियन और चोखानी कई प्रमुख कंपनियों के सलाहकार रहे हैं। कंपनी का बोर्ड अपने सभी पूर्व और वर्तमान सदस्यों द्वारा निभाई गई भूमिका की दृढ़ता से सराहना करता है, कंपनी के निर्माण में और इसे ऊंचाइयों पर पहुंचाने में उनके अमूल्य समर्थन की सराहना करता है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इस बड़े पद पर Viacom18 से जुड़े अनिल जयराज

‘वायकॉम18’ को जॉइन करने से पहले अनिल जयराज करीब साढ़े छह साल से ‘स्टार स्पोर्ट्स’ (Star Sports) में एग्जिक्यूटिव वाइस प्रेजिडेंट (Ad Sales) के पद पर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 17 September, 2021
Last Modified:
Friday, 17 September, 2021
Anil Jayaraj

मीडिया और एंटरटेनमेंट कंपनी ‘वायकॉम18’ (Viacom 18) ने अनिल जयराज को सीईओ (स्पोर्ट्स) के पद पर नियुक्त किया है। वह खेल संपत्तियों (sports properties) के अधिग्रहण (acquisition), प्रसारण (broadcasting) और मुद्रीकरण (broadcasting) में कंपनी का नेतृत्व करेंगे। ‘वायकॉम18’ को जॉइन करने से पहले अनिल जयराज करीब साढ़े छह साल से ‘स्टार स्पोर्ट्स’ (Star Sports) में एग्जिक्यूटिव वाइस प्रेजिडेंट (Ad Sales) के पद पर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे।

अनिल जयराज की नियुक्ति के बारे में ‘नेटवर्क18’ (Network18) के चेयरमैन आदिल जैनुलभाई का कहना है, ‘देश में एक प्रमुख मीडिया और एंटरटेनमेंट नेटवर्क के रूप में वायकॉम18 सभी प्लेटफार्म्स पर अपनी पेशकश कर रहा है। हमारा मानना है कि अपने 800 मिलियन से ज्यादा व्युअर्स को संपूर्ण मनोरंजन देने के हमारे वादे में स्पोर्ट्स भी एक महत्वपूर्ण श्रेणी है। अपने विशाल अनुभव के साथ अनिल हमारे नवीनतम स्पोर्ट्स वर्टिकल का नेतृत्व करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं।’

वहीं, अनिल जयराज का कहना है, ‘भारत में खेल आयोजन केवल एक या दो खेलों में आगे बढ़े हैं। दर्शकों के बीच नए प्रतिस्पर्धी खेलों के प्रति रुझान बढ़ रहा है। मैं स्पोर्ट्स कैटेगरी में वायकॉम18 नेटवर्क को आगे बढ़ाने को लेकर उत्साहित हूं।’

बता दें कि जयराज के नेतृत्व में ‘स्टार स्पोर्ट्स’ का विज्ञापन राजस्व (ad revenue) वर्ष 2015 में प्रति वर्ष 1000 करोड़ रुपये से बढ़कर 2021 में 3000 करोड़ रुपये से अधिक हो गया।‘स्टार’ से पहले अनिल जयराज ‘पिडिलाइट’ (Pidilite) में बतौर चीफ मार्केटिंग ऑफिसर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

The Quint में इस बड़े पद से संजय पुगलिया ने दिया इस्तीफा

‘क्विंट’ से पहले संजय पुगलिया ‘सीएनबीसी आवाज’ में बतौर एडिटर-इन-चीफ अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 17 September, 2021
Last Modified:
Friday, 17 September, 2021
Sanjay Pugalia

मीडिया इंडस्ट्री में जाना-पहचाना नाम संजय पुगलिया के बारे में बड़ी खबर है। खबर यह है कि संजय पुगलिया ने ‘क्विंट डिजिटल मीडिया‘ (Quint Digital Media Ltd) में प्रेजिडेंट के पद से इस्तीफा दे दिया है। ‘बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज’ (BSE) को दी गई सूचना में कंपनी ने इस खबर की पुष्टि की है।  

‘क्विंट‘ को जॉइन करने से पहले संजय पुगलिया ‘सीएनबीसी आवाज’ (CNBC Awaaz) में अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे। इसके अलावा वह तमाम चैनल्स में प्रमुख भूमिकाएं निभा चुके हैं।

संजय पुगलिया को मीडिया के क्षेत्र में काम करने का 25 साल से ज्यादा का अनुभव है। वह प्रिंट के साथ-साथ टीवी पत्रकारिता में भी काम कर चुके हैं। पूर्व में संजय पुगलिया ‘द टाइम्स ग्रुप’ (The Times Group), ‘बिजनेस स्टैंडर्ड’ (Business Standard), ‘आजतक’ (AajTak), ‘जी न्यूज’(Zee News), ‘स्टार न्यूज’(Star News) और ‘सीएनबीसी आवाज’(CNBC Awaaz) में अपनी जिम्मेदारी निभा चुके हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Zee Media से जुड़े रजनीश आहूजा, मिली बड़ी जिम्मेदारी

इससे पहले ‘एबीपी नेटवर्क’ में बतौर सीनियर वाइस प्रेजिडेंट (कॉरपोरेट कम्युनिकेशंस) अपनी भूमिका निभा रहे थे रजनीश आहूजा

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 15 September, 2021
Last Modified:
Wednesday, 15 September, 2021
RAJNISH AHUJA

‘जी मीडिया कॉरपोरेशन लिमिटेड’ (ZMCL) ने रजनीश आहूजा को एडिटर (जी न्यूज) और सीसीओ (India.com websites) के पद पर नियुक्त किया है। वह नोएडा से अपना कामकाज संभालेंगे

कंपनी की ओर से जारी स्टेटमेंट के अनुसार, अपनी इस भूमिका में आहूजा चैनल और वेबसाइट्स के लिए न्यूज ऑपरेशंस और एडिटोरियल स्ट्रैटेजी का नेतृत्व करेंगे। उनके कंधों पर चैनल और वेबसाइट्स के प्रदर्शन को और बेहतर करने की जिम्मेदारी होगी। वह ‘जी न्यूज’ के एडिटर-इन-चीफ सुधीर चौधरी को रिपोर्ट करेंगे।

गौरतलब है कि रजनीश आहूजा ने कुछ समय पूर्व ही ‘एबीपी नेटवर्क’ (ABP Network) से इस्तीफा दे दिया था। उस समय वह इस नेटवर्क में बतौर सीनियर वाइस प्रेजिडेंट (कॉरपोरेट कम्युनिकेशंस) अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे। तभी यह कयास लगाए जा रहे थे कि वह ‘जी न्यूज’ (Zee News) के साथ अपनी नई पारी शुरू करने जा रहे हैं और यहां वह एडिटोरियल में बड़ी जिम्मेदारी संभालेंगे। इस नियुक्ति के बाद अब उन कयासों पर विराम लग गया है।

बता दें कि पिछले साल अगस्त में रजनीश आहूजा को एबीपी नेटवर्क में ‘कॉरपोरेट कम्युनिकेशंस’ ( Corporate Communications) के हेड की जिम्मेदारी दी गई थी। समझा जाता है कि रेटिंग में कमी के चलते उन्हें साइडलाइन कर दिया गया था, जिससे वह नाखुश थे। 

रजनीश आहूजा एबीपी नेटवर्क के साथ करीब 14 साल से जुड़े हुए थे। पिछले ढाई दशक से सक्रिय पत्रकारिता कर रहे रजनीश एबीपी से पहले 'आजतक' चैनल का हिस्सा हुआ करते थे। वह वहां इनपुट टीम में अहम जिम्मेदारी निभाते थे। देश की प्रतिष्ठित न्यूज एजेंसी 'एएनआई' (ANI) को एक मुकाम तक पहुंचाने में भी रजनीश की अहम भूमिका रही है।

पूर्व में वह ‘डीडी न्यूज’ (DD News), ‘आईटीवी नेटवर्क’ (ITV Network) और ‘रॉयटर्स’ (Reuters) में भी अपनी जिम्मेदारी निभा चुके हैं। उन्होंने दिल्ली कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड कॉमर्स से पत्रकारिता की डिग्री ली है। आहूजा को ‘एक्सचेंज4मीडिया न्यूज ब्रॉडकास्टिंग अवॉर्ड्स’ (enba) समेत तमाम अवॉर्ड्स मिल चुके हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

फर्जी खबरों से निपटने के लिए सूचना-प्रसारण मंत्रालय ने अब उठाया ये कदम

सोशल मीडिया का चलन जिस तेजी से बढ़ा है, उसी के साथ इस पर फर्जी खबरों की बीमारी भी बढ़ती गई।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 15 September, 2021
Last Modified:
Wednesday, 15 September, 2021
fake

सोशल मीडिया का चलन जिस तेजी से बढ़ा है, उसी के साथ इस पर फर्जी खबरों की बीमारी भी बढ़ती गई। लेकिन अभी तक इतनी ही तेज गति से इसे रोकने की दिशा में कोई सार्थक कदम नहीं उठाया गया। पर अब लगता है कि सरकार ने थोड़ी जागरूकता दिखाई है। लिहाजा इसी कड़ी में केंद्रीय सूचना-प्रसारण मंत्रालय ने सोशल मीडिया मंच टेलीग्राम का सहारा लिया है। फर्जी खबरों से निपटने के लिए मंगलवार को मंत्रालय ने टेलीग्राम पर अपना अकाउंट शुरू किया है। इसे ‘पीआईबी फैक्ट चेक’ के तौर पर शुरू किया गया है, जो टेलीग्राम पर चैनल शुरू करने वाली कुछ सरकारी संस्थाओं में से एक है। इसका उद्देश्य केंद्र से संबंधित सूचना की पुष्टि करना और उसे यूजर्स तक पहुंचाना है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इससे पहले तथ्यों की जांच के नाम पर टेलीग्राम पर फर्जी चैनल चल रहे थे। पीआईबी (पत्र सूचना कार्यालय) ने इन फर्जी चैनलों को हटवा दिया। ‘पीआईबी फैक्ट चेक’ केंद्र सरकार का तथ्यों की जांच करने वाला इकलौता माध्यम है, जिसकी स्थापना नवंबर 2019 में हुई थी।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए