मानवाधिकार आयोग पहुंचा दैनिक जागरण के ब्यूरो चीफ से जुड़ा ये मामला

सामाजिक कार्यकर्ता तीस्ता सीतलवाड़ के एनजीओ ‘सिटीजंस फॉर जस्टिस एंड पीस’ (CJP) की ओर से आयोग को लिखा गया है पत्र

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 05 December, 2019
Last Modified:
Thursday, 05 December, 2019
Dainik Jagran

उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर जिले में 'दैनिक जागरण' के ब्यूरो चीफ धर्मेंद्र मिश्र के खिलाफ नगर कोतवाली पुलिस द्वारा एफआईआर दर्ज करने का मामला शांत होने का नाम नहीं ले रहा है। अब यह मामला राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग में पहुंच गया है। सामाजिक कार्यकर्ता तीस्ता सीतलवाड़ के एनजीओ ‘सिटीजंस फॉर जस्टिस एंड पीस’ (CJP) की ओर से एक पत्र लिखकर मानवाधिकार आयोग को पूरे मामले से अवगत कराया है।

पत्र में कहा गया है कि धर्मेंद्र मिश्र सुल्तानपुर में बढ़ते अपराधों और इनकी तफ्तीश में पुलिस की नाकामियों को अपने अखबार के माध्यम से लगातार उजागर कर रहे थे। पत्र के अनुसार, इसी बात का बदला लेने के लिए पुलिस ने धर्मेंद्र मित्र के खिलाफ यह एफआईआर दर्ज की है। पत्र में आयोग से इस मामले में दखल देने की मांग की गई है।

बता दें कि सितंबर 2018 में 'दैनिक जागरण' ने अमेठी जिले के निवासी धर्मेंद्र मिश्र को सुल्तानपुर में ब्यूरो चीफ के पद पर तैनात किया था। धर्मेंद्र मिश्र के खिलाफ इस साल 16 नवंबर को जो एफआईआर दर्ज की गई है, उसमें लूट का आरोप लगाते हुए घटना की तारीख दिसंबर 2018 बताई गई है। एक साल बाद इस मामले में दर्ज एफआईआर को लेकर पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए जा रहे हैं। वहीं, अपने खिलाफ एफआईआर दर्ज होने के बाद धर्मेंद्र मिश्र ने सोशल मीडिया पर इस मामले को उठाते हुए पुलिस पर कई आरोप लगाए हैं।

धर्मेंद्र मिश्र का आरोप है कि सुल्तानपुर एसपी हिमांशु कुमार उनके द्वारा पुलिस की नाकामियों को उजागर करने वाले खबरों से नाराज हैं। धर्मेंद्र मिश्र के अनुसार, एसपी हिमांशु कुमार ने सच्चाई की आवाज दबाने के लिए उनके ऊपर लूट का फर्जी मुकदमा दर्ज किया है। धर्मेंद्र मिश्र ने मीडिया की आवाज को दबाने की कोशिश करने का भी आरोप लगाया है।

इधर, कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी ने भी अपने ट्विटर हैंडल पर इस मामले को उठाते हुए उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार पर मीडिया की आवाज को दबाने का आरोप लगाया है।

‘CJP’ द्वारा राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग को भेजे गए पत्र की कॉपी आप यहां क्लिक कर देख सकते हैं।

धर्मेंद्र मिश्र के अनुसार, करीब दो महीने पहले ही इस बारे में उन्होंने प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री को शिकायत भेजकर हिमांशु कुमार पर उन्हें जेल भेजने की धमकी देने का आरोप लगाया था, जिसकी कॉपी आप नीचे देख सकते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Viacom18 से जुड़े राकेश झा, मिली यह बड़ी जिम्मेदारी

इस नई भूमिका से पहले स्टार स्पोर्ट्स में एवीपी (ब्रॉडकास्ट डिजाइन) के पद पर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे राकेश झा

Last Modified:
Tuesday, 24 May, 2022
Viacom 18 Rakesh Jha

एंटरटेनमेंट क्षेत्र से जुड़ी प्रतिष्ठित कंपनी ‘वायकॉम18’ (Viacom18) ने राकेश झा को अपने स्पोर्ट्स बिजनेस के लिए वाइस प्रेजिडेंट (क्रिएटिव सर्विसेज) के पद पर नियुक्त किया है। इस नई भूमिका से पहले राकेश झा ‘स्टार स्पोर्ट्स’ (Star Sports) में एवीपी (ब्रॉडकास्ट डिजाइन) के पद पर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे

इस बारे में एक लिंक्डइन पोस्ट में राकेश झा का कहना है, ‘इस बात को बताते हुए मुझे काफी खुशी हो रही है कि मैं वायकॉम18 के स्पोर्ट्स बिजनेस (स्पोर्ट्स18) में वाइस प्रेजिडेंट (क्रिएटिव) के रूप में अपनी नई पारी की शुरुआत कर रहा हूं। मैं अपने नौ साल के जुड़ाव के दौरान स्टार स्पोर्ट्स में किए गए डिजाइन इनोवेशन का विस्तार करने के लिए तैयार हूं। मैं उन सभी लोगों को धन्यवाद देना चाहता हूं, जिन्होंने स्टार स्पोर्ट्स में मेरे सफर के दौरान मार्गदर्शन और समर्थन दिया है।’

बता दें कि राकेश झा एक क्रिएटिव डायरेक्टर हैं, जिनके पास विविध रचनात्मक टीमों का नेतृत्व करने और एक साथ कई प्रोजेक्ट्स को संभालते हुए गुणवत्तापूर्ण डिजाइन प्रदान करने का 20 से अधिक वर्षों का अनुभव है।

‘स्टार स्पोर्ट्स’  से पहले वह करीब दस साल तक ‘सीएनबीसी-टीवी18’ (CNBC-TV18) में ग्राफिक्स टीम के हेड के तौर पर अपनी पारी खेल चुके हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

पत्रकारिता में उल्लेखनीय योगदान के लिए मीडिया अवॉर्ड से सम्मानित हुए ये पत्रकार

22 मई को दिल्ली के अशोक होटल में आयोजित एक कार्यक्रम में ‘पांचजन्य (साप्ताहिक) अटल बिहारी वाजपेयी पत्रकारिता पुरस्कार’ रोहित सरदाना (अब दिवंगत) को दिया गया।

Last Modified:
Monday, 23 May, 2022
Award

साप्ताहिक राष्ट्रीय पत्रिका ‘पांचजन्य’ (Panchjanya) और ‘ऑर्गनाइजर‘ (Organiser)  के 75 वर्ष पूरे होने पर दिल्ली में चाणक्यपुरी के डिप्लोमैटिक एंक्लेव स्थित ‘अशोक होटल’ में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

‘मीडिया महामंथन’ नाम से 22 मई को हुए कार्यक्रम के तहत विभिन्न सत्रों में चर्चाओं का आयोजन किया गया। इनमें उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, मणिपुर के मुख्यमंत्री एन. बीरेन सिंह, असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा और गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत बतौर वक्ता शामिल हुए। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यक्रम को वर्चुअल रूप से संबोधित किया। कार्यक्रम में गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल को भी शामिल होना था, लेकिन किन्हीं कारणोंवश वह नहीं आ सके।

पहले सत्र में सोशल मीडिया पंचायत में मीडिया और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर चर्चा हुई। इसमें लोक गायिका मालिनी अवस्थी, भाजपा नेता कपिल मिश्रा, लेखिका और वक्ता शेफाली वैद्य, लेखक आनंद रंगनाथन, विश्लेषक और सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर अंशुल सक्सेना, पाञ्चजन्य के संपादक हितेश शंकर और आर्गनाइजर के संपादक प्रफुल्ल केतकर ने अपने विचार रखे।

वहीं, देर शाम को कैलेंडर वर्ष 2021 में किए गए उल्लेखनीय कार्यों के लिए मीडिया अवॉर्ड्स की घोषणा की गई और उनके विजेताओं को सम्मानित किया गया। इसके तहत अंबुज भारद्वाज (फैक्ट चेक), प्रवीण सिन्हा (स्पोर्ट्स), अभिषेक दुबे (स्पोर्ट्स), बशीर मंजार (स्पेशल जूरी अवॉर्ड-प्रिंट), कर्मा पालजोर (स्पेशल जूरी अवॉर्ड-डिजिटल), अशोक श्रीवास्तव (सोशल मीडिया), आनंद रंगनाथन (सोशल मीडिया), निवेदिता वैशम्पायन (रीजनल लैंग्वेज-प्रिंट), गोथाम नारायण (रीजनल लैंग्वेज-टीवी), निशांत राघव (हिंदी-प्रिंट), नेमिष हेमंत (हिंदी-प्रिंट), निशी भाट (साइंस एंड टेक्नोलॉजी-प्रिंट), बालेन्दु दाधीच (साइंस एंड टेक्नोलॉजी-प्रिंट), अश्वनी मिश्रा (आर्ट्स एंड कल्चर-डिजिटल), शेफाली वैद्य (आर्ट्स एंड कल्चर-डिजिटल), शिप्रा माथुर (एनवॉयरमेंट-प्रिंट) और दिव्या भारद्वाज (एनवॉयरमेंट-एवी) को मीडिया अवॉर्ड दिया गया।

इसके साथ ही ‘आर्गनाइजर (वीकली) केआर मलकानी मेमोरियल अवॉर्ड फॉर एक्सीलेंस इन इंग्लिश जर्नलिज्म’-पलकी शर्मा उपाध्याय को और ‘पांचजन्य (साप्ताहिक) अटल बिहारी वाजपेयी पत्रकारिता पुरस्कार’ रोहित सरदाना (अब दिवंगत) को दिया गया। रोहित सरदाना की ओर से यह अवॉर्ड उनकी पत्नी प्रमिला दीक्षित ने ग्रहण किया। इसके अलावा मीडिया अवॉर्ड पाने वालों में रवीश तिवारी (अंग्रेजी-प्रिंट), मोनिका हलन (बिजनेस एंड फाइनेंस-प्रिंट), स्वाति गोयल शर्मा (अंग्रेजी-डिजिटल) भी शामिल रहे।

गौरतलब है कि इस योजना के तहत आवेदन करने की तिथि एक मई 2022 से लेकर 15 मई 2022 तक रखी गई थी। इन पुरस्कारों के लिए ऑनलाइन आवेदन के साथ ‘भारत प्रकाशन’ के कार्यालय में हार्ड कॉपी जमा/भेजने की सुविधा भी दी गई थी। प्रविष्टियों का आकलन करने के लिए जूरी सदस्यों का एक पैनल गठित किया गया था, जिसमें प्रख्यात पत्रकार और शिक्षाविद शामिल रहे।

विजेताओं की लिस्ट आप यहां देख सकते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

ABP ग्रुप ने ओमेन थॉमस को सौंपी ये बड़ी जिम्मेदारी

थॉमस इससे पहले वेस्ट रीजन में एड सेल्स के हेड के तौर पर अपनी भूमिका निभा रहे थे।

Last Modified:
Monday, 23 May, 2022
Oommen Thomas

‘एबीपी’ (ABP) समूह ने ओमेन थॉमस (Oommen Thomas) को नेशनल हेड (Ad Sales) के पद पर नियुक्त किया है। हमारी सहयोगी वेबसाइट ‘एक्सचेंज4मीडिया’ (exchange4media) से थॉमस ने खुद इस खबर की पुष्टि की है।  

बता दें कि इससे पहले थॉमस यहां एसोसिएट वाइस प्रेजिडेंट (Ad Sales West) के तौर पर वेस्ट रीजन में ऐड सेल्स की कमान संभाल रहे थे। उन्हें मई 2019 में यह जिम्मेदारी सौंपी गई थी। इससे पहले वह हेड (Ad Sales-North) के तौर पर अपनी भूमिका निभा रहे थे।

पूर्व में थॉमस ‘बिजनेसवर्ल्ड’ (Businessworld), ‘डेक्कन हेराल्ड’ (Deccan Herald) और ‘मलयाला मनोरमा’ (Malayala Manorama) के साथ काम कर चुके हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

‘प्रेस क्लब ऑफ इंडिया’ के चुनावों में इन पत्रकारों ने लहराया जीत का परचम, देखें पूरी लिस्ट

22 मई को घोषित हुए इन परिणामों के मुताबिक, वरिष्ठ पत्रकार उमाकांत लखेड़ा एक बार फिर ‘प्रेस क्लब ऑफ इंडिया’ के प्रेजिडेंट चुने गए हैं।

Last Modified:
Monday, 23 May, 2022
Press Club Of India

देश में पत्रकारों की सबसे बड़ी संस्थाओं में से एक ‘प्रेस क्लब ऑफ इंडिया’ (Press Club of India) के पदाधिकारियों के चयन के लिए 21 मई 2022 को हुए चुनावों के परिणाम घोषित हो गए हैं। 22 मई को घोषित हुए इन परिणामों के मुताबिक, वरिष्ठ पत्रकार उमाकांत लखेड़ा (Umakant Lakhera) एक बार फिर ‘प्रेस क्लब ऑफ इंडिया’ के प्रेजिडेंट चुने गए हैं। उन्हें 898 वोट मिले, जबकि इस पद पर उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी संजय बसक (Sanjay Basak) को 638 वोट मिले।

इसके अलावा वाइस प्रेजिडेंट पद पर मनोरंजन भारती चुने गए हैं। उन्हें 887 वोट मिले, जबकि इस पद के लिए उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी पवन कुमार को 578 वोट मिले। सेक्रेटरी जनरल के पद पर विनय कुमार ने 823 वोटों के साथ जीत दर्ज की है, जबकि उनकी निकटतम प्रतिद्वंद्वी पल्लवी घोष को 668 और संदीप ठाकुर को 165 वोट मिले।

वहीं, जॉइंट सेक्रेट्री की बात करें तो इस पद पर स्वाति माथुर ने जीत हासिल की है। उन्हें 870 वोट मिले, जबकि इस पद के लिए उनकी प्रतिद्वंद्वी लक्ष्मी देवी आरे (Laxmi Devi Aere) को 536 और जोगिंदर सोलंकी को 244 वोट मिले। कोषाध्यक्ष पद पर 787 वोटों के साथ चंदर शेखर लूथरा (Chander Shekhar Luthra) को चुना गया है, जबकि इस पद के लिए उनके निकटम प्रतिद्वंद्वी संतोष ठाकुर को 776 वोट मिले।

16 सदस्यीय मैनेजिंग कमेटी के लिए जिन पत्रकारों ने जीत दर्ज की है, उनमें आदेश रावल (823), अमित पांडेय (773), अमृता मधुकल्या (746), अनीस कुमार (727), कृतिका शर्मा (836), मोहम्मद अब्दुल मसूद (618), मानवेंद्र वशिष्ठ (732), मयंक सिंह (735), मोहम्मद मेहताब आलम (637), मिहिर गौतम (741), राहिल चोपड़ा (765), संगीता बरूआ (788), शेमिन जॉय (808), टी श्रीनिवास राव (599), विनायक भूषण (658) औऱ विनीता ठाकुर (807) शामिल हैं।

गौरतलब है कि वरिष्ठ पत्रकार दुर्गा दास द्वारा वर्ष 1957 में स्थापित ‘प्रेस क्लब ऑफ इंडिया’ का स्वतंत्रता के बाद देश के इतिहास में महत्वपूर्ण स्थान है। देश में अपनी तरह के सबसे पुराने संगठनों में से एक ‘प्रेस क्लब ऑफ इंडिया’ का नेतृत्व वार्षिक रूप से निर्वाचित एग्जिक्यूटिव निकाय द्वारा किया जाता है। इसमें मैनेजिंग कमेटी के 16 सदस्यों के साथ एक प्रेजिडेंट,  एक वाइस प्रेजिडेंट, सेक्रेटरी जनरल,  जॉइंट सेक्रेटरी और ट्रेजरार (कोषाध्यक्ष) शामिल होते हैं।

इन चुनावों में जो पत्रकार विजेता या असफल रहे हैं, उनकी लिस्ट आप यहां देख सकते हैं:  

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

सड़क किनारे पड़ा मिला पत्रकार का शव, पुलिस ने जताई ये आशंका

शादी समारोह से लौट रहा था युवा पत्रकार। घटनास्थल से मिले प्रेस के आई कार्ड से उसकी शिनाख्त हुई।

Last Modified:
Saturday, 21 May, 2022
Journalist death

छत्तीसगढ़ के नवा रायपुर इलाके में शुक्रवार की सुबह सड़क किनारे पत्रकार का शव मिला है। राखी थाना क्षेत्र में हुई इस घटना में मौके के पास मिले प्रेस के आई कार्ड से उसकी शिनाख्त युवराज शुक्ला के रूप में हुई। बताया जाता है कि युवराज शुक्ला स्थानीय न्यूज एजेंसी में बतौर पत्रकार कार्यरत था। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, शादी समारोह से वापस लौटने के दौरान सड़क हादसे में युवराज की मौत हुई है। पुलिस ने पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया है और मामला दर्ज कर अज्ञात वाहन की तलाश में जुट गई है।

राखी थाना प्रभारी कमला पुसाम ठाकुर के अनुसार, राखी पुलिस को शुक्रवार की सुबह नवा रायपुर इलाके में सड़क किनारे एक युवक का शव पड़ा होने की सूचना मिली थी। मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच के दौरान पाया कि घटना तड़के लगभग चार से पांच बजे के बीच की है। युवक की पहचान पत्रकार युवराज शुक्ला (32) के रूप में हुई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण सड़क हादसा बताया गया है।'

पुलिस के मुताबिक ग्राम नरदहा जिला दुर्ग का रहने वाला युवराज शुक्ला अपने बड़े पिताजी के घर ग्राम बुढेनी जिला धमतरी में शादी कार्यक्रम में गया हुआ था। शादी समारोह से लौटते समय सड़क हादसे में उसकी मौत हो गई। युवराज के शव के पास कुछ दूर पर उसकी वैगनआर कार भी खड़ी हुई थी। पुलिस के अनुसार, रास्ते में युवराज लघुशंका के लिए कार से बाहर निकला होगा, तभी किसी बड़े वाहन की चपेट में आने से सड़क हादसे का शिकार हो गया और घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई।

जिस इलाके में युवराज का शव मिला है, वहां कई खदानें हैं। ऐसे में आशंका यह भी जताई जा रही है कि युवराज की मौत के पीछे खनन माफिया का हाथ हो सकता है। हालांकि इस तरह की शिकायत पुलिस के पास नहीं पहुंची है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

गोली मारकर पत्रकार की हत्या, हवा में हथियार लहराते हुए फरार हो गए बदमाश

पुलिस का कहना है कि इस हत्याकांड में शामिल सभी अपराधियों को चिन्हित कर लिया है, जल्द ही उन सभी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Last Modified:
Saturday, 21 May, 2022
Shot Dead

बिहार के बेगूसराय में शुक्रवार की रात बेखौफ अपराधियों द्वारा एक पत्रकार की गोली मारकर हत्या करने का मामला सामने आया है। यह घटना बखरी थाना क्षेत्र के परिहारा ओपी स्थित बहुआरा साखू गांव की है। मृतक की पहचान साखू गांव निवासी सुभाष कुमार पुत्र अर्जुन के रूप में हुई है। सुभाष कुमार एक निजी न्यूज चैनल के लिए काम करते थे और अपने माता-पिता की इकलौती संतान थे।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, शुक्रवार को गांव में ही चौक के समीप एक लड़के की शादी का कार्यक्रम था। शाम को सुभाष उसी कार्यक्रम में शामिल होने गए थे। वहां से लौटने के दौरान पिता एवं चाचा आगे बढ़ गए, इसी बीच वहां पहले से घात लगाए बदमाशों ने सुभाष के सिर में गोली मार दी और हथियार लहराते हुए फरार हो गए। आनन-फानन में स्थानीय लोगों द्वारा सुभाष को बखरी स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

मीडिया रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि साखू में एक लड़के की शादी के अवसर पर आम-महुआ विवाह रस्म के दौरान रास्ते में डीजे पर गांव की लड़की के साथ कुछ लोगों ने छेड़खानी कर दी थी, जिसका सुभाष ने विरोध किया था। छेड़खानी करने वाला मुख्य आरोपी पड़ोसी गांव का था और इस वैवाहिक कार्यक्रम में आमंत्रित भी नहीं था। सुभाष द्वारा विरोध किया जाना आरोपी को नागवार गुजरा और भोज खाकर निकलते ही सैकड़ों लोगों के बीच अपने साथियों के साथ मिलकर सुभाष को गोली मारकर फरार हो गया।

वहीं मृतक के परिजनों का कहना है कि सुभाष की हत्या चुनावी रंजिश की वजह से हुई है। बताया जा रहा है कि सुभाष ने अपने एक नजदीकी को पंचायत में वार्ड सदस्य का चुनाव लड़ाया था, जिसमें वह जीत गया था। इससे प्रतिद्वंद्वी उनसे नाराज चल रहे थे। पुलिस सभी बिंदुओं को ध्यान में रखकर मामले की जांच में जुट गई है।

इधर, सुभाष हत्याकांड की निंदा करते हुए तमाम पत्रकारों, राजनीतिक दलों एवं सामाजिक कार्यकर्ताओं ने आक्रोश जताया है। पोस्टमार्टम के बाद शनिवार की सुबह सुभाष की पार्थिव देह को प्रेस क्लब लाया गया, जहां तमाम पत्रकारों ने पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। वहीं बेगूसराय के एसपी योगेंद्र कुमार का कहना है कि इस हत्याकांड में शामिल सभी अपराधियों को चिन्हित कर लिया है, जल्द ही उन सभी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।  

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

देश में मीडिया-एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री की ग्रोथ को लेकर अनुराग ठाकुर ने जताई ये उम्मीद

कान्स में ‘पालिस डेस फेस्टिवल्स’ (Palais des Festivals) में इंडिया फोरम को संबोधित करते हुए अनुराग ठाकुर ने लोगों को केंद्र व राज्य सरकारों द्वारा इस दिशा में उठाए गए कदमों की जानकारी दी।

Last Modified:
Saturday, 21 May, 2022
Anurag Thakur

केंद्रीय सूचना प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर का कहना है कि देश में मीडिया और एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री को बढ़ावा देने के तमाम प्रयास किए जा रहे हैं। केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा इस दिशा में उठाए जा रहे कदमों के आधार पर उम्मीद है कि भारतीय मीडिया और एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री वर्ष 2025 तक हर साल 53 बिलियन डॉलर का राजस्व अर्जित कर सकती है।

कान्स में ‘पालिस डेस फेस्टिवल्स’ (Palais des Festivals) में इंडिया फोरम को संबोधित करते हुए अनुराग ठाकुर ने लोगों को केंद्र व राज्य सरकारों द्वारा इस दिशा में उठाए गए कदमों की जानकारी देते हुए कहा, ‘केंद्र ने भारत में सह-निर्माण, फिल्म शूटिंग और फिल्म सुविधाओं को बढ़ावा देने के लिए पिछले आठ वर्षों में प्रमुख पहल की हैं, वहीं उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों ने अपनी फिल्म सुविधा नीतियां तैयार की हैं और सह-निर्माण के अवसर प्रदान किए हैं। इन प्रयासों का उद्देश्य देश के मीडिया और एंटरटेनमेंट ईकोसिस्टम को बढ़ावा देना है, जिससे 2025 तक सालाना 53 बिलियन डालर अर्जित होने की उम्मीद है।’

इसके साथ ही उन्होंने उम्मीद जताई कि भारत में ओटीटी बाजार सालाना 21 फीसदी की दर से बढ़कर वर्ष 2024 तक करीब दो बिलियन डॉलर होने का अनुमान है। यह वर्ष कान्स फिल्म फेस्टिवल और भारत-फ्रांस राजनयिक संबंधों की स्थापना दोनों का 75वां वर्ष है। कान्स के महत्व पर बोलते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में 'फेस्टिवल डी कान्स' ने भारत-फ्रांस संबंधों को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

मंत्री ने भारतीय सिनेमा की ऐतिहासिक ऊंचाइयों के बारे में बात की और कहा कि भारतीय कंटेंट वैश्विक दर्शकों के दिल और दिमाग पर राज कर रहा है। कान्स में भारत की वर्तमान मौजूदगी पर बोलते हुए, मंत्री ने कहा, ‘भारत आपको ग्लोबल ऑडियंस, देश की सिनेमाई उत्कृष्टता, तकनीकी कौशल, समृद्ध संस्कृति और स्टोरटैलिंग की शानदार विरासत का स्वाद चखाना चाहता है। रेड कार्पेट पर भारत की मौजूदगी ने न केवल विभिन्न भाषाओं और क्षेत्रों के अभिनेताओं और फिल्म निर्माताओं के प्रतिनिधित्व के मामले में, बल्कि ओटीटी प्लेटफार्म्स के रूप में हमारी सिनेमाई उत्कृष्टता की विविधता को नई पहचान दी है, जिसमें संगीतकारों और लोक कलाकारों की भी मजबूत उपस्थिति है।‘

अनुराग ठाकुर ने वादा किया कि सरकार भारत को एक वैश्विक सामग्री उप-महाद्वीप (global content) में बदलने के लिए सभी आवश्यक उपाय करेगी और भारत को एनिमेशन, विजुअल इफेक्ट्स, गेमिंग और कॉमिक्स (AVGC) सेक्टर के लिए पसंदीदा पोस्ट-प्रोडक्शन हब बनाने के लिए युवाओं के कौशल का उपयोग करेगी और इसके लिए सरकार तेजी से काम करेगी। उन्होंने कहा कि ये कदम अगले पांच वर्षों में देश को दुनिया भर में अग्रणी गुणवत्ता सामग्री उत्पादक देशों की लिस्ट में पहुंचा देंगे। गौरतलब है कि इस साल 75वें कान्स फिल्म फेस्टिवल का आयोजन फ्रांस में किया गया है। यह फेस्टिवल 28 मई तक चलेगा।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

बालाजी टेलिफिल्म्स में ग्रुप CEO नचिकेत पंतवैद्य ने लिया ये बड़ा फैसला

कंपनी द्वारा ‘बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज’ (BSE) को दी गई सूचना के अनुसार, वह 31 मई 2022 तक कंपनी के साथ बने रहेंगे।

Last Modified:
Friday, 20 May, 2022
Nachiket Pantvaidya

‘बालाजी टेलिफिल्म्स’ (Balaji Telefilms) में ग्रुप चीफ एग्जिक्यूटिव ऑफिसर नचिकेत पंतवैद्य ने एक साल के भीतर ही अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। कंपनी द्वारा ‘बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज’ (BSE) को दी गई सूचना के अनुसार, वह 31 मई 2022 तक कंपनी के साथ बने रहेंगे। बता दें कि कंपनी के साथ नचिकेत की यह दूसरी पारी थी।

इस बारे में ‘बीएसई’ को दी गई जानकारी में कंपनी ने कहा है, ‘सूचीकरण विनियमों के रेगुलेशन 30 के अनुसार हम आपको सूचित करना चाहते हैं कि निदेशक मंडल की 20 मई 2022 को हुई बैठक में कंपनी के ग्रुप सीईओ नचिकेत पंतवैद्य के इस्तीफे को रिकॉर्ड में ले लिया गया है, जो 31 मई, 2022 से प्रभावी होगा।’

बता दें कि ‘बालाजी टेलिफिल्म्स’ ने जुलाई 2021 में पंचवैद्य को ग्रुप सीईओ के पद पर नियुक्त किया था। ‘बालाजी’ से पहले पंचवैद्य ’एशियानेट न्यूज मीडिया एंड एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड’ (AMEL) में बतौर मैनेजिंग डायरेक्टर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे। वहीं, इससे पहले वह ‘बालाजी टेलिफिल्म्स’ में ग्रुप चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर और ऑल्ट बालाजी (ALTBalaji) में सीईओ के तौर पर जिम्मेदारी निभा चुके हैं।

पंतवैद्य को ब्रॉडकास्ट और डिजिटल मीडिया कंपनियों के साथ काम करने का 20 साल से ज्यादा का अनुभव है। वह एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री की कुछ जानी-मानी कंपनियों जैसे-‘सोनी एंटरटेनमेंट टेलिविजन’, ‘स्टार प्लस’, ‘स्टार प्रवाह’ और ‘फॉक्स टेलिविजन स्टूडियो’ में वरिष्ठ पदों पर अपनी जिम्मेदारी निभा चुके हैं। वह ‘डिज्नी’ और ‘बीबीसी’ का हिस्सा भी रहे हैं। 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Alt Balaji में इस बड़े पद से अलग हुईं दिव्या दीक्षित

दिव्या दीक्षित इस कंपनी में करीब पौने चार साल से जुड़ी हुई थीं। 31 मई 2022 को इस कंपनी में उनका आखिरी कार्यदिवस होगा।

Last Modified:
Friday, 20 May, 2022
Divya

‘ऑल्ट बालाजी’ (ALTBalaji) में सीनियर वाइस प्रेजिडेंट (Marketing, Partnerships & Revenue) ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। 31 मई 2022 को इस कंपनी में उनका आखिरी कार्यदिवस होगा।

बता दें कि दिव्या दीक्षित इस कंपनी में करीब पौने चार साल से जुड़ी हुई थीं। उन्होंने सितंबर 2018 में इस कंपनी में बतौर सीनियर वाइस प्रेजिडेंट (मार्केटिंग) के पद पर जॉइन किया था।

दीक्षित के पास डिजिटल, ब्रॉडकास्टिंग, टेलिकॉम, म्यूजिक और रिटेल सहित कई इंडस्ट्री में विभिन्न ब्रैंड्स के साथ काम करने का 20 साल से ज्यादा का अनुभव है। पूर्व में वह ZEE5, LeEco और Percept आदि कंपनियों में अपनी भूमिका निभा चुकी हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अब इस मीडिया समूह में बड़ी भूमिका निभाएंगे वरिष्ठ पत्रकार गीतेश्वर प्रसाद सिंह

उत्तर भारत और पूरब के दर्जन भर से अधिक प्रमुख शहरों में तमाम बड़े अखबारों में अपनी जिम्मेदारी निभाने के बाद वरिष्ठ पत्रकार गीतेश्वर प्रसाद सिंह ने अब दक्षिण भारत का रुख किया है।

Last Modified:
Thursday, 19 May, 2022
Giteshwar Prasad Singh

उत्तर भारत और पूरब के दर्जन भर से अधिक प्रमुख शहरों में तमाम बड़े अखबारों में अपनी जिम्मेदारी निभाने के बाद वरिष्ठ पत्रकार गीतेश्वर प्रसाद सिंह ने अब दक्षिण भारत का रुख किया है। उन्होंने देश के प्रतिष्ठित मीडिया ग्रुप 'ईटीवी भारत' के साथ नई शुरुआत की है और हैदराबाद में बतौर रीजनल न्यूज को-ऑर्डिनेटर के पद पर जॉइन किया है।

इससे पहले गीतेश्वर प्रसाद सिंह करीब चार-पांच महीने से ‘यूपीडीएफ’ समूह के साथ जुड़े हुए थे। दरअसल, वह इस ग्रुप द्वारा लॉन्च की जा रही नेशनल मैगजीन की योजना को मूर्त रूप देने के लिए इस समूह का हिस्सा बने थे। अब मैगजीन के पहले एडिशन के लिए अपना एडिटोरियल पार्ट पूरा करने के बाद वह 'ईटीवी भारत' आए हैं। ‘यूपीडीएफ’ में आने से पहले गीतेश्वर प्रसाद करीब पौने तीन साल से ‘हिन्दुस्तान’ के भागलपुर संस्करण में स्थानीय संपादक के तौर पर अपनी भूमिका निभा रहे थे।

मूल रूप से छपरा (बिहार) के रहने वाले गीतेश्वर प्रसाद सिंह को पत्रकारिता के क्षेत्र में काम करने का ढाई दशक से ज्यादा का अनुभव है। ‘हिन्दुस्तान’ से पहले वह ‘पंजाब केसरी’,’ दैनिक जागरण’ और ‘अमर उजाला’ में प्रमुख जिम्मेदारी निभा चुके हैं। गीतेश्वर प्रसाद सिंह की पत्रकारिता के साथ-साथ साहित्य में गहरी रुचि है। वह गजलें लिखने के शौकीन भी हैं। दूरदर्शन और आकाशवाणी से इनकी कई रचनाएं प्रसारित हुई हैं।

उन्होंने ‘इलाहाबाद विश्वविद्यालय’ से दर्शनशास्त्र में एमए और ‘पूर्वांचल विश्वविद्यालय’ से हिंदी में एमए तक की पढ़ाई की है। इसके अलावा उन्होंने ‘उत्तर प्रदेश राजर्षि टंडन ओपन यूनिवर्सिटी’ से पत्रकारिता में पोस्ट ग्रेजुएशन किया है।

गीतेश्वर प्रसाद सिंह को ‘आचार्य लक्ष्मीकांत मिश्र राष्ट्रीय सम्मान’ समेत तमाम पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है। समाचार4मीडिया की ओर से गीतेश्वर प्रसाद सिंह को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए