अब दर्शक फ्री में नहीं देख सकेंगे Tata Sky और Airtel के ये चैनल्स

देश के दो बड़े डीटीएच ऑपरेटर टाटा स्‍काई और एयरटेल डिजिटल टीवी की ओर से लॉकडाउन के दौरान कुछ चैनल्स की सर्विस फ्री कर दी थी, जिसे अब बंद कर दी गई है।

Last Modified:
Friday, 08 May, 2020
tatasky-airtel

देश के दो बड़े डीटीएच ऑपरेटर टाटा स्‍काई और एयरटेल डिजिटल टीवी की ओर से लॉकडाउन के दौरान कुछ चैनल्स की सर्विस फ्री कर दी थी, जिसे अब बंद कर दी गई है। यानी यूजर्स अब फ्री में ये चैनल्स नहीं देख सकेंगे।

बता दें कि टाटा स्काई ने 10 इंटरऐक्टिव सर्विस (चैनल) की शुरुआत की थी। इन सर्विसेज के लिए यूजर्स को कोई चार्ज नहीं देना पड़ता था। इसी तरह एयटेल भी अपने यूजर्स को बिना किसी एक्स्ट्रा चार्ज के तीन चैनल ऑफर कर रहा था। अब इन चैनल्स को देखना जारी रखने के लिए यूजर्स को हर महीने पैसे देने पड़ेंगे।

गौरतलब है कि लॉकडाउन की शुरुआत में इन दोनों ऑपरेटर्स ने कहा था कि ये सर्विसेज लॉकडाउन खत्म होने तक उपलब्ध रहेंगी। हालांकि, लॉकडाउन की समयावधि अभी फिलहाल 17 मई तक है, लेकिन जब घोषणा की गई थी तब इसकी समयावधि 3 मई तक थी। लिहाजा इसी वजह से अब यूजर्स को फ्री सर्विसेज मिलनी बंद हो गई हैं।

टाटा स्काई लॉकडाउन के दौरान यूजर्स को ‘डांस स्टूडियो’, ‘टाटा स्काई फन लर्न’, ‘स्मार्ट मैनेजर’, ‘वेदिक मैथ्स’, ‘कुकिंग’, ‘क्लासरूम’, ‘ब्यूटी’, ‘जावेद अख्तर’ और ‘टाटा स्काई फिटनेस चैनल’ फ्री में ऑफर कर रही थी। बता दें कि अब इन चैनल्स को देखने के लिए यूजर्स को पैसे देने पड़ेंगे। ‘फिटनेस’ और ‘फन लर्न’ के लिए यूजर्स को हर महीने 60 रुपए खर्च करने होंगे। वहीं, ‘वेदिक मैथ्स’ और ‘स्मार्ट मैनेजर’ के लिए कंपनी रोज 10 रुपए चार्ज करती है। इसके अलावा टाटा स्काई अपने यूजर्स को लॉकडाउन में इमरजेंसी क्रेडिट फैसिलिटी भी दे रही थी। इसमें उन यूजर्स को राहत पहुंचाने की कोशिश की जा रही थी जो दुकानों के बंद होने के कारण अपना टाटा स्काई अकाउंट रिचार्ज नहीं करा पा रहे थे।

वहीं, एयरटेल ने अप्रैल के पहले हफ्ते में तीन फ्री चैनल्स की शुरुआत की थी। इसमें यूजर्स को तीन सर्विस चैनल- ‘आपकी रसोई’, ‘एयरटेल सीनियर्स टीवी’ और ‘लेट्स डांस’ का फ्री ऐक्सेस दिया जा रहा था। हालांकि, कंपनी ने सोमवार (4 मई) से इन सर्विस चैनल्स का फ्री ऐक्सेस बंद कर दिया है। एयरटेल अपने ‘सीनियर टीवी’ सर्विस के लिए रोज 2 रुपए, ‘आपकी रसोई’ के लिए रोज 1.5 रुपए और ‘लेट्स डांस’ के लिए रोज 1.6 रुपए लेता है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

कोरोना की दूसरी लहर से मुकाबले के लिए न्यूज चैनल्स अपना रहे कुछ इस तरह की स्ट्रैटेजी

वर्क फ्रॉम होम, काम के घंटे कम करने से लेकर नियमित रूप से पूरे परिसर को सैनिटाइज करने जैसे कदम उठा रहे हैं अधिकांश मीडिया संस्थान

Last Modified:
Friday, 23 April, 2021
TV Channels

देश-दुनिया में कोरोनावायरस (कोविड-19) का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। इन सबके बीच मीडियाकर्मी अपनी जान को जोखिम में डालते हुए कोरोना के खिलाफ जंग में अग्रिम मोर्चे पर अपनी भूमिका निभा रहे हैं। हालांकि, फ्रंटलाइन मीडियाकर्मियों ने इस जानलेवा महामारी के संक्रमण से बचाव के लिए खुद को प्राथमिकता के तौर पर वैक्सीन लगाए जाने की मांग की है, लेकिन कोरोना की दूसरी लहर के आगे उनकी चिंता को एक तरह से किनारे पर रख दिया गया है।  

कोविड-19 की दूसरी लहर के खिलाफ सतर्कता की आवश्यकता को न्यूज रूम अच्छे से समझ चुके हैं। हालांकि, पिछले करीब एक साल से तमाम मीडिया संस्थानों के न्यूजरूम्स कड़े प्रोटोकॉल्स का पालन कर रहे हैं, लेकिन आइए जानते हैं कि कोविड-19 की दूसरी लहर का मुकाबला वे किस प्रकार कर रहे हैं।

सबसे पहले जानते हैं ‘जी मीडिया’ (Zee Media) का हाल, जहां पर तमाम तरह के सेफ्टी प्रोटोकॉल्स अपनाए जा रहे हैं। इसके तहत वर्क फ्रॉम होम किया जा रहा है। एम्प्लॉयीज शिफ्ट में काम कर रहे हैं। काम के घंटे कम कर दिए गए हैं और पूरे परिसर में नियमित रूप से सैनिटाइजेशन आदि उपाय किए जा रहे हैं।

इस बारे में ‘जी मीडिया’ के सीईओ और एडिटर-इन-चीफ पुरुषोत्तम वैष्णव का कहना है, ‘पिछले साल इस महामारी ने अचानक से हमला बोला था, लेकिन इस बार हम बेहतर तरीके से तैयार हैं। हमने महामारी पीड़ितों की बढ़ती संख्या को देखते हुए तुरंत उपाय अपनाए हैं। वर्क फ्रॉम होम, शिफ्टों में काम, काम के घंटे घटाना और नियमित रूप से परिसर को सैनिटाइज करने समेत तमाम कदम उठाए जा रहे हैं। हमने अपने एम्प्लॉयीज को घर से लाने और काम खत्म होने के बाद ऑफिस से घर छोड़ने की व्यवस्था की है, ताकि उन्हें सार्वजनिक परिवहन सेवा का सहारा न लेना पड़े। हमारे पास ऑन कॉल डॉक्टरों का पैनल है, ताकि एम्प्लॉयीज किसी भी तरह की जानकारी ले सकें। इसके अलावा हम अपने एम्प्लॉयीज के मानसिक स्वास्थ्य की ओर भी ध्यान देते हैं। कॉल पर किसी भी तरह की सलाह के लिए हमारे बोर्ड में एक जाने-माने मनोविशेषज्ञ भी हैं।’

इसके साथ ही पुरुषोत्तम वैष्णव का यह भी कहना है, ‘हमारी टीम जहां भी हैं, पूरे समर्पण से काम कर रही हैं। हम कम से कम यह तो सुनिश्चित कर सकते हैं कि अपने आप को सुरक्षित रखने के लिए और जरूरत पड़ने पर उन्हें संस्थान से अधिकतम सपोर्ट मिल सके।’

देश में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच ‘एबीपी नेटवर्क’ (ABP Network) ने स्वास्थ्य और सुरक्षा को मजबूती देने वाले सभी उपायों पर एक बार फिर से अधिक फोकस शुरू कर दिया है। महामारी की दूसरी लहर से निपटने के लिए सभी एम्प्लॉयीज को पेड लीव यानी सवैतनिक अवकाश (paid leaves), स्वास्थ्य की देखभाल और कार्य को बेहतर तरीके से समायोजित करने पर जोर दिया जा रहा है।

इस बारे में ‘एबीपी नेटवर्क’ के एक प्रवक्ता का कहना है, ‘इस महामारी के जोखिम को कम करने के लिए हम अपनी प्रॉडक्शन और एडिटोरियल टीमों के बीच एक व्यवस्थित तरीके से न्यूजरूम का प्रबंधन कर रहे हैं। इस सिस्टम के तहत दो एक्सक्लूसिव ग्रुप्स तैयार किए गए हैं, जो वैकल्पिक सप्ताह (alternate week) के आधार पर ऑफिस में 12-12 घंटे की शिफ्ट में काम करते हैं। इसके अलावा हम अपनी कुछ टीमों जैसे-डिजिटल टीम और कॉरपोरेट टीमों को घर से काम करने के लिए तमाम तरीकों से प्रेरित कर रहे हैं। आगे भी हम यह आकलन करते रहेंगे कि अपने न्यूज रूम को कुशलतापूर्वक प्रबंधित करते हुए अपनी टीमों का सर्वोत्तम सपोर्ट कैसे करें और इस कठिन समय में हर व्यक्ति के स्वास्थ्य और सुरक्षा की रक्षा के लिए समुचित उपाय करें।’

‘इंडिया अहेड’ (India Ahead) की बात करें तो यहां पर तमाम एम्प्लॉयीज महामारी की दूसरी लहर की चपेट में आ चुके हैं और चुनौती से निपटने के लिए मीडिया संस्थान तमाम नई पहल अपना रहा है।इस बारे में ‘इंडिया अहेड’ के एडिटर-इन-चीफ भूपेंद्र चौबे का कहना है, ‘कोरोना की दूसरी लहर पहली वाली से भी खराब है। हमारे कई एम्प्लॉयीज इसकी चपेट में आए हैं। ऐसे में हम अपने डिजिटल प्लेटफार्म्स के माध्यम से सूचना के प्रसार पर बहुत अधिक ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। चूंकि तमाम एम्प्लॉयीज घरों से काम कर रहे हैं, ऐसे में स्टोरीटैलिंग के लिए विभिन्न टूल्स आज के समय की जरूरत हैं। यहां ऑडियो और टेक्स्ट पर आधारित स्टोरीटैलिंग फॉर्मेट काम कर रहा है।’

‘न्यूज24 ब्रॉडकास्ट इंडिया लिमिटेड’ (News 24 Broadcast India Ltd) की एमडी और चेयरपर्सन अनुराधा प्रसाद का कहना है, ‘यह काफी मुश्किल समय है, लेकिन हमें इसका सामना करना है। हमें इससे लड़ना होगा, मजबूत बनकर आगे आना होगा और एक-दूसरे की मदद करनी है। यही कारण है कि न्यूज24 ने एक कैंपेन साथी हाथ बढ़ाना (Saathihaath Badhana) शुरू किया है।’

मेनलाइन चैनल्स से रीजनल नेटवर्क की ओर से कदम बढ़ाने पर भी एक जैसी ही है। ‘पीटीसी नेटवर्क’ (PTC Network) ने शिफ्ट बढ़ा दी हैं और वहीं पर भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है, ताकि बाहरी रिस्क को कम से कम किया जा सके। इस बारे में पीटीसी नेटवर्क के एमडी और प्रेजिडेंट रबिन्द्र नारायण का कहना है, ‘प्रत्येक न्यूजरूम के लिए यह एक नई दुनिया है। जिन एंकर्स को कोरोना हो चुका है, वे स्टूडियो में हैं और जो एंकरिंग करते समय सावधानी बरतना चाहते हैं, वे घर से टेक्नोलॉजी के माध्यम से एंकरिंग कर कर रहे हैं। अधिकांश रिपोर्टर्स और कैमरामैन फील्ड में बहादुरी से काम कर रहे हैं। यह ऐसा समय है, जब वर्चुअल न्यूजरूम्स को तैयार करने और सुदूर क्षेत्रों से लाइव करने में टेक्नोलॉजी अहम भूमिका निभा रही है। हालांकि, हम कितने भी इनोवेशन कर लें, न्यूजरूम में कुछ लोगों की जरूरत होती है। ऐसे में इन्हें न्यूजरूम की जगह वॉर रूम कहना बेहतर है।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

जानें, चुनावी माहौल में विज्ञापनों के लिहाज से कैसा रहा न्यूज चैनल्स का हाल

वित्तवर्ष 2021 की आखिरी तिमाही में राजनीतिक विज्ञापनों में महीना दर महीना वृद्धि देखी गई।

Last Modified:
Thursday, 22 April, 2021
News Channel

न्यूज चैनल्स द्वारा पश्चिम बंगाल और असम समेत कई राज्यों में चल रहे विधानसभा चुनावों की कवरेज के दौरान राजनीतिक विज्ञापनों के लिहाज से न्यूज जॉनर (News Genre) सर्वोच्च प्राथमिकता पर रहा है। ऐसे में इस कैटेगरी में विज्ञापन खर्च (AdEx) को भी रफ्तार मिल रही है। राजनीतिक विज्ञापनों की बदौलत इस जॉनर में ऐड वॉल्यूम (विज्ञापनों की मात्रा) पहले ही चरम पर पहुंच चुकी है। अनुमान लगाया जा रहा है कि मतगणना वाले दिनों में नेशनल ब्रैंड्स की और ज्यादा मौजूदगी देखने को मिलेगी।

‘टैम एडेक्स’ (TAM AdEx) के आंकड़ों के अनुसार, अक्टूबर 2020 से दिसंबर 2020 के बीच त्योहारी सीजन के दौरान तीन महीने की तुलना में जनवरी और मार्च के बीच न्यूज जॉनर के ओवरऑल ऐड वॉल्यूम (कुल विज्ञापनों) में छह प्रतिशत की गिरावट के बावजूद इस दौरान इस जॉनर पर राजनीतिक विज्ञापनों (political advertisements) में 46 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई है।

वित्तीय वर्ष 2020 (FY 2020) की आखिरी तिमाही में भी राजनीतिक विज्ञापनों में महीना दर महीना (month on month) वृद्धि देखी गई है। उदाहरण के लिए-फरवरी 2021 में नौ प्रतिशत की ग्रोथ देखी गई और मार्च 2021 के दौरान राजनीतिक विज्ञापनों में जनवरी 2021 और फरवरी 2021 की तुलना में तीन गुना से ज्यादा वृद्धि देखने को मिली। 

इस बारे में करात इंडिया (Carat India) की सीनियर डायरेक्टर (Planning and Strategy) ग्राशिमा साहनी (Grashima Sahni) का कहना है, ‘केरल, पश्चिम बंगाल और तमिलनाडु के चुनावों की खबरों को लेकर ऑडियंस अपडेट रहना चाहते हैं। ऐसे में इन मार्केट में अधिकांश बड़े रीजनल न्यूज प्लेयर्स के ट्रैफिक में काफी वृदधि हुई है। हालांकि, इस दौरान हमें नेशनल प्लेयर्स के ट्रैफिक में भी बढ़ोतरी दिखाई दी है।’

आंकड़ों से पता चलता है कि इस साल जनवरी से मार्च के दौरान इस जॉनर पर प्रमुख ऐडवर्टाइजर्स में भारतीय जनता पार्टी (21 प्रतिशत), एआईएडीएमके (20 प्रतिशत), डीएमके (17 प्रतिशत), कांग्रेस (10 प्रतिशत) और तमिलनाडु की रीजनल पॉलिटिकल पार्टी अम्मा मक्कल मुनेत्र कड़गम (पांच प्रतिशत) शामिल रहे।

ओएमडी मुद्रामैक्स (OMD Mudramax) के एग्जिक्यूटिव वाइस प्रेजिडेंट और प्रिंसीपल पार्टनर नवीन कथूरिया का कहना है, ‘यदि हम अक्टूबर 2019 में हुए महाराष्ट्र के चुनावों को देखें तो चुनावों के दौरान और इसके बाद कुछ हफ्तों तक मराठी न्यूज चैनल्स की जीआरपी (GRP) में 40-50 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई थी, लेकिन देश के अन्य हिस्सों में हिंदी/अंग्रेजी न्यूज चैनल्स की व्युअरशिप में ज्यादा बढ़ोतरी नहीं देखने को मिली थी। फरवरी 2020 में दिल्ली चुनावों में भी यही ट्रेंड देखने को मिला था। हालांकि, इस बार पश्चिम बंगाल के चुनाव थोड़ा अलग हैं। लोकसभा चुनाव 2019 में बीजेपी को पश्चिम बंगाल में अच्छी बढ़त मिली थी। महामारी के एक साल के कड़े दौर से गुजरने के बाद यहां हो रहे चुनावों में राष्ट्रीय स्तर पर काफी उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहे हैं, ऐसे में पूर्व में हुए अन्य चुनावों अथवा केरल चुनाव के विपरीत यहां के चुनावों को लेकर व्युअर्स में काफी रुचि देखी जा रही है। ऐसे में नेशनल न्यूज चैनल्स को व्युअरशिप में बढ़ोतरी का फायदा मिल सकता है।’

वहीं, एक लोकप्रिय हिंदी न्यूज चैनल के प्रतिनिधि का कहना है, ‘वित्तीय वर्ष 2021 की आखिरी तिमाही में हमें राजनीतिक विज्ञापनों में करीब 50 प्रतिशत की बढ़ोतरी देखने को मिली है। इस समय चुनावों में लोगों की काफी रुचि है, ट्रैफिक भी बढ़ा है, जिससे हमें अपने विज्ञापनों की कीमतों को सामान्य से 10-15 प्रतिशत ज्यादा बढ़ाने में मदद मिली है। हमें आने वाले दिनों में भी यही ट्रेंड रहने की उम्मीद है।’

हालांकि, सिर्फ राजनीतिक दल ही नहीं हैं, जो इस दौरान न्यूज चैनल्स के ज्यादा ट्रैफिक को भुनाते हैं, ब्रैंड्स भी इस बढ़ी हुई व्युअरशिप में अपनी पहुंच बढ़ाने में लगे हुए हैं। चुनावी मौसम में इस साल जनवरी से मार्च के बीच न्यूज जॉनर में ज्यादा खर्च करने वालों में Reckitt Benckiser, Hindustan Unilever, SBS Biotech, Lalitha Jewellery और LIC of India जैसे एडवर्टाइजर्स शामिल हैं, जो इस दौरान टॉप-5 एडवर्टाइजर्स की लिस्ट में भी शामिल रहे हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अब नए अंदाज में दिखाई देगा Zee Rajasthan

चैनल के लुक में बदलाव करने के साथ ही प्रोग्रामिंग में शामिल किए जाएंगे कई नए शो

Last Modified:
Friday, 16 April, 2021
Zee Rajasthan

‘जी मीडिया कॉरपोरेशन लिमिटेड’ (ZMCL) के चैनल ‘जी राजस्थान’ (Zee Rajasthan) ने अपने लुक को रीलॉन्च करने के अलावा कुछ नए शोज के साथ अपने कंटेंट को और मजबूती देने का फैसला लिया है। इस रीलॉन्चिंग का उद्देश्य न्यूज डिलीवरी में नए और ऊर्जावान दृष्टिकोण को अपनाना और सभी आयामों को कवर करने के लिए नए शो शामिल करना है।  

नए शो के तहत दोपहर 12 बजे का बुलेटिन ‘मेरा देश, मेरा प्रदेश’ शामिल है, जिसमें रीजनल और नेशनल न्यूज दोनों पर समान रूप से ध्यान दिया जाएगा। सुबह नौ बजे के शो ‘खबर राजस्थान’ में राज्य की सभी प्रमुख खबरों को शामिल किया जाएगा। दोपहर दो बजे का शो ‘2 Ka Dum’ पूरी तरह से क्षेत्रीय महत्व के साथ राष्ट्रीय खबरों पर केंद्रित होगा। रात आठ बजे प्राइम टाइम डिबेट शो ‘8 Ka Attack’ होगा और रात नौ बजे ‘देश हमारा’ बुलेटिन होगा, जहां पर दो एंकर्स राज्य, देश और दुनिया की खबरें देंगे।

इस बारे में ‘जी मीडिया’ के सीईओ और एडिटर-इन-चीफ पुरुषोत्तम वैष्णव ने कहा, ‘राजस्थान में घरों से लेकर सरकारी इमारतों में यानी सब जगह जी राजस्थान स्ट्रीम किया जाता है। ऐसा इसलिए है कि हम राज्य के लोगों को तथ्यात्मक और निष्पक्ष खबरें दिखाते हैं। राज्य के लोगों के इसी भरोसे की बदौलत हम काफी समय से नंबर वन बने हुए हैं। ‘इनबा 2020’ में जी राजस्थान को बेस्ट प्राइम टाइम शो का अवॉर्ड मिल चुका है। हमें लगता है कि यह हमारे लिए सही समय है कि जब हम अपने अंदर झांकें और बदलते समय के साथ खुद में कुछ आवश्यक बदलाव करें और अपने व्युअर्स को देश-दुनिया में होने वाली घटनाओं से अपडेट रखें।’  

वहीं, ‘जी मीडिया’ के चीफ रेवेन्यू ऑफिसर मनोज जग्यासी का कहना है, ‘जी राजस्थान व्युअर्स की पहली पसंद बना हुआ है और इसने एक साल में एक तिहाई मार्केट शेयर पर अपना कब्जा जमा लिया है। इस दौरान एडवर्टाइजर्स की बदौलत मार्केट में हमारे सबसे ज्यादा क्लाइंट्स हैं। मैं अपने एडवर्टाइजर्स को धन्यवाद देना चाहता हूं, जिन्होंने हमारे ऊपर इतना भरोसा जताया।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

चार सैटेलाइट चैनल लॉन्च करेगा सिद्धार्थ टीवी नेटवर्क

‘सिद्धार्थ टीवी नेटवर्क’ ओडिशा में चार सैटेलाइट चैनल्स लॉन्च करेगा। इनमें से सिद्धार्थ भक्ति (Sidharth Bhakti) की सिग्नल टेस्टिंग का काम एक अप्रैल 2021 को शुरू हो चुका है।

Last Modified:
Friday, 16 April, 2021
Sidharth TV

‘सिद्धार्थ टीवी नेटवर्क’ (Sidharth TV Network) ओडिशा में चार सैटेलाइट चैनल्स लॉन्च करेगा। इनमें से सिद्धार्थ भक्ति (Sidharth Bhakti) की सिग्नल टेस्टिंग का काम एक अप्रैल 2021 को शुरू हो चुका है। इस ग्रुप के दो अन्य सैटेलाइट चैनल्स सिद्धार्थ टीवी (GEC) और सिद्धार्थ गोल्ड (Music & Movie) मई 2021 से ऑनएयर होंगे। इस ग्रुप का चौथा चैनल भी 2021 के आखिरी तक आ जाएगा।  

गौरतलब है कि ओडिशा की एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री के जाने-माने नाम सीताराम अग्रवाल ने वर्ष 2010 में सार्थक टीवी (Sarthak TV) लॉन्च किया था और इसे वर्ष 2015 में जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड (ZEEL) को बेच दिया था, जिसे अब जी सार्थक (Zee Sarthak) के नाम से जाना जाता है। इसके बाद अग्रवाल ने ‘सिद्धार्थ’ (SIDHARTH) ब्रैंड के तहत भक्ति चैनल की लॉन्चिंग के साथ अपने आगे के सफर की शुरुआत की है। सिद्धार्थ भक्ति राज्य का दूसरा भक्ति चैनल है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इस चैनल की लॉन्चिंग के साथ News24 ने रीजनल मार्केट में बढ़ाए कदम

यह चैनल सभी डीटीएच प्लेटफॉर्म्स, बड़े मल्टी सिस्टम ऑपरेटर्स और लोकल केबल ऑपरेटर्स पर 13 अप्रैल से उपलब्ध होगा।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 14 April, 2021
Last Modified:
Wednesday, 14 April, 2021
News24

‘बीएजी फिल्म्स एंड मीडिया लिमिटेड’ (BAG Films and Media Ltd) ने हिंदी भाषी मार्केट में अपनी मौजूदगी को और मजबूती देते हुए अपना रीजनल न्यूज चैनल ‘न्यूज24 मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़’ (News24 MPCG) लॉन्च किया है। यह चैनल सभी डीटीएच प्लेटफॉर्म्स, बड़े मल्टी सिस्टम ऑपरेटर्स (MSOs) और लोकल केबल ऑपरेटर्स पर 13 अप्रैल से उपलब्ध होगा। इस लॉन्चिंग के बारे में ‘बीएजी फिल्म्स एंड मीडिया’ की चेयरपर्सन अनुराधा प्रसाद का कहना है, ‘आम जनता के स्थानीय मुद्दे हमेशा से हमारे न्यूज शो के केंद्र बिंदु रहे हैं, जो हम NEWS24 पर करते हैं। देश के मौजूदा हालात में व्युअर्स ज्यादा से ज्यादा न्यूज देख रहे हैं और टीवी न्यूज की व्युअरशिप और बढ़ेगी।’

इसके साथ ही उनका यह भी कहना है, ‘हमारे तमाम एडवर्टाइजर्स और ब्रैंड्स भी अपनी पहुंच बढ़ाने के लिए रीजनल मार्केट पर फोकस कर रहे हैं। न्यूज24(MPCG) स्थानीय मुद्दों को लेकर स्थानीय कंटेंट पर फोकस करेगा और स्थानीय लोगों के विकास व राष्ट्र के प्रति उनके योगदान को सामने लाएगा।’  

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

ZEE ने लॉन्च किया एक और मूवी चैनल

‘जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड’ ने महाराष्ट्र के मार्केट में अपनी मौजूदगी को और मजबूती देते हुए एक और मराठी मूवी चैनल ‘जी चित्रमंदिर’ (Zee Chitramandir) लॉन्च किया है।

Last Modified:
Saturday, 10 April, 2021
Zee

‘जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड’ (ZEE ENTERTAINMENT ENTERPRISES LTD) ने महाराष्ट्र के मार्केट में अपनी मौजूदगी को और मजबूती देते हुए एक और मराठी मूवी चैनल ‘जी चित्रमंदिर’ (Zee Chitramandir) लॉन्च किया है। यह चैनल सभी फ्रीडिश (Free Dish) यूजर्स के लिए नौ अप्रैल 2021 से उपलब्ध होगा। यह समूह का दूसरा मराठी मूवी चैनल है। नेटवर्क ने पिछले दिनों रीजनल म्यूजिक स्पेस की दुनिया में भी कदम रखते हुए Zee Vajwa के नाम से एक म्यूजिक चैनल भी शुरू किया है।

नई लॉन्चिंग के बारे में ZEE के क्लस्टर हेड (North, West & Premium Channels) अमित शाह का कहना है, ‘ZEE में कस्टमर्स को ध्यान में रखते हुए सभी काम किए जाते हैं। ZEE के मराठी पोर्टफोलियो में मजबूत कंटेंट वाले ब्रैंड्स हैं जो हमारे कंज्यूमर्स के दिन-प्रतिदिन के जीवन का हिस्सा बन गए हैं, फिर चाहे वह हमारे जनरल एंटरटेनमेंट चैनल्स Zee Marathi और  Zee Yuva हों हमारा प्रमुख मूवी चैनल Zee Talkies हो अथवा पिछले दिनों लॉन्च किया गया हमारा म्यूजिक चैनल Zee Vajwa। ऐसे में Zee Chitramandir की लॉन्चिंग से हमारे मराठी ऑडियंस को और ज्यादा मनोरंजन मिलेगा और मार्केट में हमारी पहुंच भी बढ़ेगी। यह चैनल दर्शकों के उनकी मातृभाषा में फिल्मों की पेशकश करेगा और उनका भरपूर मनोरंजन करेगा।’

वहीं, इस नए चैनल के बारे में ZEE के चीफ ग्रोथ ऑफिसर (Advertisement  Revenue) आशीष सहगल का कहना है, ‘ग्रामीण अर्थव्यवस्था में बढ़ोतरी के साथ ही फ्री टू एयर मार्केट्स में इन चैनल्स का ज्यादा उपभोग हो रहा है। इससे वे एडवर्टाइजर्स भी आकर्षित हो रहे हैं, जो इन मार्केट्स में अपनी पहुंच बढ़ाना चाहते हैं। महाराष्ट्र के मार्केट में Zee Chitramandir की लॉन्चिंग के द्वारा हम अपने चैनल पोर्टफोलियो का विस्तार करने को लेकर काफी उत्साहित हैं।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

ZEE एंटरटेनमेंट ने की 70 से ज्यादा एम्प्लॉयीज की छंटनी!

जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज (Zee Entertainment Enterprises Ltd) ने पिछले कुछ हफ्तों में देशभर से 70 से अधिक कर्मचारियों की छंटनी की है।

Last Modified:
Tuesday, 06 April, 2021
ZEE

जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज (Zee Entertainment Enterprises Ltd) ने पिछले कुछ हफ्तों में देशभर से 70 से अधिक कर्मचारियों की छंटनी की है। कुछ स्रोतों ने जो संकेत दिया है, उसके मुताबिक यह संख्या 100 से भी अधिक हो सकती है। माना जा रहा है कि जिन लोगों की छंटनी की गई है, इनमें से अधिकांश सेल्स टीम से थे।

एक विश्वसनीय स्रोत ने इस खबर की पुष्टि करते हुए कहा, ‘हां, 50-60 लोगों को कंपनी छोड़ने के लिए कहा गया है। हालांकि ऐसा नहीं है कि कंपनी अपनी टीम का आकार घटा रही है। साथ ही यह भी जानकारी दी कि मैनेजमेंट द्वारा लिया गया ये फैसला कॉस्ट कटिंग का हिस्सा नहीं है, बल्कि एम्प्लॉयीज के साल के अंत के आकलन के तहत लिया गया है और यह कंपनी द्वारा खुद को एलाइन करने के तहत लिया गया एक रणनीतिक कदम है।

अपनी ZEE 4.0 स्ट्रैटजी के तहत पिछले साल ऑर्गनाइजेशन ने अपनी टीम को पुनर्गठित किया था। इस बदलाव के दौरान राहुल जौहरी को साउथ एशिया में बिजनेस का प्रेजिडेंट नियुक्त किया गया था। इसके बाद, पिछले महीने राजीव बख्शी को कंपनी का चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर (रेवेन्यू) नियुक्त किया गया था। फिर कंपनी ने अशोक नम्बूदरी को अपनी उच्चस्तरीय टीम में इंटरनेशनल बिजनेस का चीफ बिजनेस ऑफिसर नियुक्त किया था।

एक्सचेंज4मीडिया (exchange4media) ने आधिकारिक टिप्पणी के लिए ZEEL से संपर्क किया, लेकिन खबर लिखे जाने तक कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली। कंपनी की ओर से जैसे ही कोई प्रतिक्रिया मिलती है, खबर को अपडेट किया जाएगा।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

iTV Network ने फैलाए अपने पंख, लॉन्च किया ये चैनल

आईटीवी नेटवर्क (iTV Network) ने अब अपने पंख फैला दिए हैं। इसके तहत उसने बंगाल न्यूज मार्केट में एक न्यूज चैनल लॉन्च कर दिया है

Last Modified:
Tuesday, 06 April, 2021
itv Network

आईटीवी नेटवर्क (iTV Network) ने अब अपने पंख फैला दिए हैं। इसके तहत उसने बंगाल न्यूज मार्केट में एक न्यूज चैनल लॉन्च कर दिया है, जिसका नाम है ‘इंडिया न्यूज जॉय बांग्ला’ (India News Joy Bangala)।

बता दें कि चैनल रविवार को लॉन्च किया गया। इस बीच कार्यक्रम में पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़, केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, डॉ. जितेंद्र सिंह, गिरिराज सिंह, मुख्तार अब्बास नकवी, पश्चिम बंगाल विधानसभा के कांग्रेस प्रभारी जितिन प्रसाद, बंगाल कांग्रेस के प्रमुख अधीर रंजन चौधरी, टीएमसी के फरहाद हकीम और सुब्रत मुखर्जी जैसे कई नेता शामिल थे।  

‘इंडिया न्यूज बांग्ला’ का उद्घाटन पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने किया। कॉन्क्लेव को संबोधित करते हुए राज्यपाल धनखड़ ने कहा, ‘मैं इसे बिना किसी रुकावट के यह कह सकता हूं कि कोलकाता जैसा कोई शहर नहीं है। यह वास्तव में खुशियों का शहर है। बंगाल संस्कृति का केंद्र है। यदि आप कोलकाता के किसी भी हिस्से में जाते हैं, तो आप उन चीजों को देखेंगे जिसकी तुलना दुनिया में कहीं भी नहीं की जा सकती। फिर चाहे वह कला हो, संगीत हो, विज्ञान हो या फिर साहित्य हो, आप हर स्तर पर सबसे ऊपर एक बंगाली का ही परफॉर्मेंश देखेंगे।’

इंडिया न्यूज जॉय बांग्ला ई-कॉन्क्लेव को संबोधित करते हुए iTV नेटवर्क के फाउंडर कार्तिकेय शर्मा ने कहा, ‘क्षेत्रीय और स्थानीय समस्याओं को अकसर नेशनल व ब्रॉडकास्टिंग फॉर्मेट में शामिल किया जाता है। हम पूरी तरह से ये मानते हैं कि क्षेत्रीय प्रोग्राम्स को उचित स्थान दिया जाना चाहिए और इसे बढ़ावा देना चाहिए, लिहाजा हम बांग्ला में प्रासंगिक और प्रभावी क्षेत्रीय विचारों को प्रसारित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।’

आईटीवी नेटवर्क के अंतर्गत दो नेशनल न्यूज चैनल्स ‘इंडिया न्यूज’ (India News) और ‘न्यूजएक्स’ (NewX) के साथ-साथ 9 रीजनल न्यूज चैनल्स- ‘इंडिया न्यूज हरियाणा’, ‘इंडिया न्यूज उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड’, ‘इंडिया न्यूज राजस्थान’, ‘इंडिया न्यूज मध्य प्रदेश-छत्तीसगढ़’, ‘इंडिया न्यूज पंजाब’, ‘इंडिया न्यूज गुजरात’, ‘न्यूजएक्सओ ओडिया, न्यूजएक्स कन्नड़ और एनई न्यूज संचालित होता है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

एंकर ज्योत्सना बेदी ने इस न्यूज चैनल के साथ किया नए सफर का आगाज

टीवी एंकर ज्योत्सना बेदी ने ‘रिपब्लिक भारत’ चैनल में अपनी पारी को विराम दे दिया है।

Last Modified:
Tuesday, 06 April, 2021
Jyotsna Bedi

टीवी एंकर ज्योत्सना बेदी ने ‘रिपब्लिक भारत’ चैनल में अपनी पारी को विराम दे दिया है। ‘रिपब्लिक भारत’ की शुरुआत के साथ ही वह इस चैनल के साथ जुड़ी हुई थीं। उन्होंने अपना सफर अब ‘टाइम्स नाउ’ चैनल के साथ शुरू किया है। यहां वह करेसपॉन्डेंट कम एंकर के तौर पर अपनी जिम्मेदारी संभालेंगी।

मीडिया के क्षेत्र में करीब नौ साल से सक्रिय ज्योत्सना ‘रिपब्लिक भारत’ से पहले ‘न्यूज24’में प्रड्यूसर व एंकर के पद पर कार्यरत थीं। ‘न्यूज24’ के साथ ज्योत्सना की यह दूसरी पारी थी।

इससे पहले ‘न्यूज24’ से वह एक दिसंबर 2014 को जुड़ी थीं और करीब ढाई साल तक यहां रहीं। यहां वह दो घंटे का मॉर्निंग न्यूज बुलेटिन ‘जागो इंडिया’ और एक घंटे का स्पेशल शो ‘कालचक्र’ (ज्योतिष आधारित शो) व ‘संजीवनी’ (हेल्थ शो) होस्ट करती थीं। इसके अतिरिक्त वे जनरल न्यूज बुलेटिन में भी नजर आती थीं।

‘न्यूज24’ से पहले वह ZEE मीडिया समूह में भी काम कर चुकी हैं, जहां वह ‘ZEE हिन्दुस्तान’ में एंकर के साथ-साथ असोसिएट प्रड्यूसर की भूमिका में थीं। ‘ZEE हिन्दुस्तान’ में ज्योत्सना के दो शो 'बीएसएफ की कमांडो बेटियां' और 'ताकत वतन की हमसे है', काफी लोकप्रिय रहे हैं।

वह मई, 2017 से ZEE मीडिया के साथ जुड़ी हुईं थीं, जहां एक साल की पारी के दौरान उन्होंने ‘ZEE हिन्दुस्तान’ के अलावा समूह के अन्य चैनलों ‘ZEE राजस्थान’ और ZEE बिहार-झारखंड’ में भी अपना योगदान दिया था। शाम की चुनावी डिबेट से लेकर अलग-अलग मुद्दों पर उन्होंने बेहतरीन एंकरिंग का प्रदर्शन किया था। इस दौरान उन्होंने कई इंटरव्यू भी किए।

15 अगस्त पर बनाए गए उनके शो के लिए उन्हें दिल्ली विश्वविद्यालय के हंसराज कॉलेज में ‘राष्ट्रीय मीडिया सम्मान’ (डॉ. राधा कृष्ण मेमोरियल नेशनल मीडिया नेटवर्क अवॉर्ड्स-2017) से सम्मानित किया जा चुका है। 

ज्योत्सना बेदी ने पत्रकारिता में अपने करियर की शुरुआत न्यूज एजेंसी ‘यूएनआई’ (UNI) से बतौर ट्रेनी की थी, इसके बाद वह जून, 2013 में हिंदी न्यूज चैनल ‘पी7’ से जुड़ गईं, जहां उन्हें न्यूज एंकरिंग की बारीकियों को सीखने का मौका मिला। इसके अलावा वे यहां असिटेंट प्रड्यूसर के तौर पर रनडाउन भी संभालती थीं और हरियाणा न्यूज बुलेटिन के लिए आउटडोर वॉकथ्रू भी करती थीं।

ज्योत्सना बेदी ने ‘दैनिक नवज्योति’ अखबार और ‘ऑल इंडिया रेडियो’ में इंटर्नशिप की है। मीडिया सक्सेस एकैडमी (Media Success Academy) से उन्होंने एंकरिंग और रिपोर्टिंग में डिप्लोमा लिया है।

समाचार4मीडिया की ओर से ज्योत्सना बेदी को नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

आजतक ने राजनीतिक पूर्वाग्रह पर कुछ इस तरह साधा ‘निशाना’

‘आजतक सबसे तेज’ कैंपेन के तहत प्रदीप सरकार के निर्देशन में बनी पांचवी फिल्म ‘जरा झुक के’ (Zara Jhuk Ke) लॉन्च कर दी गई है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 31 March, 2021
Last Modified:
Wednesday, 31 March, 2021
AajTak

अपनी लॉन्चिंग के 20 साल पूरे होने पर हिंदी न्यूज चैनल ‘आजतक’ (AajTak) द्वारा चलाए जा रहे ‘आजतक सबसे तेज’ (AajTakSabseTez) कैंपेन के तहत सीरीज की पांचवी फिल्म ‘जरा झुक के’ (Zara Jhuk Ke) लॉन्च कर दी गई है।

इस फिल्म के जरिये वरिष्ठ पत्रकार चित्रा त्रिपाठी बताती हैं कि आजकल तमाम न्यूज चैनल्स की रिपोर्टिंग में किस तरह राजनीतिक झुकाव और पक्षपात दिखता है, दूसरी ओर आजतक का इस तरह की चीजों से दूर-दूर तक कोई वास्ता नहीं है। इस फिल्म के जरिये बताया गया है कि आजतक बिना किसी राजनीतिक झुकाव के सीधे-सीधे रिपोर्टिंग में विश्वास करता है।

बता दें कि ‘आजतक’ द्वारा पिछले दिनों शुरू किया गया यह कैंपेन देश में मौजूदा समाचार चैनलों के माहौल पर तीखा और दिलचस्प व्यंग्य करता है। जाने-माने लेखक व निर्देशक प्रदीप सरकार के निर्देशन में बने #AajTakSabseTez कैंपेन में पांच छोटी फिल्में हैं। इस सीरीज की चार फिल्में 'सच का बैंड', 'अचार गली' (Achaar Gully), 'अफवाह' (Afwaah) और ‘खबरिस्तान’ (Khabaristan) शीर्षक से पिछले दिनों रिलीज हो चुकी हैं।

'सच का बैंड' में दिखाया गया है कि ‘आजतक’ किस तरह सच्चाई से खिलवाड़ करने वालों का बैंड बजाता है और सिर्फ सच्ची खबरें ही दिखाता है। वहीं, 'अचार गली' (Achaar Gully) फिल्म के जरिये दिखाया गया है कि कैसे ‘आजतक’ मसालेदार खबरें दिखाने में विश्वास नहीं करता और तमाम न्यूज चैनल्स द्वारा अपनाए जाने वाले इस तरह के ट्रेंड से बिल्कुल अलग होकर काम करता है। 'अफवाह' शीर्षक से जारी फिल्म खबरों के नाम पर तमाम न्यूज चैनल्स द्वारा अफवाहें दिखाने वाले चलन पर व्यंग्य करती है।

इस फिल्म के जरिये जानी-मानी न्यूज एंकर अंजना ओम कश्यप बताती हैं कि ‘आजतक’ में अफवाहों के लिए कोई जगह नहीं है और वह सिर्फ सही व प्रामाणिक खबरें दिखाने में विश्वास रखता है। इसके अलावा ‘खबरिस्तान’ के जरिये वरिष्ठ पत्रकार शम्स ताहिर खान खबरों में सनसनीखेज की बढ़ती संस्कृति और सच्चाई से पर्दा उठाते हैं। वह बताते हैं कि तमाम चैनल्स द्वारा चाहे जितनी भी सच की झूठी और सनसनीखेज कहानियां बना ली जाएं, लेकिन आजतक हमेशा सच्चाई को सामने लाता है। 

कैंपेन के तहत जारी पांचवी फिल्म 'जरा झुक के' को आप यहां देख सकते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए