अब दर्शक फ्री में नहीं देख सकेंगे Tata Sky और Airtel के ये चैनल्स

देश के दो बड़े डीटीएच ऑपरेटर टाटा स्‍काई और एयरटेल डिजिटल टीवी की ओर से लॉकडाउन के दौरान कुछ चैनल्स की सर्विस फ्री कर दी थी, जिसे अब बंद कर दी गई है।

Last Modified:
Friday, 08 May, 2020
tatasky-airtel

देश के दो बड़े डीटीएच ऑपरेटर टाटा स्‍काई और एयरटेल डिजिटल टीवी की ओर से लॉकडाउन के दौरान कुछ चैनल्स की सर्विस फ्री कर दी थी, जिसे अब बंद कर दी गई है। यानी यूजर्स अब फ्री में ये चैनल्स नहीं देख सकेंगे।

बता दें कि टाटा स्काई ने 10 इंटरऐक्टिव सर्विस (चैनल) की शुरुआत की थी। इन सर्विसेज के लिए यूजर्स को कोई चार्ज नहीं देना पड़ता था। इसी तरह एयटेल भी अपने यूजर्स को बिना किसी एक्स्ट्रा चार्ज के तीन चैनल ऑफर कर रहा था। अब इन चैनल्स को देखना जारी रखने के लिए यूजर्स को हर महीने पैसे देने पड़ेंगे।

गौरतलब है कि लॉकडाउन की शुरुआत में इन दोनों ऑपरेटर्स ने कहा था कि ये सर्विसेज लॉकडाउन खत्म होने तक उपलब्ध रहेंगी। हालांकि, लॉकडाउन की समयावधि अभी फिलहाल 17 मई तक है, लेकिन जब घोषणा की गई थी तब इसकी समयावधि 3 मई तक थी। लिहाजा इसी वजह से अब यूजर्स को फ्री सर्विसेज मिलनी बंद हो गई हैं।

टाटा स्काई लॉकडाउन के दौरान यूजर्स को ‘डांस स्टूडियो’, ‘टाटा स्काई फन लर्न’, ‘स्मार्ट मैनेजर’, ‘वेदिक मैथ्स’, ‘कुकिंग’, ‘क्लासरूम’, ‘ब्यूटी’, ‘जावेद अख्तर’ और ‘टाटा स्काई फिटनेस चैनल’ फ्री में ऑफर कर रही थी। बता दें कि अब इन चैनल्स को देखने के लिए यूजर्स को पैसे देने पड़ेंगे। ‘फिटनेस’ और ‘फन लर्न’ के लिए यूजर्स को हर महीने 60 रुपए खर्च करने होंगे। वहीं, ‘वेदिक मैथ्स’ और ‘स्मार्ट मैनेजर’ के लिए कंपनी रोज 10 रुपए चार्ज करती है। इसके अलावा टाटा स्काई अपने यूजर्स को लॉकडाउन में इमरजेंसी क्रेडिट फैसिलिटी भी दे रही थी। इसमें उन यूजर्स को राहत पहुंचाने की कोशिश की जा रही थी जो दुकानों के बंद होने के कारण अपना टाटा स्काई अकाउंट रिचार्ज नहीं करा पा रहे थे।

वहीं, एयरटेल ने अप्रैल के पहले हफ्ते में तीन फ्री चैनल्स की शुरुआत की थी। इसमें यूजर्स को तीन सर्विस चैनल- ‘आपकी रसोई’, ‘एयरटेल सीनियर्स टीवी’ और ‘लेट्स डांस’ का फ्री ऐक्सेस दिया जा रहा था। हालांकि, कंपनी ने सोमवार (4 मई) से इन सर्विस चैनल्स का फ्री ऐक्सेस बंद कर दिया है। एयरटेल अपने ‘सीनियर टीवी’ सर्विस के लिए रोज 2 रुपए, ‘आपकी रसोई’ के लिए रोज 1.5 रुपए और ‘लेट्स डांस’ के लिए रोज 1.6 रुपए लेता है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

रिपब्लिक भारत को अलविदा कह नए सफर पर निकले युवा पत्रकार गौरव श्रीवास्तव

सटीक लाइव कवरेज और स्पेशल स्टोरीज के लिए पहचाने जाने वाले टीवी रिपोर्टर गौरव श्रीवास्तव ने ‘रिपब्लिक भारत’ को करीब ढाई साल बाद अलविदा कह दिया है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 04 August, 2021
Last Modified:
Wednesday, 04 August, 2021
Gaurav Srivastava

सटीक लाइव कवरेज और स्पेशल स्टोरीज के लिए पहचाने जाने वाले टीवी रिपोर्टर गौरव श्रीवास्तव ने ‘रिपब्लिक भारत’ में अपनी करीब ढाई साल की पारी को विराम दे दिया है। उन्होंने अपनी नई पारी की शुरुआत ‘टाइम्स नेटवर्क‘ के नए लॉन्च हुए हिंदी चैनल  ‘टाइम्स नाउ नवभारत’ से की है। यहां उन्होंने बतौर करेस्पांडेंट जॉइन किया है। अपनी इस भूमिका में वह  केंद्र सरकार के अहम मंत्रालयों, विपक्षी पार्टियों और अर्धसैनिक बलों की रिपोर्टिंग के साथ स्पेशल स्टोरी करेंगे।

‘रिपब्लिक भारत‘ में करीब ढाई साल की अपनी पारी के दौरान गौरव श्रीवास्तव ने बिहार के चमकी बुखार, कोटा में नवजात शिशुओं की मौत की संवेदनशील कवरेज के साथ ही कोरोना महामारी, दिल्ली दंगे की चुनौतीपूर्ण रिपोर्टिंग की। कोरोना महामारी के दौरान ही अस्पताल, श्मशान घाट और हर पहलू की रिपोर्टिंग करते हुए वह खुद भी कोरोना संक्रमन की चपेट में आ गए थे। इसके अलावा गौरव ने महाराष्ट्र चुनाव, सुशांत डेथ मिस्ट्री, दिल्ली चुनाव, भारत पाक सीमा और तमाम राजनीतिक घटनाक्रम की कवरेज प्रमुखता से की।

उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले के मूल निवासी गौरव श्रीवास्तव को पत्रकारिता के क्षेत्र में काम करने का करीब आठ साल का अनुभव है। पूर्व में गौरव श्रीवास्तव ‘एबीपी न्यूज‘ में करीब साढ़े पांच साल रिपोर्टिंग कर चुके हैं। उस दौरान उन्होंने पूर्वोत्तर भारत के तमाम मुद्दों से लेकर दिल्ली और राजस्थान, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड से कई स्टोरी कीं। उनकी स्टोरी के लिए ‘एबीपी न्यूज‘ की तरफ से कई बार श्रेष्ठ सम्मान से नवाजा गया।

देश की प्रतिष्ठित न्यूज एजेंसी ‘पीटीआई’ के साथ इंटर्नशिप करने वाले गौरव ने पत्रकारिता की पढ़ाई माखनलाल विश्वविद्यालय के नोएडा परिसर से की है। वह वर्ष 2013 बैच के एमएससी(इलेक्ट्रॉनिक मीडिया) के स्टूडेंट रहे हैं। समाचार4मीडिया की ओर से गौरव श्रीवास्तव को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

बॉम्बे हाई कोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार को इस तरह का चैनल खोलने की दी सलाह

मुख्य न्यायाधीश दत्ता ने कहा, ‘जब मैं नागपुर या औरंगाबाद की यात्रा करता हूं तो मोबाइल नेटवर्क कनेक्शन नहीं होता है। फिर आप ग्रामीण क्षेत्रों में मोबाइल नेटवर्क की उम्मीद कैसे कर सकते हैं?

Last Modified:
Tuesday, 03 August, 2021
News Channel

बॉम्बे हाई कोर्ट ने सोमवार को महाराष्ट्र सरकार से एक एजुकेशनल चैनल खोलने की सलाह दी है। कोर्ट ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार केंद्र सरकार के साथ विचार-विमर्श कर शिक्षा के लिए समर्पित चैनल शुरू करने पर विचार करें, ताकि कोविड-19 महामारी के दौरान दिव्यांग बच्चों सहित छात्रों को परेशानी नहीं हो।

मुख्य न्यायाधीश दीपांकर दत्ता और न्यायमूर्ति जी. एस. कुलकर्णी की खंडपीठ ने कहा कि खराब मोबाइल नेटवर्क संपर्क या कई बार मोबाइल फोन खरीदने के लिए धन की कमी की वजह से ग्रामीण क्षेत्रों के छात्र ऑनलाइन कक्षाएं ऐप के माध्यम से नहीं कर पाते हैं।

मुख्य न्यायाधीश दत्ता ने कहा, ‘जब मैं नागपुर या औरंगाबाद की यात्रा करता हूं तो मोबाइल नेटवर्क कनेक्शन नहीं होता है। फिर आप ग्रामीण क्षेत्रों में मोबाइल नेटवर्क की उम्मीद कैसे कर सकते हैं? राज्य सरकार को सिर्फ मोबाइल नेटवर्क के भरोसे नहीं रहना चाहिए।’

पीठ ने कहा कि राज्य सरकार को केंद्र सरकार के साथ विचार-विमर्श कर शिक्षा के लिए समर्पित चैनल शुरू करने पर विचार करना चाहिए।

अदालत ने कहा, ‘फिल्मों एवं मनोरंजन के लिए हमारे पास सैकड़ों चैनल हैं लेकिन शिक्षा के लिए एक भी चैनल नहीं है। ग्रामीण क्षेत्रों सहित हर घर में टेलीविजन है। महामारी के इस समय में छात्रों और खासकर ग्रामीण इलकों के छात्रों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।’

अदालत ने कहा, ‘शिक्षा को नहीं पिछड़ना चाहिए। शहरी क्षेत्रों में ऑनलाइन पढ़ाई हो सकती है, लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में नहीं। ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों के पास मोबाइल खरीदने का पैसा नहीं हो सकता है। आप (सरकार) गूगल मीट और जूम मीटिंग ऐप पर कक्षाओं का आयोजन कर रहे हैं। अगर मोबाइल नेटवर्क कनेक्शन नहीं होगा तो क्या होगा?’

हाई कोर्ट गैर सरकारी संगठन ‘अनमप्रेम’ की तरफ से दायर जनहित याचिका पर सुनवाई कर रही थी, जिसमें कोविड-19 महामारी के समय में दिव्यांग छात्रों को पढ़ाई में आ रही समस्याओं को उठाया गया। अदालत याचिका पर अगली सुनवाई पांच अगस्त को करेगी।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

वरिष्ठ पत्रकार शैलेश की मेनस्ट्रीम मीडिया में वापसी, इस चैनल में बने मैनेजिंग एडिटर

वरिष्ठ पत्रकार शैलेश ने मेनस्ट्रीम मीडिया में वापसी करते हुए बतौर मैनेजिंग एडिटर अपनी नई शुरुआत की है।

Last Modified:
Tuesday, 03 August, 2021
Shailesh Kumar

वरिष्ठ पत्रकार शैलेश ने मेनस्ट्रीम मीडिया में वापसी करते हुए हिंदी न्यूज चैनल ‘समाचार प्लस’ (Samachar Plus) के साथ अपनी नई पारी शुरू की है। यहां उन्होंने बतौर मैनेजिंग एडिटर जॉइन किया है।

शैलेश को पत्रकारिता के क्षेत्र में काम करने का करीब 40 साल का अनुभव है। पूर्व में वह देश के तमाम प्रतिष्ठित न्यूज चैनल्स में अपनी जिम्मेदारी निभा चुके हैं। वह हिंदी न्यूज चैनल ‘न्यूज नेशन’ में बतौर एडिटर-इन-चीफ और सीईओ रह चुके हैं। हालांकि ‘न्यूज नेशन‘ के बाद वह मेन स्ट्रीम मीडिया से अलग हटकर न्यूज24 के मीडिया इंस्टीट्यूट ‘आईसोम्स‘ (ISOMES) से जुड़ गए थे, जहां वह डीन के रूप में अपनी भूमिका निभा रहे थे।

मूल रूप से भागलपुर (बिहार) के रहने वाले शैलेश ने ‘बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी‘ (बीएचयू) से पत्रकारिता की पढ़ाई की है। इसके बाद उन्होंने बनारस में ही ‘दैनिक जागरण‘ के साथ अपने पत्रकारीय करियर की शुरुआत कर दी थी। बाद में वह लखनऊ आ गए और ‘नवभारत टाइम्स‘ से जुड़ गए। इसके बाद शैलेश ने प्रिंट को छोड़कर टीवी की दुनिया का रुख कर लिया। यहां उन्होंने ‘जी न्यूज’ के साथ अपनी पारी शुरू की और फिर ‘आजतक’ से जुड़ गए। इसके बाद ‘आजतक‘से अलविदा कहकर उन्होंने करीब तीन साल ‘न्यूज नेशन’ में अपनी पारी खेली। अब उन्होंने ‘समाचार प्लस‘ के साथ नई पारी शुरू की है। समाचार4मीडिया की ओर से शैलेश को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

बता दें कि एक समय अपनी धाक जमा चुका ‘समाचार प्लस’ एक बार फिर दर्शकों के बीच लौट आया है। फिलहाल इसकी सॉफ्ट लॉन्चिंग की गई है। यानी अभी इसके डिस्ट्रीब्यूशन का काम शुरू नहीं हुआ है, बल्कि इंटरनल रिव्यू का काम चल रहा है। चैनल का कार्यालय नोएडा के सेक्टर-4 में बनाया गया है। चैनल की कोशिश फिर से अपने पुराने दर्शकों के बीच लौटने की है, ताकि उनका खोया भरोसा फिर से प्राप्त कर सकें, लिहाजा चैनल का लोगो और टैग लाइन पुरानी ही रखी गई है, यानि-‘खबर वही, जो हमने कही’।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

जानें, पांच वर्षों में कितने टीवी चैनल्स को मिली MIB की मंजूरी, कितनों का संचालन हुआ बंद

राज्य सभा में एक सवाल के जवाब में सूचना प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने दिया जवाब

Last Modified:
Tuesday, 03 August, 2021
Channels

सूचना-प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर का कहना है कि विभिन्न कारणों से पिछले पांच वर्षों में 204 टीवी चैनल्स का संचालन बंद हुआ है। इनमें  अपलिंकिंग/डाउनलिंकिंग गाइडलाइंस के तहत शर्तों को पूरा न करने सहित तमाम कारण शामिल हैं। राज्य सभा में सोमवार को पूछे गए एक सवाल के जवाब में अनुराग ठाकुर ने यह जानकारी दी।  

इसके साथ ही अनुराग ठाकुर ने यह भी कहा कि पिछले पांच सालों में 228 चैनल्स को मंजूरी दी गई है। वर्ष 2020-21 में 22 चैनल्स को मंत्रालय की ओर से लाइसेंस की मंजूरी दी गई है। इसके साथ ही मंत्रालय ने वर्ष 2016-17 में 60, वर्ष 2017-18 में 34, वर्ष 2018-19 में 56 और वर्ष 2019-20 में 56 टीवी चैनल्स को लाइसेंस प्रदान किए हैं।

उन्होंने बताया, ‘अपलिंकिंग और डाउनलिंकिंग गाइडलाइंस 2011 के तहत सरकार द्वारा अब तक 916 प्राइवेट सैटेलाइट टीवी चैनल्स को मंजूरी प्रदान की गई है। वर्ष 2016 से वर्ष 2020 के बीच सरकार ने टीवी चैनलों द्वारा प्रोग्राम कोड उल्लंघन पर 128 मामलों में कार्रवाई की। केबल टेलीविजन नेटवर्क (विनियमन) अधिनियम, 1995 के तहत निर्धारित कार्यक्रम संहिता के उल्लंघन के लिए सरकार निजी टीवी चैनलों के खिलाफ चेतावनी, एडवाइजरी और ऑफ एयर जैसे आदेश जारी करके कार्रवाई करती है। वर्ष 2016 से 2020 के दौरान 128 मामलों में ऐसी कार्रवाई की गई।’

पिछले पांच वर्षों में सरकार की विभिन्न एजेंसियों द्वारा कितने और किन-किन निजी टीवी चैनल्स के यहां डाले गए छापे के बारे में पूछे गए एक सवाल के जवाब में अनुराग ठाकुर का कहना था, ‘विभिन्न नियमों के उल्लंघन में विभिन्न एजेंसियां राजस्व विभाग के तहत तलाशी और जब्त करने की कार्रवाई करती हैं।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

लॉन्चिंग के साथ ही टाइम्स नाउ नवभारत लाया ये प्राइम टाइम Shows

‘टाइम्स नेटवर्क’ (Times Network) ने एक और मुकाम हासिल करते हुए एक अगस्त को नया हिंदी चैनल ’टाइम्स नाउ नवभारत’ लांच कर दिया है।

Last Modified:
Monday, 02 August, 2021
Times Now

‘टाइम्स नेटवर्क’ (Times Network) ने एक और मुकाम हासिल करते हुए एक अगस्त को नया हिंदी चैनल ’टाइम्स नाउ नवभारत’ लांच कर दिया है। इस चैनल की कमान नाविका कुमार को दी गई है, जो यहां एडिटर-इन-चीफ की जिम्मेदारी संभालेंगी। इसी के साथ सुशांत सिन्हा, मीनाक्षी कंडवाल, पद्मजा जोशी और अंकित त्यागी जैसे सीनियर और अनुभवी एंकर्स की टीम भी चैनल को बुलंदियों पर ले जाने के लिए तैयार है।

लॉन्चिंग के साथ ही ’टाइम्स नेटवर्क’ ने कुछ शोज का ऐलान भी किया है। आपको बता दें कि वरिष्ठ पत्रकार सुशांत सिन्हा को दो शो दिए गए हैं। शाम पांच बजे और रात नौ बजे के शो सुशांत के जिम्मे हैं। 'राष्ट्रवाद' एक डिबेट शो है। शाम पांच बजे के इस शो में देश के ज्वलंत मुद्दों पर चर्चा और बहस होगी। इसके अलावा रात नौ बजे न्यूज की पाठशाला' न्यूज और उसके विश्लेषण को अनूठे एवं रोचक अंदाज में दर्शकों के सामने लाएगा। इसकी जिम्मेदारी सुशांत सिन्हा को दी गई है। टाइम्स नेटवर्क का कहना है कि ये अपने आप में ऐसा अनूठा शो है, जिसे आज तक दर्शकों ने नहीं देखा है।

अंकित त्यागी को शाम 6 बजे ’लोगतंत्र ’ नाम के शो की जिम्मेदारी दी गई है। जैसा कि नाम से जाहिर है कि ये शो आम आदमी से जुड़े मुद्दों पर आधारित होगा। इस शो में आम आदमी से जुड़े मुद्दों पर ग्राउंड रिपोर्ट होगी। एंकर पद्मजा जोशी शाम सात बजे ’धाकड़ एक्सक्लूसिव’ नाम के शो से दर्शकों से रूबरू होंगी। इस शो में दिन की जितनी भी बड़ी खबरें होंगी, उन पर विस्तार से चर्चा की जाएगी।

चैनल की एडिटर- इन-चीफ नाविका कुमार शाम 8 बजे दर्शकों से जुड़ेंगी और उनके शो का नाम ’सवाल पब्लिक का’ रखा गया है। इस शो की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इस शो में आम आदमी भी अब नेताओं और जिम्मेदार लोगों से सवाल कर पाएगा, जिसका उल्लेख नाविका कुमार ने अपनी ओपनिंग स्पीच में भी किया था।

टाइम्स नाउ नवभारत पर रात 10 बजे एंकर मीनाक्षी कंडवाल अपने शो ’ओपिनियन इंडिया का’ को लेकर दर्शकों के सामने होंगी और जनता से जुड़े मुद्दों पर चर्चा होगी। मीनाक्षी ने इस शो के बारे में बताया कि इस शो में अब जनता भी अपने व्यू रखेगी और एक अलग अंदाज से यह बताया जाएगा कि किसी मुद्दे पर देश के लोग क्या सोच रहे हैं। एक तरह से आप इसे लोगों की जब्ज टटोलने वाला शो कह सकते हैं। समाचार4 मीडिया की पूरी टीम की ओर से टाइम्स नाउ नवभारत, नाविका कुमार और उनकी पूरी टीम को बधाई।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

हिंदी न्यूज चैनल के प्रधान संपादक के खिलाफ शिकायत दर्ज

नोएडा स्थित एक हिंदी न्यूज चैनल के प्रधान संपादक के खिलाफ शिकायत दर्ज किए जाने का मामला सामने आया है।

Last Modified:
Monday, 02 August, 2021
TV Channel

नोएडा स्थित एक हिंदी न्यूज चैनल के प्रधान संपादक के खिलाफ शिकायत दर्ज किए जाने का मामला सामने आया है। दरअसल, मामला जयपुर का है, जहां मीणा समुदाय की भावनाओं को आहत करने के सिलसिले में पुलिस ने यह शिकायत दर्ज की है।

जयपुर के ट्रांसपोर्ट नगर थाने में अंबागढ किले से हाल में कथित रूप से भगवा झंडा हटाने के विवाद में मीणा समुदाय की भावनाओं को आहत करने के सिलसिले में सुदर्शन टीवी के प्रधान संपादक सुरेश चव्हाण के खिलाफ शुक्रवार को प्राथमिकी दर्ज करवाई गई है।

पुलिस के अनुसार मीणा का आरोप है कि चैनल में मीणा समुदाय को अपशब्द कहे गए और पूरे समुदाय की भावनाओं को आहत किया गया है, जिसके बाद चव्हाण के खिलाफ मामला दर्ज करवाया गया।

आदर्शनगर के सहायक पुलिस आयुक्त नील कमल ने बताया कि प्राथमिकी भारतीय दंड संहिता तथा सूचना प्रौद्योगिकी कानून की संबंधित धाराओं और अनुसूचित जाति-जनजाति (उत्पीड़न से निवारण) कानून के तहत दर्ज की गयी है। उन्होंने कहा कि किसी को भी इलाके में सद्भाव और कानून व्यवस्था को बिगाडने नहीं दिया जायेगा।

उन्होंने बताया कि इलाके में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है और शनिवार को फ्लैग मार्च भी निकाला गया है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इन न्यूज एंकर्स के कंधों पर रहेगा टाइम्स नाउ नवभारत का दारोमदार, जानें इनके बारे में

‘टाइम्स नेटवर्क’ (Times Network) के हिंदी न्यूज चैनल 'टाइम्स नाउ नवभारत' का एक अगस्त को आगाज कर दिया गया है।

Last Modified:
Monday, 02 August, 2021
Times Now

‘टाइम्स नेटवर्क’ (Times Network) के हिंदी न्यूज चैनल 'टाइम्‍स नाउ नवभारत' का एक अगस्त को आगाज कर दिया गया है। एडिटर-इन-चीफ नाविका कुमार ने खुद सामने आकर कमान संभाली और अपने दर्शकों को अपनी पूरी टीम से रूबरू करवाया।

उन्होंने नेटवर्क के अंग्रेजी न्यूज चैनल ‘टाइम्स नाउ’ को मिल रहे दर्शकों के प्यार को सराहा और कहा कि उन्हें उम्मीद है कि आने वाले समय में दर्शक ’टाइम्स नाउ नवभारत’ को भी उतना ही प्यार देंगे। इस मौके पर उन्होंने अपनी अनुभवी और धारदार टीम से लोगों को रूबरू करवाया। आइये जानते हैं चैनल से जुड़े कुछ प्रमुख चेहरों के बारे में-

सुशांत सिन्हा: वरिष्ठ पत्रकार सुशांत सिन्हा को मीडिया जगत में 20 साल से भी अधिक का अनुभव है। उन्होंने कई बड़े मीडिया घरानों के साथ काम किया है वहीं सोशल मीडिया पर उनके लाखों चाहने वाले हैं। प्रभाव छोड़ने वाली जमीनी रिपोर्टिंग, लोगों के मुद्दे उठाने के लिए सुशांत सिन्हा को जाना जाता है।

पद्मजा जोशी: टाइम्स नाउ की कंसल्टिंग एडिटर (पॉलिटिक्स) के रूप में पद्मजा जोशी ने चैनल को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाया है। वह रात दस बजे प्राइम टाइम शो 'The Newshour ' प्रस्तुत करती हैं। मीडिया जगत में उनके 10 साल से भी अधिक के अनुभव का फायदा अब टाइम्स नाउ नवभारत को भी मिलने वाला है। आपको बता दें कि पद्मजा राजनीति, करेंट अफेयर्स की विशेषज्ञ मानी जाती हैं और उनके पास रिपोर्टिंग करने का व्यापक अनुभव भी है।

मीनाक्षी कंडवाल: मीनाक्षी देश की पहली ऐसी एंकर हैं, जो साल 2010 में स्टार न्यूज का टैलेंट हंट जीतकर एंकरिंग की दुनिया में आईं। ‘आजतक’ जैसे बड़े मीडिया हाउस में मीनाक्षी एक विश्वसनीय चेहरा रही हैं। मीनाक्षी देश की उन चुनिंदा पत्रकारों में से एक हैं, जिन्होंने पाकिस्तान से भारत-पाकिस्तान रिश्तों पर रिपोर्टिंग की है। पाकिस्तान से करतारपुर कवरेज के लिए मीनाक्षी ने बेस्ट इंटरनेशनल प्रोग्राम का ‘ENBA’ पुरस्कार हासिल किया। एंकरिंग से अलग मीनाक्षी 'इंडिया टुडे' मैग्जीन में हिमालयी राज्य उत्तराखंड के लिए लेख लिखती रही हैं।

इसके अलावा ‘टाइम्स नाउ नवभारत’ की एडिटर-इन-चीफ नाविका कुमार किसी परिचय की मोहताज नहीं है। 16 साल से नाविका कुमार ‘टाइम्स नाउ’ का चेहरा हैं। वह रात नौ बजे TIMES NOW के प्राइम टाइम शो 'The News hour' को होस्ट करती हैं। इसके अलावा उनका टॉक शो 'Frankly Speaking' भी काफी लोकप्रिय है, जिसमें वह देश की लगभग सभी बड़ी और महान हस्तियों का इंटरव्यू कर चुकी हैं। पत्रकारिता के क्षेत्र में राजनीतिक रिपोर्टिंग के लिए इन्हें साल 2006 में प्रेम भाटिया मेमोरियल ट्रस्ट अवार्ड से सम्मानित किया गया।

जाने-माने टीवी एंकर अंकित त्यागी भी ‘टाइम्स नाउ नवभारत’ से जुड़े हैं। इससे पूर्व में वह ‘इंडिया टुडे’ से जुड़े हुए थे और डिप्टी एडिटर के तौर पर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे। इसका अलावा कंचन जायसवानी, अमित कुमार सिंह, अनंत त्यागी, ज्योत्सना बेदी, हिमांशु दीक्षित, दीपिका यादव, राजीव ढौंडियाल और नैना यादव जैसे अनुभवी एंकर भी उनकी टीम से जुड़े हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

जानें, दर्शक किन प्लेटफॉर्म्स पर देख सकते हैं 'टाइम्स नाउ नवभारत'  

टाइम्स नेटवर्क का हिंदी न्यूज चैनल 'टाइम्स नाउ नवभारत' रविवार 1 अगस्त  को 10 बजे लॉन्च हो गया है। दर्शक इन प्लेटफॉर्म्स पर इस चैनल को देख सकते हैं-

Last Modified:
Monday, 02 August, 2021
Times Now Navbharat

टाइम्स नेटवर्क का हिंदी न्यूज चैनल 'टाइम्स नाउ नवभारत' रविवार 1 अगस्त  को 10 बजे लॉन्च हो गया है। एचडी लाइव में प्रसारित इस चैनल का नेतृत्व देश की जानी-मानी एवं तेज-तर्रार पत्रकार नविका कुमार (एडिटर-इन-चीफ, टाइम्स नाउ नवभारत) कर रही हैं।

टाइम्स ग्रुप का दावा है कि 'टाइम्स नाउ नवभारत' ‘अब बदलेगा भारत, बनेगा नवभारत’ की सोच एवं जज्बे के साथ काम करते हुए बदलते और उभरते भारत की आवाज बनेगा। खबरिया चैनलों की दुनिया में यह चैनल शोर-शराबे से दूर सरोकारों की पत्रकारिता करेगा। अपनी पत्रकारिता से 'टाइम्स नाउ नवभारत' वास्तविकता की वह जमीन तैयार करेगा जहां से नई पीढ़ी अपने सपनों की उड़ान भरेगी। चैनल सिर्फ खबरों को परोसने में भरोसा नहीं रखेगा बल्कि सच और झूठ के बीच का फर्क उजागर करते हुए उसकी तह तक पहुंचेगा। घिसे-पिटे न्यूज फॉर्मेट से अलग ताजगी, पैनापन, धार, रफ्तार और खबरों की सटीकता ही उसकी पहचान होगी।

'टाइम्स नाउ नवभारत' को दर्शक इन प्लेटफॉर्म्स पर इस चैनल देख सकते हैं- 

Market MSO NAME TN NBT LCN
ALL INDIA TATA SKY 528
ALL INDIA AIRTEL DTH 327
ALL INDIA HSM HATHWAY DIGITAL 321
ALL INDIA HSM DEN DIGITAL 899
ASSAM/BIHAR/GUJ/ JHARKHAND/ MAH/MUMBAI/ RAJ GTPL DIGITAL 134
MUMBAI/ MAH SCOD 18 (GTPL) 946
DELHI/PHCHP FASTWAY DIGITAL 721
DELHI/MP/ MAH/ MUMBAI/RAJ/UP/CHHATISGARH SITI DIGITAL 1165
MP/MAH UCN DIGITAL 760
KOLKATA ICNCL 811
KOLKATA/WB GTPL KCBP 224
KOLKATA DIGI DIGITAL 66
KOLKATA MEGHBELA CABLE & BROADBAND SERVICE 800
MUMBAI JPR 460
JAIPUR/RAJASTHAN Home Tv 511
GUWAHATI/ASSAM Axom Comm                  VISIBLE ON 952                                                                   

                                      

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

'टाइम्‍स नाउ नवभारत' की लॉन्चिंग पर नाविका कुमार ने दिया ये संदेश

टाइम्स ग्रुप के हिंदी न्यूज चैनल 'टाइम्‍स नाउ नवभारत' का धमाकेदार आगाज हो गया है।

Last Modified:
Monday, 02 August, 2021
navikaKumar545487

टाइम्स ग्रुप के हिंदी न्यूज चैनल 'टाइम्‍स नाउ नवभारत' का धमाकेदार आगाज हो गया है। रविवार सुबह दस बजे इस चैनल को लॉन्च किया गया। इस चैनल की टैग लाइन है 'अब बदलेगा भारत, बनेगा नवभारत'। टाइम्‍स नेटवर्क का यह हिंदी चैनल दर्शकों के बीच कुछ अलग करने की चाहत लेकर आया है। लॉन्‍च से पहले एडिटर-इन-चीफ नाविका कुमार ने दर्शकों के लिए खास संदेश दिया है।

उन्‍होंने कहा, ऐसे दौर में जब लोगों का मीडिया पर भरोसा कम होता जा रहा है, सोशल मीडिया पर प्रोपगैंडा के तहत खबरें ब्रेक हो रही हैं, फेक न्‍यूज का बोलबाला है, मीडिया से आम लोगों की आवाज लापता सी हो गई है, जमीन से जुड़ी खबरों की जगह एजेंडा हावी हो गया है, इस सोच ने टाइम्‍स नाउ नवभारत के विचार का बीज बोया। सच्‍चाई, निष्‍पक्षता और हर खबर की तह तक पहुंचना टाइम्‍स नाउ की पत्रकारिता की पहचान रहा है। टाइम्‍स नाउ नवभारत में पत्रकारिता और आदर्शों को और ऊंचा उठाने की कोशिश की जाएगी। उसके आगे यह चैनल जनता के मन की बात का प्लेटफॉर्म भी बनेगा। सुनिये उन्‍होंने क्‍या कुछ कहा-

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अपने नए चैनल की लॉन्चिंग पर TRP को लेकर टाइम्स नेटवर्क के एमडी एमके आनंद ने कही ये बात

देश के प्रमुख मीडिया नेटवर्क्स में शुमार ‘टाइम्स नेटवर्क’ (Times Network) का नया हिंदी न्यूज चैनल ‘टाइम्स नाउ नवभारत’ एक अगस्त को जोर-शोर से लॉन्च हो गया।

Last Modified:
Monday, 02 August, 2021
MK Anand Times Network

देश के प्रमुख मीडिया नेटवर्क्स में शुमार ‘टाइम्स नेटवर्क’ (Times Network) का नया हिंदी न्यूज चैनल  ‘टाइम्स नाउ नवभारत’ (Times Now Navbharat) एक अगस्त को जोर-शोर से लॉन्च हो गया। इस मौके पर ‘टाइम्स नेटवर्क’ के एमडी और सीईओ एमके आनंद ने कहा कि उनका यह चैनल लोगों के सही और सटीक संदेश सरकार तक व सरकार की बातों को लोगों तक पहुंचाने का एक प्रयास है।

रविवार को चैनल की लॉन्चिंग के मौके पर ‘टाइम्स नाउ नवभारत‘ की एडिटर-इन-चीफ नाविका कुमार से बातचीत करते हुए एमके आनंद का कहना था, ‘मुझे उम्मीद ही नहीं बल्कि पूरा विश्वास है कि लोग टाइम्स नेटवर्क के हिंदी न्यूज चैनल टाइम्स नाउ नवभारत को पसंद करेंगे। हमारा मानना है कि न्यूज में हमारे समाज पर प्रभाव डालने की शक्ति है और यह लोगों के जीवन को बेहतर बनाने में मदद करती है।‘ इसके साथ ही उन्होंने कहा, ‘टाइम्स नेटवर्क टीआरपी की दौड़ में शामिल नहीं है और यह सिर्फ अपने देश और यहां के लोगों के भले के लिए काम करेगा।‘

इस मौके पर एमके आनंद का यह भी कहना था, ‘अंग्रेजी न्यूज चैनल्स की दुनिया में हम पिछले 16 वर्षों से देश के प्रमुख न्यूज चैनल टाइम्स नाउ को इसी संकल्प के साथ चला रहे हैं। टाइम्स नाउ में हम जो मुद्दे उठाते हैं, वे अगले दिन लोगों के बीच चर्चा का विषय बन जाते हैं और समाज और राजनीतिक क्षेत्रों में बदलाव का कारण बनते हैं। हम किसी भी तरह से टीआरपी की दौड़ में शामिल नहीं हैं। हम उन मुद्दों और समाचारों पर अथक प्रयास करते हैं जो जनहित में हैं और देश और समाज के कल्याण में भी योगदान करते हैं।’

इसके साथ ही उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि नवभारत (new India) का उदय तभी होगा, जब हम महत्वपूर्ण मुद्दों को सही तरीके से उठाएंगे और लोगों, सरकार व देश के बीच उचित संवाद होगा।

एमके आनंद के अनुसार, ’टाइम्स नाउ नवभारत इसी दिशा में हमारा प्रयास है। हमें उम्मीद है कि आप हमारे ऊपर अपना प्यार और भरोसा दोनों बनाए रखेंगे। हम और आप मिलकर देश में बदलाव लाएंगे और एक नया भारत (नवभारत) बनाएंगे।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए