टीवी टुडे नेटवर्क: स्पेशल इंवेस्टिगेशन टीम (SIT) का कारनामा, मोदी सरकार को फायदा

सोशल मीडिया पर वायरल एक स्टिंग ऑपरेशन का जिक्र गृहमंत्री अमित शाह ने हाल ही में संसद में भी किया

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 12 December, 2019
Last Modified:
Thursday, 12 December, 2019
TV Today Network

कुछ लोग परदे के पीछे के खिलाड़ी होते हैं। बड़े-बड़े कारनामों के बावजूद देश उनको नहीं जान पाता। जमशेद खान जैसे अंडरकवर रिपोर्टर भी उन्हीं में से एक हैं। टीवी टुडे नेटवर्क की स्पश्ल इंवेस्टिगेशन टीम (SIT) के प्रमुख जमशेद ने अपनी टीम के साथ मिलकर पिछले दशक में जितने स्टिंग किए हैं, शायद ही किसी और रिपोर्टर ने किए हों।

चाहे वो धार्मिक चेहरों से नकाब उठाना हो या राजनीतिक हस्तियों के मंसूबों से। इंटरनेशनल क्रिकेट के परदे के पीछे के खेलों का खुलासा करना हो या फिर आपकी सिक्योरिटी में तैनात पुलिस वालों की ‘सुपारी किलर’ की मानसिकता को उजागर करना हो, कोई भी फील्ड इस एसआईटी टीम के स्टिंग ऑपरेशंस से अछूता नहीं रहा है। लेकिन एक के बाद एक कश्मीर पर उनके कई ऑपरेशंस चर्चा का विषय बन गए हैं और इसका सीधा फायदा मिल रहा है मोदी सरकार को। सरकार इन ऑपरेशंस का हवाला देकर बता रही है कि कैसे उसकी कही गई बातें सही सिद्ध हो रही है।

घाटी में पत्थरबाजों के स्टिंग के बाद जमशेद और टीम ने एक स्टिंग ऑपरेशन 2017 में किया, जिसके जरिये उन्होंने घाटी के हवाला रैकेट का पर्दाफाश किया गया। यही वो ऑपेऱशन था जिसके चलते मोदी सरकार ने एनआईए जांच बैठा दी। इस मामले में नईम खान जेल गया, उसके बाद गिरफ्तारियों की लाइन लग गई, यहां तक कि यासीन मलिक जैसे नेता भी जेल में हैं।

इसके बाद हवाला रैकेट पर एक और ऑपरेशन ‘अलमंड्स’ किया गया, अब एक नया और हालिया स्टिंग चर्चा में है। यह सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस ऑपरेशन का जिक्र गृहमंत्री अमित शाह ने हाल ही में संसद में भी किया। ये ऑपरेशन जुड़ा था उन लोगों के पर्दाफाश से, जो पैसे लेकर घाटी में स्कूल जलाने से लेकर, भीड़ भड़काने और दंगा फैलाने तक के लिए तैयार हैं।

इस स्टिंग में दिल्ली में एक राजनीतिक पार्टी के पूर्व कार्यकर्ता से लेकर घाटी का एक स्थानीय क्रिकेटर और प्रॉपर्टी एजेंट तक तमाम लोग शामिल थे। ऐसे में मोदी सरकार के समर्थक इस ऑपरेशन की क्लिप्स को सोशल मीडिया पर जमकर शेयर कर रहे हैं। आप भी इस स्टिंग को यहां देख सकते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

ABP माझा के इस कार्यक्रम में जुटीं हस्तियां, तमाम मुद्दों पर हुई चर्चा

‘एबीपी माझा’ ने राजनीतिक घटनाक्रमों, जनता से जुड़े प्रमुख मुद्दों और सरकार के विभिन्न विचारों पर प्रकाश डालने के लिए 31 जुलाई को अपने फ्लैगशिप शो ‘माझा महाराष्ट्र माझा विजन’ का आयोजन किया।

Last Modified:
Monday, 03 August, 2020
ABP Majha

देश के अग्रणी मराठी न्यूज चैनल ‘एबीपी माझा’ (ABP Majha) ने राजनीतिक घटनाक्रमों, जनता से जुड़े प्रमुख मुद्दों और सरकार के विभिन्न विचारों पर प्रकाश डालने के लिए 31 जुलाई को अपने फ्लैगशिप शो ‘माझा महाराष्ट्र माझा विजन’ (Majha Maharashtra Majha Vision) का आयोजन किया।

कार्यक्रम में विभिन्न दलों के राजनेताओं समेत तमाम पत्रकारों ने भाग लिया और राज्य के वर्तमान हालातों पर चर्चा की। कार्यक्रम में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने राज्य में कोविड-19 की स्थिति के बारे में बताते हुए कहा, ‘मुंबई लोकल अभी भी चल रही है। आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों के लिए लोकल ट्रेन की सुविधा उपलब्ध है। मुंबई में स्थानीय परिवहन सेवा शुरू होगी या नहीं, यह तय करना राज्य सरकार के पास नहीं है। राज्य में आवश्यक सेवा से जुड़े कर्मचारियों के लिए परिवहन सेवा शुरू करने को लेकर हमें कई बार केंद्र सरकार से अनुरोध करना पड़ा।’  

वहीं, सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने इस बात पर जोर दिया कि लॉकडाउन समस्या का समाधान नहीं है। उन्होंने कहा, ‘यदि लॉकडाउन को और बढ़ाया जाता है तो उससे आर्थिक संकट पैदा हो जाएगा। इंडस्ट्री को सोशल डिस्टेंसिंग पर फोकस करना होगा। इसके साथ ही हाथ धोने और मास्क का इस्तेमाल करने की आदत को बढ़ावा देना होगा।’

इस कार्यक्रम को एबीपी माझा के एंकर राजीव खांडेकर, अभिजीत करंडे (Abhijit Karande), प्रसन्ना जोशी, ज्ञानदा चव्हाण और नम्रता वागले ने मॉडरेट किया। बता दें कि माझा विजन एक प्लेटफॉर्म है, जहां राज्य के प्रमुख मामलों पर विचार-विमर्श करने के लिए मंत्री आमने-सामने आते हैं और ज्वलंत मुद्दों पर अपनी राय साझा करते हैं। उन्हें अपनी राज्य के प्रति अपने लक्ष्यों और किए गए कामों की प्रगति को लेकर अपने रिपोर्ट कार्ड को साझा करने का मंच मिलता है।

इस समिट के बारे में ‘एबीपी नेटवर्क’ (ABP Network) के सीईओ अविनाश पांडे ने कहा, ‘माझा विजन एक ऐसा प्लेटफॉर्म है, जहां पर राजनेता एक साथ आते हैं और राज्य व राष्ट्र से जुड़े प्रमुख मुद्दों पर अपनी बात रखते हैं। महाराष्ट्र में कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं। ऐसे समय में लोग जानना चाहते हैं कि इस बीमारी से निपटने के बारे में उनके राजनेताओं का क्या विजन है। माझा विजन उन्हें ऐसा प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराता है, जहां पर वे आपस में विभिन्न मुद्दों पर चर्चा कर सकते हैं। एबीपी माझा के रूप में हमारा एकमात्र उद्देश्य दर्शकों को उनसे जुड़े सभी मुद्दों से अवगत कराना है।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

TV पत्रकार विनोद लांबा ने अब इस मीडिया समूह के साथ शुरू किया नया सफर

विनोद लांबा को विभिन्न मीडिया संस्थानों में काम करने का 14 साल से ज्यादा का अनुभव है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Saturday, 01 August, 2020
Last Modified:
Saturday, 01 August, 2020
Vinod Lamba

टीवी पत्रकार विनोद लांबा ने ‘टोटल टीवी’ (Total TV) में अपनी पारी को विराम देकर नए सफर की शुरुआत की है। ‘टोटल टीवी’ में विनोद लांबा करीब दो साल से कार्यरत थे और दिल्ली के ब्यूरो चीफ के तौर पर अपनी जिम्मेदारी संभाल रहे थे। विनोद लांबा ने अपने नए सफर की शुरुआत अब ‘जी मीडिया’ (Zee Media) के साथ की है। यहां बतौर मुख्य संवाददाता उन्हें दिल्ली-हरियाणा और हिमाचल की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

मूल रूप से फरीदाबाद के रहने वाले विनोद लांबा को मीडिया के क्षेत्र में काम करने का 14 साल से ज्यादा का अनुभव है। उन्होंने पत्रकारिता के क्षेत्र में अपने करियर की शुरुआत वर्ष 2006 में ‘डीडी न्यूज’ से की थी। इसके बाद ‘डीडी स्पोर्ट्स’, ‘सीएनईबी’, ‘लाइव इंडिया’, ‘न्यूज24’, ‘इंडिया न्यूज’, ‘टोटल टीवी’ होते हुए अब वह ‘जी मीडिया’ में पहुंचे हैं।

विनोद लांबा ने दिल्ली विश्वविद्यालय से जर्नलिज्म इन कॉरपोरेट कम्युनिकेशंस में पीजी डिप्लोमा किया है। इसके अलावा उन्होंने हरियाणा के हिसार स्थित गुरु जंभेश्वर विश्वविद्यालय से मास कम्युनिकेशन में पोस्ट ग्रेजुएशन किया है। समाचार4मीडिया की ओर से विनोद लांबा को उनकी नई पारी के लिए शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

व्युअर्स के बीच अपनी पकड़ मजबूत करने के लिए ABP न्यूज ने बनाई खास स्ट्रैटेजी

कोविड-19 के कारण टीवी व्युअरशिप के बदलते पैटर्न को देखते हुए सुबह दस से शाम तक लगातार शोज प्रसारित किए जा रहे हैं

Last Modified:
Tuesday, 28 July, 2020
ABP News

कोविड-19 ने विभिन्न जॉनर्स में टीवी शोज के व्युअरशिप पैटर्न को प्रभावित किया है। ऐसे में अपने कंटेंट में तमाम नए बदलाव करने की दिशा में कदम बढ़ाते हुए हिंदी न्यूज चैनल ‘एबीपी न्यूज’ (ABP News) ने अपने कई शोज को नए सिरे से लाइन अप (line up) किया है। देखा जाए तो अपने देश में टीवी पर न्यूज जॉनर में पारंपरिक रूप से प्राइम टाइम का समय शाम को सात से रात 11 बजे के बीच होता है। अधिकांश चैनल्स को इस समय अवधि (time-band) में ही सबसे ज्यादा व्युअरशिप हासिल की है।

हालांकि, कोरोनावायरस (कोविड-19) के दौर में अधिकांश दर्शकों के घरों पर रहने की वजह से टीवी व्युअरशिप के पैटर्न में बदलाव आ रहा है। घरों पर मौजूद टीवी व्युअर्स कोविड से पहले की तुलना में अब दिन के समय यानी सुबह दस बजे से दोपहर ढाई बजे (10:00 am to 2:30 pm) के बीच ज्यादा न्यूज देख रहे हैं।   

नए दौर में अपने व्युअर्स के बीच ज्यादा से ज्यादा पहुंच बनाने और उन्हें अपने साथ जोड़े रखने के लिए ‘एबीपी न्यूज’ सुबह दस से शाम छह बजे तक दिलचस्प शोज के जरिये दिन के समय के कंटेंट में काफी बदलाव कर रहा है।

अपने इस नए पोर्टफोलियो के तहत ‘एबीपी न्यूज’ हफ्ते (weekdays) में  कुछ नए शोज समेत छह खास शोज प्रसारित कर रहा है। इनमें एबीपी रिपोर्टर (ABP Reporter), ‘न्यूजग्राम’ (Newsgram), ‘पंचनामा’ (Panchnama), ’मातृभूमि’ (Matrubhoomi) और ‘रियलिटी रिपोर्ट’ (Reality Report) आदि शामिल हैं। इन सभी शो को विशेष रूप से भारतीय दर्शकों विविध रुचियों को देखते हुए तैयार किया गया है। इन पेशकशों के अलावा, स्टार प्लस के विशेष सहयोग से ‘एबीपी न्यूज’ अपने लोकप्रिय शो ‘सास बहू और साजिश’ (Saas Bahu Aur Saazish) में तमाम नई वैल्यूज शामिल कर रहा है। इस गठबंधन के द्वारा ‘एबीपी न्यूज’ अपने व्युअर्स को न्यूज और एंटरटेनमेंट का एक्सक्लूसिव कंटेंट उपलब्ध कराएगा।  

इस नई पेशकश के बारे में ‘एबीपी नेटवर्क’ (ABP Network) के सीईओ अविनाश पांडे का कहना है, ‘कोविड-19 के दौर ने भारतीयों के न्यूज के उपभोग (consume news) के तरीके को काफी बदल दिया है। इस दौरान हमारी व्युअरशिप में भी काफी ग्रोथ देखी गई है। हमारे व्युअर्स एबीपी न्यूज से लगातार जुड़े हुए हैं और हम उन्हें श्रेष्ठ, नया और काफी अच्छा कंटेंट उपलब्ध करा रहे हैं। हम अपने शोज की नई लाइन अप को लेकर काफी उत्साहित हैं, जिन्हें दर्शकों की जरूरतों और हितों को ध्यान में रखते हुए सेट किया गया है। हमें पूरा विश्वास है कि देश के लोग हमारे ऊपर अपना भरोसा बनाए रखेंगे।’

एबीपी न्यूज द्वारा शोज की नई लाइन अप को आप यहां देख सकते हैं।

ABP Reporter – 10:00 am to 12:00 pm

Saas Bahu Aur Saazish – 2:30 pm to 3:30 pm

Reality Report – 3:30 pm to 4:00 pm

Newsgram – 4:00 pm to 5:00 pm (Daily)

Panchnama – 5:00 pm to 6:00 pm

Matrubhoomi - 6:00 pm to 7:00 pm

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

धमाकेदार वापसी को तैयार है अभिज्ञान प्रकाश का ये लोकप्रिय शो

कोरोना की वजह से मीडिया के साथ-साथ तमाम उद्योग-धंधों पर भी काफी प्रभाव पड़ा है।

Last Modified:
Saturday, 25 July, 2020
ABHIGYAN PRAKASH

कोरोनावायरस (कोविड-19) ने पूरी दुनिया पर काफी व्यापक प्रभाव डाला है। कोरोना की वजह से मीडिया के साथ-साथ तमाम उद्योग-धंधों पर भी काफी प्रभाव पड़ा है। कोरोना ने देश पर क्या प्रभाव डाला है और आगे क्या प्रभाव डाल सकता है, यह बताने के लिए वरिष्ठ पत्रकार अभिज्ञान प्रकाश अपने लोकप्रिय शो (परिवर्तन) का सीजन टू लेकर आ रहे हैं।

हिंदी न्यूज चैनल ‘एबीपी न्यूज’ (ABP News) पर 25 जुलाई से प्रत्येक शनिवार की रात दस बजे यह शो टेलिकास्ट किया जाएगा। एक घंटे के इस शो के माध्यम से अभिज्ञान प्रकाश जनता से जुड़े तमाम मुद्दों को उठाएंगे और उन पर गहन रोशनी डालेंगे। इस शो का रिपीट टेलिकास्ट प्रत्येक रविवार की सुबह 10 से 11 बजे किया जाएगा।

बता दें कि ‘परिवर्तन’ में अभिज्ञान प्रकाश न केवल ऐसे विषयों में झांकने की कोशिश करते हैं, जो अक्सर दूसरों की नजरों से छूट जाते हैं, बल्कि यह भी समझाते हैं कि देश में सुधार का परिवर्तन आखिर कैसे हो सकता है।

इस बारे में ज्यादा जानकारी आप नीचे दिए गए वीडियो से ले सकते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

न्यूज24 को बाय बोल पत्रकार प्रत्यूष खरे ने तलाशी नई मंजिल

पत्रकार प्रत्यूष खरे ने हिंदी न्यूज चैनल ‘न्यूज24’ (News24) में अपनी करीब सात साल की पारी को विराम दे दिया है।

Last Modified:
Thursday, 23 July, 2020
Pratyush Khare

पत्रकार प्रत्यूष खरे ने हिंदी न्यूज चैनल ‘न्यूज24’ (News24) में अपनी करीब सात साल की पारी को विराम दे दिया है। यहां वह एसोसिएट एडिटर के पद पर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे। प्रत्यूष खरे ने अब ‘जी समूह’ के साथ नई शुरुआत की है। उन्होंने इस समूह के हिंदी न्यूज चैनल ‘जी हिन्दुस्तान’ (Zee Hindustan) में बतौर एंकर कम एग्जिक्यूटिव प्रड्यूसर जॉइन किया है। यहां पर वह ’10 का दंगल’ डिबेट शो होस्ट कर रहे हैं।

मूल रूप से जमशेदपुर के रहने वाले प्रत्यूष खरे को मीडिया के क्षेत्र में काम करने का करीब 16 साल का अनुभव है। समाचार4मीडिया के साथ बातचीत में प्रत्यूष खरे ने बताया कि उन्होंने पत्रकारिता में अपने करियर की शुरुआत ‘ईटीवी’ से की थी। इसके बाद वह यहां से अलविदा कहकर ‘जी न्यूज’ के साथ जुड़ गए और करीब तीन साल तक अपनी जिम्मेदारी को बखूबी निभाया।

इसके बाद प्रत्यूष खरे ने यहां से बाय बोलकर ‘महुआ’ चैनल में नई शुरुआत की। हालांकि, इस चैनल के साथ उनका सफर महज कुछ महीने ही रहा और इसके बाद वे ‘न्यूज24’ से जुड़े गए। ‘न्यूज24’ में अपनी पारी के दौरान प्रत्यूष खरे ने ‘5 की पंचायत’ जैसा दमदार डिबेट शो किया। इसके अलावा उन्होंने ‘सवाल वोट का’ और ‘देश की आवाज’ जैसे लोकप्रिय शोज किए। वहीं, पटना में आई बाढ़ पर उन्होंने दमदार रिपोर्टिंग भी की।

समाचार4मीडिया की ओर से प्रत्यूष खरे को नई पारी के लिए शुभकामनाएं।  

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

मध्य प्रदेश में विधानसभा उप चुनाव को देखते हुए न्यूज18 के इस शो ने फिर दी दस्तक

इस शो के माध्यम से वोटर्स अपनी बात राजनेताओं तक पहुंचा सकते हैं और उनसे विभिन्न मुद्दों पर सीधे सवाल पूछ सकते हैं।

Last Modified:
Monday, 20 July, 2020
News18

मध्य प्रदेश में आगामी विधानसभा उप चुनाव को देखते हुए न्यूज चैनल ‘न्यूज18 मध्य प्रदेश/छत्तीसगढ़’ अपना अवॉर्ड विनिंग शो ‘कहता है वोटर’ (Kehta Hai Voter) एक बार फिर वापस लेकर आया है। इस शो के माध्यम से वोटर्स अपनी बात राजनेताओं तक पहुंचा सकते हैं और उनसे विभिन्न मुद्दों पर सीधे सवाल पूछ सकते हैं।

चैनल का मानना है कि चुनाव आमजन के मुद्दों से जुड़े होते हैं और इसलिए उनकी आवाज और उनसे जुड़े मुद्दों को उठाना काफी महत्वपूर्ण है। 18 जुलाई से इस शो को चैनल पर लॉन्च किया गया है। चैनल की ओर से कहा गया है कि चुनाव के दौरान मतदाता अपनी बात उठा सकें, इस उद्देश्य से शो की कल्पना की गई थी। इतने वर्षों में चुनावों के दौरान यह शो दर्शकों को उन मुद्दों को उठाने के लिए सशक्त बना रहा है जो उनके लिए काफी महत्वपूर्ण हैं। इस शो की यूएसपी यह है कि यह राजनेताओं और वोटर्स के बीच सीधे बातचीत करने की सुविधा प्रदान करता है।  

इस शो के दौरान विभिन्न निर्वाचन क्षेत्रों के दर्शकों से उन सवालों को उठाने के लिए कहा जाएगा जो वे अपने नेताओं से पूछना चाहते हैं। राजनीतिक दलों के नेता इन दर्शकों के सवालों का जवाब देंगे। शो में उन मुद्दों पर चर्चा कराने का वादा भी किया गया है जो उपचुनावों के परिणामों पर सीधा असर डालेंगे। ‘कहता है वोटर’ शो को न्यूज18 मध्यप्रदेश/छत्तीसगढ़ पर प्रत्येक शनिवार और रविवार को दिखाया जाएगा।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

दर्शकों से जुड़ाव बढ़ाने के लिए ABP न्यूज ने शुरू की खास पेशकश

हिंदी न्यूज चैनल ‘एबीपी न्यूज’ ने लोगों से जुड़ाव बढ़ाने के लिए स्पेशल इंटरैक्टिव पहल शुरू की है।

Last Modified:
Monday, 20 July, 2020
ABP News

हिंदी न्यूज चैनल ‘एबीपी न्यूज’ (ABP News) ने लोगों से जुड़ाव बढ़ाने के लिए स्पेशल इंटरैक्टिव पहल शुरू की है। इसके तहत चैनल ने अपनी प्रोग्रामिंग में ऑडियंस पोल्स (audience polls) को शामिल किया है, ताकि दर्शकों को और बेहतर तरीके से खुद से जोड़ा जा सके।  

चैनल की ओर से जारी स्टेटमेंट के अनुसार, लोगों को एक स्पेशल प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराया जा रहा है, जिस पर वे प्रासंगिक मुद्दों पर अपनी बात रख सकते हैं। इसके लिए एबीपी न्यूज ‘डेली पोल’  (daily poll) कराता है। इस ‘डेली पोल’ के तहत एबीपी न्यूज सीवोटर (Centre for Voting Opinion & Trends in Election Research) के साथ कुछ सवाल शेयर करता है, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों से उनकी प्रतिक्रिया जानी जा सके।

अपराह्न साढ़े चार बजे तक पोल के नतीजे आ जाते हैं और इन्हें शाम को पांच बजे के शो में लाइव दिखाया जाता है। इस शो को ‘एबीपी न्यूज’ की जानी-मानी न्यूज एंकर रूबिका लियाकत होस्ट करती हैं।अपनी शुरुआत के बाद से इस शो में तमाम प्रमुख मुद्दों से जुड़े सवालों को उठाया गया है, इनमें राजस्थान में राजनीतिक उथल-पुथल से लेकर पिछले दिनों हुआ विकास दुबे मुठभेड़ कांड आदि शामिल हैं।

पिछले दिनों काफी चर्चा में रहे विकास दुबे मुठभेड़ कांड की बात करें को करीब 84.8 प्रतिशत दर्शकों का मानना है कि विकास दुबे ने एनकाउंटर के डर से खुद ही पुलिस के सामने सरेंडर किया था। लोगों से जब यह पूछा गया कि उज्जैन में विकास दुबे की गिरफ्तारी क्या साबित करती है तो करीब 66.7 प्रतिशत लोगों ने कहा कि इससे पुलिस की अक्षमता साबित होती है, जबकि 33.3 प्रतिशत लोगों ने इस बात से असहमति जताई। राजस्थान की राजनीतिक उथल-पुथल पर 67.2% का मानना ​​था कि कांग्रेस अपने आंतरिक संघर्षों के कारण ध्वस्त हो जाएगी।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अब इस चैनल में एसोसिएट एडिटर बने पत्रकार अश्विनी मिश्रा

अश्विनी मिश्रा को पत्रकारिता के क्षेत्र में काम करने का 18 साल से ज्यादा का अनुभव है। पूर्व में वह तमाम मीडिया संस्थानों में विभिन्न पदों पर अपनी भूमिकाएं निभा चुके हैं।

Last Modified:
Saturday, 18 July, 2020
Ashwini Mishra

पत्रकार अश्विनी मिश्रा ने न्यूज चैनल ‘सहारा समय’ (मप्र/छत्तीसगढ़) के साथ अपनी नई पारी की शुरुआत की है। उन्होंने यहां पर बतौर एसोसिएट एडिटर जॉइन किया है। अश्विनी मिश्रा को पत्रकारिता के क्षेत्र में काम करने का 18 साल से ज्यादा का अनुभव है। पूर्व में वह तमाम मीडिया संस्थानों में विभिन्न पदों पर अपनी भूमिकाएं निभा चुके हैं। ‘सहारा समय’ के साथ अपनी नई पारी शुरू करने से पहले अश्विनी मिश्रा डिजियाना ग्रुप में ग्रुप कंसल्टेंट के पद पर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे।

समाचार4मीडिया के साथ बातचीत में अश्विनी मिश्रा ने बताया कि वह पूर्व में ‘जी’ (मप्र/छत्तीसगढ़) में रेजिडेंट एडिटर के पद पर काम कर चुके हैं। ‘ईटीवी नेटवर्क’ में एडिटर की भूमिका निभाने के अलावा वह हिंदी खबर से भी जुड़े रहे हैं।

मूल रूप से उत्तर प्रदेश में कासगंज के रहने वाले अश्विनी मिश्रा ने आगरा यूनिवर्सिटी से पढ़ाई की है। उन्होंने अपने करियर की शुरुआत ‘मून टीवी’ चैनल से की थी। इसके बाद अमर उजाला और फिर तमाम मीडिया संस्थानों में अपनी भूमिका निभाते हुए वह यहां पहुंचे हैं। समाचार4मीडिया की ओर से अश्विनी मिश्रा को नई पारी के लिए शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

जानें, विज्ञापन को लेकर क्या है न्यूज प्लेटफॉर्म्स और ब्रैंड्स के बीच का ‘गणित’

‘एक्सचेंज4मीडिया’ समूह द्वारा 14 जुलाई को ‘बीबीसी ग्लोबल न्यूज वेबिनार’ का आयोजन किया गया।

Last Modified:
Wednesday, 15 July, 2020
BBC

‘एक्सचेंज4मीडिया’ (exchange4media) समूह द्वारा 14 जुलाई को ‘बीबीसी ग्लोबल न्यूज वेबिनार’ (The BBC Global News webinar) का आयोजन किया गया। ‘Recovery in a Recession’ टॉपिक पर हुए इस वेबिनार में इस बात पर प्रकाश डाला गया कि न्यूज प्लेटफॉर्म्स पर किए गए विज्ञापन ब्रैंड्स के लिए क्यों ज्यादा प्रभावी होते हैं और बेहतर परिणाम देते हैं। इस वेबिनार में ‘बीबीसी ग्लोबल न्यूज’ (BBC Global News) के मैनेजिंग डायरेक्टर (इंडिया) राहुल सूद और रिसर्च डायरेक्टर (Audience & Business Insights) एशिया पैसिफिक, सैली वू (Sally Wu) ने आर्थिक मंदी के दौर में ब्रैंड्स पर न्यूज के प्रभाव को लेकर चर्चा की। इस पूरी कवायद का उद्देश्य ऐसे सवालों के जवाब तलाशना था जो वर्तमान आर्थिक परिदृश्य में मार्केटर्स, एजेंसीज और पब्लिशर्स के लिए काफी महत्वूर्ण हैं। हमारी सहयोगी वेबसाइट ‘एक्सचेंज4मीडिया’ (exchange4media) के सीनियर एडिटर रुहैल अमीन ने इस सेशन को मॉडरेट किया।

इस सेशन में तमाम तथ्यों, आंकड़ों और रिसर्च से दर्शाया गया कि ब्रैंड्स के लिए न्यूज प्लेटफॉर्म्स पर विज्ञापन करना कितना बेहतर है। सूद का कहना था, ‘हालांकि ब्रैंड्स को हार्ड न्यूज कटेंट के साथ जुड़ने को लेकर काफी डर रहता है, लेकिन रिसर्च ने साबित किया है कि हार्ड न्यूज में विज्ञापन को लेकर ऑडियंस उनसे ज्यादा जुड़ता है और इससे मजबूत भावनात्क प्रभाव बनता है, जो एडवर्टाइजिंग कैंपेन में काम आता है और इसके बेहतर परिणाम मिलते हैं।’   

न्यूज व्युअरशिप सिर्फ भारत में ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया में महीना दर महीना चरम पर रही है। न्यूज पब्लिशर्स की बात करें तो मार्च में जब देश में महामारी की शुरुआत हुई थी, तो उन्हें इसके नतीजे लगभग तुरंत महसूस हो गए थे। मंदी को देखते हुए ब्रैंड्स अपने मार्केटिंग बजट में कटौती कर रहे हैं ताकि कॉस्ट को कम किया जा सके।

सूद ने कहा, ‘कोविड-19 के कारण करीब 52 प्रतिशत ब्रैंड्स ने अपने विज्ञापन खर्च को आधे साल के लिए टाल दिया है। ऐसे में प्रतिद्वंद्वियों के मुकाबले उनकी ग्रोथ रेट 256 प्रतिशत दर्ज की गई है। और जिन ब्रैंड्स ने मंदी के दौरान अपनी मार्केटिंग को बनाए रखा है अथवा बढ़ाया है, उनके मार्केट शेयर में ऐसे ब्रैंड्स के मुकाबले दोहरी वृद्धि देखने को मिली है, जिन्होंने अपने खर्चों में कटौती की है।’

हालांकि, कंज्यूमर्स अभी भी खर्च कर रहे हैं और इससे मार्केट शेयर बनाने का अवसर मिलता है। पिछली आर्थिक मंदियों पर की गई स्टडी के अनुसार यह देखा गया है कि जो ब्रैंड्स मार्केट में एक्टिव रहते हैं, वे अपने प्रतिद्वंद्वियों के मुकाबले अच्छा बिजनेस करेंगे। लोगों की आदतों में शुमार होने, प्राथमिकताओं और निष्ठा के कारण ऐसे ब्रैंड्स तेजी से रिकवर कर पाते हैं, क्योंकि आने वाले वर्षों में कंज्यूमर्स खर्च बढ़ता है। ऐसे ब्रैंड्स जो मंदी के दौरान निवेश करते हैं, आने वाले वर्षों में उनकी प्रॉफिट ग्रोथ काफी ज्यादा होती है। क्योंकि अन्य ब्रैंड्स मार्केट से बाहर हो जाते हैं और मीडिया दरें घट जाती है, ऐसे में ज्यादा मार्केट शेयर हासिल करना आसान और सस्ता हो सकता है। ऐसे मीडिया पार्टर्स को सेलेक्ट करना जो सिर्फ पहुंच, फ्रीक्वेंसी और कंवर्शेसन के बजाय ब्रैंड के ऑब्जेक्टिव्स को सपोर्ट करते हैं, वे सेल्स में ज्यादा योगदान देंगे।

इस पर जोर देते हुए सूद ने यह भी कहा, ‘ब्रैंड्स मीडिया पर ज्यादा फोकस करते हैं, जिससे ऐसे समय में ज्यादा पहुंच मिलती है। अकेले मीडिया की तुलना में ब्रैंड्स सेल्स में पांच गुना ज्यादा योगदान देते हैं।’ आजकल फेक न्यूज और गलत सूचनाओं की भरमार है और ऐसे में ब्रैंड पर भरोसा करना काफी विश्वसनीय होता है। खासकर अमेरिका और भारत में जिस तरह के माहौल में दोनों देश चल रहे हैं, उसमें हम एक-दूसरे के पर्यायवाची हैं। यदि लोग आप पर भरोसा करते हैं तो वे आपके ब्रैंड्स पर ज्यादा तवज्जो देंगे।  

सूद का मानना है कि इसमें कस्टमर का भरोसा और इसके साथ आने वाला भावनात्मक लगाव काफी प्रमुख है, जिससे मार्केटर के किसी भी ब्रैंड को टार्गेट किया जाएगा। इस महामारी से न्यूज चैनल्स के साथ ही ब्रैंड्स को मिले लाभ के बारे में वू ने कहा, ’कोविड के कारण 59 प्रतिशत लोग अब इंटरनेशनल न्यूज का उपभोग कर रहे हैं। भारत और आस्ट्रेलिया जैसे राष्ट्रीय बाजारों में यह बदलाव विश्व स्तर पर और एशिया पैसिफिक के मुकाबले अधिक है। जो लोग लगातार यात्राएं करते हैं वे यात्रा सुरक्षा के टिप्स के लिए न्यूज पर भरोसा करते हैं और महामारी खत्म होने के बाद वे जिस स्थान पर जाना चाहते हैं, वहां के बारे में न्यूज आर्टिकल पढ़ेंगे।’   

‘बीबीसी ग्लोबल माइंड’ (BBC global minds) रिसर्च के अनुसार, तीन में दो से ज्यादा ऑडियंस मानते हैं कि एडवर्टाइजिंग के द्वारा न्यूज को सपोर्ट करना चाहिए। 68% निवेशक ऑडियंस इस समय अपने स्टॉक और निवेश में बदलाव करने के बारे में सोच रहे हैं, जबकि सरकार द्वारा जल्द से जल्द लॉकडाउन हटाने की दिशा में 37 प्रतिशत छुटिट्यों के बारे में सोच रहे हैं।

बीबीसी न्यूज प्लेटफॉर्म्स पर एक्टिव 11 कैंपेन बैंकिंग, फाइनेंस, टेल्को, टूरिज्, बी2बी, लग्जरी गुड्स, एयरलाइंस और टेक्नोलॉजी जैसे विभिन्न सेक्टर्स से आए थे। वर्तमान परिदृश्य में बीबीसी प्लेटफॉर्म्स पर विज्ञापन देने वाले ब्रैंड्स के बारे में वू का कहना था, ‘महामारी से पहले जो बेंचमार्क हमने तय किया था, कैंपेन का प्रदर्शन उससे छह से नौ प्रतिशत ज्यादा था। कोविड से पहले की तुलना में ब्रैंड रिकमंडेशन भी काफी ज्यादा हो गई थीं। ’

वू का यह भी कहना था, ‘यह गलतफहमी है कि इस समय विज्ञापन को लेकर ब्रैंड सेफ नहीं हैं। इस समय इस रिसर्च को लेकर एकमात्र कारण यही पता लगाना था कि लोगों को न्यूज कंटेंट मिल रहा है अथवा नहीं। हमें उम्मीद है कि इस स्टडीज को और आगे बढ़ाने के लिए हमारे पास पर्याप्त बजट होगा।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अब इस न्यूज चैनल पर नजर आएंगी एंकर रोमिता तिवारी

हिंदी न्यूज चैनल ‘बंसल टीवी’ (Bansal TV) को अलविदा कहकर युवा पत्रकार रोमिता तिवारी ने अब अपने करियर की नई पारी शुरू की है।

Last Modified:
Wednesday, 15 July, 2020
Romita Tiwari

हिंदी न्यूज चैनल ‘बंसल टीवी’ (Bansal TV) को अलविदा कहकर युवा पत्रकार रोमिता तिवारी ने अब अपने करियर की नई पारी शुरू की है। उन्होंने ‘जनतंत्र टीवी’ (JANTANTRA TV) में बतौर एंकर कम असिस्टेंट प्रड्यूसर जॉइन किया है। इस बात की जानकारी रोमिता तिवारी ने खुद अपने फेसबुक पेज पर दी है।

बता दें कि रोमिता तिवारी बंसल टीवी से करीब सवा साल से जुड़ी हुई थीं। यहां भी वह एंकर की जिम्मेदारी संभाल रही थीं। इससे पहले रोमिता तिवारी ‘IND24’ और ‘Dnn’ न्यूज चैनल में भी एंकर के तौर पर अपनी भूमिका संभाल चुकी हैं।

मध्य प्रदेश में भोपाल की रहने वालीं रोमिता तिवारी ने माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय, भोपाल से मीडिया मैनेजमेंट की पढ़ाई की है। समाचार4मीडिया की ओर से रोमिता तिवारी को नई पारी के लिए शुभकामनाएं।  

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए