सूचना:
मीडिया जगत से जुड़े साथी हमें अपनी खबरें भेज सकते हैं। हम उनकी खबरों को उचित स्थान देंगे। आप हमें mail2s4m@gmail.com पर खबरें भेज सकते हैं।

DD फ्रीडिश से अपने हिंदी एंटरटेनमेंट चैनल्स को हटा सकते हैं ये चार बड़े ब्रॉडकास्टर्स

चार बड़े टीवी नेटवर्क्स ने डीडी फ्रीडिश की वार्षिक ई-नीलामी के पहले दिन इससे दूरी बना ली। इंडस्ट्री में चर्चा है कि ये ब्रॉडकास्टर्स अपने जनरल एंटरटेनमेंट चैनल्स को ‘डीडी फ्रीडिश’ से हटा सकते हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 09 March, 2022
Last Modified:
Wednesday, 09 March, 2022
TV Channels

देश के चार बड़े टीवी नेटवर्क्स ने डीडी फ्रीडिश की वार्षिक ई-नीलामी के पहले दिन इससे दूरी बना ली। ऐसे में इंडस्ट्री में इस बात की चर्चा जोरों पर है कि ये ब्रॉडकास्टर्स एक बार फिर अपने जनरल एंटरटेनमेंट चैनल्स (GEC) को प्रसार भारती के डीटीएच प्लेटफॉर्म ‘डीडी फ्रीडिश’ (DD Free Dish) से हटा सकते हैं। मामले से जुड़े सूत्रों ने बताया कि हालांकि, ब्रॉडकास्टर्स ‘डीडी फ्रीडिश’  पर गैर जनरल एंटरटेनमेंट चैनल्स (non-GECs) की पेशकश को जारी रख सकते हैं।

चार नेटवर्क्स ‘स्टार’ (Star), ‘सोनी’(Sony), ‘वायकॉम18’(Viacom18) और ‘जी’ (Zee) के मूवीज, म्यूजिक और रीजनल जॉनर (genres) में ‘डीडी फ्रीडिश’ पर 12 जनरल एंटरटेनमेंट चैनल्स हैं। जिन चैनल्स को ‘डीडी फ्रीडिश’ से हटाया जा सकता है, उनमें ‘स्टार उत्सव’ (Star Utsav), ‘जी अनमोल’ (Zee Anmol), ‘कलर्स रिश्ते’ (Colors Rishtey) और ‘सोनी पल’ (Sony Pal) शामिल हैं।

मामले से जुड़े एक सूत्र ने हमारी सहयोगी वेबसाइट ‘एक्सचेंज4मीडिया’ (exchange4media) को बताया, ‘ब्रॉडकास्टर्स ने डीडी फ्रीडिश से अपने जनरल एंटरटेनमेंट चैनल्स को हटाने का फैसला किया है। हालांकि, वे अपने दूसरे चैनल्स इस प्लेटफॉर्म पर रखेंगे। सबस्क्रिप्शन रेवेन्यू को बचाने के लिए सामूहिक रूप से यह निर्णय लिया गया है, जो कि कस्टमर्स के पे प्लेटफॉर्म (pay platforms) से डीडी फ्रीडिश में जाने के कारण जबरदस्त दबाव में है।’

बताया जाता है कि ब्रॉडकास्टर्स नए टैरिफ ऑर्डर (एनटीओ) 2.0 के लागू होने के बाद पे डिस्ट्रीब्यूशन प्लेटफॉर्म से डीडी फ्रीडिश में कस्टमर्स के जाने को लेकर चिंतित हैं। ऐसे में ब्रॉडकास्टर्स ने ‘प्रति उपयोगकर्ता औसत राजस्व’ (ARPU) बढ़ाने के लिए अपने लोकप्रिय चैनलों को बुके (bouquets) से हटा दिया है।

बता दें कि ‘भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण’ (TRAI) ने नए टैरिफ को लागू करने की डेडलाइन एक जून 2022 तक बढ़ा दी है। इससे पहले TRAI इस मामले में एक परामर्श पत्र (consultation paper) आने की उम्मीद कर रहा है। इस कंसल्टेशन पेपर में अधिकतम खुदरा मूल्य (MRP) में कमी और बंडलिंग (bundling) पर प्रतिबंधों में ढील सहित ब्रॉडकास्टर्स की चिंताओं को दूर करने की संभावना है।

सूत्रों का कहना है कि चारों चैनल्स ने 1000 करोड़ रुपये का सालाना विज्ञापन राजस्व (ad revenue) जुटाया है। इस बारे में एक सीनियर मीडिया एग्जिक्यूटिव का कहना है, ‘बड़े ब्रॉडकास्टर्स के लिए यह एक बेहतरीन बिजनेस मॉडल है, क्योंकि उन्होंने मुश्किल से 15-20 करोड़ रुपये खर्च किए और सालाना 200 से 250 करोड़ रुपये के बीच कमाई की। हालांकि, डीडी फ्रीडिश की लोकप्रियता लंबे समय में सबस्क्रिप्शन रेवेन्यू के लिए घातक है।’

एक बड़े ‘फ्री टू एयर’ (FTA) के शीर्ष अधिकारी ने कहा कि बड़े ब्रॉडकास्टर्स ने अच्छा निर्णय लिया है जो दीर्घावधि में काफी अच्छा रहेगा। उनका कहना है, ‘ब्रॉडकास्टर्स को यह चुनना था कि क्या वे डीडी फ्रीडिश पर पहुंच के माध्यम से विज्ञापन रेवेन्यू चाहते हैं या अपने सबस्क्रिप्शन रेवेन्यू में जोखिम कम करना चाहते हैं। उनका निर्णय स्पष्ट है, क्योंकि ब्रॉडकास्टर्स अपने सबस्क्रिप्शन रेवेन्यू को बचाना चाहते हैं। विज्ञापन रेवेन्यू के विपरीत, जो मार्केट्स पर निर्भर करता है, सबस्क्रिप्शन रेवेन्यू एक स्थिर आय का साधन है, जो ब्रॉडकास्टर्स को मार्केट की अनिश्चितताओं से बचाता है।’

चारों ब्रॉडकास्टर्स ने जून 2020 में वापसी करने के लिए आखिरी बार मार्च 2019 में डीडी फ्रीडिश से अपने जनरल एंटरटेनमेंट चैनल्स को वापस लिया था। ब्रॉडकास्टर्स को चैनल्स को हटाना पड़ा था, क्योंकि इन्हें फ्री टू एयर से पे में बदल दिया गया था। यह रूपांतरण एनटीओ नियम का अनुपालन करने के लिए किया गया था, जिसमें एफटीए और पे चैनलों के बंडलिंग की अनुमति नहीं थी।

इंडस्ट्री से जुड़े सूत्रों के अनुसार, ब्रॉडकास्टर्स पर केबल टीवी और डायरेक्ट टू होम (डीटीएच) ऑपरेटरों की ओर से डीडी फ्रीडिश से अपने चैनल्स को हटाने का जबरदस्त दबाव है।

वित्तीय वर्ष 2022 की तीसरी तिमाही (Q3 FY22) की अर्निंग कॉन्फ्रेंस कॉल (earnings conference call) के दौरान 'जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड’ (ZEEL) के मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ पुनीत गोयनका का कहना था कि कस्टमर के कारण पिछले 12-15 महीनों में पे टीवी मार्केट में कमी देखी गई है। कंपनी के घरेलू सबस्क्रिप्शन रेवेन्यू में गिरावट के बारे में उनका कहना था, ‘पे टीवी मार्केट में कमी देखी गई है, क्योंकि तमाम टीवी वाले परिवार एफटीए सेवाओं में चले गए हैं। इस गिरावट का कारण काफी हद तक महामारी है, जिससे सबस्क्रिप्शन में कमी आई है।’

गौरतलब है कि डीडी फ्रीडिश पर खाली एमपीईजी-2 स्लॉट के लिए प्रसार भारती चौथी वार्षिक ई-नीलामी/58वीं ई-नीलामी आयोजित कर रहा है। इंडस्ट्री से जुड़े सूत्रों के अनुसार, Shemaroo TV, The Q, Enterr10, Dangal, और Abzy Cool ने ‘बकेट ए प्लस’ (Bucket A+) के तहत स्लॉट जीते हैं। ‘बकेट ए’ (Bucket A) के स्लॉट विजेताओं में Manoranjan TV, B4U Kadak, B4U Movies, Abzy Movie और Movie Plus शामिल हैं।

माना जाता है कि प्रसार भारती ने बकेट ए प्लस श्रेणी से 75 करोड़ रुपये से अधिक की कमाई की है, जो हिंदी जनरल एंटरटेनमेंट चैनल्स के लिए आरक्षित है। इसने बकेट ए कैटेगरी से करीब 65 करोड़ रुपये का कलेक्शन किया है, जिसमें हिंदी मूवी चैनल्स शामिल हैं। बकेट ए प्लस और बकेट ए का आरक्षित मूल्य क्रमश: 15 करोड़ रुपये और 12 करोड़ रुपये है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

WION की वाइस प्रेजिडेंट व ग्लोबल सेल्स हेड गुंजन तनेजा ने दिया इस्तीफा

‘वियॉन’ (WION) की वाइस प्रेजिडेंट व ग्लोबल सेल्स हेड गुंजन तनेजा ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है

Last Modified:
Friday, 27 January, 2023
GunjanTaneja4512

‘वियॉन’ (WION) की वाइस प्रेजिडेंट व ग्लोबल सेल्स हेड गुंजन तनेजा ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। इस खबर की पुष्टि खुद तनेजा ने हमारी सहयोगी वेबसाइट ‘एक्सचेंज4मीडिया’ से की है।

तनेजा अगस्त 2020 में WION के साथ जुड़ी थीं और दो साल से अधिक समय तक इस चैनल में अपना योगदान दिया।

WION में शामिल होने से पहले तनेजा तीन साल से अधिक तक ‘रिपब्लिक वर्ल्ड’ में सेल्स डायरेक्टर के पद पर कार्यरत थीं। उन्होंने NDTV में भी दो बार काम किया है और पूर्व में Aidem Ventures व 'जी' (Zee) मीडिया के साथ काम कर चुकी हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इन बातों को लेकर प्रसार भारती व मिस्र के बीच हुआ समझौता

भारत और मिस्र के बीच एक समझौता हुआ है। यह समझौता सामग्री विनिमय, क्षमता निर्माण और सह-उत्पादन के क्षेत्र को लेकर किया गया है।

Last Modified:
Friday, 27 January, 2023
Prasar Bharati

भारत और मिस्र के बीच एक समझौता हुआ है। यह समझौता सामग्री विनिमय, क्षमता निर्माण और सह-उत्पादन के क्षेत्र को लेकर किया गया है। केंद्रीय सूचना-प्रसारण मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर और मिस्र के विदेश मंत्री समीह हसन शौकरी ने समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर बुधवार को हस्ताक्षर किए। नई दिल्ली में हैदराबाद हाउस में दोनों पक्षों के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता के बाद भारत के प्रधानमंत्री और मिस्र के राष्ट्रपति की उपस्थिति में दोनों देशों के बीच समझौता ज्ञापनों का आदान-प्रदान किया गया।

‘डीडी इंडिया’ चैनल की पहुंच का होगा विस्तार

यह समझौता प्रसार भारती अपने ‘डीडी इंडिया’ चैनल की पहुंच का विस्तार करने के प्रयासों का हिस्सा है, ताकि अर्थव्यवस्था, प्रौद्योगिकी, सामाजिक विकास और समृद्ध सांस्कृतिक विरासत पर केंद्रित कार्यक्रमों के माध्यम से देश की प्रगति को प्रदर्शित किया जा सके।

तीन साल के लिए वैध होगा करार

इस एमओयू के दायरे में, दोनों प्रसारक द्विपक्षीय आधार पर खेल, समाचार, संस्कृति, मनोरंजन और कई अन्य क्षेत्रों जैसे विभिन्न शैलियों के अपने कार्यक्रमों का आदान-प्रदान करेंगे और इन कार्यक्रमों को उनके रेडियो और टेलीविजन प्लेटफार्मों पर प्रसारित किया जाएगा। यह करार तीन साल के लिए वैध होगा, नवीनतम तकनीकों में दोनों प्रसारकों के अधिकारियों के सह-निर्माण और प्रशिक्षण की सुविधा भी प्रदान करेगा।

39 विदेशी प्रसारकों के साथ प्रसार भारती ने किया है समझौता

प्रसार भारती वर्तमान में प्रसारण के क्षेत्र में सहयोग और सहयोग के लिए 39 विदेशी प्रसारकों के साथ समझौता किया है। ये समझौता ज्ञापन संस्कृति, शिक्षा, विज्ञान, मनोरंजन, खेल के क्षेत्र में विदेशी प्रसारकों के साथ कार्यक्रमों के आदान-प्रदान के लिए प्रदान करते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अब इस न्यूज चैनल पर नजर आएंगी पत्रकार स्वाति कुमार

इससे पहले स्वाति ‘सहारा मीडिया नेटवर्क’ के साथ जुड़ी हुई थीं। यहां वह नेशनल चैनल 'सहारा समय' पर एंकरिंग की जिम्मेदारी निभा रही थीं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 26 January, 2023
Last Modified:
Thursday, 26 January, 2023
Swati Kumar

टीवी पत्रकार स्वाति कुमार ने नए साल पर मीडिया में अपने नए सफर की शुरुआत की है। उन्होंने हिंदी न्यूज चैनल ‘जनतंत्र टीवी’ (JANTANTRA TV) में बतौर सीनियर एंकर/सीनियर प्रड्यूसर जॉइन किया है। इससे पहले स्वाति ‘सहारा मीडिया नेटवर्क’ के साथ जुड़ी हुई थीं। यहां वह नेशनल चैनल 'सहारा समय' पर एंकरिंग की जिम्मेदारी निभा रही थीं।

मूलरूप से बनारस की रहने वाली स्वाति को मीडिया जगत में काम करने का एक दशक से ज्यादा का अनुभव है। पूर्व में स्वाति ने ‘जी मीडिया’ (Zee Media) समूह के साथ काम किया है। बहुमुखी प्रतिभा की धनी स्वाति कुमार ने इस दौरान न्यूज एंकर, रिपोर्टर और न्यूज प्रड्यूसर की भूमिका निभाई।

स्पेशल शो में महारत रखने वाली स्वाति ने चुनावी कवरेज, आम बजट और रेल बजट के शो के साथ ही आम जनता से जुड़े तमाम ज्वलंत मुद्दों पर भी स्पेशल स्टोरी की हैं। वर्ष 2017 में सहारनपुर में हुए दंगों के दौरान ग्राउंड जीरो से उनकी कवरेज की काफी सराहना हुई।

वर्ष 2016 में जब देश के कई राज्य सूखे की मार झेल रहे थे, तब वह उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के सीमान्त इलाकों का दर्द सीधे दर्शकों तक पहुंचा रही थीं। ‘ZEE हिन्दुस्तान’, ‘नेटवर्क18’ और ‘सहारा समय’ में न्यूज़ एंकर की भूमिका निभा चुकीं स्वाति ने ‘दूरदर्शन’, ‘DEN नेटवर्क’ और ‘दैनिक जागरण’ से पत्रकारिता की बारीकियां सीखी हैं। 

समाचार4मीडिया की ओर से स्वाति कुमार को नए सफर के लिए ढेरों बधाई और शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

तमिलनाडु में इस नाम से अपना न्यूज चैनल लॉन्च करने की तैयारी में भाजपा

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) तमिलनाडु में जल्द ही अपना टीवी न्यूज चैनल लॉन्च करने की तैयारी कर रही है।

Last Modified:
Friday, 27 January, 2023
Channel542

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) तमिलनाडु में जल्द ही अपना टीवी न्यूज चैनल लॉन्च करने की तैयारी कर रही है। मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि इसके पीछे की वजह पार्टी द्वारा आने वाले दिनों में प्रचार को और तेज करना है।

रिपोर्ट में बताया गया है कि टीवी से जुड़ी परियोजना की देखरेख पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष के अन्नामलाई करेंगे। बताया जा रहा है कि यह चैनल केरल में चल रहे भाजपा का मुख पत्र ‘जनम टीवी’ का ही विस्तारित रूप होगा। बताया जा रहा है कि इसका नाम भी ‘जनम टीवी’ ही रखने की संभावना है। हालांकि पार्टी ने अभी तक इसकी लॉन्चिंग की तारीख घोषित नहीं की है, लेकिन माना जा रहा है कि अप्रैल तक इसके लॉन्च करने की संभावना है।

रिपोर्ट्स की मानें तो चैनल शुरू करने के लिए 15 करोड़ रुपए लागत का अनुमान है। यह खर्च पार्टी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संसाधनों का उपयोग कर उठाया जाएगा। जानकारी के मुताबिक राज्य में 14 अप्रैल से शुरू हो रही राज्यव्यापी पदयात्रा के प्रचार के लिए इसको लॉन्च किया जा रहा है।

गौरतलब है कि केरल में जन्म टीवी ने सबरीमाला मंदिर विवाद में भाजपा और RSS के प्रचार को बल दिया था।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

न्यूज चैनलों की TRP रेटिंग्स अब सिर्फ परसेप्शन है!

देश में न्यूज चैनलों की टीआरपी इसके उद्भव से लेकर आज तक कई बार कंट्रोवर्सीज में रही है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 25 January, 2023
Last Modified:
Wednesday, 25 January, 2023
News Ratings

देश में न्यूज चैनलों की टीआरपी इसके उद्भव से लेकर आज तक कई बार कंट्रोवर्सीज में रही है। पहले जहां 'टैम' (TAM) के जरिये न्यूज चैनलों की रेटिंग्स की गणना कर उनकी रैंकिंग की जाती थी, पर उसमें कई तरह की खामियां पाई गईं तो ये काम फिर एक नई संस्था बनाकार बार्क (BARC) को सौपा गया है। एक ऐसा दौर भी आया, जब बार्क के अस्तित्व पर ही सवाल उठ गए। स्टिंग ऑपरेशन के जरिये दूसरों की पोल खोलने वाला मीडिया ही एक-दूसरे चैनलों पर टीआरपी रेटिंग्स से छेड़छाड़ के आरोप लगाने लगा, बात यहीं नहीं ठहरी, मामला कोर्ट तक जा पहुंचा था।

कई तरह से व्यवधानों और प्रक्रियायों के बाद कोविड काल मे बंद रही टीआरपी पिछले साल फिर से खुली, पर इस बार जिस तरह रेटिंग्स दिखीं, उसे पूरी इंडस्ट्री मन से स्वीकार नहीं कर पा रही है। लगातार उस पर सवाल उठ रहे थे, ऐसे में बार्क को बड़ा झटका तब लगा जब देश के सबसे पुराने मीडिया हाउस ने एकाएक चौंकाने वाला निर्णय लेते हुए खुद को बार्क से अलग कर लिया। भारतीय टीवी न्यूज की दुनिया में ये किसी भी चैनल का अप्रत्याशित कदम था, इसके बाद माना जा रहा था कि कुछ और बड़े चैनल भी ऐसा कर सकते हैं, स्वाभाविक इसका दवाब भी बार्क पर आया ही होगा। जी न्यूज के बार्क से हटने के बाद आईटीवी नेटवर्क ने भी बार्क से अपनी असहमति जताते हुए इस कड़ी को आगे बढ़ाया और बार्क से 'तलाक' का ऐलान कर दिया।

रजनीश आहूजा के नेतृत्व में ‘जी न्यूज’ के लिए ऐसा निर्णय करना बहुत ही साहसी कदम माना जा रहा है, क्योंकि पानी में रहकर मगर से बैर लेना कोई आसान काम नहीं है। मार्केट प्रेशर और रेवेन्यू अर्निंग जैसे अहम विषयों पर सेल्स और मैनेजमेंट को 'कंटेंट इज किंग' की थ्योरी ही रास आती है, ऐसे में 'जी न्यूज' के टीवी कंटेंट को लेकर संपादक महोदय लगातार नए प्रयोगों पर जमे हैं। प्रतिद्वंद्वी चैनलों के कई बड़े चेहरों को यहां लाकर उन्होंने जहां इंडस्ट्री को 'जी न्यूज' के आगे बढ़ने की ललक को दर्शाया है, वहीं कई शो में डूयल एंकर शो बनाकर वे इंडस्ट्री को नई तरह की चुनौती भी दे रहे हैं। कुछ लोगों का यह भी मानना है कि ‘जी’ ने यह निर्णय इसलिए लिया कि उनकी रेटिंग नहीं आ रही थी और फ्रीडिश जाने के बाद उनकी रेटिंग और कम हो रही थी।

ऐसे में दो बड़े चैनल-'आजतक' और 'एबीपी' भी लगातार इस मंथन में जुटे हैं कि अब आखिर उनको भी क्या इस बड़े निर्णय में शामिल होना है। बताया जा रहा है कि 'आजतक' के मैनेजमेंट ने अब रेटिंग्स को एक रुटीन प्रक्रिया मानकर उसे एक परसेप्शन बेस्ड टूल मान लिया है। ऐसे में चैनल अब अपनी पुरानी धाक को पूरी तरह से कैश कर रहा है। सालों तक खुद को नंबर वन बताने वाला 'आजतक' अब खुद को सर्वश्रेष्ठ चैनल कहकर एक तरह से नंबर रैंकिंग के गेम में ज्यादा उलझ नहीं रहा है। ऐसे में चैनल का फोकस अपनी एडिटोरियल कवरेज को जबर्दस्त तरीके से कर मार्केट में अपनी पुरानी पकड़ को कायम रखना है, ताकि उसके रेवेन्यू पर रेटिंग्स का कोई खास असर न पड़ सके।

चैनल जहां टीवी न्यूज मीडिया के सबसे बड़े नामों को अपने साथ जोड़कर रखने और समय-समय पर उनकी ब्रैंडिंग को केश करने का कोई मौका नहीं छोड़ता है तो लगातार बड़े इवेंट्स और कान्क्लेव के जरिये पूरी ताकत से रेवेन्यू कलेक्शन पर भी लगा है। सुधीर चौधरी, अंजना ओम कश्यप, श्वेता सिंह, चित्रा त्रिपाठी और सईद अंसारी जैसे पांच 'पांडवों' के जरिये चैनल हर तरह की 'महाभारत' के समर में कूद विजयश्री प्राप्त करने की हरसंभव कोशिश कर रहा है तो नई पौध के तौर पर नेहा बाथम, आशुतोष चतुर्वेदी, शुभांकर मिश्रा से लेकर अर्पिता आर्या पर भी बड़ा दांव खेलने से नहीं चूकता है।

अब बात करते हैं 'एबीपी न्यूज' की। रेटिंग्स के दौर में टॉप 3 का ये चैनल कोविड काल में संक्रमण से जूझा और लगातार इससे उबरने की कोशिश में है। बड़ी बात ये है कि ऐसे में रेवेन्यू के मोर्चे पर चैनल के सीईओ के मेहनत के चलते कई तरह की युक्तियां अपनाई जा रही हैं। माना जा रहा है कि चैनल जल्द ही अपने पारंपरिक दर्शकों को एक बार फिर अपने से जोड़कर अपनी धाक और पुरानी चाल पर नजर आएगा। हालांकि, माना यह भी जा रहा है कि लगातार चैनल प्रबंधन और संपादक कई छोटी-बड़ी 'सर्जरी' के जरिये अब चैनल की दशा और दिशा को सही ओर ले आए हैं और जल्दी ही इसके सकारात्मक परिणाम देखने को मिलेंगे।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

क्या नई राह तलाश रही हैं शोभना यादव, छोड़ा एबीपी न्यूज

‘आपको रखे आगे’ की टैगलाइन वाला न्यूज चैनल 'एबीपी न्यूज' आजकल एक ऐसे दौर से गुजर रहा है, जहां सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 25 January, 2023
Last Modified:
Wednesday, 25 January, 2023
ShobhnaYadav4512

‘आपको रखे आगे’ की टैगलाइन वाला न्यूज चैनल 'एबीपी न्यूज' आजकल एक ऐसे दौर से गुजर रहा है, जहां सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। नए संपादक की अगुवाई में जहां चैनल एक ओर कुछ नवीन प्रयोग तो कर ही रहा है, पर इन प्रयोगों के जरिये उसे वह गति नहीं मिल रही है, जिसके लिए एक जमाने में यह चैनल मशहूर था। 'एबीपी न्यूज' का मतलब होता था कि सबसे तेज खबर सबसे जुदा अंदाज में। टीवी न्यूज दुनिया के प्रतिष्ठित नामों- शाजी जमा से लेकर मिलिंद खांडेकर और फिर रजनीश आहूजा से लेकर सुमित अवस्थी और अब संत कुमार राय के दिशानिर्देशों पर चलने वाला यह चैनल अपनी पारंपरिक एडिटोरियल लाइन से कुछ अलग हटा तो जरूर पर शायद वो बदलाव चैनल को वह मुकाम नहीं दे पाया, जिसका वह असली हकदार था। 

आज ये बात लिखने का अभिप्राय ये है कि सूत्रों से मिली विश्वस्त जानकारी के मुताबिक अब चैनल के शाम के स्लॉट की शोभा बढ़ाने वाली न्यूज एंकर शोभना यादव ने भी एबीपी को बाय-बाय बोल दिया है।

उल्लेखनीय है कि पिछले 40 दिन में चैनल के एडिटोरियल और मैनेजेरियल स्टाफ को दोबारा से मजबूत करने की दृष्टि से कई बड़े कदम उठाए गए हैं, ऐसे में कॉस्ट एफिशिएंशी और संस्थान में कार्यरत लोगों के KRA का भी आंकलन किया जा रहा है और उसी के मुताबिक निर्णय लिए जा रहे हैं। 

बताया जा रहा है कि चैनल का पूरा दारोमदार अब सीईओ एपी के मजबूत कंधों पर है और वह इस चैनल को तात्कालीन परिस्थितियों से पूरी तरह से उबारने के लिए हर भरसक प्रयास कर रहे हैं। ऐसे में उम्मीद की किरण चैनल के नए संपादक के कुछ अलग हटकर करने वाले प्रयोगों से जरूर है क्योंकि टीवी मीडिया की सफलता उसकी टीआरपी रेटिंग्स और रेवेन्यू पर निर्भर करती है और एबीपी न्यूज सदा से ही देश के एक बड़े वर्ग का मनपसंद चैनल रहा है, पर उसे अपनी चिर परिचित धारदार रिपोर्टिंग और प्रोग्राम पैकेजिंग पर लगातार काम करना होगा।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Zee News: क्या इस समुद्र मंथन से अब निकलेगा ‘अमृत’

देश का सबसे पुराना न्यूज चैनल 'जी न्यूज' आजकल बड़े बदलाव के दौर में है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 25 January, 2023
Last Modified:
Wednesday, 25 January, 2023
ZeeNews5874

देश का सबसे पुराना न्यूज चैनल 'जी न्यूज' आजकल बड़े बदलाव के दौर में है। लगातार जिस तरह निगेटिव खबरों के बीच 'जी न्यूज' कुछ बड़े चैनलों के चेहरे और कुछ बड़े चेहरों पर दांव खेलकर प्रतिद्वंद्वियों को करारा जवाब देने की स्ट्रैटेजी पर खेल रहा है, उससे ये कयास लग रहे हैं कि 'जी न्यूज' एक बार फिर चर्चाओं का हिस्सा बना रहेगा।

अगर पिछले 8 महीने की बात करें तो लगातार चैनल में परिवर्तन देखने को मिल रहे थे, जिसके चलते कई तरह की अफवाहों का बाजार भी गर्म रहा पर अब 'जी न्यूज' ने जिस तरह एक हफ्ते में दो बड़े 'सिक्सर' जमाए हैं, उससे 'गेम' में उसकी वापसी के पूरे चांस दिख रहे हैं। जहां एक ओर 'आजतक' चैनल की मलिका मल्होत्रा की चैनल में एंट्री चैनल के शाम के टाइम स्लॉट को फ्रेश लुक दे रही है। वहीं दूसरी ओर हिंदुस्तान के घर-घर में जाने वाले वरिष्ठ टीवी पत्रकार दीपक चौरसिया की ग्रैंड एंट्री से चैनल को पब्लिक के बीच बूस्ट मिलने की पूरी संभावना है। 

ऐसे में माना जा रहा है कि रजनीश आहूजा और अभय ओझा की जोड़ी अब बड़ी पारी खेल सकेगी, पर अभी बड़ा सवाल चैनल के रेवेन्यू को लेकर मैनेजमेंट को परेशान कर रहा है। साथ ही डिजिटल डोमेन का आर्थिक तौर पर पिछड़ना भी माथे पर शिकन का एक कारण है। 

वैसे सूत्रों द्वारा बताया जा रहा है कि चैनल अब एक नए तरह के एक्पेंशन मोड में है। अधिकांश पुराने लोगों की विदाई के बाद अब चैनल सिंगल ओरियंटेड तरीके से चलने की प्रक्रिया में है, जिसे खुद चेयरमैन डॉ. सुभाष चंद्रा बेहद सक्रियता के साथ आगे ले जाने की स्ट्रैटेजी पर लगातार काम कर रहे हैं। 

डॉ. चंद्रा ने एक समय जब 'जी' समूह की स्थापना की थी, तो उस वक्त वो एक अलग ही तरह का कमाल था, पर अब आज के दौर में बढ़ती उम्र में क्या वो कमाल फिर से दिख पाएगा, इस प्रश्न का उत्तर नियति के गर्भ में है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इस बड़े पद पर ‘भारत एक्सप्रेस’ से जुड़े निशांत मिश्रा

इससे पहले निशांत मिश्रा हिंदी न्यूज चैनल ‘भारत24’ से जुड़े हुए थे, जहां उन्होंने चैनल की लॉन्चिंग में अपनी अहम भूमिका निभाई और मार्केटिंग से जुड़ी इसकी पहलों का नेतृत्व किया।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 25 January, 2023
Last Modified:
Wednesday, 25 January, 2023
Nishant Mishra

जाने-माने पत्रकार उपेंद्र राय के नेतृत्व में जल्द लॉन्च होने वाले न्यूज चैनल ‘भारत एक्सप्रेस’ (Bharat Express) ने निशांत मिश्रा को मार्केटिंग हेड के पद पर नियुक्त किया है। अपनी इस भूमिका में वह चैनल की लॉन्चिंग के लिए प्रबंधन के साथ मिलकर काम करेंगे और चैनल के लिए ब्रैंड स्ट्रैटेजी, गठजोड़ व कस्टमाइज्ड ब्रैंड सॉल्यूशंस तैयार करेंगे।

‘भारत एक्सप्रेस’ में शामिल होने से पहले निशांत मिश्रा हिंदी न्यूज चैनल ‘भारत24’ (Bharat24) से जुड़े हुए थे, जहां उन्होंने इस चैनल की लॉन्चिंग में अपनी अहम भूमिका निभाई और मार्केटिंग से जुड़ी इसकी पहलों का नेतृत्व किया।

अपने डेढ़ दशक से ज्यादा के करियर में निशांत मिश्रा ‘टीवी टुडे’ (TV Today), ‘टीवी18’ (TV18), ‘जी’ (Zee) और ‘आईटीवी नेटवर्क’ (iTV Network) जैसे प्रतिष्ठित मीडिया संस्थानों में अपनी जिम्मेदारी निभा चुके हैं।  

इस बार में निशांत मिश्रा का कहना है, ‘लॉन्चिंग किसी भी मीडिया ब्रैंड का सबसे रोमांचकारी चरण होता है। मुझे यह अवसर मिला है और मैं भारत एक्सप्रेस की प्रोफेशनल और अनुभवी टीम के साथ काम करने के लिए तत्पर हूं।’

वहीं, ‘भारत एक्सप्रेस’ के चीफ मैनेजिंग डायरेक्टर और एडिटर-इन-चीफ उपेंद्र राय का कहना है,‘ चैनल एक फरवरी 2023 को आधिकारिक रूप से लॉन्चिंग के लिए तैयार है। हमने महत्वपूर्ण भूमिकाओं में वरिष्ठ स्तर पर कई नियुक्तियां की हैं। निशांत की नियुक्ति चैनल में हमारी टीम को और अधिक मजबूती देगी और मुझे विश्वास है कि भारत एक्सप्रेस को निशांत के विशाल अनुभव का लाभ मिलेगा।’

निशांत मिश्रा की नियुक्ति के बारे में ‘भारत एक्सप्रेस’ के सीईओ वरुण कोहली का कहना है, ‘मैंने मार्केटिंग प्रोफेशनल के रूप में निशांत के काम को देखा है। मुझे पूरा विश्वास है कि उनका अनुभव भारत एक्सप्रेस के लिए हमारी विकास योजनाओं को और मजबूती प्रदान करेगा।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इस बड़े पद पर अब 'जी न्यूज' से जुड़ेंगी मोना जैन

'एबीपी न्यूज नेटवर्क' में चीफ रेवेन्यू ऑफिसर के पद से इस्तीफा देकर मोना जैन ने अब 'जी न्यूज' से जुड़ने का फैसला किया है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 24 January, 2023
Last Modified:
Tuesday, 24 January, 2023
Mona Jain

'एबीपी न्यूज नेटवर्क' में चीफ रेवेन्यू ऑफिसर के पद से इस्तीफा देकर मोना जैन ने अब 'जी न्यूज' से जुड़ने का फैसला किया है। वह यहां चीफ रेवेन्यू ऑफिसर के पद पर शामिल होंगी। जैन ने हमारी सहयोगी वेबसाइट एक्सचेंज4मीडिया से इस खबर की पुष्टि की है। वह जॉय चक्रवर्ती की जगह लेंगी, जिन्होंने जी मीडिया से बाहर निकलने का फैसला लिया है।

जी ग्रुप के साथ जैन का यह दूसरा कार्यकाल होगा। नवंबर 2019 में ABP नेटवर्क में शामिल होने से पहले, जैन ‘जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड’ (ZEEL) में एग्जिक्यूटिव वाइस प्रेजिडेंट (ऐड सेल्स) के पद पर साल 2014 से कार्यरत थीं। यहां अपने करीब पांच साल नौ महीने के कार्यकाल में नेटवर्क की दिल्ली ब्रांच की कमान उन्हीं के हाथों में थी। इसके अलावा वह ‘Zee Café’, ‘Zee Studio’, ‘Anmol, Zindagi’, ‘Salaam’ और ‘Jagran’ की नेशनल क्लस्टर हेड भी थीं। 

मोना जैन को मीडिया इंडस्ट्री में तीन दशक से ज्यादा का अनुभव है। ‘ZEEL’ में अपनी जिम्मेदारी निभाने से पहले वह ‘Vivaki Exchange’ की सीईओ और ‘Cheil Communications’ में एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर भी रह चुकी हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

पलकी शर्मा नए शो Vantage को करेंगी होस्ट, जानें कहां और कब होगा टेलिकास्ट

'नेटवर्क18' (Network18) से जुड़ी वरिष्ठ पत्रकार पलकी शर्मा उपाध्याय ने अपने नए शो के लॉन्च की घोषणा कर दी है।

Last Modified:
Monday, 23 January, 2023
Vantage452120

'नेटवर्क18' (Network18) से जुड़ी वरिष्ठ पत्रकार पलकी शर्मा उपाध्याय ने अपने नए शो के लॉन्च की घोषणा कर दी है। उनके नए शो का नाम Vantage होगा। इस गणतंत्र दिवस पर वह अपने नए शो की मेजबानी वेबसाइट ‘Firstpost.com’ व इसके यू-ट्यूब चैनल (YouTube Channel) पर करेंगी।

Vantage नाम के इस शो में कई चीजें पहली बार होंगी। दरअसल, ऐसा पहली बार होगा, जब दर्शकों को भारतीय परिप्रेक्ष्य वाली ग्लोबल स्टोरीज और जियो-पॉलिटिकल घटनाक्रमों से रूबरू कराया जाएगा।

Vantage पहली बार एक शीर्ष टीवी न्यूज पर्सनालिटी को भी चिह्नित करेगा, जो डिजिटल-फर्स्ट शो की मेजबानी करेगा। यह शो दुनिया में ग्लोबल ऑडियंस के लिए भी भारत के रुख को सामने रखेगा।

पलकी शर्मा ही इस शो की अगुआई करेंगी, इसे क्यूरेट करेंगी और होस्ट भी खुद ही करेंगी। बता दें कि Vantage ग्लोबल स्तर के लिए रिसर्च और निष्पक्ष अंतर्दृष्टि (unbiased insights) का वादा करता है।

‘फर्स्ट पोस्ट’ की मैनेजिंग एडिटर पलकी शर्मा ने कहा कि भारत को लेकर बहुत सारे इंटरनेशनल न्यूज चैनल रिपोर्ट करते हैं, लेकिन वे अपने खुद के एडिटोरियल चश्मे से ही ग्रोथ को देखते हैं। भारत के नजरिए से स्टोरी दिखाना तो दूर की बात है, शायद ही वे कभी पूरी स्टोरी भी दिखाते हैं। उन्होंने आगे कहा कि एक राष्ट्र के रूप में हमारे लिए यह महत्वपूर्ण है कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उन विषयों पर विस्तृत रिपोर्ट दी जाए, जो हमारे लिए मायने रखती है। मैं इसे पूरा करने की पूरी कोशिश करूंगी।

Vantage का प्रसारण सोमवार से शुक्रवार (weekdays) रात 9 बजे ‘फर्स्टपोस्ट.कॉम’ और यू-ट्यूब चैनल पर प्रसारित होगा। यह शो ‘सीएनएन-न्यूज18’ (CNN-News18) पर भी सोमवार से शुक्रवार (weekdays) रात 10 बजे प्रसारित किया जाएगा।

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए