नए चैनल के साथ इस मीडिया कंपनी ने टीवी बिजनेस की दुनिया में रखा कदम

यह कंपनी का पहला टीवी चैनल है। यह ‘फ्री टू एयर’ (FTA) मूवी चैनल है, जो डीटीएच और केबल प्लेटफॉर्म्स पर उपलब्ध रहेगा

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 15 January, 2020
Last Modified:
Wednesday, 15 January, 2020
channel

‘शेमारू एंटरटेनमेंट लिमिटेड’ (Shemaroo Entertainment Limited ) ने ‘ShemarooMe’ के साथ डिजिटल प्लेटफॉर्म पर अपनी मौजूदगी दर्ज कराने के बाद अब अपने विस्तार की दिशा में कदम बढ़ाए हैं।

दरअसल, कंपनी ने अब टीवी बिजनेस का रुख करते हुए मराठी मूवी चैनल ‘मराठीबाना’ (MarathiBana) लॉन्च किया है। यह कंपनी का पहला टीवी चैनल है। यह ‘फ्री टू एयर’ (FTA) मूवी चैनल है, जो डीटीएच और केबल प्लेटफॉर्म्स पर उपलब्ध रहेगा।

चैनल का फोकस महाराष्ट्र और गोवा के मराठी दर्शकों पर रहेगा, जिन्हें हाई क्वालिटी का कंटेंट उपलब्ध कराया जाएगा। इस चैनल पर दर्शकों को थियेटर प्ले और चुनिंदा मराठी फिल्में देखने को मिलेंगी।

इस बारे में शेमारू एंटरटेनमेंट लिमिटेड के सीईओ हिरेन गडा (Hiren Gada) का कहना है, ‘नए चैनल की लॉन्चिंग से कंपनी को मराठी भाषी मार्केट में अपना विस्तार करने में मदद मिलेगी। इस मूवी चैनल के द्वारा दर्शकों को बेहतर कंटेंट उपलब्ध कराया जाएगा।’

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक,ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अब इस चैनल पर नजर आएंगी न्यूज एंकर ज्योति मिश्रा

हिंदी न्यूज चैनल ‘इंडिया टीवी’ (India TV) की एंकर ज्योति मिश्रा ने यहां अपनी पारी को विराम दे दिया है।

Last Modified:
Sunday, 15 May, 2022
Jyoti

हिंदी न्यूज चैनल ‘इंडिया टीवी’ (India TV) की एंकर ज्योति मिश्रा ने यहां अपनी पारी को विराम दे दिया है। ‘रिपोर्टर बाइक वाली’ के नाम से मशहूर ज्योति मिश्रा इस चैनल के साथ बतौर एंकर/करेसपॉन्डेंट वर्ष 2017 से जुड़ी हुई थीं। फिलहाल वे चैनल में नोटिस पीरियड पर चल रही थीं और 15 मई इस चैनल में उनका आखिरी दिन था।

बता दें कि चैनल के इलेक्शन स्पेशल शो ‘रिपोर्टर बाइक वाली’ से ज्योति को अलग पहचान मिली थी। लोकसभा चुनाव, यूपी विधानसभा चुनाव, बिहार विधानसभा चुनाव कवरेज के दौरान ज्योति मिश्रा का ये शो काफी हिट रहा।

‘इंडिया टीवी’ से अलग होने के बाद ज्योति मिश्रा अब ‘टाइम्स नेटवर्क’ के हिंदी न्यूज चैनल ‘टाइम्स नाउ नवभारत’ पर नजर आएंगी। यहां पर वह बतौर स्पेशल एंकर/स्पेशल करेसपॉन्डेंट नई पारी शुरू करने जा रही हैं।  

मूल रूप से हैदराबाद की रहने वाली ज्योति मिश्रा को पत्रकारिता के क्षेत्र में काम करने का करीब 14 साल का अनुभव है। पत्रकारिता के क्षेत्र में अपने करियर की शुरुआत उन्होंने ‘ईटीवी’, हैदराबाद से की थी। ज्योति करीब नौ साल तक ईटीवी, हैदराबाद (जिसमें करीब पांच साल न्यूज18 इंडिया) का हिस्सा रहीं।

पढ़ाई-लिखाई की बात करें तो ज्योति मिश्रा ने हैदराबाद की Loyola academy से ग्रेजुएशन किया है। इसके अलावा उन्होंने चेन्नई की मदुरै कामराज यूनिवर्सिटी से मास्टर्स की पढ़ाई की है। समाचार4मीडिया की ओर से ज्योति मिश्रा को उनके नए सफर के लिए ढेरों बधाई और शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

News India को अलविदा कह युवा पत्रकार लखवीर सिंह शेखावत ने पकड़ी नई राह

मूल रूप से जयपुर (राजस्थान) के रहने वाले लखवीर सिंह को पत्रकारिता में काम करने का करीब तीन साल का अनुभव है।

Last Modified:
Saturday, 14 May, 2022
Lakhveer Singh Shekhawat.

युवा पत्रकार लखवीर सिंह शेखावत ने ‘नेटवर्क18’ (Network18) के साथ पत्रकारिता में अपने नए सफर की शुरुआत की है। उन्होंने ‘न्यूज18’ (News18) में बतौर सीनियर करेसपॉन्डेंट जॉइन किया है।

मूल रूप से जयपुर (राजस्थान) के रहने वाले लखवीर सिंह को पत्रकारिता में काम करने का करीब तीन साल का अनुभव है। उन्होंने पत्रकारिता में अपने करियर की शुरुआत हरियाणा के न्यूज चैनल ‘सिटीजंस वॉइस’ (Citizen’s Voice) से की थी।

वह इस चैनल के जयपुर ब्यूरो में अपनी जिम्मेदारी संभालते थे। यहां करीब एक साल काम करने के बाद उन्होंने यहां से बाय बोल दिया था और करीब दो साल से ‘न्यूज इंडिया’ (News India) में अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे। इसके बाद अब वह ‘न्यूज18’ पहुंचे हैं।

पढ़ाई-लिखाई की बात करें तो लखवीर सिंह ने ‘जयपुर नेशनल यूनिवर्सिटी’ से पत्रकारिता में ग्रेजुएशन (BJMC) किया है। इसके अलावा उन्होंने ‘राजस्थान यूनिवर्सिटी’ से मास्टर्स (MJMC) की डिग्री ली है।समाचार4मीडिया की ओर से लखवीर सिंह शेखावत को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

'टाइम्स नाउ नवभारत' ने अपनी रेटिंग के पहले सप्ताह में की आशाजनक शुरुआत

बार्क के हिंदी न्यूज चैनल्स  की रैंकिंग में ‘टाइम्स नाउ नवभारत’ (Times Now Navbharat) ने अपनी रेटिंग जारी होने के पहले सप्ताह में एक आशाजनक शुरुआत की है

Last Modified:
Thursday, 12 May, 2022
TimesNowNavbharat452548

बार्क (BARC) के हिंदी न्यूज चैनल्स  की रैंकिंग (Hindi News Channels rankings) में ‘टाइम्स नाउ नवभारत’ (Times Now Navbharat) ने अपनी रेटिंग जारी होने के पहले सप्ताह में एक आशाजनक शुरुआत की है। 22 मिनट के वीकली टीएसवी (TSV) और 49 मिलियन रीच (पहुंच) के साथ, चैनल पहले से ही शीर्ष चैनल में शामिल हो गया।

2022 के 18वें सप्ताह की जारी बार्क हिंदी न्यूज चैनल्स की रैंकिंग रिपोर्ट के मुताबिक, नेटवर्क का दैनिक टीएसवी (TSV) 13.4 मिनट है। नेटवर्क ने 15+ हिंदी स्पीकिंग मार्केट में दर्शकों की संख्या में 5.9% हिस्सेदारी हासिल की है।

टाइम्स नाउ नवभारत का यह पहला रेटिंग वीक है।

मार्च में रेटिंग फिर से शुरू होने के बाद से, शीर्ष 3 चैनलों के बीच हुई उथल-पुथल से शीर्ष पायदान को लेकर हलचल मच गई। ऐसे मौके पर ‘टाइम्स नाउ नवभारत’ की डेब्यू एंट्री इतने शानदार तरीके से हुई कि सभी खिलाड़ियों के बीच गर्मी और बढ़नी स्वाभिक है, लिहाजा अगले कुछ महीनें में एक और रोमांच देखने को मिलेगा।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

यूजर्स तक न्यूज को अब कुछ इस तरह भी पहुंचाएगा ‘आजतक’

नेटवर्क के अनुसार, ऑडियंस तक पहुंच बनाने के लिए यह सर्विस एडवर्टाइजर्स को एक खास प्लेटफॉर्म भी उपलबध कराएगी।

Last Modified:
Thursday, 12 May, 2022
AajTak

‘माय टाइम प्राइम टाइम’ (My Time Prime Time) के कॉन्सेप्ट को ध्यान में रखते हुए हिंदी न्यूज चैनल ‘आजतक‘ (AajTak) ने कनेक्टेड डिवाइसेज स्ट्रीम ‘आजतक लाइव न्यूज स्ट्रीम’ (AajTak Live News Stream) लॉन्च की है।

प्रमुख इंडिपेंडेंट एडवाइजरी फर्म ’आरबीएसए’ (RBSA Advisors) की एक रिपोर्ट के अनुसार, बेहतर नेटवर्क, डिजिटल कनेक्टिविटी और स्मार्टफोन्स की बढ़ती संख्या की बदौलत देश का वीडियो ओटीटी मार्केट वर्ष 2021 में 1.5 बिलियन अमेरिकी डॉलर से बढ़कर वर्ष 2025 में चार बिलियन अमेरिकी डॉलर और वर्ष 2030 तक 12.5 बिलियन डॉलर  पहुंचने की उम्मीद है। इन प्लेटफॉर्म्स पर खबरों की कमी को इस नए क्यूरेटेड लाइव स्ट्रीम से पूरा किया जाएगा।

इसके साथ ही ‘EY’ (Ernst & Young) का अनुमान है कि वर्ष 2023 तक देश में कनेक्टेड टेलिविजन सेट की संख्या बढ़कर 14 मिलियन और 2025 तक 40 मिलियन हो जाएगी। यह सब कम लागत वाले स्मार्ट टेलिविजन सेटों के प्रसार के साथ-साथ वायरलेस और वायर्ड ब्रॉडबैंड कनेक्शन में वृद्धि के कारण होगा। इन आंकड़ों के आधार पर ‘आजतक’ का कहना है कि वह इस नए क्यूरेटेड स्ट्रीम के साथ कनेक्टेड टीवी पर कंटेंट उपभोग (consumption) का नेतृत्व करेगा।

‘आजतक’ के अनुसार, ‘चाहे एलेक्सा हो, फायरस्टिक हो या आपका स्मार्ट टीवी, अब आप आजतक को स्ट्रीम कर सकते हैं और ‘सबसे तेज न्यूज’ से खुद को अपडेट रखने के लिए सभी कनेक्टेड डिवाइस पर न्यूज हासिल कर सकते हैं। इसके साथ ही ऑडियंस तक पहुंच बनाने के लिए यह सर्विस एडवर्टाइजर्स को एक खास प्लेटफॉर्म भी उपलब्ध कराएगी।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Republic TV को अलविदा कह नए सफर पर निकलीं टीवी पत्रकार शिवानी शर्मा

पत्रकार शिवानी शर्मा ने ‘रिपब्लिक टीवी’ (Republic TV) में अपनी पारी को विराम दे दिया है। यहां वह करीब पौने दो साल से जुड़ी हुई थीं और बतौर स्पेशल करेसपॉन्डेंट डिफेंस बीट कवर कर रही थीं।

Last Modified:
Thursday, 12 May, 2022
Shivani Sharma

पत्रकार शिवानी शर्मा ने ‘रिपब्लिक टीवी’ (Republic TV) में अपनी पारी को विराम दे दिया है। यहां वह करीब पौने दो साल से जुड़ी हुई थीं और बतौर स्पेशल करेसपॉन्डेंट डिफेंस बीट कवर कर रही थीं।शिवानी शर्मा ने अपनी नई पारी अब ‘टाइम्स नाउ’ (Times Now) के साथ शुरू की है। यहां पर उन्होंने बतौर डिप्टी न्यूज एडिटर जॉइन किया है और यहां भी वह डिफेंस को कवर करेंगी।

मूल रूप से लखनऊ (उत्तर प्रदेश) की रहने वाली शिवानी शर्मा को पत्रकारिता के क्षेत्र में काम करने का करीब 19 साल का अनुभव है। पत्रकारिता के क्षेत्र में उन्होंने अपना करियर वर्ष 2003 में ‘ईटीवी’ उत्तर प्रदेश (अब न्यूज18) के साथ शुरू किया था। यहां पर उन्होंने तमाम प्रमुख बीट पर काम करने के साथ ‘कुछ तो है’ शो की एंकरिंग भी की। इसके बाद वर्ष 2020 में वह दिल्ली आ गईं और ‘रिपब्लिक’ जॉइन कर लिया। इसके बाद अब वह ‘टाइम्स नाउ’ पहुंची हैं।

पढ़ाई-लिखाई की बात करें तो शिवानी ने लखनऊ यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन किया है। इसके अलावा उन्होंने लखनऊ में ही ‘जयपुरिया इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट’ से मास कम्युनिकेशन की पढ़ाई की है। समाचार4मीडिया की ओर से शिवानी शर्मा को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अब स्थानीय मुद्दों को नए नजरिये के साथ पेश करेगा Mirror Now: निकुंज गर्ग

गोवाफेस्ट’ 2022 के मौके पर आयोजित एक मीडिया सम्मेलन में ‘मिरर नाउ’ के एडिटर ने चैनल की बदली हुई विजुअल आइडेंटिटी और नए कंटेंट लाइन-अप को लेकर रखे अपने विचार

Last Modified:
Tuesday, 10 May, 2022
Nikunj Garg

‘टाइम्स नेटवर्क’ (Times Network) के अंग्रेजी न्यूज चैनल ‘मिरर नाउ’ (Mirror Now) के एडिटर निकुंज गर्ग का कहना है कि चैनल की पहचान हाइपरलोकल के साथ-साथ अब विशुद्ध रूप से लोकल नहीं रहेगी। ‘गोवाफेस्ट’ (Goafest) 2022 के मौके पर आयोजित एक मीडिया गोलमेज सम्मेलन में निकुंज गर्ग का कहना था, ‘हालांकि चैनल स्थानीय मुद्दों (local issues) को उठाएगा, लेकिन उन्हें अब राष्ट्रीय परिप्रेक्ष्य में उठाया जाएगा। यानी अब उन्हें देखने का नजरिया लोकल नहीं बल्कि राष्ट्रीय होगा।’ इसके साथ ही उन्होंने चैनल के नई लुक और कंटेंट फॉर्मेट को लेकर भी बताया।

निकुंज गर्ग के अनुसार, ‘कोई भी समस्या लोकल नहीं होती। हालांकि कुछ समय के लिए कोई समस्या लोकल हो सकती है लेकिन यह किसी राज्य अथवा शहर तक सीमित नहीं होनी चाहिए। हम ऐसे मुद्दों को उठाएंगे और उन्हें राष्ट्रीय दृष्टिकोण से देखेंगे।’

बता दें कि चैनल ने हाल ही में अपनी विजुअल आइडेंटिटी को बदला है और नया कंटेंट लाइन-अप भी लॉन्च किया है। अपने नए अवतार में मिरर नाउ व्युअर्स को न्यूज देखने का नया अनुभव प्रदान करता है। चैनल ने अपने ऑन एयर लुक को बदलने के साथ ही कलर पैलेट को भी अपग्रेड किया है।

इसने अपने युवा और समकालीन दृष्टिकोण को प्रतिबिंबित करने के लिए अपने विजुअल डिजाइन में एक नया रंग ‘टील’ (teal) शामिल किया है। इसके अलावा काले, सफेद और लाल रंगों को बनाए रखा है जो महत्व (importance), तात्कालिकता (urgency) और वर्तमान न्यूज (current news) को दर्शाते हैं।  

‘टाइम्स नेटवर्क’ में हेड (Input and News Gathering) की कमान भी संभाल रहे गर्ग का कहना था, ‘चैनल अब राष्ट्रीय स्पेक्ट्रम को कवर करेगा। इससे पहले हम खुद को सीमित कर रहे थे। अब ये बैरियर टूट जाएंगे।’ इस दौरान यह पूछे जाने पर कि यह चैनल ‘टाइम्स नाउ’ (Times Now) से किस प्रकार अलग होगा? निकुंज गर्ग ने कहा, ‘टाइम्स नाउ राष्ट्रवादी है और राष्ट्रवादी नजरिये से बात करता है। मैं राष्ट्रीय मुद्दों पर लोगों के नजरिये से बात करूंगा।’

मिरर नाउ ने पांच नए प्राइमटाइम शो की लाइन-अप के साथ अपनी कंटेंट की पेशकश को रिफ्रेश किया है। इनमें Mirror Metro, The Big Focus, The Urban Debate, The Nation Tonight और Beyond The Headline शामिल हैं। नए कंटेंट लाइन-अप के बारे में गर्ग ने कहा, ‘मेरा मानना है कि डिबेट और चर्चा सीमित कंटेंट में होनी चाहिए। न्यूज और इंफॉर्मेशन को व्यूज के स्थान पर प्रमुख स्थान लेना चाहिए। मैं लोगों को और अधिक सूचित करना चाहता हूं, और केवल प्रासंगिक मुद्दों पर चर्चा करना चाहता हूं। मिरर नाउ टेलीविजन पर  विचारशील भारतीयों का पसंदीदा स्थान बनने जा रहा है। अगर लोग टेलिविजन न्यूज देखना चाहते हैं तो वे मिरर नाउ पर आएंगे।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

जानें, समय के साथ कैसे नंबर-1 न्यूज चैनल बना ‘डीडी इंडिया’

प्रसार भारती के अंग्रेजी न्यूज चैनल ‘डीडी इंडिया’ (DD India) ने हाल ही में टीवी और डिजिटल दोनों पर अभूतपूर्व वृद्धि दर्ज की है

Last Modified:
Tuesday, 10 May, 2022
DDIndia45589

प्रसार भारती के अंग्रेजी न्यूज चैनल ‘डीडी इंडिया’ (DD India) ने हाल ही में टीवी और डिजिटल दोनों पर अभूतपूर्व वृद्धि दर्ज की है। हाल ही में यू-ट्यूब पर चैनल के सब्सक्राइबर्स की संख्या 2 लाख के पार हो गई है। वहीं, टीवी पहुंच के मामले में ‘डीडी इंडिया’ देश का नंबर अंग्रेजी न्यूज चैनल बन गया है।

बार्क इंडिया के आंकड़ों के मुताबिक, डीडी इंडिया ने 8 मिलियन से अधिक दर्शकों तक पहुंच बना ली है, जो अंग्रेजी न्यूज जॉनर में सबसे अधिक हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इसका निकटतम प्रतिद्वंदी डीडी इंडिया की आधी दूरी तक ही पहुंच सका है।

डीडी इंडिया के दर्शकों की संख्या में भी लगातार साप्ताहिक वृद्धि दर्ज की गई है, जिसके चलते चैनल के दर्शकों की संख्या पिछले आठ हफ्तों में लगभग 150 फीसदी बढ़ी है।

जानें, समय के साथ कैसे नंबर-1 अंग्रेजी न्यूज चैनल बना ‘डीडी इंडिया’:

प्रसार भारती बोर्ड से मंजूरी के बाद जनवरी, 2019 में ‘डीडी इंडिया’ को अंग्रेजी न्यूज चैनल के रूप में लॉन्च करने की प्रक्रिया शुरू हुई। फरवरी, 2019 में डीडी न्यूज को हिंदी न्यूज चैनल और डीडी इंडिया को इंग्लिश न्यूज चैनल के रूप में अलग-अलग करने की प्रक्रिया शुरू हुई। इसके बाद सितंबर, 2019 में ‘डीडी इंडिया’ को दक्षिण कोरियाई सार्वजनिक प्रसारक के ओटीटी प्लेटफॉर्म पर पेश किया गया। इसी माह बांग्लादेश में निजी केबल ऑपरेटरों ने अपने प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘डीडी इंडिया’ का प्रसारण शुरू किया। फरवरी, 2020 में ‘डीडी इंडिया’ ने तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे की कवरेज की, जिसका प्रसारण कई विदेशी टीवी चैनलों ने भी किया।

‘डीडी इंडिया’ को पूर्ण अंग्रेजी न्यूज चैनल के रूप में मार्च, 2020 को लॉन्च किया गया। इस तरह ‘डीडी न्यूज’ ने हिंदी के रूप में और ‘डीडी इंडिया’ ने अंग्रेजी न्यूज चैनल के रूप में कार्य करना शुरू किया। ‘डीडी इंडिया’ का प्रॉडक्शन और शो ‘डीडी न्यूज’ पर उससे पूरी तरह अलग है।

जनवरी, 2021 में ‘डीडी इंडिया’ को यूएस, यूके और कनाडा में हॉटस्टार पर लॉन्च किया गया। इसी माह ‘डीडी इंडिया’ को अमेरिका के 23 राज्यों में प्रसारण के लिए आईटीवी पर लॉन्च किया गया। जनवरी, 2022 में स्लोवेनिया के तत्कालीन प्रधानमंत्री के ‘डीडी इंडिया’ साक्षात्कार को अंतरराष्ट्रीय मीडिया (Media) ने व्यापक रूप से उद्धृत किया। रूस-यूक्रेन के बीच संघर्ष के दौरान इसी साल फरवरी से मार्च में वहां फंसे भारतीयों को निकालने के लिए भारत के ‘ऑपरेशन गंगा’ की कवरेज के लिए डीडी इंडिया के संवाददाता यूक्रेन में तैनात थे। मार्च, 2022 में 130 से अधिक देशों में वितरण के लिए ‘डीडी इंडिया’ को ‘युप्प टीवी’ पर लॉन्च किया गया। इसी का नतीजा रहा कि अप्रैल, 2022 में ‘डीडी इंडिया’ रीच के मामले में देश का नंबर-1 अंग्रेजी न्यूज चैनल बन गया।

अपने कार्यादेश पर खरा उतरते हुए, ‘डीडी इंडिया’ अब सैटेलाइट, ओटीटी प्लेटफॉर्म और न्यूज ऑनएयर ऐप के माध्यम से 190 से अधिक देशों तक पहुंच गया है और इसके साथ ही यह दुनिया के लिए भारत के बारे में जानकारी प्राप्त करने का एक आसान व सुलभ माध्यम बन गया है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

ट्राई ने प्रसारण-केबल सेवाओं में इस तरह के मुद्दों को लेकर जारी किया परामर्श पत्र

ट्राई ने प्रसारण व केबल सेवाओं के लिए नए विनियामक ढांचे से संबंधित मुद्दों पर परामर्श पत्र जारी किया है।

Last Modified:
Monday, 09 May, 2022
TRAI

ट्राई ने प्रसारण व केबल सेवाओं के लिए नए विनियामक ढांचे से संबंधित मुद्दों पर परामर्श पत्र जारी किया है।

प्राधिकरण ने इस परामर्श पत्र को नए विनियामक ढांचे 2020 के कार्यान्वयन के बाद उत्पन्न होने वाले कुछ मुद्दों को हल करने के लिए, हितधारकों के साथ उचित परामर्श के प्रक्रिया के बाद जारी किया है। यह पेपर मुख्य रूप से बुके के गठन में दी गई छूट, समावेश के लिए चैनलों की अधिकतम कीमत से संबंधित मुद्दों पर चर्चा करता है। बुके में, और वितरण शुल्क के अलावा प्रसारकों द्वारा डीपीओ को छूट की पेशकश की जाती है।

केबल टीवी क्षेत्र के पूर्ण डिजिटलीकरण के अनुरूप, ट्राई ने 3 मार्च 2017 को प्रसारण व केबल सेवाओं के लिए 'नए नियामक ढांचे' अधिसूचित किया। मद्रास उच्च न्यायालय और सर्वोच्च न्यायालय में कानूनी जांच पारित करने के बाद, नया ढांचा 29 दिसंबर 2018 से लागू हुआ।

नए नियामक ढांचे 2017 के कार्यान्वयन पर ट्राई ने उपभोक्ताओं को प्रभावित करने वाली कुछ कमियों को देखा। जैसे ही नए नियामक ढांचे ने कुछ व्यावसायिक नियमों को बदल दिया, कई सकारात्मक बातें सामने आईं। नए नियामक ढांचे के कार्यान्वयन के बाद उत्पन्न होने वाले कुछ मुद्दों को हल करने के लिए, हितधारकों के साथ उचित परामर्श प्रक्रिया के बाद, ट्राई ने 01.01.2020 को नए नियामक ढांचे 2020 को अधिसूचित किया।

कुछ हितधारकों ने उच्च न्यायालय बॉम्बे और केरल सहित विभिन्न उच्च न्यायालयों में टैरिफ संशोधन आदेश 2020, इंटरकनेक्शन संशोधन विनियम 2020 और सेवा की गुणवत्ता संशोधन विनियम 2020 के प्रावधानों को चुनौती दी। उच्च न्यायालयों ने कुछ प्रावधानों को छोड़कर नए नियामक ढांचे 2020 की वैधता को बरकरार रखा।

नेटवर्क कैपेसिटी फीस (एनसीएफ), मल्टी-टीवी होम और नए नियामक ढांचे 2020 (न्यू रेगुलेटरी फ्रेमवर्क 2020) के लॉन्ग टर्म सब्सक्रिप्शन से संबंधित प्रावधान पहले ही लागू किए जा चुके हैं और बड़े पैमाने पर उपभोक्ताओं को उचित लाभ दिए जा रहे हैं। प्रत्येक उपभोक्ता अधिकतम 130 रुपए के एनसीएफ में अब 100 चैनलों के बजाय 228 टीवी चैनल प्राप्त कर सकता है। इसने उपभोक्ताओं को 2017 के ढांचे के अनुसार समान संख्या में चैनलों का लाभ उठाने के लिए अपने NCF को 40 से 50 रुपए तक कम करने में सक्षम बनाया है। इसके अतिरिक्त, मल्टी-टीवी घरों के लिए संशोधित एनसीएफ ने दूसरे (और अधिक) टेलीविजन सेटों पर 60% की अतिरिक्त बचत की है।

हालांकि, प्रसारकों द्वारा दायर किए गए रियो (RIO) के अनुसार, नए टैरिफ एक सामान्य प्रवृत्ति को दर्शाते हैं, अर्थात  खेल चैनलों सहित उनके सबसे लोकप्रिय चैनलों की कीमतें 20 रुपए प्रति माह से अधिक निर्धारित की गई थी। पे चैनलों को बुके में शामिल करने के संबंध में सीमा प्रावधानों का अनुपालन करते हुए 12 रुपए प्रति माह से अधिक मूल्य वाले ऐसे सभी चैनलों को बुके से बाहर रखा गया है और केवल अ-ला-कार्टे आधार पर पेश किया गया है। दायर किए गए संशोधित रियो लगभग सभी बुके की संरचना में व्यापक पैमाने पर बदलाव के संकेत देते हैं।

नए टैरिफ की घोषणा के तुरंत बाद, ट्राई को डिस्ट्रीब्यूशन प्लेटफॉर्म ऑपरेटर्स (डीपीओ), एसोसिएशन ऑफ लोकल केबल ऑपरेटर्स (एलसीओ) और उपभोक्ता संगठनों से प्रतिनिधित्व प्राप्त हुआ। डीपीओ ने सिस्टम में नई दरों को लागू करने और लगभग सभी बुके को प्रभावित करने वाले विकल्पों के सूचित अभ्यास के माध्यम से उपभोक्ताओं को नई टैरिफ व्यवस्था में स्थानांतरित करना, विशेष रूप से प्रसारकों द्वारा पे चैनलों और बुके की दरों में ऊपर की ओर संशोधन के कारण उनके सामने आने वाली कठिनाइयों पर प्रकाश डाला। इसलिए, ट्राई एलसीओ के प्रतिनिधियों सहित सभी विभिन्न संघों और उपभोक्ता समूहों के साथ विचार-विमर्श किया।

नए विनियामक ढांचे 2020 के कार्यान्वयन से संबंधित विभिन्न मुद्दों पर विचार-विमर्श करने और आगे का रास्ता सुझाने के लिए, ट्राई के तत्वावधान में इंडियन ब्रॉडकास्टिंग एंड डिजिटल फाउंडेशन (IBDF), ऑल इंडिया डिजिटल केबल फेडरेशन (AIDCF) और डीटीएच एसोसिएशन के सदस्यों की एक समिति का गठन किया गया था।

समिति का उद्देश्य टैरिफ संशोधन आदेश 2020 के सुचारू कार्यान्वयन के लिए एक आम सहमति के रास्ते पर आने के लिए विभिन्न हितधारकों के बीच चर्चा की सुविधा प्रदान करना था। हितधारकों को सलाह दी गई थी कि वे नए नियामक ढांचे 2020 को लागू करते समय उपभोक्ताओं को न्यूनतम व्यवधानों और बाधाओं के साथ कार्यान्वयन योजना के साथ सामने आएं।

समिति ने विचार के लिए नए विनियामक ढांचे 2020 से संबंधित कई मुद्दों को सूचीबद्ध किया। हालांकि, हितधारकों ने ट्राई से उन महत्वपूर्ण मुद्दों को तुरंत दूर करने का अनुरोध किया, जो टैरिफ संशोधन आदेश 2020 के सुचारू कार्यान्वयन के लिए बाधाएं पैदा कर सकते हैं।

परामर्श पत्र पर 30 मई 2022 तक हितधारकों से लिखित टिप्पणियां आमंत्रित की गई हैं। प्रति टिप्पणियां, यदि कोई हो, 6 जून 2022 तक प्रस्तुत किया जा सकती हैं।

  

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

HC से राहत के बाद भी गिरफ्तारी के लिए अमन चोपड़ा के घर पहुंची पुलिस, जानें पूरा मामला

न्यूज18 के पत्रकार अमन चोपड़ा को राजस्थान हाई कोर्ट से शनिवार को राहत मिल गई और उनकी गिरफ्तारी पर रोक लगा दी गई।

Last Modified:
Monday, 09 May, 2022
AmanChopra5485

न्यूज18 के पत्रकार अमन चोपड़ा को राजस्थान हाई कोर्ट से शनिवार को राहत मिल गई और उनकी गिरफ्तारी पर रोक लगा दी गई। बावजूद इसके राजस्थान पुलिस चोपड़ा के नोएडा स्थित उनके आवास पर उन्हें गिरफ्तार करने पहुंची, जहां से उन्हें खाली हाथ लौटना पड़ा, जिसके बाद दो राज्यों की पुलिस में टकराव की खबरें सामने आयीं।

दरअसल हुआ यूं कि राजस्थान हाई कोर्ट ने शनिवार को बूंदी और अलवर जिलों में दर्ज दो मामलों (अलवर के कोतवाली थाने में दर्ज FIR संख्या 372/2022 व बूंदी के सदर थाने में दर्ज FIR संख्या 200/2022) में ये आदेश दिया कि पत्रकार अमन चोपड़ा के खिलाफ अलवर में मंदिरों के विध्वंस पर उनके शो के मामले में उनके खिलाफ कोई दंडात्मक कार्रवाई नहीं होनी चाहिए। वहीं डूंगरपुर के बिछवाड़ा में दर्ज मामले (एफआईआर संख्या 147/2022) को लेकर पेश विविध आपराधिक याचिका 482 पर सुनवाई एक सप्ताह बाद होनी है।

एक तरफ जहां उच्च न्यायालय ने अपने आदेश से अमन चोपड़ा की गिरफ्तारी पर रोक लगा दी, तो वहीं शनिवार को डूंगरपुर और नोएडा पुलिस में भी उस समय भिड़ंत हो गई, जब राजस्थान की पुलिस टीवी पत्रकार अमन चोपड़ा को गिरफ्तार करने पहुंची।

डूंगरपुर एसपी सुधीर जोशी ने मीडिया को बताया कि नोएडा पुलिस ने दूसरी बार पत्रकार अमन चोपड़ा को हिरासत में लेने से रोका है। डूंगरपुर एसपी का कहना है कि पिछली बार की तरह इस बार भी नोएडा पुलिस ने उनकी टीम को एक ओर ले जाकर कुछ जानकारी लेने को कहा और काफी देर तक इंतजार करवाया और तब तक आरोपी वहां से निकल चुका था। हमारी टीम चोपड़ा के घर पर पहुंची तो वहां ताला लगा मिला।

सुधीर जोशी ने मीडिया को बताया कि हमारी टीम नोएडा में डेरा डाले हुए है और अमन चोपड़ा का पता लगाने के लिये सभी संभावित स्थानों की तलाश कर रही है।

दूसरी तरफ, सेंट्रल नोएडा के ACP-2 योगेंद्र सिंह ने कहा कि राजस्थान पुलिस की टीम शनिवार दोपहर 3 बजे अमन चोपड़ा के लिए गैर जमानती वारंट लेकर आई थी। हमने दो पुलिसकर्मी उनके साथ भेजे लेकिन, अमन चोपड़ा के घर पर ताला लगा हुआ था। पुलिस ने उनके घर के बाहर नोटिस चस्पा कर दिया और लौट आई। राजस्थान पुलिस द्वारा लगाए जा रहे आरोप गलत हैं।

वहीं अतिरिक्त महाधिवक्ता (एएजी) जीएस राठौर ने जानकारी दी कि चोपड़ा ने राजस्थान हाई कोर्ट में एक याचिका दायर कर उनके खिलाफ दर्ज मामलों को रद्द करने की मांग की थी, जिनमें से अदालत ने अलवर और बूंदी में एफआईआर के संबंध में गिरफ्तारी के खिलाफ रोक लगाते हुए स्टे लगा दिया, लेकिन डूंगरपुर में दर्ज मामले में अदालत ने रोक नहीं लगाई, जिसके बाद पुलिस उन्हें फिर गिरफ्तार करने पहुंची थी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, चोपड़ा के खिलाफ पिछले महीने राजस्थान के अलवर में एक मंदिर के विध्वंस के बाद उनके टीवी शो के कंटेंट को लेकर तीन एफआईआर दर्ज की गई थी, जिसमें पहला मामला 23 अप्रैल को डूंगरपुर के बिछवाड़ा में, दूसरा उसी दिन बूंदी में और तीसरा मामला 24 अप्रैल को अलवर में दर्ज किया गया था।

चोपड़ा के खिलाफ दर्ज मामलों के मुताबिक, उन्होंने अपने एक शो में कथित तौर पर दावा किया था कि जहांगीरपुरी केस का बदला लेने के लिए अलवर में एक सदियों पुराने मंदिर को विध्वंस किया गया था।

चोपड़ा के खिलाफ आईपीसी की धारा 124-ए (देशद्रोह), 295 ए (धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के इरादे से काम करना), 153 ए (विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना) और आईटी अधिनियम की धारा 67 के तहत मामला दर्ज किया गया था जिसकी डूंगरपुर कोतवाली थाना के एसएचओ जांच कर रहे हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अब India TV में इस बड़े पद की जिम्मेदारी संभालेंगी प्रिया मुखर्जी

इससे पहले प्रिया मुखर्जी ‘रिपब्लिक मीडिया’ में सीओओ (डिस्ट्रीब्यूशन इंटरनेशनल रेवेन्यू और ओटीटी) के तौर पर अपनी भूमिका निभा रही थीं।

Last Modified:
Saturday, 07 May, 2022
Priya Mukherjee

हिंदी न्यूज चैनल ‘इंडिया टीवी’ (India TV) ने प्रिया मुखर्जी को ग्रुप प्रेजिडेंट (Network Development) के पद पर नियुक्त किया है। अपनी इस भूमिका में प्रिया मुखर्जी टेलिविजन और ओटीटी के लिए इंडिया और इंटरनेशनल डिस्ट्रीब्यूशन की कमान संभालेंगी। वह ग्रुप सीईओ विनय माहेश्वरी को रिपोर्ट करेंगी।

वह भारत और अंतरराष्ट्रीय मार्केट्स में टीवी और डिजिटल के लिए डिस्ट्रीब्यूशन स्ट्रैटेजी के लिए जिम्मेदार होंगी। बता दें कि इससे पहले प्रिया मुखर्जी ‘रिपब्लिक मीडिया’ में चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर (डिस्ट्रीब्यूशन इंटरनेशनल रेवेन्यू और ओटीटी) के तौर पर अपनी भूमिका निभा रही थीं।

मीडिया इंडस्ट्री में जाना-माना नाम प्रिया मुखर्जी को डिस्ट्रीब्यूशन और मार्केटिंग के क्षेत्र में काम करने का करीब 23 साल का अनुभव है। उन्होंने अपने करियर की शुरुआत ‘इंडियन एक्सप्रेस’ (Indian Express) से की थी। इसके बाद वह ‘डिस्कवरी चैनल’, ‘सोनी एंटरटेनमेंट टेलिविजन’, ‘नेटवर्क18’, ‘रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क’, ‘डेन नेटवर्क्स’ और ‘GTPL’ में अपनी भूमिका निभा चुकी हैं।

प्रिया की नियुक्ति के बारे में ‘इंडिया टीवी’ ग्रुप के सीईओ विनय माहेश्वरी ने कहा, ‘कंपनी में प्रिया की नियुक्ति को लेकर हम काफी खुश हैं। मुझे पूरा विश्वास है कि डिस्ट्रीब्यूशन में उनके विशाल अनुभव से इंडिया टीवी को नई ऊंचाइयों पर पहुंचने में मदद मिलेगी।’

वहीं, इस बारे में ‘इंडिया टीवी’ की मैनेजिंग डायरेक्टर रितु धवन का कहना है , ’प्रिया को इंडस्ट्री का काफी अनुभव है। इससे हमें अपने मिशन को प्राप्त करने और इंडस्ट्री में नए बेंचमार्क स्थापित करने की दिशा में मजबूती से आगे बढ़ने में मदद मिलेगी।‘ 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए