एंटरटेनमेंट चैनल्स पर भारी पड़ने लगा है ये फैसला, हो रहा है बड़ा नुकसान

रेवेन्यू के साथ ही जनरल एंटरटेनमेंट चैनल्स की व्युअरशिप भी घट गई है

Last Modified:
Wednesday, 10 July, 2019
Channel

‘दूरदर्शन’ के डायरेक्ट टू होम (DTH) प्‍लेटफॉर्म ‘फ्रीडिश’ से चैनल हटाने का फैसला कई ब्रॉडकास्टर्स को फिलहाल भारी पड़ने लगा है। दरअसल, ‘फ्रीडिश’ से अपने चैनल्स हटाने के साथ ही इन बॉडकास्टर्स की 20 मिलियन से ज्यादा व्युअरशिप भी कम हो गई है। ऐसे में कई चैनल्स का एड रेवेन्यू काफी घट गया है।

बता दें कि चार प्रमुख ब्रॉडकास्टर्स ‘स्टार इंडिया’, ‘ZEEL’,‘सोनी पिक्चर्स नेटवर्क इंडिया’ और ‘इंडिया कास्ट मीडिया डिस्ट्रीब्यूशन’ ने इस साल फरवरी में इस प्लेटफॉर्म से अपने चैनल्स हटाने का निर्णय लिया था। ‘इंडिया कास्ट मीडिया डिस्ट्रीब्यूशन’ ब्रॉडकास्टर्स 'टीवी18' और 'वायकॉम18' के चैनलों को डिस्ट्रीब्यूट करता है। इंडस्ट्री से जुड़े विशेषज्ञों का अनुमान है कि पहले जो चैनल्स फ्री टू एयर प्रसारित होते थे, वे फ्रीडिश की शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में अच्छी पहुंच के कारण उसका लाभ लेते हुए व्युअरशिप के आधार पर विज्ञापनदाताओं से दस सेकेंड के विज्ञापन के लिए 4000 और 5500 रुपए तक चार्ज करते थे। लेकिन अब यह विज्ञापन दरें काफी घटकर 3000 रुपए प्रति दस सेकेंड तक हो गई हैं, क्योंकि चैनल्स ‘कॉस्ट पर रेटिंग पॉइंट’ (CPRP)  देने में भी असफल हो रहे हैं।  

इस बारे में ‘DCMN India’ के डायरेक्टर (ऑफलाइन मीडिया) सुधीर कुमार का कहना है, ‘कई चैनल्स जो फ्रीडिश से पे चैनल्स बन गए हैं, उनका प्रति सप्ताह ‘ग्रॉस रेटिंग पाइंट’ (GRP) कम हो गया है। एक बार ‘ग्रॉस रेटिंग पाइंट’ कम होने पर वे उन रेट पर विज्ञापन नहीं मांग सकते हैं, जिन पर छह महीने पहले मांगते थे। फ्रीडिश से हटने के कारण जनरल एंटरटेनमेंट चैनल्स (GEC) की व्युअरशिप भी 60 से 80 प्रतिशत तक घट गई है।’

इसके साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि प्राइवेट ब्रॉडकास्टर जो डीडी-फ्रीडिश को हर साल छह से आठ करोड़ रुपए का भुगतान कर रहे थे, वे हर साल 500 से 700 करोड़ रुपए की कमाई कर रहे थे। फ्रीडिश से हटने के बाद ऐसे कई चैनल्स का रेवेन्यू 200 करोड़ रुपए से भी कम हो गया है।  

‘ट्राई’ (TRAI) के नए टैरिफ ऑर्डर लागू होने के बाद फ्रीडिश प्लेटफॉर्म से हिंदी के बड़े एंटरटेनमेंट चैनल्स हटाने पर हुए उन्हें हुए रेवेन्यू के नुकसान की बात करें तो ‘जी मीडिया कॉरपोरेशन लिमिटेड’ (Zee Media Corporation Limited) ने वित्तीय वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में समेकित (consolidated) रेवेन्यू 1693.50 मिलियन रुपए और पूरे 2018-19 के लिए 6869.2 मिलियन रुपए बताया था। वित्तीय वर्ष 2018 में जहां ऑपरेटिंग रेवेन्यू 5734.8 मिलियन रुपए था, वह वित्तीय वर्ष 2019 में 19.8 प्रतिशत बढ़कर 6869.20 मिलियन रुपए रहा।

हालांकि, वित्तीय वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में ऑपरेटिंग रेवेन्यू में 3.9 प्रतिशत की गिरावट आई और वित्तीय वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में 1762.2 मिलियन रुपए के मुकाबले यह 1693.5 मिलियन रुपए रह गया। इस बारे में ‘जी’ का कहना था कि रेवेन्यू में मुख्य रूप से गिरावट ट्राई के नए टैरिफ ऑर्डर को देखते हुए एडवर्टाइजर्स द्वारा विज्ञापन खर्च में कमी के कारण रही। सिर्फ ‘जी’ ही एक उदाहरण नहीं है, ऐसे कई चैनल्स हैं, जिनके रेवेन्यू में इस प्रक्रिया के दौरान कमी आई है।

इन फ्री टू एयर चैनल्स से अपने विज्ञापन हटाने के बाद माना जा रहा है कि एडवर्टाइजर्स ने निवेश के अन्य रास्ते तलाश लिए हैं। इस बारे में ‘इमामी’ (Emami) के सीनियर वाइस प्रेजिडेंट (मीडिया) बासब सरकार का कहना है कि इमामी जैसे एडवर्टाइजर्स के लिए यह काफी फायदे का सौदा रहा, जिसका फोकस ग्रामीण क्षेत्रों पर था। इसका कारण बताते हुए बासब सरकार ने कहा, देश में चुनाव और अन्य बड़े मुद्दों के कारण हिंदी न्यूज चैनल्स की व्युअरशिप काफी बढ़ गई थी, जिससे उनके एडवर्टाइजिंग रेवेन्यू में काफी इजाफा हुआ।’

हालांकि, यह स्थिति यूं ही बनी रहेगी अथवा इसमें बदलाव होगा, इस बारे में फिलहाल कुछ भी स्पष्ट नहीं है। विशेषज्ञों का कहना है कि नुकसान जरूर हुआ है, लेकिन यह स्थिति यूं ही नहीं बनी रहेगी। इस बारे में ‘सब’ (SAB) ग्रुप के सीईओ मानव ढांडा का कहना है, ‘जिन चार बड़े ब्रॉडकास्टर्स ने फ्रीडिश से अपने चैनल हटाने का फैसला लिया है, उनके पास और भी कई चैनल्स हैं। ऐसे में यदि उन्हें किसी एक चैनल से नुकसान होता है तो वे दूसरे चैनल्स से इस नुकसान की भरपाई कर सकते हैं। यह नुकसान थोड़े समय के लिए ही है, आने वाले समय में यह ब्रॉडकास्टर्स और डीटीएच प्रोवाइडर्स दोनों के लिए फायदेमंद होगा।’

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

 रजनीकांत की फिल्म 'दरबार' को लेकर केबल ऑपरेटर ने की ऐसी हरकत, पहुंच गया जेल

सुपरस्टार रजनीकांत की फिल्म 'दरबार' दुनियाभर के सिनेमाघरों में धूम मचा रही है। इसके बावजूद फिल्म मेकर्स की चिंता बढ़ गई है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 15 January, 2020
Last Modified:
Wednesday, 15 January, 2020
channel

सुपरस्टार रजनीकांत की फिल्म 'दरबार' (Darbar) दुनियाभर के सिनेमाघरों में धूम मचा रही है। फिल्म ने महज चार दिनों में ही वर्ल्डवाइड बॉक्स ऑफिस पर 150 करोड़ रुपए से ज्यादा का कलेक्शन कर लिया है। इसके बावजूद फिल्म मेकर्स की चिंता बढ़ गई है। ऐसा इसलिए क्योंकि इसका पाइरेटेड वर्जन भी मार्केट में आ गया है और इसके लिए एक केबल ऑपरेटर को गिरफ्तार भी किया गया है।

बता दें कि फिल्म को रिलीज के तीन दिन बाद टीवी पर प्रसारित करने को लेकर इस केबल ऑपरेटर की गिरफ्तारी हुई है। घटना तमिलनाडु के मदुरै शहर की है। केबल ऑपरेटर पर आरोप है कि उसने फिल्म ‘दरबार’ के पाइरेटेड वर्जन को टीवी  (Saranya TV) पर प्रसारित किया है, जो पूरी तरह से गैरकानूनी है।  

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, 10 जनवरी को रिलीज हुई रजनीकांत की फिल्म ‘दरबार’ के पाइरेटेड वर्जन को तीन दिन बाद टीवी पर प्रसारित कर दिया गया, जिसके बाद ‘दरबार’ की प्रॉडक्शन कंपनी लायका प्रॉडक्शंस (Lyca Productions) ने केबल ऑपरेटर के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई। इसके बाद पुलिस ने सख्त कार्रवाई करते हुए केबल ऑपरेटर को गिरफ्तार किया है।

गौरतलब है कि इस शुक्रवार को रजनीकांत की फिल्म ‘दरबार’ रिलीज हुई, जो 200 करोड़ रुपए के भारी भरकम बजट में बनी है। उम्मीद की जा रही थी कि फिल्म की ओपनिंग करीब 75 करोड़ रुपए की रहेगी, क्योंकि इस फिल्म को दुनियाभर में 7000 से भी ज्यादा स्क्रीन्स पर कई भाषाओं में रिलीज किया गया है, लेकिन फिल्म उम्मीदों पर खरी नहीं उतरी और इसकी ओपनिंग मुश्किल से 50 करोड़ रुपए का आंकड़ा ही पार कर पाई। दरअसल, इसकी वजह सिनेमाघरों में रिलीज होते ही ऑनलाइन लीक होना माना जा रहा है और इसकी वजह से अब फिल्म मेकर्स की चिंता बढ़ गई है।

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक,ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

नए मूवी चैनल की लॉन्चिंग के साथ ही Zee समूह ने नई दिशा में रखे कदम

'जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड’ के सीईओ (इंडिया ब्रॉडकास्ट बिजनेस) पुनीत मिश्रा ने इस बारे में औपचारिक रूप से घोषणा की

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 07 January, 2020
Last Modified:
Tuesday, 07 January, 2020
Zee

'जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड’ (ZEEL) ने तमिल मूवी चैनल ‘जी थिराई’ (Zee Thirai) की लॉन्चिंग के साथ ही तमिल फिल्म एंटरटेनमेंट के क्षेत्र में अपने कदम रख दिए हैं। इस बारे में नेटवर्क की ओर से आधिकारिक रूप से घोषणा की गई है। बता दें कि इस नेटवर्क के द्वारा दक्षिणी क्षेत्र में यह छठा चैनल है। तेलुगू फिल्मी चैनल ‘जी सिनेमालू’ (Zee Cinemalu) के बाद दक्षिणी क्षेत्र में यह दूसरा मूवी चैनल है।

'जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड’ के सीईओ (इंडिया ब्रॉडकास्ट बिजनेस) पुनीत मिश्रा ने अभिनेता और फिल्म निर्देशक कमल हासन के साथ इस बारे में औपचारिक रूप से घोषणा की। इस ब्रैंड की टैगलाइन ‘Rathathil Kalandhadhu Cinema’ रखी गई है, जिसका शाब्दिक अर्थ ‘सिनेमा हमारे खून में निहित है’ होता है।

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक,ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

2019 में टॉप-10 की सूची में रहे हिंदी के ये एंटरटेनमेंट शो

टॉप टेन शो की लिस्ट की तुलना यदि 2018 से करें, तो इस साल यानी 2019 में फिक्शन शो का दबदबा रहा है। हालांकि इस साल टॉप टेन की लिस्ट में चार रियलिटी शो ने भी जगह बनाई है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 31 December, 2019
Last Modified:
Tuesday, 31 December, 2019
gecs

2019 की विदाई के दौरान यदि मनोरंजन चैनलों पर देखें जाने वाले टेलिविजन शो की बात न हो, तो ये अधूरा सा लगता है। इसलिए बात करते हैं कि 2019 में देखे जाने वाले शो की रेटिंग की।

टॉप टेन शो की लिस्ट की तुलना यदि 2018 से करें, तो इस साल यानी 2019 में फिक्शन शो का दबदबा रहा है। हालांकि इस साल टॉप टेन की लिस्ट में चार रियलिटी शो ने भी जगह बनाई है।

बिजनेस के लिहाज से देखें तो आर्थिक मंदी और ट्राई के नए टैरिफ प्लान की वजह से साल 2019 टेलिविजन ब्रॉडकास्टर्स के लिए चुनौतीपूर्ण रहा है। इस साल ब्रॉडकास्टर्स को न केवल रेवेन्यू में कमी के चलते बल्कि व्युअरशिप में भी गिरावट के चलते भी नुकसान उठाना पड़ा है।  

इस साल, हिंदी एंटरमेंट चैनलों पर कई नए शो और फॉर्मेट्स शुरू किए गए। विशेषज्ञों की मानें तो सही मायनों में जो भी नए फॉर्मेट्स शुरू किए गए, वह चैनलों के हिसाब से खरा नहीं उतर सके।

आइये एक नजर डालते हैं, ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल (BARC) द्वारा जारी की गई हिन्दी एंटरटेनमेंट चैनलों के 2019 के फिक्शन और नॉन-फिक्शन शो के टॉप टेन लिस्ट पर-

BARC के मुताबिक, 2019 के पहले हफ्ते से लेकर 49वें हफ्ते तक एसडी (SD) और एचडी (HD) दोनों ही चैनलों के केवल दो नए शो टॉप टेन की लिस्ट में जगह बना पाए, जबकि 2019 से भी पहले से चले आ रहे फिक्शन शो इन पर हावी रहे।   

2018 में ‘कलर्स’ (Colors) पर आने वाला ‘नागिन’ (Naagin) शो शीर्ष स्थान बनाने में कामयाब रहा, लेकिन 2019 में ‘फियर फैक्टर खतरों के खिलाड़ी’ (Fear Factor Khatron Ke Khiladi Jigar Pe Trigger) ने 8561 मिलियन इम्प्रेशंस के साथ टॉप टेन की सूची में पहले स्थान पर जगह बनाई।

‘जी टीवी’ (Zee TV) के प्राइम टाइम पर दिखाया जाने वाला शो ‘कुंडली भाग्य’ (Kundali Bhagya) ने 6779 मिलियन इंप्रेशन के साथ दूसरा स्थान हासिल किया, जबकि 2018 में शीर्ष स्थान पर रहने वाला कलर्स का शो ‘नागिन’ (Naagin) तीसरे स्थान पर रहा। नागिन का यह तीसरा सीजन है और इस सीजन में शो ने 6679 मिलियन इंप्रेशन की रेटिंग दर्ज की है।

‘सोनी सब’ (Sony Sab) पर दिखाया जाने वाला शो ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ (Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah) 6626 मिलियन इंप्रेशन के साथ चौथे स्थान पर रहा, जबकि ‘स्टार प्लस’ (Star Plus) का सबसे लंबे समय तक चलने वाला शो ‘ये रिश्ता क्या कहलाता है’ (Yeh Rishta Kya Kehlata Hai) 6442 मिलियन इंप्रेशन के साथ पांचवें नंबर पर है।

छठे स्थान पर ‘सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन’ (Sony Entertainment Television) पर आने वाले शो ‘कौन बनेगा करोड़पति’ (KBC) रहा। इसने 6351 मिलियन इम्प्रेशंस की रेटिंग दर्ज की। नंबर 7 पर ‘जी टीवी’ (ZEE TV) का ‘कुमकुम भाग्य’ (Kumkum Bhagya) है और इसकी रेटिंग 6304 मिलियन इंप्रेशन है।

टॉप टेन की सूची में सोनी टीवी का एक और नॉन-फिक्शन शो है, जिसका नाम है ‘सुपर डांसर चैप्टर 3’ (Super Dancer Chapter 3)। इस डांस रियलिटी शो ने 6050 मिलियन इंप्रेशन के साथ आठवें नंबर पर जगह बनाई है।

नौवें स्थान पर ‘स्टार प्लस’ (Star Plus) का नया फिक्शन शो ‘ये जादू है जिन्न का’ (Yeh Jaadu Hai Jinn Ka) ने जगह बनाई। इस शो को अक्टूबर में लॉन्च किया गया था और इसकी रेटिंग 6031 मिलियन इंप्रेशन रही।

और अंत में, सोनी टीवी (Sony TV) का ‘सुपरस्टार सिंगर सिंगिंग का कल’ (Superstar Singer Singing Ka Kal)ने 6002 मिलियन इंप्रेशन के साथ 10वें पर रहा और इसकी रेटिंग 6002 6031 मिलियन इंप्रेशन रही।

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक,ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

'सावधान इंडिया' से सुशांत सिंह को निकाले जाने पर चैनल ने तोड़ी चुप्पी, बताई ये वजह

टीवी अभिनेता सुशांत सिंह को ‘सावधान इंडिया’ से बाहर किए जाने का मामला इन दिनों चर्चा का विषय बना हुआ है

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 19 December, 2019
Last Modified:
Thursday, 19 December, 2019
Sushant Singh

‘स्टार भारत’ (Star Bharat) चैनल पर प्रसारित होने वाले लोकप्रिय शो ‘सावधान इंडिया’ (Savdhaan India) से टीवी अभिनेता सुशांत सिंह को हटाए जाने का मामला इन दिनों काफी चर्चा में है। माना जा रहा है कि ‘नागरिकता संशोधन कानून’ (Citizenship Amendment Act) का विरोध करने के कारण उन्हें शो से बाहर का रास्ता दिखाया गया है।

अब इस मामले में चैनल ने बयान जारी कर स्थिति स्पष्ट की है। चैनल की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि सुशांत सिंह का चैनल के साथ कॉन्ट्रैक्ट 15 जनवरी 2020 को खत्म होने वाला था। इसके साथ ही चैनल ने यह भी स्पष्ट किया है कि सुशांत सिंह के पॉलिटिकल व्यूज की वजह से उन्हें शो से बाहर नहीं किया गया है। इस कदम का नागरिकता संशोधन विधेयक से कोई लेना-देना नहीं है। गौरतलब है कि सुशांत पिछले दिनों मुंबई में नागरिकता कानून का विरोध करते नजर आए थे।

‘स्टार भारत’ के प्रवक्ता का कहना है, ‘सावधान इंडिया में किए गए बदलावों को लेकर आ रहीं कुछ प्रतिक्रियायों से चैनल निराश है। अपनी सात साल की यात्रा के दौरान सावधान इंडिया के फॉर्मेट्स में लगातार कई बदलाव किए गए हैं और कई प्रेजेंटर भी बदले गए हैं।’   

प्रवक्ता के अनुसार,‘सुशांत सिंह को अक्टूबर 2019 में इस शो में वापस लाया गया था. जिनका कॉन्ट्रैक्ट 15 जनवरी 2020 को समाप्त हो रहा था। सावधान इंडिया के नए फॉर्मेट में किसी प्रेजेंटर की जरूरत नहीं थी, इसलिए नया कांट्रैक्ट साइन नहीं किया गया।’

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक,ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

नया एंटरटेनमेंट चैनल ला रहा है Zee समूह, तय हुई लॉन्चिंग डेट

इस चैनल में पांच फिक्शन शो, चार नॉन फिक्शन शो, मूवीज और म्यूजिक समेत बहुत कुछ होगा

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 17 December, 2019
Last Modified:
Tuesday, 17 December, 2019
Zee

‘जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड’ (ZEEL) का बहुप्रतीक्षित पंजाबी एंटरटेनमेंट चैनल ‘जी पंजाबी’ (Zee Punjabi) अगले साल की शुरुआत में दस्तक देगा। खबर है कि 13 जनवरी 2010 को लोहड़ी के मौके पर इसे ऑन एयर किया जाएगा।  

इस चैनल में पांच फिक्शन शो, चार नॉन फिक्शन शो, मूवीज और म्यूजिक समेत बहुत कुछ होगा। इसके अलावा इस चैनल पर म्यूजिक रियलिटी शो ‘सारेगामापा’ (Sa Re Ga Ma Pa) का लोकल वर्जन भी होगा, जिसकी कमान मशहूर गायक गुरदास मान के हाथों में होगी।

‘जी पंजाबी’ सभी प्रमुख केबल, डीटीएच, फ्री डिश और डिजिटल प्लेटफॉर्म्स पर उपलब्ध होगा। इसके अलावा यह नया चैनल ‘ZEEL’ के मोबाइल और डिजिटल प्लेटफॉर्म ‘जी5’ (ZEE5) पर भी उपलब्ध होगा।

चैनल की लॉन्चिंग के बारे में ‘ZEEL’ के क्लस्टर हेड (नॉर्थ, वेस्ट और प्रीमियम चैनल्स) अमित शाह ने कहा कि देश में टीवी की बढ़ती पहुंच के बावजूद पंजाब में लोग टीवी पर कम समय बिता रहे हैं। इसका एक बड़ा कारण पंजाबी कंटेंट को समर्पित किसी जनरल एंटरटेनमेंट चैनल का न होना है, जिससे पंजाब के साथ-साथ यहां के कल्चर के साथ न्याय नहीं हो पाता है। यहां के लोगों की इस जरूरत को समझते हुए ही ‘जी पंजाबी’ चैनल लॉन्च किया जा रहा है।

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक,ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

टीवी एंकर धीरज जुनेजा ने नई दिशा में बढ़ाए कदम, लोगों को खूब भाया ये अंदाज

18 अगस्त को शुरू हुआ था शो, दस नवंबर को दिखाया जाएगा आखिरी एपिसोड

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 06 November, 2019
Last Modified:
Wednesday, 06 November, 2019
Dheeraj Juneja

‘जी टीवी’ (ZEE TV) के प्राइम टाइम शो 'लगाओ बोली' में अपनी शानदार एंकरिंग से टीवी एंकर धीरज जुनेजा ने दर्शकों के दिलोदिमाम अपनी एक खास छाप छोड़ी है। इस लाइव गेम शो से धीरज जुनेजा ने जनरल एंटरटेनमेंट चैनल्स की दुनिया में अपना डेब्यू किया। इस शो के निर्माता राज कुंद्रा ने धीरज जुनेजा की काबिलियत और एंकरिंग के बेहतरीन अंदाज को देखते हुए उन्हें यह मौका दिया।

इस शो में लोगों को सबसे कम और अनोखी बोली लगाकर इनाम जीतने का मौका मिला। इस शो का पहला एपिसोड 18 अगस्त को शुरू हुआ था और दस नवंबर को इस शो का आखिरी एपिसोड दिखाया जाएगा। इस शो को धीरज जुनेजा ने परितोष त्रिपाठी और अनीता हसनंदानी के साथ होस्ट किया। इस दौरान उन्होंने शो का हिस्सा बनीं फराह खान, हरभजन सिंह और शिल्पा शेट्टी जैसे सितारों के साथ जमकर मस्ती भी की। धीरज जुनेजा के इस अंदाज को लोगों ने काफी पसंद किया।

धीरज स्टार स्पोर्ट्स में क्रिकेट शो की एंकरिंग भी करते हैं। उन्होंने आईपीएल में मुंबई इंडियंस का शो MITV होस्ट किया, वहीं वर्ल्ड कप के लिए इंग्लैंड भी गए। वर्ल्ड कप के बाद अगस्त से उन्होंने इस शो में एंकरिंग शुरू कर दी थी। बता दें कि फरीदाबाद के मूल निवासी धीरज जुनेजा होम शॉपिंग टीवी चैनल ‘बेस्ट डील टीवी’ में भी एंकरिंग कर चुके हैं। उन्होंने दिल्ली की इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से पढ़ाई की है।

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इस चैनल ने सेक्सुअल हैरेसमेंट के आरोपित को क्यों लिया वापस, मशहूर सिंगर ने उठाए सवाल

सिंगर ने अपने ट्विटर हैंडल पर देश की जनता और चैनल के साथ ही मीडिया के नाम एक ओपन लेटर लिखा है

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 01 November, 2019
Last Modified:
Friday, 01 November, 2019
Channel

किसी पर सेक्सुअल हैरेसमेंट के ऐसे आरोप लगें कि पूरा देश उससे वाकिफ हो जाए। घर-घर में उसकी चर्चा हो और तमाम लोग पीड़ित लड़की के साथ हों तो जिस चैनल से वह व्यक्ति जुड़ा है, वह चैनल क्या करेगा? जाहिर है कि चैनल उस व्यक्ति को बाहर निकाल देगा, ऐसा हुआ भी। उस शो से उस व्यक्ति को बाहर कर दिया गया, लेकिन एक साल भी नहीं बीता कि वह व्यक्ति शो में वापस आ गया। उस चैनल को फिर से जॉइन कर लिया। अब उस लड़की ने सीधे-सीधे उस चैनल के साथ ही देश की जनता और मीडिया को एक ओपन लेटर लिख डाला है। इस चैनल का नाम है सोनी टीवी, आरोपित का नाम है अनु मलिक और पीड़ित लड़की है मशहूर सिंगर सोना मोहपात्रा।

अनु मलिक इंडियन आइडल शो के जज हैं। लेकिन ऐसा पहली बार हुआ कि उन्हें वर्ष 2018 में शो से बाहर कर दिया गया और वजह थी मशहूर सिंगर सोना मोहपात्रा के वो ट्वीट्स, जिनमें मीटू कैंपेन के तहत उन्होंने अनु मलिक पर कुछ ऐसे आरोप लगाए कि अनु मलिक के बारे में लोगों के बीच यह मैसेज गया कि वह खराब कैरैक्टर के सेलिब्रिटी हैं। हालांकि सोना मोहपात्रा ने न पुलिस में मामला दर्ज करवाया और न कोई लीगल एक्शन लिया और अनु मलिक भी इस मुद्दे पर खामोश रहे।

अनु मलिक को इसका बड़ा खामियाजा भुगतना पड़ा। देशभर में तो उनकी आलोचना हुई ही, छवि भी खराब हुई और उन्हें इंडियन आइडल शो में जज की कुर्सी से हटा दिया गया। ऐसे में अनु मलिक के कुछ दोस्तों ने उनके लिए कैंपेन भी चलाया, जिनमें सोनू निगम भी शामिल थे। नतीजा यह हुआ कि एक साल बाद ही सही, अनु मलिक को शो के नए एडिशन में वापस जज के तौर पर ले लिया गया, जिसमें उनके साथी जज हैं विशाल ददलानी और नेहा कक्कड़।

पिछले साल ही इन आरोपों के बाद सोना मोहपात्रा को शो सारेगामापा से यह कहकर बाहर कर दिया गया कि शो की टीआरपी नहीं आ रही है। अनु मलिक की इंडियन आइडल में वापसी के बाद सोना मोहपात्रा ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक ओपन लेटर भारतीय पब्लिक, मीडिया और सोनी टीवी के नाम लिख डाला है।

इसमें वह अनु मलिक का फेवर लेने के लिए न केवल सोनू निगम को निशाने पर ले रही हैं, बल्कि शो के होस्ट आदित्य नारायण और अनु मलिक के साथी जज विशाल ददलानी और नेहा कक्कड़ पर भी सवाल उठा रही हैं कि वह सेक्सुअल हैरेसमेंट के आरोपित के साथ शो कैसे कर सकते हैं? इसके साथ ही उन्होंने सोनी टीवी से भी सवाल पूछा है कि अगर सेक्सुअल हैरेसमेंट का कोई आरोपित अमेरिकन आइडल में जज होता तो क्या उसकी दोबारा वापसी होती? लेकिन आप टीआरपी के लिए भारत में ऐसा ही कर रहे हैं।

सोना मोहपात्रा ने इस लेटर में काफी कुछ लिखा है। उन्होंने और सोनी टीवी, सोनू निगम के साथ-साथ अनु मलिक को भी निशाने पर लिया है अभी तक इस बारे में सोनी टीवी की तरफ से कोई भी प्रतिक्रिया नहीं आई है।

आप सोना मोहपात्रा का ये लेटर नीचे पढ़ सकते हैं-

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

क्यों खास रहा DD का शो ‘मैं कुछ भी कर सकती हूं’

लैंगिक समानता, परिवार नियोजन, हिंसा तथा स्वास्थ्य जैसे विषयों पर बातचीत शुरू करने में सफल रहा है शो

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 15 October, 2019
Last Modified:
Tuesday, 15 October, 2019
TV Show

दूरदर्शन के प्रमुख शो में शुमार ‘मैं कुछ भी कर सकती हूं’(MKBKSH) ने पांच वर्षों के भीतर अपने तीन सीजन के दौरान 183 एपिसोड पूरे कर लिए हैं। यह शो लैंगिक समानता, परिवार नियोजन, हिंसा तथा स्वास्थ्य जैसे विषयों पर बातचीत शुरू करने में सफल रहा है। शो का निर्माण राष्ट्रीय गैर-लाभकारी संगठन पॉपुलेशन फाउंडेशन ऑफ इंडिया (PFI) द्वारा किया गया है। सीजन 3 में इसने सरकार के फोकस के दो महत्वपूर्ण क्षेत्रों को उठाया। इनमें पहला, बेहतर स्वास्थ्य के लिए साफ-सफाई और स्वच्छता को बढ़ावा देना और दूसरा, दंपत्ति व युवाओं को उनके प्रजनन स्वास्थ्य और परिवार नियोजन से संबंधित विकल्प अपनाने के लिए सशक्त बनाना शामिल है।

शो को दूरदर्शन के राष्ट्रीय और 14 क्षेत्रीय चैनलों और देशभर के 216 ऑल इंडिया रेडियो स्टेशनों के माध्यम से हिंदी और 12 भाषाओं में प्रसारित किया गया। तीन सीजन में दर्शकों की ओर से 20 लाख से अधिक कॉल शो के इंटरैक्टिव वॉइस रिस्पांस सिस्टम (आईवीआरएस) को मिले। इस शो के प्रभावों का मूल्यांकन स्वतंत्र एजेंसियों द्वारा किया गया है।

शो की नायिका डॉ. स्नेहा माथुर की रील लाइफ, जिसमें वो सामाजिक बुराइयों के खिलाफ लड़ाई लड़ती है, से प्रेरित होकर वास्तविक जीवन की कई कहानियों में शो का प्रभाव दिखता है। मध्य प्रदेश के नयागांव की 21 वर्षीय लाडकुंवर कुशवाहा कॉलेज से स्नातक करने वाली गांव की पहली लड़की बनी। इस कार्यक्रम ने मध्य प्रदेश के छतरपुर में पुरुषों के एक समूह को परिवार नियोजन अपनाने और अपनी पत्नी के साथ घर की जिम्मेदारियों को साझा करने के लिए प्रेरित किया। बिहार में गया की निरमा देवी ने अपने पति को परिवार नियोजन अपनाने के लिए राजी किया और अब अपने समुदाय में वो परिवार नियोजन चैंपियन बन गई हैं।

शो के निर्माता व प्रसिद्ध फिल्म और थिएटर निर्देशक फिरोज अब्बास खान कहते हैं, ‘पिछले पांच सालों में हमने जिस तरह के प्रभाव को देखा है, उसकी मैं कभी कल्पना भी नहीं कर सकता था। मैं एक उच्च गुणवत्ता वाला शो बनाना चाहता था जो बिना प्रचार के महत्वपूर्ण सामाजिक मुद्दों पर प्रभावी ढंग से संवाद कर सके। तीन सीजन के दौरान यह शो देश भर में महिलाओं के लिए एक सशक्त नारा बन गया है। इससे मुझे बहुत खुशी मिलती है कि शो के पात्र घरेलू नाम बन गए हैं और लोगों ने शो के संदेश और भावना को आत्मसात कर लिया है।’

पीएफआई की कार्यकारी निदेशक पूनम मुत्तरेजा कहती हैं, 'विश्व स्तर पर माना जाता है कि सिर्फ सूचना से व्यक्ति या समुदाय के स्तर पर व्यवहार में बदलाव नहीं आता है। हमने इस शो को एक ऐसे कार्यक्रम के तौर पर बनाया, जो बड़ी संख्या में लोगों तक पहुंच कर सकारात्मक भूमिका के माध्यम से लोगों के जीवन की कहानियों को बदल दे। इस शो ने भारी संख्या में दर्शकों से लोकप्रियता हासिल की है। इस यात्रा में, हमें दूरदर्शन का पूरा समर्थन मिला है, जिन्होंने एक ऐसे शो की आवश्यकता को पहचाना और इसे देश के सबसे दूरस्थ हिस्सों में ले जाने में हमारा समर्थन किया।‘

इस शो को शबाना आजमी, शर्मिला टैगोर, सोहा अली खान और फरहान अख्तर जैसी कई फिल्मी हस्तियों ने समर्थन दिया है। शो के पहले सीजन में 52 एपिसोड शामिल थे, जिसमें बाल विवाह, जन्म के समय लिंग चयन और लैंगिक भेदभाव जैसे मुद्दे थे। 79 एपिसोड का दूसरा सीज़न युवाओं और किशोरों पर केंद्रित था। तीसरा सीजन स्वच्छता और परिवार नियोजन जैसे मुद्दों पर बात करता है और हाल ही में इसके 52 एपिसोड पूरे हुए है। शो के तीसरे सीजन का निर्माण आरईसी फाउंडेशन और बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन (बीएमजीएफ) के सहयोग से किया गया था।

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

'BIGG BOSS' के घर का हिस्सा बनीं न्यूज एंकर

कलर्स टीवी चैनल पर ‘बिग बॉस’ के 13वें सीजन की हुई शुरुआत, पहली बार किसी न्यूज एंकर की हुई है शो में एंट्री

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Monday, 30 September, 2019
Last Modified:
Monday, 30 September, 2019
Shefali Bagga

कलर्स टीवी चैनल पर ‘बिग बॉस’ (Bigg Boss) के 13वें सीजन का आगाज हो चुका है। इस शो के लिए 13 प्रतियोगी ‘बिग बॉस’ के घर में एंट्री कर चुके हैं, जिनमें न्यूज एंकर शैफाली बग्गा भी शामिल हैं। यह पहली बार है, जब ‘बिग बॉस’ के घर में किसी न्यूज एंकर की एंट्री हुई है। इस शो को बॉलिवुड अभिनेता सलमान खान होस्ट कर रहे हैं।  

शेफाली ‘इंडिया टुडे’ ग्रुप के चैनल ‘तेज’ की एंकर हैं। वह दिल्ली की रहने वाली हैं और उनकी पढ़ाई-लिखाई भी यहीं हुई है। कलर्स ने भी शैफाली बग्गा के लिए एक ट्वीट किया है। इसमें कहा गया है, ‘हर किसी का करेगी खुलासा अपने रिपोर्टर स्टाइल में ये है शेफाली बग्गा।‘

शैफाली बग्गा न सिर्फ टीवी पर बल्कि सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव रहती हैं। बिग बॉस में एंट्री से पहले उन्होंने बताया कि यहां आना खुशी की बात है और जब न्यूज बताने वाले न्यूज में आ जाएं तो और भी अच्छा लगता है। शेफाली अपनी फिटनेस का काफी ध्यान रखती हैं और अक्सर इंस्टाग्राम पर अपने जिम के फोटोज और विडियोज शेयर करती रहती हैं। इसके साथ ही वो अपने फोटोशूट्स भी फैंस के साथ शेयर करती रहती हैं।

‘बिग बॉस’ के घर में आते ही शैफाली लोगों के बीच चर्चा का विषय बन गई हैं। इन सबके बीच सोशल मीडिया पर उनकी पिछले साल की एक विडियो क्लिप भी वायरल हो रही है, जिसमें वे सलमान खान के बारे में अपने शो में जानकारी देती नजर आ रही हैं। दरअसल, काले हिरन के शिकार के मामले में जब सलमान खान को कोर्ट ने पांच साल की सजा सुनाई थी, तो शैफाली ने अपने शो में बताया था कि कैसे फैसला सुनकर सलमान खान की आंखों में आंसू आ गए थे।

‘बिग बॉस’ में आते ही शैफाली बग्गा का सामना पंजाब की शहनाज गिल से हुआ, जिन्होंने दो मुकाबलों में न सिर्फ शैफाली को हरा दिया, बल्कि एंट्री लेते ही ताना भी मार दिया। अब देखना यह है कि शैफाली बग्गा ‘बिग बॉस’ में किस तरह अपनी मजबूत दावेदारी बनाए रखती हैं।

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Trust Legal बनी CINTAA की लीगल कंसल्टेंट

सिने एंड टीवी आर्टिस्ट्स एसोसिएशन ने ट्रस्ट लीगल एडवोकेट्स एंड कंसल्टेंट्स को चुना अपना कानूनी सलाहकार, 10 नवंबर को मुंबई में अपना ऑफिस शुरू करेगी फर्म

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 25 September, 2019
Last Modified:
Wednesday, 25 September, 2019
Cintaa

टीवी और फिल्मी कलाकारों की संस्था ‘सिने एंड टीवी आर्टिस्ट्स एसोसिएशन’ (CINTAA) ने ट्रस्ट लीगल एडवोकेट्स एंड कंसल्टेंट्स को अपना लीगल कंसल्टेंट नियुक्त किया है। 24 सितंबर 2019 से ‘CINTAA’ के पॉलिसी और कानून संबंधी सभी मामलों की जिम्मेदारी ट्रस्ट लीगल निभाएगी।

इस बारे में ट्रस्ट लीगल के फाउंडर और मैनेजिंग पार्टनर सुधीर मिश्रा का कहना है, ‘यह हमारे लिए बहुत सम्मान की बात है कि हमें टीवी और हिंदी मूवी इंडस्ट्री के कलाकारों की इतनी बड़ी संस्था ने कानूनी सलाह के लिए चुना है। हम ‘CINTAA’ के साथ मिलकर फिल्म और टीवी इंडस्ट्री के लिए बेहतर काम करेंगे। हम 10 नवंबर 2019 को अपने मुंबई ऑफिस का शुभारंभ करेंगे।’

बता दें कि इससे पहले 23 अगस्त को ‘CINTAA’ के पदाधिकारियों के साथ एक बैठक में सुधीर मिश्रा ने बताया था कि फिल्म और टेलिविजन इंडस्ट्री के कलाकारों के सामने आ रहे तमाम मुद्दों का ट्रस्ट लीगल द्वारा कैसे समाधान किया जा सकता है।   

इस बारे में सिने एंड टीवी आर्टिस्ट्स एसोसिएशन की ओर से एक पत्र भी जारी किया गया है, जिसे आप यहां देख सकते हैं।

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए