‘हिन्दुस्तान टाइम्स’ के एडिटर-इन-चीफ सुकुमार रंगनाथन ने कुणाल प्रधान के प्रमोशन की घोषणा की है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


कोरोनावायरस (कोविड-19) के संक्रमण को देखते हुए देश में लॉकडाउन चल रहा है। ऐसे में लोग अपने घरों पर ही हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 9 months ago


पिछले दिनों दिल्ली में आयोजित विश्व पुस्तक मेले में लेखिका व वरिष्ठ पत्रकार जयंती रंगनाथन के नए उपन्यास का लोकार्पण किया गया

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 year ago


मुझे लगता है कि हिंदी साहित्य में यह शायद पहला प्रयोग है। अंग्रेजी शब्दों का इस्तेमाल करूं तो ‘horror’ के साथ ‘lust’ का अनूठा संगम

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 year ago


पत्रकार, लेखक, कहानीकार, साहित्यकार जयंती रंगनाथन ने अब फिर एक नए माध्यम के जरिए एक नई विधा में हाथ आजमाया है

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 year ago


गनीमत... कमरे का दरवाजा खुला हुआ था। हलका सा दरवाजा धकेल कर मैंने अपना सिर...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 2 years ago


मैं सोच रही हूं... मैं भी ऐसा करूं! आज का न्यूजपेपर देखा...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


उसने अपना नाम बताया—सौम्या। बड़ी सी गाड़ी से उतरी जरूर,पर उसके चाल-ढाल में बड़ा होने वाली...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


फिल्म के निर्माण से जुड़े रोचक किस्से बता रही हैं दैनिक ‘हिन्दुस्तान’ फीचर एडिटर जयंती रंगनाथन...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


आशा भोसले के पिता दीनानाथ मंगेशकर चलती-फिरती थियेटर कंपनी चलाते थे। इस सिलसिले में अपनी 200 लोगों...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


मुंबई और दिल्ली महानगर में रहने वाले लोगों को बहुत शौक होता है, अपने शहर को बढ़ा-चढ़ा कर बताने का...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


जानी-मानी वरिष्ठ महिला पत्रकार व लेखिका जयंती रंगनाथन की किताब ‘बॉम्बे मेरी जान’ ने मार्केट में दस्तक दे दी है...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


बॉम्बे मेरी जान’ में लेखिका ने मुम्बई से अपने रिश्तों को उजागर किया है। एक मध्यमवर्गीय परिवार में जन्मी जयंती जब मुम्बई आयीं तो सब अनजाना था...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


मनोरंजन की दुनिया में अचानक ही एक विस्फोट हुआ है। बोरियत भरे टीवी धारावाहिकों की बजाय आपके स्मार्टफोन पर आने वाले वेब सीरीज जैसे अच्छे विकल्पों की भरमार हो गई है...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


जयंती रंगनाथन सीनियर फीचर एडिटर  हिन्दुस्तान ।। लाल पत्तियां

समाचार4मीडिया ब्यूरो 4 years ago


‘फिल्म और क्रिकेट हमेशा से हमें जोड़ते भी आए हैं, और तोड़ते भी। फिलहाल हवा का जो रुख है, उसमें बहुत कुछ टूट रहा है।’ ये कहना है हिन्दुस्तान की सीनियर फीचर एडिटर जयंती रंगनाथन का। हिन्दुस्तान में प्रकाशित उनका पूरा आलेख आप यहां पढ़ सकते हैं: न सरहद हो न सियासत  

समाचार4मीडिया ब्यूरो 4 years ago


<h1><em><span style="font-size: 15px;"><span lang="HI" style="font-family: Mangal, serif; color: black; letter-spacing: -0.4pt;">रजनीकात की फिल्म 'कबाली; धमाल मचा रही है। नए रिकॉर्ड बना रही है, सुर्खियों का हिस्सा बन चुकी इस फिल्म पर दैनिक हिन्दुस्तान की सीनियर फीचर एडिटर और बॉलीवुड को करीब से जानने वाली पत्रकार जयंती रंगनाथन ने अपने एक लेख के जरीए

समाचार4मीडिया ब्यूरो 4 years ago



जयंती रंगनाथन बिल्डिंग के सामने उर्षिला ने अपनी लंबी गाड़ी पार्क की ही थी कि सीढिय़ों के पीछे खंभे से सटकर खड़ी वह दिख गई। उर्षिला उसकी निगाहों से नहीं बच सकती थी। चार घंटे पहले वह यहां आ चुकी थी, वॉचमैन को ठीक से पट्टी पढ़ा के, लिफ्ट से ना जा कर दस मंजिल चढ़ कर ऊपर गई, घर में ताला देखा, तो नीचे उतर कर यहां इंतजार करने लगी। लौट क

समाचार4मीडिया ब्यूरो 4 years ago


‘अगर आप शाहरुख के सामने उनकी फिल्म चक दे इंडिया की तारीफ करें, तो हो सकता है वह कहें कि उस फिल्म में मेरे करने के लिए था ही क्या? अपने स्टारडम में बंधकर पिछले दो वर्षो में शाहरुख खान तेजी से अपनी सल्तनत खोने चले हैं’ हिंदी दैनिक ‘हिन्दुस्तान’ में प्रकाशित अपने आलेख के जरिए ये कहना है सीनियर फीचर एडिटर और वरिष्ठ महिला पत्रकार जयंती रंगनाथन का। उनका

समाचार4मीडिया ब्यूरो 4 years ago