समाचार एजेंसी ‘प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया’(PTI) के तीन बार चेयरमैन रह चुके थे वीरेंद्र कुमार, वह पीटीआई के निदेशक मंडल में भी शामिल थे

समाचार4मीडिया ब्यूरो 2 days ago


हालांकि कुछ अखबार पहले से ऑनलाइन एडिशन के लिए सबस्क्रिप्शन मॉडल (paywall) अपना रहे हैं, जबकि कुछ अन्य अखबार इस नक्शे कदम पर चलने की तैयारी में हैं

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 week ago


कोरोनावायरस (कोविड-19) के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देशभर में किए गए लॉकडाउन के कारण कुछ समय के लिए अखबारों की प्रिंटिंग और डिस्ट्रीब्यूशन (वितरण) पर काफी विपरीत प्रभाव पड़ा।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


कोरोनावायरस (कोविड-19) के खिलाफ जंग में अग्रिम मोर्चे पर तैनात डॉक्टर्स, पुलिसकर्मी, पैरामेडिकल स्टाफ व अन्य के साथ पत्रकार भी तमाम जोखिमों के बीच अपनी जिम्मेदारी बखूबी निभा रहे हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


मलयालम अखबार ‘मातृभूमि’ में तीन साल की पारी खेलने के बाद कमल कृष्णनन पीएस ने ग्रुप को अलविदा कह दिया है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


महामारी बन चुके कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में अफरा-तफरी मचा दी है। हाल ये है कि ग्लोबल स्तर पर प्रिंट मीडिया भी इसके खौफ से अछूता नहीं रहा है

समाचार4मीडिया ब्यूरो 2 months ago


न्यूज चैनल पर आपने कई तरह की खबरें देखी होंगी, पर ये खबर थोड़ी हटके है। इस खबर का वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 months ago


क्रिसमस व नए साल के स्वागत के लिए तमाम लोग दोस्तों, रिश्तेदारों, करीबियों व अन्य को उपहारस्वरूप देने के लिए गिफ्ट खरीद रहे हैं और उन्हें सजा रहे हैं

समाचार4मीडिया ब्यूरो 5 months ago


पूर्व में ‘एशियानेट न्यूज’, ‘डेक्कन क्रॉनिकल’ और ‘द न्यू इंडियन एक्सप्रेस’ में अहम पदों पर कर चुके हैं काम

समाचार4मीडिया ब्यूरो 6 months ago


लंबे समय से परेशानियों से जूझ रही प्रिंट इंडस्ट्री के लिए यह खबर राहत

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 year ago


7 जून को एक खबर प्रसारित करने को लेकर यह चैनल विवादों के घेरे में है...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 year ago


‘संदेहवादी खेमे में सबसे उदार, श्रेष्ठतम शिक्षा पाए, प्रतिष्ठित, ख्यात सेलेब्रिटी पत्रकार हैं, वे धमाकेदार खबर खोजते नहीं, बल्कि प्रेस कॉन्फ्रेंस की मांग करते हैं। वे खबर नहीं प्राप्त कर सकते, लेकिन वे मानक तय कर देते हैं, जिनका दूसरों को पालन करना ही चाहिए।’ हिंदी अखबार दैनिक भास्कर में छपे अपने आलेख के जरिए ये कहना

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


<div><strong>समाचार4मीडिया.कॉम ब्यूरो</strong></div> <div>मलयालम भाषा का दूसरे नंबर पर, सबसे ज्यादा

समाचार4मीडिया ब्यूरो 4 years ago