अब इस नाम से जाने जाएंगे जम्मू, श्रीनगर और लेह के रेडियो स्टेशन

31 अक्टूबर से जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के दो केंद्र शासित प्रदेश बनने के साथ ही जम्मू, श्रीनगर और लेह के रेडियो स्टेशनों का नाम बदल दिया गया है

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 31 October, 2019
Last Modified:
Thursday, 31 October, 2019
Radio

सरदार बल्लभ भाई पटेल की जयंती पर 31 अक्टूबर से जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के दो केंद्र शासित प्रदेश बनने के साथ ही जम्मू, श्रीनगर और लेह के रेडियो स्टेशनों का नाम बदल दिया गया है। अब ये रेडियो स्टेशन ‘ऑल इंडिया रेडियो जम्मू’, ‘ऑल इंडिया रेडियो श्रीनगर’ और ‘ऑल इंडिया रेडियो लेह’ के नाम से जाने जाएंगे।

इसके साथ ही इन रेडियो स्टेशनों की पहचान के लिए की जाने वाली उद्घोषणाएं भी आज से बदल जाएंगी और अब इसे रेडियो कश्मीर के बजाय ऑल इंडिया रेडियो/आकाशवाणी के नाम से जाना जाएगा। नई व्यवस्था के तहत जम्‍मू कश्‍मीर में रेडियो कश्‍मीर की जगह अब ऑल इंडिया रेडियो का प्रसारण होगा।

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक,ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

RAM Ratings: जानिए, किस मार्केट में कौन से रेडियो FM ने जमाई अपनी धाक

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 40 से 43वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 02 December, 2020
Last Modified:
Wednesday, 02 December, 2020
Radio FM

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 40 से 43वें हफ्ते (27 सितंबर-24 अक्टूबर) के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं। इन रेटिंग्स के अनुसार, मुंबई और दिल्ली के मार्केट में ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) का दबदबा बना रहा है, जबकि बेंगलुरु में ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) और कोलकाता में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi)  का वर्चस्व रहा है।

मुंबई की बात करें तो यहां 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 12.2 मिलियन श्रोताओं में ‘फीवर एफएम’ का मार्केट शेयर सबसे ज्यादा 16.4 प्रतिशत रहा है। श्रोताओं की हिस्सेदारी में ‘रेडियो सिटी’ 14.1 प्रतिशत शेयर के साथ दूसरे स्थान पर रहा। 13.4 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर है। सुबह 11 बजे से दोपहर 12 बजे तक यहां रेडियो सबसे ज्यादा सुना गया।

दिल्ली में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 16.5 मिलियन श्रोताओं में 22.5 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ इस लिस्ट में पहले नंबर पर रहा है। दिल्ली के मार्केट में 12.3 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेड एफएम’ दूसरे नंबर पर और 11.9 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो नशा’ तीसरे नंबर पर रहा है। यहां श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच रही।

वहीं, बेंगलुरु के 5.3 मिलियन श्रोताओं में 24.1 प्रतिशत लोगों ने ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) को सुना और यह इस लिस्ट में टॉप पर रहा। ‘बिग एफएम’ (Big FM) 23.4 प्रतिशत के साथ दूसरे और ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) 15.5 प्रतिशत के साथ तीसरे स्थान पर रहा। यहां सुबह सात से आठ बजे के बीच श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा थी।

अब कोलकाता के मार्केट को देखें तो यहां एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोताओं में से 27.1 प्रतिशत श्रोताओं ने ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) को सुना और यह लिस्ट में टॉप पर रहा। 25.9 प्रतिशत श्रोताओं के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर है, जबकि ‘रेड एफएम’ इस लिस्ट में 14.9 प्रतिशत के साथ तीसरे नंबर पर है। सुबह नौ बजे से दस बजे के बीच श्रोताओं की संख्या यहां सबसे ज्यादा रही है।

इस अवधि में मुंबई और कोलकाता मार्केट्स में रेडियो की पहुंच श्रोताओं के बीच सबसे ज्यादा रही। बेंगलुरु और मुंबई के मार्केट्स में घर से बाहर रेडियो सुनने वालों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

RAM Ratings: जानिए, कौन से रेडियो FM का किस शहर में रहा दबदबा

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 38 से 41वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 19 November, 2020
Last Modified:
Thursday, 19 November, 2020
FM Radio

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 38 से 41वें हफ्ते (13 सितंबर-10 अक्टूबर) के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं। इन रेटिंग्स के अनुसार, मुंबई और दिल्ली के मार्केट में ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) का दबदबा बना रहा है, जबकि बेंगलुरु में ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) और कोलकाता में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi)  का वर्चस्व रहा है।

मुंबई में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 12.2 मिलियन श्रोताओं में ‘फीवर एफएम’ का मार्केट शेयर सबसे ज्यादा 16.6 प्रतिशत रहा है। श्रोताओं की हिस्सेदारी में ‘रेडियो सिटी’ 13.8 प्रतिशत शेयर के साथ दूसरे स्थान पर रहा। 13.2 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर है। सुबह 11 बजे से दोपहर 12 बजे तक यहां रेडियो सबसे ज्यादा सुना गया।

दिल्ली के मार्केट की बात करें तो 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 16.5 मिलियन श्रोताओं में 22.4 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ इस लिस्ट में पहले नंबर पर रहा है। दिल्ली के मार्केट में 12.2 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेड एफएम’ दूसरे नंबर पर और 11.7 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो सिटी’ तीसरे नंबर पर रहा है। यहां श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच रही।

वहीं, बेंगलुरु के 5.3 मिलियन श्रोताओं में 26 प्रतिशत लोगों ने ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) को सुना और यह इस लिस्ट में टॉप पर रहा। ‘बिग एफएम’ (Big FM) 23.4 प्रतिशत के साथ दूसरे और ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) 15.3 प्रतिशत के साथ तीसरे स्थान पर रहा। यहां सुबह आठ से नौ बजे के बीच श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा थी।

अब कोलकाता के मार्केट को देखें तो यहां एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोताओं में से 27.9 प्रतिशत श्रोताओं ने ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) को सुना और यह लिस्ट में टॉप पर रहा। 26.7 प्रतिशत श्रोताओं के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर है, जबकि ‘रेड एफएम’ इस लिस्ट में 15.6 प्रतिशत के साथ तीसरे नंबर पर है। सुबह 8:00 बजे से 9:00 बजे के बीच श्रोताओं की संख्या यहां सबसे ज्यादा रही है।

इस अवधि में बेंगलुरु मार्केट को छोड़कर सभी मार्केट्स में रेडियो की पहुंच काफी रही। बेंगलुरु और मुंबई के मार्केट्स में घर से बाहर रेडियो सुनने वालों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

किस मार्केट में किस रेडियो FM ने जमाई अपनी धाक, पढ़ें यहां

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 37 से 40वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 13 November, 2020
Last Modified:
Friday, 13 November, 2020
Radio FM

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 37 से 40वें हफ्ते (06 सितंबर-03 अक्टूबर) के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं। इन रेटिंग्स के अनुसार, मुंबई और दिल्ली के मार्केट में ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) का दबदबा बना रहा है, जबकि बेंगलुरु में ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) और कोलकाता में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi)  का वर्चस्व रहा है।

मुंबई में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 12.2 मिलियन श्रोताओं में ‘फीवर एफएम’ का मार्केट शेयर सबसे ज्यादा 16.6 प्रतिशत रहा है। श्रोताओं की हिस्सेदारी में ‘रेडियो सिटी’ 13.7 प्रतिशत शेयर के साथ दूसरे स्थान पर रहा। 13.5 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर है। सुबह 11 बजे से दोपहर 12 बजे तक यहां रेडियो सबसे ज्यादा सुना गया।

दिल्ली के मार्केट की बात करें तो 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 16.5 मिलियन श्रोताओं में 21.9 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ इस लिस्ट में पहले नंबर पर रहा है। दिल्ली के मार्केट में 12.4 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेड एफएम’ दूसरे नंबर पर और 12.3 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो सिटी’ तीसरे नंबर पर रहा है। यहां श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच रही।

वहीं, बेंगलुरु के 5.3 मिलियन श्रोताओं में 25.9 प्रतिशत लोगों ने ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) को सुना और यह इस लिस्ट में टॉप पर रहा। ‘बिग एफएम’ (Big FM) 23.4 प्रतिशत के साथ दूसरे और ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) 15.2 प्रतिशत के साथ तीसरे स्थान पर रहा। यहां सुबह सात से आठ बजे के बीच श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा थी।

अब कोलकाता के मार्केट को देखें तो यहां एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोताओं में से 28.5 प्रतिशत श्रोताओं ने ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) को सुना और यह लिस्ट में टॉप पर रहा। 27.5 प्रतिशत श्रोताओं के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर है, जबकि ‘रेड एफएम’ इस लिस्ट में 16 प्रतिशत के साथ तीसरे नंबर पर है। सुबह 7:00 बजे से 8:00 बजे के बीच श्रोताओं की संख्या यहां सबसे ज्यादा रही है।

इस अवधि में मुंबई और कोलकाता में लोगों ने सबसे ज्यादा रेडियो सुना। इस दौरान सभी मार्केट्स में घर से बाहर रेडियो सुनने वालों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

RED FM के नेशनल मार्केटिंग हेड रजत उप्पल का बड़ा कदम

उप्पल ने वर्ष 2012 में रेड एफएम जॉइन किया था और इन आठ वर्षों में उन्होंने इस ब्रैंड को मजबूत करने में अहम भूमिका निभाई

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 06 November, 2020
Last Modified:
Friday, 06 November, 2020
Rajat Uppal

रेडियो नेटवर्क ‘रेड एफएम’ (RED FM) के नेशनल मार्केटिंग हेड रजत उप्पल ने अपने पद से इस्तीफा देने का फैसला कर लिया है। बता दें कि रजत उप्पल ने वर्ष 2012 में ‘रेड एफएम’ जॉइन किया था। इन आठ वर्षों में उन्होंने इस ब्रैंड को मजबूत करने में अहम भूमिका निभाई।

रजत उप्पल का अगला कदम क्या होगा, फिलहाल इस बारे में पता नहीं चल पाया है, लेकिन इंडस्ट्री से जुड़े सूत्रों ने संकेत दिए हैं कि वे एक ऐसे ऑर्गनाइजेशन का नेतृत्व कर सकते हैं, जहां वे मार्केटिंग, इवेंट और डिजिटल पहल की कमान संभाल सकते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

किस शहर में कौन से रेडियो FM का बजा डंका, जानें यहां

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 36 से 39वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 05 November, 2020
Last Modified:
Thursday, 05 November, 2020
RADIO FM

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 36 से 39वें हफ्ते (30 अगस्त से 26 सितंबर) के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं। इन रेटिंग्स के अनुसार, मुंबई और दिल्ली के मार्केट में ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) का दबदबा बना रहा है, जबकि बेंगलुरु में ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) और कोलकाता में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi)  का वर्चस्व रहा है।

मुंबई में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 12.2 मिलियन श्रोताओं में ‘फीवर एफएम’ का मार्केट शेयर सबसे ज्यादा 17 प्रतिशत रहा है। श्रोताओं की हिस्सेदारी में ‘रेडियो मिर्ची’ 14 प्रतिशत शेयर के साथ दूसरे स्थान पर रहा। 13.5 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर है। सुबह 11 बजे से दोपहर 12 बजे तक यहां रेडियो सबसे ज्यादा सुना गया।

दिल्ली के मार्केट की बात करें तो 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 16.5 मिलियन श्रोताओं में 21.3 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ इस लिस्ट में पहले नंबर पर रहा है। दिल्ली के मार्केट में 12.6 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेड एफएम’ दूसरे नंबर पर और 12.5 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो सिटी’ तीसरे नंबर पर रहा है। यहां श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच रही।

वहीं, बेंगलुरु के 5.3 मिलियन श्रोताओं में 26.1 प्रतिशत लोगों ने ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) को सुना और यह इस लिस्ट में टॉप पर रहा। ‘बिग एफएम’ (Big FM) 23.3 प्रतिशत के साथ दूसरे और ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) 15.1 प्रतिशत के साथ तीसरे स्थान पर रहा। यहां सुबह सात से आठ बजे के बीच श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा थी।

अब कोलकाता के मार्केट को देखें तो यहां एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोताओं में से 28.2 प्रतिशत श्रोताओं ने ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) को सुना और यह लिस्ट में टॉप पर रहा। 27.1 प्रतिशत श्रोताओं के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर है, जबकि ‘रेड एफएम’ इस लिस्ट में 15.5 प्रतिशत के साथ तीसरे नंबर पर है। सुबह 7:00 बजे से 8:00 बजे के बीच श्रोताओं की संख्या यहां सबसे ज्यादा रही है। इस अवधि में मुंबई और कोलकाता में लोगों ने सबसे ज्यादा रेडियो सुना। इस दौरान सभी मार्केट्स में घर से बाहर रेडियो सुनने वालों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

'इस अनुपात को बढ़ाने से देश में होगा कम्युनिटी रेडियो को आर्थिक लाभ'

सामुदायिक रेडियो स्टेशन लोगों से उनकी भाषा में संचार करते हैं, जिससे न सिर्फ भाषा के बचाव में योगदान होता है, बल्कि अगली पीढ़ी तक उसका विस्तार भी होता है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 03 November, 2020
Last Modified:
Tuesday, 03 November, 2020
CommunityRadio

'भारत में 290 कम्युनिटी रेडियो स्टेशन हैं, जिनकी पहुंच देश की लगभग 9 करोड़ आबादी तक है। ये रेडियो स्टेशन समुदायों द्वारा उनकी स्थानीय भाषा एवं बोली में चलाए जाते हैं। इस तरह भारतीय भाषाओं के माध्यम से कम्युनिटी रेडियो देश को जोड़ने का काम करता है।' यह विचार भारतीय जन संचार संस्थान (आईआईएमसी) के महानिदेशक प्रो. संजय द्विवेदी ने सोमवार को सरदार वल्लभभाई पटेल की 145वीं जयंती प्रसंग के मौके पर, 'कम्युनिटी रेडियो-सबका साथ सबका विकास' विषय पर आयोजित वेबिनार में व्यक्त किए।  

कार्यक्रम में वन वर्ल्ड फाउंडेशन के प्रबंध निदेशक राजीव टिक्कू, रेडियो अल्फ़ाज़-ए-मेवात की प्रमुख पूजा ओबेरॉय मुरादा, कम्युनिटी मीडिया कंसल्टेंट डॉ. डी. रुक्मिणी वेमराजू एवं रेडियो बनस्थली राजस्थान के स्टेशन मैनेजर लोकेश शर्मा भी वक्ता के तौर पर शामिल हुए।

प्रो. द्विवेदी ने कहा कि सामुदायिक रेडियो स्टेशन लोगों से उनकी भाषा में संचार करते हैं, जिससे न सिर्फ भाषा के बचाव में योगदान होता है, बल्कि अगली पीढ़ी तक उसका विस्तार भी होता है। एक समुदाय को सशक्त करना हो, लोगों और सरकार के बीच माध्यम बनना हो, समाज में पारदर्शिता लानी हो, निरंतर जानकारी पहुंचानी हो या छोटी अथवा बड़ी समस्या का हल निकालना हो, इन सभी में कम्युनिटी रेडियो अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है।

उन्होंने कहा कि मौजूदा दौर में कम्युनिटी रेडियो पर विज्ञापन का अनुपात 7 मिनट प्रति घंटा है, जिसे बढ़ाकर 12 मिनट प्रति घंटा किये जाने की तैयारी शुरू हो चुकी है। इस बढ़े हुए समय से कम्युनिटी रेडियो को आर्थिक लाभ होगा और अपने लिए वित्तीय संसाधन जुटाने में मदद मिलेगी। इसके अलावा भारत सरकार ने देश में कम्युनिटी रेडियो समर्थन अभियान चला रखा है। प्रो. द्विवेदी के मुताबिक सामुदायिक रेडियो सिर्फ रेडियो नहीं, बल्कि लोगों की एकीकृत आवाज़ है।

समस्याओं का समाधान करता है कम्युनिटी रेडियो : टिक्कू

राजीव टिक्कू ने कहा कि कम्युनिटी रेडियो सिर्फ समस्याओं की और ध्यान ही नहीं दिलाता, बल्कि उनका समाधान करने का भी प्रयास करता है। टिक्कू ने बताया कि आज के दौर में हम सूचनाओं के विस्फोट से जूझ रहे हैं, ऐसी स्थिति में इन सूचनाओं को कम्युनिटी रेडियो सबसे बेहतर तरीके से नियंत्रित करते हैं।      

टिक्कू ने कहा कि कोरोना महामारी के दौर में कम्युनिटी रेडियो ने भी अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। उत्तराखंड में 6 स्टेशनों ने मिलकर एक उम्मीद नेटवर्क बनाया है, जिसके द्वारा कोरोना से बचाव के उपाय लोगों को बताये जा रहे हैं। उनके मुताबिक कम्युनिटी रेडियो की भूमिका पर अब लोगों को जागरुक करने की जरूरत है।

भाषा का नहीं, संचार का महत्व : वेमराजू

कम्युनिटी मीडिया कंसल्टेंट डॉ. डी. रुक्मिणी वेमराजू ने अपने संबोधन में कहा कि कम्युनिटी रेडियो में भाषा का नहीं, बल्कि संचार का महत्व है। और इसकी सबसे अच्छी बात यह है कि क्षेत्रीय स्तर पर लोगों से क्षेत्रीय भाषा में ही संचार किया जाता है। उन्होंने कहा कि समुदाय एवं उसमें रहने वाले लोगों को जोड़कर ही 'सबका साथ सबका विकास' संभव हो सकता है।

कोरोना महामारी के दौर में कम्युनिटी रेडियो की भूमिका पर बोलते हुए वेमराजू ने कहा कि किसी भी चुनौती के समय सामुदायिक रेडियो ने अपने आप को सिद्ध किया है। उन्होंने कहा कि संकट के समय लोगों को सशक्त बनाने की जिम्मेदारी कम्युनिटी रेडियो की है। महामारी के इस दौर में कम्युनिटी रेडियो की डिमांड बढ़ी है। पहली बार प्रशासन को ये एहसास हुआ कि लोगों तक जानकारी पहुंचाने में कम्युनिटी रेडियो की महत्वपूर्ण भूमिका है।

सबके साथ से ही होगा विकास : मुरादा

इस मौके पर रेडियो अल्फ़ाज़-ए-मेवात की प्रमुख पूजा ओबेरॉय मुरादा ने बताया कि जब रेडियो मेवात का प्रसारण शुरू किया गया, तो वहां रहने वाले समुदाय के लोगों ने पहले इसका विरोध किया, लेकिन आज वही लोग इसके संचालन में हमारी मदद करते हैं। लॉकडाउन के दौरान वहां रहने वाले इंजीनियर ने तकनीकी समस्याओं को दूर करने में हमारी मदद की।

'सबका साथ सबका विकास' का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि हमें ये समझना होगा कि आखिर हमें किसका साथ चाहिए और इससे किसका विकास होगा। श्रीमती मुरादा ने कहा कि हमें समुदाय, प्रशासन, सरकार और सहयोगियों का साथ चाहिये और इससे समाज के उन लोगों का विकास होगा, जिन तक शासन और प्रशासन की पहुंच नहीं है।

समुदाय के लोगों को कर रहे हैं जागरुक : शर्मा

रेडियो बनस्थली राजस्थान के स्टेशन मैनेजर लोकेश शर्मा ने कहा कि हमारी टैगलाइन है 'आपणो रेडियो बनस्थली' यानी ये आपका अपना रेडिया स्टेशन है। यही कम्युनिटी रेडियो की भावना है। उन्होंने कहा कि यह राजस्थान का पहला कम्युनिटी रेडियो स्टेशन है और इसके माध्यम से हम क्षेत्रीय भाषाओं में लोगों के साथ संवाद कर रहे हैं।

शर्मा ने बताया कि कम्युनिटी रेडियो की मदद से हम स्थानीय समुदाय के लोगों में उनकी रुचि के अनुसार कौशल का विकास कर रहे हैं। साथ ही लोकगीतों के माध्यम से हम न सिर्फ संस्कृति का प्रचार प्रसार कर रहे हैं, बल्कि सरकारी योजनाओं की जानकारी भी लोगों तक पहुंचा रहे हैं।

इससे पहले आयोजन की शुरुआत संस्थान के अपर महानिदेशक के. सतीश नंबूदिरीपाद के स्वागत भाषण से हुई। वेबिनार का संचालन अपना रेडियो के कार्यक्रम प्रमुख संजय अग्रवाल ने किया एवं भारतीय सूचना सेवा की पाठ्यक्रम निदेशक नवनीत कौर ने आयोजन में भाग लेने वाले सभी वक्ताओं का धन्यवाद दिया।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

नेशनल कम्युनिटी रेडियो अवॉर्ड्स: इस तारीख तक भेज सकते हैं एंट्रीज

देश में ‘कम्युनिटी रेडियो स्टेशनों’ को प्रोत्साहित करने के लिए ‘सूचना-प्रसारण मंत्रालय’ ने वर्ष 2012 में ‘नेशनल कम्युनिटी रेडियो अवॉर्ड्स’ की शुरुआत की

Last Modified:
Friday, 30 October, 2020
Community Radio

देश में ‘कम्युनिटी रेडियो स्टेशनों’ (CRSs) के बीच स्वस्थ प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा देने के लिए ‘सूचना-प्रसारण मंत्रालय’ (MIB) ने आठवें ‘नेशनल कम्युनिटी रेडियो अवॉर्ड्स’ (National Community Radio Awards) के लिए एंट्रीज मांगी हैं। बता दें कि मंत्रालय ने हर साल दिए जाने वाले इन अवॉर्ड्स की शुरुआत वर्ष 2012 में की थी। अब तक सात बार ये अवॉर्ड्स दिए जा चुके हैं।

चार कैटेगरीज (thematic award, most innovative community engagement award, promoting local culture award, और sustainability model award) में ये अवॉर्ड दिए जाएंगे। प्रत्येक कैटेगरी में प्रथम, द्वितीय और तृतीय अवॉर्ड के तहत क्रमश: 50 हजार, 30 हजार और 20 हजार रुपये प्रदान किए जाएंगे। एंट्रीज को भेजने की अंतिम तारीख 31 अक्टूबर 2020 रखी गई है।

बता दें कि देश में वर्तमान में 302 कम्युनिटी रेडियो स्टेशन हैं। ये कम्युनिटी रेडियो स्टेशन विशेष रूप से उन क्षेत्रों में सूचना प्रसारित करने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं, जहां अन्य मीडिया की उपस्थिति सीमित है। इस बारे में ज्यादा जानकारी आप यहां क्लिक कर ले सकते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

किस शहर में कौन से रेडियो FM की रही धूम, पढ़ें यहां

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 35 से 38वें हफ्ते (23 अगस्त से 19 सितंबर) के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 29 October, 2020
Last Modified:
Thursday, 29 October, 2020
Radio FM

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 35 से 38वें हफ्ते (23 अगस्त से 19 सितंबर) के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं। इन रेटिंग्स के अनुसार, मुंबई और दिल्ली के मार्केट में ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) का दबदबा बना रहा है, जबकि बेंगलुरु में ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) और कोलकाता में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi)  का वर्चस्व रहा है।

मुंबई में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 12.2 मिलियन श्रोताओं में ‘फीवर एफएम’ का मार्केट शेयर 16.8 प्रतिशत रहा है। श्रोताओं की हिस्सेदारी में ‘रेडियो मिर्ची’ 14.3 प्रतिशत शेयर के साथ दूसरे स्थान पर रहा। 13.6 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर है। सुबह 11 बजे से दोपहर 12 बजे तक यहां रेडियो सबसे ज्यादा सुना गया।

दिल्ली के मार्केट की बात करें तो 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 16.5 मिलियन श्रोताओं में 20.7 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ इस लिस्ट में पहले नंबर पर रहा है। दिल्ली के मार्केट में 12.9 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेड एफएम’ दूसरे नंबर पर और 12.7 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो सिटी’ तीसरे नंबर पर रहा है। यहां श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच रही।

वहीं, बेंगलुरु के 5.3 मिलियन श्रोताओं में 26 प्रतिशत लोगों ने ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) को सुना और यह इस लिस्ट में टॉप पर रहा। ‘बिग एफएम’ (Big FM) 23.3 प्रतिशत के साथ दूसरे और ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) 15.2 प्रतिशत के साथ तीसरे स्थान पर रहा। यहां सुबह सात से आठ बजे के बीच श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा थी।

अब कोलकाता के मार्केट को देखें तो यहां एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोताओं में से 27.9 प्रतिशत श्रोताओं ने ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) को सुना और यह लिस्ट में टॉप पर रहा। 27.1 प्रतिशत श्रोताओं के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर है, जबकि ‘रेड एफएम’ इस लिस्ट में 15.5 प्रतिशत के साथ तीसरे नंबर पर है। सुबह 7:00 बजे से 8:00 बजे के बीच श्रोताओं की संख्या यहां सबसे ज्यादा रही है।

इस अवधि में बेंगलुरु मार्केट को छोड़कर सभी मार्केट्स में रेडियो की पहुंच काफी रही। इस दौरान सभी मार्केट्स में घर से बाहर रेडियो सुनने वालों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

RAM Ratings: जानिए, किस शहर में रहा कौन से रेडियो FM का दबदबा

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 34 से 37वें हफ्ते (16 अगस्त से 12 सितंबर) के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 22 October, 2020
Last Modified:
Thursday, 22 October, 2020
Radio FM

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 34 से 37वें हफ्ते (16 अगस्त से 12 सितंबर) के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं। इन रेटिंग्स के अनुसार, मुंबई और दिल्ली के मार्केट में ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) का वर्चस्व बना रहा है, जबकि बेंगलुरु में ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) और कोलकाता में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहे हैं।

मुंबई में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 12.2 मिलियन श्रोताओं में ‘फीवर एफएम’ का मार्केट शेयर 16.7 प्रतिशत रहा है। श्रोताओं की हिस्सेदारी में ‘रेडियो मिर्ची’ 14.5 प्रतिशत शेयर के साथ दूसरे स्थान पर रहा। 13.7 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर है। सुबह 11 बजे से दोपहर 12 बजे तक यहां रेडियो सबसे ज्यादा सुना गया।

दिल्ली के मार्केट की बात करें तो 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 16.5 मिलियन श्रोताओं में 20 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ इस लिस्ट में पहले नंबर पर रहा है। दिल्ली के मार्केट में 12.9 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेड एफएम’ दूसरे नंबर पर और 12.8 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो सिटी’ तीसरे नंबर पर रहा है। यहां श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच रही।

वहीं, बेंगलुरु के 5.3 मिलियन श्रोताओं में 26.2 प्रतिशत लोगों ने ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) को सुना और यह इस लिस्ट में टॉप पर रहा। ‘बिग एफएम’ (Big FM) 23.4 प्रतिशत के साथ दूसरे और ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) 15.2 प्रतिशत के साथ तीसरे स्थान पर रहा। यहां सुबह 8 से 9 बजे के बीच श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा थी।

अब कोलकाता के मार्केट को देखें तो यहां एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोताओं में से 28 प्रतिशत श्रोताओं ने ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) को सुना और यह लिस्ट में टॉप पर रहा। 27.3 प्रतिशत श्रोताओं के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर है, जबकि ‘रेड एफएम’ इस लिस्ट में 16 प्रतिशत के साथ तीसरे नंबर पर है। सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच श्रोताओं की संख्या यहां सबसे ज्यादा रही है।

इस अवधि में सभी मार्केट्स में रेडियो की पहुंच काफी रही। इस हफ्ते सभी मार्केट्स में घर से बाहर रेडियो सुनने वालों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

जानिए, किस शहर में कौन से रेडियो FM का रहा जलवा

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 31 से 34वें हफ्ते (26 जुलाई से 22 अगस्त) के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 07 October, 2020
Last Modified:
Wednesday, 07 October, 2020
Radio FM

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए 31 से 34वें हफ्ते (26 जुलाई से 22 अगस्त) के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं। इन रेटिंग्स के अनुसार, मुंबई और दिल्ली के मार्केट में ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) का वर्चस्व बना रहा है, जबकि बेंगलुरु में ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) और कोलकता में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहे हैं।

मुंबई में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 12.2 मिलियन श्रोताओं में ‘फीवर एफएम’ का मार्केट शेयर 16.9 प्रतिशत रहा है। श्रोताओं की हिस्सेदारी में ‘रेडियो मिर्ची’ 14.3 प्रतिशत शेयर के साथ दूसरे स्थान पर रहा। 13.7 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर है। सुबह 11 बजे से दोपहर 12 बजे तक यहां रेडियो सबसे ज्यादा सुना गया।

दिल्ली के मार्केट की बात करें तो 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 16.5 मिलियन श्रोताओं में 18.8 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ इस लिस्ट में पहले नंबर पर रहा है। दिल्ली के मार्केट में 14.2 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ दूसरे नंबर पर और 13.4 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेड एफएम’ तीसरे नंबर पर रहा है। यहां श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच रही।

वहीं, बेंगलुरु के 5.3 मिलियन श्रोताओं में 29.1 प्रतिशत लोगों ने ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) को सुना और यह इस लिस्ट में टॉप पर रहा। ‘बिग एफएम’ (Big FM) 24.5 प्रतिशत के साथ दूसरे और ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) 13.2 प्रतिशत के साथ तीसरे स्थान पर रहा। यहां सुबह 8 से 9 बजे के बीच श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा थी।

अब कोलकाता के मार्केट को देखें तो यहां एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोताओं में से 28.2 प्रतिशत श्रोताओं ने ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) को सुना और यह लिस्ट में टॉप पर रहा। 27 प्रतिशत श्रोताओं के साथ ‘बिग एफएम’ इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर है, जबकि ‘रेड एफएम’ इस लिस्ट में 16.3 प्रतिशत के साथ तीसरे नंबर पर है। सुबह 9:00 बजे से 10:00 बजे के बीच श्रोताओं की संख्या यहां सबसे ज्यादा रही है।

इस अवधि में बेंगलुरु और कोलकाता के लोगों ने सबसे ज्यादा रेडियो सुना। कोलकाता के सिवाय इन मेट्रो सिटीज में घर से बाहर रेडियो सुनने वालों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। इस अवधि में सभी मार्केट्स में रेडियो की पहुंच काफी रही। इस हफ्ते दिल्ली और मुंबई के मार्केट में घर से बाहर रेडियो सुनने वालों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए