नहीं रहे हिन्दुस्तान के वरिष्ठ संवाददाता रमेन्द्र सिंह

दैनिक हिन्दुस्तान के वरिष्ठ संवाददाता रमेन्द्र सिंह नहीं रहे। कोरोना संक्रमण के चलते गुरुवार को उनका निधन हो गया।

Last Modified:
Friday, 23 April, 2021
ramednrasingh51

दैनिक हिन्दुस्तान के वरिष्ठ संवाददाता रमेन्द्र सिंह नहीं रहे। कोरोना संक्रमण के चलते गुरुवार को उनका निधन हो गया। वाराणसी के भदवर स्थित हेरिटेज मेडिकल कॉलेज में उन्हें भर्ती कराया गया था।

उनके परिवार में उनकी पत्नी और एक बेटी है। हरिश्चंद्र घाट पर उनकी अंत्येष्टि हुई। दो भाइयों के भी संक्रमित होने के कारण साढ़ू ने मुखाग्नि दी।

लगभग दो दशक पूर्व पत्रकारिता की शुरुआत करने वाले रमेन्द्र सिंह वायरस की चपेट में आ गए थे। बुधवार रात तक वह अच्छी स्थिति में थे, लेकिन गुरुवार सुबह उनका ऑक्सीजन लेवल नीचे आने लगा। उनकी निगरानी कर रहे डॉक्टर ने गुरुवार सुबह वेंटीलेटर की व्यवस्था करने को कहा। रमेन्द्र सिंह को एंबुलेंस से हेरिटेज अस्पताल ले जाया गया। हेरिटेज में वेंटीलेटर की सुविधा मिली, लेकिन रमेन्द्र सिंह बचाए नहीं जा सके।

हरिश्चंद्र घाट पर मौजूद हिन्दुस्तान परिवार के सदस्यों ने हरदिल अजीज अपने साथी को अश्रुपूरित श्रद्धांजलि दी। कोरोना पीड़ितों की सेवा में अहर्निश लगे रहने वाले युवा सामाजिक कार्यकर्ता अमन कबीर ने जरूरी व्यवस्थाएं कराई।

विनम्रता, मिलनसारिता, सौम्यता के धनी रमेन्द्र सिंह ने विगत डेढ़ दशक के दौरान शैक्षणिक पत्रकारिता में विशिष्ट पहचान बनाई थी। बेसिक से लेकर उच्च शिक्षा से जुड़े सभी आयामों पर उन्होंने सफल लेखनी चलाई। मौसम संबंधी खबरों में भी उनकी अच्छी दखल थी। इस दौरान उन्होंने कई युवाओं को अखबारनवीसी भी सिखाई। हिन्दुस्तान के दफ्तर से लेकर कार्यक्षेत्र तक सभी के लिए अजातशत्रु रहे रमेन्द्र सिंह के निधन की जिसने भी खबर सुनी, स्तब्ध रह गया। कई शैक्षणिक, सामाजिक और व्यापारी संगठनों ने वरिष्ठ पत्रकार के निधन पर शोक व्यक्त किया है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

कॉरपोरेट सेक्टर की बारीकियों से रूबरू कराती है हरीश एम भाटिया की ये किताब

इस किताब में हरीश भाटिया ने 38 साल से ज्यादा के अपने प्रोफेशनल करियर के दौरान कॉरपोरेट सेक्टर में आए उतार-चढ़ावों के बारे में लिखा है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Monday, 06 December, 2021
Last Modified:
Monday, 06 December, 2021
Harrish Bhatia

मीडिया दिग्गज और ‘डीबी कॉर्प लिमिटेड’ (DB Corp Ltd) के प्रेजिडेंट (सेल्स और मार्केटिंग) हरीश एम भाटिया ने हाल ही में अपनी दूसरी किताब ‘Management and Life Lessons from Ground Zero‘ लॉन्च की है। इस किताब में हरीश भाटिया ने 38 साल से ज्यादा के अपने प्रोफेशनल करियर में आए उतार-चढ़ावों के बारे में लिखा है।

इस किताब को मैनेजमेंट गुरु डॉ. विवेक बिंद्रा ने लॉन्च किया। उन्होंने कहा कि यह किताब कॉरपोरेट सेक्टर की बारीकियों को सिखाती है। ‘एलजी इंडिया’ (LG India) के पूर्व सीओओ डॉ. वाई.वी. वर्मा का कहना है, ‘हमारी युवा पीढ़ी का वैल्यू सिस्टम तेजी से बदल रहा है, ऐसे में यह किताब उन्हें एक बेहतर रास्ता दिखाने में मदद करेगी।’ वहीं, ‘दैनिक भास्कर’ (Dainik Bhaskar) की मुख्य जनविकास अधिकारी रचना कामरा का कहना है, ‘हरीश की दृढ़ता उनकी खासियत है और उन्हें दूसरों से अलग बनाती है। अगर वह कुछ करने के लिए ठान लेते हैं तो फिर ऐसा करके ही रहते हैं।’   

वहीं, हरीश एम भाटिया का कहना है, ‘मेरे करियर की शुरुआत में सही मार्गदर्शक मिलना कुछ ऐसा था, जिसने मुझे इस स्तर तक पहुंचने में मदद की। यह पुस्तक मेरे अनुभव और ज्ञान को दूसरों, विशेष रूप से हमारे युवा पेशेवरों के साथ साझा करने में मदद करने के लिए मेरी ओर से एक छोटा सा प्रयास है, ताकि वे अपने करियर को प्रभावी ढंग से चुन सकें और सही दिशा में आगे बढ़ सकें।’

हरीश ने इस किताब को अपने मार्गदर्शक और प्रेरणास्रोत, 'मिलाग्रो' (Milagrow) के संस्थापक और सीईओ राजीव करवाल (अब दिवंगत) को समर्पित किया, जिन्हें भारत में 'एलजी' को लाने का श्रेय भी दिया जाता है। किताब की लॉन्चिंग के मौके पर विवेक श्रीवास्तव (Joint MD, Innocean Worldwide), अनुज शर्मा (Management Consultant, Former Sales Head-Idea Cellular), चित्रा नारायणन (Editorial Consultant at The Hindu Business Line), संजीव मल्होत्रा (Publisher of the book), संजीव बख्शी ( Head-Product Business Group, Reliance Retail) और गिर्राज शर्मा (Founder Director - BehindtheMoon Consultants) भी मौजूद थे।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

‘लोकसत्ता’ के संपादक गिरीश कुबेर पर फेंकी गई स्याही, नेताओं ने की निंदा

मराठी दैनिक अखबार ‘लोकसत्ता’ के संपादक व वरिष्ठ पत्रकार गिरीश कुबेर पर एक संगठन के संदिग्ध कार्यकर्ताओं द्वारा स्याही फेंके जाने का मामला सामने आया है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Monday, 06 December, 2021
Last Modified:
Monday, 06 December, 2021
GirishKuber45454

मराठी दैनिक अखबार ‘लोकसत्ता’ के संपादक व वरिष्ठ पत्रकार गिरीश कुबेर पर एक संगठन के संदिग्ध कार्यकर्ताओं द्वारा स्याही फेंके जाने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है यह घटना महाराष्ट्र में आयोजित 94वें अखिल भारतीय मराठी साहित्य सम्मेलन के दौरान रविवार को करीब दो बजे घटी।

इसके पीछे संभाजी ब्रिगेड के कार्यकर्ताओं का हाथ होने की आशंका जताई जा रही है, क्योंकि वे कुबेर की किताब (Renaissance State: The Unwritten Story of the Making of Maharashtra) में छत्रपति शिवाजी महाराज के पुत्र छत्रपति संभाजी महाराज के बारे में दिए गए कुछ संदर्भों से नाराज थे।

वरिष्ठ पत्रकार गिरीश कुबेर रविवार को यहां कुसुमाग्रज नगरी आए हुए थे, जहां साहित्यिक सम्मेलन चल रहा है। उनका एक संगोष्ठी में भाग लेने का कार्यक्रम था। जब वह मुख्य पंडाल के मंच के पीछे खड़े थे, तभी दो-तीन अज्ञात व्यक्ति उनके पास आए और उन पर स्याही फेंक दी, जो उनके चेहरे, बालों और कमीज पर गिरी। मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों पर भी कुछ स्याही गिरी। इस घटना के बाद इलाके में पुलिस सुरक्षा बढ़ा दी गई है

इस घटना की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी प्रमुख शरद पवार और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता देवेंद्र फडणवीस ने निंदा की। शरद पवार ने कहा कि एक लेखक पर उसके काम के विरोध में हमला किया जाना अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के सिद्धांत पर हमले के समान है। उन्होंने कहा, 'मैं इस घटना की निंदा करता हूं, जो महाराष्ट्र की छवि के अनुकूल नहीं है।'

पवार ने कहा कि उन्होंने कुबेर की किताब पढ़ी है। उन्होंने कहा, 'हालांकि इस किताब के कुछ हिस्सों को लेकर विवाद है, लेकिन कुबेर को भी अपनी बात रखने का अधिकार है। जो लोग उनके विचारों से असहमत हैं, उन्हें भी उनका विरोध करने का अधिकार है, लेकिन इस तरह का हमला स्वीकार्य नहीं है।'

महाराष्ट्र विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष फडणवीस ने कहा कि छत्रपति संभाजी महाराज के खिलाफ लिखी गई किसी भी बात की निंदा की जानी चाहिए, लेकिन एक साहित्य सम्मलेन के दौरान स्याही फेंकना ठीक नहीं है। उन्होंने कहा,  'अगर तथ्यात्मक रूप से कुछ गलत है, तो तथ्यों और सबूतों के साथ उसका जवाब देना चाहिये।'

 

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

युवा पत्रकार गंगा कुमारी ने दैनिक जागरण को बोला बाय, अब जॉइन किया ये अखबार

युवा पत्रकार गंगा कुमारी ने ‘दैनिक जागरण’ को बाय बोल दिया है। वह करीब तीन साल से इस अखबार के नोएडा कार्यालय में अपनी जिम्मेदारी निभा रही थीं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Saturday, 04 December, 2021
Last Modified:
Saturday, 04 December, 2021
Ganga Kumari

युवा पत्रकार गंगा कुमारी ने ‘दैनिक जागरण’ को बाय बोल दिया है। वह करीब तीन साल से इस अखबार के नोएडा कार्यालय में अपनी जिम्मेदारी निभा रही थीं। गंगा ने अपना नया सफर अब ‘जनसत्ता’ अखबार के साथ शुरू किया है। यहां पर वह जनरल डेस्क पर अपनी जिम्मेदारी संभाल रही हैं।

मूल रूप से पटना (बिहार) की रहने वालीं गंगा कुमारी ने ग्रेटर नोएडा के गलगोटिया कॉलेज से पत्रकारिता में पोस्ट ग्रेजुएशन किया है। उन्होंने पत्रकारिता के क्षेत्र में अपने करियर की शुरुआत ‘दैनिक जागरण’ से की थी।

समाचार4मीडिया की ओर से गंगा कुमारी को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अपनी शादी से करोड़ों कमाएंगे विक्की-कटरीना, इंटरनेशनल मैगजीन से की ये डील!

बॉलीवुड एक्ट्रेस कटरीना कैफ और विक्की कौशल इन दिनों अपनी शादी की खबरों की वजह से चर्चाओं में बने हुए हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 03 December, 2021
Last Modified:
Friday, 03 December, 2021
VickyKaushal5456

बॉलीवुड एक्ट्रेस कटरीना कैफ और विक्की कौशल इन दिनों अपनी शादी की खबरों की वजह से चर्चाओं में बने हुए हैं। दावा किया जा रहा है कि कटरीना कैफ और विक्की कौशल 7 से 9 दिसंबर के बीच शादी के बंधन में बंधेंगे, जिसके लिए लगभग सारी तैयारियां भी हो चुकी हैं। इतना ही नहीं, दोनों की गेस्ट लिस्ट से लेकर वेडिंग आउटफिट तक की जानकारी सामने आ गई है। लेकिन अब कटरीना कैफ और विक्की कौशल की शादी से जुड़ी एक और जानकारी सामने आई है। कहा जा रहा है कि दोनों ने प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस के नक्शेकदम पर चलने का फैसला किया है। दोनों ने प्रियंका और निक जोनस की तरह ही अपनी शादी की फोटोज के राइट्स एक इंटरनेशनल मैगजीन को दिए हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कटरीना कैफ और विक्की कौशल की शादी की फोटोज की ये डील करोड़ों में फाइनल हुई है और यह डील को कटरीना और उनकी टीम की तरफ से की गई है। उन्होंने ही मैगजीन से बातचीत की है और इस डील को क्लोज किया है। बताया यह भी जा रहा है कि जल्द ही कटरीना की टीम मैगजीन के इंडियन एडिशन से भी एक डील फाइनल करेगी। 

विक्की और कटरीना राजस्थान के सिक्स सेंसेज बरवाड़ा फोर्ट होटल में सात फेरे लेंगे। दोनों की शादी की रस्में 7 से 9 दिसंबर तक चलेगी। बताया जा रहा है कि विक्की-कटरीना ने शादी में ‘नो फोन, नो फोटो ’ की शर्ते रखी हैं। यानी गेस्ट को फोन अंदर लेकर जाने की अनुमति नहीं होगी। शादी की कोई भी फोटो बाहर न आ सके, इसके लिए शादी में आने वाले गेस्ट से पहले ही नॉन डिस्क्लोजर एग्रीमेंट पर साइन कराया जाएगा, ताकि वह शादी की कोई भी तस्वीर सोशल मीडिया पर साझा न कर पाएं। इस एग्रीमेंट के तहत कोई भी गेस्ट शादी से जुड़ें फोटो, वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड नहीं कर पाएंगे।

बताया जा रहा है कि शादी के वेन्यू में सिर्फ कुछ ही जगह होगी, जहां पर फोन इस्तेमाल करने की इजाजत होगी। इससे साफ है कि कटरीना और विक्की कौशल की शादी की तस्वीरें वह खुद ही सोशल मीडिया पर शेयर करेंगे। कोई भी मेहमान उनकी शादी और उससे पहले होने वाली रस्मों की फोटोज शेयर नहीं करेगा। 

इससे पहले एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा और अमेरिकी सिंगर निक जोनस ने भी यही स्टैटजी अपनाई थी। दोनों ने वोग मैगजीन को अपनी शादी की फोटोज के राइट्स बेटे थे, जिसकी कीमत 2.5 मिलियन अमेरिकी डॉलर बताई गई थी।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

India Today समूह में साक्षी कोहली का कद बढ़ा, अब मिली ये जिम्मेदारी

कोहली ‘इंडिया टुडे’ समूह के साथ 14 साल से अधिक समय से जुड़ी हुई हैं। उन्हें कम्युनिकेशन,मीडिया इवेंट्स, एंटरटेनमेंट और हॉस्पिटेलिटी इंडस्ट्री में काम करने का दो दशक से ज्यादा का अनुभव है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 02 December, 2021
Last Modified:
Thursday, 02 December, 2021
Sakshi Kohli

‘इंडिया टुडे’ (India Today) समूह से एक बड़ी खबर निकलकर सामने आई है। दरअसल, खबर यह है कि ‘इंडिया टुडे’ समूह ने साक्षी कोहली को प्रमोट कर उन्हें समूह की लाइफ स्टाइल डिवीजन का पब्लिशर बनाया है।  

अपनी इस नई भूमिका में ग्रुप के इवेंट्स और सीएसआर (Corporate social responsibility) का नेतृत्व करने के साथ-साथ कोहली ‘हार्पर बाजार’ (Harper’s Bazaar), ‘कॉस्मोपॉलिटन’ (Cosmopolitan) और ‘ब्राइड्स टुडे’ (Brides Today) का बिजनेस भी देखेंगी और बिजनेस के सभी पक्षों जैसे-टॉप लाइन, बॉटम लाइन, मार्केटिंग, ग्रोथ, न्यू इनिशिएटिव, मार्केट शेयर और इवेंट्स के लिए जिम्मेदारी होंगी। वह लाइफ स्टाइल डिवीजन की डिजिटल और प्रिंट एडिटर नंदिनी भल्ला के साथ मिलकर काम करेंगी।

कोहली ‘इंडिया टुडे’ समूह के साथ 14 साल से अधिक समय से जुड़ी हुई हैं। उन्हें कम्युनिकेशन, ब्रैंड बिल्डिंग, मीडिया इवेंट्स, एंटरटेनमेंट और हॉस्पिटेलिटी इंडस्ट्री में काम करने का दो दशक से ज्यादा का अनुभव है। इससे पहले वह ‘ताज ग्रुप ऑफ होटल्स’ और ‘द ओबेरॉय ग्रुप’ में लंबी पारी खेल चुकी हैं और कम्युनिकेशंस, प्रॉडक्ट लॉन्चिंग व मार्केटिंग आदि में तमाम प्रमुख जिम्मेदारी निभा चुकी हैं।

इस बारे में ‘इंडिया टुडे’ समूह की वाइस चेयरपर्सन कली पुरी का कहना है, ‘मुझे विश्वास है कि नंदिनी और साक्षी एक शानदार तरीके से आगे बढ़ेंगी और लाइफस्टाइल डिवीजन को और नई ऊंचाइयों पर ले जाएंगी।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

दैनिक भास्कर के रिपोर्टर को जान से मारने की धमकी, किया था ये स्टिंग

दैनिक भास्कर की एक रिपोर्ट के मुताबिक, देश के 25 शहरों में ये काला धंधा करने वाला फ्रांस का सरगना माइकल अब लगातार उसके रिपोर्टर को जान से मारने की धमकी दे रहा है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 01 December, 2021
Last Modified:
Wednesday, 01 December, 2021
DB574

देश में नकली नोटों का कारोबार धड़ल्ले से चल रहा है और इसका बड़ा अड्‌डा दिल्ली जैसी कैपिटल सिटीज को बताया जा रहा हैं। हिंदी के प्रतिष्ठित अखबार ‘दैनिक भास्कर’ ने अपने एक स्टिंग ऑपरेशन में इसका खुलासा किया है और बताया कि इस कारोबार में देश के कई शहर और वहां के लोग शामिल हैं, लेकिन इसके सरगना फ्रांस और अफ्रीकी देशों में बैठे हैं। भास्कर की इस रिपोर्ट के बाद इस काले कारोबार को बहुत बड़ा नुकसान हुआ है और नुकसान की बात देश के 25 शहरों में ये काला धंधा करने वाला फ्रांस का सरगना माइकल ने खुद स्टिंग को अंजाम देने वाले दैनिक भास्कर के रिपोर्टर जयदीप शर्मा से कही है। माइकल ने बताया कि उसे 37.5 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है।

दैनिक भास्कर की एक रिपोर्ट के मुताबिक, ये इंटरनेशनल क्रिमिनल अब लगातार उसके रिपोर्टर को जान से मारने की धमकी दे रहा है। पत्रकार जयदीप शर्मा के मुताबिक, 'माइकल ने उन्हें मैसेज किया कि तुम बहुत बुरे इंसान हो। मैं तुम्हें छोड़ूंगा नहीं। तुमने मेरे आदमी को पुलिस स्टेशन पहुंचाया और पुलिस अब उसे अफ्रीका डिपोर्ट करने जा रही है। तुम्हारी वजह से भारत में मुझे 37.5 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। अब मेरी जिंदगी का मकसद केवल तुम्हें बर्बाद करना है। मैं बर्बाद हो गया हूं और अब मैं तुम्हें भी नहीं छोड़ूंगा। और, कुछ भी करने से पहले मेरे बारे में गूगल पर सर्च कर लेना।'

वहीं इस मैसेज के बाद पत्रकार जयदीप शर्मा ने क्रिमिनल माइकल को जवाब दिया, 'देश की इकोनॉमी को बचाने के लिए मैंने अपना योगदान किया है और इसमें अगर मेरी जान चली जाती है तो ये मेरा सौभाग्य होगा। किडनी का कारोबार करने वालों को उजागर करने के लिए मैं 40 दिन अस्पताल में रहा। मैं किडनी माफिया से नहीं डरा तो तुम्हारी क्या औकात है। और तुम कुछ भी करने से पहले मेरे बारे में गूगल पर सर्च कर लेना।

रिपोर्टर के मुताबिक, माइकल ने उन्हें फिर धमकाया कि वह मेरा पता जानता है। उसने कहा कि मैं राजस्थान के गांव में रहता हूं और वो मुझे और मेरे परिवार को छोड़ेगा नहीं। माइकल ने मेरी लोकेशन की तस्वीर भेजकर मुझसे कहा कि उसके लड़के मुझ तक पहुंचने वाले हैं।

दैनिक भास्कर की एक रिपोर्ट के मुताबिक, उसकी टीम ने फ्रांस में बैठे सरगना से 15 दिन पहले कॉन्टैक्ट किया था। वॉट्सऐप पर चली बातचीत के बाद वो महज 5 दिन पहले नकली नोटों की डील के लिए राजी हो गया। इसके बाद दैनिक भास्कर की टीम राजस्थान के बांसवाड़ा से करीब 777 किमी का सफर तय कर डील के लिए दिल्ली पहुंचे और इस स्टिंग ऑपरेशन को अंजाम दिया।

बीते सोमवार को दैनिक भास्कर के इस ऑपरेशन के दौरान ही सरगना का भारत में कारोबार संभालने वाला साउथ अफ्रीकी गुर्गा पुलिस के हत्थे चढ़ा गया। उसने कबूल किया कि भारत के 25 शहरों में नकली नोटों का धंधा फ्रांस से ऑपरेट हो रहा है।

दैनिक भास्कर के स्टिंग ऑपरेशन से जुड़ी पूरी खबर यहां पढ़ें-

देश के 25 शहरों में जाली करेंसी का रैकेट; फ्रांस के सरगना की डील- 25 लाख दो, एक करोड़ के नकली नोट लो

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

विज्ञापन के लंबित बिलों का भुगतान न होने पर पत्रकार संगठनों ने सरकार को दी ये चेतावनी

पत्रकार संगठनों का कहना है कि प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया दोनों ही सरकारी नीतियों और गतिविधियों की निंदा करेगा और तो और सरकारी खबरों का बहिष्कार भी किया जाएगा

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 30 November, 2021
Last Modified:
Tuesday, 30 November, 2021
Media5434

एडिटर्स गिल्ड ऑफ मणिपुर (EGM) और मणिपुर हिल जर्नलिस्ट्स यूनियन (MHJU) ने मणिपुर सरकार से लंबित पड़े सरकारी विज्ञापन बिलों को मंजूरी देने का आग्रह किया है। पत्रकार संगठनों ने सूचना मंत्री टी. बिश्वजीत और मुख्यमंत्री एन. बीरेन सहित अन्य से आग्रह किया कि 10 दिसंबर तक सभी लंबित पड़े सरकारी विज्ञापन बिलों को मंजूरी दी जाए, अन्यत: उसे अनचाहे कदम उठाने पर मजबूर होना पड़ेगा।

'द हिन्दू' की एक रिपोर्ट के मुताबिक, पत्रकार संगठनों का कहना है कि प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया दोनों ही सरकारी नीतियों और गतिविधियों की निंदा करेगा और तो और सरकारी खबरों का बहिष्कार भी किया जाएगा (कानून-व्यवस्था को छोड़कर)।

EGM और MHJU के अध्यक्ष खोगेंद्र खोमद्रम और पीटर अडानी ने 27 नवंबर को सूचना मंत्री टी. बिश्वजीत को एक ज्ञापन सौंपा, जिसमें कहा गया है कि प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के कई लाख रुपए के सरकारी विज्ञापनों की राशि लंबे समय से अटकी हुयी है। लिहाजा प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया की संयुक्त बैठक में लंबित पड़े सरकारी विज्ञापन बिलों की मंजूरी के लिए 10 दिसंबर की समय सीमा तय की गई।
ज्ञापन में कहा गया, ‘यह सच है कि कोविड-19 का असर सरकार और मीडिया इंडस्ट्री समेत अन्य इंडस्ट्री पर भी पड़ा है। लेकिन मीडिया महामारी से लड़ने का एक हथियार बना है। मीडिया एम्प्लॉयीज ने जोखिम के बावजूद अपना काम जारी रखा।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

विवादों में घिरी यह ऑनलाइन मैगजीन, पब्लिश की भगवान शिव की आपत्तिजनक फोटो

आतंकवादी संगठन आईएसआईएस से जुड़ी एक ऑनलाइन मैगजीन विवादों में है। दरअसल मैगजीन के फ्रंट पर भगवान शिव की एक फोटो को प्रकाशित किया गया है, जिसका सिर गायब है

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 24 November, 2021
Last Modified:
Wednesday, 24 November, 2021
Magazine

आतंकवादी संगठन आईएसआईएस से जुड़ी एक ऑनलाइन मैगजीन विवादों में है। दरअसल मैगजीन के फ्रंट पर भगवान शिव की एक फोटो को प्रकाशित किया गया है, जिसका सिर गायब है। इस प्रोपेगैंडा मैगजीन का नाम 'वॉयस ऑफ हिंद' है।

बता दें कि भगवान शिव के सिर की जगह पर संगठन का झंडा लगाया गया है और नीचे लिखा है ‘इट इज टाइम टू ब्रेक द फॉल्स गॉड्स’ अर्थात 'झूठे भगवानों को खत्म करने का समय आ चुका है।' वैसे यह मूर्ति कर्नाटक में उत्तर कन्नड़ जिले के मुरुदेश्वर शहर के समुद्र तट पर स्थित 123 फीट ऊंची प्रसिद्ध शिव प्रतिमा जैसी प्रतीत हो रही है। यह एक बेहद प्रसिद्ध तीर्थ स्थल है। इस तस्वीर को लोग सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे हैं जो कई जगह तनाव का कारण भी बन रही है।

खुद को एनालिस्ट बताने वाले अंशुल सक्सेना ने ट्विटर पर सबसे पहले यह फोटो शेयर की थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शेयर की गई इस फोटो ने कर्नाटक में सांप्रदायिक रूप से संवेदनशील तटीय जिले उत्तर कन्नड़ में तनावपूर्ण स्थिति पैदा कर दी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ऑनलाइन मैगजीन कवर में भगवान शिव की इस तरह की फोटो को लेकर हिंदू संगठन गुस्से में हैं। स्थिति को देखते हुए कर्नाटक सरकार ने मुरुदेश्वर मंदिर की सुरक्षा कड़ी कर दी है। मुरुदेश्वर तटीय शहर भटकल शहर के बहुत करीब स्थित है, जो भारतीय खुफिया एजेंसियों की लगातार निगरानी में है।

बता दें कि आतंकी यासीन भटकल इसी शहर का रहने वाला है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

115 साल पुराने अखबार पर लगा प्रतिबंध, जानिए इसके पीछे की वजह

बेलारूस के सबसे पुराने अखबार को मंगलवार को प्रतिबंधित कर दिया गया और वह भी तब जब वह अपनी स्थापना की 115वीं वर्षगांठ मना रहा था।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 24 November, 2021
Last Modified:
Wednesday, 24 November, 2021
newspaper

बेलारूस के सबसे पुराने अखबार को मंगलवार को प्रतिबंधित कर दिया गया और वह भी तब जब वह अपनी स्थापना की 115वीं वर्षगांठ मना रहा था। इसे स्वतंत्र मीडिया पर सरकार की कठोर कार्रवाई का ताजा उदाहरण माना जा रहा है।

समाचार पत्र ‘नशा निवा’ को मिन्स्क में केन्द्रीय जिला अदालत ने कट्टरपंथी बताते हुए अवैध घोषित किया। अदालत ने सूचना मंत्रालय के अनुरोध पर यह कार्रवाई की। ‘नशा निवा’ की किसी भी सामग्री को प्रसारित या प्रचारित करने वाले को सात साल तक की कैद हो सकती है।

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, बेलारूस के अधिकारियों ने ऑनलाइन समाचार पत्र को जुलाई में बंद कर दिया था और उसके मुख्य संपादक याहोर मार्टसिनोविच और पत्रकार एंड्री स्कर्को को गिरफ्तार कर लिया था। वे अब भी हिरासत में हैं। वैसे ‘नशा निवा’ समाचार पत्र को ऑनलाइन प्रकाशित करने वाले अधिकतर पत्रकारों ने देश छोड़ दिया है।

बताते चलें कि बेलारूस के करीब 29 पत्रकार हिरासत में हैं, जो या तो अपनी सजा काट रहे हैं या अपने मुकदमे की सुनवाई का इंतजार कर रहे हैं।

‘बेलारूस पत्रकार संघ’ के प्रमुख आंद्रेई बास्टुनेट्स ने कहा, ‘अधिकारियों द्वारा सभी को कट्टरपंथी बताकर, बेलारूस के स्वतंत्र मीडिया को तबाह करना जारी है। बेलारूस में स्थिति क्यूबा तथा ईरान से भी बदतर है और उत्तर कोरिया के मानदंडों के करीब पहुंच रही है।’

उन्होंने कहा कि ‘नशा निवा’ का राष्ट्रीय विरासत के हिस्से के रूप में स्कूल की पाठ्यपुस्तकों में व्यापक रूप से उल्लेख किया गया है। अभी यह तुरंत स्पष्ट नहीं है कि इस पर प्रतिबंध के बाद बेलारूस के अधिकारी स्थिति को कैसे संभालेंगे।

गौरतलब है कि ‘नशा निवा’ ने बड़े पैमाने पर सरकार विरोधी प्रदर्शनों पर खबरें दी हैं, जो अगस्त 2020 के राष्ट्रपति चुनाव के बाद अलेक्सांद्र लुकाशेंको के छठी बार राष्ट्रपति का कार्यकाल संभालने के बाद शुरू हुए थे। विपक्ष और पश्चिम ने राष्ट्रपति चुनाव में धांधली होने की बात कही है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

पत्रकार नवनीत मिश्रा ने 'राजस्थान पत्रिका' से किया नई पारी का आगाज, निभाएंगे यह जिम्मेदारी

राजनीतिक रिपोर्टिंग में गहरी रुचि रखने वाले युवा पत्रकार नवनीत मिश्रा ने ‘राजस्थान पत्रिका’ (Rajasthan Patrika) के साथ अपनी नई पारी शुरू की है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 17 November, 2021
Last Modified:
Wednesday, 17 November, 2021
Navneet Mishra

राजनीतिक रिपोर्टिंग में गहरी रुचि रखने वाले युवा पत्रकार नवनीत मिश्रा ने ‘राजस्थान पत्रिका’ (Rajasthan Patrika) के साथ अपनी नई पारी शुरू की है। उन्होंने ‘राजस्थान पत्रिका’ के दिल्ली स्थित नेशनल ब्यूरो में बतौर स्पेशल करेसपॉन्डेंट जॉइन किया है। यहां पर वह बीजेपी/आरएसएस और केंद्र सरकार से जुड़े मामले कवर करेंगे।

‘राजस्थान पत्रिका’ से पूर्व नवनीत मिश्रा करीब दो साल से बतौर प्रिंसिपल पॉलिटिकल करेसपॉन्डेंट न्यूज एजेंसी ‘आईएएनएस’ (IANS) में अपनी भूमिका निभा रहे थे। ‘आईएएनएस’ में भी उनके पास सरकार/पीएमओ/बीजेपी जैसी प्रमुख बीट थीं। उन्होंने संघ और बीजेपी से जुड़ीं कई खबरें ब्रेक कीं।

मूल रूप से जौनपुर (उत्तर प्रदेश) के रहने वाले नवनीत मिश्रा को मीडिया के क्षेत्र में काम करने का करीब दस साल का अनुभव है। इस दौरान वह ‘आजतक‘ और ‘एनडीटीवी‘ की डिजिटल टीम समेत ‘जनसत्ता‘, दैनिक जागरण‘ और ‘अमर उजाला‘ जैसे प्रतिष्ठित मीडिया संस्थानों में अपनी जिम्मेदारी निभा चुके हैं। इसके अलावा वह ‘इंडिया संवाद’ वेबसाइट में भी अपनी भूमिका निभा चुके हैं।

पढ़ाई-लिखाई की बात करें तो नवनीत मिश्रा ने जौनपुर की ‘वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल यूनिवर्सिटी’ से मास कम्युनिकेशन में पोस्ट ग्रेजुएशन किया है। समाचार4मीडिया की ओर से नवनीत मिश्रा को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए