मुंबई प्रेस क्लब ने की RedInk अवॉर्ड्स की घोषणा, इन वरिष्ठ पत्रकारों को करेगा सम्मानित

पत्रकारिता के क्षेत्र में उल्‍लेखनीय योगदान के लिए ‘मुंबई प्रेस क्‍लब’ की ओर से दिए जाने वाले ‘रेडइंक अवॉर्ड्स’ (RedInk Awards) की घोषणा कर दी गयी है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Monday, 27 December, 2021
Last Modified:
Monday, 27 December, 2021
redinkawards5454

पत्रकारिता के क्षेत्र में उल्‍लेखनीय योगदान के लिए ‘मुंबई प्रेस क्‍लब’ की ओर से दिए जाने वाले ‘रेडइंक अवॉर्ड्स’ (RedInk Awards) की घोषणा कर दी गयी है। यह अवॉर्ड इस साल 29 दिसंबर को एक डिजिटल कार्यक्रम के दौरान प्रदान किया जाएगा। कार्यक्रम में वरिष्‍ठ पत्रकार प्रेंमशंकर झा (83) को ‘लाइफटाइम एचीवमेंट अवॉर्ड’ से सम्मानित किया जाएगा, तो वहीं  फोटो-पत्रकार दानिश सिद्दीकी को साल 2020 के लिए मरणोपरांत ‘जर्नलिस्ट ऑफ द ईयर’ अवॉर्ड से सम्मानित किया जाएगा।

इस डिजिटल कार्यक्रम में भारत के मुख्य न्यायाधीश एन.वी. रमण विजेताओं को ‘रेडइंक अवार्ड्स फॉर एक्सीलेंस इन जर्नलिज्म’ प्रदान करेंगे और मुख्य वक्ता के तौर पर अपने विचार व्यक्त करेंगे। अवॉर्ड समारोह के 10वें संस्करण के तहत सिद्दीकी और झा के अलावा, 24 अन्य विजेताओं को 12 श्रेणियों में पुरस्कृत किया जाएगा।

बता दें कि फोटो-पत्रकार दानिश सिद्दीकी की अफगानिस्तान में युद्ध कवरेज के दौरान मृत्यु हो गई थी। सिद्दीकी ने लंबे समय तक देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में काम किया था। बाद में वह नई दिल्ली चले गए थे और वह न्यूज एजेंसी ‘रॉयटर्स’ के मुख्य फोटोग्राफर थे।

मुंबई प्रेस क्लब ने जारी बयान में कहा कि सिद्दीकी को रोहिंग्याओं और संशोधित नागरिकता कानून के विरोध में हुए आंदोलन से लेकर कोविड-19 और अफगानिस्तान गृहयुद्ध तक उनकी बेहतरीन तस्वीरों के लिए सम्मानित किया जा रहा है।

प्रेस क्लब की ओर से कहा गया है कि वरिष्ठ पत्रकार और लेखक प्रेम शंकर झा (83) को उनकी आजीवन उपलब्धियों के लिए रेडइंक पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

नहीं रहे वयोवृद्ध पत्रकार सत सोनी

वयोवृद्ध पत्रकार एवं लेखक सत सोनी का गुरुवार की देर रात निधन हो गया है।

Last Modified:
Friday, 27 May, 2022
satsoni545

वयोवृद्ध पत्रकार एवं लेखक सत सोनी का गुरुवार की देर रात निधन हो गया है। करीब 89 वर्षीय सत सोनी ने गुरुग्राम के एक निजी अस्पताल में अंतिम सांस ली। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सत सोनी के परिवार ने शुक्रवार को एक बयान में यह जानकारी दी है। 

सत सोनी के परिवार ने अपने बयान में कहा है, ‘देश के सबसे वरिष्ठ हिंदी पत्रकारों में से एक सत सोनी का गुरुवार को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में निधन हो गया। उन्होंने 1951 में उर्दू दैनिक ‘मिलाप’ से पत्रकारिता में अपना करियर शुरू किया था। बाद में वह 50 के दशक के मध्य में बेनेट कोलमैन एंड कंपनी से जुड़ गए और 1979  तक ‘नवभारत टाइम्स’ में कार्यरत रहे। 1979 में ‘सांध्य टाइम्स’ का प्रकाशन शुरू होने पर सोनी को इसकी जिम्मेदारी सौंपी गई और कुछ समय में यह समाचार पत्र देश का सर्वाधिक बिकने वाला सांध्य हिंदी दैनिक बन गया।’ 

बयान में कहा गया है कि म्यांमार (तब बर्मा) के मांडले में जन्मे सोनी द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान जापानी आक्रमण के मद्देनजर 1944 में पंजाब चले गए थे। सत सोनी ने पूर्व राष्ट्रपति ज्ञानी जैल सिंह की जीवनी सहित कई किताबें भी लिखीं। सत सोनी के परिवार में पत्नी, पुत्र, पुत्रवधू और दो पौत्र हैं। बता दें कि सत सोनी पहले दिल्ली के गुलमोहर पार्क में रहते थे, लेकिन करीब दो दशक से गुरुग्राम में रह रहे थे।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

SC ने दिया निर्देश, भारतीय प्रेस परिषद से किया जाना चाहिए ये आग्रह

जस्टिस एल नागेश्वर राव, बीआर गवई और एएस बोपन्ना की बेंच ने कहा कि भारतीय प्रेस परिषद से मीडिया के लिए उचित दिशा-निर्देश जारी करने का आग्रह किया जाना चाहिए

Last Modified:
Friday, 27 May, 2022
SC45

सुप्रीम कोर्ट ने वेश्यावृत्ति को पेशा मान लिया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि पुलिस इसमें दखलंदाजी नहीं कर सकती और न ही सहमति से यह काम करने वाले सेक्स वर्करों के खिलाफ कोई कार्रवाई कर सकती है। कोर्ट ने सभी राज्यों की पुलिस को सेक्स वर्कर्स और उनके बच्चों के साथ सम्मान के साथ व्यवहार करने का निर्देश दिया है।

पीठ ने निर्देश जारी करते हुए कहा कि इस देश में सभी व्यक्तियों को जो संवैधानिक संरक्षण प्राप्त हैं, उसे उन अधिकारियों द्वारा ध्यान में रखा जाए जो अनैतिक व्यापार (निवारण) अधिनियम 1956 के तहत कर्तव्य निभाते हैं।

वहीं, सुप्रीम कोर्ट में जस्टिस एल नागेश्वर राव, बीआर गवई और एएस बोपन्ना की बेंच ने यह भी कहा कि भारतीय प्रेस परिषद से मीडिया के लिए उचित दिशा-निर्देश जारी करने का आग्रह किया जाना चाहिए, ताकि गिरफ्तारी, छापेमारी और बचाव अभियान के दौरान यौनकर्मियों की पहचान उजागर न हो, चाहे वे पीड़ित हों या आरोपी हों और ऐसी किसी भी तस्वीर का प्रसारण या प्रकाशन नहीं हो, जिसके परिणामस्वरूप उनकी पहचान का खुलासा हो।

पीठ ने कहा कि यौन उत्पीड़न की पीड़ित किसी भी यौनकर्मी को कानून के अनुसार तत्काल चिकित्सा सहायता सहित यौन उत्पीड़न की पीड़िता को उपलब्ध सभी सुविधाएं मुहैया कराई जानी चाहिए।

पीठ ने कहा, ‘यह देखा गया है कि यौनकर्मियों के प्रति पुलिस का रवैया अक्सर क्रूर और हिंसक होता है। ऐसा लगता है कि वे एक वर्ग हैं जिनके अधिकारों को मान्यता नहीं है। पुलिस और अन्य कानून प्रवर्तन एजेंसियों को यौनकर्मियों के अधिकारों के प्रति संवेदनशील होना चाहिए जिन्हें सभी नागरिकों को संविधान में प्रदत्त सभी बुनियादी मानवाधिकार और अन्य अधिकार प्राप्त हैं। पुलिस को सभी यौनकर्मियों के साथ सम्मान के साथ व्यवहार करना चाहिए और उनके साथ मौखिक और शारीरिक दुर्व्यवहार नहीं करना चाहिए, उनके साथ हिंसा नहीं करनी चाहिए या उन्हें किसी भी यौन गतिविधि के लिए मजबूर नहीं करना चाहिए।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इन पाठ्यक्रमों के लिए विद्यार्थियों को स्कॉलरशिप देगा यूपीईएस स्कूल ऑफ मॉर्डन मीडिया

इस वर्ष छह छात्रवृत्तियां प्रदान की जाएंगी और इसके प्राप्तकर्ताओं को यूपीईएस द्वारा पूरे देश में प्रतियोगी प्रवेश परीक्षा के माध्यम से चुना जाएगा।

Last Modified:
Friday, 27 May, 2022
UPES

देहरादून स्थित ‘यूपीईएस स्कूल ऑफ मॉर्डन मीडिया‘ ने अपना डिजिटल-फर्स्ट मीडिया कार्यक्रम पूरा करने के लिए चुनिंदा छात्रों को पूर्ण छात्रवृत्ति (Scholarship) प्रदान करने की घोषणा की है। यह छात्रवृत्ति सभी स्नातक मीडिया कार्यक्रमों जैसे कि पत्रकारिता और जनसंचार में बीए, डिजिटल और मास मीडिया में बीए और इवेंट, जनसंपर्क व कॉर्पोरेट संचार में बीबीए के लिए दी जाएगी।

इस बारे में ‘यूपीईएस स्कूल ऑफ मॉर्डन मीडिया‘ का कहना है कि यह नई डिजिटल इनोवेशन स्कॉलरशिप, मेटा (पूर्व में फेसबुक) द्वारा वित्तपोषित है और गरीब छात्रों को विस्तृत होते डिजिटल मीडिया में कॅरियर का पहला कदम बढ़ाने में सहयोग देने के लिए आरक्षित है। इस वर्ष छह छात्रवृत्तियां दी जाएंगी और इसके प्राप्तकर्ता को यूपीईएस द्वारा पूरे देश में प्रतियोगी प्रवेश परीक्षा के माध्यम से चुना जाएगा।

इस घोषणा के बारे में यूपीईएस स्कूल ऑफ मॉर्डन मीडिया में डीन डॉ. नलिन मेहता का कहना है, ‘डिजिटल तकनीक कई सारे सामाजिक विभेद को खत्म करने वाली साबित हुई है और देश के पहले डिजिटल-फर्स्ट मीडिया स्कूल के रूप में पहुंच की बाधा हटाकर सबसे बेहतर और होनहार छात्रों को सर्वश्रेष्ठ डिजिटल मीडिया शिक्षा प्रदान करने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं। हमें इस बात की बेहद खुशी है कि मेटा, हमारे आरंभिक डिजिटल इनोवेशन स्कॉलरशिप पहल में फंड प्रदान कर हमारी सहायता कर रहा है।‘

डॉ. नलिन मेहता के अनुसार, ‘हमारा सारा ध्यान देश की सबसे बेहतरीन युवा प्रतिभाओं को अत्याधुनिक ट्रेनिंग देने और उन्हें डिजिटल मीडिया उद्योग के अनुरूप तैयार करने पर केंद्रित है। यह छात्रवृत्ति कार्यक्रम उन प्रतिभाशाली युवा छात्रों के लिए अवसरों के नए द्वार खोल रहा है जो आर्थिक रुकावटों की वजह से सबसे बेहतर अवसरों से पीछे छूट गए थे।‘

इस बारे में जारी विज्ञप्ति के अनुसार, यूपीईएस स्कूल ऑफ मॉडर्न मीडिया देश का एकमात्र डिजिटल-फर्स्ट मीडिया स्कूल है। इसके पाठ्यक्रम मीडिया क्षेत्र के सर्वश्रेष्ठ लोगों द्वारा डिजाइन, विकसित और वितरित किए गए हैं। छात्रों को नए जमाने की मीडिया शिक्षा प्रदान करने पर केंद्रित हैं। यह स्कूल छात्रों को अपने अत्याधुनिक स्टूडियो, उद्योग-अनुरूप पाठ्यक्रम, प्रख्यात पत्रकारों और प्रतिष्ठित मीडिया विद्वानों के साथ बातचीत और रोजगार-संबंधी प्रशिक्षण के माध्यम से लर्निंग को व्यवहार में लाने के लिये तैयार करता है। बता दें कि यूपीईएस की संस्थापना वर्ष 2003 में उत्तराखण्ड विधानसभा के यूपीईएस एक्ट, 2003 द्वारा हुई थी, यह यूजीसी से मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी है और इसे ‘National Assessment and Accreditation Council’ (एनएएसी) से ग्रेड ‘ए’ मिला है।

यूपीईएस अपने आठ स्कूलों के माध्यम से ग्रेजुएट और पोस्टग्रेजुएट प्रोग्राम्स की पेशकश करती है। इनमें स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग, स्कूल ऑफ कंप्यूटर साइंस, स्कू‍ल ऑफ डिजाइन, स्कूल ऑफ लॉ, स्कूल ऑफ बिजनेस, स्कू‍ल ऑफ हेल्थ साइंसेस एंड टेक्नोकलॉजी, स्कू‍ल ऑफ मॉडर्न मीडिया और स्कूल ऑफ लिबरल स्ट‍डीज शामिल हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

मथुरा में इस कार्यक्रम में पत्रकारिता की दिशा व दशा पर होगी चर्चा, शामिल होंगी ये हस्तियां

30 मई को होने वाले इस समारोह में उत्कृष्ट कार्य करने वाले पत्रकारों तथा विभिन्न क्षेत्रों में कार्य कर रही प्रतिभाओं को सम्मानित भी किया जाएगा।

Last Modified:
Thursday, 26 May, 2022
Press

‘नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स-इंडिया’ (एनयूजेआई), ब्रज प्रेस क्लब और ‘यूपी जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन’ (उपजा) के संयुक्त तत्वावधान में गणेश शंकर विद्यार्थी की याद में 30 मई को 30वां पत्रकारिता दिवस समारोह आयोजित किया जाएगा। मथुरा के होटल ब्रजवासी रॉयल में दो सत्रों में इस कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा।

प्रथम सत्र के कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि एवं केंद्रीय सड़क परिवहन राजमार्ग राज्यमंत्री जनरल डॉ. वीके सिंह द्वारा किया जाएगा। वहीं, दूसरे सत्र में सम्मान समारोह का समापन मुख्य अतिथि एवं केंद्रीय विधि एवं न्याय राज्यमंत्री प्रो. एस.पी सिंह बघेल द्वारा किया जाएगा।

‘एनयूजेआई‘ के राष्ट्रीय सचिव, ‘उपजा‘ के प्रदेश उपाध्यक्ष व ‘ब्रज प्रेस क्लब‘ के अध्यक्ष डॉ. कमलकान्त उपमन्यु ने बताया कि पत्रकारिता दिवस समारोह में पत्रकारिता की आगे की दिशा और दशा क्या होगी? इस पर चर्चा होगी। उन्होंने बताया कि कार्यक्रम का शुभारंभ प्रात: नौ बजे से होगा। समारोह में उत्कृष्ट कार्य करने वाले पत्रकारों तथा विभिन्न क्षेत्रों में कार्य कर रही प्रतिभाओं को सम्मानित भी किया जाएगा। समारोह में एनयूजेआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष रास बिहारी एवं वरिष्ठ पत्रकार पूर्व विधायक एवं भाजपा के पूर्व प्रवक्ता रूप चौधरी विशिष्ट अतिथि के रूप में शामिल होंगे।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

वरिष्ठ पत्रकार मुन्ने भारती को पितृशोक

‘एनडीटीवी’ (NDTV) के वरिष्ठ पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ता एम अतहरउद्दीन उर्फ मुन्ने भारती के पिता कलाम उद्दीन का इंतकाल हो गया है।

Last Modified:
Thursday, 26 May, 2022
RIP

‘एनडीटीवी’ (NDTV) के वरिष्ठ पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ता एम अतहरउद्दीन उर्फ मुन्ने भारती के पिता कलाम उद्दीन का इंतकाल हो गया है। वह करीब 96 वर्ष के थे।

परिजन दोपहर करीब दो बजे ओखला से उनकी पार्थिव देह को अंतिम संस्कार के लिए पैतृक गांव करनेजी (वैशाली, बिहार) लेकर रवाना हो गए हैं, जहां पर उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।

बता दें कि कलाम उद्दीन उत्तर प्रदेश में सेल्स टैक्स विभाग में असिस्टेंट कमिश्नर के पद से सेवानिवृत्त हुए थे। कलाम उद्दीन के निधन पर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव समेत तमाम लोगों ने शोक जताते हुए उन्हें अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

घर में घुसकर टीवी कलाकार की गोली मारकर हत्या

आतंकियों द्वारा की गई गोलीबारी में घर पर मौजूद उनका 10 साल का भतीजा फरहान जुबैर भी घायल हो गया है। उसके हाथ में गोली लगी है।

Last Modified:
Thursday, 26 May, 2022
Amreen Bhat

जम्मू-कश्मीर में आए दिन आतंकियों की हैवानियत सामने आ रही है। वह महिलाओं और बच्चों को भी अपना निशाना बना रहे हैं। इसी तरह के एक मामले में आतंकियों ने बुधवार को बडगाम के चडूरा इलाके में टीवी आर्टिस्ट आमरीन भट की गोली मारकर हत्या कर दी। आतंकियों द्वारा की गई गोलीबारी में घर पर मौजूद उनका 10 साल का भतीजा फरहान जुबैर भी घायल हो गया है। उसके हाथ में गोली लगी है।

मीडिया रिपोर्ट्स में जम्मू-कश्मीर पुलिस के हवाले से बताया गया है कि बुधवार की शाम करीब 7 बजकर 55 मिनट पर बडगाम के चडूरा इलाके में आतंकियों ने टीवी कलाकार आमरीन भट (35) के घर पर गोलीबारी की। गोली लगने पर आमरीन को अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पुलिस का कहना है कि इस वारदात को लश्कर ए तैयबा के तीन आतंकियों ने अंजाम दिया है। पुलिस उनकी तलाश में जुटी हुई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, आमरीन इंस्टाग्राम और टिकटॉक पर अक्सर अपने वीडियो शेयर करती थीं। वह श्रीनगर दूरदर्शन केंद्र से प्रसारित हुए कुछ धारावाहिकों के अलावा कुछ कश्मीरी गीतों के एल्बम में भी अभिनय कर चुकी थीं।

बता दें कि इससे पहले मंगलवार को आतंकियों ने श्रीनगर के सौरा इलाके में एक पुलिस कॉन्स्टेबल सैफुल्ला कादरी की उन्हीं के घर के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस दौरान उनकी सात साल की बेटी भी घायल हो गई थी। इसके अलावा 13 मई को आतंकियों ने पुलिस कॉन्स्टेबल रियाज अहमद की पुलवामा में उनके आवास पर गोली मारकर हत्या कर दी थी। इससे एक दिन पहले 12 मई के बडगाम में सरकारी कर्मचारी राहुल भट की उनके कार्यालय में घुसकर हत्या की गई थी।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

वरिष्ठ पत्रकार और Impact मैगजीन के पूर्व एडिटर अनंत रंगास्वामी का निधन

रंगास्वामी ‘सीएनबीसी-टीवी18’ के प्लेटफॉर्म ‘स्टोरीबोर्ड’ (Storyboard) के एडिटर और FirstPost.com के सीनियर एडिटर रह चुके थे।

Last Modified:
Tuesday, 24 May, 2022
Anant Rangaswami

वरिष्ठ पत्रकार और विज्ञापन व मार्केटिंग जगत की जानी-मानी हस्ती अनंत रंगास्वामी (Anant Rangaswami) का मंगलवार की सुबह बेंगलुरु में निधन हो गया है। वह 61 वर्ष के थे। रंगास्वामी को मीडिया, एडवर्टाइजिंग और मार्केटिंग के क्षेत्र में काम करने का 25 साल से ज्यादा का अनुभव था।

पूर्व में वह 'स्टार टीवी', 'सोनी एंटरटेनमेंट टेलिविजन', 'बीसीसीएल' के 'टाइम्स टेलिविजन' और 'टाइम्स एफएम' में अपनी जिम्मेदारी निभा चुके थे। रंगास्वामी ‘सीएनबीसी-टीवी18’ के शो ‘स्टोरीबोर्ड’ (Storyboard) के एडिटर और FirstPost.com के सीनियर एडिटर रह चुके थे।

इसके अलावा वह एडवर्टाइजिंग और मार्केटिंग मैगजीन व पोर्टल ‘Melt’ के एडिटर, ‘Campaign India’ के फाउंडिंग एडिटर समेत ‘TBWA India’ में वाइस प्रेजिडेंट के तौर पर अपनी जिम्मेदारी निभा चुके थे। वह 'इंपैक्ट' (Impact) मैगजीन के एडिटर भी रहे थे।

रंगास्वामी ने 'Watching from the Sidelines’ और ‘The Elephants in the Room: The Future of Advertising in India’ नाम से दो किताबें भी लिखी हैं। 

अनंत रंगास्वामी के निधन पर दुख जताते हुए मीडिया, विज्ञापन व मार्केटिंग से जुड़े तमाम जाने-माने लोगों ने उन्हें अपनी श्रद्धांजलि दी है। 

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

वरिष्ठ टीवी पत्रकार दिनेश शर्मा के कार्यों को मिली नई पहचान, इस मंच पर हुआ सम्मान

चंडीगढ़ में 18 मई को ‘मीडिया फेडरेशन ऑफ इंडिया’ (Media Federation of India) की ओर से आयोजित एक समारोह में उन्हें सम्मानित किया गया है।

Last Modified:
Friday, 20 May, 2022
Dinesh Sharma

‘जी मीडिया कॉरपोरेशन लिमिटेड’ (Zee Media Corporation Limited) में एडिटर (जी-दिल्ली/एनसीआर/हरियाणा) दिनेश शर्मा को पत्रकारिता के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्यों के लिए सम्मानित किया गया है।  

बता दें कि ‘भारतीय जनसंपर्क परिषद‘ के साथ ‘मीडिया फेडरेशन ऑफ इंडिया’ (Media Federation of India) की ओर से 18 मई को चंडीगढ़ के होटल माउंटव्यू में ‘एंटरप्रिन्योर एंड अचीवर अवॉर्ड्स 2022’ का आयोजन किया गया। इसी कार्यक्रम में उन्हें सम्मानित किया गया।

समाचार4मीडिया से बातचीत में दिनेश शर्मा ने बताया कि उन्होंने पंजाब में ड्रग्स के अवैध धंधे में कुछ पुलिस अधिकारियों के गठजोड़ को सामने लाने और लोगों को जागरूक करने का काम किया। इसके अलावा पंजाब में वर्ष 2014 से 2019 के दौरान किसानों द्वारा की गई आत्महत्या समेत तमाम अन्य अहम मुद्दों को भी पत्रकारिता के माध्यम से सबके सामने रखा। इसी वजह से उन्हें इस मंच पर सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम में खाद्य, नागरिक आपूर्ति, उपभोक्ता मामले एवं वन मंत्री लालचंद कटारुचक ने कहा कि ईमानदारी और सत्यनिष्ठा के मार्ग पर चलकर ही व्यक्ति जीवन में सफलता प्राप्त कर सकता है। वहीं, पंजाब विधानसभा के स्पीकर कुलतार सिंह संधवा ने वर्तमान दौर में मीडिया के महत्व पर प्रकाश डाला।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

नहीं रहीं आकाशवाणी व डीडी न्यूज की पूर्व डायरेक्टर जनरल बिमला भल्ला

आकाशवाणी न्यूज और डीडी न्यूज की पूर्व डायरेक्टर जनरल बिमला भल्‍ला का मंगलवार रात निधन हो गया।

Last Modified:
Thursday, 19 May, 2022
BimalaBhalla45987

आकाशवाणी न्यूज और डीडी न्यूज की पूर्व डायरेक्टर जनरल बिमला भल्‍ला का मंगलवार रात निधन हो गया। उनका अंतिम संस्‍कार बुधवार सुबह करीब साढ़े 11 बजे नई दिल्‍ली में लोधी रोड शवदाह गृह में किया गया।

भारतीय सूचना सेवा की अनुभवी अधिकारी बिमला भल्‍ला ने नवम्‍बर 1990 से सितम्‍बर 1992 तक आकाशवाणी न्यूज की डायरेक्टर जनरल के रूप में कार्य किया। वे सूचना-प्रसारण मंत्रालय के अन्‍तर्गत  मीडिया इकाइयों में विभिन्‍न पदों पर भी रहीं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

कोर्ट ने त्रिपुरा के पत्रकार को दी जमानत, पुलिस अधिकारी हुआ सस्पेंड

कोर्ट ने पुलिस अधीक्षक से अगले तीन दिनों के भीतर मामले की जांच करने और रिपोर्ट जमा करने के लिए भी कहा है।

Last Modified:
Thursday, 19 May, 2022
Tripura Journalist

त्रिपुरा की एक अदालत ने स्थानीय पत्रकार निताई डे (Nitai Dey) की गिरफ्तारी के मामले में स्वत: संज्ञान लेते हुए उन्हें जमानत दे दी है। इसके साथ ही कोर्ट ने पुलिस अधीक्षक से अगले तीन दिनों के भीतर मामले की जांच करने और रिपोर्ट जमा करने के लिए भी कहा है। जांच रिपोर्ट जमा होने के बाद अदालत आगे की कार्रवाई तय करेगी।

बता दें कि कॉलेजेटिला चौकी के प्रभारी अधिकारी अरिंदम रॉय के नेतृत्व में पुलिसकर्मियों की एक टीम ने स्थानीय अखबार और गुवाहाटी स्थित न्यूज वेबसाइट से जुड़े 30 वर्षीय निताई डे को मंगलवार को उस समय गिरफ्तार कर लिया था, जब वह एक पेट्रोल पंप पर कतार में खड़े लोगों से बातचीत का वीडियो बना रहे थे।

अपनी गिरफ्तारी के बाद डे ने बाद में पूर्वी अगरतला पुलिस स्टेशन में एक शिकायत दर्ज कराई थी। इस शिकायत में निताई डे ने आरोप लगाया था कि गिरफ्तार करने के बाद पुलिसकर्मियों ने हिरासत में उनके साथ मारपीट की। यही नहीं, उन्हें शराब पीने के लिए भी मजबूर किया गया, ताकि मेडिकल परीक्षण में यह साबित हो सके कि वह नशे में थे।

अधिवक्ता अरिंदम भट्टाचार्जी के अनुसार, निताई डे को त्रिपुरा पुलिस अधिनियम की धारा 90 के तहत गिरफ्तार किया गया था, जिसका अर्थ है कि उसने कथित रूप से उपद्रव किया। भट्टाचार्जी के अनुसार, न्यायिक मजिस्ट्रेट (प्रथम श्रेणी) ए चौधरी ने पुलिस अग्रेषण के आधार पर मामले का स्वत: संज्ञान लिया, जहां उन्होंने इसे जमानती धारा के तहत दर्ज मामला माना और जमानत दे दी।

निताई डे की गिरफ्तारी का तमाम पत्रकारों ने विरोध किया था और वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों से निताई डे को गिरफ्तार करने वाले पुलिस अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पश्चिम त्रिपुरा के पुलिस अधीक्षक बोगती जगदीश्वर रेड्डी ने कहा कि इंस्पेक्टर अरिंदम रॉय को 18 मई की दोपहर से तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए