ENBA 2016: किसने जीता बेस्ट चैनल का अवॉर्ड, कौन बना बेस्ट एंकर, देखें पूरी लिस्ट

समाचार4मी‍डिया ब्यूरो ।। बहुप्रतिष्ठित ‘एक्सचेंज4मीडिया न्यूज ब्रॉडकास्टिंग अवॉर्ड्स (enba) 2016’  25 फरवरी को एक रंगारंग कार्यक्रम में प्रदान किए गए। नोएडा के रेडिसन ब्लू होटल में होने वाले कार्यक्रम में टेलिविजन न्‍यूज के क्षेत्

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Sunday, 26 February, 2017
Last Modified:
Sunday, 26 February, 2017
awards

समाचार4मी‍डिया ब्यूरो ।।

बहुप्रतिष्ठित ‘एक्सचेंज4मीडिया न्यूज ब्रॉडकास्टिंग अवॉर्ड्स (enba) 2016’  25 फरवरी को एक रंगारंग कार्यक्रम में प्रदान किए गए। नोएडा के रेडिसन ब्लू होटल में होने वाले कार्यक्रम में टेलिविजन न्‍यूज के क्षेत्र में बेहतर काम करने वाले उन लोगों को यह अवॉर्ड दिए गए, जिन्होंने देश में टेलिविजन ब्रॉडकास्टिंग के भविष्य की मजबूत नींव रखी है।

इस बार के एडिशन में 31 विभिन्न कैटेगरी को शामिल किया गया। इसके तहत ब्रॉडकास्ट न्यूज इंडस्ट्री की ओर से enba की पहल को काफी अच्‍छा रिस्पॉन्स मिला और विभिन्न कैटेगरी में 300 से ज्‍यादा एंट्रीज प्राप्‍त हुईं। इन एंट्रीज को शॉर्टलिस्‍ट करने के लिए 15 फरवरी को जूरी मीट का आयोजन भी किया गया था। वर्ष 2008 में अपनी शुरुआत के बाद से ही यह अवॉर्ड टेलिविजन न्‍यूज के क्षेत्र में बेहतर काम करने वालों की पहचान कर उन्हें सम्मानित करता आ रहा है।

इस साल के बड़े विजेताओं में ‘इंडिया टुडे टीवी’ (India Today TV) शामिल रहा, जिसने ‘बेस्ट इंग्लिश न्यूज चैनल ऑफ द ईयर’ (Best English News Channel of the Year) का खिताब जीता, जबकि ‘आजतक’ (Aaj Tak) को ‘बेस्ट हिंदी न्यूज चैनल ऑफ द ईयर’ (Best Hindi News Channel of the Year) का खिताब मिला। वहीं ‘बेस्ट हिंदी एडिटर-इन-चीफ ऑफ द ईयर’ (Best Hindi Editor-in-Chief of the Year) का खिताब ‘इंडिया टीवी’ (India TV) के रजत शर्मा को दिया गया, तो वहीं, 'इंडिया टुडे टीवी' (India Today TV) के राहुल कंवल को ‘बेस्ट इंग्लिश एडिटर-इन-चीफ ऑफ द ईयर’ (Best English Editor-in-Chief of the Year) के अवॉर्ड से सम्मानित किया गया।

'आईटीवी नेटवर्क' (iTV Network) के कार्तिकेय शर्मा ने ‘बेस्ट न्यूज टेलिविजन सीईओ ऑफ द ईयर’ (Best News Television CEO of the Year) अवॉर्ड अपने नाम किया।

विजेताओं की पूरी लिस्ट आप नीचे देख सकते हैं।

इन एंट्रीज को शॉर्टलिस्ट करने के लिए ‘स्‍टार इंडिया’ (Star India) के मैनेजिंग डायरेक्टर संजय गुप्‍ता के नेतृत्व में एक जूरी का गठन किया गया। जूरी में उनके अलावा ‘आउटलुक हिन्‍दी’ (Outlook Hind) के चीफ एडिटर आलोक मेहता,  ‘SHE & Ninja Girl Bags’ के संस्‍थापक जूनियर आनंद गुप्‍ता, ‘ऑल इंडिया रेडियो और दूरदर्शन’ (All India Radio & Doordarshan) की पूर्व महानिदेशक अर्चना दत्‍ता, कॉलमिस्‍ट देवी चेरियन, ‘रेडक्लिफ कैपिटल’ (Radcliffe Capital) के मैनेजिंग डायरेक्‍टर धीरज जैन, लेखिका जयश्री मिश्रा, वरिष्‍ठ पत्रकार श्रवण गर्ग और ‘Trust Legal, Advocates & Consultants’ के संस्‍थापक और मैनेजिंग पार्टनर सुधीर मिश्रा जैसे नाम शामिल थे।

यहां देखें विजेताओं की पूरी लिस्ट:

A. PROGRAMME
Best Current Affairs Programme - English
S.NO. Programme/Person Channel
1 Chennai Floods - Deepak Bopanna NEWS9 Winner
Best Current Affairs Programme - Hindi
S.NO. Programme/Person Channel
1 Jannat News18 India Winner
BARC India Best Business Programme - English
S.NO. Programme/Person Channel
1 India Business Report BBC World News Winner
BARC India Best Business Programme - Hindi
S.NO. Programme/Person Channel
1 Ghar Ek Sapna - Scheme Trap & Hidden Cost India News Winner
Best Talk Show - English
S.NO. Programme/Person Channel
1 Cover Story Special: Living With Triple Talaq NewsX Winner
Best Talk Show - Hindi
S.NO. Programme/Person Channel
1 Parvez Musharraf Exclusive Aaj Tak Winner
Best In-depth Series - English
S.NO. Programme/Person Channel
1 Tower of Death - Bansy Kalappa NEWS9 Special Jury Commendation
2 Truth Vs Hype NDTV 24x7 Winner
Best In-depth Series - Hindi
S.NO. Programme/Person Channel
1 Operation Blackboard India News Winner
Best News Coverage - National - English
S.NO. Programme/Person Channel
1 NDTV's Extensive Coverge of Drought in India NDTV 24x7 Special Jury Commendation
2 Surgical Strike India Today TV Winner
Best News Coverage - National - Hindi
S.NO. Programme/Person Channel
1 Floods (Prakash Kumar) ABP News Winner
Best News Coverage - International - English
S.NO. Programme/Person Channel
1 November Paris Attack 2015 Noopur Tewari NDTV 24x7 Winner
B. PERSONALITY
Best Anchor - English
S.NO. Programme/Person Channel
1 Bhupendra Chaubey for Big5@10 CNN-News18 Winner
Best Anchor - Hindi
S.NO. Programme/Person Channel
1 Sweta Singh Aaj Tak Winner
Best Spot News Reporting - English / Hindi
S.NO. Programme/Person Channel
1 Gaurav Sawant - Spot News India Today TV Winner
Best Continuing Coverage by a Reporter - English / Hindi
S.NO. Programme/Person Channel
1 Agustawestland case - Ashish Singh NewsX Winner
Best Videographer - English / Hindi
S.NO. Programme/Person Channel
1 Jaltson A.C. BBC World News Winner
Best Video Editor - English
S.NO. Programme/Person Channel
1 Nitin Kaushik NewsX Winner
Best Video Editor - Hindi
S.NO. Programme/Person Channel
1 Nitin, Ajay, Amit - Vande Matram (Cap Saurabh Kalia) Aaj Tak Winner
Best News Producer - English / Hindi
S.NO. Programme/Person Channel
1 Sunthar Rajagopal CNBC-TV18 Winner
C. MARKETING
Best Channel or Programme Promo - English /Hindi
S.NO. Programme/Person Channel
1 Chidiya Udd - Hindi NDTV Network Winner
Overall Excellence
Young Professional of the Year – Editorial- English/Hindi
Ashish Singh, NewsX
News Television Editor-in-Chief of the Year- Hindi
Rajat Sharma, India TV
News Television Editor-in-Chief of the Year- English
Rahul Kanwal, India Today TV
News Television CEO of the Year
Kartikeya Sharma, iTV Network
BARC India Business News Channel of the Year - English
CNBC TV18
BARC India Business News Channel of the Year - Hindi
CNBC Awaaz
Upcoming National News Channel of the Year
NEWS9
News Channel of the Year- English
India Today TV
News Channel of the Year - Hindi
Aaj Tak
समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
TAGS media
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

TRAI के नए चेयरमैन की हुई नियुक्ति, एक अक्टूबर को संभालेंगे कार्यभार

ट्राई के वर्तमान चेयरमैन आरएस शर्मा इस साल 30 सितंबर को सेवानिवृत्त हो रहे हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Monday, 28 September, 2020
Last Modified:
Monday, 28 September, 2020
TRAI

डॉ. पीडी वाघेला को ‘टेलिकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया’ (TRAI) का नया चेयरमैन नियुक्त किया गया है। कैबिनेट की नियुक्ति समिति ने इस पद पर डॉ. पीडी वाघेला के नाम पर मुहर लगा दी है। इस पद पर वाघेला का कार्यकाल तीन वर्ष के लिए होगा। डॉ. वाघेला की इस पद पर नियुक्ति संबंधी आदेश में कहा गया है, ‘कैबिनेट की नियुक्ति समिति (ACC) ने ट्राई चेयरमैन के रूप में गुजरात कैडर के 1986 बैच के आईएएस अधिकारी डॉ. पीडी वाघेला की नियुक्ति को अपनी अनुमति दे दी है। उनका कार्यकाल तीन वर्ष के लिए अथवा 65 वर्ष की आयु तक अथवा अगले आदेश तक (जो भी पहले हो) प्रभावी होगा।’

वाघेला की गिनती उन चुनिंदा अधिकारियों में होती है, जिन्होंने जीएसटी को लागू कराने में अहम भूमिका निभाई। गुजरात कैडर के आईएएस अधिकारी वाघेला वर्तमान में फार्मास्यूटिकल्स विभाग में सेक्रेट्री के पद पर कार्यरत हैं। वह एक अक्टूबर को ट्राई चेयरमैन के रूप में अपना पदभार ग्रहण करेंगे।  

बता दें कि वाघेला, आरएस शर्मा की जगह लेंगे जो 30 सितंबर को सेवानिवृत्त हो रहे हैं। 1978 बैच के आईएएस अधिकारी आरएस शर्मा को अगस्त 2015 में इस पद पर नियुक्त किया गया था। वह एकमात्र ऐसे चेयरपर्सन हैं, जिनका कार्यकाल अगस्त 2018 में दो साल के लिए बढ़ाया गया था।

ट्राई के नए चेयरमैन के रूप में डॉ. पीडी वाघेला को नियुक्त किए जाने संबंधी सरकारी आदेश की कॉपी आप यहां देख सकते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Netflix से जुड़ीं करुणा गुलयानी, निभाएंगी ये बड़ी जिम्मेदारी

करुणा इससे पहले ‘उबर’ (Uber) के साथ जुड़ी हुई थीं और बतौर कॉरपोरेट एंड पॉलिसी कम्युनिकेशंस हेड (भारत और दक्षिण एशिया) की जिम्मेदारी संभाल रही थीं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Monday, 28 September, 2020
Last Modified:
Monday, 28 September, 2020
Netflix

करुणा गुलयानी (Karuna Gulyani) ने ‘नेटफ्लिक्स’ (Netflix) के साथ अपनी नई पारी शुरू की है। उन्होंने यहां पर बतौर कॉरपोरेट एंड पॉलिसी कम्युनिकेशंस लीड जॉइन किया है। इस बात की जानकारी उन्होंने लिंक्डइन पोस्ट के जरिये दी है।

करुणा इससे पहले ‘उबर’ (Uber) के साथ जुड़ी हुई थीं और बतौर कॉरपोरेट एंड पॉलिसी कम्युनिकेशंस हेड (भारत और दक्षिण एशिया) की जिम्मेदारी संभाल रही थीं। गुलयानी को कम्युनिकेशन इंडस्ट्री में काम करने का 15 साल से ज्यादा का अनुभव है।

गुलयानी ने अपने करियर की शुरुआत ‘Text 100 Pvt. Ltd’के साथ बतौर अकाउंट मैनेजर की थी। इसके बाद उन्होंने ‘Turner Broadcasting’, ‘Discovery Networks Asia Pacific’ और ‘Facio Communication Pvt. Ltd’ जैसे बड़े ब्रैंड्स के साथ काम किया। वह अब तक कई मार्केटिंग व कम्युनिकेशन कैंपेन का नेतृत्व कर चुकी हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

The Quint में अब नई भूमिका निभाएंगी देविका दयाल

डिजिटल न्यूज प्लेटफॉर्म ‘द क्विंट’ (The Quint) ने नेशनल रेवेन्यू हेड देविका दयाल को प्रमोट कर नई जिम्मेदारी सौंपी है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 25 September, 2020
Last Modified:
Friday, 25 September, 2020
Devika Dayal

डिजिटल न्यूज प्लेटफॉर्म ‘द क्विंट’ (The Quint) ने नेशनल रेवेन्यू हेड देविका दयाल को चीफ रेवेन्यू ऑफिसर के पद पर प्रमोट किया है। देविका दयाल को ऐड सेल्स के क्षेत्र में काम करने का करीब दो दशक का अनुभव है। नई भूमिका में ‘The Quint’ के रेवेन्यू से जुड़े सभी प्रकार के कार्यों की जिम्मेदारी उन्हीं के ऊपर होगी।

इस बारे में ‘द क्विंट’ की सीईओ और को-फाउंडर रितु कपूर का कहना है, ‘मैंने पूर्व में नेटवर्क18 और अब द क्विंट में देविका का काम देखा है। बढ़ते मार्केट और कंटेंट की गतिशीलता के साथ प्रयोग करना उनकी खासियत है और यह उन्हें आगे रखती है। डिजिटल न्यूज पब्लिशिंग ईकोसिस्टम तेजी से बदल रहा है और देविका ने नए रेवेन्यू ब्लूप्रिंट तैयार करने के लिए टेक्नोलॉजी और सेल्स स्ट्रैटेजी दोनों का सहारा लिया है। मुझे पूरा विश्वास है कि चीफ रेवेन्यू ऑफिसर के रूप में देविका रेवेन्यू जुटाने में काफी बेहतर प्रदर्शन करेंगी।’

बता दें कि ‘द क्विंट’ को जॉइन करने से पूर्व देविका ‘आईटीवी नेटवर्क’ (ITV Network) से जुड़ी हुई थीं और  ‘न्यूजएक्स’(NewsX) में बतौर सीओओ अपनी जिम्मेदारी संभाल रही थीं। इसके अलावा ‘नेटवर्क18’में करीब 10 साल तक उन्होंने विभिन्न पदों पर अपनी भूमिका निभाई है। वह वर्ष 2011 में देश में ‘हिस्ट्रीटीवी18’ (History TV18) को लॉन्च कराने वाली लीडरशिप टीम का हिस्सा भी रही हैं। पूर्व में वह ‘डिस्कवरी कम्युनिकेशंस इंडिया’ (Discovery Communications India) और ‘जी नेटवर्क’ (Zee Network) में भी अपनी जिम्मेदारी निभा चुकी हैं।

वहीं, अपनी नई भूमिका के बारे में देविका दयाल का कहना है, ‘द क्विंट में पिछले तीन साल का सफर काफी अच्छा रहा है। द क्विंट में चीफ रेवेन्यू ऑफिसर के रूप में नई जिम्मेदारी मिलने को लेकर मैं काफी उत्साहित हूं।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

पत्रकारों के हित में यूपी सरकार ने लिया ये बड़ा फैसला

संक्रमण काल के दौरान अपनी जान जोखिम में डालकर पत्रकार ग्राउंड रिपोर्टिंग कर रहे हैं। ऐसे में कई पत्रकारों के कोरोना से संक्रमित होने की खबरें भी सामने आई हैं

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 25 September, 2020
Last Modified:
Friday, 25 September, 2020
Covid19

संक्रमण काल के दौरान अपनी जान जोखिम में डालकर पत्रकार ग्राउंड रिपोर्टिंग कर रहे हैं। ऐसे में कई पत्रकारों के कोरोना से संक्रमित होने की खबरें भी सामने आई हैं, जिनमें कई पत्रकारों की तो जान तक चली गई है। ऐसे में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य के पत्रकारों के परिवार के हित में एक अहम फैसला लिया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को कहा कि राज्य में मान्यता प्राप्त पत्रकारों को प्रतिवर्ष पांच लाख रुपए का स्वास्थ्य बीमा कवर दिया जाएगा। साथ ही कोरोना वायरस संक्रमण से किसी पत्रकार की मौत होने पर उसके परिजनों को को दस लाख सरकार रुपए की आर्थिक सहायता दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने ये घोषणाएं राजधानी में नवनिर्मित पंडित दीन दयाल उपाध्याय सूचना परिसर भवन के उद्घाटन के दौरान कीं।

उन्होंने कहा कि सूचना विभाग शासन और प्रशासन के कार्यों को मीडिया तक पहुंचाने के लिए एक सेतु का काम करता है। उन्होंने कहा, ‘किसी भी सरकार के कार्यों का आम जनमानस तक पहुंचाने का एक सशक्त माध्यम सूचना एवं जनसंपर्क कार्यालय होता है। शासन का काम योजनाएं बनाना होता है प्रशासन उसे विभिन्न माध्यमों से आम जन तक पहुंचाता है, लेकिन जनता, शासन और प्रशासन के बीच में एक महत्तवपूर्ण सेतु के रूप में मीडिया की भूमिका को नकारा नहीं जा सकता। 

उन्होंने कहा कि प्रदेश के मान्यता प्राप्त पत्रकारों को राज्य सरकार प्रतिवर्ष पांच लाख रुपए का स्वास्थ्य बीमा कवर देगी, इसके अलावा कोरोना वायरस संक्रमण से किसी पत्रकार की मृत्यु होने पर उसके परिजन को दस लाख रुपए की आर्थिक सहायता दे जाएगी। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में मीडियाकर्मी काम कर रहे है और पत्रकारों को पूरी सुरक्षा और जागरुकता के साथ काम करते हुए संक्रमण से बचना चाहिए। 

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य में इन्सेफलाइटिस कुछ साल तक एक जानलेवा बीमारी थी जो धीरे धीरे पूरे पूर्वी उत्तर प्रदेश को अपनी चपेट में ले चुकी थी, लेकिन प्रधानमंत्री स्वच्छता मिशन कार्यक्रमों और प्रदेश सरकार की योजनाओं की बदौलत इस बीमारी को समाप्त करने में सफलता मिली।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Indian Broadcasting Foundation में के.माधवन का कद बढ़ा, अब संभालेंगे यह जिम्मेदारी

माधवन को पिछले साल दिसंबर में ‘स्टार’ (Star) और ‘डिज्नी इंडिया’ (Disney India) का नया कंट्री मैनेजर नियुक्त किया गया था।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 25 September, 2020
Last Modified:
Friday, 25 September, 2020
IBF

‘स्टार’ (Star) और ‘डिज्नी इंडिया’ (Disney India) के मैनेजिंग डायरेक्टर के. माधवन को ‘इंडियन ब्रॉडकास्टिंग फाउंडेशन’ (Indian Broadcasting Foundation) का नया प्रेजिडेंट नामित किया गया है। वह ‘सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स’ (Sony Pictures Networks) के सीईओ और एमडी एनपी सिंह की जगह यह जिम्मेदारी संभालेंगे। टेलिविजन ब्रॉडकास्टर्स के प्रतिनिधित्व वाले इस प्रमुख संगठन में माधवन इससे पहले वाइस प्रेजिडेंट (रीजनल अफेयर्स) पद की जिम्मेदारी संभाल रहे थे।

बता दें कि माधवन को पिछले साल दिसंबर में ‘स्टार’ (Star) और ‘डिज्नी इंडिया’ (Disney India) का नया कंट्री मैनेजर नियुक्त किया गया था। अपनी इस भूमिका में माधवन ‘स्टार’ और ‘डिज्नी इंडिया’ के टेलिविजन बिजनेस (एंटरटेनमेंट, स्पोर्ट्स और रीजनल चैनल्स) के साथ ही भारत में इसके स्टूडियो बिजनेस का काम संभालते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

ईमानदार मीडिया हाउसेज के लिए यह काफी मुश्किल घड़ी है: सुधीर चौधरी

‘जी न्यूज’, ‘जी बिजनेस’ और ‘विऑन’ के एडिटर-इन-चीफ सुधीर चौधरी का कहना है कि न्यूज प्रोफेशन ऑर्गेनिक (organic) होता है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 25 September, 2020
Last Modified:
Friday, 25 September, 2020
Sudhir Chaudhary

‘जी न्यूज’ (Zee News), ‘जी बिजनेस’ (Zee Business) और ‘विऑन’ (Wion) के एडिटर-इन-चीफ सुधीर चौधरी का कहना है कि न्यूज प्रोफेशन ऑर्गेनिक (organic) होता है। इसमें काफी जिम्मेदारी व अनुशासन की जरूरत होती है और गलती के लिए जगह नहीं होती है। ऐसे में सटीकता (accuracy) के उच्च मानदंडों को बनाए रखने के लिए न्यूजरूम में अनुशासन की जरूरत होती है। ‘गवर्नेंस नाउ’ (Governance Now) के एमडी कैलाशनाथ अधिकारी के साथ एक बातचीत में सुधीर चौधरी का कहना था कि टेलिविजन के टीआरपी आधारित बिजनेस मॉडल की वजह से न्यूजरूम्स में अनुशासन व जिम्मेदारी की कमी है।

पब्लिक पॉलिसी प्लेटफॉर्म पर ‘विजिनरी टॉक सीरीज’ (Visionary Talk series) के 13वें एपिसोड के तहत होने वाले इस वेबिनार के दौरान सुधीर चौधरी का यह भी कहना था, ‘दुर्भाग्य से इन दिनों आप जितने गैरजिम्मेदार होंगे, उतनी ही टीआरपी आपको मिलेगी। ईमानदार और विवेकशील मीडिया संस्थानों के लिए यह मुश्किल घड़ी है और धैर्य बनाए रखने की जरूरत है।’

न्यूज टीवी के इस बिजनेस मॉडल के बारे में सुधीर चौधरी ने कहा कि यह एक निश्चित सीमा से अधिक निवेश की अनुमति नहीं देता है। उनका कहना था, ‘एक न्यूज संस्थान बिजनेस चला रहा है, लेकिन हमारे देश में लोग फिर भी इसे मुफ्त मानते हैं और एंटरटेनमेंट के विपरीत इसके लिए भुगतान नहीं करना चाहते हैं।’ उन्होंने टीवी चैनल के संपादक की तुलना एक फिल्म प्रड्यूसर से की, जहां बॉक्स ऑफिस की किस्मत हर गुरुवार को तय होती है और सफलता के फॉर्मूले के बारे में सोचने के लिए कहा जाता है।

चौधरी ने तुष्टिकरण की पत्रकारिता पर भी बात की और कहा कि हमारे देश में 60-70 वर्षों से पद्मश्री प्रकार की पत्रकारिता रही है, जब विभिन्न सरकारों ने प्लाट्स/मकानों के आवंटन और पुरस्कारों समेत तमाम तरीकों से कई पत्रकारों और मीडिया संस्थानों को उपकृत किया। सुधीर चौधरी के अनुसार, ‘यदि मैं सरकार के अच्छे कामों को सपोर्ट करता हूं या उनके बारे में बात करता हूं तो आपको देखना होगा कि सरकार के साथ कोई छिपा हुआ हित अथवा कोई डीलिंग तो नहीं हुई है या क्या सरकार मुझसे किसी प्रकार का लाभ हासिल करने की कोशिश कर रही है। आपको देखना होगा कि क्या ऐसे लोग सरकार से कोई लाभ ले रहे हैं या क्या पत्रकार-मीडिया संस्थान और सरकार के साथ कोई छिपी डीलिंग हुई है। अगर ऐसा नहीं है तो सवाल नहीं उठाए जाने चाहिए।’

इस पूरी बातचीत का वीडियो आप यहां देख सकते हैं

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

भारतीय चैनल्स के प्रभाव को कम करने के लिए नेपाल ने चली ये चाल

भारत-चीन के बीच बढ़ते तनाव के बाद चीन, भारत के पड़ोसी देश नेपाल का इस्तेमाल कर रहा है, जिसका नतीजा है कि नेपाल चीन के सुर में सुर मिला रहा है। लिहाजा ऐसे में नेपाल से एक बड़ी खबर सामने आई है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 25 September, 2020
Last Modified:
Friday, 25 September, 2020
Channels

भारत-चीन के बीच बढ़ते तनाव के बाद चीन, भारत के पड़ोसी देश नेपाल का इस्तेमाल कर रहा है, जिसका नतीजा है कि नेपाल चीन के सुर में सुर मिला रहा है। लिहाजा ऐसे में नेपाल से एक बड़ी खबर सामने आई है। दरअसल ‘दैनिक जागरण’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, नेपाल ने अब भारतीय चैनलों को बाहर का रास्ता दिखाने की तैयारी की है, जिसके लिए उसने बकायदा क्लीन फीड (विज्ञापन मुक्त) नीति जारी की है।

यह रिपोर्ट दैनिक जागरण के हलद्वानी संवाददाता अभिषेक राज की है, जिसमें बताया गया है कि इसके तहत भारतीय टीवी चैनल कार्यक्रम के बीच में विज्ञापन का प्रसारण नहीं कर सकते हैं। यह नीति आठ अक्टूबर से पूरे नेपाल में प्रभावी होगी, जिसका पालन नहीं करने वाले चैनलों का प्रसारण रोक दिया जाएगा।

रिपोर्ट के मुताबिक, नेपाल में भारतीय न्यूज चैनल्स के अलावा एंटरटेनमेंट टीवी चैनल भी काफी लोकप्रिय हैं। करीब सातों प्रदेशों में नेपाली चैनल्स की अपेक्षा हिंदी चैनल्स की बेहतर पैठ है। मधेश में तो भारतीय चैनल्स की टीआरपी पहले पायदान पर रहती है। नेपाली चैनलों की पूछ तक नहीं। बात चाहे फिल्म की हो या फिर धारावाहिक। यहां घर-घर में भारतीय चैनलों की पैठ है। ऐसे में नेपाली और विदेशी कंपनियां भारतीय चैनलों में ही विज्ञापन प्रसारित करती हैं। इनकी अपेक्षा नेपाली चैनलों की आमदनी एक चौथाई भी नहीं होती।

नेपाल सरकार का मानना है कि भारतीय चैनल्स के प्रभाव के कारण नेपाली चैनल्स की स्थिति दयनीय हो गई है। ऐसे में उसने आठ अक्टूबर से विदेशी चैनल्स के लिए विज्ञापन मुक्त प्रसारण नीति लागू कर दी है। इसके बाद भारतीय चैनल्स को नेपाल से विज्ञापन मिलना करीब बंद हो जाएगा। ऐसे में बगैर आय प्रसारण मुश्किल हो जाएगा।  

वहीं रिपोर्ट में यह बताया गया है कि नेपाल विज्ञापन संघ के अनुसार विदेशी चैनल्स के विज्ञापन मुक्त प्रसारण से नेपाली चैनल्स को सीधे-सीधे लाभ होगा। इससे भारतीय चैनल्स को सालाना करीब आठ अरब नेपाली रुपए की होने वाली आमदनी नेपाली चैनल्स के हिस्से आएगी। इससे उनकी स्थिति बेहतर होगी।

नेपाल ने भारत सीमा विवाद को तूल देने का आरोप लगाकर जुलाई में भी पांच न्यूज चैनल्स के प्रसारण पर रोक लगाई थी। हालांकि बाद में भारत सरकार के दखल के बाद नेपाल ने प्रतिबंध वापस ले लिया था।

नेपाल फेडरेशन ऑफ केबल टेलीविजन एसोसिएशन के अध्यक्ष सुशील पुराजुली ने दैनिक जागरण को बताया कि विज्ञापन मुक्त नीति नेपाली चैनल्स के लिए संजीवनी साबित होगी। इसके लिए भारतीय सहित सभी विदेशी चैनल्स को शीघ्र ही अपने प्रसारण प्रारूप में बदलाव करना होगा। ऐसा नहीं हुआ तो सरकार की नीति के अनुसार उनका प्रसारण आठ अक्टूबर से रोक दिया जाएगा।

(साभार: दैनिक जागरण)

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अब इस ग्रुप से जुड़े PTI के पूर्व CEO एम.के.राजदान

गौरतलब है कि एम.के. राजदान की बेटी निधि राजदान भी पत्रकारिता जगत से जुड़ी हुई हैं और इस समय एनडीटीवी 24X7 में वरिष्‍ठ पत्रकार हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 24 September, 2020
Last Modified:
Thursday, 24 September, 2020
MK Razdan

प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया (पीटीआई) के पूर्व सीईओ व एडिटर-इन-चीफ एम.के.राजदान अब वेदांता ग्रुप में कॉरपोरेट कम्युनिकेशन टीम के वरिष्ठ सलाहकार के तौर पर शामिल होंगे। वे दिल्ली से अपना कार्यभार संभालेंगे।

वेदांता में कम्युनिकेशंस एंड ब्रैंड के डायरेक्टर रोमा बलवानी ने ट्वीट कर राजदान का 'टीम वेदांत' में स्वागत किया।

वरिष्ठ पत्रकार राजदान पीटीआई के एक सदस्यीय ब्यूरो में ब्यूरो चीफ के पद पर काम करने के बाद 1995 में संस्थान के जनरल मैनेजर बनें। एक युवा पत्रकार के रूप में राजदान नवंबर, 1965 में पीटीआई के साथ जुड़े थे और तब से लेकर सितंबर, 2016 तक यानी करीब 51 वर्षों तक उन्होंने यहां विभिन्न पदों पर अपना योगदान दिया। 21 वर्षों तक वे पीटीआई के एडिटर-इन-चीफ के पद पर बने रहे। सितंबर, 2016 में उनका यहां से रिटायरमेंट हुआ।

गौरतलब है कि एम.के. राजदान की बेटी निधि राजदान भी पत्रकारिता जगत से जुड़ी हुई हैं और इस समय एनडीटीवी 24X7 में वरिष्‍ठ पत्रकार हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

वायकॉम18 से जुड़ीं मंजीत सचदेव, मिली ये बड़ी जिम्मेदारी

वायकॉम18 को जॉइन करने से पहले मंजीत सचदेव मीडिया और एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में कई ब्रैंड्स की कंटेंट स्ट्रैटेजी संभाल चुकी हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 24 September, 2020
Last Modified:
Thursday, 24 September, 2020
Manjit Sachdev

अपनी क्रिएटिव टीम को मजबूती देने और बेहतरीन कंटेंट स्ट्रैटेजी बनाने पर ध्यान केंद्रित करने के लिए 'वायकॉम18' (Viacom18) ने मंजीत सचदेव को अपने प्रमुख वीडियो ऑन डिमांड ब्रैंड्स ‘वूट’ (Voot) और ‘वूट सेलेक्ट’ (Voot Select) का हेड (कंटेंट) नियुक्त किया है।

बता दें कि मंजीत सचदेव को मीडिया और एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में काम करने का 18 साल से ज्यादा का अनुभव है। 'वायकॉम18' को जॉइन करने से पहले वह मीडिया और एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में ‘AltBalaji’ और ‘Sony Entertainment’ जैसे कई बड़े ब्रैंड्स के साथ काम कर चुकी हैं। अपनी नई भूमिका में वह 'वायकॉम18' के सीओओ (डिजिटल वेंचर) गौरव रक्षित के साथ मिलकर काम करेंगी।  

मंजीत सचदेव की नियुक्ति के बारे में गौरव रक्षित का कहना है, ‘इस प्लेटफॉर्म पर मंजीत के आने से मैं बहुत खुश हूं। मुझे पूरा विश्वास है कि संस्थान को उनके अनुभव का काफी लाभ मिलेगा।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Linkedin को अलविदा कहने के बाद पुनीत नागपाल ने नई दिशा में बढ़ाए कदम

‘लिंक्डइन’ (LinkedIn) के पूर्व हेड (Sales & Marketing Solutions–India) पुनीत नागपाल ने अब अपनी नई पारी की शुरुआत की है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 23 September, 2020
Last Modified:
Wednesday, 23 September, 2020
Puneet Nagpal

‘लिंक्डइन’ (LinkedIn) के पूर्व हेड (Sales & Marketing Solutions– India) ने ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म ‘कोर्सेरा’ (Coursera) के साथ अपनी नई पारी की शुरुआत की है। यहां उन्होंने बतौर कस्टमर मार्केटिंग लीड- APAC जॉइन किया है।

बता दें कि नागपाल ने मई 2017 में लिंक्डइन को जॉइन किया था और भारत में इसकी सेल्स और मार्केटिंग सॉल्यूशंस की कमान संभालते थे। लिंक्डइन में अपनी पारी के दौरान उन्होंने भारत में सेल्स सॉल्यूशंस बिजनेस को लॉन्च किया था। इसके अलावा विभिन्न कैंपेन के जरिये इसके मीडिया बिजनेस को नई ऊंचाई पर पहुचाया था।

नागपाल को मार्केटिंग के क्षेत्र में काम करने का 12 साल से ज्यादा का अनुभव है। ‘लिंक्डइन’ से पहले वह छह साल से ज्यादा समय तक ‘SHRM–APAC’ में विभिन्न पदों पर अपनी जिम्मेदारी संभाल चुके हैं। लिंक्डइन को जॉइन करने से पहले वह SHRM में हेड- Marketing (India/APAC) - Brand, Digital and Product के पद पर कार्य कर रहे थे। पूर्व में नागपाल IMS Learning Resources के साथ ब्रैंड/कम्युनिटी मार्केटिंग में भी अपनी भूमिका निभा चुके हैं।    

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए