पत्रकारों को वैक्सीनेशन में प्राथमिकता देने वालों में ये राज्य भी हुए शामिल, देखें लिस्ट

देश में कोरोना का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। तमाम लोग इसकी चपेट में आ रहे हैं। इन सबके बीच अपनी जान जोखिम में डालकर पत्रकार रिपोर्टिंग कर रहे हैं

Last Modified:
Monday, 10 May, 2021
journalist64

देश में कोरोना का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। तमाम लोग इसकी चपेट में आ रहे हैं। इन सबके बीच अपनी जान जोखिम में डालकर पत्रकार रिपोर्टिंग कर रहे हैं और लोगों तक खबरें पहुंचा रहे हैं। ऐसे में उत्तर प्रदेश, बिहार और उत्तराखंड समेत कई राज्यों ने पत्रकारों को फ्रंटलाइन वर्कर्स घोषित कर उन्हें कोरोना वैक्सीनेशन में प्राथमिकता देने का फैसला किया है। इन सबके बीच हरियाणा और छत्तीसगढ़ सरकार ने भी पत्रकारों के हित में बड़ा फैसला लेते हुए उन्हें कोरोना वैक्सीनेशन में प्राथमिकता दी है।

हरियाणा:

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने शनिवार को राज्य के सभी पत्रकारों के लिए कोविड टीकाकरण (COVID Vaccination) अभियान शुरू करने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने राज्य में चल रही कोविड की स्थिति की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि इस अभियान के दौरान हर पत्रकार को वैक्सीन शॉट्स दिए जाएंगे। खट्टर ने कहा, टीकाकरण अभियान के दौरान हर पत्रकार को प्राथमिकता दी जाएगी और सभी जिलों में मीडिया केंद्रों पर टीका प्रशासन की तैयारी की जाएगी।

छत्तीसगढ़:

छत्तीसगढ़ सरकार ने कोरोना संक्रमण के तेजी से बढ़ते मामलों के बीज शनिवार को राज्य के आलाधिकारियों के साथ बैठक की। सीएम भूपेश बघेल ने शनिवार को राज्य में कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर एक अहम घोषणा की। उन्होंने कहा कि कहा कि राज्य में अलग-अलग श्रेणियों से वैक्सीनेशन के लिए फ्रंट लाइन वर्कर्स की लिस्ट बनाई जाएगी। उन्होंने घोषणा की अब पत्रकारों और वकीलों को भी फ्रंट लाइन वर्कर्स की श्रेणी में शामिल किया जाएगा।

वकीलों और पत्रकारों को फ्रंट लाइन वर्कर्स में शामिल करने के साथ ही सीएम ने एक और बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि अब राज्य में कोरोना वैक्सीनेशन पत्रकारों और वकीलों के परिवारों के परिजनों को भी प्राथमिकता दी जाएगी।  

बता दे कि हरियाणा और छत्तीसगढ़ से पहले भी कई दूसरे राज्यों में पत्रकारों को फ्रंट लाइन वर्कर्स मानते हुए कोरोना वैक्सीनेशन में प्राथमिकता दी है, जो निम्न हैं-

दिल्ली:

दिल्ली सरकार ने भी पत्रकारों के हित में बड़ा फैसला लेते हुए उन्हें मुफ्त में कोरोना वैक्सीन लगाए जाने का फैसला लिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, कोरोना के मामलों को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की समीक्षा बैठक के बाद दिल्ली सरकार का कहना है कि इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, प्रिंट और डिजिटल मीडिया के पत्रकारों का बड़ी संख्या में वैक्सीनेशन किया जाएगा। इसके साथ ही दिल्ली सरकार की ओर से यह भी कहा गया है कि पत्रकारों को उनके ही संस्थानों में वैक्सीन मुहैया कराई जाएगी। इसके लिए वैक्सीनेशन ड्राइव शुरू की जाएगी और इस पर आने वाला खर्च सरकार वहन करेगी।  

पश्चिम बंगाल:

पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री की शपथ लेने के बाद ममता बनर्जी ने भी ऐलान किया कि वह राज्य के सभी पत्रकारों को कोरोना वॉरियर्स घोषित करती हैं। ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार से सभी को फ्री में वैक्सीन देने की मांग की थी। उन्होंने कहा कि इसमें लगभग 30 करोड़ रुपए खर्च होंगे और 30 करोड़ रुपए केंद्र सरकार के लिए कुछ नहीं है।

झारखंड:

वहीं, झारखंड की हेमंत सरकार ने भी राज्य के पत्रकारों को प्राथमिकता के तौर पर कोरोना वैक्सीन अभियान से जोड़ने पर जोर दिया है। इस संबंध सीएम सोरेन ने स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव को निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना की इस लड़ाई में सभी मिलकर लड़ते हुए जीत हासिल करेंगे। उन्होंने कहा कि कोरोना फिर हारेगा और झारखंड फिर जीतेगा।

कर्नाटक:

कर्नाटक सरकार ने भी पत्रकारों को अग्रिम मोर्चे का कोविड वॉरियर्स मानने और प्राथमिकता के आधार पर उनका वैक्सीनेशन कराने का फैसला किया है। राज्य में कोविड-19 के बढ़ते मामलों को लेकर मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा ने मंगलवार को मंत्रिमंडल की विशेष बैठक की। बैठक के बाद मुख्यमंत्री ने संवाददाताओं से कहा, ‘हम पत्रकारों को अग्रिम मोर्चे का कर्मी मानेंगे और प्राथमिकता के आधार पर उनका वैक्सीनेशन कराएंगे।’

हालांकि, येदियुरप्पा ने पत्रकारों से घटनाओं की इस तरह रिपोर्टिंग नहीं करने की अपील की, ताकि लोगों में दहशत न फैले।

मणिपुर:

कोरोनोवायरस संक्रमणों की दूसरी लहर के बीच, मणिपुर सरकार ने भी सभी मान्यता प्राप्त पत्रकारों को फ्रंटलाइन वर्कर घोषित करने का निर्णय लिया है। राज्य अब प्राथमिकता के तौर पर कोविड-19 के खिलाफ पत्रकारों का वैक्सीनेशन करेगा।

राज्य के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने ट्विटर पर लिखा, ‘तमाम जोखिमों के बावजूद खबरों को लोगों तक पहुंचाने में पत्रकारों के प्रयासों की हम सराहना करते हैं। ये किसी भी मायने में दूसरे फ्रंटलाइन वर्कर्स से कम नहीं हैं। राज्य सरकार मान्यता प्राप्त सभी पत्रकारों का फ्रंटलाइन वॉरियर्स के तौर पर प्राथमिकता के आधार पर वैक्सीनेशन करेगी।’

उत्तराखंड:

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने एक महीने पहले ही राज्य के सभी पत्रकारों को फ्रंट लाइन वर्कर घोषित किया कर दिया था, साथ ही सभी को कोरोना वैक्सीन दिए जाने की मंजूरी भी दी हुई है।  ऐसा करने वाला वह पहला राज्य था। यहां पत्रकारों के लिए उम्र की कोई सीमा नहीं रखी गई है।

बिहार:

बिहार में मान्यता प्राप्त पत्रकारों के साथ-साथ गैर मान्यता प्राप्त पत्रकारों को भी फ्रंटलाइन वर्कर की श्रेणी में शामिल कर सरकार प्राथमिकता के आधार पर उनका टीकाकरण कराएगी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार को इस आशय का निर्देश दिया, जो पत्रकार सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा मान्यता प्राप्त पत्रकारों की सूची में नहीं हैं, उन्हें जिला जनसंपर्क अधिकारी द्वारा सत्यापित किए जाने के बाद टीका लग सकेगा। सभी चिह्नित पत्रकारों को प्राथमिकता के आधार पर कोविड-19 का टीकाकरण कराया जाएगा। प्रिंट मीडिया के साथ-साथ इलेक्ट्रानिक व वेब मीडिया के पत्रकारों को भी फ्रंटलाइन वर्कर माना जाएगा।

ओडिशा:

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने पत्रकारों को भी फ्रंटलाइन कोरोना वारियर्स घोषित किया है। इस घोषणा से गोपबंधु पत्रकार स्वास्थ्य योजना में शामिल राज्य के छह हजार 944 पत्रकारों को इसका लाभ मिलेगा। योजना में पत्रकारों को दो लाख का स्वास्थ्य बीमा का लाभ मिलेगा। कोविड के समय कार्यरत किसी भी पत्रकार की मृत्यु होने पर परिवार को 15 लाख रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा मुख्यमंत्री ने की है।

मध्य प्रदेश:

मध्य प्रदेश में सभी पत्रकारों को फ्रंटलाइन वर्कर घोषित किया गया है। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने यह ऐलान करते हुए कहा कि पत्रकार कोरोना महामारी के खतरे के बीच अपनी जान खतरे में डालकर अपनी ड्यूटी पूरी कर रहे हैं, जिसको ध्यान  में रखते हुए हमने  मान्यता प्राप्त पत्रकारों को मध्य प्रदेश में फ्रंटलाइन वर्कर्स घोषित करने का निर्णय  लिया है और इसी आधार पर उनका केयर किया जाएगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मध्यप्रदेश में करीब 4000 पत्रकारों को सरकारी मान्यता प्राप्त है। मध्य प्रदेश के जनसंपर्क विभाग के एक अधिकारी के मुताबिक अभी सरकार ने इस ऐलान से संबंधित नियमों का निर्धारण नहीं किया है, जिसके बारे में बाद में सूचित किया जाएगा।

पंजाब:

वहीं, पंजाब सरकार ने सूबे के मान्यता प्राप्त और येलो कार्ड धारक पत्रकारों को फ्रंटलाइन वॉरियर्स की सूची में शामिल कर लिया है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि पत्रकार प्राथमिकता के आधार पर टीका लगवाने सहित उन सभी लाभों के लिए योग्य होंगे, जो बाकी फ्रंटलाइन वर्कर्स राज्य सरकार से हासिल करने के हकदार हैं।  

उत्तर प्रदेश:  

बता दें कि पंजाब और मध्य प्रदेश के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने भी कोरोना के खिलाफ जंग में पत्रकारों को फ्रंटलाइन वर्कर घोषित किया। अब उन्हें प्राथमिकता के आधार पर कोरोना का टीका लगाया जाएगा। सीएम योगी ने निर्देश दिए हैं कि मीडियाकर्मियों के लिए अलग सेंटर अलॉट किए जाएं और जरूरत हो तो उनके कार्य स्थलों पर जाकर निर्धारित मानकों को पूरा करते हुए उनके 18 साल से ऊपर के परिजनों को फ्री वैक्सीनेशन किया जाए।  

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अमेरिकी कंपनी का दावा, चीनी हैकर्स ने भारतीय मीडिया-सरकार का किया डेटा चोरी

चीनी हैकर्स ने भारतीय मीडिया और सरकार को बनाया था निशाना

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 24 September, 2021
Last Modified:
Friday, 24 September, 2021
Hackers4

अमेरिका स्थित एक निजी साइबर सिक्योरिटी फर्म रिकॉर्डेड फ्यूचर इंक (Recorded Future Inc) ने खुलासा किया है कि चीनी हैकर्स ने भारत की सरकारी एजेंसियों और बड़ी मीडिया कंपनियों को निशाना बनाया है। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि चीनी राज्य-प्रायोजित हैकर्स ने भारत की राष्ट्रीय पहचान डेटाबेस UIDAI और देश के सबसे बड़े मीडिया ग्रुप्स में से एक टाइम्स ग्रुप में घुसपैठ कर कुछ डेटा चोरी की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मैसाचुसेट्स स्थित रिकॉर्डेड फ्यूचर के थ्रेट रिसर्च डिवीजन, इनसिक्ट ग्रुप ने कहा कि इसके के लिए हैकिंग समूह, जिसे अस्थायी तौर पर टीएजी-28 नाम दिया गया, ने विन्नटी (Winnti) मालवेयर का उपयोग किया है। हालांकि चीनी अधिकारियों ने हैकिंग की किसी भी बात से इनकार किया है। यह मैलवेयर विशेष रूप से कई चीनी एक्टिविटी ग्रुप्स के साथ भी काम करता है।

चीनी अधिकारियों ने लगातार राज्य प्रायोजित हैकिंग के किसी भी रूप से इनकार किया है और कहा है कि चीन खुद साइबर हमलों का एक प्रमुख टारगेट है।

माना जाता है कि इस साल जून और जुलाई के बीच ट्रैक की गई घुसपैठ के दौरान भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण यानी UIDAI के नेटवर्क का उल्लंघन किया गया था, हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि रिकॉर्डेड फ्यूचर के अनुसार क्या डेटा लिया गया है। आपको बता दें कि में एक अरब से अधिक भारतीय नागरिकों की निजी बायोमेट्रिक जानकारी होती है।

ब्लूमबर्गक्विंट के मुताबिक, सरकारी एजेंसी ने कहा कि उसे इस तरह के हैकिंग की जानकारी नहीं है, क्योंकि इसका डेटाबेस एन्क्रिप्ट किया गया था और केवल मल्टीफैक्टर प्रमाणीकरण वाले यूजर्स के लिए उपलब्ध था। एक ई-मेल में कहा गया है कि एजेंसी के पास मजबूत सुरक्षा प्रणाली है जिसे उच्चतम स्तर की डेटा सुरक्षा और अखंडता बनाए रखने के लिए लगातार अपग्रेड किया जाता है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रिकॉर्डेड फ्यूचर ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि बेनेट कोलमैन एंड कंपनी, जिसे टाइम्स ग्रुप के रूप में भी जाना जाता है, को भी चीनी हैकर्स द्वारा निशाना बनाया गया था। रिकॉर्डेड फ्यूचर ने कहा कि फरवरी और अगस्त के बीच कंपनी से डेटा निकाला गया था, लेकिन यह स्पष्ट नहीं था कि डेटा चोरी हो गया है।  

साइबर सुरक्षा फर्म का कहना है कि हैकर्स ने सरकारी एजेंसी और मीडिया कंपनी के सर्वर और हैकर्स के मैलवेयर को नियंत्रित करने और नियंत्रित करने के लिए उपयोग किए जाने वाले सर्वरों के बीच संदिग्ध नेटवर्क ट्रैफिक के पैटर्न की पहचान करने के लिए डिटेक्शन तकनीकों और ट्रैफिक विश्लेषण डेटा के संयोजन का उपयोग किया। चीन के विदेश मंत्रालय ने इस मामले तत्काल टिप्पणी करने इनकार कर दिया।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इंडिया टुडे समूह की वाइस चेयरपर्सन कली पुरी को मिला यह अवॉर्ड

‘इंडिया टुडे’ (India Today) ग्रुप की वाइस चेयरपर्सन कली पुरी के नाम एक और शानदार उपलब्धि जुड़ गई है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 23 September, 2021
Last Modified:
Thursday, 23 September, 2021
Kalli Purie

‘इंडिया टुडे’ (India Today) ग्रुप की वाइस चेयरपर्सन कली पुरी के नाम एक और शानदार उपलब्धि जुड़ गई है। दरअसल, कली पुरी को 'आउटस्टैंडिंग कंट्रिब्यूशन टू मीडिया' अवॉर्ड से नवाजा गया है। ‘ऑल इंडिया मैनेजमेंट एसोसिएशन’ (AIMA)  की ओर से मीडिया के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए उन्हें यह सम्मान दिया गया है। इस अवॉर्ड का उद्देश्य कॉमर्स, आर्ट और सिनेमा जैसे क्षेत्रों में मैंनेजमेंट को प्रोत्साहित करना है। ‘AIMA’ की ओर से 22 सितंबर 2021 को एक समारोह में उन्हें यह सम्मान दिया गया है। ‘AIMA’ के अवॉर्ड समारोह का यह 11वां साल है।

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से पॉलिटिक्स, फिलॉसफी और इकनॉमिक्स में ग्रेजुएट कली पुरी ने इस अवॉर्ड को हासिल करने पर कहा, 'यह अवॉर्ड मेरे लिए बहुत खास है। यह कोरोना लॉकडाउन और अनलॉकडाउन के अंतहीन चक्रों के समय में आया है, जिसने मेरे नेतृत्व के हर पहलू की परीक्षा ली है। यह अवॉर्ड मीडिया में बेहतरीन योगदान के लिए है, इसलिए इसे मैं अपने नवीनतम और हाल ही में लॉन्च हुए हिंदी न्यूज चैनल ‘गुड न्यूज टुडे’ (GNT) को समर्पित करना चाहूंगी। हमारे खूबसूरत देश की अच्छी और शानदार चीजों पर रोशनी डालना इस चैनल का फोकस होगा। मैं AIMA के प्रति इस बात के लिए गहन कृतज्ञता व्यक्त करती हूं कि उसने यह अवॉर्ड देकर मुझे और मेरी टीम को प्रोत्साहित किया है, जिससे हमें लगातार गोल्ड स्टैंडर्ड की पत्रकारिता करने में मदद मिलेगी।'

बता दें कि AIMA मैनेजिंग इंडिया अवॉर्ड देश के सबसे प्रतिष्ठ‍ित लीडरशिप अवॉर्ड में से है। ‘AIMA’ साल 2010 से ही खेल, मनोरंजन, मीडिया जैसे कई क्षेत्रों में असाधारण उपलब्ध‍ि हासिल करने वालों को सम्मानित करता आ रहा है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

रोहित सरदाना के इस ‘सपने’ को साकार करने के लिए परिवार ने की ये सराहनीय पहल

वरिष्ठ पत्रकार और ‘आजतक’ के तेजतर्रार एंकर्स में शुमार रहे रोहित सरदाना का इस साल अप्रैल में हो गया था निधन

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 23 September, 2021
Last Modified:
Thursday, 23 September, 2021
Rohit Sardana

वरिष्ठ पत्रकार और ‘आजतक’ के तेजतर्रार एंकर्स में शुमार रहे रोहित सरदाना (अब दिवंगत) के 42वें जन्मदिन पर बुधवार को परिवार ने उन्हें याद कर श्रद्धांजलि दी। इस मौके पर उनके नाम से शुरू किए गए ‘रोहित सरदाना फाउंडेशन’ (Rohit Sardana foundation) ने अपना कामकाज शुरू कर दिया है।

इस फाउंडेशन का उद्देश्य पत्रकारिता में सामाजिक प्रभाव पैदा करना और राष्ट्रवाद की अलख जगाने के लिए पत्रकारिता को प्रोत्साहित करना, सशक्त बनाना और उसका समर्थन करना है।

रोहित सरदाना फाउंडेशन को उनकी पत्नी प्रमिला दीक्षित ने शुरू किया है, ताकि भारतीय पत्रकारिता के विकास के लिए रोहित सरदाना ने जो सपने संजोए थे और योजनाएं तैयार की थीं, उन्हें मूर्त रूप दिया जा सके और ‘राष्ट्र प्रथम’ के विचार को मजबूत किया जा सके।  

इसके अलावा इस फाउंडेशन ने देश में राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सपोर्ट करने के लिए अनुदान जुटाने के तहत ‘अनुदान संचय’ (fundraiser) की शुरुआत भी की है। फाउंडेशन इस धनराधि का प्रयोग राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आगे बढ़ाने का काम करेगा। बता दें कि इस फाउंडेशन की नींव तो पहले ही रख गई थी, लेकिन इसने बुधवार से औपचारिक रूप से अपना काम शुरू कर दिया है।

रोहित सरदाना के ट्विटर हैंडल पर इस बात की जानकारी साझा की गई है।

गौरतलब है कि रोहित सरदाना का इसी साल 30 अप्रैल को निधन हो गया था। कोरोनावायरस (कोविड-19) की चपेट में आने के बाद उन्हें गुरुवार को मेट्रो अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उन्हें दिल का दौरा पड़ा और निधन हो गया। उनके परिवार में उनकी पत्नी और दो बेटियां हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Viacom18 से जुड़े विपुल नागर, मिली यह बड़ी जिम्मेदारी

‘वायकॉम18’ से पहले विपुल नागर ‘रेडियो मिर्ची’ समेत तमाम कंपनियों में अहम भूमिका निभा चुके हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 23 September, 2021
Last Modified:
Thursday, 23 September, 2021
Vipul Nagar

मीडिया और एंटरटेनमेंट कंपनी ‘वायकॉम18’ (Viacom 18) ने विपुल नागर को ‘कलर्स गुजराती‘ (Colors Gujarati) चैनल का बिजनेस हेड नियुक्त किया है। अपनी इस भूमिका में वह ‘कलर्स गुजराती‘ और ‘कलर्स गुजराती सिनेमा‘ के लिए समग्र बिजनेस और ऑपरेशंस के प्रबंधन के लिए जिम्मेदार होंगे। वह ‘वायकॉम18‘ के रीजनल एंटरटेनमेंट हेड (बांग्ला, उड़िया, तमिल और गुजराती क्लस्टर्स) राजेश अय्यर को रिपोर्ट करेंगे।

बता दें कि विपुल को इंडस्ट्री मे काम करने का 20 साल से ज्यादा का अनुभव है और उन्हें गुजराती कंटेंट की काफी समझ है। वह ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) में अहमदाबाद, वडोदरा, सूरत और राजकोट के लिए प्रोग्रामिंग का नेतृत्व कर चुके हैं।

विपुल नागर की नियुक्ति के बारे में ‘वायकॉम18‘ के रीजनल एंटरटेनमेंट हेड (बांग्ला, उड़िया, तमिल और गुजराती क्लस्टर्स) राजेश अय्यर का कहना है, ‘गुजरात की एक व्यापक संस्कृति है जो इसके मनोरंजन परिदृश्य की विविधता में परिलक्षित होती है। ब्रॉडकास्ट एंटरटेनमेंट में लोकल कंटेंट की मांग बढ़ती जा रही है। विपुल को मीडिया और एंटरटेनमेंट का काफी अनुभव है, जिसकी बदौलत हमें व्युअर्स और एडवर्टाइजर्स दोनों के बीच अपनी मौजूदगी को और मजबूत करने में मदद मिलेगी।’  

वहीं, इस बारे में विपुल नागर का कहना है, ‘गुजराती सिनेमा और एंटरटेनमेंट मार्केट में काफी अवसर हैं। कलर्स गुजराती और कलर्स गुजराती सिनेमा की एक अपनी विरासत है और मैं इन्हें और अधिक ऊंचाइयों तक ले जाने के लिए अपना सफर शुरू करने को लेकर काफी उत्साहित हूं।’

’वायकॉम18’ से पहले विपुल नागर ’ Radio Mirchi’, ’ Dcube’ और ’ EAI Education’ में अपनी जिम्मेदारी निभा चुके हैं। उन्हें तमाम प्रतिष्ठित अवॉर्ड्स जैसे- ‘न्यूयॉर्क रेडियो अवॉर्ड’ (New York Radio Award), ‘एशिया कंज्यूमर एंगेजमेंट फोरम अवॉर्ड’ (Asia Consumer Engagement Forum Award), ‘इंडिया रेडियो फोरम अवॉर्ड’ (India Radio Forum Award) और ‘गोल्डन माइक्स’(Golden Mikes) से सम्मानित किया जा चुका है। इसके अलावा थिएटर के क्षेत्र में योगदान के लिए ‘यूपी संगीत नाटक अकादमी’ (UP Sangeet Natak Academy) की ओर से उन्हें ‘सफदर हाशमी नेशनल अवॉर्ड’ (Safdar Hashmi National Award) से भी सम्मानित किया जा चुका है।  

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Havells में इस बड़े पद से अमित तिवारी ने दिया इस्तीफा

हैवेल्स से पहले अमित तिवारी लंबे समय तक ‘फिलिप्स इंडिया’ (Philips India) में अपनी जिम्मेदारी निभा चुके हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 23 September, 2021
Last Modified:
Thursday, 23 September, 2021
Amit Tiwari

‘हैवेल्स इंडिया लिमिटेड‘ (Havells India Limited) में वाइस प्रेजिडेंट (मार्केटिंग) अमित तिवारी ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। वह यहां करीब साढ़े चार साल (चार साल चार महीने) से कार्यरत थे। इस दौरान उन्होंने कंपनी के बिजनेस को आगे बढ़ाने में काफी योगदान दिया। अमित तिवारी का अगला कदम क्या होगा, फिलहाल इस बारे में पता नहीं चल पाया है।    

अमित तिवारी को बिजनेस और मार्केटिंग का काफी अनुभव है। ‘हैवेल्स’ से पहले वह करीब नौ साल (आठ साल 11 महीने) तक ‘फिलिप्स इंडिया’ (Philips India) में अपनी जिम्मेदारी निभा चुके हैं। जहां वह मार्केटिंग डायरेक्टर (ब्रैंड, कम्युनिकेशन और डिजिटल) के पद पर कार्यरत थे। बिजनेस और मार्केटिंग के क्षेत्र में बेहतरीन कार्य के लिए अमित तिवारी को कई बार सम्मानित किया जा चुका है।

अमित तिवारी ने ‘इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस‘ (ISB) से मैनेजमेंट में ग्रेजुएशन किया है। इसके अलावा उन्होंने मैनेजमेंट में पीजी डिप्लोमा किया है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Zeel-Sony विलय के बाद बनने वाली नई कंपनी के निदेशक मंडल का नेतृत्व कर सकते हैं एनपी सिंह

सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया (SPNI) के एमडी व सीईओ एनपी सिंह ही मर्जर के बाद सोनी-जी इकाई के निदेशक मंडल (board of directors) का नेतृत्व कर सकते हैं

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 22 September, 2021
Last Modified:
Wednesday, 22 September, 2021
NPSingh5454

सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया (SPNI) के एमडी व सीईओ एनपी सिंह ही मर्जर के बाद सोनी-जी इकाई के निदेशक मंडल (board of directors) का नेतृत्व कर सकते हैं। ग्लोबल टेलीविजन स्टूडियो और सोनी पिक्चर्स एंटरटेनमेंट कॉरपोरेट डेवलपमेंट के चेयरमैन रवि आहूजा ने एम्प्लॉयीज को भेजे एक आंतरिक ई-मेल में कहा है कि इस डील के तहत पुनीत गोयनका (Punit Goenka) विलय के बाद बनने वाली कंपनी (Zee-Sony combined entity) के एमडी और सीईओ बने रहेंगे।

आहूजा ने कंपनी के निर्माण के लिए एनपी सिंह के लीडरशिप की भी प्रशंसा की और कहा कि  जी के साथ जो समझौता हुआ है, वह सोनी की ताकत और मार्केट में मजबूत उपस्थिति के साथ ही सोनी के एमडी व सीईओ एनपी सिंह की लीडरशिप की वजह से संभव हुआ है। एनपी सिंह पिछले 20 साल से सोनी पिक्सर्स इंडिया के साथ हैं। उन्होंने कहा कि सोनी पिक्चर्स इंडिया आज जहां है, उसके पीछे एनपी सिंह की उत्कृष्ट टीमों का अथक प्रयास रहा है।

सोनी पिक्चर्स ने भारत में निवेश करने का वादा किया है और साथ ही नई कंपनी में मेजोरिटी स्टेक (majority stake) रखेगी और हमें उम्मीद है कि एनपी सिंह ही इसके निदेशक मंडल (board of directors) का नेतृत्व करेंगे।

एम्प्लॉयीज से जी और सोनी के विलय की घोषणा करते हुए आहूजा ने कहा कि नई इकाई एक संयुक्त सामग्री मंच तैयार करेगी, जो घरेलू और वैश्विक प्लेटफार्मों के साथ प्रतिस्पर्धा कर सकती है और उस क्षेत्र के डिजिटल संक्रमण में तेजी ला सकती है। उन्होंने कहा कि ZEEL और SPNI का विलय मीडिया बिजनेस में एक नई ऊंचाई को छूएगा। यह विलय मीडिया बिजनेस में सबसे मजबूत लीडरशिप टीम्स, कंटेंट क्रिएटर्स और हाई क्वॉलिटी सीरीज व फिल्म लाइब्रेरी को एक साथ लाएगा, जो घरेलू और वैश्विक प्लेटफार्म्स के साथ प्रतिस्पर्धा कर सकती है और उस क्षेत्र के डिजिटल संक्रमण में तेजी ला सकती है। यह एक नई शुरुआत है।

उन्होंने कहा कि डील को पूरा होने में अभी कई महीने लगेंगे। यह एग्रीमेंट अभी शुरुआती स्टेज में है, जिसे अभी सिर्फ एक महीना हुआ है। आने वाले 90 दिनों में due diligence और negotiate terms स्पष्ट हो जाएंगे।

उन्होंने इस डील को पूरा करने में वैश्विक स्तर की सोनी टीम को उनके योगदान के लिए भी धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा, 'मैं धन्यवाद करना चाहता हूं एनपी सिंह और सोनी पिक्टर्स इंडिया की उनकी टीम का, जिन्होंने लगातार कड़ी मेहनत और समर्पण का परिचय दिया। मैं सोनी ग्रुप के हेड क्वार्टर (Sony Group HQ) की अपनी लीडरशिप का भी उनके सहयोग के लिए धन्यवाद देता हूं।’ इसके अतिरिक्त उन्होंने अपनी कॉरपोरेट डेवलपमेंट्स व लीगल टीम्स को भी धन्यवाद दिया, विशेषतौर पर Erik Moreno, John Fukunaga, Eric Gaynor के साथ उनकी टीम का। उन्होंने कहा कि मुझे नहीं लगता है कि यह टीम्स पिछले कई दिनों से ठीक से सोयी होगी।

  

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

SONY संग विलय के ऐलान के बाद Zee Entertainment के शेयरों ने कुछ यूं भरी ‘उड़ान’

‘जी एंटरटेनमेंट इंटरप्राइजेज लिमिटेड’ के एमडी और सीईओ पुनीत गोयनका ने इस विलय के लिए नॉन बाइंडिंग टर्म शीट (non-binding term sheet) पर हस्ताक्षर किए हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 22 September, 2021
Last Modified:
Wednesday, 22 September, 2021
Zee Entertainment

‘जी एंटरटेनमेंट’ के शेयरों में लगभग 24.1 प्रतिशत का उछाल देखने को मिला है। बताया जाता है कि ‘जी एंटरटेनमेंट’ के शेयर की कीमत जहां पिछले हफ्ते (16 सितंबर को) 256.8  रुपये थी, वह बढ़कर 314.50 रुपये हो गई है।

‘जी एंटरटेनमेंट’ के शेयर मूल्य में यह उछाल ‘सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स’ (Sony Pictures Networks) के साथ विलय के सौदे पर हस्ताक्षर करने के मद्देनजर देखा जा रहा है। शेयरों की कीमत ने 52 सप्ताह के उच्च स्तर 306.75 रुपये को पार कर लिया है।

गौरतलब है कि ‘जी एंटरटेनमेंट इंटरप्राइजेज लिमिटेड’  ने बुधवार को ‘सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया‘ के साथ विलय की घोषणा की है। ‘जी एंटरटेनमेंट इंटरप्राइजेज लिमिटेड’ के मैनेजिंग डायरेक्टर और चीफ एग्जिक्यूटिव ऑफिसर पुनीत गोयनका ने इस विलय के लिए नॉन बाइंडिंग टर्म शीट (non-binding term sheet) पर हस्ताक्षर किए हैं। इस विलय के बाद ‘सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स’ नई इकाई में 1.575 बिलियन डॉलर का निवेश करेगी और गोयनका नई कंपनी के एमडी और चीफ एग्जिक्यूटिव ऑफिसर बने रहेंगे।

इस बारे में ‘जी एंटरटेनमेंट’ की ओर से जारी बयान में कहा गया है, ‘ZEEL के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने Sony Pictures Networks के साथ विलय को सैद्धांतिक मंजूरी दे दी है।’ बताया जाता है कि इस विलय के बाद बनने वाली नई इकाई में SPN की हिस्सेदारी 52.93 होगी। बाकी की 47.07 फीसदी हिस्सेदारी ‘जी’ के शेयरधारक लेंगे। डील का ड्यू डिलिजेंस अगले 90 दिनों में पूरा होगा।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

ZEE5 ग्लोबल से जुड़े योगिन वोरा, मिली बड़ी जिम्मेदारी

योगिन वोरा ने ZEE5 ग्लोबल जॉइन किया है। इससे पहले वोरा एचडीएफसी लाइफ (HDFC Life) में बतौर सीनियर मार्केटिंग मैनेजर जुड़े हुए थे

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 22 September, 2021
Last Modified:
Wednesday, 22 September, 2021
yogin8816

योगिन वोरा ने ZEE5 ग्लोबल जॉइन किया है। उन्हें यहां डिजिटल मार्केटिंग का एसोसिएट डायरेक्टर बनाया गया है।

इससे पहले वोरा एचडीएफसी लाइफ (HDFC Life) के साथ बतौर सीनियर मार्केटिंग मैनेजर जुड़े हुए थे, जहां वे तीन वर्षों से भी ज्यादा समय तक अपना योगदान देते रहे।

वहीं एचडीएफसी से पहले उन्होंने डीडीबी मुद्रा में डिजिटल के पार्टनर के तौर पर और ग्राफेन मीडिया में ऑफलाइन व डिजिटल के ग्रुप हेड के तौर पर काम किया।

उन्होंने स्टारकॉम मीडिया और मैडिसन मीडिया में छोटी पारी खेली।

वोरा डिजिटल प्रोफेशनल हैं। उनके पास 8 वर्षों का डिजिटल और 3 वर्षों का मेनलाइन मीडिया व मार्केटिंग का अनुभव है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

ZEE एंटरटेनमेंट और Sony Pictures का होगा विलय, डील से जुड़ी खास बातें जानें यहां

जी एंटरटेनमेंट के बोर्ड ने विलय के लिए सैद्धांतिक मंजूरी दी। विलय के बाद भी पुनीत गोयनका एमडी और सीईओ बने रहेंगे

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 22 September, 2021
Last Modified:
Wednesday, 22 September, 2021
Zee-Sony

‘जी एंटरटेनमेंट इंटरप्राइजेज लिमिटेड’ (Zee Entertainment Enterprises Limited) ने बुधवार को ‘सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया‘ (Sony Pictures Networks India) के साथ विलय की घोषणा कर दी है।

‘जी एंटरटेनमेंट इंटरप्राइजेज लिमिटेड’ के मैनेजिंग डायरेक्टर और चीफ एग्जिक्यूटिव ऑफिसर पुनीत गोयनका ने इस विलय के लिए नॉन बाइंडिंग टर्म शीट (non-binding term sheet) पर हस्ताक्षर किए हैं। इस विलय के बाद ‘सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स’ नई इकाई में 1.575 बिलियन डॉलर का निवेश करेगी और गोयनका नई कंपनी के एमडी और चीफ एग्जिक्यूटिव ऑफिसर बने रहेंगे।

इस बारे में ‘जी एंटरटेनमेंट’ की ओर से जारी बयान में कहा गया है, ‘ZEEL के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने Sony Pictures Networks के साथ विलय को सैद्धांतिक मंजूरी दे दी है।’ ZEE के बोर्ड ने एक बयान में कहा है कि उसने न केवल वित्तीय मापदंडों (financial parameters) बल्कि रणनीतिक मूल्य (strategic value) का भी मूल्यांकन किया है।

बताया जाता है कि इस विलय के बाद बनने वाली नई इकाई में SPN की हिस्सेदारी 52.93 होगी। बाकी की 47.07 फीसदी हिस्सेदारी ‘जी’ के शेयरधारक लेंगे। ‘जी एंटरटेनमेंट’ के अनुसार, शेयरधारकों (shareholders) और हितधारकों (stakeholders) के हित में इस विलय को मंजूरी दी गई है। डील का ड्यू डिलिजेंस अगले 90 दिनों में पूरा होगा। विलय के बाद बनने वाली नई कंपनी को भारत में शेयर बाजार में भी सूचीबद्ध (Listed) कराया जाएगा।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

माइक्रोसॉफ्ट इंडिया से जुड़ीं प्रेरणा कोरला, मिला ये पद

कोरला इससे पहले ऊबर (Uber) के साथ थीं, जहां उन्होंने चार महीने तक कंज्युमर कम्युनिकेशंस लीड के तौर पर काम किया।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 21 September, 2021
Last Modified:
Tuesday, 21 September, 2021
PrernaKorla877

माइक्रोसॉफ्ट इंडिया ने प्रेरणा कोरला (Prerna Korla) को अपना सीनियर कम्युनिकेशन मैनेजर बनाया है। कोरला इससे पहले ऊबर (Uber) के साथ थीं, जहां उन्होंने चार महीने तक कंज्युमर कम्युनिकेशंस लीड के तौर पर काम किया।

कोरला कम्युनिकेशंस व पीआर प्रोफेशनल हैं, जिन्हें देश व विदेश के प्रमुख ब्रैंड्स के साथ-साथ एमएसएल ग्रुप इंडिया (MSL Group India) और एडेलमैन (Edelman) जैसी प्रमुख एजेंसियों के साथ काम करने का 13 साल का अनुभव है।

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए