इस प्रतिष्ठित अवॉर्ड से नवाजे जाएंगे प्रो. केजी सुरेश

इस अवॉर्ड के तहत पांच लाख रुपए का नकद पुरस्कार, शॉल और प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जाता है

Last Modified:
Friday, 10 April, 2020
Professor KG Suresh

देहरादून की बहु-विषयक और विशेषज्ञता केंद्रित यूनिवर्सिटी ‘यूपीईएस’ (UPES) में ‘स्कूल ऑफ मॉडर्न मीडिया’ (School of Modern Media) के डीन और ‘आईआईएमसी’ के पूर्व महानिदेशक प्रोफेसर के.जी. सुरेश के खाते में एक और उपलब्धि जुड़ गई है। दरअसल, उन्हें केंद्रीय हिंदी संस्थान, आगरा की ओर से स्थापित प्रतिष्ठित गणेश शंकर विद्यार्थी पुरस्कार के लिए चुना गया है।  

प्रोफेसर केजी सुरेश को हिंदी पत्रकारिता और जनसंचार में उत्कृष्ट योगदान के लिए इस पुरस्कार के लिए चुना गया है। यह पुरस्कार राष्ट्रपति द्वारा प्रदान किया जाता है। इस पुरस्कार के तहत पांच लाख रुपए का नकद पुरस्कार, शॉल और प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जाता है।

‘दूरदर्शन’ में सीनियर कंसल्टिंग एडिटर रह चुके प्रो. केजी सुरेश को इलेक्ट्रॉनिक मीडिया कैटेगरी में इस प्रतिष्ठित अवॉर्ड के लिए चुना गया है, जबकि कोलकाता के पत्रकार डॉ. कृष्ण बिहारी मिश्र को प्रिंट कैटेगरी में चुना गया है। प्रो. केजी सुरेश को पूर्व में कई प्रतिष्ठित अवॉर्ड्स से सम्मानित किया जा चुका है, जिनमें ‘बिजनेस वर्ल्ड’ (Business World) की ओर से दिया जाने वाला विजिनरी लीडर इन मीडिया एजुकेशन अवॉर्ड, PRSI लीडरशिप अवॉर्ड और सांप्रदायकि सौहार्द के लिए दिया जाने वाला ख्वाजा गरीब नवाज अवॉर्ड शामिल है।

बता दें कि केंद्रीय हिंदी संस्थान, आगरा मानव संसाधन विकास मंत्रालय के उच्चतर शिक्षा विभाग (भाषा प्रभाग) के अंतर्गत द्वितीय और विदेशी भाषा के रूप में हिंदी के शिक्षण-प्रशिक्षण, अनुसंधान और बहुआयामी विकास के लिए कार्यरत एक शैक्षिक संस्था है। इसका संचालन स्वायत्त संगठन केंद्रीय हिंदी शिक्षण मंडल द्वारा किया जाता है।

संस्था की ओर से हर साल हिंदी सेवी सम्मान योजना के तहत 12 पुरस्कार श्रेणियों में विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वाले 26 विद्वानों को सम्मानित किया जाता है। इसी के तहत इस साल हिंदी पत्रकारिता तथा जनसंचार के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने के लिए प्रो. केजी सुरेश और डॉ. कृष्ण बिहारी मिश्र का चयन गणेश शंकर विद्यार्थी पुरस्कार के लिए किया गया है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

वरिष्ठ पत्रकार कृष्णा प्रसाद को The Hindu ग्रुप में मिली बड़ी जिम्मेदारी

पूर्व में प्रसाद आउटलुक मैगजीन के एडिटर-इन-चीफ और टाइम्स ऑफ इंडिया ग्रुप के विजय टाइम्स अखबार के एडिटर रह चुके हैं।

Last Modified:
Saturday, 17 April, 2021
Krishna Prasad

‘द हिंदू’ (THE HINDU), ‘द हिंदू बिजनेसलाइन’ (The Hindu BusinessLine), ‘फ्रंटलाइन’ (Frontline) और ‘स्पोर्टस्टार’ (Sportstar) के पब्लिशर ‘द हिन्‍दू ग्रुप पब्लिशिंग प्राइवेट लिमिटेड’ (The Hindu Group Publishing Private Limited) ने कृष्णा प्रसाद को ग्रुप एडिटोरियल ऑफिसर के पद पर नियुक्त किया है। उनकी यह नियुक्ति 16 अप्रैल 2021 से प्रभावी है। अपनी इस भूमिका में वह ‘द हिंदू समूह’ के सभी प्रकाशनों में समन्वित प्रयासों से, विभिन्न प्रिंट प्रकाशनों और डिजिटल सामग्री में अधिक से अधिक तालमेल बैठाते हुए नेतृत्व करेंगे।

प्रसाद को पत्रकारिता के क्षेत्र में काम करने का काफी लंबा अनुभव है। पूर्व में प्रसाद ‘आउटलुक’ (Outlook) मैगजीन के एडिटर-इन-चीफ और ‘टाइम्स ऑफ इंडिया’ (Times of India group) ग्रुप के अखबार ‘विजय टाइम्स’ (Vijay Times) के एडिटर रह चुके हैं। वह ‘प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया’ (Press Council of India) के सदस्य रह चुके हैं। वह डिजिटल शैली को अपनाने वाले शुरुआती मुख्यधारा के पत्रकारों में से एक हैं।  

कृष्णा प्रसाद की नियुक्ति के बारे में ‘द हिन्‍दू ग्रुप पब्लिशिंग प्राइवेट लिमिटेड’ की चेयरपर्सन मालिनी पार्थसारथी का कहना है, ‘ग्रुप एडिटोरियल ऑफिसर के रूप में प्रसाद, सभी पब्लिकेशंस के कंटेंट मैनेजमेंट और स्ट्रैटेजी को लेकर मार्गदर्शक की भूमिका निभाएंगे।’ वहीं, कृष्णा प्रसाद का कहना है, ‘मैं समूह के संपादकों, पत्रकारों के साथ-साथ बिजनेस और टेक्निकल टीमों संग मिलकर काम करने को लेकर उत्सुक हूं।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

एडिटर्स गिल्ड ने केंद्र सरकार को पत्र लिखकर किया ये आग्रह

देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया ने केंद्र सरकार से पत्रकारों को फ्रंटलाइन वर्कर घोषित करने का आग्रह किया है।

Last Modified:
Friday, 16 April, 2021
Editors Guild

देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया ने केंद्र सरकार से पत्रकारों को फ्रंटलाइन वर्कर घोषित करने का आग्रह किया है। यही नहीं गिल्ड ने सरकार से पत्रकारों का टीकाकरण सुनिश्चित कराने की मांग भी की है।

एडिटर्स गिल्ड की ओर से गुरुवार को जारी एक बयान में कहा गया है कि पाठकों तक खबरें और सूचनाएं पहुंचाने के लिए समाचार संगठन लगातार महामारी, चुनाव और अन्य समसामयिक मामलों को कवर कर रहे हैं। इसलिए पत्रकारों को संरक्षण के दायरे में लाया जाए।'

बयान के मुताबिक अन्य फ्रंटलाइन वर्कर्स की तर्ज पर पत्रकारों को टीकाकरण में प्राथमिकता दी जाए। टीकाकरण का संरक्षण मिले बगैर मीडिया कर्मियों के लिए अपनी पेशेवर जवाबदेही का निर्वाह करना अत्यंत कठिन है।

बता दें कि इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी पत्रकारों को फ्रंटलाइन वर्कर्स मानते हुए कोरोना वैक्सीन लगाने की वकालत की थी। दिल्ली सरकार ने इस बाबत एक पत्र भी केंद्र सरकार के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय को लिखा है और पत्रकारों को फ्रंटलाइन वर्कर्स मानते हुए प्राथमिकता के आधार पर उनके टीकाकरण के लिये विचार करने की अपील की है।

दिल्ली सरकार द्वारा भेजे गये पत्र में कहा गया है कि पत्रकारिता सरकार और जनता के बीच एक महत्वपूर्ण सेतु का काम करती है। सबसे मुश्किल हालात में स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के साथ-साथ मीडियाकर्मी भी सबसे आगे रहे हैं। कोरोना महामारी के दौरान मीडिया ने सक्रिय रूप से लोगों को बीमारी के बारे में जानकारी देने और इसकी रोकथाम के लिए जागरूक करने का काम किया है।

गौरतलब है कि पत्रकारों को कोरोना वैक्सीन लगाने की अनुमति देने के लिए कई अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने भी केंद्र सरकार से मांग की है। पिछले 10 दिनों में भारत में कोरोना के मामले दोगुने हो गए हैं। इसके साथ ही पूरे विश्व में कोरोना के मामलों में भारत में ब्राजील को पीछे छोड़ दिया। अब भारत विश्व में सबसे ज्यादा कोरोना केस वाला देश बन गया है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच 'आजतक' ने उठाया यह ऐहतियाती कदम

कोरोना वायरस ने एक बार फिर तेजी से अपना प्रकोप दिखाना शुरू कर दिया है। महामारी की दूसरी लहर ने पूरे देश को अपनी चपेट में ले लिया है।

Last Modified:
Friday, 16 April, 2021
Aajtak

कोरोना वायरस ने एक बार फिर तेजी से अपना प्रकोप दिखाना शुरू कर दिया है। महामारी की दूसरी लहर ने पूरे देश को अपनी चपेट में ले लिया है। हर दिन देशभर में वायरस के रिकॉर्ड मामले दर्ज किए जा रहे हैं। इस बीच कई पत्रकार भी कोरोना की चपेट में आए हैं, जिनमें से तो कई पत्रकारों की जान तक चली गई है। तेजी से बढ़ती कोरोना महामारी को देखते हुए हिंदी न्यूज चैनल आजतक ने अपने खास पॉलिटिकल प्रोग्राम, जोकि ग्राउण्ड जीरो से प्रसारित किया जाता है, फिलहाल के लिए उसे बंद कर दिया है। इस प्रोग्राम का नाम है- बुलेट रिपोर्टर।

बता दें कि चुनावों पर केंद्रित इस शो को ‘आजतक’ तक की डिप्टी एडिटर व सीनियर एंकर चित्रा त्रिपाठी होस्ट करती थीं।  उन्होंने इस बात की जानकारी अपने ट्विटर हैंडल के जरिए दी। दरअसल तेजी से फैलते कोरोना संक्रमण को देखते हुए ही इस शो को फिलहाल के लिए बंद करने का फैसला लिया गया है। फिलहाल इस शो को कब तक के लिए बंद किया जा रहा है और दोबारा कब इसे शुरू किया जाएगा, इसकी जानकारी उन्होंने नहीं दी है।

‘बुलेट रिपोर्टर’ की खास बात थी इसका अंदाज, जो लोगों को सबसे ज्यादा पसंद आ रहा था। चित्रा त्रिपाठी चैनल की ओबी वैनं में नहीं बल्कि बुलेट पर सवार होकर जगह-जगह घूम-घूमकर मतदाताओं का मन टटोलती थीं। उनसे बात करती थीं, प्रत्याशियों का हाल जानती थीं और उन समस्याओं पर भी प्रकाश डालती थीं, जो अब तक अनसुलझी थीं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

मीडिया-मनोरंजन उद्योग ने महाराष्ट्र के CM से किया ये अनुरोध

मीडिया-मनोरंजन उद्योग की समन्वय समिति ने मिलकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर अनुरोध किया है

Last Modified:
Friday, 16 April, 2021
uddhav thackeray45

कोरोना वायरस ने एक बार फिर तेजी से अपना प्रकोप दिखाना शुरू कर दिया है। महामारी की दूसरी लहर ने पूरे देश को अपनी चपेट में ले लिया है। हर दिन देशभर में वायरस के रिकॉर्ड मामले दर्ज किए जा रहे हैं। इस बीच बीते कई दिनों से कोरोना का गढ़ बन चुके महाराष्ट्र में 15 दिनों का  लॉकडाउन लगाया गया है। इस लॉकडाउन के कारण कई फिल्मों की शूटिंग रुक गई है, जिसके चलते इन फिल्मों में दिहाड़ी पर काम करने वाले लोगों की रोजी रोटी पर संकट आ गया है। लिहाजा इसे देखते हुए मीडिया और मनोरंजन उद्योग की समन्वय समिति, जिसमें IMPPA, IFTDA, FWICE और CINTAA जैसे फिल्म निकाय शामिल हैं, सभी ने मिलकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर अनुरोध किया है कि 15 दिनों के कर्फ्यू के दौरान उन्हें सीमित स्तर पर काम करने की अनुमति दी जाए।

समिति ने 15 दिनों के लिए बंद होने को लेकर पत्र में आग्रह किया गया है कि बंद वातावरण में पोस्ट-प्रॉडक्शन के काम को करने की अनुमति दी जानी चाहिए ताकि प्रसारण के लिए कंटेंट को एडिट किया जा सके।

इसके अलावा, उन्होंने अनुरोध किया है कि प्रड्यूसर्स को होने वाले नुकसान से बचने के लिए इस निर्माण कार्य की अनुमति दी जानी चाहिए। निर्माण श्रमिकों की तरह, सेट बिल्डिंग से जुड़े लोग भी सभी सावधानियों के साथ सेट पर रहकर काम कर सकते हैं। दैनिक वेतन भोगियों के लिए घोषित वित्तीय पैकेज को मीडिया और मनोरंजन उद्योग के श्रमिकों, तकनीकी विभाग के लोगों और अभिनेताओं के लिए भी छूट बढ़ाई जाने सहित पत्र में कई तरह के अनुरोध किए गए हैं।

अंत में, निकाय ने आग्रह किया कि यदि संभव हो तो फिल्म सिटी और मीरा-भायंदर क्षेत्र में टीकाकरण केंद्र और फिल्म व टीवी कर्मचारियों के लिए खानपान की स्थापना की जाए।

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

9X Media में कनन दवे का हुआ प्रमोशन, अब मिली ये जिम्मेदारी

दवे इस म्यूजिक नेटवर्क में करीब दो साल से मार्केटिंग हेड के तौर पर अपनी भूमिका निभा रही हैं।

Last Modified:
Friday, 16 April, 2021
Kanan Dave

म्यूजिक नेटवर्क ‘9एक्स मीडिया’(9X Media) ने कनन दवे (Kanan Dave) को बिजनेस हेड के पद पर प्रमोट किया है। उन्होंने 15 अप्रैल से बतौर बिजनेस हेड (SpotlampE) अपना कार्यभार संभाल लिया है। बिजनेस हेड के रूप में कनन के कंधों पर SpotlampE के ग्रोथ, स्ट्रैटेजी और रचनात्मक विकास को अगले चरण में ले जाने की जिम्मेदारी होगी।

बता दें कि कनन पिछले दो साल से ‘9एक्स मीडिया’ में मार्केटिंग की जिम्मेदारी संभाल रही हैं। उन्हें मीडिया और एंटरटेनमेंट सेक्टर में काम करने का 15 साल से ज्यादा का अनुभव है। ‘9एक्स मीडिया’ से पहले कनन ‘यूटीवी’ (UTV) और ‘डिज्नी’ (Disney) के म्यूजिक और फिल्म मार्केटिंग बिजनेस में अपनी जिम्मेदारी निभा चुकी हैं।   

अपनी नई जिम्मेदारी के बारे में कनन का कहना है, ‘कंपनी के विजन का हिस्सा बनने को लेकर मैं काफी खुश हूं। SpotlampE ने भारतीय म्यूजिक इंडस्ट्री में काफी हलचल मचा रखी है और इसे आगे बढ़ाने के लिए ब्रैंड्स और मीडिया प्लेटफॉर्म्स के अलावा कलाकारों व रचनाकारों के साथ काम करने को लेकर मैं काफी उत्सुक हूं।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अरविंद केजरीवाल ने पत्रकारों के लिए उठाई ये मांग, PM को लिखी चिट्ठी

देश में कोरोनावायरस (कोविड-19) का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। तमाम लोग इस महामारी की चपेट में आकर अपनी जान गंवा चुके हैं, वहीं तमाम लोगों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है।

Last Modified:
Thursday, 15 April, 2021
Arvind Kejriwal

देश में कोरोनावायरस (कोविड-19) का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। तमाम लोग इस महामारी की चपेट में आकर अपनी जान गंवा चुके हैं, वहीं तमाम लोगों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है। कोरोना को खत्म करने के लिए वैक्सीन लेना सबसे ज्यादा जरूरी बताया जा रहा है। कोरोना के बढ़ते मरीजों की संख्या के बीच सरकार वैक्सीनेशन में जुटी हुई है और लोगों से वैक्सीनेशन करवाने की अपील कर रही है।

दूसरी ओर, कोरोना के बढ़ते संक्रमण के खतरों के बीच तमाम पत्रकार मुस्तैदी से अपने काम में जुटे हुए हैं। कोरोना के खिलाफ जंग में अपनी भूमिका निभाते हुए राष्ट्रीय राजधानी में पिछले एक साल में कई पत्रकार कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। ऐसे में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार से मांग की है कि पत्रकारों को फ्रंटलाइन वर्कर मानकर उन्हें भी जल्द से जल्द वैक्सीन लगानी चाहिए।

बुधवार को किए गए एक ट्वीट में केजरीवाल का कहना है, ‘पत्रकार बेहद विपरीत परिस्थितियों में रिपोर्टिंग कर रहे हैं। उन्हें फ्रंटलाइन वर्कर्स मानकर प्राथमिकता के आधार पर उनकी वैक्सीनेशन होनी चाहिए।' मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अरविंद केजरीवाल ने इस बारे में प्रधानमंत्री को एक चिट्ठी भी लिखी है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

परवान नहीं चढ़ पाई म्यूजिक ब्रॉडकास्ट लिमिटेड और RBNL के बीच की ये डील

दोनों पक्षों को सूचना प्रसारण मंत्रालय की ओर से अभी तक इस डील के लिए मंजूरी न मिलने के कारण यह निर्णय लिया गया है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 14 April, 2021
Last Modified:
Wednesday, 14 April, 2021
deal break

‘जागरण प्रकाशन’ (jagran Prakashan) के स्वामित्व वाली कंपनी म्यूजिक ब्रॉडकास्ट लिमिटेड, जो ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) की मालिक है और इसका संचालन करती है, ने ‘बिग एफएम’ (Big FM) के अधिग्रहण के लिए ‘रिलायंस ब्रॉडकास्ट नेटवर्क लिमिटेड’ (RBNL) के साथ अपने 1050 करोड़ रुपये के अधिग्रहण सौदे को समाप्त कर दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, दोनों पक्षों को सूचना प्रसारण मंत्रालय की ओर से अभी तक मंजूरी नहीं मिलने के कारण यह अधिग्रहण सौदा रद्द किया गया है और समझौते की शर्तों के साथ यह समय सीमा समाप्त हो गई है।

‘बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज’ (BSE) को दी गई जानकारी में म्यूजिक ब्रॉडकास्ट का कहना है, ‘8 अप्रैल 2021 को आयोजित बैठक में कंपनी के निदेशकों ने बिग एफएम में प्रस्तावित निवेश को आगे नहीं बढ़ाने का फैसला किया है और निश्चित लेनदेन दस्तावेजों को तत्काल प्रभाव से समाप्त कर दिया जाएगा।’

इसके साथ ही यह भी कहा गया है, ‘बिग एफएम के प्रस्तावित अधिग्रहण के लिए दोनों पक्षों को अभी तक सूचना प्रसारण मंत्रालय की मंजूरी नहीं मिली है। ऐसे में म्यूजिक ब्रॉडकास्ट लिमिटेड के बोर्ड ने इस प्रस्तावित सौदे को आगे न बढ़ाने का फैसला लिया है। इस कदम से कंपनी के व्यावसायिक परिचालन पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

‘स्टार’ और ‘डिज्नी इंडिया’ में के. माधवन को मिली बड़ी जिम्मेदारी

फिलहाल ‘स्टार’ (Star) और ‘डिज्नी इंडिया’ (Disney India) के कंट्री मैनेजर की भूमिका निभा रहे हैं के. माधवन

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 14 April, 2021
Last Modified:
Wednesday, 14 April, 2021
K Madhavan

‘स्टार’ (Star) और ‘डिज्नी इंडिया’ (Disney India) के कंट्री मैनेजर के. माधवन (K Madhavan) को तुरंत प्रभाव से ‘द वाल्ट डिज्नी कंपनी इंडिया’ (The Walt Disney Company India) और ‘स्टार इंडिया’ (Star India) का प्रेजिडेंट नियुक्त किया गया है। ‘डिज्नी’ की चेयरमैन (International Operations and Direct-to-Consumer) रेबेका कैंपबेल (Rebecca Campbell) ने बुधवार को यह घोषणा की।

अपनी इस भूमिका में के. माधवन भारत में कंपनी की स्ट्रैटेजी और ग्रोथ को आगे बढ़ाएंगे। उनके ऊपर डिज्नी, स्टार और हॉटस्टार बिजनेस और ऑपरेशंस (एंटरटेनमेंट, स्पोर्ट्स, रीजनल चैनल्स और डायरेक्ट टू कस्टमर) की जिम्मेदारी भी होगी।

इस बारे में कैंपबेल का कहना है, ‘पिछले कुछ महीनों से मैंने सीधे के. माधवन के साथ काम किया है और देखा है कि कैसे उन्होंने भारत में हमारे बिजनेस को अच्छे से संचालित किया है। महामारी के कारण आईं तमाम चुनौतियों के बावजूद के. माधवन हमारे विशाल स्टार नेटवर्क और लोकल कंटेंट प्रॉडक्शन बिजनेस को नई ऊंचाइयों पर ले गए हैं।’

वहीं, माधवन का कहना है, ‘भारत में कंपनी की बेहतरीन टीम के नेतृत्व करने का अवसर मिलने पर मुझे गर्व है। मैं अपने बिजनेस को लगातार आगे बढ़ाने को लेकर प्रतिबद्ध हूं और टीम के सहयोगियों के साथ मिलकर काम कर रहा हूं।’

बता दें कि वर्ष 2019 से माधवन ‘स्टार’ (Star) और ‘डिज्नी इंडिया’ (Disney India) के कंट्री मैनेजर के तौर पर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैं। अपनी इस भूमिका में माधवन ‘स्टार’ और ‘डिज्नी इंडिया’ के टेलिविजन बिजनेस (एंटरटेनमेंट, स्पोर्ट्स और रीजनल चैनल्स) के साथ ही भारत में इसके स्टूडियो बिजनेस का काम संभालते हैं।

माधवन ने वर्ष 2009 में स्टार इंडिया में बतौर हेड (साउथ) जॉइन किया था। उनके नेतृत्व में कंपनी ने अच्छा रीजनल एंटरटेनमेंट पोर्टफोलियो बनाया। माधवन ‘इंडियन ब्रॉडकास्टिंग फाउंडेशन’ (Indian Broadcasting Foundation) के प्रेजिडेंट के साथ-साथ ‘कंफेडरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्री’(Confederation of Indian Industry) की मीडिया और एंटरटेनमेंट की नेशनल कमेटी के चेयरमैन हैं। 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

NBF ने BARC को लिखा लेटर, मांगे इन दस सवालों के जवाब

रेटिंग एजेंसी की ओर से सचिन वझे को रिश्वत दिए जाने के आरोपों को लेकर लिखा गया है ये लेटर

Last Modified:
Tuesday, 13 April, 2021
NBF

‘न्यूज ब्रॉडकास्टर्स फेडरेशन’ (News Broadcasters Federation) ने मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के बाहर जिलेटिन से भरी गाड़ी खड़ी करने के मामले में निलंबित असिस्टेंट पुलिस इंस्पेक्टर सचिन वझे को रिश्वत दिए जाने के आरोपों को लेकर ‘ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल’ (BARC) इंडिया को एक लेटर लिखा है। एनबीएफ के सेक्रेट्री जनरल आर. जय कृष्णा की ओर से यह लेटर बार्क इंडिया के चेयरमैन पुनीत गोयनका को लिखा गया है। इस लेटर में बार्क द्वारा सचिन वझे को 30 लाख रुपये की रिश्वत दिए जाने के आरोपों पर रेटिंग एजेंसी से दस सवालों के जवाब मांगे गए हैं।

लेटर में कहा गया है, ‘हमें मिली जानकारी के अनुसार बार्क ने प्रवर्तन निदेशालय के सामने 30 लाख रुपये रिश्वत का भुगतान किए जाने की बात कबूली है।’ लेटर में इस बात को भी उठाया गया है कि बार्क ने जांच शुरू होने और दिल्ली की जिस कंपनी के द्वारा धन का लेन-देन हुआ, उसके ठिकानों पर प्रवर्तन निदेशालय के द्वारा तलाशी अभियान चलाए जाने के बाद रिश्वत देने की बात कबूली है।

एनबीएफ की ओर से बार्क को भेजी गई दस सवालों की सूची आप यहां देख सकते हैं।

1- Did BARC or any officials thereof pay Rs. 30 lakhs as a bribe to Sachin Vaze and/or his associates?
2- If the answer to the above is yes, when was the said bribe paid?
3- What was the understanding between Sachin Vaze & BARC and/or any of its officials?
4- Who are the officials at BARC that are aware of this transaction?
5- Did the CEO of BARC and/or any of the board members of BARC know about this bribe?
6- The Ministry of Information and Broadcasting (I&B) is the nodal Ministry for BARC. Did BARC inform the said Ministry about the bribe sought and bribe given?
7- Were you aware when you paid the bribe that Sachin Vaze was actively playing a critical role in levelling false charges in the TRP case?
8- Is it true that the bribe was paid in the duration when the News Broadcasters Federation was repeatedly writing to BARC regarding false charges against our member channels?
9- Did BARC disclose to any authorities that a bribe was sought before making the said payment?
10- Are you aware that under sections 8 and 9 of The Prevention of Corruption Act, 1988 (PC Act) payment of a bribe which has not been reported within 7 days by the bribe payer is punishable with imprisonment for a term which may extend to seven years?

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

कोरोना की चपेट में आया महानिदेशक समेत IIMC का तमाम स्टाफ

देश में कोरोना के मामले फिर लगातार बढ़ते जा रहे हैं। सालभर बाद कोरोना ज्यादा दैत्याकार और विकराल आकार लेता जा रहा है।

Last Modified:
Monday, 12 April, 2021
IIMC

देश में कोरोना के मामले फिर लगातार बढ़ते जा रहे हैं। सालभर बाद कोरोना ज्यादा दैत्याकार और विकराल आकार लेता जा रहा है।  पिछले एक महीने में तो इस संक्रामक बीमारी का जिस तरह विस्तार हुआ है, उसने सारी मानव बिरादरी को हिला दिया है।

पूरी दुनिया में कहर मचा रहे इस वायरस के संक्रमण की चपेट में आकर तमाम लोग अब तक अपनी जान गंवा चुके हैं, वहीं कई लोग विभिन्न अस्पतालों में अपना इलाज करा रहे हैं। देश के प्रमुख मीडिया शिक्षण संस्थान ‘भारतीय जनसंचार संस्थान’ (IIMC) में भी तमाम स्टाफ इस महामारी की चपेट में आ चुका है।

खबर के मुताबिक, आईआईएमसी के महानिदेशक प्रो. संजय द्विवेदी और उनकी पत्नी भूमिका द्विवेदी कोरोनावायरस की चपेट में आ गई हैं। दोनों फिलहाल होम आइशोलेशन में हैं। वहीं, आईआईएमसी में अंग्रेजी पत्रकारिता विभाग की निदेशक प्रो.सुरभि दहिया का मेदांता अस्पताल में इलाज चल रहा है। विकास पत्रकारिता विभाग के निदेशक प्रो. राजेश कुमार भी इस महामारी की चपेट में आ गए हैं। कोविड अस्पताल में उनका इलाज चल रहा है। 

इसके साथ ही सतीश नंबूदरीपाद-अपर महानिदेशक(प्रशासन), ममता वर्मा- अपर महानिदेशक (प्रशिक्षण) और प्रो. अनिल सौमित्र-निदेशक (अमरावती परिसर) इस महामारी को मात देकर कार्य पर वापस लौट आए हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए