IMPACT की Top 30 Under 30 लिस्ट से उठा पर्दा, शामिल रहे ये नाम

एक्सचेंज4मीडिया समूह की जानी-मानी मैगजीन ‘इम्पैक्ट’ की मीडिया, एडवर्टाइजिंग और डिजिटल एजेंसी से जुड़े 30 प्रतिभाशाली युवाओं ‘टॉप 30 अंडर 30’ की लिस्ट से पर्दा उठ गया है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 24 March, 2021
Last Modified:
Wednesday, 24 March, 2021
Impact 30 Under 30

एक्सचेंज4मीडिया (exchange4media) समूह की जानी-मानी मैगजीन ‘इम्पैक्ट’ (IMPACT) द्वारा मीडिया, एडवर्टाइजिंग और डिजिटल एजेंसी से जुड़े 30 प्रतिभाशाली युवाओं ‘टॉप 30 अंडर 30’ (Top 30 Under 30) की लिस्ट से पर्दा उठ गया है। मंगलवार की शाम एक कार्यक्रम में इस लिस्ट से पर्दा उठाया गया। यह इस लिस्ट का आठवां एडिशन है। इस लिस्ट में तीस साल से कम उम्र वाले देश के ऐसे 30 युवा शामिल किए गए हैं, जो मीडिया और एडवर्टाइजिंग इंडस्ट्री में अपने काम के जरिये शिखर पर पहुंचे हैं।

इस लिस्ट में ‘डेंट्सू वेबचटनी’ (Dentsu Webchutney) और ‘वेवमेकर’ (Wavemaker) सबसे बड़े विजेता बनकर उभरे, जहां दोनों के पांच-पांच प्रतिभाशाली युवाओं ने अपनी जगह बनाई। वहीं इस लिस्ट में अन्य एजेंसियों जैसे ‘माइंडशेयर’ (Mindshare), ‘बीबीएच इंडिया’ (BBH India), ‘डीडीबी मुद्रा’ (DDB Mudra), ‘डेंट्सू’ (Dentsu), ‘वंडरमैन थॉम्पसन’ (Wunderman Thompson) और ‘एसेंस’ (Essence) का भी प्रतिनिधित्व रहा।    

‘इंपैक्ट टॉप 30 अंडर 30’ लिस्ट 2021 का को-गोल्ड पार्टनर (Co-Gold Partner) ‘इनमोबी’ (InMobi) रहा। इस लिस्ट में जहां करीब 50 प्रतिशत युवा 28 से 30 साल की उम्र के हैं, वहीं तीन की उम्र महज 25 साल है। इस बार इस लिस्ट में 14 महिलाओं ने अपनी जगह बनाई।

चयन प्रक्रिया की बात करें तो इस महीने की शुरुआत में ‘एबीपी नेटवर्क’ (ABP Network) के सीईओ अविनाश पांडेय के नेतृत्व में एक जूरी ने वर्चुअल मीटिंग में 1200 से ज्यादा नॉमिनेशंस को लेकर आपस में चर्चा की थी। इस जूरी में शामिल सम्मानित सदस्यों में ये नाम शामिल रहे- 

Bindu Sethi – Chief Strategy Officer, Wunderman Thompson

Ashish Chakravarthy – Exec Director & Head of Creative, McCann Worldgroup India

Santosh Padhi, CCO & Founder, Taproot Dentsu

Mohit Joshi, CEO, Havas Media India

Jai Lala – COO, Zenith

Lara Balsara – Executive Director, Madison World

Lavin Punjabi – President & CEO, Affinity

Aparna Bhawal, Vice-President, Marketing, Hindustan Times

Sunil Mohapatra – Chief Revenue Officer, Daily Hunt

Sameer Seth – Marketing Director, Dolby India

Ashwini Deshpande – Co-founder & Director, Elephant Design

S Yesudas – Co-founder and MD, Y&A Transformation

Tanvi Shukla – News Editor, Mirror Now

Archana Jain – Managing Director, PR Pundit

DeepshikaDharmaraj – CEO, Genesis BCW

Neena Dasgupta – CEO & Director, Zirca

Rajneesh Chaturvedi – Co-founder, ads2OTT

Rubeena Singh – CEO, iProspect

PuneetGupt – COO, Times Internet

Aditya Tandon, Vice President, Hindi Cluster News18 Network

Ajay Gupte – CEO South Asia, Wavemaker

Anusha Shetty – Chairman & CEO, Grey

Sukesh Nayak – Chief Creative Officer, Ogilvy India

Vaishali Verma, CEO, Initiative India

Pooja Jauhari – CEO, The Glitch

Garima Khandelwal, Chief Creative Officer, Mullen Lintas

Shripad Kulkarni – Founder, Shripad Kulkarni & associates

‘इंपैक्ट टॉप 30 अंडर 30’ लिस्ट 2021 के फाइनल विजेताओं का चयन उनके द्वारा किए गए उल्लेखनीय कार्य, उनका नेतृत्व कौशल और इंडस्ट्री में उनके योगदान आदि मानदंडों के आधार पर किया गया।

‘30 अंडर 30’ की फाइनल लिस्ट को आप यहां देख सकते हैं। सभी नाम वर्णानुक्रम (alphabetical order) में दिए गए हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

पाकिस्तानी टीम से हार के बाद पत्रकार के इस सवाल पर ‘भड़के’ विराट कोहली, दिया ये जवाब

दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में रविवार को खेले गए आईसीसी टी-20 विश्व कप मैच में पाकिस्तान ने भारतीय टीम को दस विकेट से हरा दिया।

Last Modified:
Monday, 25 October, 2021
Virat Kohli

दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में रविवार को खेले गए आईसीसी टी-20 विश्व कप मैच में पाकिस्तान ने भारतीय टीम को दस विकेट से हरा दिया। हालांकि, भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने इस पारी में अर्धशतक जमाया, लेकिन उनकी ये शानदार पारी टीम के काम नहीं आई और भारत को हार का सामना करना पड़ा।

यह पहला मौका है, जब पाकिस्तान ने आईसीसी विश्व कप मैच में भारत को हराया है। इस मैच के बाद हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली एक पत्रकार के सवाल पर नाराज हो गए। हालांकि बाद में वह अपना मुंह दूसरी तरफ करके हंसने लगे।

दरअसल, हुआ यूं कि इस प्रेस वार्ता के दौरान इस पत्रकार ने विराट कोहली से पूछ लिया कि क्या हार के बाद वह टीम के चयन में किसी तरह की खामी देखते हैं? क्या उनको लगता है कि आईपीएल के अंत में और फिर अभ्यास मैचों में लय में दिखाने वाले ईशान किशन को रोहित शर्मा की जगह खिलाया जा सकता था?  

बस, सुनना था कि कोहली नाराज हो गए। उन्होंने कहा, ‘ये तो बहुत बहादुरी वाला सवाल है। आप क्या सोचते हैं सर? मैं तो उस टीम के साथ उतरा जो मुझे लगता था कि सर्वश्रेष्ठ थी, आपकी क्या राय है? क्या आप रोहित शर्मा को टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में टीम से बाहर रख सकते हैं? आपको याद होगा कि पिछली बार मैच में उन्होंने कैसा खेला था, अविश्वसनीय।‘ इसके बाद वह हंसने लगे और हंसते-हंसते अपना सिर पकड़कर बोले कि अगर आपको कोई विवाद चाहिए तो पहले से बता दीजिए।

 

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

बदले की भावना से काम कर रहा है इनवेस्को, कंपनी बोर्ड पर करना चाहता है कब्जा: पुनीत गोयनका

NCLT को दिए हलफनामे में गोयनका ने आरोप लगाया कि ZEEL के SPNI के साथ विलय को रोकने के लिए कंपनी बोर्ड पर नियंत्रण चाहता है इनवेस्को

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Saturday, 23 October, 2021
Last Modified:
Saturday, 23 October, 2021
Punit Goenka

'जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड’ (ZEEL) के मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ पुनीत गोयनका ने आरोप लगाया है कि अपना प्रस्ताव ठुकरा दिए जाने के कारण निवेशक 'इनवेस्को' (Invesco) उन्हें कंपनी के बोर्ड से बाहर करना चाहता है।

बता दें कि स्टॉक एक्सचेंज को दी गई सूचना में 'जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड’ ने कहा था कि ‘इनवेस्को डेवलपिंग मार्केट फंड्स’ ने पहले उन्हें एक बड़े भारतीय समूह के साथ कंपनी का विलय करने की पेशकश की थी। लेकिन ‘जी‘ के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी पुनीत गोयनका ने इस प्रस्ताव को ठुकरा दिया था। उन्होंने दावा किया कि ऐसा शेयरधारकों के मूल्यों की रक्षा के लिए किया गया था।

एक प्रमुख अंग्रेजी अखबार के मुताबिक, गोयनका ने नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (एनसीएलटी) को दिए एक हलफनामे में आरोप लगाया कि ZEEL के SPNI के साथ विलय को रोकने के लिए इनवेस्को कंपनी बोर्ड पर अपना नियंत्रण चाहता है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि कंपनी के बोर्ड में बड़े परिवर्तन की इनवेस्को की मांग उन्हें अपने प्रस्ताव को ठुकराने के कारण सबक सिखाने के लिए थी।

गोयनका का कहना है, ‘वे स्पष्ट रूप से मुझ पर दबाव डालना चाहते थे कि उनके द्वारा प्रस्तुत डील को पूरा करने के लिए ZEE का समर्थन प्राप्त किया जाए, जबकि ZEE या उसके प्रबंधन की इस बातचीत में कोई भूमिका नहीं थी। यह आरोप कि सौदा इस आधार पर आगे नहीं बढ़ा कि मेरे या प्रमोटर समूह द्वारा वारंट की मांग की गई थी, निराधार है।’

पुनीत गोयनका ने दावा किया कि इनवेस्को कंपनी के बोर्ड पर नियंत्रण की मांग कर रहा है और ‘सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया’ (SPNI) के साथ प्रस्तावित विलय को तोड़ने की कोशिश कर रहा है। इनवेस्को द्वारा उन्हें बोर्ड से हटाने की मांग के लिए नोटिस जारी करना दुर्भावना और बदले की कार्रवाई से प्रेरित प्रतीत होता है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि इनवेस्को ZEE और सार्वजनिक शेयरधारकों के हित में काम नहीं कर रहा है।

इस हलफनाम में यह भी कहा गया है, ‘इनवेस्को किसी तीसरे पक्ष के इशारे पर ZEE के प्रबंधन में हस्तक्षेप करने और उसे बदलने के अपने वास्तविक उद्देश्यों को छिपा रहा है। अपने कार्यों को कॉरपोरेट गवर्नेंस'  का मामला बताकर वह अपने निहित हित साधने का प्रयास कर रहा है।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इंडियन ब्रॉडकास्टिंग एंड डिजिटल फाउंडेशन में फिर इस बड़े पद पर चुने गए के. माधवन

देश में टेलिविजन ब्रॉडकास्टर्स और डिजिटल स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म्स के प्रतिनिधित्व वाले प्रमुख संगठन ‘इंडियन ब्रॉडकास्टिंग एंड डिजिटल फाउंडेशन‘ की 22वीं वार्षिक आम बैठक में यह निर्णय लिया गया है

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Saturday, 23 October, 2021
Last Modified:
Saturday, 23 October, 2021
IBDF

देश में टेलिविजन ब्रॉडकास्टर्स और डिजिटल स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म्स के प्रतिनिधित्व वाले प्रमुख संगठन ‘इंडियन ब्रॉडकास्टिंग एंड डिजिटल फाउंडेशन‘ (Indian Broadcasting and Digital Foundation) ने ‘द वॉल्ट डिज्नी कंपनी इंडिया’ (The Walt Disney India) और ‘स्टार इंडिया’ (Star India) के कंट्री मैनेजर व प्रेजिडेंट के. माधवन (K Madhavan) को दोबारा से अपना प्रेजिडेंट चुना है। दूसरी बार इस संगठन के प्रेजिडेंट के लिए चुना गया है। संगठन की 22वीं वार्षिक आम बैठक में के. माधवन को दूसरे कार्यकाल के लिए इसके प्रेजिडेंट के रूप में चुना गया है।

इस बारे में के. माधवन का कहना है, ‘दूसरे कार्यकाल का नेतृत्व करने के लिए आईडीबीएफ के सदस्यों ने मुझ पर जो भरोसा और विश्वास जताया है, उसके लिए मैं काफी अभिभूत हूं। हम एक ऐसे मोड़ पर हैं जहां, कंज्यूमर, रेगुलेटरी और टेक्नोलॉजी ट्रेंड्स का संयोजन मीडिया परिदृश्य और पारिस्थितिकी तंत्र को फिर से तैयार कर रहा है। मैं देश में ब्रॉडकास्ट और डिजिटल मीडिया सेक्टर के विकास में तेजी लाने के लिए सरकार, इंडस्ट्री और अन्य हितधारकों (stakeholders) के साथ काम करना जारी रखने की उम्मीद करता हूं।’

बता दें कि वार्षिक आम बैठक में फाउंडेशन के सदस्यों ने निम्नलिखित सदस्यों को ‘आईबीडीएफ‘ के बोर्ड में फिर से चुना है:

1:- अरुण पुरी, चेयरमैन, टीवी टुडे नेटवर्क

2:-  शशि शेखर वेम्पती, सीईओ, प्रसार भारती

3:-  राहुल जोशी, मैनेजिंग डायरेक्टर, वायकॉम18

4:- केविन वज, प्रेजिडेंट और हेड-नेटवर्क एंटरटेनमेंट चैनल्स, स्टार और डिज्नी इंडिया (Representing Asianet Star Communications)

‘सन नेटवर्क’ (Sun Network) के एमडी आर. महेश कुमार की आकस्मिक रिक्ति (Casual Vacancy) के तहत बोर्ड में निदेशक के रूप में नियुक्ति को भी फाउंडेशन के सदस्यों द्वारा अनुमोदित किया गया है।

बाद में हुई बोर्ड बैठक में निम्नलिखित पदाधिकारियों का चुनाव किया गया है।

1:- वाइस प्रेजिडेंट-आईबीडीएफ (न्यूज और करेंट अफेयर्स)- रजत शर्मा, चेयरमैन, इंडिया टीवी

2:- वाइस प्रेजिडेंट-आईबीडीएफ (गवर्नमेंट एंड रेगुलेटरी अफेयर्स)- राहुल जोशी, मैनेजिंग डायरेक्टर, वायकॉम18

3:- वाइस प्रेजिडेंट-आईबीडीएफ (सेक्टरल ग्रोथ)- शशि शेखर वेम्पती, सीईओ, प्रसार भारती

4:- कोषाध्यक्ष-आईबीडीएफ- पुनीत मिश्रा-प्रेजिडेंट (कंटेंट एंड इंटरनेशनल बिजनेस), जी एंटरटेनमेंट

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Times Network के साथ अनूप विश्वनाथन की तीसरी पारी, अब मिली ये जिम्मेदारी

इससे पहले विश्वनाथन ‘क्रिएटिवलैंड एशिया’ (Creativeland Asia) में सीईओ के तौर पर अपनी भूमिका निभा रहे थे।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 21 October, 2021
Last Modified:
Thursday, 21 October, 2021
Anup Vishwanathan

‘टाइम्स नेटवर्क’ (Times Network) ने अनूप विश्वनाथन को एग्जिक्यूटिव वाइस प्रेजिडेंट (नेटवर्क ब्रैंड स्ट्रैटेजी) के पद पर नियुक्त किया है। इससे पहले विश्वनाथन दो साल से अधिक समय से ‘क्रिएटिवलैंड एशिया’ (Creativeland Asia) में सीईओ के तौर पर अपनी भूमिका निभा रहे थे। वहां पर उन्होंने ‘क्रिएटिवलैंड एशिया’ के फाउंडर और क्रिएटिव चेयरमैन साजन राज कुरूप (Sajan Raj Kurup) के साथ मिलकर काम किया।   

टाइम्स नेटवर्क के साथ यह उनकी तीसरी पारी होगी। जनवरी 2017 में विश्वनाथन ने ‘सोनी’ (Sony) से अलविदा कहकर सीनियर वाइस प्रेजिडेंट-न्यूज कल्स्टर (टाइम्स नाउ, मिरर नाउ, ईटी नाउ) के रूप में ‘टाइम्स नेटवर्क‘ के साथ दूसरी पारी शुरू की थी।

‘टाइम्स नेटवर्क‘ के साथ उन्होंने अपनी पहली पारी वर्ष 2014 में शुरू की थी, जब उन्होंने यहां पर मार्केटिंग हेड (अंग्रेजी क्लस्टर) के रूप में जॉइन किया था। उससे पहले वह ‘Leo Burnett‘ में एसोसिएट वाइस प्रेजिडेंट के पद पर कार्यरत थे। वर्ष 2015 में विश्वनाथन ने ‘टाइम्स‘ को बाय बोलकर ‘सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया‘ में मार्केटिंग हेड (Sony) जॉइन कर लिया था।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

दूरदर्शन-आकाशवाणी के कंटेंट नीलाम करने की नीति पर उठे सवाल, CEO ने दिया जवाब

प्रसार भारती द्वारा आकाशवाणी और दूरदर्शन के आर्काइवल कंटेंट के इस्तेमाल करने का अधिकार दूसरे पक्षों को देने की नीति पर सवाल उठने शुरू हो गए हैं

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 21 October, 2021
Last Modified:
Thursday, 21 October, 2021
prasarbharati457

प्रसार भारती द्वारा आकाशवाणी और दूरदर्शन के आर्काइवल कंटेंट के इस्तेमाल करने का अधिकार दूसरे पक्षों को देने की नीति पर सवाल उठने शुरू हो गए हैं, जिसके बाद सार्वजनिक प्रसारक के सीईओ शशि शेखर वेम्पति ने सभी तरह के आरोपों से इनकार किया है।

शशि शेखर वेमपति ने इस विषय पर वरिष्ठ पत्रकार प्रभु चावला के सवालों भरे एक ट्वीट के जवाब में साफ तौर पर कहा कि ऐसा कोई फैसला नहीं किया गया है। वेमपति ने लिखा, ‘कंटेंट के प्रसारण अधिकार को 'सिंडिकेट' करने के लिए (प्रसारण अधिकार के लिए व्यावसायिक तौर पर समूह बनाने) हाल की अधिसूचित नीति को समझने में लगता है गलती की गयी है।’

उन्होंने कहा, 'ये अधिकारों और सीमाओं पर विशिष्ट कानूनी पहलू हैं, जिन पर ऐसे किसी भी 'सिंडिकेशन' के लाइसेंस समझौतों में गौर किया जाएगा। इस समय केवल व्यापक नीति को अधिसूचित किया गया है। विस्तृत लाइसेंस समझौते ई-नीलामी अधिसूचना का हिस्सा होंगे, जब वे आयोजित किए जाएंगे।'

वेमपति ने अपने ट्वीट के साथ इस नीति की पूरी अधिसूचना के लिंक को भी टैग किया है जिसमें पुराने कार्यक्रमों के प्रसारण के अधिकार प्राप्त करने की तमाम शर्तें भी हैं।

बता दें कि चावला ने अपने ट्वीट में यह सवाल किया था कि क्या सरकार इन कंटेंट्स को भविष्य में खुद इस्तेमाल करने के लिए विदेशियों को पैसा देगी? उन्होंने कहा कि पहले हमारे दस्तावेज अंग्रेज उठा ले गए थे और अब यह? बीच में कौन बैठा है जो बाहर के लोगों के लिए काम कर रहा है? उन्होंने उसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और प्रसार भारती को भी टैग किया था।

चावला ने अपने इस पत्र के साथ मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के मदुरै (तमिलनाडु) से निर्वाचित लोकसभा सांसद एस वेंकटेशन द्वारा सूचना-प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर को लिखे पत्र को भी लगाया है, जिसमें सांसद ने प्रसार भारती के अभिलेखागार में संग्रहीत आकाशवाणी और दूरदर्शन की पुरानी सामग्री को नीलाम करने के सरकार के निर्णय की आलोचना की है और इसे रोके जाने की मांग की है।

बता दें कि मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) सांसद एस वेंकटेशन ने सूचना-प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर को इस संबंध में एक पत्र लिखा था, जिसमें उन्होंने कहा था कि यह गौर करना अफसोसजनक है कि मुद्रीकरण ऐतिहासिक खजाने के विपणन तक चला गया है। इसका इस देश की राजनीति के साथ ही शांति पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है। वेंकटेशन ने पत्र में सरकार पर आरोप लगाया कि केवल राजकोषीय घाटे के प्रबंधन की अल्पकालिक जरूरतों के मद्देनजर यह कदम उठाया जा रहा है।

इस पर वेमपति ने माकपा सांसद को जवाब देते हुए ट्वीट किया, 'आपके जैसे प्रतिष्ठित और विद्वान व्यक्ति की दुर्भाग्यपूर्ण टिप्पणी, महाशय। ऐसा लगता है कि आपने नीति दस्तावेज नहीं पढ़ा है। कृपया इसे पढ़ लें।'

वहीं प्रसार भारती के पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) और तृणमूल कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य जवाहर सरकार ने भी इस कदम पर सवाल उठाया। उन्होंने ट्वीट किया,'हमारे देश के अमूल्य रिकॉर्ड की यह नीलामी वास्तव में क्या है? तुरंत स्पष्ट करें!'

आपको बता दें कि हाल ही में यह खबर आयी थी कि प्रसार भारती ने आकाशवाणी और दूरदर्शन के अभिलेखागार में संग्रहीत पुरानी रिकॉर्ड की हुई सामग्री (आर्काइवल कंटेंट) को मोनेटाइज करने यानी कि इसे व्यवसायिक तरीके से सैटेलाइट टीवी चैनलों और ओटीटी प्लेटफॉर्म्स को नीलाम करने का फैसला किया है।

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

टीवी9 नेटवर्क से जुड़े वरिष्ठ पत्रकार अंशुमान तिवारी, मिली यह बड़ी जिम्मेदारी

जाने-माने बिजनेस पत्रकार अंशुमान तिवारी ने ‘इंडिया टुडे’ (India Today) समूह में अपनी पारी को विराम दे दिया है। वह यहां पर इंडिया टुडे (हिंदी) के संपादक के तौर पर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 20 October, 2021
Last Modified:
Wednesday, 20 October, 2021
Anshuman Tiwari

जाने-माने बिजनेस पत्रकार अंशुमान तिवारी ने ‘इंडिया टुडे’ (India Today) समूह में अपनी पारी को विराम दे दिया है। वह यहां पर इंडिया टुडे (हिंदी) के संपादक के तौर पर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे। अंशुमान तिवारी ने पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना नया सफर अब ‘टीवी9 नेटवर्क’ (TV9 Network) के साथ शुरू किया है। उन्होंने यहां पर नेटवर्क की बहुभाषी बिजनेस वेबसाइट ‘मनी9’ (Money9) में बतौर एडिटर जॉइन किया है।

बता दें कि यह प्लेटफॉर्म अभी हिंदी और अंग्रेजी में उपलब्ध है और जल्द ही तेलुगु, कन्नड़, मराठी, गुजराती और बंगाली भाषाओ में भी उपलब्ध होगा।  ‘मनी9’ को लॉन्च करने वाले वरिष्ठ पत्रकार राकेश खार को नेटवर्क में बिजनेस और इकनॉमी एडिटर के तौर पर बड़ी जिम्मेदारी दी जाएगी।

अंशुमान तिवारी की फाइनेंस और इकनॉमी पर काफी अच्छी पकड़ है। उन्हें पर्सनल फाइनेंस, पब्लिक फाइनेंस इकनॉमी और कैपिटल मार्केट के जटिल मुद्दों को समझाने की उनकी नवीन और सरल शैली के लिए जाना जाता है। प्रतिष्ठित रामनाथ गोयनका अवॉर्ड से सम्मानित अंशुमान तिवारी को खोजी पत्रकारिता के लिए उन्हें ‘वैन इफ्रा अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार’ (WAN-IFRA International award) भी मिल चुका है। इसके अलावा डिजिटल प्लेटफॉर्म पर बेस्ट इकनॉमिक शो के लिए उन्हें ‘एक्सचेंज4मीडिया न्यूज ब्रॉडकास्टिंग अवॉर्ड’ (ENBA) भी मिल चुका है।

अंशुमान तिवारी की नियुक्ति के बारे में ‘टीवी9 नेटवर्क’ के सीईओ बरुण दास का कहना है, ‘TV9 नेटवर्क देश का सबसे बड़ा टेलीविजन समाचार नेटवर्क है, जिसकी सभी भाषाओं में काफी मजबूत उपस्थिति है। ‘मनी9’ विभिन्न भाषाओं में फाइनेंस कंटेंट को आसान और लोगों की समझ में आने वाले फॉर्मेट में पेश करेगा। अंशुमान तिवारी के नेतृत्व में एडिटोरियल टीम इस काम को बेहतर तरीके से अंजाम देगी। मुझे विश्वास है कि अंशुमान तिवारी के नेतृत्व में नेटवर्क देश में पर्सनल फाइनेंस जर्नलिज्म में नए मानक स्थापित करेगा।‘

वहीं, इस बारे में अंशुमान तिवारी का कहना है, ‘इंडिया टुडे समूह में सात साल की शानदार पारी के बाद इस नियुक्ति को लेकर मैं काफी उत्साहित हूं। मैं हमेशा पर्सनल फाइनेंस के क्षेत्र में कुछ नया करना चाहता हूं और यह हमेशा मेरे लिए जुनून का विषय रहा है। मुझे खुशी है कि मैं टीवी9 नेटवर्क में अपने प्रोफेशन और पैशन को एक नई दिशा दूंगा।‘

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

रुबीना सिंह ने ‘Josh’ से की नई शुरुआत, मिली बड़ी जिम्मेदारी

विश्वस्त सूत्रों से मिली खबर के मुताबिक, रुबीना सिंह ने सोमवार से ऑफिस जॉइन कर लिया है।

Last Modified:
Monday, 18 October, 2021
Rubeena Singh

‘डेंट्सू’ (Dentsu) की डिजिटल फर्स्ट एंड टू एंड मीडिया एजेंसी ‘आईप्रॉस्पेक्ट’ (Iprospect) की पूर्व सीईओ रुबीना सिंह ने शॉर्ट वीडियो ऐप ‘जोश’ (Josh) में बतौर कंट्री मैनेजर जॉइन कर लिया है। बताया जाता है कि इस ऐप के 300 मिलियन से ज्यादा यूजर्स हैं।  

विश्वस्त सूत्रों से मिली खबर के मुताबिक, रुबीना सिंह ने सोमवार से ऑफिस जॉइन कर लिया है। इस बारे में हमारी सहयोगी वेबसाइट ‘एक्सचेंज4मीडिया’ (exchange4media) ने रुबीना सिंह से संपर्क करने का काफी प्रयास किया, लेकिन खबर लिखे जाने तक वहां से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिल पाई थी।

बता दें कि रुबीना सिंह ने चार साल से अधिक समय तक ‘आईप्रॉस्पेक्ट’ में अपनी जिम्मेदारी निभाने के बाद इस साल अगस्त में यहां से इस्तीफा दे दिया था। रुबीना सिंह की जगह विनोद थडानी ने संभाली थी, जिन्होंने Iprospect में बतौर सीईओ और डेंट्सू मीडिया ग्रुप में चीफ डिजिटल ऑफिसर के पद पर जॉइन कर लिया था।

रुबीना सिंह को डिजिटल, प्रिंट और ब्रॉडकास्टिंग के क्षेत्र में काम करने का 20 साल से ज्यादा अनुभव है। वह ‘नेटवर्क18‘ की ‘मनीकंट्रोल‘ (Moneycontrol) में सीओओ के रूप में अपनी भूमिका संभाल चुकी हैं। इसके अलावा वह ‘फोर्ब्स इंडिया‘,‘सीएनबीसी टीवी18‘,‘सीएनबीसी आवाज‘,‘आईबीएन7‘ और ‘आईबीएन लोकमत‘ में प्रमुख जिम्मेदारी निभा चुकी हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अगले साल जनवरी में Discovery से रिटायर हो जाएंगे विजय राजपूत

‘डिस्कवरी‘ को जॉइन करने से पहले वह देश के प्रमुख स्पोर्ट्स ब्रॉडकास्टर्स में शुमार ‘ईएसपीएन स्टार स्पोर्ट्स‘ (ESPN STAR Sports) में चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर की जिम्मेदारी निभा रहे थे।

Last Modified:
Monday, 18 October, 2021
Vijay Rajput

‘डिस्कवरी इंक’ (Discovery Inc) में सीनियर वाइस प्रेजिडेंट, बिजनेस हेड (स्पोर्ट्स बिजनेस) और हेड (Affiliate Sales and Product Distribution) विजय राजपूत 60 साल के हो गए हैं। विश्वस्त सूत्रों के हवाले से मिली खबर के अनुसार विजय राजपूत 31 जनवरी 2022 को ‘डिस्कवरी‘ से सेवानिवृत्त हो जाएंगे।

बताया जाता है कि राजपूत सात साल से ज्यादा समय से ‘डिस्कवरी‘ के साथ जुड़े हुए हैं। उन्होंने जुलाई 2014 में यहां जॉइन किया था। पिछले साल जनवरी 2020 में ‘डिस्कवरी‘ ने राजपूत की भूमिका में इजाफा करते हुए उन्हें स्पोर्ट्स बिजनेस (साउथ एशिया) का नेतृत्व करने की अतिरिक्त जिम्मेदारी सौंपी थी।  

बता दें कि विजय राजपूत को मीडिया इंडस्ट्री में काम करने का तीन दशक से ज्यादा का अनुभव है। ‘डिस्कवरी‘ को जॉइन करने से पहले वह देश के प्रमुख स्पोर्ट्स ब्रॉडकास्टर्स में शुमार ‘ईएसपीएन स्टार स्पोर्ट्स‘ (ESPN STAR Sports) में चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर (सीओओ) की जिम्मेदारी निभा रहे थे।

उन्होंने वर्ष 1997 में ‘ईएसपीएन‘ में बतौर सीएफओ और सीनियर वाइस प्रेजिडेंट (Admin& HR) के रूप में जॉइन किया था। जुलाई 2006 में उन्हें चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर के पद पर प्रमोट किया गया था।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

'इंडिया टुडे' समूह से जुड़े उत्कर्ष अवस्थी, संभालेंगे ये जिम्मेदारी

डिजिटल पत्रकार उत्कर्ष अवस्थी ने ‘MH One TV Network’ को अलविदा बोलकर 'इंडिया टुडे' समूह के साथ नई पारी की शुरुआत की है।

Last Modified:
Monday, 18 October, 2021
Utkarsh Awasthi

डिजिटल पत्रकार उत्कर्ष अवस्थी ने ‘MH One TV Network’ को अलविदा कह दिया है। उत्कर्ष ने अब 'इंडिया टुडे' समूह के साथ बतौर सब एडिटर (सोशल मीडिया) के रूप में अपनी नई पारी की शुरुआत की है। बता दें कि पत्रकारिता के अपने करीब पांच साल के करियर में उत्कर्ष ने प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक और डिजिटल तीनों में काम किया है।

मूल रूप से इलाहाबाद (अब प्रयागराज) निवासी उत्कर्ष ने इलाहाबाद के शियाट्स कॉलेज से बैचलर्स इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन की पढ़ाई की है। पढ़ाई के दौरान उन्होंने ‘रेडियो अदन 90.4’ और ‘अमर उजाला’ में काम किया। इसके बाद फिर उत्कर्ष ने वर्ष 2016 में दिल्ली आकर ‘भारतीय विद्या भवन‘ से पीजी डिप्लोमा इन रेडियो एंड टीवी जर्नलिज्म की पढ़ाई की।

यहां से पढ़ाई पूरी करने के बाद उत्कर्ष ने ‘रियल्टी मीडिया‘ में बतौर रिपोर्टर काम किया। इस दौरान उनकी रियल एस्टेट पर की गई धारदार रिपोर्टिंग को खूब सराहा गया। इसके बाद उत्कर्ष ने रीजनल चैनल्स ‘इंडिया वॉइस‘ और ‘लाइव 24‘में बतौर प्रोड्यूसर/एंकर भी काम किया।

इसके बाद उत्कर्ष 'न्यूज24' से बतौर सब एडिटर जुड़े और यहां डिजिटल पत्रकारिता की। फिर वह 'MH One TV Network' के साथ जुड़े और वहां करीब दो साल बतौर डिजिटल कंटेंट प्रोड्यूसर काम किया। इसके बाद उन्होंने यहां से अलविदा कहकर अब ‘इंडिया टुडे‘ में जॉइन किया है।

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

चैनलों और OTT प्लेटफॉर्म को पुराने कंटेंट नीलाम करेगा प्रसार भारती

प्रसार भारती ने डिजिटलाइजेशन की दिशा में कदम बढ़ा दिए हैं। इसी कड़ी में प्रसार भारती ने टीवी चैनलों और ओटीटी प्लेटफॉर्म को अपना वो आर्काइवल कंटेंट नीलाम करने का फैसला लिया है

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Saturday, 16 October, 2021
Last Modified:
Saturday, 16 October, 2021
PRASAR BHARATI

प्रसार भारती ने डिजिटलाइजेशन की दिशा में कदम बढ़ा दिए हैं। इसी कड़ी में प्रसार भारती ने टीवी चैनलों और ओटीटी प्लेटफॉर्म को अपना वो आर्काइवल कंटेंट नीलाम करने का फैसला लिया है जो स्वतंत्रता से पहले का है। इसी के मद्देनजर प्रसार भारती ने एक नोटिफिकेशन जारी किया है, जिसके मुताबिक उसका प्रीमियम कंटेंट दूरदर्शन, ऑल इंडिया रेडियो और प्रसार भारती की नई यूनिटों से खरीदने के लिए उपलब्ध होगा।

‘आजतक’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, जारी किए गए इस नोटिफिकेशन की मानें तो प्रसार भारती ने अपने आर्काइवल में अपने केंद्रीकृत भंडार के साथ-साथ राष्ट्र के सभी कोनों में स्थित स्टेशनों, केंद्रों की संख्या में बहुत शानदार और एतिहासिक कंटेंट जमा किया हुआ है। आकाशवाणी और डीडी के समाचार प्रभाग में भी भारत के विकास के कई महत्वपूर्ण मील के पत्थरों की शानदार रिकॉर्डिंग है।'

इसमें आगे कहा गया है कि हम प्रसार भारती को लीनियर ब्रॉडकास्टिंग (टीवी, रेडियो) के साथ-साथ इंटरनेट-आधारित प्लेटफॉर्म के माध्यम से ऑन डिमांड देखने/सुनने के लिए थर्ड पार्टी को ई-नीलामी के माध्यम से अपना कंटेंट प्रदान करने की उम्मीद कर रहे हैं।

भारत और विदेशों में प्रसार भारती के कार्यक्रम कंटेट के लिए प्रसारण के साथ-साथ डिजिटल प्लेटफॉर्म पर स्ट्रीमिंग की मांग पैदा हुई है, ऐसे में इस कंटेंट के मोनिटाइजेशन की बेहतर संभावना है, जिसके लिए एक उचित और अच्छी तरह से परिभाषित कंटेंट सिंडिकेशन पॉलिसी की जरूरत है।

अधिसूचना के अनुसार ये ई-नीलामी चार कैटेगरी में होगी- ग्लोबल लीनियर ब्रॉडकास्ट राइट्स, ग्लोबल ऑन-डिमांड राइट्स, इंडिया लीनियर ब्रॉडकास्ट राइट्स और इंडिया ऑन-डिमांड राइट्स।

रिपोर्ट के मुताबिक, प्रसार भारती ने पंजीकरण से लेकर अधिकार, भुगतान और सामग्री साझा करने तक सिडिकेशन के पूरे लाइफ साइकिल के प्रबंधन के लिए एक ऑनलाइन पोर्टल बनाने की योजना बनाई है.

नोटिफिकेशन में कहा गया है कि उपलब्ध सामग्री को कैटलॉग स्तर पर सिंडिकेशन के उद्देश्य के लिए कंपेलिंग कैटलॉग में क्यूरेट किया जाएगा। बाजार, विशिष्टता की शर्तों, लाइसेंसिंग अधिकारों की अवधि के आधार पर बेस प्राइस अलग से तय किया जा सकता है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए