वरिष्ठ पत्रकार पाणिनी आनंद का बढ़ा कद, मिला ये पद

पाणिनी आनंद डॉक्यूमेंट्री मेकिंग से भी जुड़े रहे हैं। वे एक कवि, ब्लॉगर और थिएटर आर्टिस्ट के तौर पर भी समय-समय पर उपस्थिति दर्ज कराते रहते हैं

Last Modified:
Monday, 26 August, 2019
Panini Anand

करीब तीन साल पहले ‘इंडिया टुडे’ ग्रुप के साथ अपनी नई पारी शुरू करने वाले पत्रकार पाणिनी आनंद के बारे में खबर है कि उन्हें प्रमोशन देकर अब 'आजतक' (डिजिटल) में एग्जिक्यूटिव एडिटर बनाया गया है। बता दें कि ‘आजतक’ (डिजिटल) में बतौर एडिटर जॉइन करने से पहले आनंद ‘कैच न्यूज’ के साथ बतौर सीनियर असिसटेंट एडिटर जुड़े हुए थे। यहां वह राज्यसभा टीवी से पहुंचे थे। राज्यसभा टीवी में वह न्यू मीडिया डिपार्टमेंट के हेड थे।

तमाम विषयों पर लिखने में माहिर पाणिनी आनंद मूल तौर पर रायबरेली के हैं। डेढ़ दशक से अधिक समय से सक्रिय पत्रकारिता कर रहे पाणिनी के अपने करियर की पारी बीबीसी जैसे प्रतिष्ठित संस्थान से शुरू की थी। दिल्ली स्थित इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेश (IIMC) से पत्रकारिता की पढ़ाई करने के दौरान भी वे नवभारत टाइम्स, हिन्दुस्तान और जनसत्ता समेत कई अखबारों के लिए लिखते थे।

बीबीसी से जुड़ने से पहले 2002-2004 तक उन्होंने दो टैब्लॉयड के संपादन का कार्य भी किया और 2004-2006 तक वे बीबीसी में बतौर कंट्रीब्यूटर जुड़े और उसके बाद 2006-2010 तक वे बीबीसी हिंदी में बतौर कॉरेस्पॉन्डेंट/प्रड्यूसर के तौर पर कार्यरत रहे थे।

करीब 6 साल काम करने के बाद वे तत्कालीन बीबीसी हेड संजीव श्रीवास्तव के साथ 2010 में सहारा मीडिया से जुड़े। यहां वे सहारा की वेब डिवीजन के एडिटोरियल हेड रहे। यहां एक साल काम करने के बाद वे 2011 में यहां से रुखसत हुए। 2011 में उन्हें सीएसडीएस की फेलोशिप मिली। उसके बाद 2012 में उन्होंने बतौर प्रिंसिपल कॉरेस्पॉन्डेंट आउटलुक (अंग्रेजी) मैगजीन के साथ अपनी पारी आगे बढ़ाई।

वैसे पाणिनी आनंद डॉक्यूमेंट्री मेकिंग से भी जुड़े रहे हैं। साथ ही वे एक कवि, ब्लॉगर और थिएटर आर्टिस्ट के तौर पर भी समय-समय पर अपनी उपस्थिति दर्ज कराते रहते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इस नाम से HT Media ने शुरू की बंगाली न्यूज वेबसाइट

एचटी मीडिया (HT Media) ने बंगाली न्यूज वेबसाइट की शुरुआत की है, जोकि अपनी तरह की पहली मोबाइल न्यूज वेबसाइट है

Last Modified:
Wednesday, 15 July, 2020
HTBangla

एचटी मीडिया (HT Media) ने बंगाली न्यूज वेबसाइट ‘एचटी बांग्ला’ (HT Bangla) की शुरुआत की है, जोकि अपनी तरह की पहली मोबाइल न्यूज वेबसाइट है।

‘एचटी बांग्ला’ (bangla.hindustantimes.com) बंगाली युवाओं के लिए एक नए जमाने का न्यूज प्लेटफॉर्म है। इसमें उनसे संबंधित विषयों को नए अंदाज में रखा गया है  

लॉन्च के कुछ ही महीनों में ‘एचटी बांग्ला’ में 10 मिलियन मंथली पेज व्यू और 4 मिलियन मंथली यूजर्स हो गए हैं, इनमें 66% से अधिक पाठक 18-34 वर्ष की आयु वर्ग के हैं।   

शुरुआत से ही ‘एचटी बांग्ला’ सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक और ट्विटर पर मौजूद है और अब यह यूट्यूब और इंस्टाग्राम पर भी जगह बना चुका है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

डिजिटल इंडिया के लिए गूगल 5-7 वर्षों में करेगा 75,000 करोड़ का निवेश

गूगल के छठे ‘गूगल फॉर इंडिया इवेंट 2020’ को पहली बार वर्चुअली आयोजित किया गया।

Last Modified:
Monday, 13 July, 2020
Google45

गूगल के छठे ‘गूगल फॉर इंडिया इवेंट 2020’ को पहली बार वर्चुअली आयोजित किया गया। इस दौरान गूगल और अल्फाबेट के सीईओ सुंदर पिचाई ने घोषणा कि डिजिटल इंडिया (India Digitization Fund) के लिए गूगल अगले 5-7 सालों में 75,000  करोड़ रुपए का निवेश करेगा।

गूगल और अल्फाबेट के सीईओ सुंदर पिचाई ने कहा कि गूगल का यह निवेश इक्विटी इनवेस्टमेंट, पार्टनरशिप और ऑपरेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर इकोसिस्टम इंडस्ट्री में होगा। गूगल ने सीबीएसई के साथ साझेदारी की घोषणा की, इसके तहत ई-लर्निंग का विस्तार किया जाएगा।  उन्होंने कहा कि यह भारत के भविष्य और इसकी डिजिटल अर्थव्यवस्था को लेकर हमारे आत्मविश्वास का प्रतिबिंब है।

यह निवेश डिजिटल इंडिया के चार महत्वपूर्ण क्षेत्रों पर पर होगा, जिसमें पहले है कि इस राशि का इस्तेमाल हिन्दी, तमिल और पंजाबी सहित अन्य भारतीय भाषाओं में सूचनाओं को हर देशवासी तक पहुंचाने के लिए किया जाएगा। दूसरा भारतीय लोगों की जरूरतों को पूरा करने वाले नए प्रॉडक्ट्स एवं सर्विसेज के विकास के लिए भी इस फंड का इस्तेमाल किया जाएगा। 

तीसरा व्यवसायों को और ज्यादा सशक्त बनाया जा रहा है ताकि वे अपने डिजिटल ट्रांसफोर्मेशन को जारी रखें अथवा शुरू कर सकें। चौथा समाज की बेहतरी के लिए स्वास्थ्य, शिक्षा और कृषि जैसे क्षेत्रों में टेक्नोलॉजी और आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस का लाभ उठाने के लिए इसमें निवेश किया जाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने  ट्विटर के जरिए गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई के साथ हुई वर्चुअल मीटिंग जानकारी भी दी। उन्होंने ट्वीट किया कि आज सुबह @सुंदरपिचाई के साथ एक सफल बातचीत हुई। हमने भारत के किसानों, युवाओं और उद्यमियों के जीवन को बदलने के लिए टेक्नोलॉजी के इस्‍तेमाल सहित कई मुद्दों पर चर्चा की।

पीएम मोदी ने ट्वीट किया कि मुझे गूगल की ओर से कई सेक्टर में किए जा रहे कामों के बारे में पता चला। खासतौर पर एजुकेशन, लर्निंग, डिजिटल इंडिया, डिजिटल पेमेंट समेत कई सेक्टर में।

पीएम मोदी ने लिखा, 'सुंदर पिचाई से बातचीत के दौरान मैंने नई कार्य संस्कृति के बारे में बात की जो कोरोना के समय में उभर रही है। हमने उन चुनौतियों पर चर्चा की जो वैश्विक महामारी ने खेल जैसे क्षेत्रों में ला दी है। हमने डेटा सुरक्षा और साइबर सुरक्षा के महत्व के बारे में भी बात की।'

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

OTT प्लेटफॉर्म्स के कंटेंट को लेकर मंत्री पीयूष गोयल ने इस बात पर दिया जोर

वाणिज्य और उद्योग मंत्री ने कहा कि सरकार ने हाल ही में पारंपरिक मीडिया की तरह एक सेल्फ रेगुलेटरी मॉडल गठित करने का प्रस्ताव रखा है।

Last Modified:
Monday, 13 July, 2020
OTT

वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल का कहना है कि देश की छवि को खराब होने से बचाने के लिए एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री को ‘ओवर द टॉप’ (OTT) प्लेटफॉर्म्स पर कंटेंट के स्वत: नियमन (self-regulate) की जरूरत है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पीयूष गोयल ने कहा कि सरकार ने हाल ही में पारंपरिक मीडिया की तरह एक सेल्फ रेगुलेटरी मॉडल गठित करने का प्रस्ताव रखा है।   

फिक्की फ्रेम्स 2020 के 21वें एडिशन (ऑनलाइन) में शनिवार को गोयल ने इस बात पर जोर दिया कि ओटीटी प्लेटफॉर्म्स पर परोसा जाने वाला कंटेंट उच्च सांस्कृतिक व पारंपरिक मूल्यों के साथ देश के नैतिक मूल्यों के अनुरूप होना चाहिए।

इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि ओटीटी प्लेटफॉर्म्स पर किए जा रहे निवेश सिनेमा हॉल्स के अस्तित्व को प्रभावित करेंगे। चीन जैसे देशों द्वारा लगाए जा रहे प्रतिबंधात्मक व्यापार प्रथाओं पर पीयूष गोयल ने कहा कि भारत पारस्परिकता के साथ काम करेगा (India will work with reciprocity)।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Mid-Day ने पूरे किए 41 साल, लाया इस तरह का पहला डिजिटल टैबलॉयड अखबार

‘जागरण प्रकाशन’ ग्रुप (Jagran Prakashan Limited) का अंग्रेजी दैनिक अखबार ‘मिड-डे’ (Mid-Day) ने अपने 41 साल पूरे कर लिए हैं

Last Modified:
Monday, 13 July, 2020
Mid-Day

‘जागरण प्रकाशन’ ग्रुप (Jagran Prakashan Limited) का अंग्रेजी दैनिक अखबार ‘मिड-डे’ (Mid-Day) ने अपने 41 साल पूरे कर लिए हैं। लिहाजा इस मौके पर, यह दैनिक अखबार देश के पहले डिजिटल टैबलॉयड के रूप में नए अवतार के रूप में सामने आया है। पहली बार, किसी अखबार को स्मार्टफोन पर सुविधानुसार पेज-दर-पेज पढ़ने का अनुभव होगा, जिसमें अतिरिक्त मल्टी-मीडिया फीचर भी होंगे।

इस अखबार का नया डिजिटल प्रारूप 16 जुलाई तक यूजर्स के लिए मुफ्त होगा, इसके बाद पाठक 1 रुपए प्रति दिन के हिसाब से इसका लाभ उठा सकेंगे। अपने फिजिकल फॉर्मेट की तरह यह डिजिटल पर भी एक्सक्लूसिव न्यूज ब्रेक, एंटरटेनमेंट फीचर्स, शहरों की कवरेज और स्थानीय खेलों को कवर करेगा।

मिड-डे का यह डिजिटल टैबलॉयड एक ऐसी शॉप की तरह होगा, जहां सभी चीजें मिलती हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

MIB के दायरे में आएंगे नेटफ्लिक्स, अमेजॉन प्राइम जैसे OTT प्लेटफॉर्म्स के कंटेंट!

सूचना-प्रसारण मंत्रालय ‘ओवर द टॉप’ (OTT) प्लेटफॉर्म्स पर दिखाए जाने वाले कंटेंट को अपने दायरे में लाना चाहता है

Last Modified:
Thursday, 09 July, 2020
ott

सूचना-प्रसारण मंत्रालय ‘ओवर द टॉप’ (OTT) प्लेटफॉर्म्स (नेटफ्लिक्स, अमेजन प्राइम, जी5, ऑल्ट बालाजी जैसे कई ओटीटी प्लेफॉर्म्स) पर दिखाए जाने वाले कंटेंट को अपने दायरे में लाना चाहता है। इस बात के संकेत सूचना-प्रसारण मंत्रालय के सचिव अमित खरे ने दिए हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सचिव अमित खरे ने कहा, ‘ओटीटी एक डिजिटल प्लेटफॉर्म है, जो अभी सूचना एवं प्रौद्योगिकी (आईटी) मंत्रालय के तहत आता है। इस प्लेटफॉर्म पर वेब सीरीज, सीरियल जैसे कंटेंट दिखाए जाते हैं, जोकि सूचना-प्रसारण मंत्रालय के तहत आना चाहिए।’

उन्होंने यह भी कहा, ‘इस तरह के मसलों पर कामकाज करने के लिए विभिन्न मंत्रालय में तालमेल होना चाहिए और कारोबारी माहौल में ऐसा किया जाना जरूरी है। खास तौर पर जिस तरह के बदलाव हो रहे हैं उसमें यह बहुत ही आवश्यक है।’

खरे ने कहा कि प्लेटफॉर्म्स के अनुसार भारत में विनियामक कानून विकसित किए गए हैं और देश में ओटीटी प्लेटफॉर्म्स जैसे उभरते मीडिया के लिए फिलहाल कोई नियम नहीं हैं।

दरअसल हाल के दिनों में लॉकडाउन के दौरान देश में ओवर द टॉप (ओटीटी) प्लेटफॉर्म्स के यूजर्स की संख्या बढ़ी है। इस कारण इन प्लेटफॉर्म्स पर कंटेट की भी बाढ़ आ गई है। कई कंटेंट को लेकर विवाद भी हुए हैं और लोगों की भावनाओं को आहत करने के आरोप लगा हैं। ओटीटी प्लेटफॉर्म्स को अपने दायरे में लेने की सूचना प्रसारण मंत्रालय की पहल के पीछे यह भी एक वजह बताई जा रही है।

हाल ही में विश्व हिंदू परिषद समेत कई संस्थाओं ने ओटीटी पर हिंदू धर्म की भावना को आहत करने और स्वस्थ समाज के खिलाफ शो दिखाये जाने के आरोप लगाए थे। इस संदर्भ में विहिप ने सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को पत्र लिखकर इन ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के लिए एक नियामक बनाये जाने की भी मांग की थी।

गौरतलब है कि भारत में प्लेटफॉर्म्स के हिसाब से नियामक बनाने की प्रक्रिया जारी है, लेकिन अभी तक भारत में ओटीटी प्लेटफॉर्म्स के लिए कोई नियामक नहीं है। प्रिंट, रेडियो, टीवी, फिल्म के लिये नियामक हैं, जबकि ओटीटी प्लेटफॉर्म्स पर फिल्म रिलीज के लिए कोई नियामक नहीं है।

उन्होंने आगे कहा कि फिलहाल ओटीटी पर रिलीज होने वाली फिल्म केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) के तहत नहीं आती है क्योंकि उसे एक फिल्म की तरह नहीं दिखाया जाता है। हाल ही में लॉकडाउन के दौरान नेटफ्लिक्स, अमेजन प्राइम, जी5, ऑल्ट बालाजी जैसे कई ओटीटी प्लेफॉर्म्स के सब्सक्रिप्शन में बड़ा उछाल देखा गया। लॉकडाउन के दौरान सिनेमा हॉल के बंद होने के कारण कई प्रोडक्शन हाउसेस थियेटर के बजाय सीधे ओटीटी फ्लेटफॉर्म्स पर ही रिलीज कर रहे हैं।

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

SONY से जुड़े हिमांशु भगत, मिली यह बड़ी जिम्मेदारी

अपनी नई भूमिका में हिमांशु भगत नेटवर्क के ओटीटी प्लेटफॉर्म की डिजिटल मार्केटिंग का काम संभालेंगे।

Last Modified:
Thursday, 09 July, 2020
Himanshu Bhagat

सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया (एसपीएन) ने हिमांशु भगत को अपने डिजिटल बिजनेस का एसोसिएट वाइस प्रेजिडेंट (मार्केटिंग) नियुक्त किया है। अपनी नई भूमिका में हिमांशु भगत नेटवर्क के ओटीटी (OTT) प्लेटफॉर्म ‘सोनी लिव’ (SonyLIV) की नई ब्रैंड आइडेंटिटी ‘सोनी लिव 2.0’ (SonyLIV 2.0) की डिजिटल मार्केटिंग का काम संभालेंगे।

भगत इससे पहले ‘आईसीआईसीआई लोम्बार्ड’ (ICICI Lombard) के साथ जुड़े हुए थे। यहां डिजिटल बिजनेस के वाइस प्रेजिडेंट के रूप में वह डिजिटल मार्केटिंग का काम संभाल रहे थे। उन्हें ऑटो, इंश्योरेंस, और फाइनेंस के क्षेत्र में डिजिटल का काम संभालने का काफी अनुभव है। महर्षि दयानंद यूनिवर्सिटी से इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के बाद हिमांशु भगत ने सिम्बायोसिस इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी से एमबीए (मार्केटिंग) किया है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

ऐप्स पर बैन के बाद तिलमिलाया चीन, इस भारतीय चैनल की वेबसाइट को किया ब्लॉक

देश की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार ने 59 चाइनीज ऐप्स पर बैन क्या लगाया कि चीन तिलमिला उठा।

Last Modified:
Friday, 03 July, 2020
china644654

देश की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार ने 59 चाइनीज ऐप्स पर बैन क्या लगाया कि चीन तिलमिला उठा। चीन ने ZEE मीडिया ग्रुप के अंतरराष्‍ट्रीय न्यूज चैनल WION की वेबसाइट www.wionews.com को अपने यहां पूरी तरह से ब्‍लॉक कर दिया है।

बताया जा रहा है कि चीन ने बदले की भावना से यह कदम उठाया है, क्योंकि WION चैनल ने कई बार अपनी निष्पक्ष रिपोर्टिंग के जरिए चीन के कई मामलों को दुनिया के सामने उजागर किया है। WION की रिपोर्ट्स के चलते ही मार्च में तो चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ज़ाओ लिजिन (Zhao Lijian) ने सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर WION को बैन कर दिया था। इसके अलावा भारत में चीनी राजनयिकों ने भी कोरोना महामारी पर WION कवरेज की आलोचना की थी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, चीन में इंटरनेट को मॉनीटर करने वाली संस्‍था GreatFire.org ने इस बात कि पुष्टि भी की है कि WION को चीन में अब पूरी तरह से ब्‍लॉक कर दिया गया है। अब चीन की मुख्य धरती के किसी भी भाग से इस वेबसाइट को एक्सेस नहीं किया जा सकता।

बता दें कि GreatFire.org एक ऐसे डाटाबेस के रूप में उभरा है जो चीन द्वारा अंतरराष्‍ट्रीय मीडिया संस्‍थानों को की जा रही इंटरनेट सेंशरशिप पर नजर रखता है, साथ ही इसी के जरिए ही रिसर्चर चीन में जारी डिजिटल सेंसरशिप को ट्रैक कर पाते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

मितेन संपत ने Times Internet में इस बड़े पद को छोड़ने का लिया फैसला

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, संपत इन दिनों कंपनी में नोटिस पीरियड पर काम कर रहे हैं

Last Modified:
Wednesday, 01 July, 2020
Times Internet

‘टाइम्स ग्रुप’ की डिजिटल विंग ‘टाइम्स इंटरनेट’ (Times Internet) में चीफ स्ट्रैटेजी ऑफिसर के पद पर कार्यरत मितेन संपत ने यहां अपनी सात साल लंबी पारी को विराम देने का फैसला लिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, संपत फिलहाल नोटिस पीरियड पर काम कर रहे हैं। संपत ने अपने सहयोगियों, टीमों और पार्टनर्स के प्रति आभार व्यक्त करते हुए ट्विटर पर अपने इस्तीफे की खबर शेयर की है।

इसके अलावा संपत ने यह भी बताया है कि उनके कार्यकाल में टाइम्स इंटरनेट के 50 मिलियन मंथली एक्टिव यूजर्स से बढ़कर 550 मिलियन मंथली एक्टिव यूजर्स हो गए हैं। संपत के लिंकडिन प्रोफाइल के अनुसार, वह MX Player, ET-Money, Dineout, Haptik,  OML, Shuttl, Myra और कुछ अन्य प्रोजेक्ट्स के बोर्ड में भी शामिल हैं। उन्होंने वर्ष 2013 में टाइम्स सिटी के बिजनेस हेड के तौर पर टाइम्स इंटरनेट को जॉइन किया था।

 

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

जानें, क्यों MSN ने आधी से ज्यादा टीम को दिखाया बाहर का रास्ता

अमेरिका की दिग्गज टेक्नोलॉजी कंपनी माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) ने अपनी वेबसाइट ‘एमएसएन’ (MSN) से कई एम्प्लॉयीज को बाहर का रास्ता दिखा दिया है

Last Modified:
Thursday, 25 June, 2020
MSN

अमेरिका की दिग्गज टेक्नोलॉजी कंपनी माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft)  ने अपनी वेबसाइट ‘एमएसएन’ (MSN) से कई एम्प्लॉयीज को बाहर का रास्ता दिखा दिया है। सूत्रों के अनुसार, वेबसाइट के नोएडा में फिल्म सिटी स्थित कार्यालय में आधे से ज्यादा एम्प्लॉयीज पर छंटनी की तलवार चली है। इनमें सबसे ज्यादा एडिटोरियल विभाग का स्टाफ है। जिन एंप्लॉयीज को पिंक स्लिप थमाई गई है, उनमें एचआर डिपार्टमेंट से भी एक एम्प्लॉयी शामिल है।

बताया जा रहा है कि माइक्रोसॉफ्ट द्वारा अब ज्यादातर कामों के लिए एम्प्लॉयीज को हटाकर उनकी जगह ‘आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस’(Artificial Intelligence) का सहारा लिया जा रहा है। लिहाजा, इसी के मद्देनजर यह छंटनी की गई है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इस बड़े पद पर Disney+ Hotstar से जुड़े सुनील रेयान

इससे पहले गूगल में सात साल से ज्यादा समय तक विभिन्न पदों पर निभा चुके हैं अपनी जिम्मेदारी

Last Modified:
Saturday, 20 June, 2020
Sunil Rayan

‘ओवर द टॉप’ (OTT) प्लेटफॉर्म ‘डिज्नी+हॉटस्टार’ (Disney+ Hotstar) को भारत में नया हेड मिल गया है। दरअसल, सुनील रेयान (Sunil Rayan) को भारत में ‘Disney+ Hotstar’ का नया प्रेजिडेंट और हेड नियुक्त किया गया है। रेयान ने ‘गूगल’ में विभिन्न पदों पर सात साल की पारी खेलने के बाद यहां जॉइन किया है। उन्हें बिजनेस बिल्डिंग, स्ट्रैटेजी, सेल्स, बिजनेस डेवलपमेंट, मार्केटिंग, कॉमर्शियल और प्रॉडक्ट ऑपरेशंस का करीब 20 साल का अनुभव है।

‘गूगल’ में वह कैलिफोर्निया में मैनेजिंग डायरेक्टर (Cloud for Games) के पद पर कार्यरत थे। ‘Cloud for Games’ से पहले रेयान ‘गूगल’ में सैन फ्रैंसिस्को खाड़ी क्षेत्र (Francisco Bay Area) में मैनेजिंग डायरेक्टर (App Ads Business) की भूमिका निभा रहे थे।  

‘गूगल’ से पहले रेयान वर्ष 2004 से 2012 के बीच ‘McKinsey & Company’ में एसोसिएट प्रिंसिपल की जिम्मेदारी संभाल रहे थे। रेयान पूर्व में 'IBM’, ‘Mastech’ और ‘Infosys’ जैसी प्रतिष्ठित कंपनियों में भी अपनी भूमिका निभा चुके हैं। 

बता दें कि पिछले साल दिसंबर में ‘स्टार’ (Star) और ‘डिज्नी इंडिया’ (Disney India) का नया कंट्री मैनेजर के. माधवन को नियुक्त किया गया था। उनकी नियुक्ति संजय गुप्ता के स्थान पर की गई थी, जिन्होंने ‘गूगल इंडिया’ (Google India) के साथ अपनी नई पारी शुरू करने के लिए यहां से इस्तीफा दे दिया था।

‘गूगल इंडिया’ में उन्हें कंट्री मैनेजर और वाइस प्रेजिडेंट (सेल्स और ऑपरेशंस) के पद पर नियुक्त किया गया है। दिसंबर से लेकर अब तक ‘स्टार’ और ‘डिज्नी इंडिया’ के चेयरमैन और ‘द वॉल्ट डिज्नी कंपनी, एशिया पैसिफिक’ (The Walt Disney Company, Asia Pacific) के प्रेजिडेंट उदय शंकर खुद इंडिया में डिज्नी+हॉटस्टार की कमान संभाल रहे थे।

रेयान की नियुक्ति के बारे में ‘स्टार’ और ‘डिज्नी इंडिया’ के चेयरमैन और ‘द वॉल्ट डिज्नी कंपनी, एशिया पैसिफिक’ के प्रेजिडेंट उदय शंकर का कहना है, ‘वैश्विक उपलब्धियों के साथ सुनील के पास काफी प्रतिभा है और मैं Disney+ Hotstar टीम की कमान उनके हाथों में देकर काफी उत्साहित हूं। Disney+ Hotstar इंडिया में हम हम क्यूरेटेड कंटेंट के लिए देश का सबसे बड़ा और सबसे उन्नत प्लेटफॉर्म बनाने के मिशन पर हैं और सुनील इसके लिए सबसे सही व्यक्ति हैं।’ 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए