सरकार ने डिजिटल मीडिया पब्लिशर्स से मांगा ये ब्योरा, दिया 15 दिनों का समय

लगभग 60 पब्लिशर्स और उनसे जुड़े संगठनों ने मंत्रालय को सूचित किया है कि उन्होंने नए नियम के तहत स्व-नियामक निकायों के गठन की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

Last Modified:
Thursday, 27 May, 2021
MIB

सूचना प्रसारण मंत्रालय (MIB) ने सभी डिजिटल मीडिया पब्लिशर्स, जिनमें ओटीटी प्लेटफॉर्म्स भी शामिल हैं, को नई इंटरमीडियरी गाइडलाइंस और डिजिटल मीडिया एथिक्स कोड (new Intermediary Guidelines and Digital Media Ethics Code) के तहत अपनी सभी जानकारी उपलब्ध कराने के लिए कहा है। सूचना प्रसारण मंत्रालय की डिजिटल मीडिया डिवीजन ने डिजिटल मीडिया पब्लिशर्स को नोटिस भेजकर यह समस्त जानकारी उपलब्ध कराने के लिए 15 दिनों का समय दिया है। पब्लिशर्स को इस नोटिस के जारी होने के 15 दिनों के भीतर तय फॉर्मेट में मंत्रालय को सूचना देनी होगी।

पब्लिशर्स की ओर से अधिकृत व्यक्ति द्वारा विधिवत हस्ताक्षरित एक पीडीएफ फाइल में यह समस्त जानकारी ई-मेल के द्वारा एमआईबी के डिप्टी सेक्रेट्री अमरेंद्र सिंह annarendra.singh@nic.in  अथवा एमआईबी के असिस्टेंट डायरेक्टर क्षितिज अग्रवाल kshitij.aggarwal@gov.in को भेजनी होगी।

इसके लिए मंत्रालय ने डिजिटल न्यूज पब्लिशर्स (जो ट्रेडिशनल मीडिया यानी टीवी और अखबार में भी न्यूज टेलिकास्ट/पब्लिश करते हैं), अन्य डिजिटल न्यूज पब्लिशर्स और ओटीटी प्लेटफॉर्म पर कंटेंट देने वाले पब्लिशर्स के लिए अलग-अलग फॉर्मेट जारी किए हैं, जिनमें उन्हें सभी जानकारी देनी होगी।  

नोटिस में कहा गया है कि नए नियमों की अधिसूचना के बाद से सूचना प्रसारण मंत्री ने ऑनलाइन क्यूरेटेड कंटेंट पब्लिशर्स के साथ-साथ डिजिटल मीडिया पर न्यूज देने वाले पब्लिशर्स के साथ बातचीत की है। मंत्रालय की ओर से कई डिजिटल मीडिया पब्लिशर्स और उनके संगठनों के साथ इस बारे में संपर्क किया गया है।

नोटिस के अनुसार, लगभग 60 पब्लिशर्स और उनसे जुड़े संगठनों ने मंत्रालय को सूचित किया है कि उन्होंने नियम के तहत स्व-नियामक निकायों के गठन की प्रक्रिया शुरू कर दी है। कुछ पब्लिशर्स ने नियमों के तहत मंत्रालय में रजिस्ट्रेशन के संबंध में मंत्रालय को पत्र भी लिखा है। इस संबंध में सूचित किया जाता है कि डिजिटल मीडिया पब्लिशर्स को मंत्रालय में पहले रजिस्ट्रेशन की कोई आवश्यकता नहीं है। इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के नियम 18 (new Intermediary Guidelines and Digital Media Ethics Code) 2021 में न्यूज एंड करेंट अफेयर्स और ऑनलाइन क्यूरेटेड कंटेंट पब्लिशर्स द्वारा मंत्रालय को कुछ तय जानकारी देने का प्रावधान है।

जिस तरह समाचार पत्र प्रेस और पुस्तक पंजीकरण अधिनियम, 1867 के तहत पंजीकृत हैं और निजी सैटेलाइट टीवी चैनल्स मंत्रालय के अपलिंकिंग और डाउनलिंकिंग दिशानिर्देश (2011) के तहत अनुमति धारक हैं,  उसी तरह डिजिटल मीडिया पर न्यूज और करेंट अफेयर्स पब्लिशर्स के लिए जानकारी प्रस्तुत करने के लिए एक अलग फॉर्मेट तैयार किया गया है। मंत्रालय की ओर से जारी नोटिस में यह भी कहा गया है कि इन संस्थाओं को किसी भी बदलाव के बारे में 30 दिनों के भीतर सक्षम प्राधिकारी को सूचित करना होगा।

डिजिटल न्यूज पब्लिशर्स (जो ट्रेडिशनल मीडिया यानी टीवी और अखबार में भी न्यूज टेलिकास्ट/पब्लिश करते हैं) को इस फॉर्मेट में सूचना देनी होगी।

I.   Basic Information

A. Name of the Title:

B. Language(s) in which content is published:

C. Website URL:

D. Mobile App(s):

E. Social media account(s):

II.  Entity Information

A. Name of Entity:

B. RNI Registration Number or TV Channels permitted by the Ministry:

III. Contact Information (in India)

A. Contact person(s):

B. Address:

C. Telephone Number (Landline):

D. Mobile:

E. E-mail:

IV. Grievance Redressal Mechanism

A. Grievance Redressal Officer (in India):

B. Name of the Self Regulating Body of which the publisher is a member:

C. Particulars of News Editor(s):

अन्य डिजिटल न्यूज पब्लिशर्स को इस फॉर्मेट में जानकारी देनी होगी।

1. Basic Information:

A. Name of the Title:

B. Language(s) in which content is published:

C. Website URL:

D. Mobile App(s):

E. Social media (all outlets) account(s):

2. Entity Information

A. Name of Entity:

B. PAN No. (optional):

C. Month and Year of Incorporation:

D. Month and Year of commencement of operations as digital news publisher:

E. Company Identification Number (for companies only):

F. Board of Directors for companies only):

3. Contact Information (in India)

A. Contact person(s):

B. Address:

C. Telephone Number (Landline):

D. Mobile:

E. E-mail:

4.  Grievance Redressal Mechanism

A. Grievance Redressal Officer (in India):

B Name of the Self Regulating Body of which the publisher is a member:

C. Particulars of News Editor(s):

ओटीटी प्लेटफॉर्म्स के लिए इस फॉर्मेट में समस्त जानकारी देनी होगी।

I.  Basic Information

A. Name of OTT Platform:

B. Website

C. Mobile App(s):

II.  Entity Information

A. Name of Entity:

B. PAN No. (optional):

C. Month and Year of Incorporation (for Indian companies):

D. Country of registration (in respect of foreign entities):

E. Month and Year of commencement of operations in India:

F. Company Identification Number for Indian companies):

G. Names of Board of Directors (for companies):

III. Contact information (in India)

A. Contact person(s):

B. Address:

C. Telephone Number (Landline):

D. Mobile:

E. E-mail:

IV. Grievance Redressal Mechanism

A. Grievance Redressal Officer (in India):

B. Name of the Self Regulating Body of which the publisher is a member:

C. Particulars of Content Manager(s):

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

'न्यूज1 इंडिया' को बाय बोलकर युवा पत्रकार शिवम दीक्षित ने तलाशी नई मंजिल

युवा पत्रकार शिवम दीक्षित ने 'न्यूज1 इंडिया' (News1India) से इस्तीफा देकर अपनी नई पारी की शुरुआत की है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 27 January, 2022
Last Modified:
Thursday, 27 January, 2022
Shivam Dixit

युवा पत्रकार शिवम दीक्षित ने 'न्यूज1 इंडिया' (News1India) से इस्तीफा देकर ‘राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ’ (आरएसएस) के मुखपत्र ‘पांचजन्य’ (Panchjanya) की डिजिटल विंग के साथ अपनी नई पारी की शुरुआत की है। उन्होंने यहां पर बतौर सब एडिटर जॉइन किया है।

यूपी के एटा के रहने वाले शिवम दीक्षित ने उत्तर प्रदेश राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय, इलाहबाद से पत्रकारिता में मास्टर्स की डिग्री ली है। शिवम दीक्षित ने पत्रकारिता के क्षेत्र में अपने करियर की शुरुआत वर्ष 2015 में की थी।

उन्होंने ‘मनसुख टाइम्स’ में बतौर विशेष संवाददाता, फिर ‘न्यूज नेटवर्क ऑफ इंडिया’ (NNI) और उसके बाद ‘संचार टाइम्स’ में वेब एडिटर के रूप में काम किया है। इसके बाद उन्होंने ‘न्यूज नेटवर्क ऑफ इंडिया’ में प्रबंध संपादक के रूप में भी काम किया है।

वह ‘इंडियाज पेपर’ (IndiasPapers) में रिपोर्टर कोऑर्डिनेटर के पद पर भी अपनी जिम्मेदारी निभा चुके हैं। इसके अलावा वह दैनिक समाचार पत्र ‘दैनिक हिंट’ और ‘निवाण टाइम्स’ में बतौर सोशल मीडिया प्रभारी भी काम कर चुके हैं। समाचार4मीडिया की ओर से शिवम दीक्षित को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इस डिजिटल न्यूज स्टार्टअप से जुड़े वरिष्ठ पत्रकार पंकज पाराशर, मिली बड़ी जिम्मेदारी

‘दैनिक जागरण’, ‘अमर उजाला’ और ‘हिन्दुस्तान’ जैसे अग्रणी अखबारों में करीब दो दशक तक अपनी जिम्मेदारी निभाने के बाद वरिष्ठ पत्रकार पंकज पाराशर ने अब नई शुरुआत की है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 27 January, 2022
Last Modified:
Thursday, 27 January, 2022
Pankaj Parashar

‘दैनिक जागरण’, ‘अमर उजाला’ और ‘हिन्दुस्तान’ जैसे अग्रणी अखबारों में करीब दो दशक तक अपनी जिम्मेदारी निभाने के बाद वरिष्ठ पत्रकार पंकज पाराशर ने अब नई शुरुआत की है। उन्होंने बतौर संपादक डिजिटल न्यूज स्टार्टअप ‘ट्राईसिटी टुडे‘ (Tricity Today) जॉइन किया है। ‘ट्राईसिटी टुडे‘ से जुड़ते ही पंकज पाराशर ने इसके विस्तार की योजना पर काम भी शुरू कर दिया है। उनके निर्देशन में यह डिजिटल पोर्टल नोएडा और दिल्ली के बाद पश्चिमी उत्तर प्रदेश और चंडीगढ़ में विस्तार के लिए शुरुआत करेगा।

समाचार4मीडिया के साथ बातचीत में पंकज पाराशर ने बताया कि चंडीगढ़ ट्राईसिटी, मेरठ, सहारनपुर, आगरा, अलीगढ़ और मुरादाबाद संभागों में ब्यूरो चीफ के लिए अवसर हैं। संभाग स्तर पर अनुभवी पत्रकारों की नियुक्ति की जाएगी। ब्यूरो के प्रभारी स्वयं जिलों में संवाददाताओं की नियुक्ति करेंगे। यह मंच शहरी आबादी और वर्तमान घटनाओं पर केंद्रित है। इसने वर्तमान विधानसभा चुनाव के लिए उत्तर प्रदेश में राजनीतिक और चुनावी परिदृश्य का भी सर्वेक्षण किया है। उन्होंने बताया कि यह एकमात्र मीडिया हाउस है, जिसमें विकास और बुनियादी ढांचे पर पत्रकारों की एक बेंच है। करीब सात साल पुराने इस डिजिटल न्यूज स्टार्टअप ने शुरुआती दिन से ही नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा परियोजना को व्यापक रूप से कवर किया है।

पंकज पाराशर ने कहा, ‘ट्राईसिटी टुडे के पास राजनीतिक, अपराध, बुनियादी ढांचे और शहरी मुद्दों के समृद्ध अनुभव के साथ 20 पत्रकारों की टीम है। हम अकेले मीडिया हाउस हैं, जिसमें विकास और बुनियादी ढांचे पर पत्रकारों की एक बेंच है।‘ इच्छुक भागीदार/उम्मीदवार मेल info@tricitytoday.com या संपर्क नंबर 01204223626 के माध्यम से 31 जनवरी तक जुड़ सकते हैं।

मूल रूप से बागपत के रहने वाले पंकज पाराशर ने ‘चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी’, मेरठ से मास कम्युनिकेशन की डिग्री ली है। पंकज पाराशर को मीडिया के क्षेत्र में काम करने का करीब 20 साल का अनुभव है। पत्रकारिता के क्षेत्र में उन्होंने अपने करियर की शुरुआत ‘दोआब ज्योति’ नामक अखबार निकालकर की थी। वर्ष 2002 से वर्ष 2005 यानी करीब तीन साल तक उन्होंने उर्दू और हिंदी में यह अखबार निकाला।

इसके बाद वह ‘दैनिक जागरण‘, आगरा से जुड़ गए और कुछ समय बाद इसी अखबार में बुलंदशहर आ गए। वर्ष 2008 में उन्होंने ‘दैनिक जागरण‘ को बाय बोल दिया और ‘अमर उजाला‘ से अपनी नई पारी शुरू की। यहां वर्ष 2010 तक उन्होंने नोएडा/ग्रेटर नोएडा ब्यूरो चीफ की जिम्मेदारी निभाई और फिर ‘हिन्दुस्तान‘ आ गए। ‘हिन्दुस्तान‘ में लंबे समय तक बतौर नोएडा/ग्रेटर नोएडा ब्यूरो चीफ अपनी जिम्मेदारी निभाने के बाद उन्होंने अब ‘ट्राईसिटी टुडे‘ के साथ अपने नए सफर की शुरुआत की है। समाचार4मीडिया की ओर से पंकज पाराशर को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Zee मीडिया ने फैलाए पंख, लॉन्च किए 4 नए डिजिटल न्यूज चैनल

देश के सबसे बड़े मीडिया नेटवर्क में शुमार ‘जी मीडिया’ (Zee Media) से एक बड़ी खबर निकलकर सामने आई है। दरअसल इस मीडिया नेटवर्क ने डिजिटल में अब अपना विस्तार किया है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 25 January, 2022
Last Modified:
Tuesday, 25 January, 2022
ZeeMedia5454

देश के सबसे बड़े मीडिया नेटवर्क में शुमार ‘जी मीडिया’ (Zee Media) से एक बड़ी खबर निकलकर सामने आई है। दरअसल इस मीडिया नेटवर्क ने डिजिटल में अब अपना विस्तार किया है। ‘जी मीडिया’ ने दक्षिण भारत की चार प्रमुख भाषाओं में डिजिटल न्यूज चैनल लॉन्च किया है, जिनमें कन्नड़ भाषा में ‘जी कन्नड़ न्यूज’, तमिल भाषा में ‘जी तमिल न्यूज’, तेलुगु भाषा में ‘जी तेलुगु न्यूज’ और मलयालम भाषा में ‘जी मलयालम न्यूज’ शामिल है। इन चैनलों की लॉन्चिंग जी मीडिया के फाउंडर व राज्यसभा सांसद डॉ. सुभाष चंद्रा ने इन चैनलों को वर्चुअली लॉन्च किया।

कन्नड़ दर्शकों के लिए, 25 जनवरी से बेंगलुरू में ‘जी कन्ऩड़ न्यूज’ नाम से डिजिटल चैनल लॉन्च हो गया है। दक्षिण राज्यों की एक अन्य भाषा तमिल है। जी मीडिया पहले से ही तमिल में लोकप्रिय है। ‘जी तमिल न्यूज’ नाम से डिजिटल टीवी का प्रसारण भी 25 जनवरी से शुरू हो गया है। मलयाली दर्शकों को ध्यान में रखते हुए जी मीडिया 'जी मलयालम न्यूज' नाम से डिजिटल टीवी शुरू किया गया है। ये सभी चैनल लाइव टीवी फॉर्मेट में होंगे, जो संबंधित वेबसाइट्स पर एम्बेडेड किए जाएंगे. स्वचालित रूप से यह चैनल यू-ट्यूब और ओटीटी प्लेटफॉर्म पर भी उपलब्ध होंगे। 

डॉ. सुभाष चंद्रा ने इस मौके पर कहा इन चैनलों को लॉन्च करने के पीछे का उद्देश्य हर दक्षिणी घर तक पहुंचना हैं और उनसे उनकी अपनी भाषा में जुड़ना है। इससे न केवल देश और दुनिया से बल्कि उनके राज्यों के हर कोने से खबरें पहुंचाने का मकसद है। डिजिटल चैनल होने के कारण कंटेंट का विस्तार और विविधता बहुत ज्यादा होगी। दक्षिण के लोग केवल समाचारों के लिए डिजिटल का बहुत ज्यादा इस्तेमाल करते हैं। लिहाजा उन राज्यों में से प्रत्येक में चैनल की नंबर 1 पसंद बनना हैं।

डिजिटल न्यूज चैनल की लॉन्चिंग पर जी हिन्दुस्तान के मैनेजिंग एडिटर शमशेर सिंह ने कहा, 'ऐसा पहली बार हो रहा है जब कोई न्यूज ब्रॉडकास्ट चार क्षेत्रीय भाषाओ तमिल, तेलुगु, कन्नड़ और मलयालम में अपने डिजिटल चैनल लॉन्च किया है। जी का कंटेंट ओटीटी प्लेटफॉर्म 'जी5' (Zee5) पर पहले से ही दिखाया जा रहा है, लिहाजा इस पर इन चैनलों का प्रसारण तो किया जाएगा ही, वहीं अन्य ओटीटी प्लेटफॉर्म्स पर इसके प्रसारण को लेकर बातचीत का सिलसिला जारी है।'

उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं होगा कि इन चैनल का संबंध तो किसी अन्य राज्य से हो और चैनल का प्रसारण किसी अन्य राज्य से। यानी तमिल भाषी चैनल का मुख्यालय चेन्नई में, मलयाली भाषी चैनल का मुख्यालय केरल में, कन्नड़ भाषी चैनल का मुख्यालय बेंगलुरू में और तेलुगु भाषी चैनल का मुख्यालय हैदराबाद में होगा। उन्होंने बताया कि खबरें टेक्स्ट, ऑडियो और वीडियो तीनों फॉर्मेट में लोगों तक पहुंचाई जाएंगी। हर एक चैनल का अपना एक अलग प्लेटफॉर्म होगा। हर एक की अपनी एक अलग वेबसाइट और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म होगा।

उन्होंने आगे कहा कि इन चैनलों को शुरू करने से पहले हमारी टीम ने उन शहरों के जाकर लोगों से बातचीत की, लोगों की राय को जाना, जिसके बाद ही इन चैनलों की शुरुआत की जा रही है। आने वाले समय में जी मीडिया ऐसे ही अन्य राज्यों में चैनल को शुरू कर सकता है।

जी मीडिया को न्यूज बिजनेस में 26 साल पूरे हो चुके हैं। जी मीडिया के पास 6 अलग-अलग भाषाओं में 14 न्यूज चैनल हैं। इन चैनल के पास करीब 220 मिलियन व्युअर्स हैं। इसके साथ ही डिजिटल स्पेस में उनके पास 362 मिलियन यूजर्स हैं। जी मीडिया के पास पूरे भारत में न्यूज ब्यूरो और कॉरस्पॉन्डेंट के साथ सबसे तेजी से बढ़ता न्यूज चैनल नेटवर्क है। डिजिटल ग्रोथ इंजन है, जो इन चैनल्स को आगे बढ़ाएगा। यह कंटेंट स्ट्रैटेजी और रेवेन्यू की संभावनाओं के मामले में काफी जगह मुहैया कराएगा। डिजिटल न्यूज स्पेस में सभी परियोजना को सफल बनाने के लिए कंपनी पूरी तरह आश्वस्त है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

डिजिटल की दुनिया में Zee मीडिया कर रहा है विस्तार, लॉन्च करेगा ये 4 चैनल

देश के सबसे बड़े मीडिया नेटवर्क में शुमार ‘जी मीडिया’ (Zee Media) से एक बड़ी खबर निकलकर सामने आई है। दरअसल यह मीडिया नेटवर्क डिजिटल में अब अपना विस्तार कर रहा है।

Last Modified:
Monday, 24 January, 2022
Zee Media

देश के सबसे बड़े मीडिया नेटवर्क में शुमार ‘जी मीडिया’ (Zee Media) से एक बड़ी खबर निकलकर सामने आई है। दरअसल यह मीडिया नेटवर्क डिजिटल में अब अपना विस्तार कर रहा है। ‘जी मीडिया’ दक्षिण भारत की चार प्रमुख भाषाओं में डिजिटल न्यूज चैनल कर रहा है, जिनमें कन्नड़ भाषा में ‘जी कन्नड़ न्यूज’,  तमिल भाषा में ‘जी तमिल न्यूज’, तेलुगु भाषा में ‘जी तेलुगु न्यूज’ और मलयालम भाषा में ‘जी मलयालम न्यूज’ शामिल है। इन चैनलों की लॉन्चिंग जी मीडिया के फाउंडर व राज्यसभा सांसद डॉ. सुभाष चंद्रा मंगलवार 25 जनवरी को करेंगे।

बता दें कि जी मीडिया पहली बार डिजिटल टीवी चैनल लॉन्च कर रहा है। जी मीडिया के इन चैनलों का प्रसारण विशेष रूप से 25 जनवरी से शुरू होगा। ‘जी तेलुगु न्यूज’ का डिजिटल टीवी पहले तेलुगु राज्यों के लिए एक मंच के तौर पर हैदराबाद में लॉन्च किया जाएगा, जहां पूरी टीम चैनल की लॉन्चिंग के लिए पूरी तरह से तैयार है।

कन्नड़ दर्शकों के लिए, 25 जनवरी को बेंगलुरू में ‘जी कन्ऩड़ न्यूज’ नाम से डिजिटल चैनल लॉन्च किया जाएगा। इस संबंध में सोशल मीडिया पर पहले ही अपडेट सामने आ चुके हैं।

दक्षिण राज्यों की एक अन्य भाषा तमिल है। जी मीडिया पहले से ही तमिल में लोकप्रिय है। ‘जी तमिल न्यूज’ नाम से डिजिटल टीवी का प्रसारण भी 25 जनवरी यानी कल से शुरू होगा। चेन्नई में तमिल डिजिटल चैनल को लॉन्च करने की तैयारियां भी पूरी कर ली गईं है।

मलयाली दर्शकों को ध्यान में रखते हुए, केरल की परंपराओं के नक्शेकदम पर चलते हुए, समय-समय पर केरल में अपडेट न्यूज प्रदान करने के लिए, जी मीडिया ‘जी मलयालम न्यूज’ नाम से डिजिटल टीवी का प्रसारण 25 जनवरी से शुरू कर रहा है। ये लाइव टीवी फॉर्मेट होंगे, जो संबंधित वेबसाइट्स पर एम्बेडेड किए जाएंगे। स्वचालित रूप से यह चैनल यू-ट्यूब और ओटीटी प्लेटफॉर्म पर भी उपलब्ध होंगे।

जी मीडिया के मुताबिक, इन चैनलों को लॉन्च करने के पीछे का उद्देश्य हर दक्षिणी घर तक पहुंचना हैं और उनसे उनकी अपनी भाषा में जुड़ना हैं। इसके अतिरिक्त न केवल देश और दुनिया से बल्कि उनके राज्यों के हर कोने से खबरें प्रदान करना हैं। डिजिटल चैनल होने के कारण कंटेंट का विस्तार और विविधता बहुत अधिक होगी। दक्षिण के लोग केवल समाचारों के लिए डिजिटल का बहुत अधिक उपयोग करते हैं, लिहाजा उन राज्यों में से प्रत्येक में चैनल की नंबर 1 पसंद बनना हैं। डिजिटल माध्यम भी बहुत सी फेक न्यूज को जन्म देते हैं, लिहाजा दर्शकों के लिए हर घटना का सत्यापित विवरण प्राप्त करने के लिए विश्वसनीय मंच बनना हैं।

इन डिजिटल न्यूज चैनल की लॉन्चिंग पर जी हिन्दुस्तान के मैनेजिंग एडिटर शमशेर सिंह ने कहा, 'ऐसा पहली बार हो रहा है जब कोई न्यूज ब्रॉडकास्ट चार क्षेत्रीय भाषाओ तमिल, तेलुगु, कन्नड़ और मलयालम में अपने डिजिटल चैनल लॉन्च कर रहा है। जी का कंटेंट ओटीटी प्लेटफॉर्म 'जी5' (Zee5) पर पहले से ही दिखाया जा रहा है, लिहाजा इस पर इन चैनलों का प्रसारण तो किया जाएगा ही, वहीं अन्य ओटीटी प्लेटफॉर्म्स पर इसके प्रसारण को लेकर बातचीत का सिलसिला जारी है।'

उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं होगा कि इन चैनल का संबंध तो किसी अन्य राज्य से हो और चैनल का प्रसारण किसी अन्य राज्य से। यानी तमिल भाषी चैनल का मुख्यालय चेन्नई में, मलयाली भाषी चैनल का मुख्यालय केरल में, कन्नड़ भाषी चैनल का मुख्यालय बेंगलुरू में और तेलुगु भाषी चैनल का मुख्यालय हैदराबाद में होगा। उन्होंने बताया कि खबरें टेक्स्ट, ऑडियो और वीडियो तीनों फॉर्मेट में लोगों तक पहुंचाई जाएंगी। हर एक चैनल का अपना एक अलग प्लेटफॉर्म होगा। हर एक की अपनी एक अलग वेबसाइट और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म होगा।

उन्होंने आगे कहा कि इन चैनलों को शुरू करने से पहले हमारी टीम ने उन शहरों के जाकर लोगों से बातचीत की, लोगों की राय को जाना, जिसके बाद ही इन चैनलों की शुरुआत की जा रही है। आने वाले समय में जी मीडिया ऐसे ही अन्य राज्यों में चैनल को शुरू कर सकता है।

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

‘जी मीडिया’ को अलविदा कहकर नए सफर पर निकले पत्रकार अजय तोमर

पत्रकार अजय तोमर ने ‘जी मीडिया’ को अलविदा कह दिया है। वह नेशनल चैनल ‘जी हिन्दुस्तान’ (Zee Hindustan) में वीडियो एडिटर के तौर पर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे।

Last Modified:
Sunday, 23 January, 2022
Ajay Tomar

पत्रकार अजय तोमर ने ‘जी मीडिया’ को अलविदा कह दिया है। वह नेशनल चैनल ‘जी हिन्दुस्तान’ (Zee Hindustan) में वीडियो एडिटर के तौर पर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे। उन्होंने अब अपने नए सफर की शुरुआत सरकारी वेबसाइट ‘माईगव इंडिया‘ (MyGovIndia) से की है और नोएडा से लखनऊ रवाना हो गए हैं।

अजय तोमर का जन्म यूपी के मुजफ्फरनगर में हुआ। हालांकि, उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा उत्तराखंड के ऋषिकेश में की, लेकिन पिता के पुलिस विभाग में होने के चलते परिवार को गाजियाबाद में आना पड़ा।

पढ़ाई-लिखाई की बात करें तो अजय ने चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी, मेरठ से ग्रेजुएशन की है। इसके साथ ही उन्होंने दिल्ली से मल्टीमीडिया का कोर्स भी किया है। 

अजय तोमर को मीडिया के क्षेत्र में काम करने का करीब दस साल का अनुभव है। उन्होंने वर्ष 2017 में ‘जी हिन्दुस्तान‘ आने से पहले अपने करियर की शुरुआत 2011 में ‘साधना‘ चैनल से की थी। वह पूर्व में ‘समाचार प्लस‘,‘इंडिया न्यूज‘,‘इंडिया वॉइस‘ और ‘इंडिया क्राइम‘ जैसे चैनल्स में अपनी सेवाएं दे चुके हैं। समाचार4मीडिया की ओर से अजय तोमर को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

हिन्दुस्तान को बाय बोलकर पत्रकार हेमराज सिंह चौहान ने तलाशी नई मंजिल

‘हिन्दुस्तान‘ की स्पोर्ट्स टीम में बतौर सीनियर कंटेंट प्रड्यूसर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे हेमराज सिंह चौहान।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Saturday, 22 January, 2022
Last Modified:
Saturday, 22 January, 2022
Hemraj Singh Chauhan

पत्रकार हेमराज सिंह चौहान ने ‘आर्टिफिशयल इंटेलिजेंस’ (AI) पर आधारित ऑनलाइन वीडियो न्यूज प्लेटफॉर्म ‘एडिटरजी’ (Editorji) के साथ अपनी नई पारी शुरू की है। उन्होंने बतौर डिप्टी न्यूज एडिटर यहां जॉइन किया है।

हेमराज सिंह चौहान इससे पहले ‘हिन्दुस्तान‘ की स्पोर्ट्स टीम में बतौर सीनियर कंटेंट प्रड्यूसर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे। जामिया मिल्लिया इस्लामिया, दिल्ली से टीवी जर्नलिज्म में पीजी डिप्लोमा करने वाले हेमराज सिंह ने वर्ष 2013 में अपने करियर की शुरुआत ‘इंडिया टीवी‘ के आउटपुट डिपार्टमेंट में बतौर ट्रेनी की। यहां करीब सवा तीन साल काम करने के बाद वह ‘न्यूज24‘ से जुड़ गए।

इसके बाद उन्होंने डिजिटल मीडिया में आने का फैसला लिया और ‘नेशनल दस्तक‘ में सीनियर रिपोर्टर के तौर पर जॉइन कर लिया। अप्रैल 2017 में हेमराज में ‘राजस्थान पत्रिका‘ के डिजिटल वेंचर ‘कैच‘ हिंदी को जॉइन किया। वहां वह करीब 18 महीने रहे, जहां लगभग 10 महीने उन्होंने टीम को लीड भी किया। इसके बाद वह करीब दस महीने तक ‘वन इंडिया‘ (हिंदी) में रहे।

हेमराज सिंह चौहान उत्तराखंड की सांस्कृतिक नगरी अल्मोड़ा के रहने वाले हैं और 12वीं तक की उनकी पढ़ाई-लिखाई वहीं हुई है। समाचार4मीडिया की ओर से हेमराज सिंह चौहान को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

दुनिया को 'अलविदा' कह गए लोकमत के पूर्व समूह संपादक दिनकर रायकर

वयोवृद्ध पत्रकार और लोकमत के पूर्व समूह संपादक दिनकर रायकर का आज शुक्रवार सुबह निधन हो गया। वे 79 वर्ष के थे और पिछले कुछ दिनों से बीमार थे।

Last Modified:
Friday, 21 January, 2022
Lokmat6666

वयोवृद्ध पत्रकार और लोकमत के पूर्व समूह संपादक (ग्रुप एडिटर) दिनकर रायकर का आज शुक्रवार सुबह निधन हो गया। वे 79 वर्ष के थे और पिछले कुछ दिनों से बीमार थे।

बताया जा रहा है कि उन्हें कोरोना के साथ-साथ डेंगू भी हो गया था। उनका इलाज मुंबई के नानावती अस्पताल में चल रहा था, जहां डेंगू से तो वह पूरी तरह से ठीक हो गए थे, लेकिन महामारी से वह जिंदगी की जंग हार गए। उनके फेफड़ों का संक्रमण 80 प्रतिशत था। गुरुवार रात उनका आरटी-पीसीआर टेस्ट नेगेटिव आया था। हालांकि, सुबह उन्हें सांस लेने में तकलीफ होने लगी और सुबह तीन बजे उनकी मौत हो गई। उनके परिवार में पत्नी, बेटा और बेटी हैं।

रायकर पांच दशकों से भी अधिक समय से पत्रकारिता जगत में सक्रिय थे। उन्होंने पत्रकारिता का सफर ‘इंडियन एक्सप्रेस’ से शुरू किया था। चूंकि उनके पास मुंबई में रहने के लिए घर नहीं था, इसलिए वे ‘इंडियन एक्सप्रेस’ के कार्यालय में रहते थे और वहां काम करते थे। उन्होंने एक्सप्रेस ग्रुप में टीपी ऑपरेटर, रिपोर्टर से डिप्टी एडिटर तक का सफल सफर तय किया। लोकसत्ता से सेवानिवृत्त होने के बाद वे लोकमत समूह के संपादक बने। प्रारंभ में, वे औरंगाबाद के संपादक थे। वह पिछले कुछ सालों से लोकमत के ग्रुप एडिटर थे।

दिनकर अपने मुखर जनसंपर्क, राज्य भर के पत्रकारों के साथ घनिष्ठ संबंध और किसी भी मदद के लिए जाने जाते थे। मंत्रालय और विधायी समाचार एजेंसी से उन्हें लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। उन्हें महाराष्ट्र  सरकार से लाइफटाइम अचीवमेंट पत्रकारिता पुरस्कार भी मिला। रायकर को विभिन्न पुरस्कारों जैसे लीडर जीजी जाधव पुरस्कार, सुशीलादेवी देशमुख पत्रकारिता पुरस्कार, रोटर अंतरराष्ट्रीय पत्रकारिता पुरस्कार, कृषिवलकर प्रभाकर पाटिल पत्रकारिता पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। वह मंत्रालय के मुंबई प्रेस क्लब और विधायी समाचार दल के पूर्व अध्यक्ष थे।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

दैनिक जागरण को बाय बोलकर विकाश गौड़ ने अब इस संस्थान संग शुरू की नई पारी

युवा पत्रकार विकाश गौड़ ने ‘दैनिक जागरण’ की वेबसाइट ‘जागरण डॉट कॉम’ (jagran.com) में अपनी करीब दो साल 10 महीने लंबी पारी को विराम दे दिया है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 19 January, 2022
Last Modified:
Wednesday, 19 January, 2022
Vikash Gaur

युवा पत्रकार विकाश गौड़ ने ‘दैनिक जागरण’ की वेबसाइट ‘जागरण डॉट कॉम’ (jagran.com) में अपनी करीब दो साल 10 महीने लंबी पारी को विराम दे दिया है। विकाश गौड़ अप्रैल 2019 से यहां स्पोर्ट्स टीम का हिस्सा थे और सीनियर सब एडिटर के तौर पर काम कर रहे थे।

खेल की दुनिया में बचपन से ही रुचि रखने वाले विकाश गौड़ ने अब अपने नए सफर की शुरुआत ‘हिन्दुस्तान’ की न्यूज वेबसाइट ‘लाइव हिंदुस्तान’ (livehindustan.com) के साथ की है। यहां उन्होंने बतौर सीनियर कंटेट प्रड्यूसर जॉइन किया है। वह यहां भी स्पोर्ट्स टीम का हिस्सा हैं।

किताबें पढ़ने के शौकीन विकाश गौड़ की क्रिकेट पर अच्छी पकड़ है। मूल रूप से अलीगढ़ के रहने वाले विकाश को पत्रकारिता के क्षेत्र में काम करने का करीब पांच साल का अनुभव है। ‘दैनिक जागरण’ से पहले उन्होंने करीब छह महीने ‘डेली हंट’ में काम किया है और इससे पहले करीब 10 महीने ‘राजस्थान पत्रिका’ की सहयोगी वेबसाइट ‘कैच हिंदी’ से सब एडिटर के तौर पर जुड़े हुए थे। इसके अलावा वह अपने करियर की शुरुआत में ‘खबर नॉन स्टॉप’ के साथ करीब 15 महीने काम कर चुके हैं।

विकाश गौड़ ने ‘मंगलायतन यूनिवर्सिटी’ से पत्रकारिता की पढ़ाई के बाद ‘आजतक’ न्यूज चैनल और ‘दैनिक जागरण’ अखबार में इंटर्नशिप की, फिर वह डिजिटल पत्रकारिता की ओर मुड़ गए और ‘खबर नॉन स्टॉप’ के साथ जुड़ गए। इसके बाद तमाम मीडिया संस्थानों में अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए अब वह ‘हिंदुस्तान’ पहुंचे हैं।

समाचार4मीडिया की ओर से विकाश गौड़ को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

HT Media की याचिका पर दिल्ली हाई कोर्ट ने आठ वेबसाइट्स पर लगाई ये रोक

अदालत ने दिल्ली पुलिस की साइबर सेल और आर्थिक अपराध शाखा को इन वेबसाइट्स की अवैध गतिविधियों की जांच करने के साथ ही अपनी रिपोर्ट जमा करने के लिए भी कहा है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 19 January, 2022
Last Modified:
Wednesday, 19 January, 2022
HT Media

‘एचटी मीडिया’ (HT Media) को बड़ी राहत देते हुए दिल्ली हाई कोर्ट ने आठ वेबसाइट्स को कंपनी के जॉब पोर्टल शाइन/शाइन डॉट कॉम (Shine/Shine.com) के ट्रेडमार्क और कॉपीराइट का उल्लंघन करने से रोक दिया है। बता दें कि ‘एचटी मीडिया’ शाइन (Shine) ब्रैंडनेम के तहत जॉब पोर्टल का संचालन करता है।  

13 जनवरी को दिए गए अपने अंतरिम आदेश में जस्टिस योगेश खन्ना ने आठ वेबसाइट्स को एचटी मीडिया के पंजीकृत ट्रेडमार्क/कॉपीराइट  और अन्य बौद्धिक संपदा अधिकारों (आईपीआर) का उल्लंघन करने से रोक दिया है।

हाई कोर्ट ने इंटरनेट और दूरसंचार सेवा प्रदाताओं को इन वेबसाइट्स तक पहुंच को अवरुद्ध करने का निर्देश दिया है। इसके साथ ही दूरसंचार विभाग और ‘केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय’ (एमईआईटी) को इस आशय के लिए इंटरनेट और दूरसंचार सेवा प्रदाताओं को अधिसूचना जारी करने का निर्देश भी दिया है।

अदालत ने दिल्ली पुलिस की साइबर सेल और आर्थिक अपराध शाखा को इन वेबसाइट्स की अवैध गतिविधियों की जांच करने और उनकी वास्तविक पहचान से संबंधित जानकारी प्राप्त करने के साथ ही अपनी रिपोर्ट जमा करने के लिए भी कहा है।

बता दें कि कंपनी ने ऐसी वेबसाइट्स पर पंजीकृत ट्रेडमार्क/कॉपीराइट  और अन्य बौद्धिक संपदा अधिकारों के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए स्थायी निषेधाज्ञा और हर्जाने की मांग की थी। कंपनी का तर्क था कि ये वेबसाइट्स ‘शाइन’ और इसकी वेबसाइट से जुड़े होने का झूठा दावा करके आम लोगों को धोखा दे रही थीं। याचिकाकर्ता का यह भी कहना था ये वेबसाइट्स खुद को shine.com की तरह प्रतिबिंबित कर रही थीं और ‘हिंदुस्तान टाइम्स मीडिया' ब्रैंड का इस्तेमाल करके कथित रूप से नौकरी/साक्षात्कार/करियर की पेशकश करके लोगों को बेवकूफ बन रही हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

India TV पहुंचे पत्रकार आलोक सिंह, निभाएंगे यह जिम्मेदारी

पत्रकार आलोक सिंह ने ‘इंडिया टीवी’ (India TV) के साथ अपने नए सफर की शुरुआत की है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 19 January, 2022
Last Modified:
Wednesday, 19 January, 2022
Alok Singh

पत्रकार आलोक सिंह ने ‘इंडिया टीवी’ (India TV) के साथ अपने नए सफर की शुरुआत की है। उन्होंने ‘इंडिया टीवी’ की डिजिटल विंग में बतौर असिस्टेंट एडिटर जॉइन किया है। यहां वह बिजनेस से जुड़ी खबरों की कमान संभालेंगे।

‘इंडिया टीवी’ से पहले आलोक सिंह करीब चार साल से सीनियर बिजनेस जर्नलिस्ट के तौर पर ‘हिंदुस्तान’ में अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे। यहां बिजनेस डेस्क की कमान उन्हीं के हाथ में थी। इससे पहले वह ‘राजस्थान पत्रिका’, ‘दैनिक भास्कर’ और ‘पी-7’ समेत कई मीडिया संस्थानों में अपनी जिम्मेदारी निभा चुके हैं।

मूल रूप से मुजफ्फरपुर (बिहार) के रहने वाले आलोक सिंह को पत्रकारिता के क्षेत्र में काम करने का करीब 13 साल का अनुभव है। पत्रकारिता के क्षेत्र में उन्होंने अपने करियर की शुरुआत ‘हिंदुस्तान टाइम्स’ के साथ की थी।

आलोक सिंह ने मुजफ्फरपुर से अंग्रेजी (ऑनर्स) की डिग्री ली है। इसके अलावा उन्होंने नालंदा विश्वविद्यालय से पत्रकारिता में पोस्ट ग्रेजुएशन किया है। समाचार4मीडिया की ओर से आलोक सिंह को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।    

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए