सरकार ने फिर की ‘डिजिटल स्ट्राइक’, इन 22 YouTube न्यूज चैनल्स पर लगाया बैन

इनमें 18 भारतीय व चार पाकिस्तानी यूट्यूब न्यूज चैनल्स शामिल हैं। इनके अलावा तीन ट्विटर अकाउंट्स, एक फेसबुक अकाउंट और एक न्यूज वेबसाइट को भी ब्लॉक किया गया है।

Last Modified:
Tuesday, 05 April, 2022
BAN

भारत सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से संबंधित दुष्प्रचार फैलाने के आरोप में यूट्यूब आधारित 22 न्यूज चैनल्स को बंद करने का निर्देश दिया है। इनमें चार पाकिस्तानी और 18 भारतीय यूट्यूब न्यूज चैनल्स शामिल हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इनके अलावा तीन ट्विटर अकाउंट्स, एक फेसबुक अकाउंट और एक न्यूज वेबसाइट को भी ब्लॉक किया गया है। आरोप है कि उक्त यूट्यूब न्यूज चैनल्स फर्जी खबरें प्रसारित कर रहे थे, जिससे राष्ट्रीय सुरक्षा, विदेशी संबंध और सार्वजनिक व्यवस्था को खतरा था।

इस बारे में ‘सूचना प्रसारण मंत्रालय’ (MIB) का कहना है कि पिछले साल फरवरी में सूचना प्रौद्योगिकी नियमावली 2021 की अधिसूचना जारी होने के बाद यूट्यूब आधारित भारतीय चैनल्स के विरुद्ध इस प्रकार की कार्रवाई पहली बार की गई है।

मंत्रालय की ओर से सोमवार को एक आदेश के तहत 22 यूट्यूब चैनल्स, तीन ट्विटर अकाउंट्स, एक फेसबुक अकाउंट और एक न्यूज वेबसाइट को बंद करने का निर्देश दिया गया है। मंत्रालय के अनुसार, जिन भारतीय यूट्यूब चैनल्स को बंद किया गया है, उनमें से कुछ टीवी न्यूज चैनल्स के 'टैम्पलेट' और 'लोगो' के साथ-साथ उनके न्यूज एंकर की तस्वीरों का इस्तेमाल कर रहे थे, ताकि दर्शकों को गुमराह कर यह विश्वास दिलाया जा सके कि उक्त न्यूज प्रामाणिक है। कई भारतीय यूट्यूब चैनल रूस-यूक्रेन के बीच चल रही लड़ाई को लेकर फर्जी खबरें डाल रहे थे, जिससे भारत के विदेशी संबंधों को खतरा हो सकता है। इसके अलावा कुछ यूट्यूब चैनल्स पाकिस्तान से भारत विरोधी खबरें फैला रहे थे।

मंत्रालय ने जिन 22 यूट्यूब चैनल्स को ब्लॉक करने का आदेश दिया है, उनकी कुल व्यूअरशिप 260 करोड़ से अधिक थी।  पिछले साल फरवरी में आईटी रूल्स, 2021 के आने के बाद से यह पहली बार है, जब भारतीय यूट्यूब न्यूज चैनल्स पर इस तरह की कार्रवाई की गई है।

बता दें कि मंत्रालय दिसंबर 2021 से अब तक यूट्यूब आधारित 78 न्यूज चैनल्स तथा कई अन्य सोशल मीडिया अकाउंट्स को, राष्ट्रीय सुरक्षा, देश की एकता और अखंडता, लोक व्यवस्था आदि के आधार पर बंद कर चुका है।

जिन भारतीय यूट्यूब चैनल्स को ब्लॉक किया गया है, उनकी लिस्ट आप यहां देख सकते हैं।

ARP News (Total Views: 4,40,68,652)

AOP News (Total Views: 74,04,673)

LDC News (4,72,000 subscribers and 6,46,96,730 total views)

SarkariBabu (2,44,000 subscribers and 4,40,14,435 total views)

SS ZONE Hindi (Total Views:5,28,17,274)

Smart News (Total Views: 13,07,34,161)

News23Hindi (Total Views: 18,72,35,234)

Online Khabar (Total Views: 4,16,00,442)

DP news (Total Views: 11,99,224)

PKB News (Total Views: 2,97,71,721)

KisanTak (Total Views: 36,54,327)

Borana News (Total Views: 2,46,53,931)

Sarkari News Update (Total Views: 2,05,05,161)

Bharat Mausam (2,95,000 subscribers and 7,04,14,480 Total Views)

RJ ZONE 6 (Total Views: 12,44,07,625)

Exam Report (Total Views: 3,43,72,553)

Digi Gurukul (Total Views: 10,95,22,595)

दिनभरकीखबरें (Total Views: 23,69,305)

पाकिस्तान के इन यूट्यूब चैनल्स को ब्लॉक किया गया है।

DuniyaMeryAagy (4,28,000 subscribers and 11,29,96,047 total views)

Ghulam NabiMadni (Total Views: 37,90,109)

HAQEEQAT TV (40,90,000 subscribers and 1,46,84,10,797 Total Views)

HAQEEQAT TV 2.0 (3,03,000 subscribers and 37,542,059 total views)

ब्लॉक किए गए ट्विटर अकाउंट्स

Ghulam Nabi Madni, Dunya Mery Aagy, Haqeeqat TV 

ब्लॉक की गई वेबसाइट
Dunya Mere Aagy

ब्लॉक किया गया फेसबुक अकाउंट
 Dunya Mery Aagy

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Disney+ Hotstar से अलग होकर उदित शर्मा ने तलाशी नई मंजिल

इस स्ट्रीमिंग सर्विस प्लेटफॉर्म में बतौर हेड (ऐड सेल्स) पांच साल से ज्यादा समय से अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे उदित शर्मा

Last Modified:
Tuesday, 28 June, 2022
Udit Sharma

स्ट्रीमिंग सर्विस प्लेटफॉर्म ‘डिज्नी+हॉटस्टार’ (Disney+ Hotstar) में अपनी पारी को विराम देकर उदित शर्मा ने नई मंजिल तलाशी है। वह ‘डिज्नी स्टार‘ के स्वामित्व वाले इस स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म से पांच साल से ज्यादा समय से जुड़े हुए थे और बतौर हेड (ऐड सेल्स) अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे।  

उदित शर्मा ने अब बहुभाषी सोशल मीडिया कंपनी ‘शेयरचैट’ (ShareChat) के साथ अपना नया सफर शुरू किया है। उन्होंने यहां पर बतौर चीफ रेवेन्यू ऑफिसर (CRO) जॉइन किया है।  

बता दें कि ‘शेयरचैट’ देश की सबसे बड़ी घरेलू सोशल मीडिया कंपनी है। हाल ही में इसकी पैरेंट कंपनी ’मोहल्ला टेक प्राइवेट लिमिटेड’ (Mohalla Tech Pvt Ltd) ने पांच बिलियन डॉलर के मूल्यांकन पर कई चरणों में 520 मिलियन डॉलर की रकम जुटाई है।

अपनी नियुक्ति के बारे में एक लिंक्डइन पोस्ट में उदित शर्मा ने लिखा है, ‘पिछले पांच साल से मैं ऐसे स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म से जुड़ा हुआ था, जो देश का सबसे ज्यादा पसंदीदा एंटरटेनमेंट प्रदाता है। इस अद्भुत सफर के लिए Disney+ Hotstar का शुक्रिया। जहां तक ​​मेरे अगले सफर की बात है, मैं शेयरचैट/मोज में अंकुश सचदेवा और अजीत वर्गीस के साथ जुड़ने और देश में स्थानीय भाषा के कंटेंट की क्रांति को नया आकार देने का अवसर पाकर बहुत उत्साहित हूं।’

बता दें कि उदित शर्मा पूर्व में मीडिया, मोबाइल पेमेंट्स/फिनटेक और कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स के क्षेत्र में काम कर चुके हैं। ‘डिज्नी+हॉटस्टार’ (Disney+ Hotstar) से पहले वह ’फ्रीचार्ज ’ (Freecharge), ’जोमैटो ’ (Zomato), ’ऑक्सीजन सर्विसेज’ (Oxigen Services) और ’सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स’ (Samsung Electronics) आदि में अपनी भूमिका निभा चुके हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Alt न्यूज के को-फाउंडर गिरफ्तार, कई पत्रकारों-नेताओं ने की निंदा

फैक्ट चेकिंग न्यूज वेबसाइट Alt न्यूज के को-फाउंडर मोहम्मद जुबैर को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

Last Modified:
Tuesday, 28 June, 2022
AltNews4512

फैक्ट चेकिंग न्यूज वेबसाइट Alt न्यूज के को-फाउंडर मोहम्मद जुबैर को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। धार्मिक भावनाएं आहत करने के आरोप में उन पर ये कार्रवाई हुई है। जुबैर के खिलाफ आईपीसी की धारा 153A/295A के तहत केस दर्ज हुआ है। 

जानकारी के मुताबिक, दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की IFSO यूनिट ने जुबैर के खिलाफ सोशल मीडिया पर सांप्रदायिक अशांति फैलाने के आरोप में गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक, उसे जुबैर के खिलाफ 27 जून को ट्विटर के जरिए एक शिकायत मिली थी, जिसमें जुबैर के एक ट्वीट का जिक्र किया गया था। पुलिस ने इस संबंध में आईपीसी की धारा 153ए और 295ए के तहत केस दर्ज कर सोमवार को जुबैर को पूछताछ के लिए बुलाया था।

पुलिस की स्पेशल सेल ने दावा किया है कि पर्याप्त सबूतों के आधार पर जुबैर को गिरफ्तार किया गया है। जुबैर को अदालत में पेश कर पुलिस रिमांड की मांग की जाएगी।

दिल्ली पुलिस की ओर से कहा गया कि मोहम्मद जुबैर की तरफ से एक विशेष धार्मिक समुदाय के खिलाफ पोस्ट की गई तस्वीर और कहे गए शब्द अत्यधिक उत्तेजक हैं और जानबूझकर किए गए हैं, जो लोगों में नफरत फैलाने के लिए पर्याप्त हैं। इससे सार्वजनिक शांति बनाए रखने में मुश्किल हो सकती है। इन्हीं पोस्ट के आधार पर उपरोक्त मामला दर्ज किया गया है।

वहीं ऑल्ट न्यूज (AltNews) के को-फाउंडर प्रतीक सिन्हा (Pratik Sinha) ने कहा कि मोहम्मद जुबैर को 2020 के एक अलग मामले में पूछताछ के लिए दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने बुलाया था। इस मामले में उन्हें हाई कोर्ट से गिरफ्तारी में छूट मिली हुई है। हालांकि रविवार देर शाम 6:45 पर हमें बताया गया कि उन्हें किसी और मामले में दर्ज एफआईआर के चलते गिरफ्तार किया गया है।

उन्होंने कहा कि इस मामले को लेकर मोहम्मद जुबैर को कोई नोटिस नहीं दिया गया था। जिन धाराओं में उन्हें गिरफ्तार किया गया है उनमें नोटिस देने का प्रावधान है, लेकिन ऐसा नहीं किया गया। कई बार विनती करने के बाद भी हमें एफआईआर की कॉपी नहीं दी गई।

वहीं, जुबैर की गिरफ्तारी पर देश के कई पत्रकार और विपक्षी दल के नेता निंदा कर रहे हैं। ‘द हिन्दू’ अखबार की नेशनल एडिटर सुहासिनी हैदर ने सोशल मीडिया पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए लिखा है कि, ‘प्रधानमंत्री द्वारा इमरजेंसी को काला दिन की घोषणा के दो दिन बाद... ’

वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने लिखा, 'जिस मोहम्मद जुबैर ने अनेक हेट स्पीच के मामलों का खुलासा किया, वही आज हेट स्पीच का आरोपी बनाकर गिरफ्तार कर लिया गया.. जुबैर ने जिनको एक्सपोज किया वो आज भी खुला घूम रहे हैं, डरावना है यह ’ 

वहीं, इस मामले में राजनीतिक प्रतिक्रियाएं भी सामने आयीं है। जुबैर की गिरफ्तारी पर राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने भी ट्वीट कर लिखा कि, 'बीजेपी की नफरत, कट्टरता और झूठ को उजागर करने वाला हर शख्स उनके लिए खतरा है. सत्य की एक आवाज को गिरफ्तार करने से एक हजार और पैदा होंगे. अत्याचार पर सत्य की हमेशा विजय होती है, डरो मत।'

कांग्रेस सांसद व तेलंगाना कांग्रेस के प्रभारी मणिकम टैगोर (Manickam Tagore) ने ट्वीट कर लिखा, ‘2014 के बाद भारत की कुछ तथ्य-जांच संस्थाएं, विशेष रूप से ऑल्ट न्यूज, गलत सूचना और झूठ से भरे हुए राजनीतिक वातावरण में सच बताने के लिए एक महत्वपूर्ण सेवा कर रहे हैं। वे झूठ का पर्दाफाश करते हैं। अब इसके को-फाउंडर को शाह की दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। जुबैर को गिरफ्तार करना दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की एक बड़ी भूल है। उसे तत्काल रिहा किया जाना चाहिए। 

टीएमसी नेता डेरेक ओब्रायन ने इस गिरफ्तारी की निंदा की है तो कांग्रेस नेता शशि थरूर ने मोहम्मद जुबैर को तत्काल रिहा करने की मांग की है।

 

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Shemaroo Entertainment में राहुल मिश्रा को मिली अब ये बड़ी जिम्मेदारी

मिश्रा वर्ष 2018 से शेमारू में मार्केटिंग हेड के तौर पर अपनी भूमिका निभा रहे हैं।

Last Modified:
Friday, 24 June, 2022
Rahul Mishra

‘शेमारू एंटरटेनमेंट’ (Shemaroo Entertainment) ने राहुल मिश्रा को प्रमोशन का तोहफा देते हुए उन्हें ‘वेब 3.0’ (Web 3.0) के तहत कंपनी की पहलों (initiatives) का हेड नियुक्त किया है। मिश्रा वर्ष 2018 से शेमारू में मार्केटिंग हेड के तौर पर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैं।

अपनी नई भूमिका में राहुल मिश्रा इंटरनेट की तीसरी लहर (wave) में विभिन्न अवसरों की पहचान करने और उनका लाभ उठाने पर काम करेंगे।

इस बारे में ‘शेमारू एंटरटेनमेंट’ के सीईओ हिरेन गडा का कहना है, ‘राहुल मिश्रा को उनकी नई भूमिका के लिए आगे बढ़ाते हुए हमें खुशी हो रही है। उनके बहुमूल्य योगदान ने कंपनी को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने में मदद की है। राहुल को इस पद पर सही समय पर प्रमोट किया गया है, क्योंकि हमारी योजना वेब 3.0 टेक्नोलॉजी का उपयोग करके अपने ब्रैंड के विकास में तेजी लाने की है।‘

वहीं, इस बारे में राहुल मिश्रा का कहना है, ‘अपनी इस नई भूमिका को निभाने के लिए मैं काफी आभारी और रोमांचित हूं। 60 वर्षों से देश का मनोरंजन करने वाले ब्रैंड का हिस्सा बनना और इसकी बेहतरीन टीम के साथ काम करना सम्मान की बात है। नई टेक्नोलॉजी के आने के साथ भविष्य काफी रोमांचक और उज्ज्वल है और मैं इंटरनेट के विकास के शेमारू को अगले चरण में ले जाने के लिए पूरी तरह तैयार हूं।‘

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Netflix ने दिखाया 300 कर्मचारियों को बाहर का रास्ता, बताई ये वजह

वीडियो स्ट्रीमिंग कंपनी नेटफ्लिक्स (Netflix) ने अपने 300 कर्मचारियों को जॉब से निकाल दिया है।

Last Modified:
Friday, 24 June, 2022
netflix

वीडियो स्ट्रीमिंग कंपनी नेटफ्लिक्स (Netflix) ने अपने 300 कर्मचारियों को जॉब से निकाल दिया है। बता दें कि यह उसकी कुल वर्कफोर्स का लगभग 4 प्रतिशत है। कंपनी के इस कदम ने ज्यादातर अमेरिकी कर्मचारियों को प्रभावित किया है। साथ ही एशिया प्रशांत, लैटिन अमेरिका और यूरोप, मध्य पूर्व और अफ्रीका में भी कर्मचारी प्रभावित हुए हैं।

इस पर बयान जारी करते हुए नेटफ्लिक्स इंक (NFLX.O) ने कहा कि उसने पिछले 1 दशक में पहली बार इतनी बड़ी संख्या में स्ट्रीमिंग करने वाले ग्राहकों को खोया है, जिसके बाद कंपनी ने लागत कम करने के उद्देश्य से नौकरी में कटौती की है।

बता दें कि यह कंपनी में कर्मचरियों की छंटनी का दूसरा दौर है। पिछले महीने नेटफ्लिक्स ने रेवेन्यू ग्रोथ की रफ्तार कम होने का हवाला देकर करीब 150 कर्मचारियों और दर्जनों कॉन्ट्रैक्टर्स की छंटनी की थी। उससे पहले मार्केटिंग टीम से करीब 25 लोगों को बाहर किया गया था।

वैसे कंपनी कर्मचारियों को ऐसे समय नौकरी से बाहर कर रही है, जब करीब एक दशक में उसे पहली बार सब्सक्राइबर्स (Netflix Subscribers) के मामले में नुकसान का सामना करना पड़ा है।

नेटफ्लिक्स ने गुरुवार को एक बयान में कहा, ‘हालांकि हम कारोबार में महत्वपूर्ण निवेश करना जारी रखते हैं, लेकिन हमने ये इसलिए किया है, ताकि हमारी लागत स्लो रेवेन्यु ग्रोथ के अनुरूप बढ़ सके।’

कंपनी के मुताबिक पहली तिमाही में ग्राहकों की संख्या में गिरावट के बाद नेटफ्लिक्स ने मौजूदा अवधि के लिए और भी अधिक नुकसान का अनुमान लगाया है। उस डाउनट्रेंड को रोकने के लिए कंपनी एक सस्ता प्लान, विज्ञापन-समर्थित सब्सक्रिप्शन टियर पेश करने की योजना बना रही है, जिसके लिए वह कई कंपनियों के साथ बातचीत कर रही है।

आपको बता दें कि अमेरिका की केंद्रीय बैंक ने कुछ दिन पहले ही अपने ब्याज दरों में बढ़ोतरी की है, जिसका बुरा असर अमेरिका पर पड़ता दिखाई देने लगा है। पिछले कई दशकों की तुलना में अमेरिका में महंगाई इस साल कई गुना बढ़ गई है। हाल के महीनों में इंफ्लेशन, यूक्रेन में युद्ध और भारी प्रतिस्पर्धा के कारण दुनिया की प्रमुख स्ट्रीमिंग सर्विस दबाव में आ गई है।

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

पाकिस्तानी हैकर्स ने इस भारतीय डिजिटल न्यूज चैनल को किया हैक, फिर की ये हरकत

‘रेवोल्यूशन पीके’ नाम के पाकिस्तान स्थित हैकिंग ग्रुप ने असम के एक डिजिटल न्यूज चैनल के यूट्यूब अकाउंट को गुरुवार को हैक कर लिया।

Last Modified:
Monday, 13 June, 2022
hackers5845

भारत में नूपुर शर्मा के पैगंबर पर बोले गए बयान के बाद हर जगह विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। अपने यहां अल्पसंख्यकों की रक्षा न कर पाने वाले पाकिस्तान ने भी इस मामले में अपना विरोध जताया है। हालांकि भारत ने इसका करारा जवाब दिया, लेकिन पाकिस्तान अब भी अपनी आदतों से बाज नहीं आ रहा है। अब उसने विरोध का गलत तरीका अपना लिया है। ‘रेवोल्यूशन पीके’ नाम के पाकिस्तान स्थित हैकिंग ग्रुप ने असम के एक डिजिटल न्यूज चैनल के यूट्यूब अकाउंट को गुरुवार को हैक कर लिया। यह जानकारी चैनल की ओर से शनिवार को दी गई। बताया जा रहा है कि 'टाइम-8' नाम का यह समाचार चैनल है। लाइव स्ट्रीम के दौरान हैक करने के बाद चैनल पर हैकर्स ने पाकिस्तान का झंडा और पवित्र पैगंबर का टिकर चला दिया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 'टाइम-8' के यूट्यूब पर करीब 7 मिलियन फॉलोअर्स हैं। इस चैनल के वीडियो पर महीने का एवरेज व्यू 600 मिलियन से अधिक है। 9 जून को एक लाइव न्यूज स्ट्रीम के दौरान 'टाइम-8' का प्रसारण अचानक से बंद हो गया, जिसके कुछ सेकेंड बाद ही एक ब्रेकिंग न्यूज चलने लगी। इसके तहत स्क्रीन पर पाकिस्तान का झंडा फ्लैश हो गया और बैकग्राउंड में एक भजन चलने लगा, जिसमें पैगंबर मुहम्मद (PBUH) की प्रशंसा की जा रही थी। हाल की घटना पर लाइव स्क्रीन के टिकर को भी 'रेस्पेक्ट होली पैगंबर (PBUH)' से बदल दिया गया।

'टाइम-8' डिजिटल न्यूज नेटवर्क के फाउंडर व मैनेजिंग एडिटर उत्पल कांता ने कहा, 'इस घटना को पाकिस्तानी हैकर समूह ‘रेवोल्यूशन पीके’ ने अंजाम दिया है। यह साइबर आतंकवाद है और हम इस घटना की कड़े शब्दों में निंदा करते हैं। हम इस मामले पर अपनी चिंता भी व्यक्त करते हैं क्योंकि यह राष्ट्रीय सुरक्षा से भी संबंधित है।'

उत्पल कांता का कहना है कि हैकर्स ने न केवल चैनल पर अपने धार्मिक विचारों को अवैध रूप से व्यक्त किया, बल्कि चैनल और भारत को बदनाम करने की भी कोशिश की। उसने ट्विटर और फेसबुक पर भी हैक के दौरान चलाए गए वीडियो को शेयर किया।

इस घटना को लेकर ‘टाइम8’ डिजिटल न्यूज नेटवर्क के एडिटर ऋतुष्मिन शर्मा ने कहा कि हम सभी के बीच शांति और सद्भाव का समर्थन करते हैं। हम ऐसी किसी भी राष्ट्रविरोधी गतिविधियों का समर्थन या प्रोत्साहन नहीं करते हैं। फिलहाल हमने मामले की सूचना गुवाहाटी पुलिस को दे दी है।

हैकिंग की यह घटना ऐसे वक्त हुई है, जब देश में भाजपा के पूर्व नेताओं नुपुर शर्मा की पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी पर बवाल मचा हुआ है। इस टिप्पणी के विरोध और नुपुर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग को लेकर शु्क्रवार को हिंसक प्रदर्शन भी हुए थे। इस दौरान झारखंड की राजधानी रांची में गोली लगने से दो लोगों की मौत हो गई और पश्चिम बंगाल के हावड़ा में शनिवार को ताजा प्रदर्शन हुए।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

दैनिक जागरण में अपनी पारी को विराम दे युवा पत्रकार पुष्पेंद्र कुमार ने शुरू किया नया सफर

युवा पत्रकार पुष्पेंद्र कुमार ने हिंदी दैनिक ‘दैनिक जागरण’ (Dainik Jagran) में अपनी करीब साढ़े चार साल पुरानी पारी को विराम दे दिया है।

Last Modified:
Saturday, 11 June, 2022
Pushpendra Kumar

युवा पत्रकार पुष्पेंद्र कुमार ने हिंदी दैनिक ‘दैनिक जागरण’ (Dainik Jagran) में अपनी करीब साढ़े चार साल पुरानी पारी को विराम दे दिया है। वह इस अखबार के पूर्वी दिल्ली ऑफिस में अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे। पुष्पेंद्र कुमार ने मीडिया में अपने नए सफर की शुरुआत अब ‘जी बिहार-झारखंड’ (Zee Bihar Jharkhand) डिजिटल के साथ की है।

उन्होंने नोएडा में बतौर सब एडिटर जॉइन किया है। मूल रूप से दिल्ली के रहने वाले पुष्पेंद्र कुमार ने ग्रेटर नोएडा के गलगोटिया कॉलेज से पत्रकारिता में ग्रेजुएशन किया है। पत्रकारिता के क्षेत्र में पुष्पेंद्र कुमार ने अपने करियर की शुरुआत ‘दैनिक जागरण’ से ही की थी।

समाचार4मीडिया से बातचीत में पुष्पेंद्र कुमार ने बताया कि उन्होंने अब तक के करियर में कई ऐसी स्टोरी की हैं, जिससे जरूरतमंदों के जीवन में अच्छे बदलाव आए और उन्हें मदद मिली। मसलन, आर्थिक तंगी के कारण विवशता की जिंदगी जीने को मजबूर ढाबे पर काम करने वाले साइकिलिस्ट रियाज (16 वर्ष) पर की गई उनकी खबर रंग लाई और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रियाज को ईद के मौके पर साइकिल गिफ्ट की थी। इसके बाद ‘भारतीय खेल प्राधिकरण’ (SAI) के अंतर्गत आने वाली साइकिलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (सीएफआई) में रियाज को दाखिला भी मिला।

पुष्पेंद्र कुमार के अनुसार,  ‘मेरी दो खास खबरें ऐसे तीरंदाजों की हैं, जो आर्थिक तंगी के कारण आगे नहीं बढ़ पा रहे थे। इनमें से एक हैं पूजा कुमारी, जो नेशनल खिलाड़ी हैं और अंतरराष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता के लिए जिस कंपाउंड बो (धनुष) की जरूरत थी वो उनके पास नहीं था। उसको खरीदने के लिए वह कपड़े सिलने का काम करती थी। इस बारे में 30 अगस्त 2020 को प्रकाशित मेरी खबर पर भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक (सिडबी) ने आर्चरी किट के लिए साढ़े चार लाख रुपये पूजा कुमारी को दिए, ताकि वह कंपाउंड बो खरीदकर अपना अभ्यास कर देश के लिए पदक ला सके।‘

इसी के साथ पुष्पेंद्र ने तीरंदाज मुकीम का भी जिक्र किया, जिसकी खबर भी उन्होंने की थी। पुष्पेंद्र ने बताया, ‘मुकीम का एक पैर नहीं है और वो एक पैर के सहारे ही नेशनल प्रतियोगिता में पदक जीत चुके हैं। आर्थिक तंगी से जूझ रहे मुकीम परिवार के पालन पोषण के लिए एक पेट्रोल पंप पर गाड़ियों के पहिये में हवा भरने का काम करते हैं और भविष्य में होने वाली प्रतियोगिताओं के लिए घर के पास खाली मैदान में लकड़ी के धनुष से अभ्यास करते थे। इस बारे में 8 फरवरी 2021 में प्रकाशित मेरी खबर के बाद मुकीम को यमुना स्पोर्ट्स कांप्लेक्स के आर्चरी सेंटर में अभ्यास की अनुमति मिली।’

समाचार4मीडिया की ओर से पुष्पेंद्र कुमार को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

मीडिया कंपनी ‘वे2न्यूज’ ने जुटाए 1.675 करोड़ डॉलर, नई नियुक्तियों पर करेगी फोकस

संक्षिप्त व विभिन्न स्थानीय भाषाओं में खबर देने वाली न्यूज ऐप ‘वे2न्यूज’ (Way2News) ने निवेशकों से 1.675 करोड़ डॉलर जुटाया है

Last Modified:
Saturday, 11 June, 2022
way2news4515

संक्षिप्त व विभिन्न स्थानीय भाषाओं में खबर देने वाली न्यूज ऐप ‘वे2न्यूज’ (Way2News) ने निवेशकों से 1.675 करोड़ डॉलर जुटाया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कंपनी ने अपने बयान में कहा कि निवेशक वेस्टब्रिज कैपिटल और वेंचर कैपिटलिस्ट शशि रेड्डी से सीरीज-ए फंडिंग राउंड में 1.675 करोड़ डॉलर जुटाए हैं।

कंपनी तमिलनाडु, कर्नाटक और केरल में यूजर्स आधार का विस्तार करने के लिए इस पूंजी का इस्तेमाल करेगी।

वे2न्यूज की विज्ञप्ति के अनुसार, वेस्टब्रिज कैपिटल ने भारत के मीडिया या मनोरंजन क्षेत्र में पहली बार निवेश किया है।

कंपनी ने कहा कि एडिटोरियल, सेल्स, मार्केटिंग के क्षेत्र में नई नियुक्तियों और विश्वसनीय समाचार देने में मानवीय हस्तक्षेप को कम करने के लिए कृत्रिम बुद्धिमत्ता (AI) तकनीक को बढ़ाने को लेकर भी निवेश राशि का उपयोग किया जाएगा।

कंपनी के फाउंडर व सीईओ राजू वनपाल ने कहा, ‘ऐसे समय में जब मौजूदा सोशल मीडिया और समाचार मंचों में विश्वसनीय स्थानीय समाचार खोजना बेहद मुश्किल है, वे2न्यूज ने काफी सफलता हासिल की है। इसके जरिये यूजर्स विस्तार के साथ छोटे शहरों और गांवों के विश्वसनीय समाचार भी पा सकते हैं।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

युवा पत्रकार सुंदरम कुमार ने ‘रिपब्लिक भारत’ को बोला बाय, तलाशी नई मंजिल

उन्होंने पिछले साल सितंबर में ‘आजतक’ को अलविदा कहकर सोशल मीडिया मैनेजर के तौर पर ‘रिपब्लिक भारत’ के साथ अपना सफर शुरू किया था।

Last Modified:
Saturday, 11 June, 2022
Sundram Kumar

युवा पत्रकार सुंदरम कुमार (Sundram Kumar) ने ‘जी’ (Zee) समूह के साथ अपनी नई पारी की शुरुआत की है। यहां पर उन्होंने zeenews.com में जॉइन किया है और वह सोशल मीडिया का काम संभालेंगे। सुंदरम कुमार इससे पहले ‘रिपब्लिक भारत’ (Republic Bharat) की डिजिटल टीम में अपनी भूमिका निभा रहे थे।

हालांकि यहां यहां उनका सफर करीब नौ महीने ही रहा। उन्होंने पिछले साल सितंबर में ‘आजतक’ को अलविदा कहकर सोशल मीडिया मैनेजर के तौर पर ‘रिपब्लिक भारत’ के साथ अपना सफर शुरू किया था।

सुंदरम कुमार ‘आजतक’ में करीब चार साल तक चैनल की डिजिटल विंग का हिस्सा रहे हैं। इन चार वर्षों में उन्होंने चैनल के विभिन्न विभागों में काम किया और अपनी प्रतिभा का परिचय दिया। मूल रूप से मधुबनी (बिहार) के रहने वाले सुंदरम कुमार को मीडिया के क्षेत्र में काम करने का करीब पांच साल का अनुभव है। पत्रकारिता के क्षेत्र में अपने करियर की शुरुआत उन्होंने ‘आजतक’ से ही की थी।

पढ़ाई-लिखाई की बात करें तो सुंदरम ने एमए (पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन) के अलावा ‘इंडिया टुडे मीडिया इंस्टीट्यूट’ (India Today Media Institute) से ब्रॉडकास्ट जर्नलिज्म का कोर्स किया है। समाचार4मीडिया की ओर से सुंदरम कुमार को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Netflix में इस बड़े पद से प्रतीक्षा राव ने दिया इस्तीफा

इस वीडियो स्ट्रीमिंग कंपनी में 10 जून उनका आखिरी कार्यदिवस था।

Last Modified:
Saturday, 11 June, 2022
Pratiksha Rao

‘ओवर द टॉप’ (OTT) प्लेटफॉर्म ‘नेटफ्लिक्स’ (Netflix)  इंडिया में डायरेक्टर (Original Films & Licensing) प्रतीक्षा राव ने अपना इस्तीफा सौंप दिया है। वह यहां करीब चार साल से अपनी जिम्मेदारी संभाल रही थीं।

 इस वीडियो स्ट्रीमिंग कंपनी में 10 जून उनका आखिरी कार्यदिवस था। ‘नेटफ्लिक्स’ में अपने कार्यकाल के दौरान प्रतीक्षा ने ऑरिजिनल फिल्म्स पोर्टफोलियो को बढ़ाने के अलावा कंपनी के लाइसेंसिंग फिल्म्स बिजनेस को तैयार किया।

इस बारे में प्रतीक्षा का कहना है, ‘पिछले चार वर्षों में नेटफ्लिक्स के साथ इस सफर का हिस्सा बनना मेरे लिए सौभाग्य की बात है। मैं इस अवसर पर अपने सभी सहयोगियों और क्रिएटिव पार्टनर्स को धन्यवाद देना चाहती हूं, जिन्होंने नेटफ्लिक्स में मेरे कार्यकाल में बेहतर बनाने में अहम भूमिका निभाई।’

’नेटफ्लिक्स’ से पहले प्रतीक्षा राव ’ट्विटर’ में डिजिटल क्रिएटर पार्टनरशिप्स हेड (APAC) के तौर पर अपनी जिम्मेदारी संभाल रही थीं। इसके अलावा वह ixigo, NDTV Lifestyle और  Sotheby's में अपनी भूमिका निभा चुकी हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

TV9 में फिलहाल डिजिटल की भी कमान संभालेंगे दीप उपाध्याय

टीवी9 ग्रुप (TV9) से एक बड़ी खबर निकलकर सामने आ रही है

Last Modified:
Thursday, 09 June, 2022
deep541213

टीवी9 ग्रुप (TV9) से एक बड़ी खबर निकलकर सामने आ रही है और वह ये कि कंवर्जेंस एंड स्ट्रैटेजी के एडिटर दीप उपाध्याय को ग्रुप ने फिलहाल एक बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है। उन्हें  हिंदी और अंग्रेजी न्यूज वेबसाइट्स के इंट्रिम एडिटर (Interim Editor) की  बनाया गया है।

ग्रुप के मुताबिक, उपाध्याय टीवी9 की अन्य रीजनल डिजिटल प्रॉपर्टीज के साथ भी समन्वय स्थापित करेंगे।

टीवी9 नेटवर्क ने ग्रुप एडिटर बीवी राव और डिजिटल एडिटर (हिंदी) शैलेश चतुर्वेदी के अलग होने के 10 दिनों के भीतर ही यह कदम उठाया है।

बता दें कि पिछले साल फरवरी में हिंदी न्यूज चैनल ‘न्यूज 24’ (News24) के मैनेजिंग एडिटर के पद से इस्तीफा देकर दीप उपाध्याय ने ‘टीवी9’ ग्रुप जॉइन किया था। तब से वे यहां कंवर्जेंस एंड स्ट्रैटेजी के एडिटर के पद पर कार्यरत थे। उपाध्याय ने न्यूज24 में करीब सात सालों तक अपनी जिम्मेदारी निभाई थी।  

मूल रूप से नैनीताल के रहने वाले दीप उपाध्याय को पत्रकारिता के क्षेत्र में काम करने का करीब 26 साल से भी ज्यादा का अनुभव है। इससे पहले वह ‘इंडिया टीवी’ (India TV) में बतौर आउटपुट हेड पारी खेल चुके हैं। इसके अलावा वह ‘जी न्यूज’ (Zee News) में आउटपुट एडिटर का जिम्मा भी संभाल चुके हैं।

यही नहीं, वह ‘पायनियर’ और ‘दैनिक भास्कर’ में भी अपनी भूमिका निभा चुके हैं। उन्होंने अपनी पढ़ाई-लिखाई नैनीताल से करने के बाद दिल्ली से पत्रकारिता की पढ़ाई की है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए