सूचना:
मीडिया जगत से जुड़े साथी हमें अपनी खबरें भेज सकते हैं। हम उनकी खबरों को उचित स्थान देंगे। आप हमें mail2s4m@gmail.com पर खबरें भेज सकते हैं।

Reality+ के इस कार्यक्रम में सम्मानित हुए रियल एस्टेट जगत के दिग्गज, उठे बड़े मुद्दे

इन दिग्गजों ने न सिर्फ सफलता की नई कहानियां लिखीं हैं, बल्कि अपने कार्यों से दूसरों के लिए उदाहरण भी पेश किए हैं

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 13 September, 2019
Last Modified:
Friday, 13 September, 2019
Conclave

रियल एस्टेट से जुड़े लोगों के लिए The 11th Realty+ Conclave & Excellence Awards- North presented by Sai Estate Consultants Chembur Pvt Ltd का आयोजन 11 सितंबर को गुरुग्राम के होटल लीला एंबियंस में  किया गया। कार्यक्रम में रियल एस्टेट से जुड़े ऐसे दिग्गजों को सम्मानित किया गया, जिन्होंने न सिर्फ सफलता की नई कहानियां लिखीं हैं, बल्कि अपने कार्यों से दूसरों के लिए उदाहरण भी पेश किए हैं। 

कॉन्क्लेव की शुरुआत पैनल डिस्कशन से हुई, जिसका सब्जेक्ट ‘Surviving the Crisis: A New Approach to Liquidity Crunch’ रखा गया। इस पैनल को ‘India Cushman & Wakefield’ के कंट्री हेड और मैनेजिंग डायरेक्टर अंशुल जैन ने मॉडरेट किया। इस सेशन के तहत हुए पैनल डिस्कशन में ‘खेतान एंड कंपनी’ के पार्टनर अवनीश शर्मा, ‘सम्यक डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड’ के मैनेजिंग डायरेक्टर गौरव जैन, ‘रिसर्जेट इंडिया’ की फाउंडर और मैनेजिंग डायरेक्टर ज्योति प्रकाश गडिया, ‘फाइनेंस इंडस्ट्री डेवलपमेंट काउंसिल’ के चेयरमैन, SREI के सीनियर वाइस प्रेजिडेंट और हेड (कॉरपोरेट अफेयर्स) रमन अग्रवाल, ‘पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड’ के एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर शिवाजी वर्गीस और ‘कोटक रियलिटी फंड’ के एसोसिएट डायरेक्टर सोनू जालान शामिल थे।

फाइनेंस पर हुए डिस्कशन के बाद ‘Championing the Cause – Interrelating Architecture and Society’ पर डिस्कशन हुआ। इस डिस्कशन को ‘NilaA Architecture & Urban Design Expert’ के फाउंडर आर्किटेक्ट निशांत लाल ने मॉडरेट किया। इस पैनल डिस्कशन में ‘रोहा लैंडस्केप आर्किटेक्चर एंड प्लानिंग’ के प्रिंसिपल आदित्य आडवाणी, ‘अमित खन्ना डिजायन एसोसिएट्स’ के फाउंडर और डिजायन प्रिंसिपल अमित खन्ना, ‘क्रिएटिव ग्रुप’ के फाउंडर प्रिंसिपल प्रो. चरनजीत शाह, ‘भारद्वाज भारद्वाज एंड एसोसिएट्स’ के आर्किटेक्ट पार्टनर दक्ष भारद्वाज, ‘एनवॉयरनमेंटल डिजायन सॉल्यूशंस’ के डायरेक्टर गुरनीत सिंह के साथ ही ‘rat[LAB] – Research in Architecture & Technology’ के फाउंडिंग पार्टनर और डिजायन हेड सुशांत जय-अमिता वर्मा शामिल थे।      

कॉन्क्लेव में पहली बार फैसेलिटी मैनेजमेंट पर एक सेशन शामिल किया गया। ‘Creating Competitive Advantage – Changing Face of Facility Management’ टॉपिक पर हुए इस सेशन को संदीप सेठी (Chair-Corporate Solutions and Managing Director, IFM- West Asia JLL) ने मॉडरेट किया। इस सेशन के तहत हुए पैनल डिस्कशन में ‘डीएलएफ लिमिटेड’ के सीनियर वाइस प्रेजिडेंट (ऑपरेशंस और क्लस्टर हेड, नॉर्थ) अमित मिढा (Amit Midha), ‘CBRE’ के एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर (GWS & Property Management) अनीस कादयान, ‘OCS’ के मैनेजिंग डायरेक्टर मनोज पारिख, ‘Cushman and Wakefield India’ के मैनेजिंग डायरेक्टर (Facilities Management Asset Services) कैप्टन राजेश शर्मा, ‘SILA’ के फाउंडर रुषभ वोरा (Rushabh Vora) और ‘Dusters Total Solution Services Private Limited’ के प्रेजिडेंट संजीव कुमार शामिल हुए और अपने विचार रखे।   

अगले पैनल डिस्कशन में दिल्ली और उसके आसपास कॉमर्शियल प्रॉपर्टी में हुई वृद्धि को लेकर चर्चा की गई। ‘The Rule of Three – Commercial Realty of Delhi, Gurugram and Noida’ टाइटल से हुए इस पैनल डिस्कशन को ‘Colliers International’ के मैनेजिंग डायरेक्टर (नॉर्थ इंडिया) संजय चत्रथ ने मॉडरेट किया। उनके अलावा इस पैनल में ‘गुलशन होम्ज’ के डायरेक्टर और ‘क्रेडाई’ (Confederation of Real Estate Developers Association of India) के पश्चिमी यूपी के प्रेजिडेंट दीपक कपूर, ‘वन कल्चर’ के फाउंडर अभिलाष शुक्ला, ‘ब्रुकफील्ड प्रॉपर्टीज’ के सीनियर वाइस प्रेजिडेंट शांतनु चक्रवर्ती, ‘भूमिका ग्रुप’ के मैनेजिंग डायरेक्टर उद्धव पोद्दार और ‘M3M India Private Limited’ के प्रेजिडेंट- Leasing (Commercial, Retail, Resi) शामिल रहे।   

इस कॉन्क्लेव के फाइनल पैनल डिस्कशन में ‘Best Way to Increase Residential Sales: Direct Sales or Marketing Firms & Channel Partners’ टाइटल के तहत आज के दौर के चर्चित टॉपिक पर बात की गई। इस पैनल को रियल एस्टेट क्षेत्र के विशेषज्ञ जे.एस ऑगस्टीन (J S Augustine) ने मॉडरेट किया। इस टॉपिक पर हुए डिस्कशन के दौरान पैनल में ‘Experion Developers’ के सीनियर एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर डॉ. अनंत सिंह रघुवंशी, ‘Signature Global Group’ के फाउंडर व चेयरमैन और Assocham National Council On Real Estate, Housing And Urban Development के चेयरमैन प्रदीप अग्रवाल, ‘पार्श्वनाथ डेवलपर्स’ के चेयरमैन प्रदीप जैन, ‘RE/MAX India’ के डायरेक्टर (सेल्स एंड ऑपरेशंस) साहिल कपूर, ‘ट्रस्ट लीगल’ के फाउंडर और मैनेजिंग पार्टनर सुधीर मिश्रा और ‘NAR’ के हेड (नॉर्थ जोन) व ‘Association of Property Professionals -Delhi NCR’ के प्रेजिडेंट क्षितिज नागपाल शामिल रहे।       

कॉन्क्लेव के आखिर में ‘Morphogenesis’ के फाउंडिंग पार्टनर मनीत रस्तोगी ने ‘What is Brand India when it comes to Architecture?’ टॉपिक पर अपने विचार रखे। इसके बाद हुए कार्यक्रम में इस क्षेत्र के दिग्गजों को उनके समर्पण व उल्लेखनीय योगदान के लिए ‘Scroll of Honour’  से सम्मानित किया गया। जिन दिग्गजों को इस अवॉर्ड से सम्मानित किया गया, उनमें ‘SHiFt: Studio for Habitat Futures’ के प्रिंसिपल आर्किटेक्ट संजय प्रकाश, ‘Kamath Design Studio’ की रेवती शेखर कामथ (Revathi SekharKamath), ‘जलपुरुष’ के नाम से मशहूर पर्यावरणविद राजेंद्र सिंह, ’भारद्वाज भारद्वाज एंड एसोसिएट्स’ के आर्किटेक्ट पार्टनर दक्ष भारद्वाज, ‘India Cushman & Wakefield’ के कंट्री हेड और मैनेजिंग डायरेक्टर अंशुल जैन के साथ ही ‘rat[LAB] – Research in Architecture & Technology’ के फाउंडिंग पार्टनर और डिजायन हेड सुशांत जय-अमिता वर्मा शामिल रहे।

देर रात को हुए रियलिटी+ एक्सीलेंस अवॉर्डस में विभिन्न क्षेत्रों से जुड़ी जानी-मानी हस्तियां मौजूद रहीं। इस मौके पर मैगसायसाय अवॉर्ड विनर राजेंद्र सिंह ने कार्यक्रम को संबोधित भी किया। उनकी स्पीच के बाद कार्यक्रम में शामिल व्यक्तियों को ‘NBCC’ के पूर्व चेयरमैन अनूप मित्तल, एडवोकेट जगमोहन डांग और ‘सनसिटी प्रोजेक्ट्स प्रा. लिमिटेड’ के चेयरमैन व ‘एस्सेल ग्रुप ऑफ कंपनीज’ के वाइस चेयरमैन लक्ष्मी नारायण गोयल के विचारों को जानने का मौका भी मिला। उन्होंने पर्यावरण व मानवीयता को महत्व देने के लिए प्रेरित करते हुए कहा कि रियल एस्टेट के क्षेत्र में दोबारा से ‘अच्छे दिन’ आएंगे।  

इस यादगार शाम का समापन प्रतिष्ठित Realty+ Excellence Awards ceremony से हुआ। कार्यक्रम में विभिन्न कैटिगरी में प्रतिष्ठित रियलिटी+एक्सीलेंस अवॉर्ड पाने वालों की लिस्ट आप यहां देख सकते हैं।

Commercial Project of the year: Candor TechSpace for Candor TechSpace IT/ITES SEZ, Sector-21, Gurugram
IT Park Project of the Year: Ascendas India, A Member of CapitaLand for International Tech Park Gurgaon (ITPG)
Residential Project of the Year: Omaxe Group for The Lake, New Chandigarh & Gulshan Homz for Gulshan Botnia
Affordable Housing Project of the Year: Signature Global India for Solera, Sector 107
Prestigious Luxury Project of the Year: M3M India for M3M Golf Estate
Ultra Luxury-Lifestyle Project of the Year: Central Park for Central Park Resorts & Kalpataru for Kalpataru Grandeur (Under Non-metro)
Design Project of the Year: Experion Developers for Windchants
Themed project of the year: Ashiana Housing for Ashiana Anmol “Kid Centric Homes”
Villa Project of the Year: Max Estates for 222 Rajpur, Dehradun
Iconic Project of the Year: M3M India for M3M IFC
Residential Complex of the Year: Mahagun India for Mahagun Mezzaria
Mixed-Use Project of the Year: Bhumika Enterprises for Urban Square
Most Environment-Friendly Commercial Space: Max Estates for Max Towers
Most Popular Mall of the Year: DLF for DLF Mall of India
Institutional Project of the Year: RSP India for Bennett University
Developer of the Year – Commercial M3M India
Developer of the Year – Residential: Emaar India
Developer of the Year Retail: Elan Group
Emerging Developer of the Year: Candor TechSpace
Excellence in delivery: Ascendas India, A Member of CapitaLand for International Tech Park Gurgaon (ITPG)
Architectural Design of the Year – Commercial: AEON Design Studios for HCL Corporate Office, Sector-24, Noida
Project Management Firm of the Year: Global C for Mankind Pharma Corporate HQ
FM Brand of the Year: Dusters Total Solutions Services
FM Project of the Year – Residential: Colliers International India for Grand Omaxe, Noida
FM Professional of the Year: Tapasi Chakraborty, CEO & Director, Astute Outsoursing Services
FM Business Leader of the Year : GS Tyagi, Senior Director FM Services | North India, Colliers International India
FM Technology Innovation of the Year: Property Solutions (India) & Enviro India
IFM Brand of the Year: Embassy Services
Digital marketing campaign of the year: Amura Marketing Technologies for Emaar DigiHomes
Project Launch of the Year: Emaar India for Emaar Digi Homes & Elan Group for Elan Epic
Integrated Brand Campaign of the Year : Alchemist Marketing Talent Solutions for M3M The Power of Zero Campaign
Advertising Agency of the Year ; Alchemist Marketing Talent Solutions
Electronic Media Campaign of the Year (TV): Signature Global India for Apna Ghar to apna hi hota hai featuring Vidya Balan
Real-Estate Website of the Year: Square Yards for www.squareyards.com
CXO of the year: Pushpa Bector, Executive Director – DLF Shopping Malls
Young Achiever of the Year : Ashish Bhutani, CEO, Bhutani Group
Sustainable-Business Leader of the Year: Pradeep Aggarwal, Founder & Chairman, Signature Global Group
Lifetime Achievement of the Year: Anoop Kumar Mittal, Former Chairman & MD, NBCC India Ltd.

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Watcho ऐप के साथ मिलकर ABP News ने बनाया खास को-ब्रैंडेड प्रोमो

ब्रैंडेड कॉन्टेंट की दुनिया में एबीपी नेटवर्क (ABP Network) और डिश टीवी के ओटीटी कॉन्टेट एग्रीगेटर ऐप ‘वाचो’ (Watcho) ने मिलकर एक नया प्रयोग किया है।

Last Modified:
Monday, 30 January, 2023
ABPWatcho455

ब्रैंडेड कॉन्टेंट की दुनिया में एबीपी नेटवर्क (ABP Network) और डिश टीवी के ओटीटी कॉन्टेट एग्रीगेटर ऐप ‘वाचो’ (Watcho) ने मिलकर एक नया प्रयोग किया है। दरअसल ‘वाचो’ (Watcho) ऐप के साथ मिलकर एबीपी न्यूज (ABP News) ने एक खास को-ब्रैंडेड प्रोमो बनाया है, जिसमें लोकप्रिय क्राइम न्यूज शो ‘सनसनी’ के एंकर श्रीवर्धन त्रिवेदी अपने शो को तो प्रमोट कर ही रहे हैं, साथ ही वाचो ऐप के फीचर्स के साथ उसके नए ऑफर्स को भी प्रमोट करते हुए नजर आ रहे हैं।

एबीपी न्यूज की ब्रैंडेड कंटेट डिविजन ‘स्पॉटलाइट’ के बिजनेस हेड रवि कुदेसिया ने बताया कि वाचो ऐप को अपने नए कैंपेन के लिए एक ऐसे न्यूज प्लेटफॉर्म के साथ जुड़ने की जरूरत महसूस हुई, जो भरोसेमंद भी हो और जिसकी मास अपील भी हो। ऐसे में स्वाभाविक तौर पर ‘एबीपी न्यूज’ उसकी पसंद के रूप में उभरा।

उन्होंने आगे कहा कि ‘एबीपी न्यूज’ के सबसे पॉपुलर शोज में से एक क्राइम शो ‘सनसनी’ के 18 साल पूरे होने के खास मौके पर इस शो के साथ जुड़ना उसके लिए फायदेमंद भी दिखा। उन्हें एबीपी न्यूज की ब्रैंडेट कॉन्टेंट टीम का आइडिया पसंद आया और टीम ने शो की खासियतों, शो की 18 साल से चली आ रही भरोसेमंद शो की इमेज और वाचो ऐप के फीचर्स जैसे 11 ओटीटी ऐप्स का एक जगह मिलना और सिर्फ 42 रुपए प्रतिमाह से शुरू होने वाले सब्सक्रिप्शन ऑफर्स जैसे फायदों को एक स्क्रिप्ट में पिरोया और उन्हें दर्शकों के सामने पेश कर दिया।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

e4m-DNPA डिजिटल इम्पैक्ट अवॉर्ड्स के विजेता पुरस्कृत

DNPA ने ‘e4m-DNPA डिजिटल इम्पैक्ट अवॉर्ड्स 2023’ के विजेताओं को शुक्रवार यानी 20 जनवरी, 2023 को नई दिल्ली में सम्मानित किया।

Last Modified:
Friday, 20 January, 2023
e4mdigitalDNPA451254

डिजिटल न्यूज पब्लिशर्स एसोसिएशन (DNPA) ने ‘e4m-DNPA डिजिटल इम्पैक्ट अवॉर्ड्स 2023’ के विजेताओं को शुक्रवार यानी 20 जनवरी, 2023 को दिल्ली के होटल हयात रीजेंसी में सम्मानित किया। बता दें कि जिन डिजिटल प्लेटफॉर्म को अवॉर्ड के दिए गए, उनमें केंद्र सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय का कोविन एप, ई-गवर्नेंस पोर्टल और जीएसटी पोर्टल प्रमुख है। इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय को भी दो अवॉर्ड दिए गए।

e4m-DNPA डिजिटल इम्पैक्ट अवॉर्ड्स ऐसे डिजिटल टेक्नोलॉजी इनोवेशन को प्रोत्साहित करना है, जिससे नागरिकों का जीवन बेहतर हो और राष्ट्रीय निर्माण को बढ़ावा मिलता हो। e4m-DNPA डिजिटल इम्पैक्ट अवॉर्ड्स 2023 भारत की ऐसी अत्याधुनिक डिजिटल पहल का सम्मान करता है, जो विभिन्न क्षेत्रों में नागरिकों को ऑन-डिमांड गवर्नेंस और सेवाएं प्रदान करते हैं।

उपभोक्ता मामलों के खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय का ‘वन नेशन वन राशन कार्ड’ (ONORC), स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय का ‘CoWIN ऐप’, वित्तीय सेवा विभाग की ‘प्रधानमंत्री जन-धन योजना’, राजस्व विभाग का ‘जीएसटी’ वित्त मंत्रालय, दिल्ली पुलिस का ‘हिम्मत ऐप’, पर्यावरण वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय का CAMPA ऐप, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं आईटी मंत्रालय (MEITY) का ‘E Gov पोर्टल’ व ‘डिजी लॉकर’, शिक्षा मंत्रालय के NCERT के तहत ‘DIKSHA प्लेटफॉर्म’ ऐप, और महिला एवं बाल विकास मंत्रालय का POSHAN ट्रैकर ऐप ऐसे ऐप्स हैं, जिन्होंने देश के प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के 17 शीर्ष पब्लिशर्स के डिजिटल आर्म्स के शीर्ष संघ DNPA द्वारा स्थापित प्रतिष्ठित डिजिटल इम्पैक्ट अवॉर्ड जीता।

इन आठ कैटेगरीज में हुई अवॉर्ड्स की घोषणा-

1- Best Use of Digital Media for Human Resource Development & Education – DIKSHA (DIKSHA is a Digital Infrastructure for Knowledge Sharing)

2- Best Use of Digital Media for Health – CoWIN App (Co-WIN application is the digital backbone for the vaccination drive in India).
Best Use of Digital Media for Financial Reforms – Pradhan Mantri Jan Dhan Yojana (Pradhan Mantri Jan Dhan Yojana is a revolutionary Financial Inclusion Program)

3- Best Use of Digital Media for Sustainability and Environment Protection – CAMPA- (e-green watch portal)

4- Best Use of Digital Media to Promote Ease of Business  – E-governance Portal .It is the national Portal of India which provides a single-window access to information and services that are electronically delivered from the Government.

5- Best Use of Digital Media for Governance & Administrative Reforms – 

6A)-  GST Portal- Goods & Services Tax

6B)-  Best Use of Digital Media for Governance & Administrative Reforms –  One Nation One Ration Card Yojana

7- Best Use of Digital Media for Women & Child Welfare Reforms –  

7A)- Poshan Tracker App

7B)- Himmat Plus Ap

8 Best Use of Digital Media for Ease of Living –Digilocker

इस कार्यक्रम के विजेताओं का चुनाव देश के पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त और सूचना-एवं प्रसारण मंत्रालय के पूर्व सचिव सुनील अरोड़ा के नेतृत्व में गठित जूरी द्वारा किया गया।

गठित जूरी में शामिल सदस्य:

1. एस. रवि, मैनेजिंग पार्टनर, रवि राजन एंड कंपनी, चेयरमैन- TFCI और पूर्व चेयरमैन, बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE)

2. अरुणा शर्मा, पूर्व सचिव, आईटी व इलेक्ट्रॉनिक्स मंत्रालय, भारत सरकार

3. डॉ. अनुराग बत्रा, चेयरमैन व एडिटर-इन-चीफ, BW बिजनेस वर्ल्ड और एक्सचेंज4मीडिया

4. संजय द्विवेदी, डायरेक्टर जनरल, ‘इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कॉम्युनिकेशन’ (IIMC)

5. आशीष भसीन, को-फाउंडर व चेयरमैन, आरडी एंड एक्स नेटवर्क

6. डॉ. जगदीश मित्रा, चीफ स्ट्रेटेजी ऑफिसर व हेड ऑफ ग्रोथ, टेक महिंद्रा

बता दें कि डीएनपीए दिल्ली स्थित संगठन है। देश के 17 शीर्ष डिजिटल न्यूज पब्लिशर्स का संगठन है। यह संगठन ऐसा निष्पक्ष निकाय है, जो डिजिटल परिवेश में समाचार संगठनों और बड़ी टेक कंपनियों के बीच समानता और निष्पक्षता को बढ़ावा देता है। 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

खेल की स्थानीय खबरों को भी कवरेज में प्राथमिकता दे मीडिया: पुलेला गोपीचंद

भारतीय बैडमिंटन टीम के कोच पुलेला गोपचंद ने e4m-GroupM Let’s Play sports marketing summit में ‘Sportstar’ के एडिटर अयोन सेनगुप्ता से तमाम मुद्दों पर की चर्चा

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 19 January, 2023
Last Modified:
Thursday, 19 January, 2023
Pullela Gopichand

‘एक्सचेंज4मीडिया’ और ‘ग्रुपएम’ की स्पोर्ट्स मार्केटिंग समिट (e4m-GroupM Let’s Play sports marketing summit) बुधवार को दिल्ली में आयोजित हुई। इस कार्यक्रम में एक सत्र के दौरान भारतीय बैडमिंटन टीम के कोच पुलेला गोपीचंद और ‘स्पोर्टस्टार’ (Sportstar) के एडिटर अयोन सेनगुप्ता के बीच काफी रोचक चर्चा हुई। इस चर्चा के दौरान खेल को कॉरपोरेट जगत के सपोर्ट, भारत में बैडमिंटन का भविष्य और भारतीय मीडिया में स्थानीय खेलों की कवरेज समेत गोपीचंद ने विभिन्न विषयों पर अपनी बात रखी।

इस बातचीत के दौरान भारत में खेलों के विकास के लिए कॉरपोरेट घरानों के सपोर्ट के बारे में पूछे जाने पर गोपीचंद ने कहा, ‘निश्चित रूप से भारतीय स्पोर्ट्स जगत को पिछले कुछ वर्षों में कॉरपोरेट घरानों का अच्छा सपोर्ट मिला है। टाटा, कोटक, डालमिया और आईडीबीआई फेडरल आदि ने स्पोर्ट्स पर अच्छा खासा पैसा लगाया है। मुझे लगता है कि देश के तमाम कॉरपोरेट घराने भी स्पोर्ट्स की ओर देख रहे हैं। यदि हम बेहतर प्रदर्शन चाहते हैं तो हमें बुनियादी ढांचा भी तैयार करना होगा। यह काफी महत्वपूर्ण है। लेकिन, खेल के सभी पहलुओं के लिए समान रूप से एक ढांचा तैयार करने की आवश्यकता भी है। जैसे-इंफ्रास्ट्रक्चर, कोच, सपोर्ट स्टाफ, पॉलिसीज आदि। इन सभी को साथ-साथ मिलकर चलना होगा।’

गोपीचंद ने यह भी बताया कि स्थानीय खेलों को कैसे अब मीडिया में ज्यादा कवरेज नहीं मिलता है। उनका कहना था, ‘अगर आप तमाम अखबारों के पहले पन्ने को देखें, तो उस पर अधिकांश स्थानीय समाचार मिलते हैं। पिछले पृष्ठ पर भी कुछ इसी तरह का होता है, लेकिन, खेल की ग्लोबल खबरें होती हैं। ऐसा लगता है कि अन्य सभी खबरें लोकल हैं, लेकिन स्पोर्ट्स की खबरें ग्लोबल हैं। यानी स्थानीय खेल समाचारों की कवरेज को प्राथमिकता नहीं मिलती है। यह काफी चिंता का विषय है। यदि हम पुरानी बात करें तो उस समय अखबार में अपना नाम देखना मेरे लिए बहुत बड़ी प्रेरणा थी और मैं उस पर निशान लगाता था, मेरी मां उसे रेखांकित करती थीं और उसे दिखाती थीं। यह एक बहुत बड़ी प्रेरणा है और मुझे सच में लगता है कि हमें इसे वापस शुरू करना चाहिए। इसलिए, मेरा मानना है कि अखबारों के पिछले पृष्ठ पर स्थानीय खेल के लिए स्थान चिह्नित करें। यह ऐसी चीज है, जिसके बारे में मैं दृढ़ता से महसूस करता हूं।’

इस चर्चा के आखिर में गोपीचंद ने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में स्पोर्ट्स अथॉरिटी में काफी अहम सुधार हुए हैं। गोपीचंद का कहना था, ‘निश्चित रूप से हमारा लगातार ऐसे लोगों के साथ लंबे समय तक संपर्क रहा, जो वास्तव में खेल में रुचि रखते हैं। और क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रुचि रखते हैं, अब कोई भी चीजों को हल्के में नहीं लेता है। पहले के मुकाबले इस सरकार में खेलों के साथ जिस तरह से व्यवहार किया जाता है, उसमें काफी अंतर है। इसलिए हम इसे बहुत अच्छे रूप में देख रहे हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

महामारी के दौर ने हमें तमाम नई चीजों का कराया अहसास: निखिल अरोड़ा

‘IBLF’ के गुरुग्राम चैप्टर में ‘GoDaddy’ के वाइस प्रेजिडेंट और मैनेजिंग डायरेक्टर (इंडिया) निखिल अरोड़ा ने अपनी किताब ‘The Subtle Shifts of Radical Change’ पर चर्चा की।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 18 January, 2023
Last Modified:
Wednesday, 18 January, 2023
Nikhil Arora

देश के प्रतिष्ठित मीडिया संस्थान ‘BW बिजनेस वर्ल्ड’ द्वारा ‘इंडिया बिजनेस लिटरेचर फेस्टिवल’ (IBLF) के तहत 11 जनवरी 2023 को गुरुग्राम चैप्टर का आयोजन किया गया। गुरुग्राम के ‘द लीला’ (The Leela) होटल में 11 जनवरी की सुबह नौ बजे से विभिन्न सत्रों में आयोजित इस कार्यक्रम में देश-विदेश के शीर्ष लेखक, शिक्षाविद, विद्वान और प्रकाशक शामिल हुए और अपने विचार रखे।

ऐसे ही एक सत्र में ‘गोडैडी’ (GoDaddy) के वाइस प्रेजिडेंट और मैनेजिंग डायरेक्टर (इंडिया) निखिल अरोड़ा ने अपनी किताब ‘The Subtle Shifts of Radical Change’ पर चर्चा की। अपनी इस किताब में उन्होंने कोरोना महामारी के दौरान हुए प्रमुख बदलावों के बारे में बताया है।

कार्यक्रम में निखिल अरोड़ा का कहना था कि महामारी के दौरान तमाम लोग खुद को एक जैसी स्थिति में ही पा रहे थे। ऐसे में लोगों के व्यवहार से लेकर तमाम चीजों में किस तरह का बदलाव आया, यह किताब इस बारे में बताती है। अरोड़ा ने उल्लेख किया कि महामारी ने हमें दुनिया के साथ एक समुदाय होने के महत्व का अहसास कराया।

भविष्य में काम करने के तरीकों के बारे में निखिल अरोड़ा का कहना था कि महामारी के दौरान घर से काम करना सुविधाजनक और प्रासंगिक था, लेकिन भविष्य में हाइब्रिड मोड अपनाने की आवश्यकता होगी।

काम पर लौटने के लिए वर्कर्स की अनिच्छा के संदर्भ में निखिल अरोड़ा का मानना था कि तमाम बिजनेस अपनी एचआर पॉलिसियों को अपडेट करें और एंप्लॉयीज के लिए टीम बिल्डिंग को बढ़ावा दें। इसके साथ ही वर्कर्स के लिए मानसिक, शारीरिक और आध्यात्मिक माहौल तैयार करें।

आज के दौर में एक लीडर की नई भूमिका को परिभाषित करते हुए, उन्होंने कहा कि अब एक लीडर को विश्वास बहाली के साथ सहानुभूति रखने की आवश्यकता है और उसे एंप्लॉयीज को कंपनी के अनुरूप लाने में सक्षम होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि GDP में ‘G’ दर्शाता है कि एक लीडर को सरकार और सार्वजनिक नीति से डील करने के लिए प्रशिक्षित करने की आवश्यकता है, क्योंकि महामारी दिखाती है कि हर चीज में सरकार की अनिवार्य रूप से महत्वपूर्ण भूमिका है। इसमें ‘D’ डी-ग्लोबलाइजेशन को दर्शाता है जो वैश्विक मंदी के दौर में भारतीय अर्थव्यवस्था के लचीलेपन का सबूत है, जो घरेलू खपत से प्रेरित थी और ‘P’ उस उद्देश्य को दर्शाता है, जिसे लीडर को पूरे संगठन में सुनिश्चित करने की आवश्यकता होती है। इसमें सामुदायिक-निर्माण का पहलू भी शामिल है।

एक कंपनी के लिए उत्तराधिकार योजना में आमूल-चूल परिवर्तन की व्याख्या करते हुए, अरोड़ा ने कहा कि सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि एक नेता कितना कुशल और मुस्तैद है, उसकी सोचने-समझने की क्षमता और स्पष्टता के साथ उसकी सहजता कितनी है।

बता दें कि तीन संस्करणों की शानदार सफलता के बाद यह इस कार्यक्रम का चौथा संस्करण है, जो 21 शहरों में आयोजित किया जाना है, जिसमें दिल्ली और गुरुग्राम चैप्टर के बाद अब 21 जनवरी को मुंबई चैप्टर का आयोजन किए जाएगा।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

खुशहाल जीवन के लिए खुद के साथ समय बिताना भी जरूरी: रचना छाछी

‘IBLF’ के गुरुग्राम चैप्टर में RachnaRestores की फाउंडर रचना छाछी ने अपनी किताब ‘Alive’ के बारे में चर्चा की, जिसमें उन्होंने सुखमय जीवन जीने के लिए तमाम टिप्स दिए हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 17 January, 2023
Last Modified:
Tuesday, 17 January, 2023
Rachna Chhachhi

‘RachnaRestores’ की फाउंडर रचना छाछी का कहना है कि हमें अपने सपनों को पूरा करने के लिए स्वस्थ दिमाग और स्वस्थ शरीर की जरूरत है और इसी ने मुझे अपनी किताब ‘Alive’ लिखने के लिए प्रेरित किया।

रचना छाछी ने देश के प्रतिष्ठित मीडिया संस्थान ‘BW बिजनेस वर्ल्ड’ द्वारा 11 जनवरी को ‘इंडिया बिजनेस लिटरेचर फेस्टिवल’ (IBLF) के गुरुग्राम चैप्टर में आयोजित एक सत्र के दौरान यह बात कही। इस दौरान उन्होंने अपनी किताब ‘Alive’ के बारे में चर्चा की, जिसमें उन्होंने स्वस्थ जीवनशैली के अलावा तमाम बीमारियों को किस तरह मात दी जाए, इस बारे में विस्तार से बताया है।

गौरतलब है कि गुरुग्राम स्थित ‘द लीला’ (The Leela) होटल में सुबह नौ बजे से आयोजित इस कार्यक्रम में देश-विदेश के शीर्ष लेखक, शिक्षाविद, विद्वान और प्रकाशक शामिल हुए और विभिन्न सत्रों में अपने विचार रखे।

इस मौके पर मानसिक स्वास्थ्य के साथ-साथ शारीरिक स्वास्थ्य के महत्व पर चर्चा करते हुए रचना छाछी का कहना था, ‘स्वस्थ तन-मन हमें खुशहाल जीवन जीने में मदद कर सकते हैं।’ बीमारी को लेकर अपने व्यक्तिगत अनुभव का जिक्र करते हुए रचना छाछी ने बताया कि कैसे वह ठीक हुईं और अब किस तरह से लोगों को बीमारी के प्रति जागरूक करने व स्वस्थ रहने के लिए प्रेरित करती हैं।

अपनी इस किताब के लिए छाछी दुनिया भर के सैकड़ों लोगों (युवाओं से लेकर बुजुर्गों तक) का इंटरव्यू ले चुकी हैं कि वे स्वस्थ रहने अथवा बीमारी को दूर करने के लिए क्या करते हैं।

छाछी का कहना है, ‘यदि आपकी मनस्थिति ठीक नहीं है तो कुछ भी अच्छा नहीं हो सकता है। एक तरह का डर होता है, जो हमें दबाए रखता है और हमें अपना वास्तविक जीवन जीने नहीं देता। मनस्थिति इस बात पर भी निर्भर करती है कि हम अपने साथ कितना समय बिताते हैं। इसलिए यदि हम अपने मन को खुश रखते हैं तो हम अपने सपनों को पूरा कर सकते हैं और सुखी जीवन जी सकते हैं।’  

छाछी के अनुसार, ‘आज के दौर में नींद न आने की समस्या बहुत आम हो गई है। कुछ लोगों का मानना ​​है कि अच्छी नींद महत्वपूर्ण है, जबकि कुछ विशेषज्ञों का कहना है कि आठ घंटे की नींद बहुत जरूरी है, लेकिन मेरा मानना है कि ये दोनों चीजें महत्वपूर्ण हैं।’

छाछी ने कहा कि हर शारीरिक स्थिति या बीमारी तेजी से बढ़ती उम्र और ऑक्सीडेटिव तनाव से आती है। ऐसे में व्यक्ति सांस लेने के व्यायाम का अभ्यास कर सकता है और चरणबद्ध तरीके से योग कार्यक्रम कर सकता है।

बता दें कि तीन संस्करणों की शानदार सफलता के बाद 'IBLF' का यह चौथा संस्करण है, जो 21 शहरों में आयोजित किया जाना है, जिसमें दिल्ली और गुरुग्राम चैप्टर के बाद अब 21 जनवरी को मुंबई चैप्टर का आयोजन किए जाएगा।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

भारत में है दुनिया को बदलने की क्षमता: डॉ. किरण कार्निक

IBLF के गुरुग्राम चैप्टर में ‘NASSCOM’ के पूर्व प्रेजिडेंट डॉ. किरण कार्निक और ‘विजडम ट्री’ के फाउंडर व पब्लिशर शोभित आर्य ने ज्यादा से ज्यादा लोगों को गरीबी रेखा से ऊपर उठाने के बारे में चर्चा की।

Last Modified:
Monday, 16 January, 2023
IBLF Kiran Karnik

देश के प्रतिष्ठित मीडिया संस्थान ‘BW बिजनेस वर्ल्ड’ द्वारा 11 जनवरी को ‘इंडिया बिजनेस लिटरेचर फेस्टिवल’ (IBLF) के गुरुग्राम चैप्टर का आयोजन किया गया। गुरुग्राम स्थित ‘द लीला’ (The Leela) होटल में सुबह नौ बजे से आयोजित इस कार्यक्रम में देश-विदेश के शीर्ष लेखक, शिक्षाविद, विद्वान और प्रकाशक शामिल हुए और विभिन्न सत्रों में अपने विचार रखे।

इस मौके पर आयोजित एक सत्र में लेखक, कॉलमिस्ट और ‘NASSCOM’ के पूर्व प्रेजिडेंट डॉ. किरण कार्निक ने अपनी किताब ‘Decisive Decade: India 2030 Gazelle or Hippo’ के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने बताया कि कैसे एक दशक देश में हर पहलू को लेकर भारी बदलाव ला सकता है।  

‘आईबीएलएफ’ के चौथे एडिशन के तहत आयोजित गुरुग्राम चैप्टर में डॉ. कार्निक ने वर्ष 1991 के बाद के वर्षों को काफी महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि इस दौरान बड़े पैमाने पर हुए आर्थिक और व्यावसायिक बदलावों ने भारत को एक चमकते हुए सितारे में तब्दील कर दिया।

वर्ष 2004 से 2015 के दशक की बात करते हुए डॉ. कार्निक का कहना था, ‘इस दौरान करीब 271 मिलियन लोगों को गरीबी रेखा से ऊपर उठाया गया। इस गरीबी रेखा को सिर्फ आय से नहीं बल्कि तमाम अन्य दृष्टिकोण से मापा गया।’ इस बाद डॉ. कार्निक ने कहा कि वैश्विक मंदी और नोटबंदी के बाद वर्ष 2019 थोड़ी आशाओं का वर्ष था, जिससे हमें उच्च विकास पथ पर वापस लाने की उम्मीद थी।

अपने सत्र के दौरान डॉ. कार्निक ने ब्रेक्सिट (Brexit) जैसे प्रभावशाली वैश्विक परिवर्तनों का उल्लेख करते हुए कहा, ‘भले ही ब्रिटेन यूरोप में स्वाभाविक प्रवेश बिंदु था, लेकिन ब्रिटेन के बाहर निकलने ने भारत को एक अवसर प्रदान किया, क्योंकि यह यूके का सबसे बड़ा व्यापारिक भागीदार है।

उन्होंने यह भी बताया कि कैसे भू-राजनीतिक घटनाओं ने उनके लेखन और उनकी पुस्तक के विषय को प्रभावित किया, जिनमें चीन और अमेरिका के बीच व्यापारिक युद्ध (trade war) और दक्षिण चीन सागर और ताइवान में होने वाली घटनाएं शामिल हैं।

डॉ. कार्निक ने 3सी (3C) को कोविड (Covid), संघर्ष (conflict) और जलवायु (climate) के रूप में परिभाषित करते हुए कहा कि भारत के लिए अवसर और चुनौतियां एक ऐसे बिंदु पर आ गए हैं, जहां हमें भू-राजनीतिक रुख को देखने की जरूरत है।

उन्होंने सत्ता की राजनीति यानी (power politics) से अलग हटकर काम करने और अपनी जगह बनाने के लिए भारत की सराहना की, फिर चाहे वह टीकाकरण अभियान हो या विकास दर में चीन को पीछे छोड़ना हो।

अपनी इस किताब में डॉ. कार्निक ने टेक्नोलॉजी, राजनीति, शिक्षा व स्वास्थ्य समेत भारत को प्रभावित करने वाले नौ प्रमुख फील्ड्स को उठाया है। इसके बाद ‘विजडम ट्री’ (Wisdom Tree) के फाउंडर और पब्लिशर शोभित आर्य और डॉ. कार्निक ने ज्यादा से ज्यादा लोगों को गरीबी रेखा से ऊपर उठाने के उपायों पर चर्चा की।

बता दें कि तीन संस्करणों की शानदार सफलता के बाद यह इस कार्यक्रम का चौथा संस्करण है, जो 21 शहरों में आयोजित किया जाना है, जिसमें दिल्ली और गुरुग्राम चैप्टर के बाद अब 21 जनवरी को मुंबई चैप्टर का आयोजन किए जाएगा।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

e4m-DNPA डिजिटल इम्पैक्ट अवॉर्ड्स: विजेताओं की लिस्ट से उठा पर्दा, 20 को होगा सम्मान

डिजिटल न्यूज पब्लिशर्स एसोसिएशन (DNPA) ने रविवार को ‘e4m-DNPA डिजिटल इम्पैक्ट अवॉर्ड्स 2023’ के विजेताओं की घोषणा की।

Last Modified:
Sunday, 15 January, 2023
e4m-DNPA45212

डिजिटल न्यूज पब्लिशर्स एसोसिएशन (DNPA) ने रविवार को ‘e4m-DNPA डिजिटल इम्पैक्ट अवॉर्ड्स 2023’ के विजेताओं की घोषणा की। आज घोषित किए गए विजेताओं को 20 जनवरी को नई दिल्ली में e4m-DNPA डिजिटल कॉन्क्लेव और डिजिटल इम्पैक्ट अवॉर्ड्स में पुरस्कार दिए जाएंगे।

e4m-DNPA डिजिटल इम्पैक्ट अवॉर्ड्स ऐसे डिजिटल टेक्नोलॉजी इनोवेशन को पहचान दिलाता है, जिन्होंने नागरिकों के जीवन में सुधार किया है और अपने कार्य से राष्ट्रीय निर्माण को बढ़ावा दिया है। e4m-DNPA डिजिटल इम्पैक्ट अवॉर्ड्स 2023 भारत की ऐसी अत्याधुनिक डिजिटल पहल का सम्मान करता है, जो विभिन्न क्षेत्रों में नागरिकों को ऑन-डिमांड गवर्नेंस और सेवाएं प्रदान करते हैं।

उपभोक्ता मामलों के खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय का ‘वन नेशन वन राशन कार्ड’ (ONORC), स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय का ‘CoWIN ऐप’, वित्तीय सेवा विभाग की ‘प्रधानमंत्री जन-धन योजना’, राजस्व विभाग का ‘जीएसटी’ वित्त मंत्रालय, दिल्ली पुलिस का ‘हिम्मत ऐप’, पर्यावरण वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय का CAMPA ऐप, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं आईटी मंत्रालय (MEITY) का ‘E Gov पोर्टल’ व ‘डिजी लॉकर’, शिक्षा मंत्रालय के NCERT के तहत ‘DIKSHA प्लेटफॉर्म’ ऐप, और महिला एवं बाल विकास मंत्रालय का POSHAN ट्रैकर ऐप ऐसे ऐप्स हैं, जिन्होंने देश के प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के 17 शीर्ष पब्लिशर्स के डिजिटल आर्म्स के शीर्ष संघ DNPA द्वारा स्थापित प्रतिष्ठित डिजिटल इम्पैक्ट अवॉर्ड जीता।

पुरस्कारों की घोषणा 8 कैटेगरीज में की गई, जो इस प्रकार हैं -

1- Best Use of Digital Media for Human Resource Development & Education – DIKSHA (DIKSHA is a Digital Infrastructure for Knowledge Sharing)

2- Best Use of Digital Media for Health – CoWIN App (Co-WIN application is the digital backbone for the vaccination drive in India).
Best Use of Digital Media for Financial Reforms – Pradhan Mantri Jan Dhan Yojana (Pradhan Mantri Jan Dhan Yojana is a revolutionary Financial Inclusion Program)

3- Best Use of Digital Media for Sustainability and Environment Protection – CAMPA- (e-green watch portal)

4- Best Use of Digital Media to Promote Ease of Business  – E-governance Portal .It is the national Portal of India which provides a single-window access to information and services that are electronically delivered from the Government.

5- Best Use of Digital Media for Governance & Administrative Reforms – 

6A)-  GST Portal- Goods & Services Tax

6B)-  Best Use of Digital Media for Governance & Administrative Reforms –  One Nation One Ration Card Yojana

7- Best Use of Digital Media for Women & Child Welfare Reforms –  

7A)- Poshan Tracker App

7B)- Himmat Plus Ap

8 Best Use of Digital Media for Ease of Living –Digilocker

इस कार्यक्रम के विजेताओं का चुनाव देश के पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त और सूचना-एवं प्रसारण मंत्रालय के पूर्व सचिव सुनील अरोड़ा के नेतृत्व में गठित जूरी द्वारा किया गया।

गठित जूरी में शामिल सदस्य:

1. एस. रवि, मैनेजिंग पार्टनर, रवि राजन एंड कंपनी, चेयरमैन- TFCI और पूर्व चेयरमैन, बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE)

2. अरुणा शर्मा, पूर्व सचिव, आईटी व इलेक्ट्रॉनिक्स मंत्रालय, भारत सरकार

3. डॉ. अनुराग बत्रा, चेयरमैन व एडिटर-इन-चीफ, BW बिजनेस वर्ल्ड और एक्सचेंज4मीडिया

4. संजय द्विवेदी, डायरेक्टर जनरल, ‘इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कॉम्युनिकेशन’ (IIMC)

5. आशीष भसीन, को-फाउंडर व चेयरमैन, आरडी एंड एक्स नेटवर्क

6. डॉ. जगदीश मित्रा, चीफ स्ट्रेटेजी ऑफिसर व हेड ऑफ ग्रोथ, टेक महिंद्रा

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

‘BW बिजनेस वर्ल्ड’ का लिटरेचर फेस्टिवल IBLF आज गुरुग्राम में, शामिल होंगी ये हस्तियां

तीन दिसंबर, 2022 को नई दिल्ली के एरोसिटी स्थित रोजेट हाउस में इस कार्यक्रम के भव्य आयोजन के बाद अब गुरुग्राम स्थित ‘द लीला’ (The Leela) होटल में 11 जनवरी को इसका आयोजन किया जा रहा है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 10 January, 2023
Last Modified:
Tuesday, 10 January, 2023
IBLF

देश के प्रतिष्ठित मीडिया संस्थान ‘BW बिजनेस वर्ल्ड’ द्वारा एक फिर ‘इंडिया बिजनेस लिटरेचर फेस्टिवल’ (IBLF) कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। तीन दिसंबर, 2022 को नई दिल्ली के एरोसिटी स्थित रोजेट हाउस में इस कार्यक्रम के भव्य आयोजन के बाद अब गुरुग्राम स्थित ‘द लीला’ (The Leela) होटल में इसका आयोजन किया जा रहा है। 11 जनवरी 2023 को सुबह नौ बजे से होने वाले इस कार्यक्रम में देश-विदेश के शीर्ष लेखक, शिक्षाविद, विद्वान और प्रकाशक शामिल होंगे और अपने विचार रखेंगे। कार्यक्रम में बातचीत, पैनल चर्चा और रीडिंग शामिल होंगे।

बता दें कि तीन संस्करणों की शानदार सफलता के बाद यह इस कार्यक्रम का चौथा संस्करण है, जो 21 शहरों में आयोजित किया जाना है, जिसमें दिल्ली के बाद अब गुरुग्राम चैप्टर का आय़ोजन किया जा रहा है।

गौरतलब है कि बिजनेस एक सतत विकसित और बहुआयामी क्षेत्र है। बिजनेस को कैसे चलाया जाए और प्रतिस्पर्धा के इस दौर में कैसे इसे आगे रखा जाए, यह प्रमुख विषय है। हालांकि, इस विषय पर पहले भी काफी बोला-लिखा और पढ़ा जा चुका है, लेकिन अभी भी इसमें इस दिशा में काफी गुंजाइश है।

यही कारण है कि IBLF एक बहु-विषयक कार्यक्रम के तौर पर उभर रहा है, जो भारत और विदेशों के शीर्ष लेखकों, शिक्षाविदों, विद्वानों और पब्लिशर्स को एक मंच प्रदान करता है। यह साहित्य में रुचि रखने वाले समान विचारधारा वाले लोगों का एक ऐसा संगम है, जो व्यक्तिगत और व्यावसायिक सिद्धांत और व्यवहार पर प्रभाव डालता है और उनके पास बिजनेस और इसके विभिन्न पहलुओं में योगदान देने के लिए बहुत कुछ है।

अक्सर यह देखा जाता है कि किसी कंपनी में वरिष्ठता बढ़ने के साथ-साथ पढ़ने का समय उत्तरोत्तर कम होता जाता है। ‘आईबीएलएफ’ का विचार ऐसे शीर्ष नेतृत्व में पढ़ने की आदत फिर से डालना है। एक बार जब वरिष्ठ नेतृत्व लगातार पढ़ने और सीखने की आदत विकसित कर लेता है, तो उनके लिए अपनी कंपनी में युवा पेशेवरों को इसका पालन करने के लिए प्रेरित करना आसान हो जाता है।

जहां हम यह स्वीकार करते हैं कि पढ़ना एक अच्छी आदत है और इसे विकसित करना चाहिए, वहीं प्रभावी ढंग से लिखना भी काफी कठिन कार्य है। ऐसे में आईबीएलएफ का उद्देश्य उन सभी के कार्यों को एक नई पहचान और मंच देना है, जो अपने विचारों को स्पष्ट और प्रभावी तरीके से सामने रखने जैसे कठिन कार्य को पूरा कर रहे हैं।  

IBLF के गुरुग्राम चैप्टर में तमाम प्रतिष्ठित वक्ताओं में शामिल किया जा रहा है, जिनमें ‘RenewPower’ के चेयरमैन और सीईओ सुमंत सिन्हा, ‘Jindal Global Law School’ की एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. ऐश्वर्या पंडित, ‘Rothschild & Co India’ की चेयरपर्सन और ‘Advent International Private Equity, India’ की सीनियर एडवाइजर नैना लाल किदवई, ‘Aditya Birla Group’ के ग्रुप एग्जिक्यूटिव प्रेजिडेंट (Corporate Strategy and Business Development) डी. शिवकुमार, ‘Deloitte India’ के पार्टनर और चीफ टैलेंट ऑफिसर एस.वी, नाथन, ‘Randstad Japan’ के चेयरमैन और सीईओ पॉल डुपोइस (Paul Dupuis), ‘RachnaRestores’ की फाउंडर रचना छाछी (Rachna Chhachhi), भारत सरकार के पूर्व वित्त एवं आर्थिक मामलों के सचिव और ‘SUBHANJALI’ के इकनॉमिक व फाइनेंस एडवाइजर सुभाष चंद्रा शामिल हैं।

इनके अलावा इस लिस्ट में ‘Caprihans India Ltd’ के प्रेजिडेंट और सीईओ रॉबिन बनर्जी, लेखक, कॉलमिस्ट और ‘NASSCOM’ के पूर्व प्रेजिडेंट डॉ. किरण कार्निक, ‘Centre for China Analysis and Strategy’ के प्रेजिडेंट जयदीप रानाडे, ‘Leadership Works’ के फाउंडर और सीईओ प्रकाश अय्यर, ‘Central Association of Private Security Industry’ के चेयरमैन कुंवर विक्रम सिंह, ‘Bharadwaj Bharadwaj & Associates Architects’ के पार्टनर और ‘Dr Satyakam Bharadwaj Vedic Research Foundation के प्लानर्स व फाउंडर ट्रस्टी दक्ष भारद्वाज आदि का नाम भी शामिल है। बता दें कि इन जाने-माने लेखकों की किताबें मूल्यवान अंतर्दृष्टि प्रदान करती हैं और जीवन के अनुभवों को पठनीय रूप में प्रस्तुत करती हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अडानी ग्रुप ने प्रणय-राधिका रॉय के अधिकांश शेयर किए हासिल, अधिग्रहण प्रक्रिया पूरी

मीडिया फर्म ‘नई दिल्ली टेलीविजन लिमिटेड‘ (NDTV) को लेकर एक बड़ी खबर निकलकर सामने आई है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 30 December, 2022
Last Modified:
Friday, 30 December, 2022
adani548

मीडिया फर्म ‘नई दिल्ली टेलीविजन लिमिटेड‘ (NDTV) को लेकर एक बड़ी खबर निकलकर सामने आई है। खबर है कि अडानी समूह ने ‘एनडीटीवी’ के संस्थापक प्रणय रॉय और राधिका रॉय से ‘एनडीटीवी’ में उनके अधिकांश शेयर हासिल कर लिए हैं। अडानी समूह ने शुक्रवार को इस बात की जानकारी स्टॉक एक्सचेंज को दी है।

अडानी समूह की ओर से फाइलिंग में बताया गया कि एनडीटीवी की प्रमोटर कंपनी आरआरपीआर होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड (अडानी एंटरप्राइजेज लिमिटेड की एक अप्रत्यक्ष सहायक कंपनी) ने एनडीटीवी में प्रणय रॉय और राधिका रॉय से इंटर-से ट्रांसफर के माध्यम से 27.26% इक्विटी हिस्सेदारी हासिल की है।

बता दें कि 23 दिसंबर को प्रणय रॉय और राधिका रॉय ने NDTV में अपनी शेष 32.26% हिस्सेदारी में से 27.26% अडानी समूह को बेचने की घोषणा की थी।

अडानी समूह ने फाइलिंग में जानकारी दी कि विश्वप्रधान कमर्शियल प्राइवेट लिमिटेड (कंपनी की एक अप्रत्यक्ष सहायक कंपनी) की NDTV में 8.27% इक्विटी हिस्सेदारी है और RRPR (अधिग्रहण से पहले) की NDTV में 29.18% इक्विटी हिस्सेदारी थी। अब अधिग्रहण के परिणामस्वरूप, RRPR की 56.45% हिस्सेदारी होगी।

बता दें कि अडानी ग्रुप ने 342.65 रुपए प्रति शेयर की कीमत पर प्रणय रॉय और राधिका रॉय के शेयरों का अधिग्रहण किया है। इस कीमत के आधार पर, 1.75 करोड़ शेयरों की बिक्री से रॉय परिवार को 602.30 करोड़ रुपए प्राप्त होते हैं।  

अडानी समूह ने जानकारी दी कि एनएसई के ब्लॉक डील विंडो पर 30 दिसंबर, 2022 को अधिग्रहण की प्रक्रिया पूरी हो गई।  

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

डिजिटल मीडिया के 'धुरंधरों' का होगा सम्मान, इन आठ श्रेणियों में दिए जाएंगे अवॉर्ड्स

‘एक्सचेंज4मीडिया’ समूह के सहयोग से ‘डीएनपीए’ के पहले वार्षिक कॉन्क्लेव का आयोजन 20 जनवरी 2023 को नई दिल्ली में किया जाएगा।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 20 December, 2022
Last Modified:
Tuesday, 20 December, 2022
DNPA-e4mDigitalAwards45

‘एक्सचेंज4मीडिया’ (exchange4media) समूह के सहयोग से ‘डीएनपीए’ (Digital News Publishers Association) के पहले वार्षिक कॉन्क्लेव का आयोजन 20 जनवरी 2023 को नई दिल्ली में किया जाएगा। बता दें कि ‘डीएनपीए’ प्रिंट व टेलीविजन के क्षेत्र में काम कर रही देश की शीर्ष मीडिया कंपनियों की डिजिटल विंग का प्रतिनिधित्व करता है।

यह कॉन्क्लेव ऐसा मंच है, जिस पर डिजिटल मीडिया के क्षेत्र में हुए नए-नए तकनीकी विकास के साथ-साथ उन चुनौतियों व उनके समाधान पर चर्चा की जाएगी, जिनका सामना पत्रकारिता की बेहतरी और विकास के क्रम में मीडिया को समय-समय पर करना पड़ता है।

इस कॉन्क्लेव में बड़ी टेक्नोलॉजी कंपनियों और न्यूज मीडिया पब्लिशर्स के बीच संबंधों की नई रूपरेखा सामने आने की उम्मीद है। इसके साथ ही दिन भर चलने वाले इस कॉन्क्लेव में देश के प्रमुख न्यूज पब्लिशर्स और अन्य हितधारकों के साथ दुनियाभर के तमाम विषय विशेषज्ञ भी मौजूद रहेंगे और अपने विचार रखेंगे।

इस कॉन्क्लेव में वरिष्ठ नौकरशाहों, विदेशी नीति निर्माताओं, वरिष्ठ पत्रकारों, पब्लिशर्स, टेक्नोलॉजी लीडर्स और अन्य हितधारकों द्वारा डिजिटल मीडिया को और सशक्त बनाने के लिए अनुभवों व विचारों का आदान-प्रदान किया जाएगा।

इस मौके पर ‘e4m-DNPA Digital Impact Awards 2023’ के तहत उन शख्सियतों को सम्मानित भी किया जाएगा, जिन्होंने अपने काम से इस क्षेत्र में नए प्रयोग किए हैं और सफलता की नई इबारत लिखी है। इन विजेताओं का चयन करने के लिए 28 दिसंबर 2022 को जूरी मीट का आयोजन किया जाएगा।

इस आयोजन के तहत नॉमिनेशंस का चयन ‘एक्सचेंज4मीडिया’ समूह की रिसर्च टीम द्वारा किया गया है। इस कार्यक्रम के विजेताओं का चुनाव देश के पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त और सूचना-एवं प्रसारण मंत्रालय के पूर्व सचिव सुनील अरोड़ा के नेतृत्व में गठित जूरी द्वारा किया जाएगा।

गठित जूरी में शामिल सदस्य:

1. एस. रवि, मैनेजिंग पार्टनर, रवि राजन एंड कंपनी, चेयरमैन- TFCI और पूर्व चेयरमैन, बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE)

2. अरुणा शर्मा, पूर्व सचिव, आईटी व इलेक्ट्रॉनिक्स मंत्रालय, भारत सरकार

3. डॉ. अनुराग बत्रा, चेयरमैन व एडिटर-इन-चीफ, BW बिजनेस वर्ल्ड और एक्सचेंज4मीडिया

4. संजय द्विवेदी, डायरेक्टर जनरल, ‘इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कॉम्युनिकेशन’ (IIMC)

5. आशीष भसीन, को-फाउंडर व चेयरमैन, आरडी एंड एक्स नेटवर्क

6. डॉ. जगदीश मित्रा, चीफ स्ट्रेटेजी ऑफिसर व हेड ऑफ ग्रोथ, टेक महिंद्रा

डिजिटल मीडिया के बेहतर इस्तेमाल के लिए डीएनपीए की ओर से निम्नलिखित आठ श्रेणियों में पुरस्कार दिए जाने हैं, जोकि निम्न हैं-

1. बेस्ट यूज ऑफ डिजिटल मीडिया फॉर ह्यूमन रिसोर्स डेपलपमेंट एंड एजुकेशन

2. बेस्ट यूज ऑफ डिजिटल मीडिया फॉर हेल्थ

3. बेस्ट यूज ऑफ डिजिटल मीडिया फॉर फाइनेंशियल रिफॉर्म

4. बेस्ट यूज ऑफ डिजिटल मीडिया फॉर सब्सटेनब्लिटी एंड एनवॉयरमेंट प्रोटेक्शन

5. बेस्ट यूज ऑफ डिजिटल मीडिया टू प्रमोट ईज ऑफ बिजनेस

6. बेस्ट यूज ऑफ डिजिटल मीडिया फॉर गवर्नेंस एंड एडमिनिस्ट्रेटिव रिफॉर्म

7. बेस्ट यूज ऑफ डिजिटल मीडिया फॉर वुमेन एंड चाइल्ड वेलफेयर रिफॉर्म्स

8. बेस्ट यूज ऑफ डिजिटल मीडिया फॉर ईज ऑफ लिविंग

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए