'इस अनुपात को बढ़ाने से देश में होगा कम्युनिटी रेडियो को आर्थिक लाभ'

सामुदायिक रेडियो स्टेशन लोगों से उनकी भाषा में संचार करते हैं, जिससे न सिर्फ भाषा के बचाव में योगदान होता है, बल्कि अगली पीढ़ी तक उसका विस्तार भी होता है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Tuesday, 03 November, 2020
Last Modified:
Tuesday, 03 November, 2020
CommunityRadio

'भारत में 290 कम्युनिटी रेडियो स्टेशन हैं, जिनकी पहुंच देश की लगभग 9 करोड़ आबादी तक है। ये रेडियो स्टेशन समुदायों द्वारा उनकी स्थानीय भाषा एवं बोली में चलाए जाते हैं। इस तरह भारतीय भाषाओं के माध्यम से कम्युनिटी रेडियो देश को जोड़ने का काम करता है।' यह विचार भारतीय जन संचार संस्थान (आईआईएमसी) के महानिदेशक प्रो. संजय द्विवेदी ने सोमवार को सरदार वल्लभभाई पटेल की 145वीं जयंती प्रसंग के मौके पर, 'कम्युनिटी रेडियो-सबका साथ सबका विकास' विषय पर आयोजित वेबिनार में व्यक्त किए।  

कार्यक्रम में वन वर्ल्ड फाउंडेशन के प्रबंध निदेशक राजीव टिक्कू, रेडियो अल्फ़ाज़-ए-मेवात की प्रमुख पूजा ओबेरॉय मुरादा, कम्युनिटी मीडिया कंसल्टेंट डॉ. डी. रुक्मिणी वेमराजू एवं रेडियो बनस्थली राजस्थान के स्टेशन मैनेजर लोकेश शर्मा भी वक्ता के तौर पर शामिल हुए।

प्रो. द्विवेदी ने कहा कि सामुदायिक रेडियो स्टेशन लोगों से उनकी भाषा में संचार करते हैं, जिससे न सिर्फ भाषा के बचाव में योगदान होता है, बल्कि अगली पीढ़ी तक उसका विस्तार भी होता है। एक समुदाय को सशक्त करना हो, लोगों और सरकार के बीच माध्यम बनना हो, समाज में पारदर्शिता लानी हो, निरंतर जानकारी पहुंचानी हो या छोटी अथवा बड़ी समस्या का हल निकालना हो, इन सभी में कम्युनिटी रेडियो अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है।

उन्होंने कहा कि मौजूदा दौर में कम्युनिटी रेडियो पर विज्ञापन का अनुपात 7 मिनट प्रति घंटा है, जिसे बढ़ाकर 12 मिनट प्रति घंटा किये जाने की तैयारी शुरू हो चुकी है। इस बढ़े हुए समय से कम्युनिटी रेडियो को आर्थिक लाभ होगा और अपने लिए वित्तीय संसाधन जुटाने में मदद मिलेगी। इसके अलावा भारत सरकार ने देश में कम्युनिटी रेडियो समर्थन अभियान चला रखा है। प्रो. द्विवेदी के मुताबिक सामुदायिक रेडियो सिर्फ रेडियो नहीं, बल्कि लोगों की एकीकृत आवाज़ है।

समस्याओं का समाधान करता है कम्युनिटी रेडियो : टिक्कू

राजीव टिक्कू ने कहा कि कम्युनिटी रेडियो सिर्फ समस्याओं की और ध्यान ही नहीं दिलाता, बल्कि उनका समाधान करने का भी प्रयास करता है। टिक्कू ने बताया कि आज के दौर में हम सूचनाओं के विस्फोट से जूझ रहे हैं, ऐसी स्थिति में इन सूचनाओं को कम्युनिटी रेडियो सबसे बेहतर तरीके से नियंत्रित करते हैं।      

टिक्कू ने कहा कि कोरोना महामारी के दौर में कम्युनिटी रेडियो ने भी अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। उत्तराखंड में 6 स्टेशनों ने मिलकर एक उम्मीद नेटवर्क बनाया है, जिसके द्वारा कोरोना से बचाव के उपाय लोगों को बताये जा रहे हैं। उनके मुताबिक कम्युनिटी रेडियो की भूमिका पर अब लोगों को जागरुक करने की जरूरत है।

भाषा का नहीं, संचार का महत्व : वेमराजू

कम्युनिटी मीडिया कंसल्टेंट डॉ. डी. रुक्मिणी वेमराजू ने अपने संबोधन में कहा कि कम्युनिटी रेडियो में भाषा का नहीं, बल्कि संचार का महत्व है। और इसकी सबसे अच्छी बात यह है कि क्षेत्रीय स्तर पर लोगों से क्षेत्रीय भाषा में ही संचार किया जाता है। उन्होंने कहा कि समुदाय एवं उसमें रहने वाले लोगों को जोड़कर ही 'सबका साथ सबका विकास' संभव हो सकता है।

कोरोना महामारी के दौर में कम्युनिटी रेडियो की भूमिका पर बोलते हुए वेमराजू ने कहा कि किसी भी चुनौती के समय सामुदायिक रेडियो ने अपने आप को सिद्ध किया है। उन्होंने कहा कि संकट के समय लोगों को सशक्त बनाने की जिम्मेदारी कम्युनिटी रेडियो की है। महामारी के इस दौर में कम्युनिटी रेडियो की डिमांड बढ़ी है। पहली बार प्रशासन को ये एहसास हुआ कि लोगों तक जानकारी पहुंचाने में कम्युनिटी रेडियो की महत्वपूर्ण भूमिका है।

सबके साथ से ही होगा विकास : मुरादा

इस मौके पर रेडियो अल्फ़ाज़-ए-मेवात की प्रमुख पूजा ओबेरॉय मुरादा ने बताया कि जब रेडियो मेवात का प्रसारण शुरू किया गया, तो वहां रहने वाले समुदाय के लोगों ने पहले इसका विरोध किया, लेकिन आज वही लोग इसके संचालन में हमारी मदद करते हैं। लॉकडाउन के दौरान वहां रहने वाले इंजीनियर ने तकनीकी समस्याओं को दूर करने में हमारी मदद की।

'सबका साथ सबका विकास' का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि हमें ये समझना होगा कि आखिर हमें किसका साथ चाहिए और इससे किसका विकास होगा। श्रीमती मुरादा ने कहा कि हमें समुदाय, प्रशासन, सरकार और सहयोगियों का साथ चाहिये और इससे समाज के उन लोगों का विकास होगा, जिन तक शासन और प्रशासन की पहुंच नहीं है।

समुदाय के लोगों को कर रहे हैं जागरुक : शर्मा

रेडियो बनस्थली राजस्थान के स्टेशन मैनेजर लोकेश शर्मा ने कहा कि हमारी टैगलाइन है 'आपणो रेडियो बनस्थली' यानी ये आपका अपना रेडिया स्टेशन है। यही कम्युनिटी रेडियो की भावना है। उन्होंने कहा कि यह राजस्थान का पहला कम्युनिटी रेडियो स्टेशन है और इसके माध्यम से हम क्षेत्रीय भाषाओं में लोगों के साथ संवाद कर रहे हैं।

शर्मा ने बताया कि कम्युनिटी रेडियो की मदद से हम स्थानीय समुदाय के लोगों में उनकी रुचि के अनुसार कौशल का विकास कर रहे हैं। साथ ही लोकगीतों के माध्यम से हम न सिर्फ संस्कृति का प्रचार प्रसार कर रहे हैं, बल्कि सरकारी योजनाओं की जानकारी भी लोगों तक पहुंचा रहे हैं।

इससे पहले आयोजन की शुरुआत संस्थान के अपर महानिदेशक के. सतीश नंबूदिरीपाद के स्वागत भाषण से हुई। वेबिनार का संचालन अपना रेडियो के कार्यक्रम प्रमुख संजय अग्रवाल ने किया एवं भारतीय सूचना सेवा की पाठ्यक्रम निदेशक नवनीत कौर ने आयोजन में भाग लेने वाले सभी वक्ताओं का धन्यवाद दिया।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

कौन से मार्केट में किस FM रेडियो का पलड़ा रहा भारी, जानिए यहां

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए वर्ष 2022 के 31वें हफ्ते से वर्ष 2022 के 34वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 29 September, 2022
Last Modified:
Thursday, 29 September, 2022
FM Radio

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए वर्ष 2022 के 31वें हफ्ते से वर्ष 2022 के 34वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं। इन रेटिंग्स के अनुसार, दिल्ली के मार्केट में इस बार भी ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) सबसे आगे रहा है। पिछले हफ्ते की तरह मुंबई और कोलकाता में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहा है। इस दौरान बेंगलुरु में ‘बिग एफएम’ (BIG FM) सबसे ज्यादा सुना गया है।

मुंबई में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 12.2 मिलियन श्रोताओं में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi)  का मार्केट शेयर इस दौरान 19.5 रहा है और यह टॉप पर रहा है। इस अवधि में 14.8 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेड एफएम’ (Red FM)  दूसरे नंबर पर रहा है। इस हफ्ते ‘फीवर एफएम’ (Fever FM)  14.7 प्रतिशत शेयर के साथ तीसरे नंबर पर रहा है। यहां श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा सुबह नौ बजे से सुबह 10 बजे के बीच रही।

दिल्ली में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 16.5 मिलियन श्रोताओं में 21.8 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) सबसे ज्यादा सुना गया है। दिल्ली के मार्केट में 14.4 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर रहा है। इस लिस्ट में 13.4 प्रतिशत शेयर के साथ ‘पंजाबी फीवर’ (Punjabi Fever)  तीसरे नंबर पर रहा है। यहां श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा सुबह नौ बजे से सुबह 10 बजे के बीच रही।

बेंगलुरु के मार्केट को देखें तो 30.3 प्रतिशत शेयर के साथ ‘बिग एफएम’ (BIG FM) इस लिस्ट में पहले नंबर पर रहा है। वहीं, ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) 28.3 प्रतिशत शेयर के साथ दूसरे नंबर पर रहा। ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) ने 15.3 प्रतिशत शेयर के साथ इस लिस्ट में तीसरा नंबर हासिल किया। यहां सुबह सात बजे से सुबह आठ बजे के बीच श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा थी।

वहीं, कोलकाता की बात करें तो यहां एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोताओं में 28.4 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहा, जबकि 23.9 प्रतिशत श्रोताओं के साथ ‘बिग एफएम’ (Big FM) इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर रहा। इसके बाद इस लिस्ट में 14.1 प्रतिशत के साथ ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) का नंबर रहा। सुबह नौ बजे से सुबह दस बजे के बीच यहां रेडियो सबसे ज्यादा सुना गया।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

RAM Ratings: जानिए, किस मार्केट में श्रोताओं को सबसे ज्यादा भाया कौन सा FM रेडियो

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए वर्ष 2022 के 30वें हफ्ते से वर्ष 2022 के 33वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 22 September, 2022
Last Modified:
Thursday, 22 September, 2022
FM Radio

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए वर्ष 2022 के 30वें हफ्ते से वर्ष 2022 के 33वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं। इन रेटिंग्स के अनुसार, दिल्ली के मार्केट में इस बार भी ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) सबसे आगे रहा है, जबकि मुंबई और कोलकाता में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहा है। इस दौरान बेंगलुरु में ‘बिग एफएम’ (BIG FM) सबसे ज्यादा सुना गया है।

मुंबई में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 12.2 मिलियन श्रोताओं में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi)  का मार्केट शेयर इस दौरान 20 रहा है और यह टॉप पर रहा है। इस अवधि में 14.6 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेड एफएम’ (Red FM)  दूसरे नंबर पर रहा है। इस हफ्ते ‘फीवर एफएम’ (Fever FM)  ने  ‘बिग एफएम’ (Big FM) को पीछे छोड़ दिया है और 14.2 प्रतिशत शेयर के साथ तीसरे नंबर पर रहा है। यहां श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा सुबह नौ बजे से सुबह 10 बजे के बीच रही।

दिल्ली में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 16.5 मिलियन श्रोताओं में 21.8 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) सबसे ज्यादा सुना गया है। दिल्ली के मार्केट में 14.5 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर रहा है। इस लिस्ट में 13.3 प्रतिशत शेयर के साथ ‘पंजाबी फीवर’ (Punjabi Fever)  तीसरे नंबर पर रहा है। यहां श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा सुबह नौ बजे से सुबह 10 बजे के बीच रही।

बेंगलुरु के मार्केट को देखें तो 30.5 प्रतिशत शेयर के साथ ‘बिग एफएम’ (BIG FM) इस लिस्ट में पहले नंबर पर रहा है। वहीं, ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) 28.3 प्रतिशत शेयर के साथ दूसरे नंबर पर रहा। ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) ने 15.3 प्रतिशत शेयर के साथ इस लिस्ट में तीसरा नंबर हासिल किया। यहां सुबह सात बजे से सुबह आठ बजे के बीच श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा थी।

वहीं, कोलकाता की बात करें तो यहां एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोताओं में 28.1 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहा, जबकि 23.6 प्रतिशत श्रोताओं के साथ ‘बिग एफएम’ (Big FM) इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर रहा। इसके बाद इस लिस्ट में 14.3 प्रतिशत के साथ ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) का नंबर रहा। सुबह नौ बजे से सुबह दस बजे के बीच यहां रेडियो सबसे ज्यादा सुना गया।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

RAM Ratings: जानिए, श्रोताओं की पसंद के मामले में कौन सा FM रेडियो रहा टॉप पर

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए वर्ष 2022 के 29वें हफ्ते से वर्ष 2022 के 32वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Saturday, 17 September, 2022
Last Modified:
Saturday, 17 September, 2022
Radio FM

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए वर्ष 2022 के 29वें हफ्ते से वर्ष 2022 के 32वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं। इन रेटिंग्स के अनुसार, दिल्ली के मार्केट में इस बार भी ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) सबसे आगे रहा है, जबकि मुंबई और कोलकाता में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहा है। इस दौरान बेंगलुरु में ‘बिग एफएम’ (BIG FM) सबसे ज्यादा सुना गया है।

मुंबई में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 12.2 मिलियन श्रोताओं में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi)  का मार्केट शेयर इस दौरान 20.6 रहा है और यह टॉप पर रहा है। इस अवधि में 14.6 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेड एफएम’ (Red FM)  दूसरे नंबर पर और 13.4 प्रतिशत शेयर के साथ ‘बिग एफएम’ (Big FM) तीसरे नंबर पर रहा है। यहां श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा सुबह नौ बजे से सुबह 10 बजे के बीच रही।

दिल्ली में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 16.5 मिलियन श्रोताओं में 21.7 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) सबसे ज्यादा सुना गया है। दिल्ली के मार्केट में 14.5 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर रहा है। इस लिस्ट में 13.3 प्रतिशत शेयर के साथ ‘पंजाबी फीवर’ (Punjabi Fever)  तीसरे नंबर पर रहा है। यहां श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा सुबह नौ बजे से सुबह 10 बजे के बीच रही।

बेंगलुरु के मार्केट को देखें तो 30.3 प्रतिशत शेयर के साथ ‘बिग एफएम’ (BIG FM) इस लिस्ट में पहले नंबर पर रहा है। वहीं, ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) 28.6 प्रतिशत शेयर के साथ दूसरे नंबर पर रहा। ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) ने 15.4 प्रतिशत शेयर के साथ इस लिस्ट में तीसरा नंबर हासिल किया। यहां सुबह सात बजे से सुबह आठ बजे के बीच श्रोताओं की संख्या सबसे ज्यादा थी।

वहीं, कोलकाता की बात करें तो यहां एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोताओं में 27.8 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहा, जबकि 24 प्रतिशत श्रोताओं के साथ ‘बिग एफएम’ (Big FM) इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर रहा। इसके बाद इस लिस्ट में 15.4 प्रतिशत के साथ ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) का नंबर रहा। सुबह नौ बजे से सुबह दस बजे के बीच यहां रेडियो सबसे ज्यादा सुना गया।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

आजतक रेडियो के फ्लैगशिप शो Teen Taal के नाम जुड़ने जा रही है ये खास उपलब्धि

शो की सफलता का जश्न मनाने के लिए ‘इंडिया टुडे’ हेडक्वार्टर में एक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा, जिसमें लोग इस शो के किरदारों से मिल सकते हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 07 September, 2022
Last Modified:
Wednesday, 07 September, 2022
Teen Taal

‘इंडिया टुडे’ (India Today) समूह के ऑफिशियल पॉडकास्ट प्लेटफॉर्म ‘आजतक रेडियो’ (Aaj Tak Radio) पर प्रसारित होने वाले ऑरिजनल पॉडकास्ट ‘तीन ताल’ (Teen Taal) के नाम एक खास उपलब्धि जुड़ने जा रही है। दरअसल, 10 सितंबर को इस शो के 100 एपिसोड पूरे होने जा रहे हैं।

इस साप्ताहिक रेडियो पॉडकास्ट को वरिष्ठ पत्रकार और ‘इंडिया टुडे‘ समूह के न्यूज डायरेक्टर (डिजिटल) कमलेश किशोर, ‘आजतक‘ के एग्जिक्यूटिव एडिटर पाणिनि आनंद और ‘इंडिया टुडे‘ के एसोसिएट एडिटर कुलदीप मिश्रा होस्ट करते हैं। इस शो में उन्हें ’ताऊ’, ’बाबा’ और ’सरदार’ के उपनाम (निकनेम) से जाना जाता है।

डेढ़ घंटे के इस शो पर तीनों वरिष्ठ पत्रकार मिलकर प्रत्येक शनिवार को राजनीतिक, सामाजिक, सोशल मीडिया पर वायरल कंटेंट, फूड, मूवीज समेत तमाम अहम मुद्दों पर बेहद ही रोचक तरीके से चर्चा करते हैं, जो लोगों को काफी पसंद आता है। सोशल मीडिया पर भी इस शो को काफी पसंद किया जाता है और लोग इस पर तरह-तरह के मीम्स बनाते रहते हैं।

इस शो के सौ एपिसोड पूरे होने पर इसकी सफलता का जश्न मनाने के लिए 10 सितंबर को इंडिया टुडे ऑडिटोरियम में ‘तीन ताल सम्मेलन’ का आयोजन किया जाएगा। इस कार्यक्रम में श्रोताओं को अपने पसंदीदा होस्ट से मिलने और उनसे बातचीत करने का मौका मिलेगा। इसके साथ ही वे रिकॉर्डिंग रूम में कैसे काम होता है, यह भी देख सकते हैं।  

बता दें कि अपनी शुरुआत के बाद से ‘आजतक रेडियो’ 23 पॉडकास्ट प्रड्यूस कर चुका है, जिनमें छह दैनिक, आठ साप्ताहिक और नौ आर्काइव्ड शो शामिल हैं, जिन्हें कभी भी सुना जा सकता है। ‘आजतक रेडियो’ हर हफ्ते 58 एपिसोड तैयार करता है, जिनमें 15 घंटे की ऑडियो प्रोग्रामिंग होती है।

इस बारे में ‘इंडिया टुडे’ समूह की वाइस चेयरपर्सन कली पुरी का कहना है, ‘आजतक रेडियो प्रभावशाली स्टोरीटेलिंग के प्रति हमारी प्रतिबद्धता का एक और उदाहरण है, जो देश भर के श्रोताओं के लिए सुलभ, आकर्षक और प्रामाणिक है। ‘तीन ताल’ में मजाकिया अंदाज में जिस ईमानदारी से तमाम मुद्दों को लोगों के सामने रखा जाता है, वह उन्हें काफी पसंद आता है। इस शो को लोगों का जो प्यार मिला है, वह वाकई जबर्दस्त है।’

इस शो को सुनने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

RAM Ratings: इस FM रेडियो को श्रोताओं ने सबसे ज्यादा किया पसंद

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए वर्ष 2022 के 28वें हफ्ते से वर्ष 2022 के 31वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 07 September, 2022
Last Modified:
Wednesday, 07 September, 2022
FM Radio

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए वर्ष 2022 के 28वें हफ्ते से वर्ष 2022 के 31वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं। इन रेटिंग्स के अनुसार, दिल्ली के मार्केट में इस बार भी ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) सबसे आगे रहा है, जबकि मुंबई और कोलकाता में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहा है। इस दौरान बेंगलुरु में ‘बिग एफएम’ (BIG FM) सबसे ज्यादा सुना गया है।

मुंबई में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 12.2 मिलियन श्रोताओं में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi)  का मार्केट शेयर इस दौरान 19.8 रहा है और यह टॉप पर रहा है। इस अवधि में 14.8 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेड एफएम’ (Red FM)  दूसरे नंबर पर और 13.8 प्रतिशत शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) तीसरे नंबर पर रहा है।

दिल्ली में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 16.5 मिलियन श्रोताओं में 21.7 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) सबसे ज्यादा सुना गया है। दिल्ली के मार्केट में 14.4 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर रहा है। इस लिस्ट में 13.4 प्रतिशत शेयर के साथ ‘पंजाबी फीवर’ (Punjabi Fever)  तीसरे नंबर पर रहा है।

बेंगलुरु के मार्केट की बात करें तो 30.6 प्रतिशत शेयर के साथ ‘बिग एफएम’ (BIG FM) इस लिस्ट में टॉप पर रहा है। वहीं, ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) 28.6 प्रतिशत शेयर के साथ इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर रहा। ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) ने 15.4 प्रतिशत शेयर के साथ इस लिस्ट में तीसरा नंबर हासिल किया।

वहीं, कोलकाता को देखें तो यहां एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोताओं में 27.8 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहा है, जबकि 24 प्रतिशत श्रोताओं के साथ ‘बिग एफएम’ (Big FM) इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर रहा। इसके बाद इस लिस्ट में 14.3 प्रतिशत के साथ ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) का नंबर रहा है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

सूचना-प्रसारण मंत्रालय ने निजी FM रेडियो स्टेशनों को दी ये सलाह

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रेडियो पर प्रसारित अपने मासिक ‘मन की बात’ संबोधन के माध्यम से नागरिकों को कोविड-19 रोधी टीकों की एहतियाती खुराक लेने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं।

Last Modified:
Tuesday, 30 August, 2022
FM Radio

आजादी की 75वीं वर्षगांठ के जश्न के मौके पर केंद्र सरकार ने निजी एफएम रेडियो स्टेशनों को सलाह दी है कि वे सभी वयस्कों को दी जाने वाली कोविड-19 रोधी टीकों की मुफ्त एहतियाती खुराक का प्रचार करें।

सरकार ने ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ कार्यक्रम के तहत सभी सरकारी टीकाकरण केंद्रों पर पात्र आबादी को कोविड-19 टीकों की मुफ्त एहतियाती खुराक लगाने के लिए 15 जुलाई से 30 सितंबर तक चलने वाले 75 दिन के विशेष अभियान की शुरुआत की थी।

निजी एफएम रेडियो स्टेशनों को भेजे परामर्श में केंद्रीय सूचना-प्रसारण मंत्रालय ने एहतियाती खुराक लगवाने की जरूरत के बारे में संदेश प्रसारित करने के लिए भी कहा है।

परामर्श में कहा गया है, ‘यह सलाह दी जाती है कि सभी निजी एफएम रेडियो चैनल लोगों को सरकारी केंद्रों पर मुफ्त एहतियाती खुराक की उपलब्धता के बारे में सूचित करने के लिए संदेश और अन्य सामग्री प्रसारित करें। वे उन्हें एहतियाती खुराक प्राप्त करने, कोविड-19 की रोकथाम के लिए उचित व्यवहार का पालन करने और जरूरी सावधानी बरतने की अहमियत के बारे में भी बताएं।’

बीते साल 16 जनवरी को देशव्यापी टीकाकरण अभियान की शुरुआत के बाद से भारत में अब तक कोविड-19 रोधी टीकों की 211 करोड़ से अधिक खुराक लगाई जा चुकी हैं।

दस जनवरी 2022 को एहतियाती खुराक से संबंधित अभियान शुरू होने के बाद सोमवार तक पात्र लाभार्थियों को 15.43 करोड़ से ज्यादा एहतियाती खुराक दी जा चुकी हैं।

भारत में 18 साल से अधिक उम्र के लगभग 92 करोड़ लाभार्थियों को कोविड-19 रोधी टीके की पहली खुराक हासिल हो चुकी है, जबकि तकरीबन 86 करोड़ वयस्कों का पूर्ण टीकाकरण किया जा चुका है।

वहीं, 12 से 18 वर्ष के आयु वर्ग में 10 करोड़ से अधिक लाभार्थियों को टीके की पहली खुराक, जबकि आठ करोड़ से अधिक लाभार्थियों को दोनों खुराक हासिल हो चुकी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रेडियो पर प्रसारित अपने मासिक ‘मन की बात’ संबोधन के माध्यम से नागरिकों को कोविड-19 रोधी टीकों की एहतियाती खुराक लेने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं।

मोदी ने कहा था, ‘आजादी के 75 साल पूरे होने के मौके पर सरकार ने 75 दिनों तक मुफ्त एहतियाती खुराक लगाने के लिए एक अभियान शुरू किया है।’

उन्होंने कहा था, ‘हमें यह सुनिश्चित करना चाहिए कि हमारे परिवार, हमारे क्षेत्र और हमारे गांव का प्रत्येक व्यक्ति एहतियाती खुराक लगवाए।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

RAM Ratings: इस हफ्ते किस रेडियो FM ने बनाई मार्केट में अपनी बढ़त, जानिए यहां

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए वर्ष 2022 के 26वें हफ्ते से वर्ष 2022 के 29वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं।

Last Modified:
Friday, 26 August, 2022
FM Radio

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए वर्ष 2022 के 26वें हफ्ते से वर्ष 2022 के 29वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं। इन रेटिंग्स के अनुसार, दिल्ली के मार्केट में इस बार भी ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) सबसे आगे रहा है, जबकि मुंबई में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर आ गया है। इस दौरान कोलकाता में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहा है, जबकि बेंगलुरु में ‘बिग एफएम’ (BIG FM) सबसे ज्यादा सुना गया है।

मुंबई में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 12.2 मिलियन श्रोताओं में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi)  का मार्केट शेयर इस दौरान 17.3 रहा है और यह टॉप पर रहा है। इस अवधि में 16.2 प्रतिशत शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ (Fever FM)  और 15 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेड एफएम’ (Red FM) तीसरे नंबर पर रहा है।

दिल्ली में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 16.5 मिलियन श्रोताओं में 21.7 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) सबसे ज्यादा सुना गया है। दिल्ली के मार्केट में 14.4 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर रहा है। इस लिस्ट में 13.4 प्रतिशत शेयर के साथ ‘पंजाबी फीवर’ (Punjabi Fever)  तीसरे नंबर पर रहा है।

बेंगलुरु के मार्केट की बात करें तो 30.5 प्रतिशत शेयर के साथ ‘बिग एफएम’ (BIG FM) इस लिस्ट में टॉप पर रहा है। वहीं, ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) 28.8 प्रतिशत शेयर के साथ इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर रहा। ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) ने 15.7 प्रतिशत शेयर के साथ इस लिस्ट में तीसरा नंबर हासिल किया।

वहीं, कोलकाता को देखें तो यहां एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोताओं में 27.7 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहा है, जबकि 24.5 प्रतिशत श्रोताओं के साथ ‘बिग एफएम’ (Big FM) इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर रहा। इसके बाद इस लिस्ट में 14.1 प्रतिशत के साथ ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) का नंबर रहा है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

RAM Ratings: इस बार किस मार्केट में सबसे ज्यादा सुना गया कौन सा FM रेडियो, जानिए यहां

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए वर्ष 2022 के 25वें हफ्ते से वर्ष 2022 के 28वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Saturday, 20 August, 2022
Last Modified:
Saturday, 20 August, 2022
FM Radio

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए वर्ष 2022 के 25वें हफ्ते से वर्ष 2022 के 28वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं। इन रेटिंग्स के अनुसार, दिल्ली और मुंबई के मार्केट में ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) इस बार भी टॉप पर रहा है। इस दौरान कोलकाता में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहा है, जबकि बेंगलुरु में ‘बिग एफएम’ (BIG FM) सबसे ज्यादा सुना गया है।

मुंबई में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 12.2 मिलियन श्रोताओं में ‘फीवर एफएम’ (Fever FM)  का मार्केट शेयर इस दौरान 17.2 रहा है और यह टॉप पर रहा है। इस अवधि में 16.1 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi)  और 14.9 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेड एफएम’ (Red FM) तीसरे नंबर पर रहा है।

दिल्ली में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 16.5 मिलियन श्रोताओं में 21.7 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) सबसे ज्यादा सुना गया है। दिल्ली के मार्केट में 14.3 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर रहा है। इस लिस्ट में 13.4 प्रतिशत शेयर के साथ ‘पंजाबी फीवर’ (Punjabi Fever)  तीसरे नंबर पर रहा है।

बेंगलुरु के मार्केट की बात करें तो 30.9 प्रतिशत शेयर के साथ ‘बिग एफएम’ (BIG FM) इस लिस्ट में टॉप पर रहा है। वहीं, ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) 28.6 प्रतिशत शेयर के साथ इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर रहा। ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) ने 15.7 प्रतिशत शेयर के साथ इस लिस्ट में तीसरा नंबर हासिल किया।

वहीं, कोलकाता को देखें तो यहां एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोताओं में 27.5 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहा है, जबकि 24.3 प्रतिशत श्रोताओं के साथ ‘बिग एफएम’ (Big FM) इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर रहा। इसके बाद इस लिस्ट में 14.1 प्रतिशत के साथ ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) का नंबर रहा है। 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

RAM Ratings: श्रोताओं की पसंद के मामले में यह FM रेडियो रहा सबसे आगे

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए वर्ष 2022 के 24वें हफ्ते से वर्ष 2022 के 27वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं।

Last Modified:
Friday, 12 August, 2022
FM Radio

देश के चार बड़े शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु के लिए वर्ष 2022 के 24वें हफ्ते से वर्ष 2022 के 27वें हफ्ते के बीच की ‘रेडियो ऑडियंस मीजरमेंट’ (RAM) रेटिंग्स जारी हो गई हैं। इन रेटिंग्स के अनुसार, दिल्ली और मुंबई के मार्केट में इस बार भी ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) टॉप पर रहा है। इस दौरान कोलकाता में ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहा है, जबकि बेंगलुरु में ‘बिग एफएम’ (BIG FM) सबसे ज्यादा सुना गया है।

मुंबई में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 12.2 मिलियन श्रोताओं में ‘फीवर एफएम’ (Fever FM)  का मार्केट शेयर इस दौरान 17 रहा है और यह टॉप पर रहा है। इस अवधि में 15.9 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi)  और 14.9 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेड एफएम’ (Red FM) तीसरे नंबर पर रहा है।

दिल्ली में 12 साल से ऊपर आयुवर्ग के 16.5 मिलियन श्रोताओं में 21.5 प्रतिशत मार्केट शेयर के साथ ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) सबसे ज्यादा सुना गया है। दिल्ली के मार्केट में 14.4 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर रहा है। इस लिस्ट में 13.2 प्रतिशत शेयर के साथ ‘पंजाबी फीवर’ (Punjabi Fever)  तीसरे नंबर पर रहा है।

बेंगलुरु के मार्केट की बात करें तो 31.1 प्रतिशत शेयर के साथ ‘बिग एफएम’ (BIG FM) इस लिस्ट में टॉप पर रहा है। वहीं, ‘रेडियो सिटी’ (Radio City) 28.5 प्रतिशत शेयर के साथ इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर रहा। ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) ने 15.5 प्रतिशत शेयर के साथ इस लिस्ट में तीसरा नंबर हासिल किया।

वहीं, कोलकाता को देखें तो यहां एफएम सुनने वाले 9.1 मिलियन श्रोताओं में 27.4 प्रतिशत शेयर के साथ ‘रेडियो मिर्ची’ (Radio Mirchi) टॉप पर रहा है, जबकि 24.1 प्रतिशत श्रोताओं के साथ ‘बिग एफएम’ (Big FM) इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर रहा। इसके बाद इस लिस्ट में 13.9 प्रतिशत के साथ ‘फीवर एफएम’ (Fever FM) का नंबर रहा है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

‘रेडियो जयघोष’ की हुई शुरुआत, इस तरह के कार्यक्रमों को दिया जाएगा बढ़ावा

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में आयोजित एक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस कम्युनिटी रेडियो चैनल को किया लॉन्च

Last Modified:
Tuesday, 09 August, 2022
CM Yogi

लोक कलाओं और स्थानीय व्यंजनों को प्रमोट करने के लिए उत्तर प्रदेश के संस्कृति विभाग ने कम्युनिटी रेडियो चैनल ‘रेडियो जयघोष’ (Radio Jaighosh) की शुरुआत की है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को लखनऊ में  इस कम्युनिटी रेडियो चैनल को लॉन्च किया।

आजादी के अमृत महोत्सव के तहत आयोजित कार्यक्रमों की श्रंखला में काकोरी ट्रेन एक्सीडेंट की वर्षगांठ पर लखनऊ में मंगलवार को काकोरी स्मारक पर आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने इसे लॉन्च किया। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने लोगों से एकता और अखंडता की अपील की है। इसके साथ ही उन्होंने लोगों से पूरे जोश और उल्लास के साथ हर घर तिरंगा फहराने के लिए भी अपील की।

कार्यक्रम में उन्होंने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी, क्रांतिकारियों और शहीदों के परिजनों को सम्मानित करते हुए कहा कि क्रांतिकारियों ने आज ही के दिन काकोरी की प्रसिद्ध घटना को अंजाम दिया था। तमाम अत्याचारों के बावजूद विदेशी ताकतें देश के वीरों को रोक नहीं सकी थीं। 1857 में आजादी की पहली लड़ाई प्रदेश की इसी पावन धरती पर शुरू हुई।

बताया जाता है कि ‘रेडियो जयघोष’ यूपी संगीत नाटक अकादमी के पुनर्निर्मित स्टूडियो से रोजाना सुबह छह बजे से रात 10 बजे तक कार्यक्रमों का प्रसारण करेगा। ये कार्यक्रम इस रेडियो चैनल के मोबाइल ऐप और सोशल मीडिया पेज पर भी उपलब्ध होंगे।

दैनिक शो में शामिल 'पराक्रम' स्वतंत्रता से पहले और बाद के वीर सैनिकों और गुमनाम नायकों पर केंद्रित होगा,  जबकि 'शौर्य नगर' यूपी के सभी 75 जिलों से लोक-कथाओं को बढ़ावा देगा। 'कला यात्रा' कला पर आधारित होगा, वहीं 'राज्य की रसोई' यूपी के व्यंजनों पर, 'रंगशाला' थिएटर कलाकारों पर, 'राज्य की रफ्तार' सरकारी योजनाओं पर और 'रंग यात्रा' प्रदर्शन कलाओं पर आधारित होगी। शिक्षा पर साप्ताहिक शो भी होंगे।

गौरतलब है कि देश के इतिहास में काकोरी ट्रेन एक्शन बेहद ही महत्वपूर्ण घटना है। इस एक्शन का उद्देश्य अंग्रेजी शासन के विरूद्ध सरकारी खजाना लूटना और उन पैसों से हथियार खरीदना था। नौ अगस्त को ही रामप्रसाद बिस्मिल, चंद्रशेखर आजाद, अशफाक उल्लाह खान और उनके सात साथियों ने मिलकर काकोरी की घटना को अंजाम दिया था। इन शहीदों की याद में लखनऊ में काकोरी शहीद स्मारक भी बनाया गया है, जो काकोरी रेलवे स्टेशन से महज दो किलोमीटर दूर है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए