नियोन अवॉर्ड्स 2016 में इनका रहा दबदबा, देखें विजेताओं की पूरी लिस्ट

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।। एक्‍सचेंज4मीडिया (exchange4media) की वार्षिक आउट ऑफ होम कॉफ्रेंस (OOH Conference) और ‘नियोन अवॉर्ड्स 2016’ (NEONS Awards 2016) के विजेताओं की घोषणा 31 मार्च को गुड़गांव में आयोजित एक समारोह में की गई। कार्यक्रम में पॉपुलर चॉइस और एक्सीलेंस अवॉर्ड्स (Popular Choice and Excellence Awards) समेत कुल 52 अवॉ

Last Modified:
Friday, 01 April, 2016
awards-final
समाचार4मीडिया ब्यूरो ।। एक्‍सचेंज4मीडिया (exchange4media) की वार्षिक आउट ऑफ होम कॉफ्रेंस (OOH Conference) और ‘नियोन अवॉर्ड्स 2016’ (NEONS Awards 2016) के विजेताओं की घोषणा 31 मार्च को गुड़गांव में आयोजित एक समारोह में की गई। कार्यक्रम में पॉपुलर चॉइस और एक्सीलेंस अवॉर्ड्स (Popular Choice and Excellence Awards) समेत कुल 52 अवॉर्ड्स दिए गए। इनमें सबसे ज्यादा अवॉर्ड्स माइलस्टोन ब्रैंडकॉम (Milestone Brandcom) और मॉन्डलेज इंटरनेशनल (Mondelez International) की झोली में गिरे। एक्सीलेंस अवॉर्ड्स के अलावा कार्यक्रम में 17 गोल्ड, 16 सिल्वर और 12 ब्रॉन्ज  पदक प्रदान किए गए। Silk Now 'Bubbled Up for Joy!' को साल के सबसे बेहतरीन कैंपेन का खिताब मिला जबकि Milestone Brandcom ने ‘क्रिएटिव एजेंसी ऑफ द ईयर’ और ' मीडिया एजेंसी ऑफ द ईयर' दोनों अवॉर्ड्स पर अपना कब्जा जमाया। मॉन्डलेज इंटरनेशनल को ‘ओओएच एडवर्टाइजर ऑफ द ईयर’ खिताब दिया गया। हालांकि ‘काइनेटिक वर्ल्‍डवाइड’ (Kinetic Worldwide) को टॉप अवॉर्ड नहीं मिला, इसके बावजूद उसे सबसे ज्यादा 17 गोल्ड मिले। कार्यक्रम में पोस्टरस्कोप एशिया पैसिफिक (Posterscope Asia Pacific) के रीजनल डायरेक्टर और पोस्टरस्कोप ग्रुप इंडिया (Posterscope Group India) के एमडी हरीश नायक और माइलस्टोन ब्रैंडकॉम (Milestone Brandcom) के एमडी नाबेन्दु भट्टाचार्य (Nabendu Bhattacharyya) को संयुक्त रूप से ‘ओओएच पर्सन ऑफ द ईयर’ अवॉर्ड दिया गया। इसके अलावा रोशनस्पेस ब्रैंडकॉम (Roshanspace Brandcom) के संस्थापक अब्दुल कादर शेख को ‘लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड’ से नवाजा गया। कार्यक्रम का मुख्य स्पॉन्सर ट्राइब्स (Tribes) था। अन्य स्पॉन्‍सर्स और पार्टनर्स में लक्ष्य सॉल्यूशंस (Laqshya Solutions), प्रचार आउटडोर एडवर्टाइजिंग (को-स्पॉन्सर), Newsd (मोबाइल न्यूज पार्टनर) और 24 फ्रेम्स डिजिटल (लाइव वेबकास्ट पार्टनर) शामिल थे। विजेताओं की पूरी लिस्ट को आप यहां देख सकते हैं।
Campaign -Brand Agency SubCategory Metal
Oxygen Moisture Rapport Outdoor Advertising Pvt Ltd Innovative use of existing medium Silver
Play with Oreo Madison OOH Innovative use of existing medium Gold
The World's Biggest Ladoo Madison OOH Innovative creation of a new medium Bronze
Chai Cart - Get MORE on Amazon! Milestone Brandcom Innovative creation of a new medium Gold
Ola cabs - First Cab Ride Free Milestone Brandcom Best / Innovative brand fit within existing media Bronze
Axis Asha Home Loans Milestone Brandcom Best / Innovative brand fit within existing media Silver
Aircel Umbrella - We've got you covered Milestone Brandcom Best / Innovative brand fit within existing media Gold
Ola cabs- First Cab Ride Free Milestone Brandcom Most Innovative Use of Digital OOH Media Bronze
Silk Now Bubbled Up for Joy Kinetic Worldwide Most Innovative Use of Digital OOH Media Gold
My Nutella Jar Madison OOH Most Innovative Use of Indoor OOH Media in a Point-of-Purchase Environment Silver
Disney Avengers - Live depiction of Marvel Attributes Posterscope India Most Innovative Use of Indoor OOH Media in a Point-of-Purchase Environment Silver
BIBA Silver Screen Brandmovers India Most Innovative Use of Indoor OOH Media in a Point-of-Purchase Environment Gold
Free Smokes Kinetic WorldWide Most Innovative Use of Indoor OOH Media in a Point-of-Purchase Environment Gold
Axis Asha Home Loans Milestone Brandcom Most Innovative Use of Moving Media Bronze
Aaj Tak ka Gaon Connection Milestone Brandcom Most Innovative Use of Moving Media Bronze
Play with Oreo Madison OOH Best Outdoor Plan - Strategy Silver
The Big Billion Days Alakh Advertising & Publicity Pvt. Ltd. Best Outdoor Plan - Strategy Gold
BUILDING OF NEXA, the Brand ! Laqshya Media Group Most Effective Outdoor Plan Bronze
Aircel Umbrella - We've got you covered Milestone Brandcom Most Effective Outdoor Plan Silver
Silk Now Bubbled up for Joy! Kinetic WorldWide Most Effective Outdoor Plan Gold
Telenor Dandiya Milestone Brandcom Telecom Product & Services Bronze
Aircel Umbrella - We've got you covered Milestone Brandcom Telecom Product & Services Silver
Moto G Launch- Waterproof Kinetic WorldWide Telecom Product & Services Gold
Axis Asha Home Loans Milestone Brandcom Banking, Financial Services & Insurance Silver
Aaj Tak ka Gaon Connection Milestone Brandcom Entertainment & Media Silver
Baleno Dynamic Display- First Ever! Laqshya Media Group Automobiles Silver
Renault KWID - First hanging car installation at an Indian airport Times Innovative Media Ltd Automobiles Gold
The Sweet Recipe Book Kinetic WorldWide FMCG Bronze
Silk Now Bubbled up for Joy! Kinetic WorldWide FMCG
  समाचार4मीडिया देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया.कॉम में हम आपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुकपेज पर भी फॉलो कर सकते हैं। समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
TAGS media
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अब प्लेनेट मराठी में बड़ी जिम्मेदारी निभाएंगी पत्रकार जयंती वाघधरे

वाघधरे को मीडिया के क्षेत्र में काम करने का काफी अनुभव है। वह बॉलिवुड की तमाम सेलिब्रिटीज का इंटरव्यू कर चुकी हैं।

Last Modified:
Tuesday, 18 May, 2021
Jayanti Waghdhare

जानी-मानी पत्रकार जयंती वाघधरे ने ‘प्लेनेट मराठी’ (Planet Marathi) के साथ अपनी नई पारी शुरू की है। ‘जी मीडिया कॉरपोरेशन लिमिटेड’ (Zee Media Corporation Limited) में लंबे समय तक काम कर चुकीं जयंती ‘प्लेनेट मराठी’ में बतौर एवीपी (सोशल मीडिया) अपनी जिम्मेदारी संभालेंगी। वाघधरे को मीडिया के क्षेत्र में काम करने का लंबा अनुभव है। पूर्व में वह बॉलिवुड की तमाम सेलिब्रिटीज जैसे-शाहरुख खान, सलमान खान, दीपिका पादुकोण, माधुरी दीक्षित, काजोल आदि का इंटरव्यू कर चुकी हैं।

इस बारे में जयंती का कहना है, ‘एंटरटेनमेंट करेसपॉन्डेंट के रूप में काम करते हुए मैंने इस इंडस्ट्री के साथ काफी गहरा रिश्ता बना लिया है। टेलीविजन से लेकर फिल्मों तक और रीजनल से लेकर बॉलिवुड तक, मेरा प्रयास रहा है कि इंडस्ट्री की खबरों को सुर्खियों में लाया जाए। ‘जी’ के साथ मैंने मीडिया और कम्युनिकेशन के हर पहलू का अनुभव किया है, जिससे मुझे पहचान मिली है। लेकिन अब मैंने दुनिया के पहले मराठी ओटीटी प्लेटफॉर्म ‘प्लेनेट मराठी’-ओटीटी को और अधिक ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए यहां जॉइन किया है। इस अवसर को देने के लिए मैं अक्षय की आभारी हूं।’

वहीं, इस बारे में प्लेनेट मराठी के सीएमडी अक्षय बरदापुरकर का कहना है, ‘प्लेनेट मराठी में जयंती के शामिल होने पर हम बहुत खुश हैं। हम अपने ऑडियंस के साथ घनिष्ठ संबंध रखना चाहते हैं और जयंती के साथ हम इन संबंधों को प्रभावी ढंग से बनाने में सक्षम होंगे, जिन्हें मीडिया की काफी गहरी समझ है।‘

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

NDTV से जुड़े वरिष्ठ पत्रकार दिनेश मानसेरा को उत्तराखंड CM ने दी बड़ी जिम्मेदारी

सचिवालय प्रशासन के संयुक्त सचिव एनएस डुंगरियाल ने उनकी नियुक्ति के विधिवत आदेश जारी कर दिए हैं।

Last Modified:
Tuesday, 18 May, 2021
Dinesh Manesara

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने एनडीटीवी के वरिष्ठ पत्रकार दिनेश मानसेरा को अपना मीडिया सलाहकार नियुक्त किया है। दिनेश मानसेरा करीब 25 वर्षों से पत्रकारिता के क्षेत्र में सक्रिय हैं और विभिन्न अखबारों व टीवी चैनल्स में कार्य कर चुके हैं।

हल्द्वानी निवासी दिनेश मानसेरा लंबे समय तक पांचजन्य अखबार से जुड़े रहे हैं। फिलहाल वह एनडीटीवी में कुमाऊँ मंडल के प्रभारी भी हैं।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, सचिवालय प्रशासन के संयुक्त सचिव एनएस डुंगरियाल ने उनकी नियुक्ति के विधिवत आदेश जारी कर दिए हैं। बता दें कि उत्तराखंड में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के कुर्सी संभालने के बाद से उनका मीडिया सलाहकार नियुक्त किए जाने की कवायद चल रही थी। इसके लिए कई नाम चर्चा में थे, लेकिन उन्होंने दिनेश मानसेरा को इस पद पर जिम्मेदारी देकर सभी अटकलों पर विराम लगा दिया है।

इस बारे में जारी आदेश को आप यहां देख सकते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

भारतीय पत्रकार संगठनों ने की एपी, अल जजीरा के कार्यालयों वाली इमारत पर हमले की निंदा

एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया समेत कई अन्य पत्रकार संगठनों ने गाजा में उस इमारत पर इजरायल के हवाई हमले की निंदा की, जहां एपी, अल-जजीरा और अन्य मीडिया संगठनों के कार्यालय हैं।

Last Modified:
Monday, 17 May, 2021
media-building78

एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया (ईजीआई) समेत कई अन्य भारतीय पत्रकार संगठनों ने गाजा में उस इमारत पर इजरायल के हवाई हमले की रविवार को निंदा की, जहां एसोसिएटेड प्रेस (एपी), अल-जजीरा और अन्य मीडिया संगठनों के कार्यालय हैं।

एडिटर्स गिल्ड ने एक बयान में कहा कि हाल ही में इस क्षेत्र में ‘बढ़ते संघर्ष’ की पृष्ठभूमि में वह इस हवाई हमले को ‘इजरायल सरकार द्वारा खबरिया मीडिया पर वास्तविक हमले’  के रूप में देखती है जिससे इस अति अस्थिर क्षेत्र से खबरों का प्रवाह बाधित हो सकता है और जिससे वैश्विक सुरक्षा जटिलताएं उत्पन्न हो सकती हैं।

संगठन ने कहा, ‘एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया गाजा में उस भवन पर हवाई हमले की कड़ी निंदा करती है जहां अल जजीरा एवं एसोसिएटेड प्रेस के कार्यालय हैं।’

संगठन ने यह भी मांग की कि इजरायल सरकार इस हमले की वजह पर विस्तृत रूप से स्पष्टीकरण दे और अपनी सफाई के पक्ष में प्रमाण सामने रखे।

एडिटर्स गिल्ड ने कहा, ‘गिल्ड यह भी आह्वान करती है कि इजरायल सरकार इस बमबारी की संयुक्त राष्ट्र की निगरानी में जांच का मार्ग प्रशस्त करे। साथ ही गिल्ड भारत सरकार से यह मुद्दा इजरायल सरकार के समक्ष उठाने की अपील करती है।’

इंडियन वूमेन प्रेस कॉर्प्स, प्रेस एसोसिएशन और प्रेस क्लब ऑफ इंडिया ने भी संयुक्त बयान में इजराइली सेना की कार्रवाई की निंदा की है।

उन्होंने कहा कि मीडिया कार्यालयों पर बमबारी करने एवं उनके कर्मियों एवं संसाधनों को निशाना बनाने को किसी भी तरह उचित नहीं ठहराया जा सकता।

वहीं दूसरी तरफ बिल्डिंग पर इजरायली सेना के हमले को इजरायल के प्रधानमंत्री बिन्यामिन नेतन्याहू ने सही ठहराया है। उन्होंने अमेरिकी समाचार चैनल सीबीएस को दिए इंटरव्यू में कहा कि वहां पर ‘फिलीस्तीनी आतंकी संगठन का खुफिया दफ्तर था जो इजरायली नागरिकों पर आतंकी हमलों की योजना बनाता था और अंजाम देता था, इसलिए हमारा निशाना पूरी तरह वैध था।’

बता दें कि गाजा में इजरायली सेना ने मीडिया हाउस की बिल्डिंग पर शनिवार को हमला कर उसे क्षतिग्रस्त कर दिया था। हवाई हमले से यह पूरी बिल्डिंग ताश के पत्तों की तरह ढह गई थी। इस 12 मंजिला वाली बिल्डिंग में अमेरिका स्थित न्यूज एजेंसी ‘एसोसिएटेड प्रेस’ और कतर स्थित न्यूज चैनल ‘अल जज़ीरा’ जैसे मीडिया संस्थान के दफ्तर थे। 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

नहीं रहे दूरदर्शन केंद्र पटना के पूर्व निदेशक पुरुषोत्तम नारायण सिंह

दूरदर्शन केंद्र पटना के पूर्व निदेशक और कवि पुरुषोत्तम नारायण सिंह नहीं रहे। गुरुवार रात करीब 12 बजे उन्होंने हरियाणा के झज्जर स्थित सबसे बड़े अस्पताल एम्स में अपनी अंतिम सांसे ली।

Last Modified:
Saturday, 15 May, 2021
Onkareshwar-Pandey4545

दूरदर्शन केंद्र पटना के पूर्व निदेशक और कवि पुरुषोत्तम नारायण सिंह नहीं रहे। कोरोना वायरस संक्रमण संबंधी जटिलताओं के चलते निधन हो गया। गुरुवार रात करीब 12 बजे उन्होंने हरियाणा के झज्जर स्थित सबसे बड़े अस्पताल एम्स में अपनी अंतिम सांसे ली।

बता दें कि दो दिनों पूर्व कोरोना ने उनके युवा पुत्र को उनसे छीन लिया था। उनके निधन पर वरिष्ठ पत्रकार ओंकेश्वर पांडे ने उन्हें श्रद्धांजलि दी और याद करते हुए एक पोस्ट लिखी है, जिसे आप यहां पढ़ सकते हैं-

मेरे मित्र, पड़ोसी और पटना दूरदर्शन के पूर्व निदेशक पुरुषोत्तम नारायण सिंह नहीं रहे। I am going.... ये तीन शब्द आज मेरे वॉट्सऐप पर तीन बजकर तिरपन मिनट पर चमके, तो कलेजा सिहर उठा। मैसेज पी.एन. सिंह का था। तत्काल फोन वापस लगाया तो उधर से चिर-परिचित आवाज़ पी.एन. सिंह की थी। लड़खड़ाती आवाज़ में बोले- सबको बता दीजिए पांडे जी, मैं जा रहा हूं। मैं कुछ कहता इससे पहले, फोन काट दिया और फिर नहीं उठाया... देर शाम दिल का दौरा पड़ा और रात 11.53 पर उनके निधन की पुष्टि हो गयी।

करीब 10 दिनों से वे कोरोना से पीड़ित थे। हालत गंभीर हुई तो झज्जर एम्स में भर्ती कराया गया। हर संभव इलाज हुआ, लेकिन चार दिन पहले जब उनका इकलौता बेटा आलाप कोरोना के कारण गुजर गया, तो वे हिम्मत हार गये।

बहुआयामी प्रतिभा के धनी पी.एन. सिंह दूरदर्शन के गलियारे में सुपरिचित नाम तो थे ही, वह एक कवि, संगीतकार, नाटककार, शोधकर्ता, प्रस्तुतकर्ता/ एंकर, और सबसे बढ़कर एक मृदु भाषी इंसान थे। दूरदर्शन में एक निर्माता और निर्देशक होने के साथ साथ टेलीविजन प्रॉडक्शन एंड मैनेजमेंट के अलावा चैनल प्रबंधक के रूप में भी उन्होंने कुल मिलाकर 26 साल तक काम किया और इस दौरान विभिन्न प्रारूपों में 2000 से अधिक टीवी कार्यक्रमों का निर्माण किया।

वे डीडी-नेशनल, डीडी-मेट्रो और डीडी-भारती में वरिष्ठ प्रबंधन के पद पर रहे। दूरदर्शन का रांची केंद्र और पटना केंद्र खोला। 2003 से मीडिया मार्केटिंग में भी रहे और 2003 में डीडी के राजस्व को 21 करोड़ रुपए से बढ़ाकर 2010 में 260 करोड़ रुपए तक का अद्भुत ग्राफ पहुंचाने में योगदान रहा।

दो साल पहले डीडी से रिटायर होने के बाद से वे कुछ फिल्म निर्माण और पं. सुरेश नीरव के अखिल भारतीय सर्व भाषा साहित्य समन्वय समिति के मंच से जुड़कर साहित्य सेवा में लगे हुए थे। उनके परिवार में उनकी पत्नी, बहू और सवा साल की एक पोती है। ईश्वर उनकी आत्मा को शान्ति दें।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

12 मंजिला बिल्डिंग पर इजरायली सेना की एयर स्ट्राइक, कई मीडिया संस्थानों के ऑफिस तबाह

इजरायल और फिलीस्तीन के बीच युद्ध बढ़ता ही जा रहा है। गाजा में इजरायली सेना ने मीडिया हाउस की बिल्डिंग पर शनिवार को हमला कर उसे क्षतिग्रस्त कर दिया।

Last Modified:
Saturday, 15 May, 2021
Al-jazeera57

इजरायल और फिलीस्तीन के बीच युद्ध बढ़ता ही जा रहा है। गाजा में इजरायली सेना ने मीडिया हाउस की बिल्डिंग पर शनिवार को हमला कर उसे क्षतिग्रस्त कर दिया। हवाई हमले से यह पूरी बिल्डिंग ताश के पत्तों की तरह ढह गई। इस 12 मंजिला वाली बिल्डिंग में अमेरिका स्थित न्यूज एजेंसी ‘एसोसिएटेड प्रेस’ और कतर स्थित न्यूज चैनल ‘अल-जज़ीरा’ जैसे मीडिया संस्थान के दफ्तर थे। न्यूज एजेंसी एसोसिएटेड प्रेस (एपी) ने खुद इस बात की जानकारी दी है।

एपी के मुताबिक, ये एयर स्ट्राइक इजरायल की सेना की उस चेतावनी के बाद आई, जिसमें उन्होंने बिल्डिंग को खाली करने के लिए कहा था।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हमले से पहले इजरायल की ओर से यह चेतावनी जारी की गई थी कि वह अगले एक घंटे के भीतर गाजा शहर में अल-जजीरा के ऑफिस और अन्य अंतरराष्ट्रीय मीडिया आउटलेट्स वाली इमारत पर हमला करेगा।

रिपोर्ट के मुताबिक, इस 12 मंजिला इमारत के मालिक का कहना था कि उन्हें इजरायल की सेना से एक कॉल आया था, जिसमें उन्हें चेतावनी दी गई कि उनकी इमारत को हवाई हमले से निशाना बनाया जाएगा।

अल-जजीरा की प्रड्यूसर ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि उनके सहकर्मी ऑफिस से निकल चुके हैं। उन्होंने बताया कि अल-जज़ीरा ने इजरायल के खुफिया अधिकारी और जला भवन के मालिक अबू हुसम के बीच फोन कॉल (स्पीकर पर) का सीधा प्रसारण किया। अधिकारी ने कहा कि बिल्डिंग के मालिक ने इजरायली अधिकारी से कहा कि मीडिया को इमारत से अपने उपकरण निकालने के लिए समय दें, लेकिन अधिकारी ने इसके लिए मना कर दिया।

इससे पहले इजराइल और हमास (इजराइल इसे आतंकी संगठन मानता है) के बीच जारी जंग में 126 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें 31 बच्चे भी शामिल हैं। दोनों तरफ के हमलों में 950 से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं। मरने वालों में 9 इजराइली और बाकी फिलिस्तीनी हैं।

यहां देखें वीडियो:

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

सुप्रीम कोर्ट ने पत्रकारों को दी अच्छी खबर, लॉन्च किया ये मोबाइल ऐप

देशभर में कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने पत्रकारों के लिए अदालती कार्यवाही को कवर करने के लिए एक मोबाइल ऐप लॉन्च किया है

Last Modified:
Saturday, 15 May, 2021
SC45

देशभर में कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने पत्रकारों के लिए अदालती कार्यवाही को कवर करने के लिए एक मोबाइल ऐप लॉन्च किया है, ताकि उन्हें महामारी के दौरान अदालत न जाना पड़े।

ऐप लॉन्च के मौके पर चीफ जस्टिस एनवी रमन्ना ने कहा कि ऐप लॉन्च होने के बाद मीडियाकर्मियों को कोर्ट आने के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा। सुप्रीम कोर्ट के सेक्रेटरी जनरल ने बताया कि ये मोबाइल ऐप जल्द ही गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध होगा।

चीफ जस्टिस ने इस मौके पर कहा, ‘सुप्रीम कोर्ट और मीडिया के बीच कोऑर्डिनेशन के लिए एक व्यक्ति को नियुक्त किया जाएगा। मुझे उम्मीद है कि मीडिया के लोग जिम्मेदारी से इस सुविधा का इस्तेमाल करेंगे।’

बतौर पत्रकार अपने दिनों को याद करते हुए चीफ जस्टिस रमन्ना ने कहा, ‘रिपोर्टिंग में मीडिया को कड़ी चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। 'मैं कुछ वक्त के लिए पत्रकार था। उस वक्त हमारे पास कार या बाइक नहीं थी। हम बस में यात्रा करते थे क्योंकि हमसे कहा गया था कि आयोजकों से परिवहन सुविधा नहीं लेनी है।' उन दिनों रिपोर्ट करने के लिए मैंने इन कठिनाइयों का भी सामना किया था।’

आगे सीजेआई ने कहा कि उन्हें पता चला है कि अदालती सुनवाई पर खबरें लिखने के लिए पत्रकारों को वकीलों पर निर्भर होना पड़ रहा है। इसलिए इस तरह की व्यवस्था की गई। उन्होंने कहा कि इसके मद्देनजर ऐसी प्रक्रिया विकसित करने का अनुरोध किया गया था जिसकी मदद से मीडियाकर्मी सुनवाई में शामिल हो सकें।  

उन्होंने कहा कि महामारी ने हर किसी को प्रभावित किया है। कोर्ट में संक्रमण का पहला मामला 27 अप्रैल 2020 को आया था। इसके बाद अब तक सुप्रीम कोर्ट के 800 स्टाफ संक्रमित हुए हैं। 6 सीनियर रजिस्ट्री स्टाफ भी पॉजिटिव हुए और 3 की मौत हो गई।’

चीफ जस्टिस रमन्ना ने कहा कि कोर्ट की सुनवाई में पारदर्शिता बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा, ‘कभी-कभी हमनें सुरक्षा कारणों से लोगों को आने से प्रतिबंधित किया है। कोर्ट की सुनवाई का लोगों तक पहुंच होना महत्वपूर्ण है क्योंकि उन्हें पता चलना चाहिए कि इससे किस पर प्रभाव पड़ेगा या नहीं पड़ेगा। मीडिया इस सूचना को पहुंचाने में एक महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है। कोविड ने ऐसी स्थिति पैदा कर दी कि हम अपने परिवार के सदस्यों से अपने घर (कोर्ट) में मिलने में अयोग्य हैं। कोर्ट को वर्चुअल प्लैटफॉर्म पर लाना बहुत मुश्किल प्रक्रिया है।’

उन्होंने कहा कि जस्टिस एएम खानविलकर, जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ और जस्टिस हेमंत गुप्ता और सभी रजिस्ट्री अधिकारियों ने इस ऐप के लिए बहुत मेहनत की है, उन सबका धन्यवाद किया जाना चाहिए।  

जस्टिस चंद्रचूड़ बुधवार को ही कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे। उन्होंने कहा कि वे ठीक हो रहे हैं। जस्टिस चंद्रचूड़ ने कहा, ‘इस ऐप को डेवलेप करने वाले हमारे कई स्टाफ संक्रमित है। इस पर काम करने वाले सभी 6 लोग पॉजिटिव पाए गए है। हम उम्मीद करते हैं कि इस सुविधा से सभी सुरक्षित रहेंगे। उम्मीद है कि सीजेआई की तरफ से आने वाले समय में कई तरह के उठाए जाने वाले कदमों का यह हिस्सा है।’

मीडिया से संसाधन (ऐप) का जिम्मेदारीपूर्ण उपयोग करने और कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करने का अनुरोध करते हुए प्रधान न्यायाधीश ने कहा कि तकनीक, विशेष रूप से नई तकनीक संवेदनशील है और उपयोग के शुरुआती दिनों में कुछ दिक्कतें भी आ सकती हैं।

चीफ जस्टिस रमन्ना ने कहा कि छोटी-छोटी दिक्कतें आएंगी और उन्हें बेकार में बहुत बढ़ाया-चढ़ाया नहीं जाना चाहिए। मैं सभी से धीरज रखने और तकनीकी टीम का साथ देने का अनुरोध करता हूं ताकि ऐप्लीकेशन बिना किसी दिक्कत के सही तरीके से काम कर सके। मैं आशा करता हूं कि सभी लोग प्रणाली को बेहतर बनने और सही से काम करने का वक्त देंगे।

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

पत्रकारों के हित में यहां की सरकार ने लिया बड़ा फैसला

पत्रकार कल्याण योजना के जरिए उन्हें सहायता दी जा रही है। शासकीय अस्पताल, अनुबंधित निजी अस्पताल में सभी के लिए मुफ्त इलाज की सुविधा भी है।

Last Modified:
Saturday, 15 May, 2021
journalist534.jpg

मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार ने पत्रकारों के हित में एक अहम फैसला लिया है। सरकार ने तय किया है कि राज्य में यदि कोई पत्रकार या उनके परिवार का कोई सदस्य कोरोना से पीड़ित होता है तो उनका इलाज सरकार कराएगी। खास बात ये है कि इस फैसले में अधिमान्य और गैर अधिमान्य दोनों पत्रकार शामिल हैं।

सरकार की ओर से लिये गए फैसले के बाद सीएम शिवराज ने कहा मीडिया के प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक, डिजिटल के सभी सदस्य, अधिमान्य और गैर अधिमान्य पत्रकारों के कोरोना इलाज की चिंता सरकार करेगी। इस योजना में प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक और डिजिटल के संपादकीय विभाग में काम कर रहे सभी पत्रकार, डेस्क में पदस्थ पत्रकार साथी, कैमरामैन, फोटोग्राफर सभी को शामिल किया जाएगा। मीडिया के साथियों के परिवार के कोरोना इलाज की चिंता भी सरकार करेगी। सभी मीडिया के साथी कोरोना महामारी के काल में जन जागृति का धर्म निभा रहे हैं।

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश में अधिमान्य और गैर अधिमान्य पत्रकार साथियों को पहले से ही पत्रकार बीमा योजना तहत इलाज की व्यवस्था की गई है। पत्रकार कल्याण योजना के जरिए उन्हें सहायता दी जा रही है। शासकीय अस्पताल, अनुबंधित निजी अस्पताल में सभी के लिए मुफ्त इलाज की सुविधा भी है। अब प्रदेश भर के प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक और डिजिटल मीडिया के संपादकीय विभाग के सभी मीडिया कर्मी, अधिमान्य या गैरअधिमान्य और उनके परिवार का कोविड का उपचार सरकार कराएगी।



 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

पत्रकारों के हित में मध्य प्रदेश सरकार ने लिया ये महत्वपूर्ण फैसला

मध्य प्रदेश सरकार ने पत्रकारों के हित में एक बड़ा फैसला लिया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसकी घोषणा की है।

Last Modified:
Friday, 14 May, 2021
Media Coverage

मध्य प्रदेश सरकार ने पत्रकारों के हित में एक बड़ा फैसला लिया है। दरअसल, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घोषणा की है कि राज्य के मीडियाकर्मियों के कोरोना का इलाज प्रदेश सरकार कराएगी। इस योजना में प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक व डिजिटल के संपादकीय विभाग में कार्य कर रहे सभी पत्रकार, डेस्क में पदस्थ पत्रकार साथी, कैमरामैन और फोटोग्राफर्स सभी को शामिल किया जाएगा।

शिवराज सिंह चौहान का कहना है कि सभी मीडिया के साथी कोरोना महामारी के काल में जन जागृति का धर्म निभा रहे हैं। ऐसे में प्रदेश के प्रिंट,  इलेक्ट्रॉनिक व डिजिटल मीडिया के संपादकीय विभाग के सभी मीडिया कर्मी,  अधिमान्य या गैअधिमान्य और उनके परिवार के सदस्यों के कोरोना संक्रमण का इलाज सरकार कराएगी, ताकि पत्रकारों को परेशानी न हो।

इसके साथ ही उनका यह भी कहना था कि मध्य प्रदेश में अधिमान्य और गैरअधिमान्य पत्रकारों को पहले से ही पत्रकार बीमा योजना अंतर्गत इलाज की व्यवस्था की गई है। पत्रकार कल्याण योजना द्वारा सहायता दी जा रही है। शासकीय अस्पताल,  अनुबंधित निजी अस्पताल में सभी के लिए मुफ्त इलाज की सुविधा भी है।

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Zee के MD पुनीत गोयनका ने टाइम्स समूह की चेयरपर्सन इंदु जैन को दी श्रद्धांजलि, कही ये बात

‘टाइम्स समूह’ (The Times Group) की चेयरपर्सन इंदु जैन के निधन पर सोशल मीडिया पर उन्हें श्रद्धांजलि देने वालों का तांता लगा हुआ है।

Last Modified:
Friday, 14 May, 2021
Indu Jain-Punit Goenka

‘टाइम्स समूह’ (The Times Group) की चेयरपर्सन इंदु जैन के निधन पर सोशल मीडिया पर उन्हें श्रद्धांजलि देने वालों का तांता लगा हुआ है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राजनीति व मीडिया समेत विभिन्न क्षेत्रों से जुड़ीं तमाम हस्तियों ने इंदु जैन के निधन पर शोक जताते हुए श्रद्धांजलि दी है।  

वहीं, 'जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड’ (ZEEL) के मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ पुनीत गोयनका ने भी इंदु जैन के निधन पर शोक जताया है और उन्हें श्रद्धांजलि दी है। अपने ट्वीट में पुनीत गोयनका का कहना है, ‘कल रात से मैंने श्रीमती इंदु जैन द्वारा लिखा गया हृदयस्पर्शी पत्र कई बार पढ़ा है। लेकिन मुझे नहीं लगता कि अभी तक इसकी गहराई का अनुमान लगाया जा सका है। सरल, लेकिन शक्तिशाली शब्दों में उन्होंने काफी खूबसूरती से हमारे लिए मृत्यु के अर्थ को स्पष्ट किया है। उनकी अंतिम इच्छा का सम्मान करते हुए हमें हर मुस्कुराहट में उनकी तलाश करनी चाहिए और उन्हें महसूस करना चाहिए। उनकी आत्मा और उनके परिवार के लिए मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूं।’

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इंदु जैन ने इंदु अपने निर्वाण को लेकर अपने मित्रों को तैयार करने के लिए कुछ साल पहले एक पत्र लिखा था। उन्होंने इस पत्र के जरिए इच्छा जताई थी कि उनकी मृत्यु का उत्सव मनाया जाए।

गौरतलब है कि कई दिनों से कोरोनावायरस (कोविड-19) के संक्रमण से जूझ रहीं इंदु जैन का गुरुवार की देर शाम निधन हो गया था। वह 84 वर्ष की थीं। इंदु जैन ‘द टाइम्स फाउंडेशन’ की अध्यक्ष भी थीं, जिसे उन्होंने स्थापित किया था। टाइम्स फाउंडेशन बाढ़, चक्रवात, भूकंप और महामारी जैसी आपदा राहत के लिए सामुदायिक सेवा, अनुसंधान फाउंडेशन और टाइम्स रिलीफ फंड चलाता है। वह भारतीय ज्ञानपीठ ट्रस्ट की अध्यक्ष भी थीं, जो प्रतिष्ठित ज्ञानपीठ पुरस्कार प्रदान करती है। इसके अलावा उन्होंने महिलाओं के अधिकारों को लेकर भी आवाज उठाई। जनवरी 2016 में इंदु जैन को भारत सरकार द्वारा पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था।

कई बार फोर्ब्स के सबसे अमीर शख्सियतों की लिस्ट में आ चुकीं इंदु जैन FICCI की महिला विंग (FLO) की फाउंडर प्रेजिडेंट भी थीं। अपनी मानवता और देश भर में कई चैरिटी के लिए पहचानी जाने वाली इंदु जैन ने मीडिया के विकास में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

टाइम्स ग्रुप की चेयरपर्सन इंदु जैन के निधन पर तमाम हस्तियों ने जताया शोक, दी श्रद्धांजलि

‘टाइम्स समूह’ की चेयरपर्सन और देश की जानी-मानी मीडिया शख्सियत इंदु जैन के निधन पर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री समेत राजनीति व मीडिया जगत से जुड़ी तमाम हस्तियों ने उन्हें श्रद्धांजलि दी है।

Last Modified:
Friday, 14 May, 2021
Indu Jain Tribute

देश के बड़े मीडिया समूहों में शुमार ‘टाइम्स समूह’ (The Times Group) की चेयरपर्सन और देश की जानी-मानी मीडिया शख्सियत इंदु जैन के निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत राजनीति व मीडिया जगत से जुड़ी तमाम हस्तियों ने उन्हें श्रद्धांजलि दी है।

इंदु जैन को श्रद्धांजलि देते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपने ट्वीट में कहा है, 'टाइम्स समूह की अध्यक्ष श्रीमती इंदु जैन के निधन में, हमने एक बेमिसाल मीडिया लीडर और कला और संस्कृति की एक महान संरक्षक को खो दिया। उन्होंने उद्यमिता, आध्यात्मिकता और परोपकार के क्षेत्रों में अपनी विशेष छाप छोड़ी। उनके परिवार, दोस्तों और प्रशंसकों के प्रति संवेदना।' 

अपने ट्वीट में पीएम नरेंद्र मोदी का कहना है, ‘टाइम्स ग्रुप की चेयरपर्सन इंदु जैन के निधन से दुखी हूं। उन्हें उनकी सामुदायिक सेवा की पहलों, भारत की प्रगति के प्रति जुनून और हमारी संस्कृति में गहरी रुचि के लिए याद किया जाएगा। मुझे उनके साथ अपनी बातचीत याद है। उनके परिवार के प्रति संवेदना।’

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी इंदु जैन को अपनी श्रद्धांजलि दी है। 

वहीं, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘टाइम्स ग्रुप’ की अध्यक्ष श्रीमती इंदु जैन के निधन की खबर सुन दुखी हूं। परिवार और ‘टाइम्स ग्रुप’ को मेरी संवेदनाएं।’

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने ट्वीट किया, 'टाइम्स समूह के अध्यक्ष इंदु जैन जी के निधन से दुखी हूं। उन्हें सामाजिक कार्यों में उनके योगदान, भारतीय संस्कृति के लिए उनके जुनून के लिए हमेशा याद किया जाएगा। ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करे। ओम शांति।'

इंदु जैन को श्रद्धांजलि देते हुए खेल मंत्री किरण रिजिजू ने ट्वीट किया, 'टाइम्स ग्रुप की अध्यक्षा श्रीमती इंदु जैन जी के दुखद निधन को सुनकर दुख हुआ। वह एक प्रसिद्ध परोपकारी और आजीवन आध्यात्मिक साधक थी। विनीत जैन जी और पूरे टाइम्स परिवार के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना। उन्हें हमेशा दया, परोपकार और दया के लिए याद किया जाएगा।'

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने इंदु जैन को श्रद्धांजलि देते हुए ट्वीट किया है, टाइम्स ग्रुप की चेयरपर्सन श्रीमती इंदु जैन के निधन के बारे में सुनकर दुख हुआ। उन्हें एक भावुक परोपकारी, महिला अधिकारों की प्रबल प्रस्तावक और एक प्रेरणादायक नेता के रूप में याद किया जाएगा। विनीज जैन और पूरे टाइम्स परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं। ओम शांति।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इंदु जैन को श्रद्धांजलि देते हुए अपने ट्वीट में कहा है, 'टाइम्स ग्रुप की चेयरपर्सन श्रीमती इंदु जैन जी का निधन अत्यंत दुःखद है। राष्ट्रहित व जन सेवा हेतु आपका उत्कृष्ट योगदान अविस्मरणीय है। प्रभु श्री राम से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्मा को अपने परम धाम में स्थान व शोकाकुल परिजनों को यह दुःख सहन करने की शक्ति प्रदान करें।

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने लिखा, 'टाइम्स ग्रुप की चेयरपर्सन श्रीमती इंदु जैन जी के निधन का दुखद समाचार प्राप्त हुआ।  इंदु जी का निधन पत्रकारिता जगत एवं समाज के लिए अपूरणीय क्षति है। ईश्वर पुण्यात्मा को शांति प्रदान करें और परिजनों सहित समर्थकों को संबल दें। विनम्र श्रद्धांजलि! ॐ शांति: शांति:' 

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट कर कहा, 'टाइम्स ग्रुप की चेयरपर्सन पद्म भूषण इंदु जैन जी के निधन पर मेरी गहरी संवेदना। महिलाओं के अधिकारों की प्रस्तावक और एक परोपकारी के रूप में मीडिया उद्योग में उनके योगदान को हमेशा याद किया जाएगा। इस नुकसान को सहन करने के लिए उसके परिवार को ताकत मिले।'

वहीं, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी इंदु जैन के निधन पर शोक जताते हुए कहा कि राष्ट्र निर्माण की उनकी प्रतिबद्धता के लिए उन्हें हमेशा याद किया जाएगा। केजरीवाल ने ट्वीट किया, "इंदु जैन जी के निधन से काफी दुखी हूं. परोपकार संबंधी कार्यों और राष्ट्र निर्माण को लेकर उनकी प्रतिबद्धता के लिए उन्हें हमेशा याद किया जाएगा. परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं. ओम शांति।"

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी जैन के परिवार के प्रति संवेदनाएं व्यक्त कीं। उन्होंने ट्वीट किया, "विनीत जी, आपके लिए बेहद दुखी हूं. मुझे कई बार निजी तौर पर भी उन्होंने अपना आर्शीवाद दिया. भगवान उनकी आत्मा को शांति दे. ओम शांति।"

इनके अलावा फिल्म अभिनेता रितेश देशमुख ने भी इंदु जैन के निधन पर शोक जताते हुए उन्हें अपनी श्रद्धांजलि दी है। अपने ट्वीट में रितेश देशमुख ने कहा है, 'श्रीमती इंदु जैन के जाने से बहुत दुखी हूं। वह टाइम्स ऑफ इंडिया और उसके कई इनिशिएटिव्स में अहम रोल निभाया और गाइड करती रहीं। वह एक ऐसी समाज सेविका थीं, जिन्होंने कई जिंदगियां रोशन कीं। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे। विनीत जैन जी और पूरे टाइम्स परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं।'

 जाने-माने क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने भी इंदु जैन के निधन पर ट्वीट करके शोक जताया है।

गौरतलब है कि इंदु जैन का करीब 84 वर्ष की उम्र में गुरुवार को निधन हो गया था। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इंदु जैन कई दिनों से कोरोना संक्रमण से जूझ रही थीं और इन दिनों अस्पताल में भर्ती थीं। इंदु जैन ‘द टाइम्स फाउंडेशन’ की अध्यक्ष थीं, जिसे उन्होंने स्थापित किया था। टाइम्स फाउंडेशन बाढ़, चक्रवात, भूकंप और महामारी जैसी आपदा राहत के लिए सामुदायिक सेवा, अनुसंधान फाउंडेशन और टाइम्स रिलीफ फंड चलाता है। वह भारतीय ज्ञानपीठ ट्रस्ट की अध्यक्ष भी थीं, जो प्रतिष्ठित ज्ञानपीठ पुरस्कार प्रदान करती है। इसके अलावा उन्होंने महिलाओं के अधिकारों को लेकर भी आवाज उठाई। जनवरी 2016 में इंदु जैन को भारत सरकार द्वारा पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था।

कई बार फोर्ब्स के सबसे अमीर शख्सियतों की लिस्ट में आ चुकीं इंदु जैन FICCI की महिला विंग (FLO) की फाउंडर प्रेजिडेंट भी थीं। अपनी मानवता और देश भर में कई चैरिटी के लिए पहचानी जाने वाली इंदु जैन ने मीडिया के विकास में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए