आजतक से जुड़ीं युवा पत्रकार श्‍वेता सिंह राजपूत

युवा पत्रकार श्‍वेता सिंह राजपूत ने अपने पत्रकारिता करियर की औपचारिक शुरुआत ‘आजतक’ से की है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Monday, 13 December, 2021
Last Modified:
Monday, 13 December, 2021
Shweta Singh Rajput

युवा पत्रकार श्‍वेता सिंह राजपूत ने अपने पत्रकारिता करियर की औपचारिक शुरुआत ‘आजतक’ से की है। वह ‘आजतक’ (डिजिटल) से बतौर सब एडिटर जुड़ी हैं। यहां उन्‍हें डिजिटल वीडियो टीम में जिम्मेदारी दी गई है।

मूल रूप से बिहार की रहने वाली श्‍वेता सिंह राजपूत पिछले कुछ वर्षों से नोएडा में रह रही हैं। इससे पहले वह ‘आजतक’ और ‘टाइम्‍स नाउ नवभारत‘ में इंटरर्नशिप कर चुकी हैं।

पढ़ाई-लिखाई की बात करें तो श्‍वेता सिंह राजपूत ने नोएडा स्थित शारदा यूनिवर्सिटी से पत्रकारिता की शिक्षा ली है और कुछ वर्षों से तमाम मीडिया संस्थानों के लिए फ्रीलांस काम कर रही थीं। अब उन्होंने मेनस्ट्रीम मीडिया में औपचारिक रूप से कदम रखा है।

समाचार4मीडिया की ओर से श्‍वेता सिंह राजपूत को उनकी इस पारी के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

NBT ऑनलाइन से अलग होकर शिवम भट्ट ने पकड़ा 'हिन्दुस्तान' का हाथ

मूल रूप से लखीमपुर-खीरी के रहने वाले शिवम भट्ट ने 2014-2015 सत्र में भारतीय जन संचार संस्थान (IIMC) से पत्रकारिता में पीजी डिप्लोमा किया है।

Last Modified:
Friday, 27 May, 2022
shivam-bhatt458

'टाइम्स ग्रुप' के नवभारत टाइम्स ऑनलाइन के साथ लगातार 7 साल तक काम करने के बाद युवा पत्रकार शिवम भट्ट ने ‘हिन्दुस्तान’ (डिजिटल) के साथ नई पारी की शुरुआत की है। एनबीटी ऑनलाइन में रहते हुए शिवम ने अलग-अलग टीमों में महत्वपूर्ण भूमिकाएं निभाईं। एनबीटी ऑनलाइन में रहते हुए सितंबर 2016 से दिसंबर 2017 तक नवभारत टाइम्स की सोशल मीडिया टीम को लीड किया।

एनबीटी ऑनलाइन में अपने करियर के दौरान शिवम ने 'सिस्टम के दीमक' जैसी सीरीज पर काम किया। इसके अलावा शिवम की ही स्टोरी थी जिस पर देशभर में रेलवे की ई-कैटरिंग में धांधली करने वाले और पैसेंजर्स को परेशान करने वाले वेंडर्स को ब्लैकलिस्ट किया गया था। शिवम ने इसके अलावा और भी कई स्पेशल स्टोरीज और इंटरव्यू किए।

शिवम अब ‘हिन्दुस्तान’ की सोशल मीडिया टीम को लीड करेंगे। यहां इनके पास हिन्दुस्तान के फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, टेलीग्राम, Koo आदि पर बने सोशल मीडिया अकाउंट्स को मैनेज करने और एंगेजमेंट बढ़ाने की जिम्मेदारी होगी।

मूल रूप से लखीमपुर-खीरी के रहने वाले शिवम भट्ट ने 2014-2015 सत्र में भारतीय जन संचार संस्थान (IIMC) से पत्रकारिता में पीजी डिप्लोमा किया है। 2015 में कैंपस प्लेसमेंट होने के बाद से वह एनबीटी ऑनलाइन में ही थे और अब यह उनका पहला जॉब स्विच है।

समाचार4मीडिया की ओर से शिवम को उनकी नई पारी के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

ABP नेटवर्क के डिजिटल कंटेंट हेड तुषार बनर्जी ने दिया इस्तीफा

तुषार बनर्जी इस मीडिया ग्रुप में करीब तीन साल से कार्यरत थे। खबर है कि वह फिलहाल नोटिस पीरियड पर चल रहे हैं।

Last Modified:
Thursday, 26 May, 2022
Tushar Banerjee

‘एबीपी’ (ABP) नेटवर्क में डिजिटल कंटेंट हेड के तौर पर अपनी जिम्मेदारी संभाल रहे पत्रकार तुषार बनर्जी के बारे में खबर है कि उन्होंने यहां अपनी पारी को विराम दे दिया है। तुषार बनर्जी इस मीडिया ग्रुप में करीब तीन साल से कार्यरत थे। खबर है कि वह फिलहाल नोटिस पीरियड पर चल रहे हैं। तुषार बनर्जी का अगला कदम क्या होगा, फिलहाल इस बारे में पता नहीं चल सका है, लेकिन अंदरखाने के सूत्रों के हवाले से मिली खबर के अनुसार, जल्द ही वह किसी बड़े मीडिया संस्थान के साथ अपनी पारी शुरू करने जा रहे हैं।

‘एबीपी’ से पहले तुषार बनर्जी ‘एनडीटीवी’ (NDTV) समूह की डिजिटल शाखा ‘एनडीटीवी कंवर्जेंस‘ (NDTV Convergence) में करीब सवा साल से बतौर हेड (Audience Growth and New Initiatives) अपनी जिम्मेदारी संभाल रहे थे।

तुषार बनर्जी को ऑनलाइन मीडिया के क्षेत्र में काम करने का करीब 12 साल का अनुभव है। पूर्व में वह मीडिया दिग्गज राघव बहल के न्यूज पोर्टल ‘द क्विंट’ (The Quint) में भी करीब पांच साल अपनी भूमिका निभा चुके हैं। ‘द क्विंट’ की फाउंडिग टीम का हिस्सा रहे तुषार बनर्जी यहां पर हेड ऑफ प्रोडक्ट की भूमिका संभाल रहे थे।

इसके अलावा ‘द क्विंट’ से पूर्व तुषार बनर्जी करीब तीन साल तक ‘बीबीसी न्यूज’ में भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं। वह ‘बीबीसी इंडिया‘ में साइंस एंड टेक्नोलॉजी करेसपॉन्डेंट की भूमिका निभा रहे थे। यही नहीं, एड-टेक, ऑडियंस इंगेजमेंट और एडिटोरियल टेक जैसे मुद्दों पर उनके आर्टिकल ‘Nieman’s Lab’ और ‘Journalism.co.uk’ जैसी इंटरनेशनल वेबसाइट में भी छप चुके हैं। वाराणसी के रहने वाले तुषार बनर्जी ने बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (BHU) से पत्रकारिता की पढ़ाई की है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

‘द वायर’ के एडिटर-रिपोर्टर को HC से मिली बड़ी राहत

‘द वायर’ के एडिटर सिद्धार्थ वरदराजन और रिपोर्टर इस्मत आरा को रामपुर के सिविल लाइंस थाने में दर्ज एफआईआर पर इलाहाबाद हाई कोर्ट से राहत मिल गई।

Last Modified:
Thursday, 26 May, 2022
TheWire5454

‘द वायर’ के एडिटर सिद्धार्थ वरदराजन और रिपोर्टर इस्मत आरा को यूपी के रामपुर के सिविल लाइंस थाने में विभिन्न धाराओं में दर्ज एफआईआर पर इलाहाबाद हाई कोर्ट से राहत मिल गई है। दोनों के खिलाफ रामपुर पुलिस द्वारा दर्ज एफआईआर को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने बुधवार को रद्द कर दिया है।

रामपुर पुलिस ने आईपीसी की धारा 153बी और 505(2) के तहत केस दर्ज किया था। पुलिस के मुताबिक, द वायर की रिपोर्ट और ट्वीट को जनता को उत्तेजित करने वाला और दंगा फैलाने वाला बताया है।

बता दें कि सिद्धार्थ वरदराजन और इश्मत आरा सहित तीन पत्रकारों के खिलाफ रामपुर के सिविल लाइंस थाने में 31 जनवरी 2021 को खबर प्रकाशित करके किसानों को भड़काने के आरोप में एफआईआर दर्ज कराई गई थी। शिकायतकर्ता रामपुर निवासी संजू तुरैहा ने आरोप लगाया था कि लोगों को गुमराह करने के लिए डॉक्टर का हवाला दिया और इस लेख से रामपुर में आम लोगों में रोष और तनाव पैदा हो गया।

कोर्ट ने कहा है कि याचियों की ओर से प्रकाशित खबर में कोई राय या दावा नहीं मिलता है, जो लोगों को उकसाने का काम करे या जिससे सार्वजनिक अव्यवस्था, गड़बड़ी या दंगा फैले। यह आदेश न्यायमूर्ति अश्वनी कुमार और रजनीश कुमार की खंडपीठ ने सिद्धार्थ वरदराजन व अन्य की याचिका को स्वीकार करते हुए दिया है। 

हाईकोर्ट में केस को निरस्त करते हुए डिवीजन बेंच के जज अश्विनी कुमार मिश्रा और रजनीश कुमार ने कहा, ‘द वायर की रिपोर्ट में रिपोर्टर इस्मत आरा और एडिटर सिद्धार्थ वरदराजन ने अपना कोई भी निजी विचार नहीं डाला है। रिपोर्ट मृतक के परिवार और डॉक्टर्स से की बात के बाद तैयार की गई थी। रामपुर पुलिस जो रिपोर्ट कोर्ट में दिखा रही है वो बाद में बदली गई मेडिकल रिपोर्ट है। इस आधार पर यह रिपोर्ट किसी तरह दो समुदायों के बीच उत्तेजना को बढ़ावा देने वाली नहीं है।’

बता दें कि इस मामले में याची ने पहले सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। सुप्रीम कोर्ट ने याचियों को हाईकोर्ट के समक्ष अर्जी दाखिल करने का आदेश दिया था। उसके बाद याचियों ने हाईकोर्ट में एफआईआर रद्द करने की गुहार लगाई।  

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

वरिष्ठ पत्रकार शेखर गुप्ता ने पूरे किए इस शो के हजार एपिसोड, यूं शेयर कीं फीलिंग्स

14 मिनट से ज्यादा के इस वीडियो में शेखर गुप्ता ने इस शो के कॉन्सेप्ट के साथ यह भी बताया है कि कैसे यह इस महत्वपूर्ण मील के पत्थर तक पहुंचा और अपनी पहुंच का विस्तार किया।

Last Modified:
Wednesday, 18 May, 2022
Shekhar Gupta

जाने-माने पत्रकार और ‘द प्रिंट’ (The Print) के फाउंडर और एडिटर-इन-चीफ शेखर गुप्ता ने अपने डिजिटल शो ‘कट द क्लटर’ (Cut The Clutter) के एक हजार एपिसोड पूरे कर लिए हैं। इस मौके पर खुशी जताते हुए उन्होंने एक वीडियो भी शेयर किया है।

14 मिनट से ज्यादा के इस वीडियो में शेखर गुप्ता ने इस शो के कॉन्सेप्ट के बारे में बताया है और यह भी बताया है कि कैसे यह इस महत्वपूर्ण मील के पत्थर तक पहुंचा और अपनी पहुंच का विस्तार किया।

इसके साथ ही शेखर गुप्ता ने बताया कि शुरुआत में अपनी डिजिटल स्ट्रैटेजी को अंतिम रूप देने में उन्हें एक साल से अधिक का समय लगा। अब ‘द प्रिंट’ को जल्द ही पांच साल पूरे होने वाले हैं और 1000 एपिसोड निश्चित रूप से पूरी टीम के लिए मनोबल बढ़ाने वाले हैं।

गुप्ता ने इस कॉन्सेप्ट के लिए वरिष्ठ पत्रकार मिलिंद खांडेकर को भी श्रेय दिया है, जो वर्तमान में टीवी टुडे नेटवर्क में ‘तक चैनल्स’ के मैनेजिंग एडिटर (National and Regional) के तौर पर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैं।

शेखर गुप्ता के अनुसार, इस शो के पीछे का आइडिया यह था कि दर्शकों को सामान्य से कुछ अलग हटकर कंटेंट पेश किया जाए, जो वह आमतौर पर रोजाना न्यूज चैनल्स पर देखते हैं।

शेखर गुप्ता द्वारा इस बारे में शेयर किए गए वीडियो को आप यहां भी देख सकते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Netflix ने 150 एम्प्लॉयीज को दिखाया बाहर का रास्ता, बताई ये वजह

इसके साथ ही कंपनी ने 70 अंशकालिक नौकरियों (part-time jobs) को खत्म करने का भी फैसला लिया है, जो इसके एनिमेशन स्टूडियो का हिस्सा हैं।

Last Modified:
Wednesday, 18 May, 2022
Netflix

लोकप्रिय स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म ‘नेटफ्लिक्स’ (Netflix) ने अमेरिका में अपने 159 एम्प्लॉयीज को बाहर का रास्ता दिखा दिया है। इस ‘ओवर द टॉप’ (OTT) प्लेटफॉर्म ने व्यावसायिक जरूरतों (business needs) का हवाला देते हुए कहा है कि यह फैसला व्यक्तिगत प्रदर्शन के आधार पर नहीं लिया गया है।

इसके साथ ही कंपनी ने 70 अंशकालिक नौकरियों (part-time jobs) को खत्म करने का भी फैसला लिया है, जो इसके एनिमेशन स्टूडियो का हिस्सा हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इस बारे में नेटफ्लिक्स का कहना है, ‘ये बदलाव मुख्य रूप से व्यक्तिगत प्रदर्शन के बजाय व्यावसायिक जरूरतों से प्रेरित हैं। यह हमारे लिए काफी मुश्किल फैसला है, क्योंकि हममें से कोई भी ऐसे अच्छे सहयोगियों को अलविदा नहीं कहना चाहता है।’

बताया जाता है कि नेटफ्लिक्स को हाल ही में बीते एक दशक में सबसे ज्यादा सबस्क्राइबर्स का नुकसान झेलना पड़ा है और इसने आगामी तिमाही में भी सबस्क्राइबर्स में कटौती की आशंका जताई है। यही कारण है कि कंपनी ने 150 एंप्लॉयीज को नौकरी से निकालने का ऐलान किया है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

ZEEL डिजिटल फील्ड में कर रही विस्तार, लॉन्च किया टेक्नोलॉजी एंड इनोवेशन सेंटर

देश की अग्रणी मीडिया कंपनी जी एंटरटेनमेंट अब डिजिटल फील्ड में अपना विस्तार कर रही है।

Last Modified:
Saturday, 14 May, 2022
zee4589

देश की अग्रणी मीडिया कंपनी जी एंटरटेनमेंट अब डिजिटल फील्ड में अपना विस्तार कर रही है। इस कवायद के तहत कंपनी ने बेंगलुरु में शुक्रवार को जी टेक्नोलॉजी एंड इनोवेशन सेंटर (Zee Technology And Innovation Center) की शुरुआत की। इस सेंटर को कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसावराज बोमाई ने लॉन्च किया। इससे पहले कर्नाटक के राज्यपाल थावर चंद गहलोत भी ओपनिंग सेरेमनी में शामिल हुए। इस मौके पर जी एंटरटेनमेंट इंटरप्राइजेज के डिजिटल बिजनेस प्लेटफॉर्म्स के प्रेसिडेंट अमित गोयनका और जी के टेक्नोलॉजी एंड डेटा प्रेसिडेंट नितिन मित्तल भी मौजूद रहे।

जी टेक्नोलॉजी एंड इनोवेशन सेंटर 80 हजार फीट में फैला हुआ है।  जी के लिए टेक, डेटा और टैलेंट का एपिसेंटर (Epicentre) यहीं होगा। सेंटर से जी को मेटावर्स की दुनिया में कदम रखने का मौका मिलेगा। इसमें AR, VR और NFT का इस्तेमाल होगा। यानी अब Web 3.0 का इस्तेमाल करने वाली कंपनियों में ZEE भी शामिल हो जाएगी।

टेक्नोलॉजी एंड डेटा प्रेसिडेंट नितिन मित्तल ने कहा युवाओं के लिए कहानियों का स्टाइल अब बदलने वाला है। इस सेंटर से करीब 6 महीनों में Zeeverse की शुरुआत की जाएगी। Zeeverse में कई तरह की NFT होगी। NFT से दर्शकों को कई फायदे मिलेंगे। दर्शक भी Zeeverse के जरिए अपने पसंदीदा और बड़े-बड़े सितारों से मुलाकात कर सकेंगे। Zeeverse से मीडिया और एंटरटेनमेंट के कंजम्प्शन का तरीका बदल जाएगा। साथ ही इस इनोवेशन सेंटर के जरिए रोजगार के भी बड़े मौके खुलेंगे।

कर्नाटक के राज्यपाल थावर चंद गहलोत ने कहा, 'सरकारी मिशन ‘डिजिटल इंडिया’ ने सभी को मनोरंजन और सूचना के लिए सुलभ बना दिया है। ऑगमेंटेड रियलिटी ने सबका ध्यान खींचा है। यहां तक ​​कि कर्नाटक ने भी प्रौद्योगिकी में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है। ZEE नए इनोवेशन के साथ आया है। शहर में जो उद्यम स्थापित हो रहा है, वह नई उम्मीदों के साथ आता है। मैं जी के लिए शुभकामनाएं देता हूं। मुझे विश्वास है कि यह नई ऊंचाइयों को छुएगा।'

ZEE के डिजिटल बिजनेस एंड प्लेटफॉर्म्स के प्रेसिडेंट अमित गोयनका ने कहा, 'मैं जी की तरफ से इनोवेशन और टेक्नोलॉजी केंद्र को आशीर्वाद देने के लिए राज्यपाल को धन्यवाद देता हूं। टेक्नोलॉजी अपडेट्स के इंटेंस फोकस के साथ जी उम्मीदों पर खरा उतरेगा। कंपनी की अपेक्षाओं को पूरा करने के लिए यह एक एपिसेंटर होगा। यह देश में मीडिया और मनोरंजन के लिए एक नया अध्याय तैयार करेगा।'

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

देश में OTT कंटेंट के विस्तार पर बोले शैलेश लोढ़ा, प्रड्यूसर्स को दी ये सलाह

‘ई4एम स्ट्रीमिंग समिट 2022’ के मौके पर बुधवार को ‘एक्सचेंज4मीडिया’ समूह के फाउंडर व एडिटर-इन-चीफ डॉ. अनुराग बत्रा के साथ बातचीत कर रहे थे ‘तारक मेहता’

Last Modified:
Thursday, 12 May, 2022
e4m Streaming Summit

जाने-माने कवि, लेखक, अभिनेता और ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ धारावाहिक में तारक मेहता का किरदार निभा रहे शैलेश लोढ़ा का कहना है कि ओटीटी (OTT) प्लेटफॉर्म का कंटेंट हमारे समाज से जुड़ा होना चाहिए, तभी लोग इस तरह के कंटेंट को पसंद करेंगे।  

‘ई4एम स्ट्रीमिंग समिट 2022’ (e4m Streaming Summit 2022) के मौके पर बुधवार को ‘बिजनेसवर्ल्ड’ समूह के चेयरमैन व एडिटर-इन-चीफ और ‘एक्सचेंज4मीडिया’ समूह के फाउंडर व एडिटर-इन-चीफ डॉ. अनुराग बत्रा के साथ एक बातचीत में शैलेश लोढ़ा ने कंटेंट तैयार कर रहे लोगों से ऐसी वेब सीरीज का निर्माण करने के लिए कहा, जिसे लोग अपने परिवार के साथ देख सकें।   

शैलेश लोढ़ा के अनुसार, ‘अगर कंटेंट समाज से जुड़ा होगा तो अधिक से अधिक भारतीय ओटीटी प्लेटफॉर्म्स से जुड़ेंगे। कंटेंट ऐसा होना चाहिए कि इसे परिवार के साथ देखा जा सके।’

‘तारक मेहता’ के नाम से घर-घर में मशहूर शैलेश लोढ़ा ने इस बात पर भी प्रकाश डाला कि ओटीटी प्लेटफॉर्म्स पर बच्चों के लिए बहुत कम कंटेंट है। उन्होंने कहा, ‘ओटीटी प्लेटफार्म्स पर बच्चों के लिए शायद ही कोई कंटेंट हो। ऐसे में देश की अधिकांश आबादी इससे वंचित रहती है। प्रड्यूसर्स को बच्चों के लिए भी कंटेंट तैयार करना चाहिए।’ उन्होंने माता-पिता को यह भी सलाह दी कि वह इस बात पर नजर रखें कि उनके बच्चे टीवी और डिजिटल मीडिया पर क्या देखते हैं?

इससे साथ ही लोढ़ा ने इस तरह की आशंकाओं को भी खारिज कर दिया कि ओटीटी और अन्य डिजिटल फॉर्मेट्स के आने के साथ टीवी माध्यम का अस्तित्व समाप्त हो जाएगा। लोढ़ा के अनुसार, ‘जब टीवी आया तो तमाम लोगों को लगा कि प्रिंट का अस्तित्व समाप्त हो जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। अखबार, खासकर स्थानीय भाषा वाले अखबारों की संख्या तेजी से बढ़ी है। इसी तरह टीवी भी बना रहेगा।’

इस बातचीत के दौरान यह पूछे जाने पर कि अगर टीवी में गिरावट आती है तो एडवर्टाइजिंग सेक्टर का क्या होगा? लोढ़ा ने कहा, ‘विज्ञापन वाले लोग बहुत क्रिएटिव होते हैं। वे विज्ञापन देने के नए-नए तरीके तलाश लेंगे।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इस तरह के Apps पर कानूनी कार्रवाई करेगा प्रसार भारती

प्रसार भारती ने ऐसे ऐप्स पर कार्रवाई करने का मन बना लिया है

Last Modified:
Tuesday, 10 May, 2022
Prasar Bharati

प्रसार भारती ने ऐसे ऐप्स पर कार्रवाई करने का मन बना लिया है, जो दूरदर्शन व ऑल इंडिया रेडियो के नाम या लोगो की कॉपी कर रहे हैं, या फिर गैरकानूनी तरीके से उनके कंटेंट का प्रयोग कर रहे हैं। गूगल के सहयोग से प्रसार भारती ने इस तरह के ऐप्स की पहचान कर ली है और गूगल इन्हें अपने प्लेटफॉर्म से हटाने की कवायद में है।

देश के सार्वनजिक प्रसारणकर्ता ने कहा कि दूरदर्शन या ऑल इंडिया रेडियो की तरह दिखने वाले उन फर्जी ऐप्स के खिलाफ जल्द ही कानूनी कार्रवाई शुरू की जाएगी, जो अपने ऐप्स, वेबसाइट्स, यू-ट्यूब चैनल्स या किसी अन्य प्लेटफॉर्म पर दूरदर्शन व ऑल इंडिया रेडियो के कंटेंट का अवैध रूप से उपयोग कर रहे हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

युवा पत्रकार निर्मला बोहरा ने इस मीडिया समूह के साथ शुरू किया नया सफर

इस नई भूमिका को संभालने से पहले निर्मला देहरादून में करीब साढ़े नौ साल से ‘अमर उजाला’ डिजिटल में अपनी जिम्मेदारी निभा रही थीं।

Last Modified:
Tuesday, 10 May, 2022
Nirmala Bohra

युवा पत्रकार निर्मला बोहरा (नेहा बोहरा) ने जागरण समूह की डिजिटल कंपनी 'जागरण न्यू मीडिया' (Jagran New Media) से पत्रकारिता में अपने नए सफर की शुरुआत की है। उन्होंने देहरादून में बतौर चीफ सब एडिटर जॉइन किया है।

इस नई भूमिका को संभालने से पहले निर्मला देहरादून में ही करीब साढ़े नौ साल से ‘अमर उजाला’ डिजिटल में अपनी जिम्मेदारी निभा रही थीं। इसके अलावा पूर्व में वह करीब दो साल ‘जागरण‘ समूह के बाइलिंगुअल अखबार आईनेक्स्ट(Inext) में भी अपनी भूमिका निभा चुकी हैं। यहीं से उन्होंने पत्रकारिता में अपने करियर की शुरुआत भी की थी।  

मूल रूप से हलद्वानी की रहने वाली निर्मला बोहरा को पत्रकारिता के क्षेत्र में काम करने का करीब 11 साल का अनुभव है। पढ़ाई-लिखाई की बात करें तो उन्होंने खटीमा (ऊधमसिंह नगर) से ग्रेजुएशन किया है। इसके अलावा देहरादून की ओपन यूनिवर्सिटी से पत्रकरिता में मास कम्युनिकेशन की डिग्री ली है।

समाचार4मीडिया की ओर से निर्मला बोहरा को उनके नए सफर के लिए ढेरों बधाई और शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इस मीडिया समूह से जुड़े युवा पत्रकार गीतार्जुन गौतम

गीतार्जुन गौतम ने पत्रकारिता में अपने करियर की शुरुआत 'ईटीवी' हैदराबाद से की थी।

Last Modified:
Saturday, 07 May, 2022
Geetarjun Gautam

युवा पत्रकार गीतार्जुन गौतम ने जागरण समूह की डिजिटल कंपनी 'जागरण न्यू मीडिया' (Jagran New Media) से पत्रकारिता में अपनी नई पारी शुरू की है। उन्होंने नोएडा में बतौर सीनियर सब एडिटर जॉइन किया है।

गीतार्जुन को पत्रकारिता के क्षेत्र में काम करने का करीब पांच साल का अनुभव है। पत्रकारिता में अपने करियर की शुरुआत उन्होंने 'ईटीवी' हैदराबाद से की थी। 'जागरण न्यू मीडिया' को जॉइन करने से पहले वह करीब पौने तीन साल वाराणसी में ‘अमर उजाला (डिजिटल) में भी अपनी जिम्मेदारी निभा चुके हैं।

मूल रूप से बदायूं (उत्तर प्रदेश) के रहने वाले गीतार्जुन ने हरियाणा के हिसार में स्थित गुरु जंभेश्वर यूनिवर्सिटी से पत्रकारिता में ग्रेजुएशन किया है। समाचार4मीडिया की ओर से गीतार्जुन गौतम को उनके नए सफर के लिए ढेरों बधाई और शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए