विचार मंच न्यूज़

मैं दुनिया के लगभग 70-80 देशों में गया हूं, उनमें रहा हूं, पढ़ा हूं और पढ़ाता रहा हूं। उन देशों के अल्पसंख्यकों से मेरा निकट संपर्क भी होता रहा है

डॉ. वेद प्रताप वैदिक 7 months ago


ब्रह्रमकुमारी विश्वविद्यालय की ओर से माउंट आबू के शांतिवन में पिछले दिनों राष्ट्रीय मीडिया सम्मेलन का किया गया आयोजन

समाचार4मीडिया ब्यूरो 7 months ago


अब कितने फैसले नजीर बन रहे हैं? जिनको कोई कानूनविद् अपनी बहस में हक से कोट करता हो। कारण साफ है, सत्ता का चारण करके पद-पैसा भले मिल जाये, आपकी शर्तों पर सम्मान नहीं मिल सकता

अजय शुक्ल 7 months ago


लोकतांत्रिक व्यवस्था में सरकार की आलोचना-विरोध की पूरी गुंजाइश है, लेकिन क्या यह इतना गंभीर मामला है, जिससे आधुनिक भारत की छवि बिगड़ रही है

आलोक मेहता 7 months ago


बीते दिनों बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना भारत आईं थीं। चैनलों में से कितने ऐसे थे, जिन्होंने समझौतों के अलावा परदे के पीछे की सियासत का विश्लेषण किया?

राजेश बादल 7 months ago


बॉलिवुड की जानी-मानी एक्ट्रेस रेखा का आज जन्मदिन है। वरिष्ठ पत्रकार बादल सरोज ने खास अंदाज में उन्हें अपनी शुभकामनाएं दी हैं

समाचार4मीडिया ब्यूरो 7 months ago


मुख्यमंत्री इतनी सी बात नहीं समझ सकते कि बाहर से आने वाले पत्रकार कम से कम पूर्वाग्रही हो सकते हैं। स्थानीय पत्रकार तो स्वयं बाढ़ या अन्य कारणों से सरकार से निजी नाराजगी रख सकता है

आलोक मेहता 7 months ago


वे सरकार के उस फ़रमान को नही मानते, जिसमें कहा गया था कि सरकार की अनुमति के बिना कोई समाचारपत्र नहीं निकाल सकता। साथ ही एक शब्द भी बिना अनुमति के नहीं छप सकता...

राजेश बादल 8 months ago


मोदी विश्व के किसी भी देश में पहुंचें, उनकी एक झलक पाने, उनकी मधुर वाणी सुनने के लिये लाखों लोग तत्पर दिखाई देते हैं

समाचार4मीडिया ब्यूरो 8 months ago


श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के आंकड़े बताते हैं कि देश में इस वक्त रोजगार की स्थिति बेहद खराब है

समाचार4मीडिया ब्यूरो 8 months ago


कुछ एंकर ऐसे भी मिले जो सचेत होना ही नहीं चाहते। वे जिस हिंग्लिश के अभ्यस्त हो गए हैं, उसे छोड़ना नहीं चाहते, खुद को बदलना नहीं चाहते

समाचार4मीडिया ब्यूरो 8 months ago


अकेली हिंदी ही नहीं, सारी भारतीय भाषाओं में क्रमिक क्षरण की यह प्रक्रिया चल रही है लेकिन शायद हिंदी जैसी उदासीनता नहीं है

समाचार4मीडिया ब्यूरो 8 months ago


सोनाक्षी को पहले लगा कि शायद सीता के लिए हनुमान जी संजीवनी लाए, फिर लगने लगा कि राम के लिए लाए। लगने को कुछ भी लग सकता है

समाचार4मीडिया ब्यूरो 8 months ago


मीडिया शिक्षण संस्थान अभी तक अध्ययन में गुणवत्ता पर अधिक गंभीरता नहीं दिखाते थे। लेकिन बीते एक बरस से ऐसे आयोजन  लगातार मंथन कर रहे हैं

राजेश बादल 8 months ago


कहते हैं कि एसडी बर्मन ने सिर्फ पांच दिन में फिल्म ‘गाइड’ के सभी गानों को तैयार कर दिया था

समाचार4मीडिया ब्यूरो 8 months ago


देश मे एक तिहाई से ज्यादा बच्चे अभी भी कुपोषण का शिकार हैं। वंचित तबकों में समस्या काफी गंभीर है

समाचार4मीडिया ब्यूरो 8 months ago


वरिष्ठ पत्रकार संजय कुमार सिंह ने कहा, हाईप्रोफाइल मुकदमों में माहौल बनाने का अनुचित कार्य करते लगते हैं कई अखबार

समाचार4मीडिया ब्यूरो 8 months ago


योग, स्वच्छ भारत, प्लास्टिक से मुक्ति, स्वस्थ भारत जैसे अभियान सही अर्थों में भारत को शक्तिशाली और संपन्न बना सकते हैं

समाचार4मीडिया ब्यूरो 8 months ago