विचार मंच न्यूज़

रिपब्लिक टेलिविजन चैनल के अरनब गोस्वामी पर मुंबई में हमले को शायद ही कोई जायज ठहराए। अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की प्रतिक्रिया शारीरिक रूप से चोट पहुंचाने जैसी कार्रवाई से हो

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


वाकई मुश्किल दौर है। देश के लिए भी और पत्रकारिता के लिए भी। कोरोना जैसी संक्रामक भयावह महामारी ने समूची दुनिया को आतंकित कर दिया है

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


कोरोना महामारी की सम्पूर्ण स्थितियों का ज्योतिषीय अनुमान

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


वरिष्ठ पत्रकार पद्मश्री आलोक मेहता ने हिंदी पत्रकारिता के बड़े नाम राजेंद्र माथुर को उनकी पुण्यतिथि पर अपनी श्रद्धांजलि दी है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


देश के पत्रकारिता जगत को भारी क्षति । वरिष्ठ पत्रकार व संपादक उदय सिन्हा नहीं रहे| नि:शब्द हूं|

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


टेलिविजन चैनलों के राष्ट्रीय संगठन ने गुस्सा दिखाया है। सरकारी विज्ञापन बंद नहीं होने चाहिए।

राजेश बादल 1 month ago


प्रतिपक्ष अतिवादी संगठनों के लोग ही नहीं मीडिया का एक वर्ग भी भारतीय मीडिया को सत्ता से आतंकित या भक्त होने का आरोप लगाते हैं। इसके लिए भी ‘महान’ न्यूयॉर्क टाइम्स का हवाला ऐसे दिया जाता है

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


इन दिनों पत्रकारिता तलवार की नोक पर चलने जैसी हो गई है। ‘द वायर’ के खिलाफ उत्तर प्रदेश सरकार ने एफआईआर दर्ज की है। स्पष्टीकरण के बावजूद यह रवैया बेहद आपत्तिजनक है।

राजेश बादल 2 months ago


इस बात को साफ तौर पर समझ लीजिए कि आपकी जिद के चलते इंदौर शहर की जनता खुद को दांव पर लगाने को तैयार नहीं है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 2 months ago


आज के दौर में टेलिविजन और अन्य ‘ओवर द टॉप’ (OTT) प्लेटफॉर्म्स हमारे जीवन का अभिन्न हिस्सा बन चुके हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 2 months ago


विश्वविद्यालय का नाम आदरणीय चंदूलाल चंद्राकर के नाम पर रखकर आप उनका सम्मान नहीं कर रहे, बल्कि एक महानायक को विवादों में ही डाल रहे हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 2 months ago


पिछले सप्ताह जब मैंने कोरोना केंद्रित यह स्तंभ लिखा था तो उस समय के कवरेज को देखते हुए कुछ आशंकाएं प्रकट की थीं। इस सप्ताह यह कॉलम लिखते हुए मैं संतोष का अनुभव कर रहा हूं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 2 months ago


दुनिया दहशत में है। कोरोना काल बन गया है। मौत से अधिक मौत का डर है। भय के भूत की तरह। हर बड़े मुद्दे पर गैर जिम्मेदारी दिखाता हिंदी टीवी मीडिया

राजेश बादल 2 months ago


यह बात उन क्रांतिकारी समझने वाले चर्चित टीवी हस्तियों को भी स्वीकारना चाहिए, जो आजकल स्वयं मीडिया पर भरोसा नहीं करने और उन्हें छोड़कर सबको नाकारा साबित करने में लगे हुए हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 2 months ago


भारतीय समाचार कक्ष भी धीरे ही सही, लेकिन स्थिरता के साथ विश्व की श्रेष्ठतम तकनीक अपनाने के लिए प्रयासरत हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 2 months ago


याद कीजिए, संसार के सारे कार्टूनिस्टों के सिरमौर आर.के. लक्ष्मण ने करीब आधी शताब्दी तक भारत के करोड़ों पाठकों के दिलों पर राज किया है।

राजेश बादल 2 months ago


बड़े अखबारों के संपादक, प्रोफेसर, नेशनल बुक ट्रस्ट के अध्यक्ष रहते हुए प्रो. बलदेव भाई शर्मा की सेवाओं को सारे देश ने देखा और उसके स्पंदन को महसूस किया है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 months ago


छुट्टियां वैसे तो सभी के लिए मूल्यवान होती हैं, लेकिन पत्रकारों के लिए इनका मूल्य और भी बढ़ जाता है, क्योंकि जब किसी चीज की उपलब्धता कम हो, तो उसका मूल्य बढ़ना लाजमी है

नीरज नैयर 3 months ago