सूचना:
मीडिया जगत से जुड़े साथी हमें अपनी खबरें भेज सकते हैं। हम उनकी खबरों को उचित स्थान देंगे। आप हमें mail2s4m@gmail.com पर खबरें भेज सकते हैं।

इस परिभाषा के मुताबिक देश का मीडिया आज दुनिया में सबसे ज्यादा हिम्मती और आजाद होना चाहिए। लेकिन ‘विश्व प्रेस फ्रीडम इंडेक्स’ में भारत लगातार नीचे गिरता जा रहा है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


वर्ष 2022 को यदि हम मीडिया की दृष्टि से देखें तो मैं ऐसा समझता हूं कि यह सामान्य रहा। असामान्य नहीं था। सामान्य इसलिए था, क्योंकि मीडिया की जो भारत में जरूरत है, उस दृष्टि से कोई नई पहल नहीं हुई है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


न्यूज चैनल्स पर होने वाली टेलिविजन डिबेट किसी की जिंदगी भी बर्बाद कर सकती हैं, ये हमने साल 2022 में देखा। मुझे लगता है कि मीडिया के माथे पर लगा ये कलंक साल की सबसे बड़ी खबर है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


2022 बीतते-बीतते देश के सबसे तेजी से बढ़ते उद्योग घराने अडानी समूह ने एनडीटीवी को खरीद लिया। अचानक कुछ ऐसे स्वर कर्कश राग गाने लगे कि अब भारत से पत्रकारिता पूरी तरह से खत्म हो गई।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


साल 2022 में हम सभी के मन में एक सवाल था कि कोरोना के बाद की पत्रकारिता कैसी होगी? असल में इस सवाल का जवाब कोरोना काल में हुई पत्रकारिता में ही छिपा हुआ था।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


पत्रकारिता का पेशा सदैव चुनौतीपूर्ण रहा है। कल भी था, आज भी है और कल भी रहेगा। शायद आने वाल कल में और अधिक चुनौतियां होंगी।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


मीडिया की दृष्टि से वर्ष 2022 बहुत ही महत्वपूर्ण रहा है। मैं ये कहूंगा कि पिछले दो-तीन साल मीडिया के संक्रमण काल के साल हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


कोई भी साल सभी के लिए अच्छा या बुरा नहीं होता। 50 वर्षों में माना जाता है कि कोरोना काल सबसे बुरा समय था, लेकिन यही समय दवा कंपनियों के लिए और कुछ डॉक्टरों के लिए पैसे कमाने का सबसे अच्छा समय बन गया।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


2023 में मुझे तो समाचार-जगत से जुड़ी कोई ख़ास गुलाबी उम्मीद नज़र आ नहीं रही। लेकिन कुछ ख़्वाहिशें ज़रूर हैं। पूरी न सही, आधी-अधूरी भी, पूरी हो जाएं तो अयोध्या जाकर प्रसाद चढ़ाऊंगा।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


मैं दरअसल रुदन में बहुत अधिक विश्वास नहीं रखता हूं कि हालात बहुत खराब रहे। लेकिन मीडिया के हालात सचमुच धीरे-धीरे बहुत आशाजनक नहीं रहे हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


2022 ने मीडिया के संस्थागत स्वरूप की अनिवार्यता को बहुत हद तक कम कर दिया। यह बहुत बड़ा परिवर्तन है मीडिया के रूप-स्वरूप में।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


समय का समकाल अगर कुछ है तो वह अनिश्चितता है। उसी अनिश्चितता के गर्भ में उम्मीद, संभावना और आशंका होती हैं। जो बीता हुआ समय है, वह संदर्भ, संदेश और सबक के काम आता है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


वैसे भी साल 2023 में जी20 की मेजबानी भारत करने जा रहा है। इसलिए भारतीय मीडिया के पास इस मोर्चे पर स्कूप और समाचारों की कमी नहीं रहेगी।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


वर्ष 2022 घरेलू मीडिया की दृष्टि से मीडिया मैनेजमेंट और डिजिटल मीडिया का रहा है। डिजिटल मीडिया का अप्रत्याशित विस्तार हुआ है और न्यूज मीडिया के क्षेत्र में पत्रकारों के लिए वरदान साबित हुआ है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


वर्ष 2022 मीडिया के लिए मिला-जुला रहा। कुछ खट्टा, कुछ मीठा। बीते साल में मीडिया के प्रसार को लेकर भी उम्मीद जगी है, जिससे रोजगार के कुछ नए अवसर भी खुल रहे हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


दो वर्षों के कोरोना महामारी काल के बाद वर्ष 2022 में नई आशा प्रिंट, टीवी और डिजिटल में दिखने लगी। ‘जूम’ जैसे साधनों के बढ़ते उपयोग से सुविधाएं हुई।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


2022 में मीडिया के कामकाज पर कई सवाल खड़े हुए, खासकर टीआरपी के विवाद को लेकर। मीडिया की विश्वसनीयता इस विवाद से कठघरे में आ खड़ी हुई।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


आप पसंद करें या न करें, न्यू मीडिया से आप बच नहीं सकते हैं। अखबार हैं और रहेंगे। न्यूज चैनल्स हैं और रहेंगे, लेकिन मोबाइल पर वॉट्सऐप या फेसबुक के जरिये जो सूचनाएं आप तक पहुंच रही हैं, वे बढ़ेंगी।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


नौकरी की तलाश में जुटे पत्रकारों के लिए ‘टीवी9 नेटवर्क’ (TV9 Network) से जुड़ने का बहुत ही अच्छा मौका है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago


उर्दू दैनिक ‘हमारा समाज’ के संपादक व वरिष्ठ पत्रकार आमिर सलीम खान का हार्टअटैक से निधन हो गया। वह लगभग 45 वर्ष के थे।

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 month ago