मूल रूप से इलाहाबाद की रहने वालीं नीलू व्यास को टीवी इंडस्ट्री में काम करने का करीब 20 साल का अनुभव है

समाचार4मीडिया ब्यूरो 4 months ago


मीडिया के क्षेत्र में काम करने का 25 साल से ज्यादा का है अनुभव, प्रिंट मीडिया में लगातार कॉलम लिखने के अलावा कई किताबें भी लिखी हैं

समाचार4मीडिया ब्यूरो 5 months ago


'नया इंडिया' अखबार की 10वीं वर्षगांठ पर वरिष्ठ पत्रकार डॉ. वेदप्रताप वैदिक ने इस अखबार को बताया पत्रकारिता का सूर्य

समाचार4मीडिया ब्यूरो 9 months ago


दैनिक भास्कर ग्रुप में राजस्थान के स्टेट हेड की संभाल रहे थे जिम्मेदारी

समाचार4मीडिया ब्यूरो 9 months ago


कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी एक बार फिर चर्चा में हैं। हालांकि, यह मामला उनके...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 11 months ago


संदिग्ध परिस्थितियों में पत्रकार की मौत का मामला सामने आया...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 11 months ago


जानी-मानी मीडिया एडवर्टाइजिंग कंपनी ग्रुपएम साउथ एशिया में शीर्ष स्तर पर...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 year ago


‘भारत चौथी वैश्विक औद्योगिक क्रांति में बड़ी भूमिका निभा सकता है, क्योंकि...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 1 year ago



क्या आपने अमेजॉन.कॉम का नाम सुना है? निश्चित ही सुना होगा। पर यह नहीं जाना हुआ होगा...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 2 years ago


‘देश के हर प्रकाशक-संपादक को हर महीने सरकारी दफ्तर में टोकन लेकर अखबार की फाइल सम्मिट करनी पड़ रही है। यदि वह वहां पटाकर चला या रिश्वत दी तो ठीक, नहीं तो भारत सरकार के दिल्ली के डीएवीपी दफ्तर में रिपोर्ट पहुंचेगी कि पिछले महीने अखबार पूरे नहीं थे या सही नहीं छपे। इस रिपोर्ट से फिर तय होगा कि इस अखबार को आगे विज्ञापन

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


‘बेसिक बात को न समझना और बेटे को सार्वजनिक- पार्टी स्तर पर जलील करना ही मुलायम सिंह यादव के प्रोफाइल में जुड़ा नया वह तथ्य है जिसमें उनका बुढ़ापा सचमुच बहुत खराब बन रहा है।’ हिंदी दैनिक अखबार नया इंडिया में छपे अपने आलेख के जरिए ये कहना है वरिष्ठ पत्रकार और संपादक हरिशंकर व्यास का। उनका पूरा आलेख आप यहां पढ़ सकते हैं

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


हिंदी पत्रकारिता की दुनिया का मशहूर अखबार 'अमर उजाला' ने पिछले पखवाड़े में...

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


<p style="text-align: justify;">'सेना, इस्लामी उग्रवाद आदि तमाम जकड़नों के बावजूद पाकिस्तान में पत्रकार यदि अधिक जीवंत और हिम्मती है तो वजह मुस्लिम मिजाज, तासीर से पैदा लड़ने-मरने का साहस है। और वैसा हम हिंदूओं में हो ही नहीं सकता। इसलिए भारत के क्रिकेटर भी पाकिस्तानी टीम से खौफ में खेलते रहे हैं तो भारत के प्रधानमंत्री जीत कर भी या तो हारते हैं या

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


‘वाजपेयी-आडवाणी खामोख्याली में अधिक रहे वहीं नरेंद्र मोदी-अमित शाह पल–पल इस चिंता में रहते हैं कि चुनाव की अगली परीक्षा कैसे पास करनी है’ हिंदी दैनिक अखबार नया इंडिया में छपे अपने आलेख के जरिए ये कहना है वरिष्ठ पत्रकार और संपादक हरिशंकर व्यास का। उनका पूरा आलेख आप यहां पढ़ सकते हैं:

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


‘28-29 सितंबर की जिस रात पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में भारतीय सेना का ऑपरेशन हुआ उस वक्त कैबिनेट की सुरक्षा मामलों की समिति याकि सीसीसी के सभी सदस्य मंत्री रात में जगे रहे।’ हिंदी दैनिक अखबार नया इंडिया में छपे अपने आलेख के जरिए ये कहना है वरिष्ठ पत्रकार और संपादक हरिशंकर व्यास का। उनका पूरा आलेख आप यहां पढ़ सकते हैं:

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


‘रियो ओलंपिक से एक और फर्क मालूम हुआ है। और वह यह कि आर्थिकी-राजनैतिक संकटों के बावजूद ब्राजील ने क्या खूबसूरती से अपनी राजधानी को सजाया। जिसने भी मैराथन दौड़ देखी है उसे रियो की सुंदरता, लैंडस्केप, समुद्र किनारे के म्युजियम ऑफ फ्यूचर के आर्किटेक्ट को देख लगा होगा कि वाह! किस विजन के साथ वहां के नेताओं और व्यवस्था ने

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


हिंदी के प्रसिद्ध लेखक और व्यंग्यकार हरिशंकर परसाई का आज जन्मदिन (22 अगस्त, 1924) है। उनका जन्म मध्य प्रदेश के होशंगाबाद जिले के जमानी में हुआ था। वे हिंदी के पहले रचनाकार हैं जिन्होंने व्यंग्य को विधा का दर्जा दिलाया और उसे हल्के–फुल्के मनोरंजन की परंपरागत परिधि से उबारकर समाज के व्यापक प्रश्नों से जोड़ा। उनके जन्मद

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


‘डॉ. स्वामी ने ही लाल झंडा उठाए राज्यसभा में कांग्रेस की बोलती बंद करने का जिम्मा लिया हुआ है। डॉ. स्वामी ने हाल में अरविंद केजरीवाल के खिलाफ धरने पर बैठे गिरि की जो हौसलाबुलंदी की और केजरीवाल से जैसे राजनैतिक तौर पर भिड़े वैसा कोई दूसरा शख्स नरेंद्र मोदी और अमित शाह के पास नहीं है।’ हिंदी दैनिक अखबार नया इंडिया में

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


<p style="text-align: justify;"><strong>अक्षय नेमा मेख ।।</strong></p> <p style="text-align: justify;">‘यूं तो पत्रकारिता बहुत से लोग करते हैं। पैसे देकर पत्रकार बनना, फिर उसकी आढ़ में लखपति-करोड़पति हो जाना यह पत्रकारिता नहीं है। पत्रकारिता कुर्बानी मांगती है।’ जैसे विचार रखने वाले हरिशंकर नेमा 'मुन्ना' गत 25 मार्च 2016 को इस दुनिया को अलविदा कह गए

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago