आलोक मेहता  प्रधान संपादक, आउटलुक (हिंदी) ।। खूब लड़ी मर्दानी, वह तमिलों की रानी अम्मा ‘अम्मा’ की शान रानी मां से कम नहीं थी। लेकिन जे. जयललिता गरीबों के दर्द

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


आलोक मेहता  प्रधान संपादक, आउटलुक (हिंदी) ।। अंग्रेजी के ‌लिए सर्जिकल

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


आलोक मेहता  प्रधान संपादक, आउटलुक (हिंदी) ।। जीवन रक्षक बनते भक्षक अस्प

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


आलोक मेहता  प्रधान संपादक, आउटलुक (हिंदी) ।। कलाकारों से दुश्मनी के राग पाकिस्तान के छद्म युद्ध के प्रय

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


आलोक मेहता  प्रधान संपादक, आउटलुक (हिंदी) ।। आतंक की तरह कर्ज बुरा या अच्छा भारतीय बैंक दोधारी तलवार पर चल रहे हैं। कर्ज दिए बिना न वे सफल हो सकते हैं और न ही बड़े पैमाने पर उद्योग-व्यापार बढ़ सकते हैं। दूसरी तरफ कर्ज लेकर करो

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


आलोक मेहता  प्रधान संपादक, आउटलुक (हिंदी) ।। विजय का मुकुट किसके नाम विजय सबके लिए जरूरी है। प्रतीकात्मक होते हुए भी ब

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


आलोक मेहता  प्रधान संपादक, आउटलुक (हिंदी) ।। भ्रम फैलाने वालों को सजा सावधान स्टार हों या नामी खिलाड़ी। कानून का प्रारूप बन गया है। संसद से औपचारिक स्वीकृति

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


<p style="text-align: justify;">‘इस मुल्क में सिर्फ टीवी रिपोर्टर ही बहादुर हैं, जो हरदम मार मचाओ मोड में रहते हैं। बाकी सेना वगैरह तो सुस्ती में गिरफ्तार है। मनोरंजन चैनलों पर जाओ, तो पता लगता है कि इस मुल्क में सिर्फ नागिन ही कर्मठ है।’ हिंदी दैनिक 'हिन्दुस्तान' में छपे अपने व्यंग्य के जरिए ये कहा  वरिष्ठ पत्रकार और व्यंग्यकार आलोक पुराणिक ने। उन

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


आलोक मेहता प्रधान संपादक, आउटलुक (हिंदी) ।। दीवानों, सेना का नाम बदनाम न करो मिस्टर केजरीवाल, कमांडर (पूर्व सैनिक) निरूपम, ऐक्टर ओम पुरी एंड अदर्स, कृपया राजनीति और मीडिया रेटिंग के लिए भारतीय

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


आलोक मेहता प्रधान संपादक, आउटलुक (हिंदी) ।। डिजिटिल इंडिया में हिंदी समाज

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


आलोक मेहता वरिष्ठ पत्रकार ।। हवाला-छापों से हैरान ए.के. ए.के.- 67 के कारतूस लगातार खोखले और ‘आप हंता’ साबित हो रहे हैं। 70 में से 67 का भारी बहुमत और टोपी-क

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


आलोक मेहता प्रधान संपादक, आउटलुक (हिंदी) ।। क्रिकेट के ‘दादाओं’ को परवाह नहीं अरबों रुपयों के साम्राज्य पर बैठे क्रिकेट के दादाओं को किसी सरकार, पार्टी ही न

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


सपा सरकार में कैबिनेट मंत्री रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया एक बार फिर चर्चा में हैं। दरअसल हिंदी अखबार दैनिक भास्कर के डिजिटल विंग (dainikbhaskar.com) ने दावा किया है कि मार्च 2013 में यूपी के कुंडा में हुए पुलिस अफसर (सीओ) जियाउल हक के मर्डर केस में आरोपी पवन यादव ने हक की पत्नी को जेल से लेटर लिखा है, जिसकी एक्

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


आलोक मेहता प्रधान संपादक, आउटलुक (हिंदी) ।। भारतीय सैनिक टुकड़ी पर पाकिस्तानी आतंकवादी हमले को कायराना और निंदनीय कहते हुए उत्तेजक प्रतिक्रिया स्वाभाविक है। इस मुद्दे पर सभी राजनीतिक दलों और देश भर में आक्रोश भ

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


आलोक मेहता प्रधान संपादक, आउटलुक (हिंदी) ।। अटलजी ‘राज धर्म’ निभाने की सलाह के साथ गठबंधन के नैतिक मानदंडों का पालन करते थे। मनमोहन सिंह के कुछ मंत्रियों को भ्रष्टाचार के आरोपों में जेल तक जाना पड़ा, लेकिन द्रम

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


आलोक मेहता प्रधान संपादक, आउटलुक (हिंदी) ।। एन.जी.ओ. के धंधे पर तलवार सुप्रीम कोर्ट ने देश में कुकुरमुत्तों की तरह फैल

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


आलोक मेहता प्रधान संपादक, आउटलुक (हिंदी) ।। रेल या‌त्रियों को ‘बुलेट’ की मार चीन और जापान की तरह भारत में बुलेट ट्रेन चलने में कई वर्ष लगने वाले हैं। चलेगी तो मुंबई और अहमदाबाद के बीच अधिकतम पैसा दे

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


आलोक मेहता प्रधान संपादक, आउटलुक (हिंदी) ।। एक लाख करोड़ के बावजूद प्यासे केंद्र सरकार अपने अधिकारियों को हर साल लगभग एक लाख करोड़ रुपए वेतन भत्तों के रूप म

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


आलोक मेहता प्रधान संपादक, आउटलुक (हिंदी) सरकारी लापरवाही और लालफीताशाही लगातार समाज को घाव देती रहती है। मेला-त्योहार नहीं गली-मोहल्ले में पतंगबाजी के लिए उपयोग होने वाले मांझे से दिल्ली में दो मासूम बच्चों की जान चली गई। मजबूती के नाम पर अब घर-आंगन में तैयारी करने के बजाय बाजार में खतरनाक पटाखों की तरह जानले

समाचार4मीडिया ब्यूरो 3 years ago


अभिषेक मेहरोत्रा ।। हिंदी बिजनेस न्यूज चैनल सीएनबीसी आवाज को जहां एक ओर वरिष्ठ पत्रकार और एडिटर-इन-चीफ संजय पुगलिया ने अलविदा कह दिया है, ऐसे में प्रबंधन ने वहां कार्यरत दो वरिष्ठ पत्रकारों का प्रमोशन कर उन्हें चैनल की जिम्मेदारी सौंप दी है। मिली जानकारी के मुताबिक चैनल में एग्जिक्यूटिव एडिटर के तौर पर कार्यरत आलोक जोशी को अब

समाचार4मीडिया ब्यूरो 4 years ago