सोशल मीडिया के कलाकारों की ‘कलाकारी’ का शिकार बने राजदीप सरदेसाई

किसी विडियो को काट-छांटकर सोशल मीडिया पर पोस्ट करना और फिर अर्थ का अनर्थ करके संबंधित व्यक्ति को उससे जोड़ देना आजकल आम हो गया है।

Last Modified:
Monday, 16 March, 2020
rajdeep sardesai

किसी विडियो को काट-छांटकर सोशल मीडिया पर पोस्ट करना और फिर अर्थ का अनर्थ करके संबंधित व्यक्ति को उससे जोड़ देना आजकल आम हो गया है। खासकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी इसका सबसे ज्यादा शिकार हुए हैं। उनका आलू से सोना बनाने वाला भाषण इस कलाकारी का सबसे प्रमुख उदाहरण है। अब ऐसे ही कलाकारों ने वरिष्ठ पत्रकार एवं ‘आजतक’ के कंसल्टिंग एडिटर राजदीप सरदेसाई को परेशान कर डाला है।

दरअसल, राजदीप ने ‘द लल्लनटॉप’ के ‘नेता नगरी’ कार्यक्रम में शिरकत की थी। इसमें उन्होंने ‘हाथ’ का साथ छोड़कर ‘कमल’ थामने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया के बारे में अपनी राय व्यक्त की थी। जो शायद कुछ लोगों को पसंद नहीं आई, इसलिए शो के छोटे-छोटे क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल करके यह दर्शाने का प्रयास किया जा रहा है कि राजदीप को सिंधिया के भाजपा में जाने का बेहद दुःख है।

खुद को भाजपा समर्थक बताने वाले विभूति सिंह नामक यूजर ने ऐसी ही एक क्लिपिंग पोस्ट की है, जिसमें राजदीप को कांग्रेस का आधिकारिक प्रवक्ता बताया गया है। साथ ही सिंह ने लिखा है ‘मैं आपका दर्द समझता हूं राजदीप जी, अब देवदास मत बन जाइएगा।’

इस ट्वीट का राजदीप सरदेसाई ने भी करारा जवाब दिया है। उन्होंने लिखा है, ‘मुझे दर्द तब होता है जब भारतीय धर्म के नाम पर एक-दूसरे की हत्या करते हैं और जिन लोगों के हाथ बेगुनाहों के खून से सने होते हैं, वे या तो बच निकलते हैं या बड़े नेता बन जाते हैं।’

राजदीप इतने पर ही नहीं रुके, उन्होंने अपने दूसरे ट्वीट में कहा, ‘नेता नगरी कार्यक्रम के बाद IT सेल और वॉट्सऐप यूनिवर्सिटी पूरे ओवरड्राइव में है! 30-30 सेकंड के विडियो शेयर कर रहे हैं! काश इसी जोश से यह लोग कोरोना वायरस पर फोकस करते! पूरा शो यहां देखें’! इस ट्वीट को लगभग 400 बार रीट्वीट किया जा चुका है।

राजदीप ने ‘नेता नगरी’ कार्यक्रम के बाद आने वाले संदेशों का जिक्र भी सोशल मीडिया पर किया है। उन्होंने लिखा है, ‘पिछले एक घंटे से वॉट्सऐप फौज मेरे वॉट्सऐप पर लगातार मैसेज डाल रही है, क्योंकि मैंने दिल्ली दंगों को लेकर नेता नगरी में सरकार पर कुछ सवाल उठाए! फिर पता चला कि मेरा फ़ोन नम्बर RW की इंटरनेट सेल ने सोशल मीडिया पर डालकर फौज को कहा आप इन्हें मैसेज करते रहिए’!

राजदीप के साथ ही और भी कई पत्रकारों को इस तरह की स्थिति का सामना करना पड़ता है। एनडीटीवी के वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार के पुराने विडियो भी नए-नए रूप में सोशल मीडिया पर वायरल होते रहते हैं, जिसके माध्यम से यह दर्शाने का प्रयास किया जाता है कि उनकी पत्रकारिता पक्षपातपूर्ण है। वैसे यदि आप मध्यप्रदेश के सियासी संकट को गहराई से समझना चाहते हैं, तो ‘नेता नगरी’ का यह एपिसोड देख सकते हैं।   

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

ITV नेटवर्क की पहल ने जीता पीएम मोदी का दिल, कहा- ...उत्साह बढ़ाने वाला विडियो

कोरोना संक्रमण के खिलाफ लड़ाई में देश ‘सामूहिक शक्ति’ का परिचय देने के लिए तैयार है। कोरोना के अंधकार को प्रकाश की ताकत से हराने की बात प्रधानमंत्री ने क्या कही, कि पूरा देश इस ओर एक साथ चल पड़ा है

Last Modified:
Sunday, 05 April, 2020
itv

कोरोना संक्रमण के खिलाफ लड़ाई में देश ‘सामूहिक शक्ति’ का परिचय देने के लिए तैयार है। कोरोना के अंधकार को प्रकाश की ताकत से हराने की बात प्रधानमंत्री ने क्या कही, कि पूरा देश इस ओर एक साथ चल पड़ा है। इसी कड़ी में पीएम मोदी के साथ मीडिया भी खड़ा नजर आ रहा है। ‘टीवी9 भारतवर्ष’ के बाद पीएम मोदी ने ‘ITV नेटवर्क’ की पहल की तारीफ की है।

दरअसल, पीएम मोदी ने देशवासियों से एकजुटता का संदेश देकर सामूहिक संकल्प का प्रदर्शन करने के लिए रविवार रात दीये, मोमबत्ती जलाने की अपील की है , ताकि कोरोना वायरस के खिलाफ छेड़ी गई जंग में पूरा देश एक साथ खड़ा हो सके और कोई खुद को अकेला न महसूस कर सके। लिहाजा इसी कड़ी में  ITV नेटवर्क के नेतृत्व में ‘इंडिया न्यूज’ ने बेहद ही अनूठा तरीका निकालकर लोगों से प्रधानमंत्री की अपील का समर्थन देने की बात कही है।

दरअसल, ‘इंडिया न्यूज’ ने एक विडियो जारी किया है- ‘आओ मिलकर दिया जलाएं’ गीत के साथ, जो कि बेहद ही खूबसूरत है और इस गीत को मशहूर सूफी गायक कैलाश खैर ने अपनी आवाज दी है। यह विडियो लोगों को भी काफी पसंद आ रहा है। प्रधानमंत्री मोदी ने भी जैसे ही इस विडियो को देखा-सुना, वो खुद को इस पर अपनी प्रतिक्रिया देने से रोक नहीं पाए।   

पीएम मोदी ने लिखा, ‘कोरोना से लड़ने में मीडिया बहुत बड़ी भूमिका निभा रहा है। कैलाश खेर की मधुर आवाज में इंडिया न्यूज का ये विडियो संदेश देशवासियों का उत्साह बढ़ाने वाला है। आओ मिलकर दीया जलाएं… #9pm9minute’

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी ने अपने विडियो संदेश में शुक्रवार को लोगों से अनुरोध किया था कि वे कोरोना वायरस को हराने में देश के 'सामूहिक संकल्प' का प्रदर्शन करने के लिए पांच अप्रैल को रात नौ बजे नौ मिनट के लिए अपने घरों की बत्ती बुझाएं और मोमबत्ती, दीये या मोबाइल फोन की फ्लैश लाइट या टॉर्च जलाएं। पीएम ने कहा था कि हमें कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में 130 करोड़ देशवासियों के महासंकल्प को नई ऊंचाइयों पर ले जाना है, इसलिये पांच अप्रैल, रविवार को रात नौ बजे मैं आप सबके नौ मिनट चाहता हूं। उन्होंने कहा था कि हर व्यक्ति जब एक-एक दिया जलाएगा तो प्रकाश की उस महाशक्ति का अहसास होगा, जिसमें यह उजागर होगा कि हम एक ही मकसद से एकजुट होकर लड़ रहे हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

संकट की घड़ी में दीपक चौरसिया का यह ‘योगदान’ है सबसे अनूठा

मुश्किल समय में जो आपके साथ खड़ा हो वही सच्चा हितैषी कहलाता है। कोरोना से मुकाबले के लिए लोग बढ़-चढ़कर प्रधानमंत्री राहत कोष में दान कर रहे हैं

Last Modified:
Sunday, 05 April, 2020
deepak

मुश्किल समय में जो आपके साथ खड़ा हो वही सच्चा हितैषी कहलाता है। कोरोना से मुकाबले के लिए लोग बढ़-चढ़कर प्रधानमंत्री राहत कोष में दान कर रहे हैं। इसमें आम जनता से लेकर पत्रकार तक शामिल हैं। अब तक कई पत्रकार अपनी कमाई का कुछ हिस्सा इस जंग के नाम कर चुके हैं। उनमें से एक नाम दीपक चौरसिया का भी है।

हालांकि, चौरसिया का यह ‘सहयोग’ बाकियों से अलग और अनूठा है। वह इस लिहाज से कि इसमें उनके परिवार का प्रत्येक सदस्य शामिल है। ‘न्यूज नेशन’ के कंसल्टिंग एडिटर दीपक चौरसिया ने राहत कोष में जो राशि दान की है, उसमें उनके बच्चों की पॉकेट मनी भी है।

आमतौर पर बच्चे अपनी पॉकेट मनी में किसी को हाथ भी नहीं लगाने देते, लेकिन यदि इतनी छोटी उम्र में वह देशसेवा पर उसे न्यौछावर कर रहे हैं, तो इसके लिए उनकी परवरिश की सराहना बनती है। दीपक की पहचान खुद एक राष्ट्रवादी पत्रकार की है, ऐसे में जब कोरोना के मुकाबले के लिए सरकार आर्थिक मोर्चे पर स्वयं को मजबूत कर रही है उम्मीद थी कि दीपक भी अपनी ज़िम्मेदारी निभाएंगे और वह इस पर पूरी तरह खरे उतरे।

दीपक चौरसिया के साथ-साथ उनके पूरे परिवार ने इस मुश्किल घड़ी में सरकार का साथ दिया। चौरसिया ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर इस ‘सहयोग’ की जानकारी दी है। हालांकि, उन्होंने खुद आगे बढ़कर लोगों को यह नहीं बताया कि वह क्या दान कर रहे हैं। जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनके सहयोग के लिए धन्यवाद कहा, तब उसके जवाब में उन्होंने अपने परिवार के साथ इस लड़ाई में सरकार के साथ खड़े होने की बात कही।

पीएम के ट्वीट के जवाब में चौरसिया ने लिखा, ‘धन्यवाद @narendramodi जी, मैंने अपनी पत्नी अनसुइया और बेटियों के साथ मिलकर एक छोटा सा योगदान दिया है। बेटी आलोकिता (9) और बेटी अलंकृता (5) ने अपनी पॉकेट मनी और परिवार से मिलें उपहारों को #PMCaresFunds में दिए है। इस लड़ाई में देश का बच्चा बच्चा आपके साथ खड़ा है’।

दीपक के इस जवाबी ट्वीट को भाजपा नेता संबित पात्रा ने री-ट्वीट किया है। पात्रा खुद भी पत्रकारों से दान की अपील कर रहे हैं। उनकी अपील पर कुछ पत्रकार आगे भी आये हैं, लेकिन जिस तरह से पूरे चौरसिया परिवार ने राहत कोष में दान करके देश के प्रति अपनी ज़िम्मेदारी निभाई है उसके लिए वह बधाई के पात्र हैं।     

ये भी पढ़ें- वरिष्ठ नेता संबित पात्रा ने 5 पत्रकारों से किया संपर्क, रूबिका लियाकत ने निभाया वादा

ये भी पढ़ें- चित्रा त्रिपाठी ने जगाई थी अलख, अब कोरोना से लड़ाई में कई पत्रकार आये आगे​​​​​​​

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।