enba 2015: किस चैनल ने जीता बेस्ट चैनल अवॉर्ड, कौन बना बेस्ट एंकर, देखें पूरी लिस्ट

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।। बहुप्रतीक्षित ‘एक्सचेंज4मीडिया न्यूज ब्रॉडकास्टिंग अवॉर्ड्स 2015’ (enba-2015) की घोषणा कर दी गई है। यह घोषणा शनिवार को नोएडा में स्थित होटल रेडिसन ब्लू में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान की गई। प्रतिष्ठित ‘न्यूज टेलिविजन सीईओ ऑफ द ईयर’ अवॉर्ड इंडिया टुडे ग्रुप के सीईओ आशीष बग्गा ने जीता, जबकि ‘महाराष्ट्

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Monday, 15 February, 2016
Last Modified:
Monday, 15 February, 2016
enba
समाचार4मीडिया ब्यूरो ।। बहुप्रतीक्षित ‘एक्सचेंज4मीडिया न्यूज ब्रॉडकास्टिंग अवॉर्ड्स 2015’ (enba-2015) की घोषणा कर दी गई है। यह घोषणा शनिवार को नोएडा में स्थित होटल रेडिसन ब्लू में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान की गई। प्रतिष्ठित ‘न्यूज टेलिविजन सीईओ ऑफ द ईयर’ अवॉर्ड इंडिया टुडे ग्रुप के सीईओ आशीष बग्गा ने जीता, जबकि ‘महाराष्ट्र1’ न्यूज चैनल के निखिल वाग्ले को ‘लाइफटाइम अचीवमेंट’ अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। हिंदी कैटेगरी में ‘आजतक’ को ‘चैनल ऑफ द ईयर’ अवॉर्ड मिला। इसके साथ ही आजतक की झोली में कई अन्य अवॉर्ड भी आए। इनमें कार्यक्रम 'रात क्या होती है भोपाल से पूछो' को ‘बेस्ट करंट अफेयर्स प्रोग्राम’(हिंदी) का अवॉर्ड मिला, जबकि नेपाल भूकंप की दमदार कवरेज के लिए ‘बेस्ट न्यूज कवरेज- इंटरनेशनल’ (हिंदी) का अवॉर्ड दिया गया। ‘बेस्ट विडियो एडिटर’ (हिंदी) का अवॉर्ड अमित सिंह और अनुपम राजखोवा को ‘चैंपियन फिर से’ प्रोग्राम के लिए दिया गया। इतना ही नहीं, बेस्ट चैनल मार्केटिंग (हिंदी) और ‘बेस्ट चैनल ऑर प्रोग्राम प्रोमो’ (हिंदी) का खिताब ‘दिल्ली के दिल में क्या है’ प्रोग्राम के लिए आजतक को दिया गया। ‘मोस्ट प्रॉमिशिंग चैनल ऑफ द ईयर’ (अंग्रेजी) का अवॉर्ड ‘न्यूज9’ चैनल ने जीता। इसके अतिरिक्त ‘Bengaluru's Burning Lakes’ प्रोग्राम के लिए दीपक बोपन्ना को ‘बेस्ट कंटिन्यूइंग कवरेज बाइ अ रिपोर्टर’ (अंग्रेजी) अवॉर्ड दिया गया और ‘बेस्ट विडियोग्राफर’ (अंग्रेजी/हिंदी) का अवॉर्ड जय जगन को दिया गया। ‘बेस्ट करेंट अफेयर्स प्रोग्राम’(अंग्रेजी) का अवॉर्ड ‘एनडीटीवी24X7’ चैनल के ‘ट्रूथ वर्सेज हाइप- नो वन किल्ड रमेश खामंकर ((Truth vs Hype- No one killed Ramesh Khamankar))’ प्रोग्राम को दिया गया, जबकि ‘बेस्ट टॉक शो’ (अंग्रेजी) अवॉर्ड ‘द एनडीटीवी डायलॉग्स: इंडिया’ज डॉटर निर्भया द डॉक्यूमेंट्री (The NDTV Dialogues: India's Daughter Nirbhaya the documentary)’ को दिया गया, वहीं ‘Truth Vs Hype (Untold Stories of The Syrian Refugee Crisis)’ को दमदार कवरेज के लिए ‘बेस्ट न्यूज कवरेज- इंटरनेशनल’ (हिंदी) का अवॉर्ड दिया गया। वहीं अंग्रेजी के बेस्ट एंकर का अवॉर्ड श्रीनिवासन जैन को दिया गया और बेस्ट चैनल मार्केटिंग का अवॉर्ड भी एनडीटीवी 24X7 के खाते में ही गया। इंडिया टुडे टेलिविजन को ‘तेलंगाना'ज सुसाइड क्रॉप (Telengana's Suicide Crop)’ के लिए ‘बेस्ट करंट अफेयर्स प्रोग्राम’(अंग्रेजी) का अवॉर्ड मिला है, जबकि ‘बेस्ट इन-डेप्थ सीरीज’ (अंग्रेजी) का अवॉर्ड भी इंडिया टुडे के खाते में ‘इन कश्मीर द पीपुल + इन कश्मीर द पॉलिटिशियंस (In Kashmir the People + In Kashmir the Politicians)’ प्रोग्राम के लिए गया। ‘बेस्ट न्यूज कवरेज- नेशनल’ (अंग्रेजी) अवॉर्ड ‘दिल्ली इलेक्शन कवरेज 2015’ के लिए भी एनडीटीवी को गया। ‘बेस्ट विडियोग्राफर’ कशिश सिद्दकी को ‘इन डिपेंडेंस (In Dependence)’ के लिए दिया गया, ‘बेस्ट विडियो एडिटर’ (अंग्रेजी) का खिताब अनुपम राज खोवा और किशोर सेठी को ‘Nepal's Nightmare, Above Destruction’ और राजीव चंदन व कौशिक सेन को इनसाइड कुंभ (Inside Kumbh) के लिए दिया गया। ‘बेस्ट बिजनेस प्रोग्राम’ (अंग्रेजी) का अवॉर्ड ‘द जीएसटी क्लासरूम’ के लिए सीएनएन-आईबीएन को दिया गया, जबकि रिपोर्टर प्रोजेक्ट के लिए ‘बेस्ट इन-डेप्थ सीरीज’ (अंग्रेजी) का खिताब दिया गया। चैनल के ‘द हिमालयन ट्रेजडी’ प्रोग्राम को ‘बेस्ट न्यूज कवरेज- इंटरनेशनल’ (अंग्रेजी) खिताब से नवाजा गया। नेपाल भूकंप की कवरेज के लिए प्रभाकर कुमार को बेस्ट स्पॉट न्यूज रिपोर्टिंग (अंग्रेजी) अवॉर्ड दिया गया। dibangएबीपी न्यूज के ‘प्रेस कॉन्फ्रेंस- अरविंद केजरीवाल’ को ‘बेस्ट टॉक शो’ के खिताब से नवाजा गया। ‘रामराज्य’ शो को बेस्ट इन-डेप्थ सीरीज (हिंदी) और ‘ऑपरेशन सम्मोहन’ को ‘बेस्ट न्यूज कवरेज- नेशनल’ का खिताब दिया गया। वहीं हिंदी कैटेगरी में दिबांग को बेस्ट एंकर का अवॉर्ड मिला। आईबीएन7 के ‘ऑपरेशन30 सेकेंड’ को बेहतरीन कवरेज के लिए ‘बेस्ट न्यूज कवरेज- नेशनल’ (हिंदी) का अवॉर्ड दिया गया और ‘बिहार मांगे मोर’ के लिए प्रतीक त्रिवेदी को ‘बेस्ट कंटिन्यूइंग कवरेज बाइ अ रिपोर्टर’ (हिंदी) अवॉर्ड दिया गया। इंडिया न्यूज ने ‘घर एक सपना’ प्रोग्राम के लिए बेस्ट बिजनेस प्रोग्राम (हिंदी) का खिताब अपने नाम किया और ‘किस्सा कुर्सी का’ के लिए वैभव वर्धान को बेस्ट न्यूज प्रड्यूसर का अवॉर्ड दिया गया। ‘द अवॉर्ड फॉर यंग प्रफेशनल ऑफ द ईयर- एडिटोरियल’ (अंग्रेजी/हिंदी) का खितबा ‘न्यूज9’ की पूर्वा जैन को गया। एनडीटीवी की सोनिया सिंह ने ‘न्यूज टेलिविनज एडिटर-इन-चीफ’ (अंग्रेजी) का अवॉर्ड अपने नाम किया, जबकि हिंदी के लिए यही अवॉर्ड इंडिया न्यूज के दीपक चौरसिया और एबीपी न्यूज के मिलिंद खांडेकर ने अपने नाम किया। सीनएबीसी टीवी-18 और जी बिजनेस ने ‘बार्क इंडिया बिजनेस न्यूज चैनल ऑफ द ईयर’ अवॉर्ड क्रमश: अंग्रेजी और हिंदी के लिए अपने नाम किया। यहां देखें विजेताओं की सूची:
A. PROGRAMMING
A.1 BEST CURRENT AFFAIRS PROGRAMME - ENGLISH
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 TRUTH VS HYPE (NO ONE KILLED RAMESH KHAMANKAR) NDTV 24x7
2 TELENGANA'S SUICIDE CROP India Today Television
A.2 BEST CURRENT AFFAIRS PROGRAMME - HINDI
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 RAAT KYA HOTI HAI BHOPAL SE PUCHO Aaj Tak
A.3 BEST BUSINESS PROGRAMME - ENGLISH
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 THE GST CLASSROOM CNN-IBN
A.4 BEST BUSINESS PROGRAMME - HINDI
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 GHAR EK SAPNA - ASSURED RETURNS INDIA News
A.5 BEST TALK SHOW - ENGLISH
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 THE NDTV DIALOGUES: INDIA'S DAUGHTER NIRBHAYA THE DOCUMENTARY NDTV 24x7
A.6 BEST TALK SHOW - HINDI
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 PRESS CONFERENCE – ARVIND KEJRIWAL ABP News
A.7 BEST IN-DEPTH SERIES - ENGLISH
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 REPORTERS PROJECT CNN-IBN
2 IN KASHMIR THE PEOPLE + IN KASHMIR THE POLITICIANS India Today Television
A.8 BEST IN-DEPTH SERIES - HINDI
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 RAMRAJYA ABP News
A.9 BEST NEWS COVERAGE - NATIONAL - ENGLISH
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 DELHI ELECTIONS COVERAGE 2015 India Today Television
A.10 BEST NEWS COVERAGE - NATIONAL - HINDI
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 OPERATION SAMMOHAN ABP News
2 OPERATION 30 SECONDS IBN7
A.11 BEST NEWS COVERAGE - INTERNATIONAL - ENGLISH
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 TRUTH VS HYPE (UNTOLD STORIES OF THE SYRIAN REFUGEE CRISIS) NDTV 24x7
2 THE HIMALAYAN TRAGEDY CNN-IBN
A.12 BEST NEWS COVERAGE - INTERNATIONAL - HINDI
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 NEPAL EARTHQUAKE Aaj Tak
A.13 BEST NEWS COVERAGE BY AN INTERNATIONAL NEWS CHANNEL IN INDIA - ENGLISH
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 MAGGI NOODLES SCANDAL BBC WORLD NEWS
B. PERSONALITY
B. 1 BEST ANCHOR - ENGLISH
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 SREENIVASAN JAIN NDTV 24x7
B.2 BEST ANCHOR - HINDI
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 DIBANG ABP News
B.3 BEST SPOT NEWS REPORTING - ENGLISH
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 PRABHAKAR KUMAR FOR NEPAL QUAKE COVERAGE CNN-IBN
B.4 BEST SPOT NEWS REPORTING - HINDI
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 SHIVANG MATHUR News24
B.5 BEST CONTINUING COVERAGE BY A REPORTER - ENGLISH
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 ARCHANA SHUKLA FOR WHAT'S AILING RURAL INDIA CNBC-TV18
2 DEEPAK BOPANNA-BENGALURU'S BURNING LAKES NEWS9
B.6 BEST CONTINUING COVERAGE BY A REPORTER - HINDI
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 PRATEEK TRIVEDI (BIHAR MAANGE MORE) IBN7
B.7 BEST VIDEOGRAPHER - ENGLISH/HINDI
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 KASHIF SIDDIQUI (IN DEPENDENCE) India Today Television
2 JAY JAGAN NEWS9
B.8 BEST VIDEO EDITOR - ENGLISH
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 ANUPAM RAJKHOWA & KISHORE SETHI (NEPAL'S NIGHTMARE, ABOVE DESTRUCTION) India Today Television
2 RAJEEV CHANDAN & KAUSHIK SEN (INSIDE KUMBH) India Today Television
B.9 BEST VIDEO EDITOR - HINDI
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 AMIT SINGH & ANUPAM RAJKHOWA (CHAMPION PHIR SE) Aaj Tak
B.11 BEST NEWS PRODUCER - HINDI
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 VAIBHAW VARDHAN FOR KISSA KURSI KA INDIA News
C. MARKETING
C.1 BEST CHANNEL MARKETING - ENGLISH
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 NDTV NON TABLOID MOUTH PIECE PROMO SHORT VERSION NDTV 24x7/ NDTV Network
C.2 BEST CHANNEL MARKETING - Hindi
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 DILLI KE DIL MEIN KYA HAI Aaj Tak
C.4 BEST CHANNEL OR PROGRAMME PROMO - HINDI
S.NO ENTRY NAME CHANNEL
1 DILLI KE DIL MEIN KYA HAI Aaj Tak
D. OVERALL EXCELLENCE
YOUNG PROFESSIONAL OF THE YEAR -EDITORIAL- ENGLISH/ HINDI
POORVA JAIN, NEWS9
NEWS TELEVISION EDITOR-IN-CHIEF OF THE YEAR- ENGLISH
SONIA SINGH, NDTV
NEWS TELEVISION EDITOR-IN-CHIEF OF THE YEAR-- HINDI
DEEPAK CHAURASIA, INDIA News
MILIND KHANDEKAR, ABP News
NEWS TELEVISION CEO OF THE YEAR
ASHISH BAGGA, India Today Group
BARC INDIA BUSINESS NEWS CHANNEL OF THE YEAR- ENGLISH
CNBC-TV18
BARC INDIA BUSINESS NEWS CHANNEL OF THE YEAR - HINDI
Zee Business
MOST PROMISING CHANNEL OF THE YEAR- ENGLISH
NEWS9
NEWS CHANNEL OF THE YEAR- HINDI
Aaj Tak
LIFETIME ACHIEVEMENT AWARD
NIKHIL WAGLE, Maharashtra1

समाचार4मीडिया देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया.कॉम में हम आपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं। समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
TAGS media
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

TRAI के नए चेयरमैन की हुई नियुक्ति, एक अक्टूबर को संभालेंगे कार्यभार

ट्राई के वर्तमान चेयरमैन आरएस शर्मा इस साल 30 सितंबर को सेवानिवृत्त हो रहे हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Monday, 28 September, 2020
Last Modified:
Monday, 28 September, 2020
TRAI

डॉ. पीडी वाघेला को ‘टेलिकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया’ (TRAI) का नया चेयरमैन नियुक्त किया गया है। कैबिनेट की नियुक्ति समिति ने इस पद पर डॉ. पीडी वाघेला के नाम पर मुहर लगा दी है। इस पद पर वाघेला का कार्यकाल तीन वर्ष के लिए होगा। डॉ. वाघेला की इस पद पर नियुक्ति संबंधी आदेश में कहा गया है, ‘कैबिनेट की नियुक्ति समिति (ACC) ने ट्राई चेयरमैन के रूप में गुजरात कैडर के 1986 बैच के आईएएस अधिकारी डॉ. पीडी वाघेला की नियुक्ति को अपनी अनुमति दे दी है। उनका कार्यकाल तीन वर्ष के लिए अथवा 65 वर्ष की आयु तक अथवा अगले आदेश तक (जो भी पहले हो) प्रभावी होगा।’

वाघेला की गिनती उन चुनिंदा अधिकारियों में होती है, जिन्होंने जीएसटी को लागू कराने में अहम भूमिका निभाई। गुजरात कैडर के आईएएस अधिकारी वाघेला वर्तमान में फार्मास्यूटिकल्स विभाग में सेक्रेट्री के पद पर कार्यरत हैं। वह एक अक्टूबर को ट्राई चेयरमैन के रूप में अपना पदभार ग्रहण करेंगे।  

बता दें कि वाघेला, आरएस शर्मा की जगह लेंगे जो 30 सितंबर को सेवानिवृत्त हो रहे हैं। 1978 बैच के आईएएस अधिकारी आरएस शर्मा को अगस्त 2015 में इस पद पर नियुक्त किया गया था। वह एकमात्र ऐसे चेयरपर्सन हैं, जिनका कार्यकाल अगस्त 2018 में दो साल के लिए बढ़ाया गया था।

ट्राई के नए चेयरमैन के रूप में डॉ. पीडी वाघेला को नियुक्त किए जाने संबंधी सरकारी आदेश की कॉपी आप यहां देख सकते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Netflix से जुड़ीं करुणा गुलयानी, निभाएंगी ये बड़ी जिम्मेदारी

करुणा इससे पहले ‘उबर’ (Uber) के साथ जुड़ी हुई थीं और बतौर कॉरपोरेट एंड पॉलिसी कम्युनिकेशंस हेड (भारत और दक्षिण एशिया) की जिम्मेदारी संभाल रही थीं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Monday, 28 September, 2020
Last Modified:
Monday, 28 September, 2020
Netflix

करुणा गुलयानी (Karuna Gulyani) ने ‘नेटफ्लिक्स’ (Netflix) के साथ अपनी नई पारी शुरू की है। उन्होंने यहां पर बतौर कॉरपोरेट एंड पॉलिसी कम्युनिकेशंस लीड जॉइन किया है। इस बात की जानकारी उन्होंने लिंक्डइन पोस्ट के जरिये दी है।

करुणा इससे पहले ‘उबर’ (Uber) के साथ जुड़ी हुई थीं और बतौर कॉरपोरेट एंड पॉलिसी कम्युनिकेशंस हेड (भारत और दक्षिण एशिया) की जिम्मेदारी संभाल रही थीं। गुलयानी को कम्युनिकेशन इंडस्ट्री में काम करने का 15 साल से ज्यादा का अनुभव है।

गुलयानी ने अपने करियर की शुरुआत ‘Text 100 Pvt. Ltd’के साथ बतौर अकाउंट मैनेजर की थी। इसके बाद उन्होंने ‘Turner Broadcasting’, ‘Discovery Networks Asia Pacific’ और ‘Facio Communication Pvt. Ltd’ जैसे बड़े ब्रैंड्स के साथ काम किया। वह अब तक कई मार्केटिंग व कम्युनिकेशन कैंपेन का नेतृत्व कर चुकी हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

The Quint में अब नई भूमिका निभाएंगी देविका दयाल

डिजिटल न्यूज प्लेटफॉर्म ‘द क्विंट’ (The Quint) ने नेशनल रेवेन्यू हेड देविका दयाल को प्रमोट कर नई जिम्मेदारी सौंपी है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 25 September, 2020
Last Modified:
Friday, 25 September, 2020
Devika Dayal

डिजिटल न्यूज प्लेटफॉर्म ‘द क्विंट’ (The Quint) ने नेशनल रेवेन्यू हेड देविका दयाल को चीफ रेवेन्यू ऑफिसर के पद पर प्रमोट किया है। देविका दयाल को ऐड सेल्स के क्षेत्र में काम करने का करीब दो दशक का अनुभव है। नई भूमिका में ‘The Quint’ के रेवेन्यू से जुड़े सभी प्रकार के कार्यों की जिम्मेदारी उन्हीं के ऊपर होगी।

इस बारे में ‘द क्विंट’ की सीईओ और को-फाउंडर रितु कपूर का कहना है, ‘मैंने पूर्व में नेटवर्क18 और अब द क्विंट में देविका का काम देखा है। बढ़ते मार्केट और कंटेंट की गतिशीलता के साथ प्रयोग करना उनकी खासियत है और यह उन्हें आगे रखती है। डिजिटल न्यूज पब्लिशिंग ईकोसिस्टम तेजी से बदल रहा है और देविका ने नए रेवेन्यू ब्लूप्रिंट तैयार करने के लिए टेक्नोलॉजी और सेल्स स्ट्रैटेजी दोनों का सहारा लिया है। मुझे पूरा विश्वास है कि चीफ रेवेन्यू ऑफिसर के रूप में देविका रेवेन्यू जुटाने में काफी बेहतर प्रदर्शन करेंगी।’

बता दें कि ‘द क्विंट’ को जॉइन करने से पूर्व देविका ‘आईटीवी नेटवर्क’ (ITV Network) से जुड़ी हुई थीं और  ‘न्यूजएक्स’(NewsX) में बतौर सीओओ अपनी जिम्मेदारी संभाल रही थीं। इसके अलावा ‘नेटवर्क18’में करीब 10 साल तक उन्होंने विभिन्न पदों पर अपनी भूमिका निभाई है। वह वर्ष 2011 में देश में ‘हिस्ट्रीटीवी18’ (History TV18) को लॉन्च कराने वाली लीडरशिप टीम का हिस्सा भी रही हैं। पूर्व में वह ‘डिस्कवरी कम्युनिकेशंस इंडिया’ (Discovery Communications India) और ‘जी नेटवर्क’ (Zee Network) में भी अपनी जिम्मेदारी निभा चुकी हैं।

वहीं, अपनी नई भूमिका के बारे में देविका दयाल का कहना है, ‘द क्विंट में पिछले तीन साल का सफर काफी अच्छा रहा है। द क्विंट में चीफ रेवेन्यू ऑफिसर के रूप में नई जिम्मेदारी मिलने को लेकर मैं काफी उत्साहित हूं।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

पत्रकारों के हित में यूपी सरकार ने लिया ये बड़ा फैसला

संक्रमण काल के दौरान अपनी जान जोखिम में डालकर पत्रकार ग्राउंड रिपोर्टिंग कर रहे हैं। ऐसे में कई पत्रकारों के कोरोना से संक्रमित होने की खबरें भी सामने आई हैं

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 25 September, 2020
Last Modified:
Friday, 25 September, 2020
Covid19

संक्रमण काल के दौरान अपनी जान जोखिम में डालकर पत्रकार ग्राउंड रिपोर्टिंग कर रहे हैं। ऐसे में कई पत्रकारों के कोरोना से संक्रमित होने की खबरें भी सामने आई हैं, जिनमें कई पत्रकारों की तो जान तक चली गई है। ऐसे में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य के पत्रकारों के परिवार के हित में एक अहम फैसला लिया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को कहा कि राज्य में मान्यता प्राप्त पत्रकारों को प्रतिवर्ष पांच लाख रुपए का स्वास्थ्य बीमा कवर दिया जाएगा। साथ ही कोरोना वायरस संक्रमण से किसी पत्रकार की मौत होने पर उसके परिजनों को को दस लाख सरकार रुपए की आर्थिक सहायता दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने ये घोषणाएं राजधानी में नवनिर्मित पंडित दीन दयाल उपाध्याय सूचना परिसर भवन के उद्घाटन के दौरान कीं।

उन्होंने कहा कि सूचना विभाग शासन और प्रशासन के कार्यों को मीडिया तक पहुंचाने के लिए एक सेतु का काम करता है। उन्होंने कहा, ‘किसी भी सरकार के कार्यों का आम जनमानस तक पहुंचाने का एक सशक्त माध्यम सूचना एवं जनसंपर्क कार्यालय होता है। शासन का काम योजनाएं बनाना होता है प्रशासन उसे विभिन्न माध्यमों से आम जन तक पहुंचाता है, लेकिन जनता, शासन और प्रशासन के बीच में एक महत्तवपूर्ण सेतु के रूप में मीडिया की भूमिका को नकारा नहीं जा सकता। 

उन्होंने कहा कि प्रदेश के मान्यता प्राप्त पत्रकारों को राज्य सरकार प्रतिवर्ष पांच लाख रुपए का स्वास्थ्य बीमा कवर देगी, इसके अलावा कोरोना वायरस संक्रमण से किसी पत्रकार की मृत्यु होने पर उसके परिजन को दस लाख रुपए की आर्थिक सहायता दे जाएगी। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में मीडियाकर्मी काम कर रहे है और पत्रकारों को पूरी सुरक्षा और जागरुकता के साथ काम करते हुए संक्रमण से बचना चाहिए। 

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य में इन्सेफलाइटिस कुछ साल तक एक जानलेवा बीमारी थी जो धीरे धीरे पूरे पूर्वी उत्तर प्रदेश को अपनी चपेट में ले चुकी थी, लेकिन प्रधानमंत्री स्वच्छता मिशन कार्यक्रमों और प्रदेश सरकार की योजनाओं की बदौलत इस बीमारी को समाप्त करने में सफलता मिली।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Indian Broadcasting Foundation में के.माधवन का कद बढ़ा, अब संभालेंगे यह जिम्मेदारी

माधवन को पिछले साल दिसंबर में ‘स्टार’ (Star) और ‘डिज्नी इंडिया’ (Disney India) का नया कंट्री मैनेजर नियुक्त किया गया था।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 25 September, 2020
Last Modified:
Friday, 25 September, 2020
IBF

‘स्टार’ (Star) और ‘डिज्नी इंडिया’ (Disney India) के मैनेजिंग डायरेक्टर के. माधवन को ‘इंडियन ब्रॉडकास्टिंग फाउंडेशन’ (Indian Broadcasting Foundation) का नया प्रेजिडेंट नामित किया गया है। वह ‘सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स’ (Sony Pictures Networks) के सीईओ और एमडी एनपी सिंह की जगह यह जिम्मेदारी संभालेंगे। टेलिविजन ब्रॉडकास्टर्स के प्रतिनिधित्व वाले इस प्रमुख संगठन में माधवन इससे पहले वाइस प्रेजिडेंट (रीजनल अफेयर्स) पद की जिम्मेदारी संभाल रहे थे।

बता दें कि माधवन को पिछले साल दिसंबर में ‘स्टार’ (Star) और ‘डिज्नी इंडिया’ (Disney India) का नया कंट्री मैनेजर नियुक्त किया गया था। अपनी इस भूमिका में माधवन ‘स्टार’ और ‘डिज्नी इंडिया’ के टेलिविजन बिजनेस (एंटरटेनमेंट, स्पोर्ट्स और रीजनल चैनल्स) के साथ ही भारत में इसके स्टूडियो बिजनेस का काम संभालते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

ईमानदार मीडिया हाउसेज के लिए यह काफी मुश्किल घड़ी है: सुधीर चौधरी

‘जी न्यूज’, ‘जी बिजनेस’ और ‘विऑन’ के एडिटर-इन-चीफ सुधीर चौधरी का कहना है कि न्यूज प्रोफेशन ऑर्गेनिक (organic) होता है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 25 September, 2020
Last Modified:
Friday, 25 September, 2020
Sudhir Chaudhary

‘जी न्यूज’ (Zee News), ‘जी बिजनेस’ (Zee Business) और ‘विऑन’ (Wion) के एडिटर-इन-चीफ सुधीर चौधरी का कहना है कि न्यूज प्रोफेशन ऑर्गेनिक (organic) होता है। इसमें काफी जिम्मेदारी व अनुशासन की जरूरत होती है और गलती के लिए जगह नहीं होती है। ऐसे में सटीकता (accuracy) के उच्च मानदंडों को बनाए रखने के लिए न्यूजरूम में अनुशासन की जरूरत होती है। ‘गवर्नेंस नाउ’ (Governance Now) के एमडी कैलाशनाथ अधिकारी के साथ एक बातचीत में सुधीर चौधरी का कहना था कि टेलिविजन के टीआरपी आधारित बिजनेस मॉडल की वजह से न्यूजरूम्स में अनुशासन व जिम्मेदारी की कमी है।

पब्लिक पॉलिसी प्लेटफॉर्म पर ‘विजिनरी टॉक सीरीज’ (Visionary Talk series) के 13वें एपिसोड के तहत होने वाले इस वेबिनार के दौरान सुधीर चौधरी का यह भी कहना था, ‘दुर्भाग्य से इन दिनों आप जितने गैरजिम्मेदार होंगे, उतनी ही टीआरपी आपको मिलेगी। ईमानदार और विवेकशील मीडिया संस्थानों के लिए यह मुश्किल घड़ी है और धैर्य बनाए रखने की जरूरत है।’

न्यूज टीवी के इस बिजनेस मॉडल के बारे में सुधीर चौधरी ने कहा कि यह एक निश्चित सीमा से अधिक निवेश की अनुमति नहीं देता है। उनका कहना था, ‘एक न्यूज संस्थान बिजनेस चला रहा है, लेकिन हमारे देश में लोग फिर भी इसे मुफ्त मानते हैं और एंटरटेनमेंट के विपरीत इसके लिए भुगतान नहीं करना चाहते हैं।’ उन्होंने टीवी चैनल के संपादक की तुलना एक फिल्म प्रड्यूसर से की, जहां बॉक्स ऑफिस की किस्मत हर गुरुवार को तय होती है और सफलता के फॉर्मूले के बारे में सोचने के लिए कहा जाता है।

चौधरी ने तुष्टिकरण की पत्रकारिता पर भी बात की और कहा कि हमारे देश में 60-70 वर्षों से पद्मश्री प्रकार की पत्रकारिता रही है, जब विभिन्न सरकारों ने प्लाट्स/मकानों के आवंटन और पुरस्कारों समेत तमाम तरीकों से कई पत्रकारों और मीडिया संस्थानों को उपकृत किया। सुधीर चौधरी के अनुसार, ‘यदि मैं सरकार के अच्छे कामों को सपोर्ट करता हूं या उनके बारे में बात करता हूं तो आपको देखना होगा कि सरकार के साथ कोई छिपा हुआ हित अथवा कोई डीलिंग तो नहीं हुई है या क्या सरकार मुझसे किसी प्रकार का लाभ हासिल करने की कोशिश कर रही है। आपको देखना होगा कि क्या ऐसे लोग सरकार से कोई लाभ ले रहे हैं या क्या पत्रकार-मीडिया संस्थान और सरकार के साथ कोई छिपी डीलिंग हुई है। अगर ऐसा नहीं है तो सवाल नहीं उठाए जाने चाहिए।’

इस पूरी बातचीत का वीडियो आप यहां देख सकते हैं

 

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

भारतीय चैनल्स के प्रभाव को कम करने के लिए नेपाल ने चली ये चाल

भारत-चीन के बीच बढ़ते तनाव के बाद चीन, भारत के पड़ोसी देश नेपाल का इस्तेमाल कर रहा है, जिसका नतीजा है कि नेपाल चीन के सुर में सुर मिला रहा है। लिहाजा ऐसे में नेपाल से एक बड़ी खबर सामने आई है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Friday, 25 September, 2020
Last Modified:
Friday, 25 September, 2020
Channels

भारत-चीन के बीच बढ़ते तनाव के बाद चीन, भारत के पड़ोसी देश नेपाल का इस्तेमाल कर रहा है, जिसका नतीजा है कि नेपाल चीन के सुर में सुर मिला रहा है। लिहाजा ऐसे में नेपाल से एक बड़ी खबर सामने आई है। दरअसल ‘दैनिक जागरण’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, नेपाल ने अब भारतीय चैनलों को बाहर का रास्ता दिखाने की तैयारी की है, जिसके लिए उसने बकायदा क्लीन फीड (विज्ञापन मुक्त) नीति जारी की है।

यह रिपोर्ट दैनिक जागरण के हलद्वानी संवाददाता अभिषेक राज की है, जिसमें बताया गया है कि इसके तहत भारतीय टीवी चैनल कार्यक्रम के बीच में विज्ञापन का प्रसारण नहीं कर सकते हैं। यह नीति आठ अक्टूबर से पूरे नेपाल में प्रभावी होगी, जिसका पालन नहीं करने वाले चैनलों का प्रसारण रोक दिया जाएगा।

रिपोर्ट के मुताबिक, नेपाल में भारतीय न्यूज चैनल्स के अलावा एंटरटेनमेंट टीवी चैनल भी काफी लोकप्रिय हैं। करीब सातों प्रदेशों में नेपाली चैनल्स की अपेक्षा हिंदी चैनल्स की बेहतर पैठ है। मधेश में तो भारतीय चैनल्स की टीआरपी पहले पायदान पर रहती है। नेपाली चैनलों की पूछ तक नहीं। बात चाहे फिल्म की हो या फिर धारावाहिक। यहां घर-घर में भारतीय चैनलों की पैठ है। ऐसे में नेपाली और विदेशी कंपनियां भारतीय चैनलों में ही विज्ञापन प्रसारित करती हैं। इनकी अपेक्षा नेपाली चैनलों की आमदनी एक चौथाई भी नहीं होती।

नेपाल सरकार का मानना है कि भारतीय चैनल्स के प्रभाव के कारण नेपाली चैनल्स की स्थिति दयनीय हो गई है। ऐसे में उसने आठ अक्टूबर से विदेशी चैनल्स के लिए विज्ञापन मुक्त प्रसारण नीति लागू कर दी है। इसके बाद भारतीय चैनल्स को नेपाल से विज्ञापन मिलना करीब बंद हो जाएगा। ऐसे में बगैर आय प्रसारण मुश्किल हो जाएगा।  

वहीं रिपोर्ट में यह बताया गया है कि नेपाल विज्ञापन संघ के अनुसार विदेशी चैनल्स के विज्ञापन मुक्त प्रसारण से नेपाली चैनल्स को सीधे-सीधे लाभ होगा। इससे भारतीय चैनल्स को सालाना करीब आठ अरब नेपाली रुपए की होने वाली आमदनी नेपाली चैनल्स के हिस्से आएगी। इससे उनकी स्थिति बेहतर होगी।

नेपाल ने भारत सीमा विवाद को तूल देने का आरोप लगाकर जुलाई में भी पांच न्यूज चैनल्स के प्रसारण पर रोक लगाई थी। हालांकि बाद में भारत सरकार के दखल के बाद नेपाल ने प्रतिबंध वापस ले लिया था।

नेपाल फेडरेशन ऑफ केबल टेलीविजन एसोसिएशन के अध्यक्ष सुशील पुराजुली ने दैनिक जागरण को बताया कि विज्ञापन मुक्त नीति नेपाली चैनल्स के लिए संजीवनी साबित होगी। इसके लिए भारतीय सहित सभी विदेशी चैनल्स को शीघ्र ही अपने प्रसारण प्रारूप में बदलाव करना होगा। ऐसा नहीं हुआ तो सरकार की नीति के अनुसार उनका प्रसारण आठ अक्टूबर से रोक दिया जाएगा।

(साभार: दैनिक जागरण)

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अब इस ग्रुप से जुड़े PTI के पूर्व CEO एम.के.राजदान

गौरतलब है कि एम.के. राजदान की बेटी निधि राजदान भी पत्रकारिता जगत से जुड़ी हुई हैं और इस समय एनडीटीवी 24X7 में वरिष्‍ठ पत्रकार हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 24 September, 2020
Last Modified:
Thursday, 24 September, 2020
MK Razdan

प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया (पीटीआई) के पूर्व सीईओ व एडिटर-इन-चीफ एम.के.राजदान अब वेदांता ग्रुप में कॉरपोरेट कम्युनिकेशन टीम के वरिष्ठ सलाहकार के तौर पर शामिल होंगे। वे दिल्ली से अपना कार्यभार संभालेंगे।

वेदांता में कम्युनिकेशंस एंड ब्रैंड के डायरेक्टर रोमा बलवानी ने ट्वीट कर राजदान का 'टीम वेदांत' में स्वागत किया।

वरिष्ठ पत्रकार राजदान पीटीआई के एक सदस्यीय ब्यूरो में ब्यूरो चीफ के पद पर काम करने के बाद 1995 में संस्थान के जनरल मैनेजर बनें। एक युवा पत्रकार के रूप में राजदान नवंबर, 1965 में पीटीआई के साथ जुड़े थे और तब से लेकर सितंबर, 2016 तक यानी करीब 51 वर्षों तक उन्होंने यहां विभिन्न पदों पर अपना योगदान दिया। 21 वर्षों तक वे पीटीआई के एडिटर-इन-चीफ के पद पर बने रहे। सितंबर, 2016 में उनका यहां से रिटायरमेंट हुआ।

गौरतलब है कि एम.के. राजदान की बेटी निधि राजदान भी पत्रकारिता जगत से जुड़ी हुई हैं और इस समय एनडीटीवी 24X7 में वरिष्‍ठ पत्रकार हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

वायकॉम18 से जुड़ीं मंजीत सचदेव, मिली ये बड़ी जिम्मेदारी

वायकॉम18 को जॉइन करने से पहले मंजीत सचदेव मीडिया और एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में कई ब्रैंड्स की कंटेंट स्ट्रैटेजी संभाल चुकी हैं।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Thursday, 24 September, 2020
Last Modified:
Thursday, 24 September, 2020
Manjit Sachdev

अपनी क्रिएटिव टीम को मजबूती देने और बेहतरीन कंटेंट स्ट्रैटेजी बनाने पर ध्यान केंद्रित करने के लिए 'वायकॉम18' (Viacom18) ने मंजीत सचदेव को अपने प्रमुख वीडियो ऑन डिमांड ब्रैंड्स ‘वूट’ (Voot) और ‘वूट सेलेक्ट’ (Voot Select) का हेड (कंटेंट) नियुक्त किया है।

बता दें कि मंजीत सचदेव को मीडिया और एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में काम करने का 18 साल से ज्यादा का अनुभव है। 'वायकॉम18' को जॉइन करने से पहले वह मीडिया और एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में ‘AltBalaji’ और ‘Sony Entertainment’ जैसे कई बड़े ब्रैंड्स के साथ काम कर चुकी हैं। अपनी नई भूमिका में वह 'वायकॉम18' के सीओओ (डिजिटल वेंचर) गौरव रक्षित के साथ मिलकर काम करेंगी।  

मंजीत सचदेव की नियुक्ति के बारे में गौरव रक्षित का कहना है, ‘इस प्लेटफॉर्म पर मंजीत के आने से मैं बहुत खुश हूं। मुझे पूरा विश्वास है कि संस्थान को उनके अनुभव का काफी लाभ मिलेगा।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Linkedin को अलविदा कहने के बाद पुनीत नागपाल ने नई दिशा में बढ़ाए कदम

‘लिंक्डइन’ (LinkedIn) के पूर्व हेड (Sales & Marketing Solutions–India) पुनीत नागपाल ने अब अपनी नई पारी की शुरुआत की है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Wednesday, 23 September, 2020
Last Modified:
Wednesday, 23 September, 2020
Puneet Nagpal

‘लिंक्डइन’ (LinkedIn) के पूर्व हेड (Sales & Marketing Solutions– India) ने ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म ‘कोर्सेरा’ (Coursera) के साथ अपनी नई पारी की शुरुआत की है। यहां उन्होंने बतौर कस्टमर मार्केटिंग लीड- APAC जॉइन किया है।

बता दें कि नागपाल ने मई 2017 में लिंक्डइन को जॉइन किया था और भारत में इसकी सेल्स और मार्केटिंग सॉल्यूशंस की कमान संभालते थे। लिंक्डइन में अपनी पारी के दौरान उन्होंने भारत में सेल्स सॉल्यूशंस बिजनेस को लॉन्च किया था। इसके अलावा विभिन्न कैंपेन के जरिये इसके मीडिया बिजनेस को नई ऊंचाई पर पहुचाया था।

नागपाल को मार्केटिंग के क्षेत्र में काम करने का 12 साल से ज्यादा का अनुभव है। ‘लिंक्डइन’ से पहले वह छह साल से ज्यादा समय तक ‘SHRM–APAC’ में विभिन्न पदों पर अपनी जिम्मेदारी संभाल चुके हैं। लिंक्डइन को जॉइन करने से पहले वह SHRM में हेड- Marketing (India/APAC) - Brand, Digital and Product के पद पर कार्य कर रहे थे। पूर्व में नागपाल IMS Learning Resources के साथ ब्रैंड/कम्युनिटी मार्केटिंग में भी अपनी भूमिका निभा चुके हैं।    

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए