Media ACE Awards’ में इन मीडिया एजेंसियों की रही धूम

बेहतरीन कार्य द्वारा अपनी पहचान बनाने वाली और भारतीय मीडिया इंडस्‍ट्री में उल्‍लेखनीय योगदान देने वाली जानी-मानी ...

Last Modified:
Tuesday, 26 September, 2017
Samachar4media

समाचार4मी‍डिया ब्यूरो ।।

बेहतरीन कार्य द्वारा अपनी पहचान बनाने वाली और भारतीय मीडिया इंडस्‍ट्री में उल्‍लेखनीय योगदान देने वाली जानी-मानी मीडिया एजेंसियों को एक्‍सचेंज4मीडिया’ (exchange4media)  द्वारा ‘Media ACE Awards  से सम्‍मानित किया गया।

मुंबई में 25 सितंबर को हुए ‘Media ACE Awards’ के तीसरे एडिशन में ग्रुप एम’ (GroupM) ने नेटवर्क ऑफ द ईयर’ (Network of the Year) अवॉर्ड जीता जबकि माइंडशेयर’ (Mindshare) को एजेंसी ऑफ द ईयर’ (Agency of the Year) अवॉर्ड दिया गया।

अवॉर्ड हासिल करने के बाद ‘ग्रुपएम साउथ एशिया’ (GroupM, South Asia) के सीईओ सीवीएल श्रीनिवास ने कहा, ‘यह अवॉर्ड जीतने पर मैं बहुत खुश हूं। यह सम्‍मान देने के लिए मैं जूरी को धन्‍यवाद अदा करना चाहता हूं। इसके अलावा अपने सभी क्‍लाइंट्स के साथ ही मैं अपनी पूरी टीम का भी शुक्रिया अदा करना चाहता हूं, जिनकी बदौलत ये खास अवॉर्ड हासिल हुआ है। अंत में मैं अपने सभी पार्टनर्स का धन्‍यवाद अदा करता हूं, जिनके सहयोग के बिना यह मुकाम हासिल करना मुश्किल था। इसके अलावा इस तरह का अवॉर्ड शो करने के लिए एक्‍सचेंज4मीडियाभी बधाई का पात्र है।

समारोह में ‘Mindshare Fulcrum India’ को ‘Specialized Unit of the Year’ अवॉर्ड से सम्‍मानित किया गया जबकि ‘Carat India’ की ‘Mondelez Unit’ रनर अप रही।

इस बारे में माइंडशेयरमें टीम यूनिलीवरके लीडर (साउथ एशिया) अमीन लखानी ने कहा, ‘Mindshare Fulcrum और Unilever के बीच रिलेशनशिप को 23 साल हो चुके हैं। हम लगातार अपने क्‍लाइंट्स की जरूरतों को और बेहतर तरीके से पूरा करने की दिशा में जुटे रहते हैं। यही कारण है कि ‘Fulcrum’ साल दर साल सफलता की नई सीढि़या चढ़ती जा रही है और मुझे गर्व है कि मैं इसकी यूनिट का नेतृत्‍व कर रहा हूं। आज यह अवॉर्ड मिलने पर मुझे बहुत खुशी हो रही है।

इसके अलावा ‘The Specialized Agency of the Year’ अवॉर्ड आइसोबार इंडिया’ (Isobar India) की झोली में गिरा जबकि आईप्रॉस्‍पेक्‍ट’ (iProspect) को रनर अप चुना गया। इस बारे में आइसोबार इंडियाके मैनेजिंग डायरेक्‍टर शमशुद्दीन जसानी ने कहा, ‘यह अवॉर्ड मिलने पर हमें बहुत खुशी हो रही है।वहीं, कुछ लोगों का यह भी कहना था कि मीडिया एजेंसियों के काम को सराहने के लिए एक्‍सचेंज4मीडियाने ‘Media ACE A’ अवॉर्ड्स के रूप में अच्‍छा काम किया है और इस अवॉर्ड को पाकर हम बहुत खुश हैं।

समारोह के दौरान ‘The Regional Office of the Year’ का अवॉर्ड मैक्‍सस मुंबई’ (Maxus Mumbai) को मिला जबकि लोडस्‍टार यूएम मुंबई’ (Lodestar UM Mumbai) रनर अप रही।

Categories Runner Up Winner    
Network of the Year - GroupM    
Agency of the Year - Mindshare India    
Innovative Agency of the Year Mindshare India Lodestar UM    
Regional Office of the Year Lodestar UM - Mumbai Maxus - Mumbai    
Specialized Unit of the Year Mondelez Unit, Carat India Mindshare Fulcrum    
Specialized Agency of the Year iProspect Isobar India    
         
  Winner      
Network Head of the Year Shashi Sinha - IPG Mediabrands      
Agency CEO of the Year Nandini Dias - Lodestar UM      
Unit Head of the Year Rahul Marwaha - Interactive Avenues Pvt Ltd.      
Client Lead of the Year (All winners) Abhik Banerjee - Madison Media Anuj Madan - OMD India Madhura Ranade - Isobar India  
Rising Star of the Year (All winners) Aakruti Upadhyay - Mindshare India Anoushka Adya - Di-Mentions Studio and Lajja Diaries Priyanka Jain - Madison Media Roohani Nayyar – PHD India
The Hallmark Award Sam Balsara - Madison World      


समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।

TAGS 0
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इस प्रतिष्ठित अवॉर्ड के लिए रचनाएं आमंत्रित

उपन्यास, कहानी, कविता, व्यंग्य, निबंध एवं बाल साहित्य विधाओं में प्रत्येक विधा के लिए इक्कीस सौ रुपए राशि के पुरस्कार प्रदान किये जाएंगे

Last Modified:
Tuesday, 20 August, 2019
Awards

22वें अम्बिका प्रसाद दिव्य स्मृति प्रतिष्ठा पुरस्कारों के लिए रचनाकारों से साहित्य की अनेक विधाओं में पुस्तकें आमंत्रित की गई हैं। साहित्य सदन, भोपाल द्वारा हर साल यह पुरस्‍कार दिया जाता है। इसके तहत उपन्यास, कहानी, कविता, व्यंग्य, निबंध एवं बाल साहित्य विधाओं में प्रत्येक विधा के लिए इक्कीस सौ रुपए राशि के साहित्य पुरस्कार प्रदान किये जाएंगे।

इन पुरस्कारों के लिए पुस्तकों की दो प्रतियां, लेखक के दो फोटो एवं प्रत्येक विधा की प्रविष्टि के साथ दो सौ रुपए प्रवेश शुल्क भेजना होगा। हिंदी में प्रकाशित पुस्तकों की मुद्रण अवधि एक जनवरी 2015 से लेकर 31 दिसंबर 2018 के मध्य होनी चाहिए। दूसरे स्थान पर आने वाली पुस्तकों को दिव्य प्रशस्ति पत्रों से सम्मानित किया जाएगा। श्रेष्ठ साहित्यिक पत्रिकाओं के सम्पादकों को भी दिव्य प्रशस्ति पत्र प्रदान किये जाएंगे।

इच्छुक रचनाकार 30 दिसंबर 2019 तक श्रीमती राजो किंजल्क, साहित्य सदन, 145 – ए, साईंनाथ नगर, सी-सेक्टर, कोलार रोड, भोपाल- 462042 (मप्र) के पते पर पुस्तकें भेज सकते हैं। किसी भी जानकारी के लिए फोन नंबर-09977782777/0755-2494777 अथवा jagdishkinjalk@gmail.com पर संपर्क किया जा सकता है।

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

जर्नलिस्ट की मदद को पत्रकारों ने दिखाई एकजुटता, सरकार के सामने रखीं ये मांगें

सहारनपुर में कूड़ा डालने के विवाद में रविवार को दिनदहाड़े दैनिक जागरण के पत्रकार आशीष कुमार धीमान और उनके भाई आशुतोष कुमार धीमान की कर दी गई थी हत्या

Last Modified:
Monday, 19 August, 2019
Journalist Association

सहारनपुर में रविवार को दिनदहाड़े दैनिक जागरण के पत्रकार आशीष कुमार धीमान और उनके भाई आशुतोष कुमार धीमान की हत्या के बाद प्रदेश भर के पत्रकारों ने इस घटना को लेकर रोष जताया है। इस घटना के विरोध में पत्रकार एसोसिएशन के नेतृत्व में पत्रकारों का एक प्रतिनिधिमंडल सोमवार को जिलाधिकारी, आगरा एनजी रवि कुमार से मिला और उन्हें मुख्यमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन सौंपा।

इस ज्ञापन में पत्रकारों ने पीड़ित परिवार को 25 लाख रुपए की आर्थिक सहायता के साथ ही परिवार के सदस्य को सरकारी नौकरी दिए जाने की मांग उठाई। जिलाधिकारी से मिलने वाले पत्रकारों में अनुपम पांडेय, नितिन उपाध्याय, संजय सिंह, अनूप जिंदल, गौरव बंसल, निक्की, अजय यादव, गीतम सिंह, ओपी वरुण, बब्ले भारद्वाज, कपिल अग्रवाल, लक्ष्मीकांत पचौरी, विनीत दुबे, आरिफ, एसपी सिंह आदि मौजूद रहे।

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

दैनिक जागरण के पत्रकार की हत्या के मामले में पुलिस ने उठाया कड़ा कदम

सहारनपुर में घर में घुसकर की गई थी पत्रकार और उनके भाई की हत्या, फरार चल रहे हैं चारों आरोपित

Last Modified:
Monday, 19 August, 2019
Ashish Ashutosh

सहारनपुर में कूड़ा डालने के विवाद में दैनिक जागरण के पत्रकार आशीष कुमार धीमान और उनके भाई आशुतोष कुमार धीमान की हत्या के मामले में पुलिस ने कड़ा कदम उठाया है। पुलिस ने इस मामले में चारों आरोपितों पर 25-25 हजार रुपए का इनाम घोषित कर दिया है।

पुलिस की कई टीमें संभावित स्थानों पर दबिश देकर आरोपितों की तलाश में जुटी हुई हैं। इसके अलावा इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस की मदद भी ली जा रही है। पुलिस ने इस मामले में किसी तरह का शराब माफिया कनेक्शन होने से इनकार किया है। वहीं सोमवार को आशीष और उनके भाई का अंतिम संस्कार कर दिया गया। इस दौरान तमाम पत्रकारों के अलावा सहारनपुर के एसएसपी दिनेश कुमार पी सहित पुलिस के आला अधिकारी मौजूद रहे।

 पढ़ें: छोटी सी बात पर की गई पत्रकार और उसके भाई को गोली मारकर हत्या 

एसएसपी के अनुसार, इस मामले में आरोपित महिपाल, उसके बेटे गौरव, सूरज और सन्नी के खिलाफ 25-25 हजार रुपए के इनाम की घोषणा कर दी गई है और आरोपितों के कुछ रिश्तेदारों से पूछताछ की जा रही है। वहीं, महिपाल की पत्नी विमलेश व बेटी वर्षा को गिरफ्तार कर लिया गया है।

 पढ़ें: आशीष की मौत के बाद प्रशासन ने परिवार के लिए की ये घोषणा

गौरतलब है कि मौहल्ला माधव नगर में रहने वाले आशीष व उनके भाई की पड़ोस में रहने वाले महिपाल से लड़ाई हो गई थी। इसके बाद आरोपितों ने घर में घुसकर आशीष व उनके भाई की हत्या कर दी थी। आशीष दैनिक जागरण से पहले हिन्दुस्तान और जनवाणी अखबार में भी काम कर चुके थे।

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

मीडिया संस्थान ने एम्पलॉइज से कहा-सोशल मीडिया पासवर्ड शेयर करें, तभी आएगी सैलरी

पिछले तीन महीने से संस्थान के कहने के बावजूद अधिकांश एम्पलॉइज इसे फॉलो नहीं कर रहे हैं। ऐसे में नाराज प्रबंधन ने अब एम्पलॉइज को चेतावनी दी है

Last Modified:
Monday, 19 August, 2019
Social Media

देश की न्यूज एजेंसियों में शुमार ‘हिन्दुस्थान समाचार’ सोशल मीडिया पर अपनी पैठ बढ़ाने के लिए हरसंभव प्रयास में जुटी हुई है। ऐसे में अब संस्थान ने अपने एम्पलॉइज को भी एक नोटिस के जरिए संस्थान के सोशल मीडिया अकाउंट्स को फॉलो करने, लाइक करने और कमेंट करने को कहा है।

पिछले तीन महीने से संस्थान के कहने के बावजूद अधिकांश एम्पलॉइज इसे फॉलो नहीं कर रहे हैं। ऐसे में नाराज प्रबंधन ने अब एम्पलॉइज को चेतावनी दी है। संस्थान की ओर से महाप्रबंधक (मानव संसाधन) अशोक कुमार की ओर से एम्पलॉइज को जारी किए गए नोटिस में साफ तौर पर कहा गया है कि सभी पूर्णकालिक और अंशकालीन सहयोगी तीन दिन के अंदर यानी 21 अगस्त से पहले अपने फेसबुक, ट्विटर, इंस्ट्राग्राम की डिटेल और पासवर्ड प्रबंधन को भेजें।

ये भी कहा गया है कि जब तक एम्पलॉइज अपने सोशल मीडिया अकाउंट का स्क्रीनशॉट भेज नहीं देते हैं, जुलाई और उसके आगे का वेतन या मानदेय नहीं दिया जा सकेगा। आप ये पूरा नोटिस नीचे पढ़ सकते हैं।

 

 

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

वरिष्ठ पत्रकार सागरिका घोष की किताब को मिली 'बॉलिवुड' में एंट्री

पिछले साल से ही यह कवायद चल रही थी, लेकिन अंतिम फैसला अब हो पाया है

Last Modified:
Monday, 19 August, 2019
Sagarika Ghose

वरिष्ठ पत्रकार सागरिका घोष की किताब ‘इंदिरा: भारत की सबसे शक्तिशाली प्रधानमंत्री’ अब फिल्म का रूप लेने जा रही है। हालांकि, पिछले साल से ही यह कवायद चल रही थी, लेकिन अंतिम फैसला अब हो पाया है। यह फिल्म बड़े पर्दे पर नहीं, बल्कि वेब सीरीज की शक्ल में लोगों तक पहुंचेगी।

उन्होंने इसके लिए 'लंच बॉक्स' जैसी फिल्म के निर्देशक रितिश बत्रा से हाथ मिला लिया है। फिल्म के निर्माता रॉनी स्क्रूवाला हैं। मशहूर एक्ट्रेस विद्या बालन फिल्म में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का किरदार निभाएंगी।

माना जा रहा है कि अगले साल तक यह फिल्म तैयार हो जाएगी। वैसे 2018 में भी यह खबर आई थी कि सागरिका घोष की इस किताब पर फिल्म बनाने के राइट्स विद्या के पति सिद्धार्थ रॉय कपूर ने खरीद लिए हैं और विद्या इसमें लीड रोल में नजर आएंगी।

सागरिका ने खुद भी ट्वीट करके कहा था कि उन्होंने सिद्धार्थ रॉय कपूर और विद्या बालन प्रोडक्शंस के साथ अपनी किताब के राइट्स को लेकर करार किया है। उनका इरादा इस किताब पर फिल्म बनाने का है। अब यह पूरी तरह साफ हो गया है कि सागरिका की किताब पर वेब सीरीज बनने जा रही है। सागरिका घोष की इस किताब के कवर पेज को आप यहां देख सकते हैं।

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

तहलका के पूर्व संपादक तरुण तेजपाल को ‘सुप्रीम’ झटका

अपनी सहकर्मी से यौन उत्पीड़न के मामले में फंसे हैं तरुण तेजपाल

Last Modified:
Monday, 19 August, 2019
Tarun Tejpal

अपनी सहकर्मी से यौन उत्पीड़न के मामले में फंसे ‘तहलका’ मैगजीन के पूर्व एडिटर-इन-चीफ तरुण तेजपाल को सुप्रीम कोर्ट से झटका लगा है। दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने तेजपाल की याचिका को खारिज करते हुए गोवा की निचली अदालत में सुनवाई पर लगी रोक हटा दी है।

सुप्रीम कोर्ट ने निचली अदालत को छह महीने में ट्रॉयल पूरा करने के आदेश दिए हैं। बता दें कि वर्ष 2017 में गोवा की निचली अदालत ने तेजपाल पर रेप और यौन उत्पीड़न सहित अन्य धाराओं के तहत आरोप तय किये थे, जिसे तेजपाल ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी।

गौरतलब है कि तेजपाल पर अपनी जूनियर सहकर्मी से यौन उत्पीड़न का आरोप है। मामला साल 2013 का है। तरुण तेजपाल पर आरोप है कि गोवा में 'थिंक फेस्ट' के दौरान होटल की लिफ्ट में उन्‍होंने अपने साथ काम करने वाली पत्रकार का यौन उत्पीड़न किया। इसके बाद महिला कर्मचारी ने अपने सीनियर्स से इस घटना का जिक्र किया था और मीडिया में पीड़िता, तेजपाल और तहलका की तत्कालीन मैनेजिंग एडिटर शोमा चौधरी के बीच बातचीत की ईमेल भी पब्लिश हुई थी।

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

आजतक के युवा पत्रकार के साथ मांझे के चक्कर में हुआ हादसा

दीपक के साथ यह हादसा दिल्ली के मयूर विहार इलाके में हुआ। अस्पताल में कराया गया है भर्ती

Last Modified:
Monday, 19 August, 2019
Deepak Kumar

हर साल 15 अगस्त और इसके कुछ दिनों बाद तक दिल्ली-एनसीआर में काफी पतंगबाजी देखने को मिलती है। पतंगबाजी में चाइनीज मांझे का भी खूब इस्तेमाल होता है। इस चाइनीज मांझे की वजह से कई लोगों की जान जा चुकी है। ऐसा ही एक हादसा हिंदी न्यूज चैनल आजतक के पत्रकार दीपक कुमार के साथ हुआ है।

जानकारी के मुताबिक बाइक चालते वक्त चाइनीज मांझा दीपक के गले में फंस गया और इस वजह से उनका एक्सीडेंट हो गया। हादसे में गले पर चोट लगने से खून भी बहा। इसके अलावा पैर में भी चोट आई है। दीपक के साथ यह हादसा दिल्ली के मयूर विहार इलाके में हुआ। 

गौरतलब है कि दीपक आजतक के अलावा ‘दैनिक भास्कर’ और ‘अमर उजाला’ जैसे मीडिया संस्थानों में काम कर चुके हैं। बिहार के सीवान जिले के रहने वाले दीपक की पहचान बतौर युवा बिजनेस पत्रकार है। हाल ही में दीपक तब चर्चा में आए थे, जब उनके फेसबुक छोड़ने की खबर आई। बताया जा रहा है कि लोकसभा नतीजों के बाद से दीपक को लगातार गालियां और धमकी मिल रही थीं।

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

महिला पत्रकार ने तिरंगे का अपमान करने वालों को यूं दिया मुंहतोड़ जवाब

पत्रकार पूनम जोशी के इस कदम की सोशल मीडिया पर हो रही है काफी सराहना, लोग कर रहे सैल्यूट

Last Modified:
Monday, 19 August, 2019
Poonam Joshi

भारतीय पत्रकार पूनम जोशी की देशभक्ति की चर्चा इन दिनों देश-विदेश में हो रही है। आखिर हो भी क्यों न, जब उन्होंने काम ही ऐसा किया है। दरअसल, पूनम जोशी लंदन में तिरंगे का अपमान करने वाले खालिस्तान समर्थक प्रदर्शनकारियों से न सिर्फ भिड़ गईं, बल्कि उनके हाथ से तिरंगा छीन भी लिया। पूनम जोशी के इस कदम की सोशल मीडिया पर जमकर तारीफ हो रही है। ट्विटर से लेकर फेसबुक तक लोग उनकी देशभक्ति और बहादुरी को सलाम कर रहे हैं। पूनम लंदन में एबीपी न्यूज की संवाददाता है। 

बता दें कि 15 अगस्त को हिंदुस्तान समेत विदेशों में रह रहे भारतीयों ने तिरंगा फहराकर स्वतंत्रता दिवस का जश्न मनाया। लंदन स्थित भारतीय उच्चायोग में भी तिरंगा फहराया गया। इस दौरान भारतीय उच्चायोग के बाहर पाकिस्तान और खालिस्तान समर्थकों ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। वे लोग तिरंगे का अपमान करने की कोशिश करने लगे, तभी वहां मौजूद भारतीय पत्रकार पूनम जोशी प्रदर्शनकारियों से भिड़ गईं और उनसे तिरंगा छीन लिया।

इस घटना का विडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है, जिसे आप यहां देख सकते हैं।

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

प्रेस एसोसिएशन के चुनाव में इन पत्रकारों को मिली जीत, देखें पूरी लिस्ट

इस अवसर पर एसोसिएशन की पांच सदस्यीय एग्जिक्यूटिव कमेटी की घोषणा भी की गई।

Last Modified:
Sunday, 18 August, 2019
Press Association

प्रेस एसोसिएशन के चुनाव में जयशंकर गुप्ता को लगातार दूसरी बार प्रेजिडेंट चुना गया है। 17 अगस्त 2019 को हुए चुनाव में कुल 328 वोट पड़े, जिनमें से उन्हें 181 वोट हासिल हुए। इस पद के लिए खड़े अन्य उम्मीदवारों में श्रीकृष्णा को 99 और आलोक कुमार को 28 वोट मिले। इस दौरान कुछ वोट रद्द भी हो गये।

मुख्य चुनाव अधिकारी अशोक टुटेजा और चुनाव अधिकारी रंजीत कुमार व ज्ञान पाठक की देखरेख में हुए इन चुनावों में आनंद मिश्रा को वाइस प्रेजिडेंट और सीके नायक के जनरल सेक्रेट्री चुना गया। आनंद मिश्रा को 206 वोट और सीके नायक को 161 वोट मिले। वहीं, कल्याण बारू (Kalyan Barooah) को जॉइंट सेक्रेट्री और संतोष ठाकुर को कोषाध्यक्ष पद के लिए चुना गया। उन्हें क्रमश: 154 और 142 वोट मिले।

इस अवसर पर एसोसिएशन की पांच सदस्यीय एग्जिक्यूटिव कमेटी की घोषणा भी की गई। इसमें अमलेंदु भूषण खान (155 वोट), अनिल दुबे (139 वोट), हुमा सिद्दीक (139 वोट), केपी मलिक (128 वोट) और शाहिद के. अब्बास (135 वोट) को शामिल किया गया।

एसोसिएशन के पदाधिकारियों की लिस्ट आप यहां देख सकते हैं।

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

पत्रकार की मौत के बाद प्रशासन ने परिवार के लिए की ये घोषणा

सहारनपुर में दैनिक जागरण के पत्रकार आशीष धीमान और उनके भाई आशुतोष की गोली मारकर हत्या के बाद स्थानीय लोगों में आक्रोश फैल गया

Last Modified:
Sunday, 18 August, 2019
police

सहारनपुर में दैनिक जागरण के पत्रकार आशीष धीमान और उनके भाई आशुतोष की गोली मारकर हत्या के बाद स्थानीय लोगों में आक्रोश फैल गया। आक्रोशित भीड़ ने आरोपित के घर में आग लगाने की कोशिश की पर प्रशासन की मुस्तैदी के चलते भीड़ पर नियंत्रण पाया जा सका है।

मूल खबर पढ़ने के लिए नीचे हेडलाइन पर क्लिक कीजिए...

छोटी सी बात पर की गई पत्रकार और उसके भाई को गोली मारकर हत्या 

आक्रोशित भीड़ को देखते हुए शासन ने मारे गए भाइयों को पांच-पांच लाख रुपये और आवास देने की घोषणा की है। भीड़ ने पत्रकार की पत्नी के लिए नौकरी की भी मांग की है। आशीष अपने परिवार का एकमात्र कमाने वाला था। अब परिवीर में उसकी गर्भवती पत्नी और बूढ़ी मां रह गई है।

डीएम आलोक पांडेय ने शासन के इस आदेश की पुष्टि की है। वहीं एसएसपी ने कहा कि जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा। पुलिस की कई टीमें गठित कर दी गई है।

आप अपनी राय, सुझाव और खबरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। (हमें फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और यूट्यूब पर फॉलो करें)

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए