पत्रकार की इन काली करतूतों ने पेशे को किया शर्मसार...

कर्नाटक के एक पत्रकार ने पूरी बिरादरी का सिर शर्म से झुका दिया...

Last Modified:
Tuesday, 04 December, 2018

समाचार4मीडिया ब्यूरो।।

कर्नाटक के एक पत्रकार ने पूरी बिरादरी का सिर शर्म से झुका दिया है। चंद्रा हेम्मादी (Chandra Hemmady) नामक इस पत्रकार पर 21 स्कूली बच्चों के यौन शोषण का आरोप है। पुलिस के मुताबिक, उडुपी जिले के एक प्रमुख कन्नड़ अख़बार से जुड़े 40 वर्षीय चंद्रा ने 10 से 15 आयुवर्ष के बीच के कई लड़कों का शोषण किया।

पत्रकारिता में लंबे समय से सक्रिय चंद्रा कई अख़बारों में काम कर चुका है, लेकिन यह रूप सामने आने के बाद कोई उसका जिक्र करने को भी तैयार नहीं है। आरोपी शादीशुदा है और उसके एक बेटा भी है। चंद्रा अपने पेशे का फायदा उठाते हुए बच्चों को शिकार बनाता था। पुलिस जांच में यह सामने आया है कि वो स्थानीय स्कूल के बच्चों से पहले दोस्ती करता, स्टोरी आदि के नाम पर उनके फोटो खींचता और फिर किसी न किसी बहाने से पास के जंगल ले जाकर उनका यौन उत्पीड़न करता। पिछले पांच-छह सालों में वो अब तक 21 लड़कों को अपना शिकार बना चुका है।

पत्रकारिता को शर्मसार करने वाले चंद्रा की काली करतूत उस वक़्त सामने आई, जब 8वीं कक्षा के एक बच्चे के व्यवहार में आए बदलावों पर उसके पैरेंट्स ने ध्यान दिया। बच्चा कई दिनों से परेशान रहने लगा था, जिसके बाद माता-पिता उसे मनिपाल स्थित कस्तूरबा अस्पताल में काउंसलिंग के लिए लेकर गए। वहां बच्चे ने डॉक्टर को बताया कि उसके कई दोस्तों के साथ भी चंद्रा ने दुष्कर्म किया है। डॉक्टर ने तुरंत इसकी जानकारी पुलिस को दी और 29 नवंबर को पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। उसके खिलाफ पास्को कानून के तहत मामला दर्ज किया गया है।

चंद्रा अपने अख़बार के लिए ग्रामीण इलाकों की रिपोर्टिंग करता था। इसी सिलसिले में उसका गांववालों से मिलना-जुलना लगा रहता था। कई मौकों पर वो उनका विश्वास जीतने के लिए कलम की ताकत के जरिये उनकी मदद भी करता था। ग्रामीणों के बीच उसकी छवि काफी अच्छी थी, इसी का फायदा उठाकर वो कभी-कभी बच्चों को ये कहकर अपने साथ ले जाता कि उन्हें जिले के बारे में जानकारी होनी चाहिए।

उडुपी जिले के एसपी लक्ष्मण निम्बार्गी के मुताबिक, ‘मामले का खुलासा होने के बाद से आरोपी पत्रकार के खिलाफ शिकायतें लगातार आती जा रही हैं। अभी तक 21 बच्चों ने यौन शोषण की बात कही है।यह पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि क्या आरोपी ने और भी बच्चों को शिकार बनाया। चंद्रा शिक्षकों की अनुमति से स्कूल में बच्चों को संगीत सिखाने भी जाया करता था।‘

पब्लिक प्रॉसीक्यूटर विजया वासु पुजारी ने पत्रकारों को बताया कि आरोपी चंद्रा हेम्मादी ने अभी तक जमानत के लिए आवेदन नहीं किया है। उसके खिलाफ 16 केस बेंदूर पुलिस स्टेशन,  गंगोली में तीन और कोल्लुरु और कुंडापुर में एक-एक केस दर्ज है। अदालत ने फ़िलहाल उसे 17 दिसंबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए