चुनावी मौसम में 'इंडिया टुडे' लाया नया शो, इन वजहों से है खास...

अगले साल होने वाले लोकसभा और इस साल के अंत में कई राज्यों में होने वाले...

Last Modified:
Monday, 17 September, 2018
Political-Stock-Exchange

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

अगले साल होने वाले लोकसभा और इस साल के अंत में कई राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों को देखते हुए ‘इंडिया टुडे’ ने एक नया शो लॉन्च किया है, जिसका नाम है ‘पॉलिटिकल स्टॉक एक्सचेंज’। वरिष्ठ पत्रकारगण राजदीप सरदेसाई और राहुल कंवल इस शो की कमान संभाल रहे हैं।

वैसे तो चुनावी मौसम में हर चैनल कुछ न कुछ नया करता है, ताकि राजनीति में रुझान रखने वाले दर्शकों को अपनी ओर खींचा जा सके। कुछ नए प्रोग्राम ऑन-एयर भी हुए हैं, लेकिन ‘पॉलिटिकल स्टॉक एक्सचेंज’ उन सबके अलग है। इसकी वजह है कि यहां न केवल सियासी समीकरणों पर चर्चा होती है, बल्कि संभावनाओं और आशंकाओं की गहराई से पड़ताल भी की जाती है। जैसा की नाम से ही समझ आ रहा है यह शो राजनीतिक पार्टियों के लिए एक तरह से रिपोर्ट कार्ड की तरह है, जिसमें यह पता चलता है कि किस पार्टी का स्टॉक यानी उसकी लोकप्रियता और मतदाताओं के बीच उसका विश्वास कितना ऊपर या नीचे जा रहा है।

हर सप्ताह शुक्रवार को प्रसारित होने वाले इस शो में इस बात पर भी प्रकाश डाला जाता है कि जनता के सामने सबसे बड़ी समस्या क्या है और राजनीतिक दलों के लिए उससे पार पाना कितना मुश्किल हो सकता है। 

यह अपनी तरह का पहला शो है जो एक अलग प्लेटफॉर्म पर दर्शकों और नेताओं को देश के रुझान से रूबरू कराएगा। शो के पहले एपिसोड में इंडिया टु़डे ग्रुप और एक्सिस माई इंडिया की ओर से कराए गए पॉलिटिकल स्टॉक एक्सचेंज (पीएसई) सर्वे में राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में भविष्य की सरकार को लेकर जनता की पसंद से जुड़े आंकड़े पेश किए गए। टेलिफोन इंटरव्यू पर आधारित इस सर्वे में मध्य प्रदेश के 12,035 लोगों को शामिल किया गया। 

पॉलिटिकल स्टॉक एक्सचेंज सर्वे के जरिए राज्य की जनता की रायशुमारी की गई जिसमें 56 फीसदी लोगों ने मोदी को अगले प्रधानमंत्री के रूप में पसंद किया। वहीं, 47 फीसदी लोग वर्तमान शिवराज सिंह चौहान के कामकाज से संतुष्ट दिखे, जबकि 36 फीसदी लोगों का मानना है कि सरकार बदलनी चाहिए। इसके अलावा भी सर्वेक्षण में कई रोचक आंकड़े सामने आए हैं, जैसे कि राज्य में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की लोकप्रियता में भी इजाफा हुआ है। राज्य की 36 फीसदी जनता ने उन्हें बतौर प्रधानमंत्री के रूप में पसंद किया।

राजदीप और राहुल को पत्रकारिता का लंबा अनुभव है और दोनों राजनीतिक गुणाभाग को समझने और उसे दिलचस्प तरीके से दर्शकों के सामने पेश करने में माहिर हैं। 

ट और टीवी पत्रकारिता में 26 वर्षों के अधिक का अनुभव रखने वाले सरदेसाई ने अपने करियर की शुरुआत टाइम्स ऑफ इंडिया से की थी और महज 26 साल की उम्र में मुंबई संस्करण के सिटी एडिटर बन गए थे। अपना आईबीएन18 नेटवर्क स्थापित करने से पहले राजदीप एनडीटीवी में मैनेजिंग एडिटर थे। आईबीएन18 से अलग होने के बाद वो कई समय तक विभिन्न सस्थानों के लिए काम करते रहे और वर्तमान में इंडिया टुडे ग्रुप के साथ एक बतौर कंसल्टिंग एडिटर जुड़े हुए हैं। राष्ट्रीय राजनीति में गहरी पकड़ रखने वाले राजदीप को 2008 में उत्कृष्ट पत्रकारिता के लिए प्रतिष्ठित पद्मश्री सम्मान से नवाजा गया था, इसके अलावा भी इनके नाम कई अवॉर्ड हैं।

शो के दूसरे होस्ट राहुल कंवल ने अपने करियर की शुरुआत जी न्यूज के साथ बतौर एंकर की थी। कुछ साल तक यहां काम करने के बाद वे ‘आजतक’ चले गए और एक के बाद एक बेहतरीन शो होस्ट करके उन्होंने अपना एक अलग मुकाम बनाया। फिलहाल वे इंडिया टुडे ग्रुप में मैनेजिंग एडिटर की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। राहुल को बेस्ट एंकर अवॉर्ड सहित कई पुरस्कारों से नवाजा जा चुका है। ‘पॉलिटिकल स्टॉक एक्सचेंज’ के साथ ही वह ‘न्यूजरूम’ भी होस्ट करते हैं, जिसमें गंभीर और जनता से जुड़ाव रखने वाले मुद्दे उठाए जाते हैं।

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए