पत्रकारों के लिए 'पेंशन योजना' को मिली सरकारी मंजूरी, ये होंगे नियम-कायदे...

पत्रकारों के कल्याण की दिशा में कदम बढ़ाते हुए सरकार ने उन्हें...

Last Modified:
Monday, 04 February, 2019
journalist

समाचार4मीडिया ब्यूरो।।

पत्रकारों के लिए एक अच्छी खबर है। दरअसल, महाराष्ट्र सरकार ने राज्य के वरिष्ठ पत्रकारों के लिए पेंशन योजना को मंजूरी प्रदान कर दी है। पत्रकारों द्वारा लंबे समय से इसकी मांग की जा रही थी। इस संबंध में जारी सरकारी आदेश के अनुसार पेंशन योजना को ‘आचार्य बालशास्त्री जंभेकर सन्मान योजना’ नाम दिया गया है। यह ‘शंकरराव चव्हाण सुवर्णा महोत्सवी पत्रकार कल्याण निधि’ द्वारा लागू की जाएगी। इस योजना के लिए राज्य सरकार ने पिछले वर्ष 15 करोड़ रुपए के बजट का प्रावधान किया था।

हालांकि, पेंशन की राशि कितनी होगी, यह अभी तय नहीं किया गया है। इस योजना के लाभार्थी 60 साल के हो चुके और पत्रकारिता के पेशे में 30 साल पूरे कर चुके श्रमजीवी पत्रकार, फोटोग्राफर, अखबार और अन्य न्यूज ब्रॉडकॉस्ट मीडिया के संपादक और स्वतंत्र पत्रकार (फ्रीलांसर) होंगे। पेंशन संबंधित पत्रकार के जीवित रहने तक ही दी जाएगी और मृत्यु के बाद उनके आश्रित को इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा।

योजना का लाभ उठाने के लिए वरिष्ठ पत्रकारों को जिला सूचना अधिकारी के पास जरूरी दस्तावेज जमा कराने होंगे। दस्तावेजों की पड़ताल सूचना और जन संपर्क निदेशालय की कमेटी करेगी। वरिष्ठ पत्रकारों के लिए यह भी जरूरी होगा कि पत्रकारिता के अलावा उनकी आय का अन्य कोई स्रोत नहीं हो और वे कर्मचारी भविष्य निधि के अलावा कहीं से भी पेंशन प्राप्त नहीं कर रहे हों। एक शर्त यह भी है कि पेंशन के लिए आवेदन करने वाले को आयकरदाता नहीं होना चाहिए।

न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए